Tag Archives: happy married life

10 अलर्ट्स जो बताएंगे कहीं आपकी सेक्स लाइफ बेरंग तो नहीं? (10 Alerts Of Colorless Sex Life)

शादी के कुछ सालों बाद कपल्स (Couples) की सेक्स लाइफ (Sex Life) में रूटीन (Routine) आ जाता है, जिससे अपनी उन्हें सेक्स लाइफ बेरंग (Colorless) लगने लगती है. इसके बहुत से कारण हो सकते हैं. कभी-कभी तो कपल्स को एहसास ही नहीं होता कि उनकी सेक्स लाइफ बेरंग हो गई है. अगर आपकी सेक्स लाइफ बहुत इंट्रेस्टिंग नहीं है, तो आप भी इन अलर्ट्स को देखें और पहचानें कि कहीं आपकी सेक्स लाइफ भी बेरंग तो नहीं हो गई है.

Colorless Sex Life

अलर्ट्स जो बताएंगे कहीं आपकी सेक्स लाइफ बेरंग तो नहीं?

1. सेक्स अब पहले की अपेक्षा कम होता है.

2. रोमांटिक बातें लगभग बंद हो गई.

3. सेक्स में कुछ नया करने की चाह नहीं होती.

4. सेक्स मात्र शारीरिक क्रिया बनकर रह गई.

5. एक-दूसरे की बात सुनने या चाहत जानने की जिज्ञासा नहीं रही.

6. पार्टनर सेक्स को टालने लगे हैं.

7. हमेशा थकान या बिज़ी रहने के कारण सेक्स में दिलचस्पी कम हो गई.

8. सेक्स को पहले की तरह एंजॉय नहीं करते.

9. सेक्स के समय पार्टनर की दिलचस्पी और उसका सहयोग नहीं मिलता.

10. पार्टनर अब पहले की तरह आकर्षक नहीं लगता, फिर भले ही वो कितने ही आकर्षक कपड़ों में सामने आए और सेक्स में पहल भी करे, लेकिन आपका ध्यान ही नहीं जाता उसकी तरफ़.

ये तमाम लक्षण आपके लिए सिग्नल है कि आपको कुछ करना होगा, ताकि आपकी सेक्स लाइफ बोरिंग रूटीन बनकर न रह जाए.

फिर से लाएं खोई गर्माहट और ताज़गी

– पार्टनर की दिलचस्पी सेक्स में कम हो गई है, तो आपका फर्ज़ बनता है कि आप पहल करें और पार्टनर की दिलचस्पी फिर से जगाएं.

– पार्टनर से पूछें कि उसे कोई मानसिक या शारीरिक समस्या तो नहीं. यदि है, तो एक्सपर्ट से संपर्क करें.

– सेक्स में ज़बर्दस्ती कभी भी न करें, क्योंकि इससे पार्टनर की सेक्स के प्रति दिलचस्पी और आपके प्रति लगाव भी कम होता जाएगा.

– उससे प्यार से बात करें, बात करते समय सहलाएं. चूमें और बालों में हल्के-हल्के उंगलियां फेरें. ऐसा करने पर मूड न होने पर भी धीरे-धीरे मूड बनने लगता है और पार्टनर बेहतर महसूस करता है.

– हाइजीन का पूरा ख़्याल रखें. कई बार इस तरह की बातें भी सेक्स में दिलचस्पी कम कर देती हैं और पार्टनर चाहकर भी कुछ बोल नहीं पाता. बेहतर होगा कपल्स साफ़-सफ़ाई का पूरा ध्यान रखें.

– कमरे का माहौल भी शांत और रोमांटिक हो. चादर वगैरह भी साफ़-सुथरी होनी चाहिए.

यह भी पढ़ें: जानें परफेक्ट सेक्स पार्टनर की 5 ख़ूबियां (5 Signs Of Perfect Sex Partner)

Sex Life

– बेडरूम को अपने स्मार्ट फोन और लैपटॉप से दूर ही रखें. बहुत ज़्यादा इनका प्रयोग या टीवी देखना भी सेक्स लाइफ पर नकारात्मक प्रभाव डालता है. अक्सर इन गैजेट्स ने हमारी लाइफ में बहुत हद तक जगह बना ली है, लेकिन इन्हें हम-तुम के बीच ‘वो’ न बनने दें. इससे पार्टनर को लगेगा कि आपको उसमें दिलचस्पी ही नहीं है और न आपका ध्यान उसकी बातों की तरफ़ है.

– पर्सनल टाइम में पार्टनर को पूरा अटेंशन दें, उसे यह लगना चाहिए कि यह व़क्त स़िर्फ और स़िर्फ आप दोनों का है, जिसमें किसी और के लिए कोई जगह नहीं.

– पार्टनर को यह महसूस कराएं कि सेक्स से भी कहीं अधिक ज़रूरी आपके लिए उनका साथ है. इस तरह का भावनात्मक लगाव एक-दूसरे को और क़रीब लाता है.

– सेक्स में क्या नयापन लाना चाहिए इस पर भी खुलकर न स़िर्फ चर्चा करें, बल्कि साथ मिलकर प्लान करें कि आज की रात या इस वीकेंड को कैसे और भी रोमांटिक बनाया जा सकता है.

– कलर्स भी सेक्स लाइफ पर प्रभाव डालते हैं, तो एक-दूसरे की पसंद-नापसंद को ध्यान में रखते हुए कमरे में कलर्स ऐड करें और अपने आउटफिट्स और इनर वेयर में भी सेक्सी कलर्स और स्टाइल सिलेक्ट करें.

– सेक्स के व़क्त काम व तनाव को भूलकर पार्टनर पर ही पूरा ध्यान केंद्रित होना चाहिए, वरना अक्सर लोग उस व़क्त भी दूसरी बातें करते हैं और सेक्स को एक क्रिया मात्र बना देते हैं, जिससे पार्टनर को लगता है कि उनका साथी उन्हें स़िर्फ इच्छा पूरी करने वाला जिस्म समझता है.

– दूसरी तरफ़ कुछ लोग सेक्स को एक हथियार के रूप में भी इस्तेमाल करते हैं, ख़ासकर महिलाएं सेक्स को इमोशनल ब्लैक मेलिंग का बेहतरीन हथियार समझती हैं और सेक्स के व़क्त ही तरह-तरह की डिमांड करके पति से बातें मनावाने की कोशिश करती हैं. ऐसा करने से पति के मन में पत्नी के प्रति वो सम्मान नहीं रह जाता और वो भी प्रैक्टिकल अप्रोच अपनाने लगता है.

– सेक्स के समय रोमांटिक बातें ही करें. ताने-उलाहने व शिकवे-शिकायत से बचें.

