hema malini

हमारे देश में राजनीति और इंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का बड़ा पुराना संबंध है. ऐसे कई एक्टर्स हैं, जिन्होंने पॉलिटिक्स को बतौर दूसरे करियर के रूप में शुरू किया और कामयाब भी रहे, पर बहुत से ऐसे भी रहे, जिन्हें राजनीति रास नहीं आई और वो लौटकर बॉलीवुड में वापस आ गए. आइये देखते हैं कौन से हैं वो बड़े सितारे जिन्होंने राजनीति में अपने हाथ आज़माएं.

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan)

Amitabh Bachchan

शायद बहुतों की तरह आपको भी पता न हो कि बॉलीवुड के शहंशाह भी राजनीति में अपनी किस्मत आज़मा चुके हैं. दरअसल, साल 1984 में अपने दोस्त राजीव गांधी को सपोर्ट करने के लिए अमिताभ बच्चन ने राजनीति में कदम रखा था. बॉलीवुड से ब्रेक लेकर उन्होंने प्रयागराज (इलाहाबाद) सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ा था और भारी मतों से जीते भी थे. लेकिन बिग बी को राजनीति रास नहीं आई और वो 3 साल बाद ही राजनीति छोड़कर मुंबई वापस आ गए.

सुनील दत्त (Sunil Dutt)

Sunil Dutt

एक ज़माने में बॉलीवुड के हैंडसम हीरो कहे जानेवाले सुनील दत्त ने बॉलीवुड में कई हिट फिल्में दी हैं. स्वर्गीय सुनील दत्त साहब न सिर्फ़ ऐक्टर थे, बल्कि उन्होंने बताहर डायरेक्टर और प्रोड्यूसर भी काम किया है. सुनील दत्तजी ने 1984 में कांग्रेस पार्टी जॉइन की थी. उनकी लोकप्रियता का अंदाज़ा इसी बात से लगाया का सकता है कि वो लगातार 5 बार विजयी हुए थे. साथ ही साल 2004 से 2005 तक वो यूथ अफेयर्स और स्पोर्ट्स मंत्री भी थे. उनके ही पदचिह्नों पर चलते हुए उनकी बेटी प्रिया दत्त ने भी कांग्रेस पार्टी से जुड़कर उन्हीं के विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा और जीती ही भी.

विनोद खन्ना (Vinod Khanna)

Vinod Khanna

बॉलीवुड से पॉलिटिक्स में कदम रखनेवाले सभी एक्टर्स में से विनोद खन्ना का सफर सबसे दिलचस्प माना जाता है. विनोद खन्ना ने 1997 में बीजेपी जॉइन की थी और पंजाब के गुरदासपुर लोकसभा सीट से 1998 से 2009 और फिर 2014 से 2018 तक लोकसभा सांसद रहे. साल 2002 में उन्हें अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में कल्चर और टूरिज्म मंत्रालय मिला. इसके 6 महीने बाद ही विनोद खन्ना एक्सटर्नल अफेयर्स में मिनिस्टर और स्टेट नियुक्त किये गए.

राजेश खन्ना (Rajesh Khanna)

Rajesh Khanna

बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना ने भी राजनीति में अपने हाथ आज़माएं थे. उन्होंने 1992 लोक सभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के टिकट पर दिल्ली से चुनाव लड़ा था और जीते भी थे. बतौर सांसद उन्होंने 5 सालों का कार्यक्रम पूरा किया, लेकिन उन्हें राजनीति रास नहीं आई और उसके बाद उन्होंने पॉलिटिक्स छोड़ दी.

शत्रुघन सिन्हा (Shatrughan Sinha)

Shatrughan Sinha

साल 1992 में शत्रुघन सिन्हा ने बीजेपी जॉइन की और शुरुआत अपने दोस्त और बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना के सामने बाय इलेक्शन में खड़े हुए. यहां शत्रुघ्न सिन्हा राजेश खन्ना से 25 हज़ार वोटों से हार गए, लेकिन उसके बाद से दोनों के रिश्ते बिगड़ गए. 2009 में उन्होंने बिहार के पटना साहिब से लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीते. उसके बाद 2014 में भी वो वहां से विजयी हुए. अटल बिहारी बाजपेयी की तीसरी सरकार में वो कैबिनेट मंत्री बने. उन्हें स्वास्थ्य के साथ साथ शिपिंग विभाग भी दिया गया. हालांकि 2019 में उन्होंने बीजेपी छोड़कर कांग्रेस पार्टी जॉइन कर ली है.

हेमा मालिनी (Hema Malini)

Hema Malini

बॉलीवुड की ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी ने भी एक्टिंग के साथ साथ पॉलिटिक्स में एंट्री ली. 2004 में उन्होंने बीजेपी जॉइन की और विनोद खन्ना के लिए उनके चुनाव क्षेत्र में प्रचार प्रसार किया. बॉलीवुड में कई ब्लॉकबस्टर फ़िल्में देनेवाली हेमा मालिनी ने 2014 के लोकसभा चुनाव में मथुरा से चुनाव लड़ा और जीतकर लोकसभ सांसद बनीं. उसके बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में भी मथुरा की जनता ने भारी मतों से विजयी बनाया.

जया प्रदा (Jaya Prada)

Jaya Prada

जया प्रदा ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत 1994 में तेलुगू देशम पार्टी से की थी, लेकिन चंद्रबाबू नायडू से चलते मतभेदों के कारण उन्होंने टीडीपी छोड़ दी और समाजवादी पार्टी जॉइन की. 2004 से 2014 तक वो उत्तर प्रदेश के रामपुर से लोकसभा सांसद रहीं. देखा जाये तो जया प्रदा का राजनीतिक करियर काफ़ी सफल रहा है. लेकिन समाजवादी पार्टी में चल रहे बदलावों के कारण कुछ ऐसे मतभेद हुए कि उन्होंने समाजवादी पार्टी छोड़कर बीजेपी जॉइन कर ली.

जया बच्चन (Jaya Bachchan)

Jaya Bachchan

जया बच्चन ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत समाजवादी पार्टी से की. साल 2004 में राजनीति से जुड़ने के बाद वो 2004 से 2006 तक समाजवादी पार्टी की उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सदस्य चुनी गईं. वो अब चौथी बार राज्यसभा सदस्य बनी हैं. 2006 से 2010 और फिर 2012 में वो एक बार फिर चुनकर आयीं. उसके बाद 2018 में उन्हें फिर राज्यसभा सदस्यता मिली.

राज बब्बर (Raj Babbar )

Raj Babbar

3 बार लोकसभा सदस्य और 2 बार राज्यसभा सदस्य राज बब्बर की राजनीतिक पारी काफी सफल मानी जाती है. साल 1989 में वो जनता दल से जुड़ते हुए राजनीति में आए. कुछ साल बाद वो जनता दल छोड़कर समाजवादी पार्टी से जुड़ गए. लेकिन वहां भी बहुत ज़्यादा समय तक उनका मन नहीं लगा और उन्होंने कांग्रेस पार्टी जॉइन कर ली. वो उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

स्मृति ईरानी (Smriti Irani)

Smriti Irani

मॉडल, एक्ट्रेस और अब सक्सेसफुल पॉलिटिशियन स्मृति ईरानी ने 2003 में अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की. 2019 के लोकसभा चुनाव में अमेठी से राहुल गांधी को हराकर वो लोकसभा सदस्य बनीं. इससे पहले वो गुजरात से राज्यसभा सांसद थीं और नरेंद्र मोदी सरकार में उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया गया था. फ़िलहाल वो टेक्सटाइल मिनिस्टर हैं और महिला एवं बाल विकास कल्याण मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार भी उन्हें दिया गया है.

