Tag Archives: happy diwali

कैसे मनाएं सेफ दिवाली? (How To Celebrate Happy And Safe Diwali)

Diwali

कैसे मनाएं सेफ दिवाली? (How To Celebrate Happy And Safe Diwali)

दिवाली (Diwali) रोशनी का त्योहार (Festival) है. यह अपने साथ ढेर सारी ख़ुशियां लाती है. हम सभी इस त्योहार को पूरे धूमधाम से उमंग-उत्साह से मनाते है. लेकिन इस रोशनी के पर्व में थोड़ी सावधानी भी बेहद ज़रूरी है यानी फेस्टिवल मनाएं, पर सेफ्टी (Safety) का भी पूरा ख़्याल रखें, विशेषकर पटाखे जलाते समय. यहां पर हम कुछ सेफ्टी रूल्स (Safety Rules) बता रहे हैं.

–    पटाखे जलाते समय पैरों में चप्पल या जूते ज़रूर पहनें. कभी भी नंगे पांव पटाखे न जलाएं.

–    पटाखे हमेशा खुली जगह पर जलाएं यानी कभी भी घर के अंदर या बंद स्थान पर पटाखे ना फोड़ें. पटाखे जलाने के लिए घर के बाहर, छत पर या फिर आंगन भी ठीक है.

–    साथ ही आसपास देख लें कि कहीं कोई आग फैलानेवाली या फ़ौरन आग पकड़नेवाली चीज़ तो नहीं है.

–    बच्चे-बड़े सभी पटाखे जलाते समय आसपास बाल्टी भरकर पानी ज़रूर रखें. साथ ही जलने पर लगनेवाली इमर्जेंसी दवाएं भी

ज़रूर रखें.

–    यदि पटाखे से जल जाएं, तो जले हुए स्थान पर तुरंत पानी के छींटें मारें.

–    हमेशा लाइसेंसधारी और विश्‍वसनीय दुकानों से ही पटाखे ख़रीदें.

ये न करें…

–    कुछ लोग बहादुरी दिखाने के लिए पटाखे हाथ में पकड़कर जलाने की कोशिश करते हैं. ऐसा न करें, क्योंकि ऐसा करने से पटाखों के हाथ में फटने और दुर्घटना होने की संभावना रहती है.

–    पटाखों को दीये या मोमबत्ती के आसपास ना जलाएं.

–    जब आपके आसपास कोई पटाखे जला रहा हो, तो उस समय आप भी पटाखे ना जलाएं.

–   बिजली के तारों के आसपास क्रैकर्स न फोड़ें.

–   यदि किसी पटाखे को जलने में बहुत अधिक समय लग रहा है, तो उसे दोबारा ना जलाएं, बल्कि किसी सेफ जगह पर फेंक दें.

–   आधे जले हुए पटाखों को इधर-उधर ना फेंकें. उसे पानी में डुबोकर फेंक दें.

–    रॉकेट जैसे पटाखे ऐसे समय में बिल्कुल न जलाएं, जब ऊपर किसी तरह की रुकावट जैसे पेड़, बिजली के तार आदि हों.

–   दीपावली पर कॉटन के कपड़े पहनकर ही पटाखों का आनंद लें. ध्यान रहे, रेशमी या फिर नायलॉन के आउटफिट बिल्कुल भी न पहनें.

–    खुली फ्लेम के कारण पटाखे जलाने के लिए माचिस या लाइटर का इस्तेमाल न करें, यह ख़तरनाक हो सकता है.

–    कभी भी छोटे बच्चों के हाथ में कोई पटाखा न दें.

–   यदि आपकी कार है, तो उसे गैराज में रख दें या फिर उसे अच्छी तरह से कवर कर दें.

–   दीपावली पर घर की खिड़कियां बंद ही रखें तो अच्छा है. साथ ही उन पर रेशमी पर्दे न लगाएं, वरना कोई चिंगारी लगने पर तेज़ी से आग फैलने का डर बना रहता है.

–   सभी पटाखों को हमेशा किसी बंद डिब्बे में ही रखें, विशेषकर दिवाली की रात को.