– पुरानी रोमांटिक बातें व साथ गुज़ारे हसीन पलों को याद करें, उन पर बात करें, साथ हसें, खिलखिलाएं, क्योंकि ये तमाम बातें आपको ताज़गी का एहसास कराती हैं.

– सेक्स लाइफ को बोरिंग होने से बचाने का मतलब स़िर्फ बेडरूम तक ही सीमित नहीं होता, बल्कि हर पल, हर लम्हे को आपके बेहतर बनाना होगा. एक-दूसरे का अटेंशन देना होगा, क्योंकि पूरे दिन के क्रिया-कलापों का निचाड़ ही सेक्स लाइफ में झलकता है. दिन अच्छा होगा, मूड अच्छा होगा, तो रिश्ता बेहतर होगा… और बेहतर रिश्ते का मतलब है बेहतर सेक्स लाइफ और मज़ूबत-अटूट बंधन.

– विजयलक्ष्मी

यह भी पढ़ें: कितना फ़ायदेमंद है हस्तमैथुन? (Health Benefits Of Masturbation)

यह भी पढ़ें: सेक्स लाइफ का राशि कनेक्शन (What Does Your Zodiac Sign Say About Your Sex Life?)

भारती ने खोला हैप्पी मैरिड लाइफ का राज़, कहा हमारे लिए हर दिन है वैलेंटाइन डे ! (Bharti Singh reveals the secret of her happy married life)

Bharti Singh, secret, happy married life

कॉमेडी क्वीन भारती सिंह (Bharti Singh) और हर्ष लिंबाचिया (Harsh Limbachiyaa) पिछले साल 12 दिसंबर को शादी के बंधन में बंधे थे. दोनों की शादी को तीन महीने पूरे हो चुके हैं, लेकिन अभी तक दोनों के सिर से प्यार की खुमारी उतरी नहीं है और दोनों अपनी शादी के बाद के हर लम्हे को साथ मिलकर एन्जॉय कर रहे हैं. आखिर भारती की इस खुशहाल शादीशुदा जिंदगी का राज़ क्या है इसका खुलासा खुद भारती ने ही किया है.

भारती ने अपनी हैप्पी मैरिड लाइफ के बारे में बात करते हुए कहा कि उनके पति हर्ष उन्हें काफी सपोर्ट करते हैं और उनसे कभी कोई सवाल नहीं करते हैं.

हालांकि भारती को कभी हर्ष पर गुस्सा आता है तो कभी हंसी भी आती है, बावजूद इसके वो अपनी शादीशुदा लाइफ को काफी एन्जॉय कर रही हैं.

भारती का कहना है कि 7 साल के रिलेशनशिप के बाद उन्होंने हर्ष से शादी की है, हर्ष एक अच्छे पति और अच्छे दोस्त हैं.

भारती की मानें तो वो काफी प्रैक्टिकल हैं लेकिन उनके पति हर्ष बहुत ही रोमांटिक मिज़ाज के हैं और सरप्राइज देना उन्हें बहुत अच्छा लगता है.

भारती की मानें तो लोग वैलेंटाइन डे को स्पेशल मानकर उस दिन कहीं बाहर जाते हैं, उनके लिए तो हर दिन वैलेंटाइन डे है इसलिए भारती और उनके पति हर्ष हर दिन को वैलेंटाइन डे की तरह ही सेलिब्रेट करते हैं.

यह भी पढ़ें: परिवार के साथ गणगौर पूजा करती दिखीं टीवी की ये संस्कारी बहू !

ख़ुशहाल ससुराल के लिए अपनाएं ये 19 हैप्पी टिप्स (19 Happy Tips For NewlyWeds)

Happy Tips For NewlyWeds
नए रिश्तों से भरे-पूरे परिवार को ख़ुश रखने की ज़िम्मेदारी नई बहू पर होती है. सभी की उम्मीदों पर ख़री उतर पाऊंगी या नहीं, जैसे कई सवाल उसके मन में उमड़ते-घुमड़ते रहते हैं. दुल्हन की इन्हीं उलझनों को सुलझाने (Happy Tips For NewlyWeds) के लिए हमने बात की मैरिज काउंसलर ज़ीनत भारद्वाज से.

Happy Tips For NewlyWeds

हैप्पी टिप्स नई दुल्हन के लिए (Happy Tips For NewlyWeds)

1. बच्चों को दें भरपूर प्यार

सबसे पहले परिवार के बच्चों से दोस्ती करें. उनकी फेवरेट चीज़ें देकर उन्हें ख़ुश रखें और ढेर सारा प्यार करें. बच्चे ख़ुश रहेंगे, तो घर के बाकी सदस्य अपने आप ख़ुश रहेंगे.

2. बड़े-बुज़ुर्गों के लिए बच्चे बन जाएं

घर के बड़े-बुज़ुर्गों के साथ थोड़ी देर बैठें, उनसे बातें करें. उनसे बात करते समय बहुत ज़्यादा मैच्योरिटी की बजाय थोड़ा बचपना दिखाएं और अपनी शरारतों के बारे में उन्हें बताएं, उन्हें बहुत अच्छा लगेगा.

3. हमउम्र को बनाएं दोस्त

ननद, देवर, रिश्तेदारों के बच्चे, जो भी आपके हमउम्र हैं, उनसे दोस्तों की तरह ही व्यवहार करें. बहुत ज़्यादा दिखावा करने की बजाय, जैसी हैं, वैसी ही रहें. याद रखें, आपकी इन्हीं ख़ूबियों के कारण आपके ससुरालवाले आपको पसंद करते हैं.

4. हर व़क्त हो चेहरे पर मुस्कान

हंसता हुआ चेहरा किसी भी उदास चेहरे को मुस्कुराने पर मजबूर कर देता है. आपके चेहरे की मुस्कान देखकर परिवार के हर सदस्य का चेहरा खिल उठेगा.

5. रिश्तेदारों को घरवालों जैसा प्यार दें

शादी में दूर-दूर के रिश्तेदार इकट्ठा होते हैं. उनसे परिवार के सदस्यों जैसा व्यवहार करें. रिश्तेदारों को यह बहुत अच्छा लगता है कि नई बहू उनसे अजनबियों जैसा व्यवहार नहीं कर रही.

6. नए घर की ख़ुशहाली की ज़िम्मेदारी आपकी है

आपको यह समझना होगा कि आपकी शादी स़िर्फ एक पुरुष से नहीं, बल्कि उसके पूरे परिवार से हुई है. इसलिए स़िर्फ पति ही नहीं, बल्कि पूरे परिवार की ज़िम्मेदारी आपकी है.

