Ganesh Acharya and two othe...

तनुश्री दत्ता (Tanushree Dutta) ने नाना पाटेकर (Nana Patekar) और तीन अन्य लोगों के खिलाफ मुंबई के ओशिवारा पुलिस स्टेशन (Oshiwara Police Station) में कल देर रात पहुंचकर अपना बयान दर्ज कराया. इन चारों पर तनुश्री ने 354, 354 A, 34 और IPC की धारा 509 के तहत मामला दर्ज कराया है. ख़बरों के अनुसार, तनुश्री दो पेज की लिखित शिकायत पुलिस को पेश की.

Tanushree Dutta’s complaint
तनुश्री ने अपने बयान में कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में बतौर एक्ट्रेस पिछले 14 साल से काम कर रही हूं. 23 से 26 मार्च, 2008 के बीच मैं गोरेगांव वेस्ट के फिल्मिस्तान स्टूडियो में फिल्म ‘हॉर्न ओके प्लीज’ के गाने की शूटिंग कर रही थी. फिल्म के कोरियाग्राफर गणेश आचार्य थे, जबकि डायरेक्टर राकेश सारंग, प्रोड्यूसर सामी सिद्दीकी और एक्टर नाना पाटेकर थे. यह गाना एक सोलो सॉन्ग था, जो कि सिर्फ मुझ पर फिल्माया जाना था. नाना पाटेकर की इस गाने में सिर्फ एक लाइन थी और वो मेरी कोरियोग्राफी रिहर्सल का पार्ट नहीं थे.  शूटिंग से पहले ही मैंने गणेश आचार्य को क्लियर कर दिया था कि मैं किसी भी तरह का वल्गर या अनकम्फर्टेबल स्टेप्स नहीं करूंगी.

Tanushree Dutta’s complaint

शूटिंग के चौथे दिन यानी 26 मार्च को मुझे लेकर नाना पाटेकर का बिहेवियर अजीबोगरीब था. सेट पर उनका काम न होने के बावजूद वह वहां मौजूद थे, फिर उन्होंने मुझे डांस सिखाने के बहाने अपनी बांहों में भर लिया. जब उन्होंने गैर-जरूरी तरीके से छूना शुरू किया तो मैं असहज हो गई. मुझे लगा कि नाना मेरे साथ छेड़छाड़ कर रहे हैं. मैंने कोरियोग्राफर, प्रोड्यूसर और डायरेक्टर से इस बात की शिकायत की. उम्मीद थी कि वे कोई रास्ता निकालेंगे और सब कुछ ठीक हो जाएगा. लेकिन मुझे तब आश्चर्य हुआ, जब कोरियोग्राफर आचार्य ने कुछ ऐसे इंटीमेट स्टेप गाने में शामिल कर दिए, जिनमें नाना को मुझे गलत जगहों पर छूना था. इसके बाद शूटिंग के वक्त नाना ने मुझे कई बार गलत तरीके से छुआ, विरोध करने पर मुझ पर दबाव डाला गया और प्रोड्यूसर ने बदनाम करने की धमकी दी. सेट पर भी सब नाना पाटेकर का पक्ष ले रहे थे. यह सब उन्हीं के इशारे पर हो रहा था.

Tanushree Dutta

 मैंने इस बारे में अपने माता-पिता और मैनेजर से बात की, लेकिन प्रोड्यूसर ने कुछ भी गलत होने से इनकार कर दिया. ऐसे में मेरे पास स्टूडियो छोड़ने के अलावा कोई चारा नहीं थ,। रास्ते में नाना ने मनसे के गुंडे बुलावाकर मेरी कार पर हमला करवाया, लेकिन मैं पुलिस की मदद से भागने में कामयाब रही. इसके बाद मैंने पुलिस स्टेशन जाकर शिकायत की और बयान दर्ज कराए, लेकिन मेरी शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया गया अौर मैंने जो-जो बातें बताईं, उन्हें हटा दिया गया. इस घटना से मुझे काफी सदमा लगा. मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने से काम प्रभावित हुआ और काफी नुकसान झेलना पड़ा.

तनुश्री के लिखित शिकायत के बाद पुलिस के इस सिलसिले में जांच शुरू कर दी है. सीनियर ऑफिसर ने कहा कि हम इस मामले की विस्तार से जांच करेंगे.

ये भी पढ़ेंः #MeToo: संस्कारी बाबू जी पर एक और अभिनेत्री ने लगाया यौन शोषण का आरोप (Sandhya Mridul’s #MeToo Story About Screen Bapuji)