किरण खेर (Kirron Kher)

Kirron Kher

इंडियन फिल्म, टेलीविज़न और थियटर आर्टिस्ट किरण खेर ने 2009 में बीजेपी से जुड़ीं. यहीं से इनके राजनीतिक पारी की शुरुआत हुई. साल 2014 में चंडीगढ़ से वो लोकसभा सदस्य बनीं और 2019 में वो दोबारा लोकसभा सदस्य बनीं.

इनके अलावा टैलेंटेड एक्टर और कॉमेडियन परेश रावल 2014 में अहमदाबाद से लोकसभा सदस्य रहे, फिल्म स्टार गोविंदा 2004 में मुंबई से लोकसभा सांसद बने और अपना टर्म पूरा किया. 2019 के लोकसभा चुनाव में जहां गुरदासपुर से बीजेपी के कैंडिडेट सन्नी देओल ने चुनाव जीता, वहीं कांग्रेस की उर्मिला मातोंडकर को हार का सामना करना पड़ा.

बॉलीवुड के अलावा टॉलीवुड के कई बड़े स्टार्स हैं, जिन्होंने लंबी राजनीतिक पारियां खेली हैं. एम जी रामचंद्रन और जयललिता की राजनीतिक पारियां काफ़ी सफल रहीं. वहीं मेगास्टार चिरंजीवी, रजनीकांत और पवन कल्याण भी राजनीति से जुड़ गए हैं.

– अनीता सिंह

यह भी पढ़ें: बेटी की उम्र की लड़कियों से शादी रचा चुके हैं ये फिल्म स्टार्स! (Bollywood Stars Who Married A Girl Of Their Daughter’s Age)

बॉलीवुड अभिनेत्रियों ने अपने अभिनय के दम पर हमेशा ये साबित किया है कि वो पुरुष अभिनेताओं से किसी भी मामले में कम नहीं हैं. फिर चाहे रोमांटिक रोल हो, कॉमेडी या फिर एक्शन, बॉलीवुड अभिनेत्रियों ने अपना हर रोल बखूबी निभाया है. चलिए, हम आपको बताते हैं पुलिस इंस्पेक्टर का रोल करने वाली बॉलीवुड की उन 10 अभिनेत्रियों के बारे में, जिनके किरदार को दर्शक आज भी पसंद करते है.

8 Bollywood Actresses Who Played A Powerful Role Of Police Officer

1) रानी मुखर्जी – फिल्म मर्दानी
रानी मुखर्जी की फिल्म मर्दानी 2014 में रिलीज़ हुई थी, जिसमें रानी मुखर्जी ने एक धाकड़ पुलिसकर्मी का किरदार निभाया था. इस फिल्म में रानी मुखर्जी पुलिस ऑफिसर के किरदार में नाबालिग लड़कियों की तस्करी के रैकेट का भंडाफोड़ करती हैं. इस फिल्म में रानी मुखर्जी के अभिनय को इतना पसंद किया गया कि हाल ही में मर्दानी 2 फिल्म आई और इसे भी दर्शकों ने पसंद किया.

rani mukherjee mardaani look

2) तब्बू – फिल्म दृश्यम
बॉलीवुड की मोस्ट टेलेंटेड एक्ट्रेस तब्बू अपने हर किरदार को बखूबी निभाती हैं. तब्बू ने फिल्म दृश्यम में पुलिस ऑफिसर का किरदार निभाया था, जिसमें वो सच्चाई का पता लगाने के लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहती हैं. फिल्म दृश्यम में तब्बू के इस किरदार को दर्शकों ने बहुत पसंद किया था.

 tabu from drishyam look

3) प्रियंका चोपड़ा – फिल्म जय गंगाजल
देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा ने फिल्म जय गंगाजल में एक ऐसी पुलिस अधिकारी का दमदार रोल किया था, जो न किसी के सामने झुकती है और न ही किसी से डरती है. प्रियंका चोपड़ा का यह किरदार दर्शकों को बहुत पसंद आया था.

यह भी पढ़ें: ये हैं बॉलीवुड की आइकॉनिक ब्राइड्स: आप भी दुल्हन बनें बॉलीवुड अंदाज़ में (Iconic Bollywood Brides We Love)

priyanka chopra gangaajal look in police officer

4) सुष्मिता सेन – फिल्म समय
वर्ष 2003 में आई फिल्म समय में सुष्मिता सेन ने एक मां और एक पुलिस ऑफिसर का किरदार निभाया. हालांकि ये फिल्म चली नहीं, इस फिल्म में सुष्मिता सेन के अभिनय की जमकर तारीफ हुई.

sushmita sen from film samay as police officer

5) माधुरी दीक्षित – फिल्म खलनायक
धक-धक गर्ल माधुरी दीक्षित ने निर्देशक सुभाष घई की फिल्म खलनायक में एक पुलिस ऑफिसर का किरदार निभाया था. इस फिल्म में माधुरी दीक्षित का रोल काफी रफ-टफ था और माधुरी के इस किरदार को लोगों ने खूब पसंद किया था.

madhuri dixit film khalnayak police officer look

6) रेखा – फिल्म फूल बने अंगारे
एवरग्रीन ब्यूटी रेखा ने के.सी. बोकाड़िया की फिल्म फूल बने अंगारे में पुलिस ऑफिसर का किरदार निभाया था. इस फिल्म में रेखा अपने इंस्पेक्टर पति की मौत का बदला लेती हैं. फिल्म फूल बने अंगारे में रेखा की दमदार एक्टिंग दर्शकों को बहुत पसंद आई थी.

यह भी पढ़ें: दिव्यांका त्रिपाठी दहिया, रश्मि देसाई, मौनी रॉय, अनीता हसनंदानी, शिवांगी जोशी के ये फैशनेबल ब्लाउज़ डिज़ाइन्स आप भी ट्राई कर सकती हैं (Blouse Inspiration From Television Actresses Divyanka Tripathi Dahiya, Rashmi Desai, Mouni Roy, Anita Hassanandani, Shivangi Joshi)

rekha film phool bane angaray police officer look

7) हेमा मालिनी – फिल्म अंधा कानून
ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी ने फिल्म अंधा कानून में पुलिस अधिकारी का रोल किया था.

hema malini film andha kanoon police officer look

8) डिंपल कपाड़िया – फिल्म ज़ख्मी औरत
अपने लुक्स और अभिनय के दम पर अपनी एक अलग पहचान बनाने वाली खूबसूरत एक्ट्रेस डिंपल कपाड़िया ने फिल्म ज़ख्मी औरत में पुलिस ऑफिसर का किरदार निभाया था. रेप विक्टिम पर आधारित इस फिल्म में डिंपल कपाड़िया के स्टंट देखकर दर्शक हैरान रह गए थे.

dimple kapadia film zakhmi aurat police officer look

 

Real Age Of Your Favorite Film Stars

क्या आप जानते हैं यंग नज़र आनेवाले इन 16 बॉलीवुड स्टार्स की असली उम्र? (Do You Know The Real Age Of Your Favorite Film Stars?)