7. आपका ख़ुश रहना ख़ुद आपके हाथ में है

ख़ुशियां आपको अपनी शादी से मिली हैं, उन्हें ताउम्र बनाए रखना आपके ही हाथ में है. आपकी ही तरह आपके ससुराल वाले भी काफ़ी दुविधा में होंगे कि नई दुल्हन उन्हें दिल से अपनाएगी या नहीं. इसलिए अपने नए घर को प्यार और ख़ुशियों से भर दें. सास-ससुर को माता-पिता मानें, इससे आप भी ख़ुश रहेंगी और आपके ससुरालवाले भी.

8. हर पल को एंजॉय करें

भविष्य की चिंता छोड़कर इन सुनहरे पलों को एंजॉय करें. परिवार को संभालना, ज़िम्मेदारियां पूरी करना, सभी की उम्मीदों पर खरी उतरना, तो उम्रभर लगा रहेगा. फ़िलहाल जो व़क्त है, उसे एंजॉय करें और ख़ुद के साथ-साथ दूसरों को भी ख़ुश रखें.

9. सुपरवुमन बनने की कोशिश न करें

नई बहू के लिए यह समझना बहुत ज़रूरी है कि वह उतनी ही ज़िम्मेदारियां उठाए, जितना वह निभा सकती है. सारी ज़िम्मेदारियां लेकर चिड़चिड़ी होने की बजाय परिवार में बांटना सीखें. सुपरवुमन बनने के चक्कर में अपनी सेहत की दुश्मन न बनें.

यह भी पढ़ें: हर किसी को जाननी चाहिए सेक्स से ज़ुड़ी ये 35 रोचक बातें

Happy Tips For NewlyWeds

कुछ टिप्स दूल्हे राजा के लिए भी (Happy Tips For NewlyWeds)

10. नई-नवेली दुल्हन को इस नए माहौल में सहज महसूस करवाना आपका फ़र्ज़ है. उसने आंखों में कई सपने संजो रखे हैं, जिन्हें वो आपके साथ पूरा करना चाहती है. उसकी हर छोटी-बड़ी ख़ुशियों का ध्यान रखना अब आपकी ज़िम्मेदारी है.

11. पत्नी को पत्नी न समझकर दोस्त समझें. उससे कुछ दुराव-छिपाव न करें, जो भी है, खुले दिल से उसे बताएं. ग सभी के दिलों में अपनी जगह बनाने के लिए उसे हर व़क्त आपकी ज़रूरत पड़ेगी. उसका सपोर्ट सिस्टम बनकर उसकी मदद करें.

12. कमियां हर किसी में होती हैं, इसलिए उसकी अच्छाइयों को देखें और परिवारवालों के सामने उन्हें दिखाने की कोशिश करें.

13. उसकी छोटी-छोटी ग़लतियों को नज़रअंदाज़ करें, फ़िर देखें कि कैसे आपकी शादी दूसरों के लिए एक उदाहरण बन सकती है.

14. ससुराल में अपनी पत्नी के लिए एक सम्माननीय स्थान बनाना आपका काम है. आप जिस नज़र से अपनी पत्नी को देखेंगे, जिस तरह उसके साथ व्यवहार करेंगे, परिवार के बाकी सदस्य भी वही फॉलो करेंगे.

ये भी पढें: ज़िद्दी पार्टनर को कैसे हैंडल करेंः जानें ईज़ी टिप्स

Happy Tips For NewlyWeds

ससुरालवाले भी समझें (Happy Tips For NewlyWeds)

15. बहू को बेटी कहने भर से वह बेटी नहीं हो जाती, उसके साथ बेटी जैसा व्यवहार भी करना होता है.

16. जो छूट और आज़ादी आप अपनी बेटी को देते थे, वही बहू को भी दें. बहू का टैग लगाकर रिश्ते को बोझिल न बनाएं.

17. अगर आप अपनी बहू को भरपूर प्यार और अपनापन देंगे, तो वह भी आपकी और आपके बेटे की ज़िंदगी को ख़ुशियों से भरने में कोई कमी नहीं रखेगी.

18. घर के बड़े होने के नाते छोटों के लिए प्रेरणा स्रोत व उदाहरण बनें. अगर आप अपनी पत्नी की इज़्ज़त करेंगे, तो बेटा कभी भी अपनी पत्नी की बेइज़्ज़ती नहीं करेगा.

19. छोटा-बड़ा कोई भी निर्णय लेते समय बहू की राय ज़रूर मांगें. इससे उसका आत्मविश्‍वास बढ़ेगा और परिवार के लिए बेहतर सोच की उसमें भावना बढ़ेगी.

– अनीता सिंह

ये भी पढें: बेहतर रिश्ते के लिए पति-पत्नी जानें एक-दूसरे के ये 5 हेल्थ फैक्ट्स

 

रिश्ते से डिलीट करें इन 10 आदतों को (10 Bad Habits That Could Ruin Your Marriage )

Bad Habits

पति-पत्नी का रिश्ता प्यार, विश्‍वास और अपनेपन (Bad Habits That Could Ruin Your Marriage) से मज़बूत बनता है, पर अगर पति-पत्नी की कुछ बुरी आदतें रिश्ते को नुक़सान पहुंचाने लगें, तो ऐसी आदतों को तुरंत डिलीट कर देना चाहिए, वरना गृहस्थी की गाड़ी को डगमगाने में देर नहीं लगती.

Bad Habits That Could Ruin Your Marriage
आदत- बातें छिपाना या झूठ बोलना

शादीशुदा ज़िंदगी में अक्सर पति-पत्नी एक-दूसरे से कई बातें छुपाते हैं, बहाने बनाते हैं और अपनी ग़लतियों को छुपाने के लिए अक्सर झूठ भी बोलते हैं, पर हमें यह एहसास ही नहीं होता कि ये छोटे-छोटे झूठ हमारे रिश्ते को नकारात्मक रूप से प्रभावित करते हैं. और सबसे बड़ी बात कि ये आपके रिश्ते से विश्‍वास को ख़त्म कर देते हैं.
डिलीट करें: अगर आपसे कोई ग़लती हुई है, तो झूठ बोलने की बजाय उसे मान लें. पार्टनर को इस बारे में बताएं, भले ही उस समय पार्टनर आपसे ग़ुस्सा होगा, लेकिन आपकी बात को ज़रूर समझेगा और सबसे बड़ी बात आपके रिश्ते में हमेशा विश्‍वास बना रहेगा.

