Tag Archives: hair oil

नीम तेल के 10 ब्यूटी बेनिफिट्स (10 Beauty Benefits Of Neem Oil)

नीम तेल (Neem Oil) के ब्यूटी बेनिफिट्स (Beauty Benefits) बहुत हैं. नीम तेल जिस तरह सेहत के लिए फायदेमंद है, उसी तरह नीम के तेल से आप अपनी खूबसूरती भी निखार सकती हैं. कई लोग नीम के ब्यूटी बेनिफिट्स के बारे में नहीं जानते. नीम का तेल आसानी से उपलब्ध है और इसके कई ब्यूटी और हेल्थ बेनिफिट्स भी हैं. यहां पर हम आपको नीम तेल के 10 ब्यूटी बेनिफिट्स बता रहे हैं.

Benefits Of Neem Oil

नीम तेल के 10 ब्यूटी बेनिफिट्स

1) नीम तेल बढ़ती उम्र के संकेतों को रोकता है
नीम तेल में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट्स बढ़ती उम्र के संकेतों को रोकते हैं और त्वचा को जवां बनाए रखते हैं. बढ़ती उम्र के संकेतों को रोकने के लिए हफ्ते में दो बार 10 मिनट तक नीम तेल से चेहरे और गले की मालिश करें. ऐसा नियमित रूप से करने से आपकी त्वचा जल्दी बूढ़ी नहीं होगी और आप जवां नज़र आएंगी.

2) नीम तेल संक्रमण से बचाता है
नीम में प्राकृतिक एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो त्वचा को संक्रमण से बचाते हैं. संक्रमित जगह को एंटीसेप्टिक साबुन से अच्छी तरह धोकर वहां पर कुछ बूंदें नीम तेल लगा दें. इससे आपको बहुत लाभ होगा.

3) नीम तेल बालों का झड़ना रोकता है
नीम के तेल की 4-4 बूंदें नाक के दोनों छेदों में नियमित रूप से एक माह तक डालें. भोजन में नियमित रूप से दूध का सेवन करें. ऐसा करने से बालों का झड़ना रुकता है और बाल मजबूत और घने बनते हैं.

4) नीम तेल से बढ़ती है त्वचा की खूबसूरती
नीम तेल में विटामिन ई और फैटी एसिड की पर्याप्त मात्रा होती है जो हमारी त्वचा की खूबसूरती बढ़ाता है. खासकर सर्दियों के दिनों में नहाने के बाद नीम तेल के 1 भाग को नारियल के तेल के 2 भागों के साथ मिलाएं और पूरे शरीर पर लगाएं. ऐसा करने से आपकी स्किन नर्म-मुलायम और खूबसूरत बन जाएगी.

जानें नारियल तेल के 10 ब्यूटी बेनिफिट्स, देखें वीडियो:

5) नीम तेल मुंहासों से छुटकारा दिलाता है
नीम में पाए जाने वाले एंटी-इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक एजेंट मुंहासे कम करने में मदद करते हैं. नीम में पाए जाने वाले एंटी-बैक्टीरियल गुण त्वचा पर मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करता है. नीम तेल मुंहासों पर लगाने से मुंहासों की लालिमा और सूजन भी कम होती है.

6) नीम तेल से भौहें और पलकें स्वस्थ बनती हैं
शोधों के अनुसार, जो लोग अपने चेहरे पर नीम तेल लगाते हैं, उनकी भौहें और पलकें भी स्वस्थ बनती हैं. नीम तेल खुले रोमछिद्रों को भी साफ करता है इसलिए आप नीम तेल को मेकअप रिमूवर के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकती हैं.

7) नीम तेल असरदार एंटी-फंगल एजेंट है
नीम का तेल एक प्रभावी एंटी-फंगल एजेंट भी है. पैर की उंगलियों, एड़ियों और हाथों पर नीम के तेल की कुछ बूंदें नियमित रूप से लगाएं. ऐसा करने से आपकी त्वचा फंगल इंफेक्शन से बची रहेगी. यदि आपकी त्वचा पर पहले से ही फंगल इंफेक्शन है, तो उस जगह को पहले एंटीसेप्टिक साबुन से साफ करें, फिर वहां पर नीम का तेल लगाएं. ऐसा करने से आपको जल्दी ही फंगल इंफेक्शन से छुटकारा मिलेगा. नीम तेल अन्य त्वचा रोग या इंफेक्शन, जैसे दाद, कान के छेद में फंगस आदि को ठीक करने में भी सहायक है.

8) नीम तेल बालों का असमय सफेद होना रोकता है
नीम का तेल बालों का व़क्त से पहले सफेद होना भी रोकता है. इसके लिए आंवले के तेल में नीम तेल मिलाकर बालों में लगाएं और मालिश करें. सुबह शैम्पू से बाल धो लें. यह प्रयोग हफ्ते में दो बार करें. ऐसा नियमित रूप से करने से आपके बाल असमय सफेद नहीं होंगे.

