Gay

सावधानी हटी, दुर्घटना घटी… कहा जाता है, पर कुछ सावधानियां ऐसी भी होती हैं कि परेशान भी करती हैं, गुदगुदाती भी हैं, जैसा कि शुभ मंगल ज़्यादा सावधान के साथ हो रहा है. आयुष्मान खुराना और जितेंद्र कुमार की जुगलबंदी इस फिल्म को और भी मज़ेदार और हास्य से भरपूर बना देती है ट्रेलर देखकर तो ऐसा ही लग रहा है.

Shubh Mangal Jyada Saavdhan Trailer

इसमें बधाई हो कि हिट जोड़ी नीना गुप्ता व गजराज राव भी दिलचस्प भूमिकाओं में नज़र आएंगे. वहीं भूमि पेडनेकर का केमियो रोल फिल्म का ख़ास आकर्षण है.

इसे ये नहीं… गे कहते हैं… जब मैंने पहली बार उसे देखा तो मेरी बड़ी हो गई थी पुतलियां,.. मैं मदर इंडिया बनूंगी… कुछ सरल, तो कुछ द्विअर्थी संवाद फिल्म को और भी मज़ेदार बना देते हैं. हमेशा की तरह आयुष्मान खुराना अपनी छाप छोड़ जाते हैं और उनका भरपूर साथ देते हैं जितेंद्र कुमार. नीना व गजराज भी ख़ूब जमे हैं. उन दोनों की इस रिश्ते को लेकर क्रियाएं-प्रतिक्रियाएं ग़ज़ब के हैं. दोनों जितेंद्र के अभिभावक बने हैं. आयुष्मान का बोल्ड अंदाज़, उनका व जितेंद्र का लिप लॉक कहानी को एक नया मोड़ देने लगता है. सभी कलाकारों ने फिल्म को मनोरंजन बनाने में कोई कोर कसर बाकी नहीं रखी है.

शुभ मंगल सावधान फिल्म का सीक्वल है शुभ मंगल ज़्यादा सावधान. उसमें जहां पुरुषों के इरेक्शन जैसे अछूते विषय को गहराई से समझाया गया था. वहीं इसमें होमोसेक्सुअल रिलेशन को हाइलाइट किया गया है. वैसे बकौल आयुष्मान खुराना के यह पूरी तरह से पारिवारिक फिल्म है, जिसे आप सभी के साथ देख सकते हैं. अक्सर इस तरह के विषयों पर कम बात होती है और समाज का दृष्टिकोण भी अलग रहता है. ऐसे में इस फिल्म का आना और उस पर कलाकारों का दावा करना कि यह थोड़ी अलग है और सभी को ज़रूर पसंद आएगी, क्योंकि इसमें एक सार्थक संदेश देने की भी कोशिश की गई है, इसके प्रति उत्सुकता बढ़ा देता है.

आज फिल्म के ट्रेलर के साथ-साथ इसके कई दिलचस्प पोस्टर्स भी देखने को मिले, जो फिल्म की कहानी को मनोरंजक ढंग से से बयां करते हैं, उस पर आयुष्मान का अंदाज़ कि- कार्तिक का प्यार हो कर रहेगा अमन!.. वे शादी के स्टेज पर जितेंद्र के साथ मस्तीभरे स्टाइल में हैं और जितेंद्र उन्हें प्यार से निहार रहे हैं. जबकि परिवार चिंता, ग़ुस्से, आक्रोश के मिलेजुले अंदाज़ में दोनों को आग्नेय नेत्रों से देख रहा है.

दूसरी तस्वीर भी कुछ कम रोचक नहीं है. इसमें दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे फिल्म के क्लाइमेक्स के सीन को रिक्रिएशन किया गया दिख रहा है. जहां आयुष्मान बैग लिए ट्रेन के दरवाज़े पर हाथ बढ़ाते हुए जितेंद्र को थामने की कोशिश कर रहे हैं, वहीं जितेंद्र कुमार ट्रेन के साथ भाग रहे हैं, उनके पीछे-पीछे उनका परिवार भी दौड़ रहा है. उ़फ् यह लव स्टोरी क्या गुल खिलाएगी, यह तो ऊपरवाला ही जानें.

तीसरी फोटो तो माशाअल्लाह अफ़लातून है. इसमें आयुष्मान घोड़ी पर सवार जितेंद्र को थामे हुए हैं और जितेंद्र के पैरेंट्स नीना गुप्ता व गजराज राव मानों दर्शकों से पूछ रहे हैं कि आख़िर इन दोनों का क्या करें. उस पर स्लोगन भी लाजवाब है कि जीतेगा प्यार सह-परिवार.. अब भाई यह क्या टोटका है, यह तो फिल्ममेकर ही जाने.

 

फिल्म के निर्माता आनंद एल. राय व भूषण कुमार के साथ-साथ निर्देशक हितेश केवालिया का भी मानना है कि उन्होंने इस संवेदनशील विषय को अलग ट्रीटमेंट दिया है. उनके अनुसार, हंसी-मज़ाक व मनोरंजन के साथ एक उद्देश्यपूर्ण बात भी कहती है फिल्म.

वैसे भी पिछले कुछ समय से आयुष्मान खुराना कई ऐसे विषयों पर फिल्म कर रहे हैं, जो भरपूर मसाला व हास्य के साथ-साथ समाज में फैले ग़लत बातों को भी उजागर करती है, जैसे- ड्रीम गर्ल, बाला आदि. यह फिल्म फरवरी में 21 तारीख़ को रिलीज़ होनेवाली है. समलैंगिकता पर आधारित शुभ मंगल ज़्यादा सावधान लोगों को कितना सावधान करेगी, यह तो फिल्म देखने के बाद ही जान पाएंगे. फ़िलहाल फिल्म के ट्रेलर का आनंद लीजिए…

 

 

यह भी पढ़ेदिशा पटानी से ज़्यादा खूबसूरत हैं उनकी बहन खुशबू, देखें उनका वायरल फिटनेस वीडियो (Khushboo Patani Viral Fitness Video)