आदत- बदलने की कोशिश करना

यह एक बहुत ही ख़तरनाक आदत है. कभी-कभी तो लगता है कि लोग एक-दूसरे को सुधारने के मक़सद से ही शादी करते हैं, ख़ासकर नए शादीशुदा जोड़े, जो सब कुछ अपने मुताबिक़ चाहते हैं. याद रहे, आपकी यह आदत पार्टनर को ग़ुस्सा दिलाने और चिड़चिड़ा बनाने के लिए काफ़ी है, जो आपके रिश्ते के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं.
डिलीट करें: शादी का मतलब एक-दूसरे को अपने मुताबिक़ ढालना नहीं, बल्कि ज़रूरत के मुताबिक़ ढल जाना है. आपको यह बात समझनी होगी कि आप दोनों ही अब तक अलग-अलग माहौल में पले-बढ़े हैं, जिससे आपकी आदतें भी काफ़ी अलग हैं, पर इसका यह बिल्कुल मतलब नहीं कि आपकी आदतें अच्छी हैं और उनकी ग़लत. अपने रिश्ते को थोड़ा समय दें और एक-दूसरे को समझने की कोशिश करें.

ये भी पढें: 7 मज़ेदार वजहें: जानें क्यों होती है कपल्स में तू तू-मैं मैं?

आदत- फॉर ग्रांटेड लेना

अक्सर शादी के कुछ सालों बाद लोग अपने रिश्ते को फॉर ग्रांटेड लेने लगते हैं. फॉर ग्रांटेड लेना यानी पार्टनर व रिश्ते के प्रति
लापरवाही भरा रवैया अपनाना, उसके त्याग-समर्पण को महत्व न देना आदि. आपका यह रवैया आपके पार्टनर के मन में आपके लिए चिढ़ और ग़ुस्से के अलावा कुछ और नहीं लाएगा.
डिलीट करें: अपने रिश्ते को इससे बचाना आपकी ज़िम्मेदारी है. पार्टनर जब भी आपके लिए कुछ स्पेशल करता है या आपकी किसी समस्या को बिना कहे सुलझा देता है, तो ङ्गथैंक्यूफ कहकर उसे प्रोत्साहित करें और कोशिश करें कि आप भी समय-समय पर कुछ ऐसा करें, जिससे आपके रिश्ते में हमेशा गर्माहट बनी रहे.

आदत- बातचीत से उठकर चले जाना

अक्सर पार्टनर्स अपनी बात कहकर, सामनेवाले की बात बिना सुने वहां से हट जाते हैं. उन्हें लगता है कि इससे वो बहस को टाल रहे हैं, पर वो यह नहीं जानते कि अपने पार्टनर को अपनी बात रखने का मौक़ा न देकर, वो उसके साथ ज़्यादती कर रहे हैं. ऐसा करने से पार्टनर को बुरा लग सकता है, जिससे वो अगली बार किसी भी मुद्दे पर अपनी बात रखना बंद कर सकता है. इससे रिश्ते में खटास आती है, जो आपके रिश्ते को बिगाड़ सकती है.
डिलीट करें: पति-पत्नी के बीच यह एक नियम होना चाहिए कि जब भी एक किसी समस्या या मुद्दे पर अपनी बात रख रहा हो या सफ़ाई मांग रहा हो, तो दूसरा उसे सुनेगा और उस पर अपनी राय रखेगा और किसी भी हाल में वहां से उठकर नहीं जाएगा. यह नियम आपकी हर समस्या को सुलझा देगा. इस ख़्याल को दिमाग़ से निकाल दें कि उठकर चले जाने से आप बात को ख़त्म कर रहे हैं, बल्कि आप उसे और बढ़ा रहे हैं.

Bad Habits That Could Ruin Your Marriage
आदत- हर बात में तुलना करना

तुलना किसी को भी अच्छी नहीं लगती, क्योंकि हर व्यक्ति अपनी समझ व क्षमतानुसार काम व व्यवहार करता है, पर कुछ लोगों की आदत होती है, हर बात में पार्टनर की तुलना अपने दोस्तों, पड़ोसी या कलीग्स से करने की. हमेशा तुलना का मकसद पाटर्नर को नीचा दिखाना ही नहीं होता है, बल्कि जाने-अनजाने की गई तुलना भी किसी के आत्मविश्‍वास को कमज़ोर कर सकती है. इसलिए इस तुलनात्मक आदत से अपने रिश्ते को कमज़ोर न होने दें.
डिलीट करें: किसी भी रिश्ते की मज़बूती दो लोगों के मान-सम्मान से बनती है, पर अगर आपके पार्टनर का आत्मविश्‍वास ही कमज़ोर हो, तो भला वह अपने रिश्ते को क्या मज़बूती देगा. पार्टनर का मान-सम्मान आपकी ज़िम्मेदारी है, इसे निभाएं और हर बात में किसी और से तुलना करना छोड़ दें.

ये भी पढें:20 यूज़फुल टिप्सः पति को कैसे सिखाएं सहयोग?

आदत- पार्टनर पर नज़र रखना

पार्टनर के मोबाइल में कॉल लॉग चेक करना, सभी मैसेजेस पढ़ना, ईमेल और सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर नज़र रखना कुछ लोगों की आदत होती है. इस तरह नज़र रखने का मतलब है कि आप अपने पार्टनर पर शक कर रहे हैं और आपको उन पर विश्‍वास नहीं. ऐसा करके आप अपने पार्टनर के विश्‍वास को तोड़ते हैं, जो आपके रिश्ते के लिए ठीक नहीं.
डिलीट करें: पार्टनर पर नज़र रखने से पहले यह ध्यान रखें कि हर व्यक्ति का अपना पर्सनल स्पेस होता है, जिसमें अतिक्रमण किसी को भी पसंद नहीं आता. आपको हर व़क्त सैटेलाइट बनकर घूमने की ज़रूरत नहीं, अपने पार्टनर पर विश्‍वास करना भी सीखें. कुछ लोग एहतियात के तौर पर ऐसा करते हैं, ताकि समय रहते अपने रिश्ते को संभाल सकें, पर अक्सर बेवजह का शक रिश्तों को बर्बाद कर देता है. अगर आपके मन में कोई बात है, तो जासूसी करने की बजाय पार्टनर से आमने-सामने बैठकर बात करें.

आदत- दूसरों के सामने बेइज़्ज़ती करना

दूसरों के सामने ख़ुद की अहमियत बढ़ाने के लिए पार्टनर की बेइज़्ज़ती करना एक बचकानी आदत है. इसका इस्तेमाल ज़्यादातर पुरुष करते हैं, पर महिलाएं भी इस मामले में पीछे नहीं. ऐसा करनेवाले पार्टनर्स अक्सर यह भूल जाते हैं कि उनकी इस आदत को लोग उनके रिश्ते की असफलता मानते हैं.
डिलीट करें: पति-पत्नी का व्यवहार घर-बाहर एक समान होना चाहिए. आप एक-दूसरे का सम्मान जितना घर में करते हैं, उतना ही दूसरों के सामने भी करें. अगर कभी मन-मुटाव भी हो गया है, तो उसे अपने घर के बाहर न ले जाएं. दूसरों के सामने हमेशा अपने पार्टनर की तारीफ़ करें, पर अगर यह नहीं कर सकते, तो कम से कम ऐसी बात न कहें, जिससे उन्हें बेइज़्ज़ती महसूस हो.