यह भी पढ़ें: ऐलोवेरा जेल के 10 ब्यूटी बेनिफिट्स स्किन और बालों के लिए (10 Beauty Benefits Of Aloe Vera Gel For Skin And Hair)

Benefits Of Neem Oil

9) नीम तेल रूसी (डैंड्रफ) से छुटकारा देता है
डैंड्रफ से हम सभी परेशान रहते हैं. डैंड्रफ के कारण बालों में खुजली, बालों का झड़ना जैसी कई समस्याएं होने लगती हैं. डैंड्रफ से छुटकारा पाने के लिए अपने हेयर ऑयल में कुछ बूंदें नीम तेल की मिलाएं और इस तेल को हफ्ते में दो बार बालों कें लगाएं. ऐसा नियमित रूप से करने से आपके बालों में डैंड्रफ नहीं होगा और आपको डैंड्रफ से छुटकारा मिल जाएगा.

10) नीम तेल हर तरह की स्किन प्रॉब्लम्स से छुटकारा देता है
यदि आप रोज रात में सोने से पहले अपने चेहरे पर नीम तेल लगाती हैं, तो इससे आप हर तरह की स्किन प्रॉब्लम्स से अपनी त्वचा को बचा सकती हैं. इसके लिए रोज सोने से पहले नीम तेल से त्वचा की मालिश करें, फिर फेसवॉस से चेहरा धो लें. ऐसा नियमित रूप से करने से आपकी त्वचा हर तरह की स्किन प्रॉब्लम्स से बची रहेगी और आपकी स्किन हमेशा हेल्दी और खूबसूरत नज़र आएगी.

यह भी पढ़ें: बालों का झड़ना रोकने के 5 आसान घरेलू उपाय (5 Effective Home Remedies To Control Hair Fall)

कौन हैं बालों के दोस्त? कौन हैं दुश्मन?

बालों की ग्रोथ न स़िर्फ हमारी लाइफस्टाइल, बल्कि अच्छी-बुरी आदतों पर भी निर्भर करती है. अच्छी आदतें जहां बालों को स्वस्थ बनाती हैं, वहीं बुरी आदतों से बाल बेजान नज़र आते हैं. आइए, जानते हैं कौन हैं बालों के दोस्त और कौन हैं दुश्मन? 

 

बालों के दोस्त

 

dreamstime_m_22805780

तेल

तेल बालों का मुख्य आहार है. इससे बाल स्वस्थ होते हैं और स्वस्थ बाल तेज़ी से बढ़ते हैं. अतः सप्ताह में 3-4 बार बालों में तेल लगाकर मसाज करें. इससे बाल जड़ से मज़बूत होते हैं.

साफ़-सफ़ाई

साफ़-सुथरे बाल तेज़ी से बढ़ते हैं. अतः जब भी ज़रूरत महसूस हो, बालों को शैम्पू ज़रूर करें. संभव हो तो रोज़ाना या एक दिन छोड़कर शैम्पू करें. स्वच्छता से बाल स्वस्थ होते हैं और स्वस्थ बाल तेज़ी से बढ़ते हैं.

संतुलित आहार

बालों को जड़ से मज़बूत बनाना हो, तो अपने आहार में अंडे, हरी सब्ज़ियां, नट्स, ऑयली फिश, बेरीज़ शामिल करें, क्योंकि अंडे में प्रोटीन, हरी सब्ज़ियों में विटामिन्स और नट्स में ज़िंक और ओमेगा3 एडिस की मौजूदगी से बाल स्वस्थ व मज़बूत बनते हैं.

healthy diet for hair

ट्रिमिंग

हेल्दी-हैप्पी हेयर के लिए बालों की ट्रिमिंग भी ज़रूरी होती है. 2-3 महीने के अंतराल पर बालों को ट्रिम कराती रहें. इससे बाल घने नज़र आते हैं और तेज़ी से बढ़ते हैं.

योग व एक्सरसाइज़

नियमित योग व एक्सरसाइज़ से भी आप बालों को स्वस्थ व तंदरुस्त बना सकती हैं. अतः रोज़ाना नियमित रूप से योग या एक्सरसाइज़ करें.

बालों के दुश्मन

2

 

 

गंदगी

बालों को धूल-मिट्टी और गंदगी से बचाएं. साथ ही तेज़ धूप के संपर्क में आने से भी परहेज़ करें, वरना बाल रूखे, बेजान व कमज़ोर बन सकते हैं.

तनाव

स्ट्रेस बालों के जानी दुश्मनों में से एक है. अतः स्ट्रेस से बचें. किसी भी मुद्दे पर बहुत ज़्यादा सोच-विचार न करें. इसका आपके बालों पर नकारात्मक असर हो सकता है.

जंक फूड

तली-भुनी, मसालेदार चीज़ों के सेवन से बचें. साथ ही जंक फूड से भी परहेज़ करें. ये न स़िर्फ आपको शारीरिक तौर पर बीमार करते हैं, बल्कि इनके सेवन से बाल भी कमज़ोर हो जाते हैं.

good for hair
केमिकलयुक्त कलर

केमिकलयुक्त हेयर कलर या हेयर स्टाइलिंग से दूर रहें. हेयर कलर के इस्तेमाल से कई बार बाल स़फेद हो जाते हैं और केमिकलयुक्त हेयर स्टाइलिंग से बाल कमज़ोर हो जाते हैं.

कॉस्मेटिक हेयर ट्रीटमेंट

कॉस्मेटिक हेयर ट्रीटमेंट लेने से बचें, वरना बाल कमज़ोर होने के साथ ही झड़ भी सकते हैं. बेहतर होगा कि आप किसी ट्रेंड डर्मेटोजॉलिस्ट की निगरानी में हेयर ट्रीटमेंट लें.