–    क्रैकर्स जलाते समय पैकेट में दिए गए निर्देशों को भी ज़रूर देख लें और उसी के अनुसार पटाखों को जलाएं.

–   बेहतर होगा कि पटाखे जलाते समय फुल स्लीव्स के ड्रेसेस ही पहने जाएं.

–    पटाखों का आनंद लेते समय किसी इमर्जेंसी वाली सिचुएशन के लिए भी तैयार रहें.

–   यदि आप बहुत सारे लोगों के साथ मिलकर पटाखे जला रहे हैं, तो इस बात का ख़्याल रखें कि एक समय में एक ही शख़्स पटाखे जलाए, क्योंकि यदि कई लोग साथ-साथ पटाखे जलाएंगे, तो दुर्घटना होने की संभावना बढ़ जाती है.

–    यदि आपके घर में पालतू जानवर, जैसे- बिल्ली, डॉगी आदि हैं, तो उन्हें पटाखों से दूर ही रखें. बेज़ुबान जानवर दिवाली के दिन शोर-शराबे से बेहद परेशान हो जाते हैं. यदि संभव हो, तो उनके कान में कॉटन डाल दें.

–    भीड़वाली जगह, पतली गलियों या घर के पास में पटाखे न जलाएं.

–    छोटे बच्चों को ख़ुद से पटाखे न जलाने दें. उनके साथ किसी बड़े को ज़रूर रखें.

–    कभी भी पैंट की जेब में पटाखे न रखें.

–    ढीले-ढाले कपड़े पहनकर पटाखे न जलाएं.

–    जहां पर पटाखे रखे हों, वहां पर माचिस की जली तीली या फिर अगरबत्ती आदि न फेंकें.

–    ध्यान रहे, कभी भी पटाखों के साथ कोई एक्साइटमेंट या फिर एक्सपेरिमेंट करने का प्रयास न करें. यह ख़तरनाक हो सकता है.

–    सड़क के कुत्तों या फिर अन्य जानवरों को पटाखों से परेशान न करें.

–   पटाखे जलाते समय पेट्रोल, गैस सिलेंडर, डीज़ल, केरोसिन आदि चीज़ें आसपास न हों, इस बात का ख़्याल रखें.

–   यदि पटाखे जलाते समय जल जाएं, तो तुरंत टूथपेस्ट व बरनॉल लगाएं. आवश्यक लगे, तो डॉक्टर को दिखाएं.

– ऊषा गुप्ता

यह भी पढ़ें: चरणामृत और पंचामृत में क्या अंतर है? (What Is The Difference Between Charanamrit And Panchamrit)

 

दीपावली 2017: मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के 20 अचूक उपाय (Diwali 2017: 20 Easy Ways To Impress Goddess Lakshmi This Diwali)

Easy Ways To Impress Goddess Lakshmi

दीपावली के त्योहार का जितना धार्मिक महत्व है, उतना ही इस दिन किए गए उपायों का भी महत्व है. पं. राजेंद्र जी बता रहे हैं मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के 20 आसान और अचूक उपाय.

