Tag Archives: Foods that Boost Immunity in Children

पैरेंटिंग गाइड- बच्चों के लिए इम्युनिटी बूस्टर फूड (Parenting Guide- Top 13 Immune System Boosting Foods For Kids)

Immune System Boosting Foods For Kids

 

मौसम बदलने के साथ सर्दी-ज़ुकाम, ख़ांसी-बुख़ार और वायरल इंफेक्शन्स बच्चों को अपनी चपेट में ले लेते हैं. उनका बार-बार बीमार पड़ना इस बात की ओर संकेत करता है कि बच्चे का इम्यून सिस्टम कमज़ोर है. हम यहां कुछ ऐसे ही ङ्गइम्युनिटी बूस्टर फूडफ के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें खिलाकर आप बच्चों की रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं.

दही
शोध में यह सिद्ध हुआ है कि जो बच्चे दही खाते हैं, उन्हें कान-गले का संक्रमण और सर्दी-ज़ुकाम के होने की संभावना 19% तक कम होती है. दही में गुड बैक्टीरिया (जिन्हें प्रोबायोटिक्स भी कहते हैं) होते हैं, जो बच्चों की इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग करते हैं.

कैसे खिलाएं?
* दही का स्मूदी व शेक बनाकर दें. दही में फल काटकर भी बच्चों को खिला सकते हैं.
* दही में शक्कर और रोस्टेड ड्राइफ्रूट्स मिलाकर चॉकलेट सॉस से सजाकर उन्हें खाने के लिए दें.

नट्स
इनमें प्रोटीन व फाइबर प्रचुर मात्रा में होते हैं. नट्स में रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ानेवाले ज़िंक, आयरन, मिनरल्स और विटामिन्स भी होते हैं.

कैसे खिलाएं?
* दलिया, फ्रूट सलाद, सब्ज़ी, करी या सीरियल्स में नट्स डालकर खाने को दें. इसके अलावा स्नैक्स के तौर पर नट्स खा सकते हैं.

यह भी पढ़े: मदर्स गाइड- बच्चों के आम रोगों में उपयोगी घरेलू नुस्ख़े 

बेरीज
बेरीज़ का लाल, नीला और पर्पल कलर इस बात की ओर संकेत करता है कि उनमें एंथोसायनिन्स की मात्रा बहुत अधिक है.
एंथोसायनिन्स बहुत पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो अनेक बीमारियों से बच्चों की रक्षा करता है. बेरीज़ में विटामिन सी भी प्रचुर मात्रा में होता है, जो इम्युनिटी को मज़बूत बनाने के साथ-साथ बच्चों में संक्रमण के जोखिम को भी कम करता है.

कैसे खिलाएं?
* ब्रेकफास्ट या हेल्दी स्नैक्स के तौर पर बेरीज़ को दलिया, दही या बेक्रफास्ट सीरियल में मिलाकर खिला सकते हैं.

अंडा
विटामिन और प्रोटीन का सबसे बेहतरीन स्रोत है अंडा. यह भी सुपर फूड की श्रेणी में आता है. एग योक में ज़िंक, सेलेनियम और मिनरल्स भी होते हैं, जो बच्चों के मस्तिष्क का विकास और आंखों की रोशनी को भी तेज़ करते हैं.

कैसे खिलाएं?
* एग पुलाव, एग उपमा, एग पकौड़ा, एग सैंडविच व एग परांठा बनाकर बच्चों को खिला सकते हैं.

सालमन
ओमेगा 3 फैटी एसिड का सबसे उत्तम स्रोत है सालमन. इसमें मौजूद फैट्स बच्चों के मानसिक विकास और इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाने में मदद करता है.

कैसे खिलाएं?
* सालमन फिश के पकौड़े, टिक्की, कबाब और कटलेट बनाकर बच्चों को खिलाएं.

यह भी पढ़े: …क्योंकि मां पहली टीचर है 

लहसुन
लहसुन में ऐसे पोषक तत्व होते हैं, जो इम्युनिटी सेल्स में होनेवाले इंफेक्शन से लड़ने में सहायता करते हैं. यह बच्चों के शरीर में मौजूद सल्फर नामक तत्व को नियंत्रित करता है, ताकि उनके शरीर में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स की एक्टिविटीज़ तेज़ हो सके. इसलिए इसे इम्युनिटी बूस्टर फूड भी कहते हैं.

कैसे खिलाएं?
* दाल-सब्ज़ी के अलावा बच्चों को उनके फेवरेट फूड, जैसे- स्पेगेटी, पास्ता, सूप, गार्लिक ब्रेड, डिप्स-चटनी और ड्रेसिंग में भी लहसुन डालकर खिला सकते हैं.

टमाटर
लाल टमाटर में ऐसे पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो बच्चों में फ्री रैडिकल्स से होनेवाले डेमैज को रोकते हैं और उनकी इम्युनिटी क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं. इसमें विटामिन सी और बीटा-कैरोटीन नामक एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में होता है, जो इम्युनिटी सिस्टम में होनेवाले संक्रमण से बच्चों की रक्षा करता है.

