foreign minister

Bhutan's Royal Baby in india with narendra modi

भूटान के क्यूट प्रिंस बन गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के भी दुलारे! (Bhutan’s Royal Baby Steals The Show)

भारत के दौरे पर इन दिनों आए हुए हैं भूटान नरेश जग्मे खेसर नामग्याल (jigme khesar namgyel wangchuck). भूटान का यह शाही परिवार मंगलवार को दिल्ली पहुंचा. भारत में उनका भव्य स्वागत हुआ और दोनों देशों के बीच कई विषयों को लेकर गंभीर चर्चा भी हुई. लेकिन इन सबके बीच सबसे अधिक सुर्ख़ियां बटोरीं भूटान के क्यूट से नन्हे प्रिंस ने. जी हां, भूटान नरेश अपने छोटे नरेश जिग्मे नामग्याल और पत्नी के साथ भारत के दौरे पर हैं और इस दौरे में उनके क्यूट प्रिंस ही सारी लाइमलाइट चुरा रहे हैं. उनकी पिक्चर्स इंटरनेट पर वायरल हो चुकी हैं और सबको लुभा रही हैं.

Bhutan's Royal Baby in india with narendra modi
इस नन्हे प्रिंस को देखकर सारी गंभीर चर्चाएं एक तरफ़ रह गईं और सबका ध्यान बस उन्हीं पर आकर टिक गया. उनकी क्यूट हरक़तों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) तक को बहुत इंप्रेस किया. छोटे प्रिंस अपने पापा और मम्मी के साथ जहां भी गए, वहां उन्होंने अपनी मासूम शरारतों से सबको अपनी तरफ आकर्षित कर लिया.

Bhutan's Royal Baby in india with narendra modi
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रिंस के साथ बात करते और खेलते नज़र आए, उन्होंने प्रिंस को तोहफे दिए जिसमें फुटबॉल और चेस है.
शाही परिवार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी मिला, वहां भी प्रिंस को देखकर राष्ट्रपति और उनकी पत्नी बेहद ख़ुश हुए.
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी भूटान नरेश से मुलाक़ात की और वो भी छोटे-से प्रिंस से लाड़ लड़ाती नज़र आईं.

आप भी देखिए उनकी वायरेल पिक्चर्स.

Bhutan's Royal Baby in india with narendra modi

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज छोटे प्रिंस से लाड़ लड़ाती हुईं 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ क्यूट प्रिंस 

यह भी पढ़ें: तैमूर अली खान की पहली बर्थडे पार्टी होगी कुछ ऐसी, करिश्मा ने बताए बर्थडे प्लान्स! 