झकास अनिल कपूर: आज भी किसी युवा एक्टर से कहीं अधिक जवां और एनर्जेटिक नज़र आनेवाले अनिल कपूर सच में हैं झकास. उनकी उम्र है 63 वर्ष,  लेकिन आज भी उनकी फिटनेस, मेंटेन्ड बॉडी और यंग लुक देखकर फैंस हैरत में पड़ जाते हैं कि आख़िर अनिल के पास ऐसी कौन-सी जड़ी-बूटी है कि बढ़ती उम्र के निशान उनसे कोसों दूर हैं.

Anil Kapoor

खिलाड़ी कुमार हॉट अक्षय: इनकी फिटनेस और बोल्ड अंदाज़ के सभी कायल हैं. अलग तरह के क़िरदार करके इन्होंने अपनी वर्सटैलिटी दिखाई, तो वहीं समाज से जुड़े ऐसे मुद्दों पर फिल्में भी बनाईं, जिससे इनकी संवेदशीलता नज़र आई. 52 की उम्र में फिटनेस का जो लेवल इन्होंने सेट किया है, शायद ही कोई पार कर पाए. न लेट नाइट पार्टीज़, न सोने-खाने के समय में कॉम्प्रोमाइज़- इस अनुशासन के कारण ही खिलाड़ी कुमार हैं आज भी सबसे हॉट.

akshay kumar

रोमांस का बादशाह शाहरुख: अपनी से आधी उम्र की एक्ट्रेसेस के साथ रोमांस लड़ाता यह लवर बॉय है महज़ 53 साल का.
डैशिंग सलमान: अपने डैशिंग अंदाज़ से सबका दिल लूटनेवाले सलमान बच्चों से लेकर बुज़ुर्गों तक के फेवरेट हैं. यही उनकी ख़ूबी है कि उन्हें हर वर्ग और हर उम्र के लोग प्यार करते हैं. इस हैंडसम हंक की असली उम्र है 53 साल.

shahrukh khan

डैशिंग सलमान: अपने डैशिंग अंदाज़ से सबका दिल लूटनेवाले सलमान बच्चों से लेकर बुज़ुर्गों तक के फेवरेट हैं. यही उनकी ख़ूबी है कि उन्हें हर वर्ग और हर उम्र के लोग प्यार करते हैं. इस हैंडसम हंक की असली उम्र है 53 साल.

salman khan

मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर: अपने हर काम को परफेक्शन के साथ करना इनका शौक ही नहीं स्वभाव भी है, यही वजह है कि 54 साल के आमिर आज भी फिल्मों में कॉलेज बॉय बने नज़र आते हैं और उसमें भी वो परफेक्ट ही लगते हैं.

aamir khan

सेक्सी रितिक: चाहे डांस हो, परफॉर्मेंस हो या फिर लुक्स रितिक आज भी हर जवां दिलों की धड़कन हैं. 45 की उम्र में भी वो लगते हैं एकदम फिट और सेक्सी.

hrithik roshan

छोटे नवाब सैफ: चॉकलेटी बॉय से अपना फिल्मी करियर शुरू करनेवाली सैफ अब ऐक्टिंग को लेकर काफ़ी मैच्योर हो चुके हैं, पर उनके लुक्स की बात करें, तो आज भी वो लगते हैं यंग और हैंडसम. सैफ की उम्र है 48 साल.

saif ali khan

डैशिंग अजय: अपने क़िरदार को जीवंत कर देना और यंग क्राउड के बीच अपने अंदाज़ से पॉप्युलर बने रहना कोई अजय देवगन से सीखे. फाइटर अजय सच में फाइटर हैं, इसीलिए 50 की उम्र के बाद भी वो फिल्मों में कभी डैशिंग कॉप की भूमिका निभाते नज़र आते हैं, तो कभी ऐतिहासिक वीर योद्धा के चरित्र को चरितार्थ करते दिखते हैं.

ajay devgan

यह भी पढ़ें: 10 बॉलीवुड एक्ट्रेस जिनकी पहचान उनके पापा से है (10 Actresses In Bollywood Because Of Their Papa)

ड्रीमगर्ल हेमा: आज भी वो किसी शायर की ग़ज़ल ही हैं… आज भी वो महकती झील का खिलता कंवल ही हैं. 71 साल की हो चुकीं हेमाजी आज भी बॉलीवुड की सबसे हसीन ड्रीम गर्ल हैं. हर कोई उनके यंग लुक का सीक्रेट जानना चाहता है, क्योंकि वो उसी शिद्दत से डान्स भी करती हैं, स्टेज परफॉर्मेंस भी देती हैं और पॉलिटिक्स व समाज सेवा में भी एक्टिव हैं. इस बीच भी उनके हसीन चेहरे का नूर कभी कम नहीं होता.

hema malini

मोहक रेखा: बात चाहे टैलेंट की हो या फिर ख़ूबसूरती की. एवरग्रीन रेखा आज भी जब स्टेज पर आती हैं, तो हर फैन सीटी बजाने से ख़ुद को रोक नहीं पाता. यह है उनकी पॉप्युलैरिटी का आलम और बात करें उनकी उम्र की, तो यंग से यंग एक्ट्रेस भी उनकी ख़ूबसूरती के आगे फीकी नज़र आती हैं. 65 की हो चुकी रेखा आज भी हर जवां दिलों की धड़कन है.

rekha

क्वीन माधुरी: धक-धक गर्ल के डांसिंग स्टेप्स और मोहक मुसकान आज भी लाखों का दिल धड़का देती है. माधुरी से मिसेज़ नेने बन चुकीं क्वीन की उम्र है 53 वर्ष.

madhuri dixit

ब्यूटी क्वीन एश्‍वर्या: ऐश की हर बात, हर अंदाज़ आज भी उतना ही आकर्षक है, जितना तब था, जब वो मिस वर्ल्ड बनी थीं. मिसेज़ अभिषेक बच्चन अब हो चुकी हैं 45 साल की, पर उनकी मासूमियत किसी टीनएज गर्ल से कम नहीं.

aishwarya rai

वर्सटाइल सुष्मिता: सुष की फिटनेस और ब्यूटी समय के साथ-साथ बढ़ती जा रही है. यही वजह है कि जैसे-जैसे उनकी उम्र बढ़ रही है, वो और भी ख़ूबसूरत व यंग लगने लगी हैं. मिस यूनिवर्स रह चुकीं सुष हो चुकी हैं 44 साल की, पर उनका जलवा बरक़रार है.

sushmita sen

मल्टी टैलेंटेड काजोल: अदाकारी इनकी रग-रग में है. मशहूर बॉलीवुड फैमिली बैकग्राउंड होने के बाद भी काजोल ने अपनी जगह ख़ुद बनाई. अपनी नेचुरल एक्टिंग और ऑनेस्टी से फैंस का दिल उन्होंने आसानी से जीता. उनकी ब्यूटी बहुत ही नेचुरल है और उतनी ही इनोसेंट है उनकी स्माइल. 45 की उम्र में भी उनके व्यक्तित्व में टीनएज गर्ल जैसा चुलबुलापन और ताज़गी है.