आदत- हर व़क्त कमियां गिनाना

ङ्गआप किसी काम के नहीं हो,फ ङ्गआपने ऐसा क्यों किया,फ ङ्गआपको कुछ आता भी है,फ जैसे उलाहनों से अपने पार्टनर की कमियां गिनाना बहुत ग़लत आदत है. पार्टनर में कमियां और ख़ामियां निकालना बहुत आसान है, पर उनकी ख़ूबियों को पहचानकर उनकी तारीफ़ करना बहुत मुश्किल.
डिलीट करें: पति-पत्नी का फज़र्र् एक-दूसरे की कमियां गिनाना नहीं, बल्कि उन कमियों के साथ अपनाना है. आख़िर कमियां किसमें नहीं होतीं, इस दुनिया में कोई भी परफेक्ट नहीं है. हम सबमें कुछ न कुछ कमी है. शादी का मतलब ही होता है, पार्टनर को उसकी ख़ूबियों और कमियों के साथ अपनाना, फिर शिकायत किस बात की. पार्टनर की कमियां गिनाने से पहले ख़ुद का आकलन भी कर लें. अगर आप परफेक्ट नहीं, तो भला दूसरों से ऐसी उम्मीद क्यों.

आदत- इमोशनल ब्लैकमेल करना

अपने पार्टनर को इमोशनली ब्लैकमेल करना कुछ लोगों की आदत में शुमार होता है. अक्सर अपनी ज़िद मनवाने के लिए कपल्स इसका इस्तेमाल करते हैं. ङ्गङ्घअगर आप मुझसे प्यार करते हैं, तो ऐसा ज़रूर करेंगे…फफ जैसी इमोशनल बातों से अपनी ज़िद मनवाते हैं. अपनी बात को मनवाने के लिए कभी रोना-धोना, तो कभी सेक्स को हथियार की तरह इस्तेमाल करते हैं.
डिलीट करें: अपने पार्टनर को इमोशनली ब्लैकमेल करके भले ही आप अपनी बात मनवा लेते हैं, पर इससे पार्टनर आपको ज़िद्दी और स्वार्थी समझने लगता है. उनके मन में अपनी ऐसी छवि न बनने दें और जल्द से जल्द अपनी इस आदत को डिलीट करें.

आदत- स़िर्फ अपने बारे में सोचना

मेरी पसंद, मेरी आदतें, मेरा विचार, मेरा रहन-सहन, मेरा कंफर्ट… जैसी बातें आपके वैवाहिक जीवन के लिए उचित नहीं. अपने बारे में सोचना अच्छी आदत है, पर स़िर्फ अपने बारे में सोचकर पार्टनर को तवज्जो न देना सही नहीं है, जो आपके वैवाहिक जीवन को भी प्रभावित करता है. शादी का मतलब पहले स़िर्फ मैं नहीं, बल्कि हम होता है, इस बात को समझें.
डिलीट करें: ध्यान रखें, वैवाहिक जीवन दो लोगों से जुड़ा रिश्ता है. शादी में कई समझौते करने पड़ते हैं, इसलिए हमेशा ख़ुद को आगे रखने की बजाय, अपने रिश्ते को आगे रखें, जिससे आपकी शादीशुदा ज़िंदगी हमेशा ख़ुशहाल बनी रहे.

– सुनीता सिंह

 

हैप्पी मैरिड लाइफ के लिए आज़माएं ये असरदार फेंगशुई टिप्स (Effective Fengshui Tips for Happy Married Life)

FotorCreated
शादीशुदा जीवन में यदि रोमांस न हो, तो ज़िंदगी बिल्कुल नीरस हो जाता है. ऐसे में फेंगशुई सिंबल्स और कुछ बातों को ध्यान में रखकर आप अपनी मैरिड लाइफ को ख़ुशहाल बना सकते हैं.

डबल हैप्पीनेस सिम्बल
फेंगशुई के अनुसार, लाल रंग से बने डबल हैप्पीनेस सिम्बल को घर में रखने से पति-पत्नी के बीच अटूट प्रेम की वृद्धि होती है. फेंगशुई में इसे आइडियल वेडिंग गिफ्ट माना जाता है. अन्य फेंगशुई आइटम्स् की तरह यह सिम्बल भी बाज़ार मेें मिलता है.

फेंगशुई अलर्ट
ध्यान रहे, यह सिम्बल लाल रंग के स्केच से ही बनाया गया हो. भूल से भी इसे बनाने के लिए अन्य रंग का इस्तेमाल न करें, वरना आपकी शादी ख़तरे में पड़ सकती है.

स्फटिक के दो गोले
पति-पत्नी के बीच मधुर संबंध स्थापित करने के लिए बेडरूम की दक्षिण-पश्‍चिम दिशा में स्फटिक के दो गोले लटकाएं या टांग दें.

फेंगशुई अलर्ट
ध्यान रहे, स्फटिक के दो गोले ही लटकाएं, एक या दो से अधिक गोले लटकाने की ग़लती न करें.

8

लव बर्ड्स
फेंगशुई के अनुसार लव बर्ड्स मैंडरिन बत्तख या प्रेमी-परिंदे का जोड़ा पति-पत्नी के बीच प्रेम व रोमांस का प्रतीक होता है. इनकी उपस्थिति से रोमांटिक लाइफ और भी रंगीन हो जाती है.

फेंगशुई अलर्ट
* इस बात का ध्यान रखें कि आपको बत्तख का एक जोड़ा रखना है, न कि स़िर्फ एक बत्तख और न ही दो से अधिक बत्तख. केवल एक बत्तख रखने का नतीजा यह हो सकता है कि आप जीवनभर अकेले या अविवाहित ही रह जाएंगे और अगर आप तीन बत्तख रखते हैं, तो इसका परिणाम यह होगा कि आपके वैवाहिक जीवन में कोई तीसरा व्यक्ति आ सकता है.
* ध्यान रहे, अगर आप इन पक्षियों की पेंटिंग लगा रहे हैं, तो पक्षियों का यह जोड़ा पिंजरे में कैद न हो, क्योंकि पिंजरे में कैद पक्षी इस बात का प्रतीक है कि वह उड़ने में असमर्थ हैं. ऐसी स्थिति में आपकी लव लाइफ ख़तरे में पड़ सकती है.