कैसे खिलाएं?
* दाल-सब्ज़ी के अलावा टोमैटो प्यूरी, सॉस, सूप, सलाद, डिप बनाकर बच्चों को खिलाएं.
* 8 महीने से कम उम्रवाले बच्चों को टमाटर से बनी प्यूरी, डिप आदि न दें. इससे उन्हें रैशेज़ होने की संभावना होती है.

रंग-बिरंगी सब्ज़ियां
सब्ज़ियों में कलरफुल कंपोनेंट केरोटेनाइड्स (जैसे- बीटा कैरोटीन) नामक एंटीऑक्सीडेंट्स होता है, जो बच्चों की रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है. गाजर में विटामिन्स ए, बी, सी और जी, पोटैशियम और सोडियम बहुत अधिक मात्रा में होते हैं, जो बच्चों की ग्लोइंग स्किन, आंखों की रोशनी, पाचन तंत्र और दांतों के लिए फ़ायदेमंद होते हैं. इसी तरह से लाल शिमला मिर्च में बीटा कैरोटीन और विटामिन सी बहुत अधिक मात्रा में होता है, जो बच्चों की आंख और त्वचा को हेल्दी बनाए रखने में मदद करता है.

कैसे खिलाएं?
* कलरफुल वेजीटेबल्स से सैंडविच, परांठा, रोल्स, कबाब, टिक्की आदि बनाकर बच्चों को खिला सकते हैं.

यह भी पढ़े: कैसे पता करें, बच्चा स्ट्रेस में है?

हरी पत्तेदार सब्ज़ियां
हरी पत्तेदार सब्ज़ियों में आयरन प्रचुर मात्रा में होता है, जो शरीर में व्हाइट ब्लड सेल्स और एंडीबॉडीज़ के उत्पादन का काम करता है. जिन बच्चों में आयरन की कमी होती हैं, उन्हें बार-बार कोल्ड और फ्लू होने की संभावना होती है. हरी पत्तेदार सब्ज़ियों में बीटा-कैरोटीन सहित ऐसे अनेक एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो बच्चों के इम्युन सिस्टम को स्ट्रॉन्ग बनाते हैं.

कैसे खिलाएं?
* सब्ज़ी व परांठे के अलावा हरी सब्ज़ियों से बना चीला, डोसा और पूरी भी बच्चों को खिला सकते हैं.

ब्रोकोली
इसे सुपर फूड भी कहते हैं. ब्रोकोली में मौजूद मिनरल्स, विटामिन्स (ए, सी व ई), एंटीऑक्सीडेंट्स, एंटीइनफ्लेमेट्री और डिटॉक्सिफाइंग कंपोनेंट इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग करते हैं.

कैसे खिलाएं?
* पास्ता, सूप और डिप के साथ बच्चों को ब्रोकोली खिला सकते हैं. इसके अलावा उबली हुई ब्रोकोली में चीज़ डालकर अवन में सुनहरा होने तक बेक करें. फिर उन्हें खाने के लिए दें.

बीन्स, काबुली चना और दालें
बीन्स और दालों में फाइबर और अघुलनशील स्टार्च प्रचुर मात्रा में होते हैं, जो पेट को स्ट्रॉन्ग बनानेवाले गुड बैक्टीरिया का निर्माण करते हैं, जिससे पाचन तंत्र और इम्युन सिस्टम मज़बूत होता है.

कैसे खिलाएं?
* दाल-बीन्स आदि से कबाब, टिक्की, रोल्स और पकौड़े बनाकर बच्चों को खिलाएं.

यह भी पढ़े: चाइल्ड केयर- बच्चों की खांसी के घरेलू उपाय

क्या करें पैरेंट्स?

बच्चों में इम्युनिटी सिस्टम को इंप्रूव करने के लिए
* बच्चे एक्सरसाइज़ करने से कतराते हैं, इसलिए पैरेंट्स उनके साथ मिलकर एक्सरसाइज़ करें.
* बच्चों की शारीरिक गतिविधियां, जैसे- स्विमिंग, साइकलिंग आदि को बढ़ावा दें.
* बच्चों को अधिक मात्रा में मीठा न दें.
* बच्चों पर तनाव हावी न होने दें.
* छोटे बच्चों को कम से कम 10-12 घंटे की नींद और स्कूल जानेवाले बच्चों को कम से कम 10 घंटे की नींद लेनी चाहिए.
* बच्चों को हाइज़ीन संबंधी आदतें सिखाएं.

– पूनम नागेंद्र शर्मा

अधिक पैरेंटिंग टिप्स के लिए यहां क्लिक करेंः Parenting Guide 

[amazon_link asins=’B01NCZFY6T,B01LB1O59I,B077RG23DS,B01MZXGULF’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’351225e8-13da-11e8-9dd0-fb6d9dbafd09′]