kajol

हॉट बिपाशा: बिप्स की हॉटेनस समय के साथ बढ़ती ही जा रही है. 40 पार कर चुकीं बिपाशा हमेशा ही एक्टिव रहती हैं.

bipasha basu

टैलेंटेड तब्बू: अपने हर रोल में जान डाल देना और अपने टैलेंट से सबका दिल जीत लेना कोई तब्बू से सीखे. 48 साल की हो चुकी तब्बू का चार्म आज भी उसी तरह बरक़रार है. कोई भी फैन उनकी फिल्मों व क़िरदार को सराहे बिना नहीं रहता. साथ ही उनकी ख़ूबसूरती का राज़ भी हर कोई जानना चाहता है.

tabu

यह भी पढ़ें: #Interesting: ऋषि कपूर ने बुनाई पसंद मांओं को सबसे अधिक स्वेटर की डिज़ाइन्स दी हैं… (Rishi Kapoor Has Given The Most Sweater Designs To The Mothers Who Like Knitting…)

बॉलीवुड के कई अभिनेताओं को उनसे आधी उम्र की अभिनेत्रियो के साथ पर्दे पर रोमांस करते देखना कोई नई बात नहीं है. कई अभिनेता फिल्मों में आधी उम्र की हीरोइनों से इश्क लड़ाते हैं और आगे चलकर उनके बेटे भी उन्हीं हीरोइनों के साथ बतौर हीरो रोमांस करते दिख जाते हैं. हम आपको बॉलीवुड की ऐसी ही 5 अभिनेत्रियों से मिलवाते हैं, जो पर्दे पर बाप और बेटे के साथ इश्क लड़ा चुकी हैं.

Bollywood Actresses, romanced with Father and son

1- माधुरी दीक्षित
बॉलीवुड की धक-धक गर्ल माधुरी दीक्षित को फिल्म ‘दयावान’ में विनोद खन्ना के साथ रोमांस करते हुए देखा गया था. दोनों के हॉट इंटीमेट सीन को आज भी याद किया जाता है. विनोद की हीरोइन बनने के बाद माधुरी ने उनके बेटे अक्षय खन्ना के साथ फिल्म ‘मोहब्बत’ में रोमांस किया.

 

2- श्रीदेवी
बॉलीवुड की पहली महिला सुपरस्टार श्रीदेवी, धर्मेंद्र और सनी देओल की हीरोइन के तौर पर नज़र आ चुकी हैं. धर्मेंद्र के साथ बतौर हीरोइन श्रीदेवी ने फिल्म ‘नाकाबंदी’ की थी, जबकि सनी देओल के साथ ‘चालबाज़’, ‘निगाहें’, ‘राम अवतार’ जैसी कई फिल्मों में श्रीदेवी रोमांस करती नज़र आई थीं.

 

3- अमृता सिंह
अभिनेता सनी देओल की पहली फिल्म ‘बेताब’ में अमृता सिंह उनकी प्रेमिका के किरदार में नज़र आई थीं, लेकिन आगे चलकर उन्हें सनी के पिता धर्मेंद्र की प्रेमिका बनने का भी मौका मिला. फिल्म ‘सच्चाई की ताकत’ में अमृता ने धर्मेंद्र की हीरोइन का किरदार निभाया था.

 

4- डिंपल कपाड़िया
डिंपल कपाड़िया फिल्मों में न सिर्फ धर्मेंद्र और सनी देओल की प्रेमिका बनीं, बल्कि वो विनोद और अक्षय खन्ना की हीरोइन भी बनीं. डिंपल ने धर्मेंद्र के साथ फिल्म ‘बंटवारा’, ‘शहजादे’ की तो वहीं सनी के साथ ‘अर्जुन’, ‘गुनाह’, ‘आग का गोला’ जैसी फिल्मों में इश्क फरमाती नज़र आईं. विनोद खन्ना के साथ डिंपल ने ‘ख़ून का कर्ज’, ‘इंसाफ’ जैसी फिल्में कीं तो वहीं उनके बेटे अक्षय खन्ना के साथ ‘दिल चाहता है’ में नज़र आई थीं.

 

5- हेमा मालिनी
हेमा मालिनी ने अपनी पहली हिंदी फिल्म ‘सपनों का सौदागर’ में बॉलीवुड के शो मैन राज कपूर के साथ रोमांस किया था. इसके बाद हेमा ने राज कपूर के बेटे रणधीर कपूर के साथ ‘हाथ की सफाई’ और ऋषि कपूर के साथ ‘एक चादर मैली सी’ में नज़र आई थीं.

 

यह भी पढ़ें: ख़ुशख़बरी! शाहिद कपूर फिर बनने वाले हैं पापा! 

 

कला आपको पहचान देती है और आपका काम आपको कॉन्फिडेंस देता है. कला आपकी रूह को छूती है और काम आपके शरीर व भौतिक ज़रूरतों की पूर्ति का साधन बनता है. कला साधना है और काम सक्रियता. साधना भी ज़रूरी है और सक्रियता भी. मेरे लिए मेरा नृत्य कला है और मेरी साधना भी. जीवन में सक्रियता और सकारात्मकता का ज़रिया भी. मुझे डांस करते देख मेरी बच्चियों को भी इस कला से प्रेम हो गया और अब वो भी इसे साधना मानती हैं. मेरा मानना है कि इस तरह की कला जीवन में निरंतरता बनाए रखती है और मुझे इससे बहुत संबल मिला है.

Hema Malini, Video, dreamgirl styory

इसी संबल ने मुझे आगे बढ़ाया. मैं फिल्म इंडस्ट्री में भी इसलिए अलग पहचान बना पाई, क्योंकि मेरे पास नृत्य की साधना थी. यही वजह है कि मैं आज भी इस साधना से इतना जुड़ाव महसूस करती हूं. मेरी मां ने मुझे इस कला का सम्मान करना सिखाया और अब मेरी बेटियां भी वही करती हैं. उनके लिए भी यह मात्र एक कला न रहकर साधना ही है. हम सभी इस साधना के ज़रिए एक सूत्र में जैसे बंध जाते हैं. ईश्‍वर की आराधना का भी यह बेहतरीन ज़रिया है.

यह भी पढ़ें:  हेमा मालिनी- “मैंने ज़िंदगी में बहुत एडजस्टमेंट्स किए हैं”

फिल्म और डांस के माध्यम से मुझे लोगों का इतना प्यार और सम्मान मिला है कि मैं उनकी ऋणी हो गई हूं. इन्हीं सबके बीच मेरा पॉलिटिकल करियर भी शुरू हुआ. सच पूछो, तो यह करियर नहीं, बल्कि एक ज़रिया बना है लोगों के बीच जाने का. उनसे जुड़कर उनको और क़रीब से पहचानने का. अब मेरे पॉलिटिकल करियर के माध्यम से मुझे समाज, देश के लिए काम करने का मौक़ा मिला है और मैं अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रही हूं कि मैं अपना काम पूरे तन-मन से करूं.