पानी
अपने बेडरूम में भूल से भी पानी या पानी वाली कोई वस्तु न रखें. जैसेः फिश टैंक, पानी का कोई शो पीस, पानी से भरा बाउल या बोतल, झरना, नदी या समुद्र तट की तस्वीर या चित्र आदि. इससे पति-पत्नी के आपसी संबंधों पर बहुत बुरा असर होता है.

फेंगशुई अलर्ट
फेंगशुई के अनुसार, बेडरूम में थोड़ी मात्रा में पीने का पानी रखा जा सकता है, परंतु भरपूर पानी या लबालब पानी प्रदर्शित करनेवाली तस्वीर या पेंटिंग न लगाएं. ये नुक़सानदायक हो सकती हैे.

बेड
बेडरूम में डबल बेड हमेशा एक ही गद्दे वाला होना चाहिए, इस बात पर विशेष ध्यान दें. फेंगशुई के अनुसार, पति-पत्नी का दो अलग-अलग पलंग पर सोना सही नहीं. अलग-अलग गद्दे पर सोने से पति-पत्नी के बीच मतभेद एवं तक़रार होती है.

il_fullxfull.308624326

बेडरूम में आईना
बेडरूम में आईना लगाने की ग़लती न करें. इससे पति-पत्नी के बीच तक़रार होती है, ख़ासकर तब जब ये आईना ठीक बेड के सामने लगा हो. फेंगशुई के अनुसार, आईने से निकलने वाली नकारात्मक ऊर्जा पति-पत्नी के बीच तलाक़ का कारण बन सकती है. ऐसे में रात में सोते वक़्त आईने को कपड़े से ढंक दें, ताकि उसमें से निकलने वाली नकारात्मक ऊर्जा बाहर न आ सके.

फेंगशुई अलर्ट
यदि आपके बेडरूम में टीवी लगी हुई है, तो रात में सोने से पहले उसे भी कपड़े से ढंक दें ताकि आपका प्रतिबिंब उसमें न दिखे.

फोटोग्राफ्स
पति-पत्नी के बीच आपसी प्रेम को बढ़ाने के लिए अपने बेडरूम के दक्षिण-पश्‍चिम दिशा वाले कोने में प्रसन्नचित्त मुद्रा वाली फोटोग्राफ लगाएं.

फेंगशुई अलर्ट
ध्यान रहे, इस तस्वीर में पति-पत्नी दोनों इकट्ठे होने चाहिए, पति या पत्नी की अलग-अलग तस्वीर न लगाएं.

परफेक्ट कपल बनने के स्मार्ट ट्रिक्स (Smart tricks for perfect couple)

Smart tricks for perfect couple

Smart tricks for perfect couple

जब भी ज़िंदगी की धूप ने थकाया, तेरा आंचल बना मेरा साया… जब भी ज़माने ने सताया, मैं तेरे ही पास चला आया… तेरी पलकों की छांव में ही मिलती हैं मुझे राहतें, तेरी बांहों की पनाह में ही पलती हैं मेरी हसरतें… उलझाती है ये दुनिया अपने सवालों में, सुलझ जाता हूं मैं पाकर सारे जवाब तेरी निगाहों में… तू और मैं एक ही हैं, दो नहीं… तेरे ही वजूद से है मेरा अक्स, जो तू नहीं तो मैं नहीं!  

जब दो दिल एक जान बन जाते हैं, तभी बनता है सच्चा रिश्ता और ऐसे लोगों को ही हम कहते हैं परफेक्ट कपल. यह परफेक्शन (Smart tricks for perfect couple) आप भी अपनी शादीशुदा ज़िंदगी में ला सकते हैं, बस ज़रूरत है ज़रा-सी सलाह व समझदारी की. सलाह हम देंगे, जिसे समझदारी से आपको अपने जीवन में लागू करना होगा और आप भी बन जाएंगे परफेक्ट कपल.

स्मार्ट ट्रिक्स (Smart tricks for perfect couple)

आप जैसे हैं वैसे ही रहें, साथ ही अपने पार्टनर को भी उसके उसी रूप में स्वीकारें: एक अच्छी रिलेशनशिप की शुरुआत ही एक्सेपटेंस यानी स्वीकारने के भाव से होती है. कपल्स को कभी भी एक-दूसरे को बदलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए और न ही एक-दूसरे से परफेक्शन की उम्मीद करनी चाहिए.

शेयररिंग ज़रूरी है: जब आप एक रिश्ते में बंधे होते हैं, तो मन में यह बात नहीं आनी चाहिए कि यह मेरा है और यह तेरा. जो भी कुछ है आप दोनों का है. आप पर आपके पार्टनर का भी हक़ है, इसलिए शेयरिंग बेहद ज़रूरी है, फिर चाहे वो बातें शेयर करना हो या कोई छोटी से छोटी चीज़. इससे आपकी बॉन्डिंग स्ट्रॉन्ग होगी.

बहुत ज़्यादा रोक-टोक न करें: जो चीज़ आपके पार्टनर को ख़ुशी देती हो, उसे करने दें. हर बात पर एक-दूसरे को रोकना-टोकना ठीक नहीं. अगर आपके पति को दोस्तों के साथ पार्टी करने का मन है, तो करने दें. इसी तरह यदि पत्नी को भी शॉपिंग करनी हो, तो उसे उत्साहित करें, न कि ताना दें.

तुम्हें जिससे प्यार है, मुझे भी उससे प्यार है: एक-दूसरे को यह एहसास दिलाते रहें कि आप दोनों को ही एक-दूसरे की पसंद से प्यार है. अक्सर ज़्यादातर कपल्स एक-दूसरे के रिश्तेदारों को पसंद नहीं करते और यही बातें झगड़े की वजहें भी बनती हैं. आप यही सोचें कि शादी के बाद आपको एक-दूसरे के परिवारों को स्वीकारना ही होगा, आख़िर वो आपका भी परिवार है अब.

एक-दूसरे के स्वभाव के अंतर को सकारात्मक रूप से लें: दो अलग चीज़ें भी मिलकर लाजवाब हो सकती हैं, इसी थ्योरी को ध्यान में रखें और एक-दूसरे के अलग व्यक्तित्व को सराहें और इस अंतर को एंजॉय करें. कभी भी एक जैसा बनने की कोशिश करने की ग़लती न करें.

जलन की भावना को बहुत ज़्यादा हावी न होने दें: यह इंसानी फ़ितरत है कि कभी न कभी हमें किसी न किसी बात से ईर्ष्या या द्वेष होता ही है. लेकिन इन कमज़ोरियों को इतना हावी न होने दें कि आपके रिश्ते को ये प्रभावित करने लगें. मन में बेवजह के शक व शंकाएं न पालें. भरोसा करना सीखें.

