Tag Archives: got 5 years imprisonment

जेल में दिखा सलमान का दबंग अंदाज़, नहीं खाया जेल का खाना ! (5 star food given to Salman Khan in Jodhpur central jail)

5 star food, Salman Khan, Jodhpur central jail

काला हिरण शिकार मामले में जोधपुर कोर्ट द्वारा 5 साल की सज़ा और 10 हज़ार रुपए का जुर्माना लगाए जाने के बाद सलमान खान (Salman Khan) को जोधपुर सेंट्रल जेल में भेजा गया. सलमान की पहली रात जेल में कटी, लेकिन वहां भी उनका दबंग अंदाज़ ही देखने को मिला. उन्होंने जेल में न तो कैदियों वाले कपड़े पहने और न ही जेल का खाना खाया.

5 star food, Salman Khan, Jodhpur central jail

बता दें कि जेल में सलमान खान को कैदी नंबर 106 के तौर पर नई पहचान मिली है. जेल में पहुंचने के बाद सलमान के गले से जेल का एक भी निवाला नहीं उतरा. उन्होंने जेल में मिलनेवाली चने की दाल और पत्तागोभी की सब्ज़ी नहीं खाई. उनके लिए बाहर से फाइव स्टार होटल का खाना मंगाया गया.

उधर, सलमान खान के वकील उनकी ज़मानत के लिए आज सुबह 10.30 बजे सेशंस कोर्ट में अपील करने पहुंचे, ताकि भाईजान को जेल से बाहर निकाला जा सके. इसके अलावा उनकी सज़ा की ख़बर पाकर बॉलीवुड के कई सितारे उनके बांद्रा स्थित गैलेक्सी अपार्टमेंट पहुंचे. ख़बरों की मानें तो सलमान के दोनों भाई अरबाज और सोहेल खान उनसे मिलने के लिए जोधपुर सेंट्रल जेल पहुंच रहे हैं.

दरअसल, साल 1998 में काला हिरण शिकार मामले में सलमान को बीस साल बाद पांच साल की सज़ा हुई है. इस मामले के बाकी सह आरोपियों सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेंद्रे और नीलम कोठारी को कोर्ट ने बरी कर दिया. यह वाकया फिल्म ‘हम साथ-साथ है’ की शूटिंग के दौरान का है.

यह भी पढ़ें: जेल में सलमान खान को करना पड़ेगा इन नियमों का पालन

 

 

जेल में सलमान खान को करना पड़ेगा इन नियमों का पालन (Salman Khan will have to follow these rules of jail)

Salman Khan, follow these rules of jail

लगभग दो दशक बाद अभिनेता सलमान खान (Salman Khan) को काला हिरण शिकार मामले में दोषी करार देते हुए जोधपुर की अदालत ने 5 साल की सज़ा सुनाई है. हालांकि सज़ा का ऐलान होते ही उनकी दोनों बहनें अर्पिता और अलविरा की आंखों से आंसू छलक पड़े. सज़ा सुनाए जाने के बाद सलमान को जोधपुर सेंट्रल जेल भेजा जाएगा. जहां उन्हें आम कैदियों की तरह ही जेल के सभी नियमों का सख़्ती से पालन करना पड़ेगा.

Salman Khan, follow these rules of jail

ऐसा होगा जेल में सलमान का रूटीन
  • घर की तरह जेल में सलमान को सोने की आज़ादी नहीं मिलेगी, जेल के नियमों के मुताबिक आम कैदियों की तरह सलमान को सुबह 5.30 उठना होगा.
  • उठने के बाद सुबह 7 बजे तक नहाकर तैयार होना होगा. नहाने के बाद सुबह 7 से 8 बजे तक नाश्ता कर लेना होगा. नाश्ते में आम कैदियों की तरह उन्हें भी 2 ब्रेड, सब्ज़ी और चाय दी जाएगी.
  • नाश्ता करने के तुरंत बाद सुबह 8 से 11.30 बजे तक जेल की ओर से तय किए गए काम को करना पड़ेगा.
  • 11.30 से 12.00 तक लंच करने के लिए समय दिया जाएगा. जेल में कैदियों को लंच में सब्ज़ी, रोटी, दाल, चावल दिया जाता है. लंच के बाद 12 बजे से शाम 5 बजे तक जेल की ओर से तय किया गया काम करना होगा.
  • हर रोज़ लाखों रुपए कमाने वाले सलमान को जेल में मेहनताने के रूप में हर रोज़ 40 रुपए से लेकर 55.50 रुपए दिए जा सकते हैं.
  • सूरज ढ़लने से पहले यानी शाम 5.30 बज़े तक आम कैदियों की तरह सलमान को भी बैरक में वापस लौटना पड़ेगा. बैरक में लौटने के बाद शाम 6 बजे तक डिनर करना होगा.
  • जेल के नियमों के अनुसार बैरक में लौटने के बाद शाम 6 बजे कैदियों को डिनर दिया जाता है. डिनर में सब्ज़ी-रोटी मिलती है.
  • डिनर के बाद कुछ देर तक कॉमन हॉल में टीवी देखने या बुक पढ़ने की छूट कैदियों को दी जाती है. फिर 8 बजे तक कैदियों को अपने बैरक में वापस जाकर सोना पड़ता है.
  • बता दें कि घर के केवल 5 सदस्य ही एक कैदी से एक महीने में मिल सकते हैं और उन्हें मिलने के लिए सिर्फ़ 20 मिनट का समय ही दिया जाता है.

बहरहाल, सलमान को जेल में आम कैदियों की तरह ही जेल के इन नियमों का पालन सख़्ती से करना पड़ेगा और जेल के नियमों के मुताबिक ही उनका डेली रूटीन भी होगा.

जेल जाने से बचने का यह है रास्ता

अगर सलमान को 3 साल से कम अवधि की सज़ा मिलती तो उन्हें जेल नहीं जाना पड़ता, लेकिन उन्हें 5 साल की सज़ा मिली है और ऐसे में उन्हें जेल में सज़ा काटनी पड़ सकती है. हालांकि इस सज़ा से बचने के लिए सलमान सेशंस कोर्ट का रूख कर सकते हैं.

सज़ा की अवधि 3 साल से ज़्यादा है ऐसे में सेशंस कोर्ट से ही उन्हें ज़मानत मिल सकती है, लेकिन इस प्रक्रिया में ज़्यादा समय भी लग सकता है और जब तक उन्हें ज़मानत नहीं मिल जाती, तब तक उन्हें सलाखों के पीछे ही रहना पड़ेगा.

यह भी पढ़ें: काला हिरण शिकार मामले में सलमान खान दोषी करार, मिली 5 साल की सज़ा