हेमा मालिनी देश और अपने दर्शकों को क्या लौटाना चाहती हैं, जानने के लिए देखें वीडियो: 

मैं कृष्णभक्त हूं और मुझे कृष्ण की नगरी मथुरा में काम करने का मौक़ा मिला है, इससे अच्छा सौभाग्य मेरे लिए क्या हो सकता है. मुझे देश की जनता ने जो प्यार और सम्मान दिया है, उसे मैं अब उनकी सेवा करके लौटाना चाहती हूं.
ईश्‍वर की कृपा से मुझे जितना भी मिला है, मैं उससे पूरी तरह से संतुष्ट हूं और यदि मैं उसका अंश मात्र भी समाज को लौटा सकूं, तो ख़ुद को धन्य समझूंगी, क्योंकि हर किसी को इस तरह के मौ़के नहीं मिलते. मुझे मिले हैं, तो मैं ज़रूर चाहूंगी कि इन्हें यूं ही न गंवाऊं.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी …और मुझे मोहब्बत हो गई… देखें वीडियो

मेरी दोनों बेटियां और धरमजी भी मुझे हौसला देते हैं और आगे बढ़ने की प्रेरणा देते रहते हैं. वैसे भी जब आपका परिवार आपके साथ होता है और लोगों का इतना प्यार और विश्‍वास भी होता है, तो कोई अड़चन आपको रोक नहीं सकती.
हालांकि छोटी-मोटी तकली़फें तो आती रहती हैं, उनसे पार पाकर ही आगे बढ़ना अब मेरा लक्ष्य है, क्योंकि अब मैं ज़िंदगी में जिस मुक़ाम पर पहुंच चुकी हूं, वहां पर निजी ख़्वाहिशों और हसरतों के लिए जगह ही नहीं है, मेरा अब जो भी है, वो समाज का है, उन लोगों का है, जिन्होंने मुझे यहां तक पहुंचाया है.
आपको लगेगा कि ये सब बड़ी-बड़ी बातें हैं, लेकिन मेरा दिल जानता है कि लोगों की सेवा का यह मौक़ा मेरे लिए क्या मायने रखता है. मेरे लिए यह सौभाग्य की बात है कि मैं पॉलिटिक्स के ज़रिए समाज सेवा कर पा रही हूं. मैंने जो पाया, वही लौटा रही हूं. मैं शिद्दत से यह करना चाहती थी, इसलिए ईश्‍वर ने मुझे चुना यह करने के लिए.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी… हां, सपने पूरे होते हैं…! देखें वीडियो

[amazon_link asins=’B015ZAMQII,B0764D8RK7,B015ZAMV1A,B076BXRXF4′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’b5ce3299-0a54-11e8-90cb-496c87e4435b’]

ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी (Dream Girl Hema Malini) के इस ख़ास कॉलम ‘मेरी ज़िंदगी, मेरे अनुभव’ (Meri Zindagi Mere Anubhav) में आप हेमा मालिनी की ज़िंदगी के ऐसे अनुभवों के बारे में जानते हैं, जिन्हें आपने पहले कभी नहीं पढ़ा. ‘मेरी सहेली’ (Meri Saheli) की एडिटर हेमा मालिनी (Hema Malini) उनके कॉलम ‘मेरी ज़िंदगी, मेरे अनुभव’ (Meri Zindagi Mere Anubhav) के माध्यम से अपनी ज़िंदगी के ख़ास अनुभव आप लोगों के साथ शेयर करती हैं. जुड़े रहें हमारे साथ… और जानें ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी (Dream Girl Hema Malini) की ज़िंदगी के ख़ास अनुभव, उन्हीं की ज़ुबानी.

हां, उस वक़्त मैं रो पड़ी थी
आज मुझे सोचकर हंसी आती है कि जब ईशा पहली बार स्कूल गई, तो मैं रोने लगी थी. जी हां, यह सच है. अब तक मैंने उसे ख़ुद से एक पल के लिए भी अलग नहीं किया था. मेरे ख़्याल से ऐसा हर मां के साथ होता है. हम अपने बच्चों को लेकर इतने पज़ेसिव हो जाते हैं कि उन्हें ज़रा भी तकलीफ़ में नहीं देख सकते. वो भी पहली बार स्कूल जाते समय उदास थी, क्योंकि उसका भी यह पहला ही अनुभव था मुझसे दूर अंजान लोगों के बीच जाने का. ऐसे में अपने बच्चे को ख़ुद से थोड़ी देर के लिए भी अलग कर पाना आसान नहीं था. ईशा को देखकर मुझे और भी रोना आ रहा था, ये चंद घंटे कैसे गुज़रे बस मेरा दिल ही जानता है. फिर जब ईशा स्कूल से लौटी, तो मैंने उसे कलेजे से लगा लिया. थोड़ी देर तक मैंने उसे ऐसे ही कसकर पकड़े रखा. उन कुछ घंटों के लिए मैं बहुत बेचैन हो गई थी, ऐसा लग रहा था जैसे मेरी सांसें अटक गई हैं. फिर दूसरे-तीसरे दिन से सब नॉर्मल हो गया था. उसके बाद तो मैं और ईशा दोनों इस बात के लिए तैयार हो गए थे कि ईशा को स्कूल जाना है और उतना टाइम मुझसे दूर रहना है. यही नहीं, ठीक ऐसी ही फीलिंग आहना के स्कूल जाने पर भी हुई थी.

Why Dream Girl Hema Malini Cried

एक मां के लिए उसके बच्चे की मुस्कान से बड़ी कोई चीज़ नहीं 
दुनिया की हर क़ीमती चीज़ बच्चे की मासूम-सी हंसी के सामने फीकी पड़ जाती है. जब ईशा का जन्म हुआ, तो मैंने ईश्‍वर को थैंक्यू कहा, क्योंकि मुझे उन्होंने मां बनने का सौभाग्य दिया. ममता का एहसास जगाया. ईशा के ईर्द-गिर्द ही मेरी दुनिया अब सिमट गई थी. मैं भी एक औरत ही थी, दुनिया के लिए मैं स्टार रही हूं, पर मेरी बच्ची के लिए तो मैं स़िर्फ उसकी मां थी. उसकी हर मासूम-सी शरारत पर बेहद प्यार उमड़ आता था. उसकी वो तोतली बोली पर दिल न्योछावर हो जाता था. सच कहूं, तो शब्दों में बयां करना नामुमकिन है इस एहसास को. एक मां ही पहचान सकती है, मां की भावनाओं को.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी- “मैंने ज़िंदगी में बहुत एडजस्टमेंट्स किए हैं”

बच्चे हमें सच्ची ख़ुशी देते हैं
दरअसल, हम ये सोचते हैं कि हम बच्चों को ख़ुशी देते हैं, सुख-सुविधाएं देते हैं, लेकिन सही मायने में वो हमें ख़ुशी देते हैं, उनके बिना हम अपनी ज़िंदगी की कल्पना भी नहीं कर सकते.
बच्चे हमें जीना भी सिखाते हैं और जीने की वजह भी देते हैं. हमारी दुनिया उनकी ख़ुशियों की परिधि में सिमट जाती है और यह सिमटना सकारात्मक होता है. हमें यह कभी नहीं लगता कि क्यों हमें अपने करियर या पर्सनल लाइफ से समझौता करना पड़ रहा है, क्योंकि हमारी प्राथमिकता हमारे बच्चे ही होते हैं.