समस्या से बचें या भागें नहीं: आपके दिन की शुरुआत आपके पार्टनर से होती है, तो झगड़ा या विवाद होने की स्थिति में आपकी शाम भी एक-दूसरे से बिना बात किए नहीं ढलनी चाहिए. रात को मुंह फेरकर मन में ग़ुस्सा रखने से समस्या अगले दिन तक खिंच जाती है. बेहतर होगा उसे उसी दिन बात करके सुलझा लिया जाए.

सरल बनें, ख़ुश रहें: रिश्तों में हम जितना ज़्यादा सरल बनेंगे और छल-कपट से दूर रहेंगे, रिश्ते उतने ही मज़बूत बनेंगे. आप दोनों साथ इसीलिए हो कि एक-दूसरे को अपनी उपस्थिति से ख़ुश रख सकें, जीने का हौसला व उमंग दे सकें. हमेशा इस बात को ध्यान में रखेंगे, तो कोई भी नकारात्मक विचार हावी नहीं होगा.

जो तुम्हारी पसंद, वही मेरी पसंद: अगर आप दोनों की पसंद और रुचियां अलग भी हैं, तो भी एक-दूसरे की हॉबीज़ में दिलचस्पी लेना सीखें. पति को क्रिकेट मैच पसंद है और पत्नी को कुकरी शो, ऐसे में क्रिकेट के वक़्त पत्नी कोसे और कुकरी शो के वक़्त पति, तो छोटी-सी बात का बतंगड बनते देर नहीं लगेगी. और अगर पत्नी भी थोड़ा क्रिकेट में रुचि दिखाए व पति कुकिंग में तो बात बन जाए.

Smart tricks for perfect couple

अपने प्रॉमिसेज़ ब्रेक न करें: एक-दूसरे से वादा करें, तो हर हाल में निभाएं, वरना विश्‍वास खोता चला जाता है. भले ही किसी मूवी या डिनर का भी वादा किया हो, तो अगर किसी कारणवश निर्धारित दिन को न जा पाएं हों, तो किसी और दिन प्लान करें. इससे यह संदेश जाएगा कि आप पार्टनर की ख़ुशी का ख़्याल रखते हैं और अपने वादे ज़रूर निभाते हैं.

चीटिंग न करें: आपके पास दुनिया का सबसे अच्छा पार्टनर है, तो भला किसी और से फ्लर्ट क्यों करना. अक्सर फ्लर्टिंग के चक्कर में ही इमोशनल रिश्ते बन जाते हैं, जिससे समस्या हो सकती है. फ्लर्ट ही करना है, रोमांस ही करना है, तो एक-दूसरे से करें, इससे आपके रिश्तों की गर्माहट भी बनी रहेगी और वो गहरा भी होगा.

प्यार का इज़हार करते रहें: प्यार का इज़हार आपके रिश्ते में रोमांस को बरक़रार रखता है, इसलिए कभी फोन पर, तो कभी मैसेज द्वारा आई लव यू जैसे प्यारे शब्द कहते रहें.

अच्छे सपोर्टर बनें: ऑफिस के काम में या फिर घर की किसी भी ज़िम्मेदारी में एक-दूसरे का हाथ बंटाएं. अपनी तरफ़ से हमेशा पूछते रहें कि क्या हम आपकी मदद कर सकते हैं? अक्सर पत्नियां यह सोचती हैं कि घर-प्रापर्टी या पति के प्रोफेशन से जुड़ी परेशानियों में वो कुछ नहीं कर सकतीं और पति यह सोचते हैं घरेलू ज़िम्मेदारियां, रिश्ते-नाते तो पत्नी का डिपार्टमेंट है. यह सोच न रखें, आप दोनों को ही हर वक़्त, हर मौ़के पर एक-दूसरे के सहयोग की ज़रूरत होती ही है. एक-दूसरे को सपोर्ट करते रहें.

कॉम्प्लिमेंट्स देना कभी न भूलें: चाहे लुक्स के मामले में हो, फिटनेस के मामले में या फिर किसी कामयाबी पर भी एक-दूसरे को कॉम्प्लिमेंट ज़रूर दें.  आपकी सराहना आपके पार्टनर के लिए ख़ास मायने रखती है. वो उम्मीद करते हैं कि अपने साथी से उन्हें कॉम्प्लिमेंट मिले.

जो आदतें या बातें नापसंद हों, उन्हें भी कहें: ज़्यादातर रिश्ते कुछ ग़लतफ़हमियों के चलते ही टूटते हैं. ये ग़लतफ़हमियां तब होती हैं, जब हमें एक-दूसरे की आदतें पसंद नहीं होतीं. बेहतर होगा कि जो बातें पसंद न हों या जिन्हें लेकर विवाद होता हो, उन्हें आपसी बातचीत से सुलझा लें.

पर्सनल अटेंशन दें: आप दोनों कितने ही बिज़ी क्यों न हों, पर एक-दूसरे के लिए समय ज़रूर निकालें. दो-चार दिन की छुट्टि लेकर कहीं बाहर जाएं, जहां स़िर्फ आप दोनों ही हों. परिवार की भीड़ में भी सबसे नज़रें बचाकर थोड़ी-बहुत शरारतें ़व छेड़छाड़ जरूर करें. यही पर्सनल अटेंशन आप दोनों को और क़रीब लाएगी और आप कहलाएंगे परफेक्ट कपल.

पति-पत्नी नहीं, दोस्त बनें: दोस्ती का रिश्ता बहुत अनमोल और सबसे अलग होता है. हम अपने दोस्तों के साथ सबकुछ शेयर कर सकते हैं, क्योंकि हमें यह पता होता है कि वो ही हैं, जो हमें समझ सकते हैं, हमारा भला चाहते हैं और वो हमारी बुरी बातों और अदतों पर भी जजमेंटल नहीं होंगे. यही विश्‍वास पति-पत्नी के बीच जबतक नहीं बनेगा, तब तक वो परफेक्ट कपल नहीं बन पाएंगे. ऐसा विश्‍वास जहां पता हो कि यह तो हमारा दोस्त है, यही हमें समझ पाएगा और किसी भी बात का बुरा नहीं मानेगा.

एक-दूसरे को कंट्रोल करने की कोशिश कभी न करें: एक-दूसरे को मुट्ठी में रखने की जो हमारे यहां प्रवृत्ति है, उससे बाहर निकलें. डॉमिनेटिंग होने की कोशिश में आप अपने साथी से दूर न हो जाएं कहीं. कभी भी अपने साथी को प्रभावित करने या उसे कंट्रोल करने की कोशिश न करें. आप दोनों जीवनसाथी हैं, ख़ुद को एक-दूसरे का प्रतिस्पर्धी न समझें.

