God

एक्ट्रेस मौनी राॅय इन दिनों काफ़ी दार्शनिक बनती जा रही हैं. वे अक्सर जीवन दर्शन का एक अलग ही नज़रिया लोगों के सामने प्रस्तुत करती रहती हैं. आज के कोरोना के इस माहौल में लोगों को जागरूक करने से लेकर उनकी सोच को सकारात्मक करने तक में वे बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रही हैं. सभी का उत्साह बढ़ा रही हैं.
इन दिनों वे योगी परमहंस योगानन्द की किताब, उनकी आत्मकथा पढ़ रही हैं. उनसे बेहद प्रभावित भी हो रही हैं. उनकी बातों और ज्ञान को वे अक्सर शेयर करती हैं. कह सकते हैं कि अपनी ख़ूबसूरत तस्वीरों के साथ-साथ ज्ञान अमृत बांटने का भी बेहतरीन कार्य कर रही हैं.
उनके अनुसार, उन्होंने ईश्वर को आमंत्रित किया था अपनी ज़िंदगी में आने के लिए और भगवान ने हमेशा उनका साथ भी दिया. हर संघर्ष की घड़ी में वे साथ रहे. उन्होंने ईश्वर की सृष्टि, प्रेम, धैर्य, सौंदर्य को जाना-समझा. मौनी का कहना है कि वे अब उनके बेस्ट फ्रेंड बन गए हैं.
मैं अब भी कहती हूं कि मेरे ख़्याल से इस बार ईश्वर आप ग़लत हो. लेकिन भगवान भी मेरे द्वारा परिस्थितियों को जानने, ख़ासकर यह एहसास होने कि अकेले मैं कुछ नहीं कर सकती का इंतज़ार करते हैं. इसमें कोई दो राय नहीं कि वे मुझे चमत्कारिक रूप से ताक़त और साहस देते हैं कि मैं ज़िंदगी को जैसे है वैसे ही स्वीकार करते हुए उसका सामना कर सकूं. उनकी मदद और मार्गदर्शन के कारण ही हर तूफ़ान का सामना कर पा रही हूं. जिंदगी का यह फलसफ़ा और ख़ूबसूरती मैंने पहले कभी नहीं देखी. वाक़ई थोड़े में ही मौनी रॉय ने गहरी बात कह दी. हम तो बस इतना ही कह सकते हैं कि सभी कोरोना काल में सकारात्मक रहें, सब्र करें, उम्मीद का दामन ना छोडें. सब अच्छा होगा!..
देखें लेटेस्ट मौनी रॉय की ख़ूबसूरत तस्वीरें, आकर्षक अंदाज़ लाजवाब पहनावे के साथ.

Mouni Roy

Mouni Roy
Mouni Roy
Mouni Roy
Mouni Roy

Photo Courtesy: Instagram


यह भी पढ़ें: अंकिता भार्गव से लेकर अदिति मलिक तक, अपने बच्चों के साथ कुछ ऐसे समय बिताती हैं टीवी की ये खूबसूरत मॉम्स (From Ankita Bhargava to Aditi Malik, Know-How These Beautiful Moms of TV Spend Time With Their Kids)

  • क्रिकेट जगत में बस एक ही गॉड हुआ है और वो है द ग्रेट सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), लेकिन न स़िर्फ उनकी काबिलीयत, बल्कि उनका नेक स्वभाव भी यह बार-बार साबित करता आया है कि क्यों उन्हें ‘गॉड’ या भगवान (God) की उपाधि दी गई है.
  • सचिन रोड सेफ्टी कैंपेन (Road Safety) से जुड़े हुए हैं और समय-समय पर वो वीडियोज़ भी शेयर करते रहे हैं कि किस तरह से लोगों को वो आगाह करते रहे हैं. इसी तरह का एक और वीडियो उन्होंने अपने इंस्टाग्राम (Instagram) पर शेयर किया है, जिसमें आम लोगों को वो हेल्मेट पहनने की सलाह दे रहे हैं, सचिन जिस किसी को भी बिना हेल्मेट के देख रहे हैं, उसे वो कह रहे हैं- हेल्मेट डालो #HelmetDaalo .
  • और लोग भी सचिन की कही बातों को बहुत ही गंभीरता से ले रहे हैं और लें भी क्यों न, आख़िर उनके फेवरेट स्टार और क्रिकेट के भगवान (Cricket) ख़ुद उन्हें यह कह रहे हैं.
  • आप भी देखें इस वीडियो को और रोड सेफ्टी के रूल्स फॉलो करें, क्योंकि ज़िंदगी अनमोल है.