Why Dream Girl Hema Malini Cried

पैरेंट्स और बच्चों का रिश्ता सबसे अनोखा और प्यारा होता है
मेरी मां भी मुझे लेकर कितना कुछ सोचती थीं, उनका साथ ही था, जिसने मुझे आगे बढ़ाया. आज मैं समझ सकती हूं कि वो भी मुझे लेकर, मेरे करियर, मेरी पर्सनल लाइफ को लेकर इतना क्यों सोचती थीं, क्योंकि उनको मेरी फ़िक्र थी. उनका प्यार ही था, जो कभी डिसिप्लिन, तो कभी हल्की-सी डांट-फटकार के रूप में भी सामने आता था.
पैरेंट्स और बच्चों का रिश्ता सच में सबसे अनोखा और सबसे प्यारा होता है, क्योंकि इसमें स्वार्थ नहीं होता.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी… हां, सपने पूरे होते हैं…! देखें वीडियो

आज मेरी दोनों बेटियां (ईशा और आहना) मां बन गई हैं और वो भी मातृत्व के उसी एहसास को जी रही हैं, जिसे मैंने, मेरी मां ने, उनकी मां ने…. और दुनिया की हर मां ने जीया है. ईश्वर दुनिया की हर औरत को ये सुख दे.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी …और मुझे मोहब्बत हो गई… देखें वीडियो

[amazon_link asins=’B078JXHH52,B077P1257Z,B077P3FB8K,B078B84CLS’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’e40fe5dc-ec82-11e7-b1b8-95ef9e5e2536′]

 

 

हम सभी चाहते हैं कि ज़िंदगी में हमें सब कुछ हासिल हो, हम अक्सर सपने देखते हैं, ख़्वाहिशें पालते हैं और जुट जाते हैं उन्हें पूरा करने में… इसी कशमकश में हमें अक्सर ज़िंदगी में कई समझौते भी करने पड़ते हैं, एडजस्टमेंट्स करने पड़ते हैं, अपने दायरे तय करने पड़ते हैं. इसमें भी यदि हम बात करें एक स्त्री की, तो उसके दायरे व़क्त के साथ-साथ बदलते रहते हैं, उसके एडजस्टमेंट्स थोड़े ज़्यादा होते हैं… शादी के बाद वो नए रिश्तों को समझने के लिए एडजस्ट करती है. पति का साथ मिलता है, बच्चे होते हैं, तो ज़िम्मेदारियां और बढ़ जाती हैं… सबके खाने-पीने का ख़्याल रखने से लेकर सबके जज़्बात की क़द्र करना और सबको ख़ुश रखना जैसे बिन बोले ही उसकी प्राकृतिक ज़िम्मेदारी का हिस्सा बनता चला जाता है… वो रोज़ बिना किसी शिकायत के इन ज़िम्मेदारियों को ओढ़ती चली जाती है… लेकिन कहीं न कहीं उसके अंतर्मन में एक द्वंद भी चलता रहता है कि क्या यही वो ज़िंदगी थी, जिसकी ख़्वाहिश उसे हमेशा से थी…? लेकिन सच कहूं तो हर ख़ुशी की क़ीमत अदा तो करनी ही पड़ती है. सभी की तरह मैंने भी बहुत एडजस्टमेंट किए हैं, लेकिन उसका आज मुझे बहुत फ़ायदा भी मिला है. जब मैं छोटी थी, तो मैं खिड़की से देखती थी कि सारे बच्चे बाहर खेल रहे हैं और मैं डांस प्रैक्टिस कर रही हूं, लेकिन आज पीछे पलटकर देखती हूं, तो लगता है कि अगर उस व़क्त साधना नहीं की होती, तो आज ये कामयाबी नहीं मिलती और इन सबका श्रेय मेरी मां को जाता है.

हेमा मालिनी, Hema Malini, adjustments in life

मैंने फिल्मों में भी जब काम करना शुरू किया, तो एक व़क्त के बाद मुझे भी यह महसूस होने लगा कि एक लड़की की तरह मैं भी अपनी ज़िंदगी जीऊं, शादी करूं, घर बसाऊं… फिर मैंने शादी करने का फैसला कर लिया. जिस तरह ख़्वाहिशें समय के अनुसार बदलती रहती हैं, उसी तरह हमारी ज़िम्मेदारियां भी बदलती रहती हैं और हम उन्हें पूरा करने के लिए फिर अलग तरह से एडजस्टमेंट्स करने लगते हैं.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी… मां बनना औरत के लिए फख़्र की बात होती है

हमारी ज़िंदगी ऐसी ही तो हो गई है, जहां रोज़ाना क्या करें, क्या न करें की एक फेहरिस्त हमें बांधे रखती है. सुकून, शांति और नैसर्गिक सुख से हम कोसों दूर हो चुके हैं. कई बार समय की ज़रूरतें पूरी करते-करते, अपनी ज़िम्मेदारियां निभाने में हम इतने व्यस्त हो जाते हैं कि चाहकर भी अपने लिए, अपनों के लिए व़क्त नहीं निकाल पाते, अपनी इच्छाएं पूरी नहीं कर पाते… मुझे जब भी यह महसूस होने लगता है कि मैंने ख़ुद को ज़रूरत से ज़्यादा व्यस्त कर लिया है, तो मैं समझ जाती हूं कि कहीं न कहीं मेरे जीवन में असंतुलन आ गया है, जिसे स़िर्फ और स़िर्फ मैं ही ठीक कर सकती हूं. यह मुझे मेरे अनुभवों ने सिखाया है. ऐसे में मैं कुछ क़दम पीछे हट जाती हूं और उन चीज़ों के बारे में सोचती हूं, जो मुझे सुख व पूर्णता का आभास कराती हैं… तब मैं अपने नृत्य, ध्यान, योग, साधना के लिए व़क्त निकालती हूं, अपने परिवार के साथ व़क्त बिताती हूं… ऐसा करके मैं ख़ुद में फिर से वही ऊर्जा व शक्ति महसूस करती हूं.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी… हां, सपने पूरे होते हैं…! देखें वीडियो

हेमा मालिनी, Hema Malini, adjustments in life

कोई भी किसी मामूली-सी वजह से भी ख़ुद को खो सकता है, चाहे वो एक अयोग्य-सा रिश्ता हो, असंतुष्ट-सी नौकरी हो, अनुचित ज़िम्मेदारियां हों या कुछ भी इसी तरह का… ऐसे में यह आपको तय करना है कि आपको ख़ुद को कैसे खोजना है. इसके कई आसान से रास्ते हैं- आप एक छोटा-सा वेकेशन ले सकते हैं, या फिर अध्यात्म-योग, डांस या ऐसी ही किसी हॉबी में मन लगा सकते हैं.

ख़ुद मैंने भी यह किया है, रोज़ाना चंद मिनटों तक करती हूं, ताकि अधिक केंद्रित हो सकूं और हर दूसरे महीने कुछ दिनों तक मैं यह ज़रूर करती हूं… और यक़ीन मानिए मैंने ख़ुद को बार-बार ढूंढ़ निकाला है… ख़ुद को पाया है… पूर्णत: परिपूर्ण रूप से!