Easy Ways To Impress Goddess Lakshmi

1) लक्ष्मी पूजन के ख़ास अवसर पर शुभ मुहूर्त पर पूजा-आराधना, मंत्र जाप, अनुष्ठान आदि करने से मां लक्ष्मी को प्रसन्न होती हैं इसलिए सही समय पर पूजा-प्रार्थना अवश्य करें.
2) इस साल 19 अक्टूबर के दिन लक्ष्मी पूजन है. पूजा-आराधना के लिए हम आपको तीन शुभ मुहूर्त बता रहे हैं, दो स्थिर लग्न हैं, जिनका समय है शाम 7.45 से लेकर 9.44 मिनट (ये वृषभ लग्न है) और रात 2.10 से लेकर 4.18 मिनट (इसे अर्धरात्रि भी कहा जाता है और ये सिंह लग्न है), इनके अलावा तीसरा शुभ मुहूर्त है प्रदोष काल, ये शाम 5.48 से लेकर 7.25 मिनट तक है. इन तीनों में से किसी भी शुभ मुहूर्त पर आप मां लक्ष्मी की पूजा-अर्चना कर सकते हैं.
3) अपने आसपास के चौराहे पर दिवाली की रात में दीया ज़रूर जलाएं. ऐसा करने से मां लक्ष्मी की प्रसन्न होती हैं.
4) दिवाली की रात एक दीया मंदिर में जाकर भी जलाएं.
5) घर के दरवाज़े और मेन गेट पर दीपक अवश्य जलाएं.
6) दिवाली की रात घर में अखंड दीया जलाएं जो सुबह तक जलता रहे.
7) दिवाली की रात बेलपत्र के पेड़ के नीचे दीया जलाना भी शुभ माना जाता है. इससे भगवान शिव की कृपा पूरे परिवार पर बनी रहती है.
8) दिवाली की रात किसी मंदिर के किसी भी पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं और फिर मुड़कर पीछे न देखें. ऐसा करने से लक्ष्मी जी की कृपा होती है.
9) दीपावली की रात तुलसी के पौधे के नीचे दीया जलाने से भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहती है.
10) दिवाली के दिन किसी भी मंदिर में केले का एक पेड़ लगाएं. फिर इस पेड़ की सेवा करते रहें. जैसे-जैसे केले का पेड़ बड़ा होगा आपके घर में भी समृद्धि बढ़ती जाएगी.

लक्ष्मी जी की आरती (Aarti- Lakshmi Ma)

[amazon_link asins=’B01LZBJCOC,B074CW7MGB,B01LF73DPU,B071S5H4MP,B075T5DC1B’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’9b71a684-b09d-11e7-88c7-05cb9222e5af’]

मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के अचूक उपाय जानने के लिए देखें वीडियो:

11) दिवाली के दिन लक्ष्मी पूजन के बाद लक्ष्मी जी या किसी भी देवी को लौंग अर्पित करें. ये प्रकिया दिवाली के बाद भी सतत चलने दें. ऐसा करने से आर्थिक लाभ होता है.
12) शाम को सूर्यास्त के बाद घर में झाड़ू या पोंछा न लगाएं. यह समृद्धि के लिए अशुभ माना जाता है.
13) घर की दीवारों या ज़मीन पर पेन, पेंसिल या चॉक के निशान न बनाएं. इससे कर्ज़ का बोझ बढ़ता है.
14) दिवाली के दिन किसी किन्नर को धन का दान करें और उससे अनुरोध करके कुछ पैसे वापस ले लें. उन पैसों को स़फेद कपड़े में लपेटकर तिजोरी में रख दें. इससे धन की कभी कमी नहीं होगी.
15) दिवाली की रात लौंग और इलायची जलाकर उसका भस्म बना लें. इस भस्म से देवी-देवताओं को तिलक लगाएं. इस प्रयोग से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है.
16) दिवाली के दिन एक पीपल का पत्ता तोड़कर घर ले आएं. पत्ता कटा-फटा नहीं होना चाहिए. इस पत्ते पर ॐ महालक्ष्मै नम: लिखकर पूजा स्थल पर रख दें. इसे तिजोरी में स्थापित करने से धन आगमन और धनवृद्धि होती है.
17) दिवाली के दिन किसी गरीब, दुखी, असहाय, रोगी को आर्थिक सहायता दें. ऐसा करने से आपकी उन्नति अवश्य होगी.
18) श्रीयंत्र के सामने बैठकर श्री सुक्त के 21 पाठ करके उनके समक्ष 21 घी के दीये जलाएं. ऐसा करने से मां लक्ष्मी की कृपा बरसती है.
19) दिवाली वाले दिन गणेश, लक्ष्मी और कुबेर इन सबकी पूजा अवश्य करें. साथ ही श्री सुक्त से हवन कराएं. ऐसा करने से धन की वृद्धि होती है.
20) लक्ष्मी यंत्र या श्री यंत्र पर 21 विष्णु कमल अवश्य चढ़ाएं. ऐसा करने से धन की समस्या दूर होती है.

 

फेस्टिव स्पेशल: रंगोली डिज़ाइन्स (Festive Special: Rangoli Designs)

[amazon_link asins=’B00Y4XWSNG,B00P2HSO54,B075HFS1HH,B01LYYD8Y0,B011R3NHH6′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’7f1efa31-b09d-11e7-8246-810efa50c64e’]