साथी की कमज़ोरियों और इनसेक्योरिटीज़ को समझें: आप जानते हैं कि आपका साथी किन बातों पर जल्दी अपसेट हो जाता है और आपका कौन-सा व्यवहार उसमें असुरक्षा की भावना को बढ़ता है, ऐसे में सबसे अच्छा होगा कि वो बातों और व्यवहार न किया जाए, जिससे साथी को तकलीफ़ होती है. कई बार मात्र अपने मज़े के लिए पार्टनर को जलाने के उद्देश्य से भी लोग ऐसी चीज़ें करते हैं. उन्हें लगता है पार्टनर को जलाने से उनमें प्यार और बढ़ेगा, लेकिन यह सोच ग़लत है. ऐसा करके आप उन्हें हर्ट करेंगे, न कि प्यार बढ़ाएंगे.

Smart tricks for perfect couple

कुछ बातें न बताना ही बेहतर होता है: माना आपको ईमानदार रहना चाहिए और सब कुछ शेयर करना चाहिए, लेकिन अगर आपको किसी के प्रति कोई आकर्षण महसूस हो रहा है या आपकी कोई सेक्सुअल फैंटसी है, तो उसे शेयर न ही करें, तो बेहतर होगा, क्योंकि भले ही आपका साथी कितना ही समझदार क्यों न हो, पर इन मामलों में मन में बेवजह की शंका घर कर सकती है.

ख़ुद को पार्टनर की जगह रखकर सोचें: जब भी कोई वाद-विवाद या बहस हो जाए या पार्टनर से अनबन हो, जो उसकी प्रतिक्रिया को एकदम से सही-ग़लत कहकर मुंह न फुला लें. हमेशा ऐसी परिस्थितियों में ख़ुद को एक-दूसरे की जगह रखकर ज़रूर सोचें कि अगर आप उनकी जगह होते, तो आप कैसे रिएक्ट करते और आपको कैसा लगता. यक़ीन मानिए इससे बहुत हद तक समस्या और आपसी विवाद सुलझ जाएगा.

कभी-कभी एक-दूसरे को अकेला भी छोड़ें: अगर आपके पार्टनर का मूड ठीक नहीं और वो कुछ देर अकेले रहना चाहे, तो भी पीछे न पड़े रहें कि मूड ख़राब होने की वजह वो आपको उसी वक़्त बताए. उसे समय दें, थोड़ी देर बाद वो ख़ुद ही आपसे शेयर करेंगे/करेंगी. स्पेस देना बहुत ज़रूरी है, वरना एक-दूसरे से खीझ होने लगती है.

शुक्रिया अदा करना सीखें: अक्सर पति-पत्नी के रिश्ते में शुक्रिया की औपचारिकता नहीं रहती, लेकिन जब भी आपका पार्टनर आपकी कोई भी मदद करे या कॉम्प्लिमेंट भी दे, तो उसे शुक्रिया कहें या कुछ ऐसा कहें, जो उसके दिल को छू जाए, जैसे- आप उन्हें यह एहसास दिलाएं कि आपका उनके जीवन में क्या महत्व है और उनके बिना आप कितने अधूरे हैं.

पैंपर करें, केयरिंग बनें: जैसे किसी बच्चे की देखभाल करते हैं, उसी तरह से एक-दूसरे की केयर भी करें और पैंपर भी करें. रिश्तों में कभी-कभी बचपना भी अच्छा लगता है, बच्चों जैसी निश्छलता रिश्ते का परफेक्ट बनाती है.

सरप्राइज़ दें: किसी ख़ास ओकेज़न पर ही सरप्राइज़ दें यह ज़रूरी नहीं, जिस दिन आप कोई सरप्राइज़ प्लान करेंगे आपके साथी के लिए तो वही दिन ख़ाद बन जाएगा. कभी कोई गिफ्ट ले आएं, तो कभी घर पर ही कुछ स्पेशल करें, जिससे रूमानियत बढ़े और आप दोनों एंजॉय करें.

सुरक्षाकवच बनें: अपने साथी को हमेशा यह महसूस कराएं कि आप उनकी सुरक्षा के लिए हमेशा उनकी ढाल बनोगे. दुनिया की कितनी ही बड़ी मुसीबत क्यों न आ जाए, आप उनका साथ कभी नहीं छोड़ोगे. एक-दूसरे पर यह विश्‍वास ही आपके रिश्ते को बेहद मज़बूत बनाएगा.

ईगो को बीच में कभी न आने दें: अक्सर हम अपने छोटे-से ईगो के लिए बड़ी-बड़ी ख़ुशियां दांव पर लगा देते हैं, लेकिन जहां प्यार होगा, वहां ईगो की जगह ही नहीं होनी चाहिए. बहस के दौरान एक-दूसरे को जितनी आसानी से बुरा-भला कह देते हैं, उतनी ही आसानी से अगर सॉरी भी बोल देंगे, तो कोई समस्या ही नहीं होगी. अगर बोल नहीं पा रहे, तो एसएमएस कर दें, किसी पेपर पर लिखकर भेज दें या फिर फूलों के गुलदस्ते के साथ कोई नोट और प्यारा-सा गिफ्ट भी बुरा आइडिया नहीं है.

सेक्स लाइफ को नज़रअंदाज़ न करें: किसी भी शादी में सेक्स की भी उतनी ही अहमियत होती है, जितना प्यार का होना ज़रूरी है. बिज़ी लाइफ में सेक्स को नज़रअंदाज़ न करें. अपने रिश्ते में ठंडापन कभी न आने दें. एक-दूसरे की सेक्स की ज़रूरतों को भी महत्व दें. यह कोई ज़रूरी नहीं कि सेक्स में पहल स़िर्फ पति ही करे, पत्नी को भी उतना ही उत्साह और पॉज़ीटिव तरी़के से रुचि दिखनी चाहिए.

फिटनेस रखें बरक़रार: आप फिट रहेंगे, तो पार्टनर को अच्छा ही लगेगा. आपका आकर्षण उन्हें आपकी तारीफ़ करने से रोक नहीं पाएगा. दोनों साथ में जॉगिंग पर जाएं, साथ में योगा क्लास जॉइन करें, एक्सरसाइज़ करें. यह भी ज़रूर जताएं कि आप दोनों स़िर्फ हेल्थ के लिए ही नहीं, एक-दूसरे का आकर्षित करने के लिए भी फिट बने रहना चाहते हैं. फिर देखिए, आपके पार्टनर की निगाहों में बस आप ही आप और उनके दिल में आपके लिए बेशुमार प्यार.