मुझे ज़िंदगी से कोई शिकायत नहीं… ज़िंदगी को शिद्दत से जीने के लिए एडजस्टमेंट्स करने ही पड़ते हैं, आप उनसे बच नहीं सकते.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी… मेरी ख़ूबसूरती का राज़… देखें वीडियो

[amazon_link asins=’B077GXBRLJ,B077GSV4M6,B0777KQMDK’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’efe6ccf8-cf46-11e7-8f6d-a10bd4c22153′]

Hema Malini, Deepika Padukone, Handwritten Noteड्रीमगर्ल हेमा मालिनी ने दीपिका पादुकोण को लिखा एक ख़त. हाथ से लिखे इस ख़त को दीपिका ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट पर शेयर किया है. पिछले कई दिनों से दीपिका, रणवीर सिंह, शाहिद कपूर स्टारर संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती को लेकर विवाद छिड़ा हुआ है. ऐसे में हेमा मालिनी का ये लेटर दीपिका के लिए एक स्ट्रेंथ बनकर आया है. हेमा मालिनी के ख़त के मुताबिक़ अगर उनके टाइटल ड्रीमगर्ल की कोई हकदार है, तो वो हैं दीपिका पादुकोण. जिस तरह से आज दीपिका फिल्में चुन रही हैं या कर रही हैं, वो हेमा मालिनी को उनकी रज़िया सुल्तान जैसी फिल्मों की याद दिलाती है. दीपिका में उन्हें वो काबिलियत नज़र आती है, इसलिए हेमा मालिनी चाहती हैं कि दीपिका उनकी परंपरा को आगे बढ़ाएं.

कुछ ही दिनों पहले हेमा मालिनी के जन्मदिन पर दीपिका ने हेमा मालिनी की बायोग्राफी बियॉन्‍ड द ड्रीमगर्ल का विमोचन किया था. जहां हेमा मालिनी ने दीपिका की तारीफ़ करते हुए कहा था कि दीपिका एक प्रतिभाशाली और मेहनती कलाकार हैं.

View this post on Instagram

🙏

A post shared by Deepika Padukone (@deepikapadukone) on

पद्मावती को लेकर चल रहे विवाद में अब दीपिका का बयान भी सामने आया है, उन्होंने कहा कि कोई भी चीज़ इस फिल्म को रिलीज़ होने से नहीं रोक सकती है.

यह भी पढ़ें: Super Sweet: तैमूर की बहन इनाया नवमी खेमू की पहली तस्वीर

सलमान खान भी इस फिल्म को लेकर संजय लीला भंसाली को सपोर्ट करने के लिए आगे आए हैं. सलमान ने एक इंटरव्यू में कहा कि बिना फिल्म देखे कोई कैसे फैसला कर सकता है. उन्होंने यह भी कहा कि संजय लीला भंसाली कभी ग़लत फिल्में नहीं बनाते हैं, उनकी फिल्मों में कुछ ग़लत नहीं होता है. सेंसर बोर्ड को इसमें आगे आकर बात करनी चाहिए.

ख़बरे हैं कि फिल्म पद्मावती का विरोध करने वाले लोगों को फिल्म में एक ड्रीम सीक्वेंस में पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच कुछ इंटीमेट सीन फिल्माए गए है, जिसका विरोध किया जा रहा है. साथ ही इस फिल्म में इतिहास के साथ भी छेड़छाड़ करने के भी आरोप लग रहे हैं.

[amazon_link asins=’B00YK9SAOA,B071W526V3,B010XW7P8E,B01B6ASA90′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’ccd36921-c9da-11e7-8031-cd9bceb2b1eb’]

न्यू मॉमी ईशा देओल (Esha Deol) का आज जन्मदिन है. 2 नवंबर 1981 को बॉलीवुड के सुपरस्टार धर्मेंद्र और हेमामालिनी (Hema Malini) के घर जन्मी ईशा को लिए इस साल का बर्थडे बेहद ख़ास है. मां बनने के बाद ये उनका पहला जन्मदिन होगा. अपनी प्यारी-सी बेटी के साथ वो अपना जन्मदिन मना रही हैं.

Happy Birthday Esha Deol

ईशा मदरहुड को कितना एंजॉय कर रही हैं, ये उनकी इंस्टाग्राम की इस पोस्ट को देखकर ही समझ आ जा रहा है. ईशा ने एक पिक्चर शेयर करते हुए लिखा, “इन मॉमी मोड, इससे जुड़ा हर पल एंजॉय कर रही हूं.”

यह भी पढ़ें: Pics: एेसे मनाया किंग खान ने अपना बर्थडे

हेमामालिनी ने ईशा को बड़े ही क्यूट अंदाज़ में विश किया. उन्होंने इंस्टाग्राम पर ईशा के साथ अपनी एक ब्लैक एंड व्हाइट पिक्चर शेयर करते हुए लिखा, “आज मेरी बड़ी बेटी ईशा का जन्मदिन है. मैं सर्वशक्तिमान से प्रार्थना करती हूं कि वो ईशा को हमेशा स्वस्थ, ख़ुश और प्यार से रखें. वह मेरे लिए ईश्वर का दिया हुआ सबसे क़ीमती उपहार है, जिसके लिए उनका जितना भी धन्यवाद करूं वो कम है. हैप्पी बर्थडे टु यू माय चाइल्ड.”

मेरी सहेली की ओर से न्यू मॉमी ईशा को ए वेरी हैप्पी बर्थडे.

[amazon_link asins=’B00PLQXLB8,B01BJMDMTI,B01A8IIO9W,B06WWJJG38′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’50d3b648-bfb4-11e7-a49c-13703f19d86f’]

Esha Deol names newborn daughter Radhya

ईशा देओल (Isha Deol) और भरत तख्तानी (Bharat Takhtani) ने अपनी परी का नाम रख दिया है. ईशा के फैंस उनकी बेटी का नाम जानने को बेकरार थे. अब नानी हेमा मालिनी (Hema malini) ने अपनी नातिन के नाम का खुलासा किया है. ईशा और भरत ने अपनी नन्हीं परी का नाम राध्या (Radhya) रखा है. हेमा मालिनी ने इस ख़ास नाम को रखने के पीछे की वजह भी बताई, उन्होंने ने कहा कि मथुरा उनका संसदिय क्षेत्र है और ये राधा-कृष्ण की नगरी भी है. मथुरा के लोग इस बच्ची के जन्म से काफ़ी खुश हैं, इसलिए हमने अपनी बेटी का नाम राध्या रखा है.

[amazon_link asins=’B06XY98VPT,B000OV0X3Y,B00000IZQP,B00QGEN6C8′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’42555c46-b8ae-11e7-9d0f-6949934b71e2′]

20 अक्टूबर को ईशा ने बेटी को जन्म दिया था, जिसके बाद हेमा मालिनी ने टि्वटर पर अपनी नातिन के आने की ख़ुशी को ज़ाहिर करते हुए लिखा था कि उनके घर लक्ष्मी आई है.

यह भी पढ़ें: Wedding Bells! दिसंबर में शादी कर सकते हैं विराट और अनुष्का?