sushma 3
सुषमा स्वराज- जन्मदिन मुबारक हो!
* सुषमा स्वराज ने अपने उल्लेखनीय कार्य, चुनौतीपूर्ण ़फैसलों, बेबाक़ बयान से भारत की विदेश मंत्री के रूप में अपनी अलग पहचान बनाई है.
* हर कोई उनकी तेजस्विता, दमदार आवाज़, गरिमापूर्ण व्यक्तित्व से प्रभावित रहा है.
* उन्हें देश की पहली महिला विदेश मंत्री होने का गौरव हासिल है.
* सुषमाजी का जन्म अंबाला कैंट (हरियाणा) में 14 फरवरी, 1953 में हुआ था.
* यहीं के एसडी कॉलेज से उन्होंने बीए व चंडीगढ़ से लॉ की डिग्री हासिल की.
* वे लगातार तीन साल तक एनसीसी की बेस्ट कैडेट व राज्य की श्रेष्ठ वक्ता रही हैं.
* साथ ही पंजाब विश्‍वविद्यालय द्वारा उन्हें सर्वोच्च वक्ता के रूप में भी सम्मानित किया गया.
* पढ़ाई के बाद उन्होंने जयप्रकाश नारायण के आंदोलन में ज़ोर-शोर से हिस्सा लिया.
* साल 1970 में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से उन्होंने अपना राजनीतिक करियर शुरू किया.
* सुषमाजी सात बार सांसद, तीन बार विधायक रह चुकी हैं.
* वे पूर्व केंद्रिय मंत्री व साल 1988 में दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री रहीं.
* उन्होंने साल 1977 में चौधरी देवीलाल की कैबिनेट में 25 वर्ष की उम्र में ही राज्य की कैबिनेट मंत्री बनने का रिकॉर्ड बनाया.
* साथ ही 27 साल की उम्र में वे जनता पार्टी (हरियाणा) की प्रमुख भी बनी थीं.
* वे भारतीय संसद की एकमात्र महिला सांसद हैं, जिन्हें ‘असाधारण सांसद’ के पुरस्कार से सम्मानित किया गया है.
* वे भाजपा की पहली महिला राष्ट्रीय प्रवक्ता व कैबिनेट मंत्री रही हैं.
* 1975 में सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट स्वराज कौशल से उनका विवाह हुआ.
* सुषमा स्वराज और उनके पति स्वराज को लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड ने विशेष कपल के रूप अपने बुक में स्थान दिया है.
* उनकी बेटी बांसुरी ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से डिग्री व इनर टैम्पल में वकालत की डिग्री ली है. फ़िलहाल वे दिल्ली हाई कोर्ट व सुप्रीम कोर्ट में वकालत कर रही हैं.
* उनकी जीजिविषा व अदम्य साहस का अंदाज़ा इसी से लगाया जा सकता है कि अपनी किडनी फेल होने की सूचना उन्होंने ख़ुद ट्विटर पर दी.
* उनमें आक्रामकता व सौम्यता का बेज़ोड़ संगम देखने को मिलता है.
* ये सुषमाजी के प्रभावशाली भाषण का ही कमाल है कि अक्सर संसद में विपक्ष भी उनकी तारीफ़ करने के लिए बाध्य हो जाते हैं.
* वे एक बेहतरीन वक्ता हैं, इसमें कोई दो राय नहीं है. तभी तो पाकिस्तान से भारतीय महिला गीता को लाने की मुहिम हो… ट्विटर पर गुहार लगानेवाले ज़रूरतमंदों की मदद करनी हो या फिर पाकिस्तान को लेकर साहसपूर्ण विवादास्पद बयान ही क्यों न हो… वे हर बार अपने एक्शन-रिएक्शन से हर किसी को चौंका देती हैं. साथ ही अपनी मधुर मुस्कान से सभी का दिल भी जीत लेती हैं.
* सुषमाजी हमेशा हर देशी-विदेशी को उचित मदद मुहैया करवाने के लिए तत्पर रही हैं. उनका यही सहयोगपूर्ण रवैया उन्हें ख़ास व आदरणीय बना देता है.
– ऊषा गुप्ता

विदेशमंत्री सुषमा स्वराज की किडनी फेल होने के कारण अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स में भर्ती कराया गया है. उनका किडनी ट्रंसप्लांट किया जाएगा. सुषमा स्वराज ने ख़ुद ट्वीट करके यह जानकारी दी कि उनकी किडनी फेल हो गई है. वह एम्स में डायलिसिस पर हैं.

sushma swaraj

sushma swaraj

64 साल की सुषमा ने ट्वीट किया, दोस्तों आपको अपनी सेहत के बारे में एक जानकारी दे रही हूं. मैं किडनी फेल हो जाने के कारण एम्स में भर्ती हूं. इस समय मैं डायलिसिस पर हूं. मैं किडनी ट्रांसप्लांट के लिए परीक्षण करवा रही हूं. भगवान कृष्ण आशीर्वाद देंगे.

एम्स के सूत्रों ने जानकारी दी थी कि विदेशमंत्री की हालत स्थिर है. वह 20 साल से डायबिटीज़ मरीज़ रही हैं, इस कारण उनकी किडनी में दिक्कतें आ रही हैं. उनका डायलिसिस किया जा रहा है.फ  सुषमा स्वराज पिछले सात नवंबर से ही एम्स में भर्ती हैं. वहां डॉक्टरों की एक उच्चस्तरीय टीम उनकी निगरानी कर रही है.

कार्डियो थोरैकिक सेंटर के हेड बलराम एरान की निगरानी में सुषमा स्वराज को कार्डियो-न्यूरो सेंटर में भर्ती कराया गया है. सुषमा स्वराज इससे पहले अप्रैल में भी न्यूमोनिया और अन्य दिक्कतें के चलते एम्स में भर्ती किया गया था.

सुषमा स्वराज ने ख़ुद ट्वीट करके यह जानकारी दी कि उनकी किडनी फेल हो गई है.