यह भी पढ़ें: क्यूट ज़ीवा अपने पापा एमएस धोनी को पानी पिला रही हैं…

Arun Govil

जब भी भगवान श्री राम का ज़िक्र होता है, तो उनकी जो छवि सामने आती है, उसमें अरुण गोविल (Arun Govil) का ही चेहरा नज़र आ जाता है. मर्यादा पुरूषोत्तम श्री राम के किरदार को अरुण ने छोटे पर पर कुछ इस तरह निभाया कि घर-घर में लोग उन्हें श्री राम की तरह पूजने लगे. रामायण धारावाहिक के राम आज हो गए हैं 59 साल के.

मेरी सहेली (Meri Saheli) की ओर से उन्हें जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं. आइए, उनके जन्मदिन के मौक़े पर जानते हैं उनके बारे में कुछ बातें.

Arun Govil

  • अरुण का जन्म 12जनवरी 1958 को मेरठ में हुआ है. मेरठ में पढ़ाई के दौरान ही उन्होंने ने कई नाटकों में काम भी किया था. अरुण के पिता चाहते थे कि वो सरकारी नौकरी करें, लेकिन अरुण बिज़नेस करने मुंबई आ गए.
  • बिज़नेस करने से पहले ही उन्हें ऐक्टिंग करने का ऑफर मिल गया 1977 में ताराचंद बडजात्या की फिल्म पहेली में.
  • उसके बाद उन्होंने सावन को आने दो, सांच को आंच नहीं,  इतनी सी बात, हिम्मतवाला, दिलवाला, हथकड़ी और लव कुश जैसी कई फिल्मों में काम किया.
  •  रामायण सीरियल करने से पहले अरुण ख़ुद को एक अच्छे ऐक्टर के रूप में साबित कर चुके थे.
  • जब रामानंद सागर ने रामायण में अरुण को श्री राम का रोल ऑफर किया, तब उन्हें इस किरदार को निभाने के लिए सिगरेट पीने की पुरानी आदत छोड़नी पड़ी थी. तीन सालों तक चले रामायण धारावाहिक के दौरान उन्हें अपनी इमेज का ख़ास ध्यान रखना पड़ता था.
  •  रामायण से पहले लोगों ने उन्हें विक्रम और बेताल धारावाहिक में राजा विक्रमादित्य के रोल में ख़ूब पसंद किया था.
  • अरुण कभी श्री राम की छवि से बाहर ही नहीं निकल पाए. जितने प्रसिद्ध वो इस रोल से हुए थे, उतना ही बड़ा खामियाज़ा भी उन्हें उठाना पड़ा. फिल्मों में रोमांस करते हुए या नेगेटिव रोल में दर्शक उन्हें नहीं देखना चाहते थे. अरुण ने श्री राम की छवि से बाहर निकलने की बहुत कोशिश की लेकिन वो असफल रहे. रामायण सीरियल को बने हुए 30 साल हो चुके हैं, लेकिन अरुण को लोग आज भी श्री राम के नाम से ही ज़्यादा जानते हैं.
  • रामायण के बाद उन्हें ऐसे ही रोल्स के ऑफर आने लगे, जिसके बाद अरुण ने लगभग 10 सालों तक फिल्मों से दूरी बना ली और रामायण के लक्ष्मण यानी सुनील लाहिड़ी के साथ मिलकर अपनी प्रोडक्शन कंपनी शुरू की.
  • 25 सालों बाद पिछले साल ही अरुण ने धरती की गोद में धारावाहिक से छोटे पर्दे पर दोबारा वापसी की.

– प्रियंका सिंह

×