बहुत-से अनछुए एहसास पलने लगते हैं आंखों में… कुछ रेशमी ख़्वाब पलकों पर उतरने लगते हैं, कुछ शबनमी बूंदें दिल को भिगोने लगती हैं… एक मासूम-सी खिलखिलाहट न जाने कितने अरमान, कितनी ख़्वाहिशें जगा जाती हैं और मन बार-बार यही कहता है कि हां, ये  नन्हीं-सी जान ही मेरी पूरी दुनिया है… मेरा अक्स है… मेरे वजूद का हिस्सा है… एक औरत जब मातृत्व को महसूस करती है, तो उसके लिए बहुत कुछ बदल जाता है… और वो इस बदलाव को लेकर बेहद उत्साहित भी रहती है… लेकिन कहीं न कहीं आज भी हमारे समाज की सोच उन बेड़ियों की जकड़न से ख़ुद को छुड़ा नहीं पाई है, जिसमें एक स्त्री को मात्र उसके जिस्म से ही पहचाना जाता है और उसके मां बनने को उसके सपनों को त्यागने का कारण समझा जाता है.

Being A Mother Is A Gift Hema Malini
जब एक स्त्री मां बनती है, तो उसे पल-पल यह एहसास करवाया जाता है कि अब तुम्हें बच्चे और करियर में से किसी एक को ही चुनना होगा, क्योंकि करियर पर ध्यान दोगी, तो तुम अच्छी मां नहीं बन पाओगी और यदि घर को तवज्जो दोगी, तो करियर के साथ नाइंसाफ़ी होगी… ऐसे में आज की अधिकतर कामकाजी महिलाएं मन में एक अपराधबोध के साथ जीती हैं कि वो चाहकर भी एक अच्छी मां नहीं बन पा रहीं… या कहीं वो अपने बच्चे के साथ नाइंसाफ़ी तो नहीं कर रहीं… इसी वजह से कई महिलाएं अपना करियर, अपने ख़्वाबों को मन के किसी कोने में दफ़न कर देती हैं… लेकिन अगर मैं बात करूं अपने अनुभव की, तो हर स्त्री अपने ख़्वाबों को जीते हुए भी मातृत्व के ख़ूबसूरत एहसास को भी जी सकती है… बस, ज़रूरत होती है, तो थोड़े-से बदलाव की और थोड़ी प्लानिंग की… अपनी सोच को समय व ज़रूरत के अनुसार बदलकर देखें, तो आप सब कुछ पा सकते हैं.
क्या ज़रूरी है… क्या ग़ैरज़रूरी? हमारी प्राथमिकताएं क्या हैं? हमारी फ़िलहाल की ज़रूरतें क्या हैं… यह ख़ुद हमें ही तय करना है, लेकिन हमारे समाज में अक्सर हमारे लिए ये तमाम पहलू ‘दूसरे’ तय करते नज़र आते हैं. लेकिन हक़ीक़त तो यही है कि हमारी ज़रूरतें, हमारी वर्तमान की प्राथमिकताएं भला हमसे बेहतर कोई और कैसे जान पाएगा? यह हमें ही तय करना होगा कि हमें ज़िंदगी के किस पड़ाव पर किस बात को कितनी अहमियत देनी है और किसे कुछ समय के लिए अपनी प्राथमिकताओं की फेहरिस्त में थोड़ा-सा पीछे करना है.
कुछ व़क्त पहले मैंने एक तस्वीर देखी थी, जिसमें डचेस ऑफ केम्ब्रिज केट मिडलटन अपने पति विलियम और अपने न्यूबॉर्न बेबी के साथ खिलखिलाती व बेहद ख़ूबसूरत नज़र आ रही थीं. केट के चेहरे पर मातृत्व की ख़ुशी साफ़-साफ़ झलक रही थी. लेकिन बेहद दुख की बात यह रही कि इन तमाम सकारात्मक बातों को छोड़कर अख़बारों व ख़बरों की सुर्ख़ियां बटोरीं केट के मां बनने के बाद हुए शारीरिक बदलावों ने… बहुत कुछ इस बात को लेकर कहा व लिखा गया कि आख़िर केट ने अपने मम्मी टम्मी को छिपाने की कोशिश क्यों नहीं की…
यह विडंबना ही है कि आख़िर एक स्त्री के मातृत्व को ये समाज क्यों नहीं सहजता से ले पाता? और अगर वो स्त्री कोई सेलिब्रिटी है, तो हर कोई उस पर तंज कसना अपना अधिकार समझ लेता है.
दरअसल, ऐसा ही कुछ ऐश्‍वर्या राय के बारे में भी कहा गया था. मां बनने के बाद उनके बढ़े हुए वज़न को लेकर काफ़ी चर्चा की लोगों ने और यही नहीं और भी बहुत कुछ कहा गया कि किस तरह से सेलिब्रिटीज़ को अपने मातृत्व का ख़ामियाज़ा चुकाना पड़ता है.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी… हां, सपने पूरे होते हैं…! देखें वीडियो

Being A Mother Is A Gift Hema Malini
यह सोच ही दरअसल ज़िम्मेदार है, किसी भी स्त्री के मन में बेवजह अपराधबोध की भावनाओं के बीज बोने के लिए. उसे न जाने क्यों कटघरे में खड़ा कर दिया जाता है… क्या मां बनना अपराध है? क्या सेलिब्रिटी होना गुनाह है? मां बनने के बाद क्यों ये मान लिया जाता है कि अब करियर ख़त्म हो गया? क्यों हर व़क्त उस स्त्री के शरीर व उसमें हुए बदलावों पर ताने कसे जाते हैं? मां बनना किसी भी स्त्री के लिए प्रकृति की सबसे ख़ूबसूरत कृति है… उसके बाद शरीर और मन दोनों बदलता है, तो इसमें ग़लत क्या है… क्यों नहीं किसी भी स्त्री को इस अनोखे एहसास के साथ जीने दिया जाता? क्यों बेवजह सवालों की बौछार उस पर कर दी जाती है… उसे कम से कम अपने मातृत्व के अनोखे पलों को शिद्दत से महसूस तो करने दो… व़क्त के साथ सारे सवाल हल हो जाएंगे… वो ख़ुद तय करेगी कि उसे आगे कब, कैसे और क्या करना है…
सालों पहले जब मेरी बड़ी बेटी ईशा का जन्म हुआ था, तब सबसे पहले मुझसे भी यही पूछा गया था कि क्या मैं अब अपने करियर को प्राथमिकता नहीं दूंगी? क्योंकि हमारे समाज में यही मान्यता है कि मां बनने का अर्थ है आपको अपने सपनों से, अपनी रचनात्मकता और अपनी ख़्वाहिशों से समझौता करना पड़ेगा!
मैंने ख़ुशी-ख़ुशी मातृत्व को चुना, क्योंकि उस व़क्त मेरी प्राथमिकता वही थी. मैं यह जानती थी कि कुछ समय के लिए मुझे अपने काम से ब्रेक लेना ही होगा, और वैसे भी यह मेरी चॉइस थी और मैंने अपनी ख़ुशी से अपने मातृत्व को स्वीकारा था. वैसे भी मैं जो भी करती हूं, उसमें अपना शत-प्रतिशत देती हूं, चाहे वो करियर हो या फिर परिवार. मैं उस समय मां बनने के उस एहसास को पूरी तरह से जीना चाहती थी. मेरे लिए यह बात कोई मायने नहीं रखती थी कि मैं लंबे समय के लिए स्पॉटलाइट में नहीं रहूंगी, क्योंकि मेरे ज़ेहन में कभी यह बात नहीं आई कि मेरा करियर और मेरा मातृत्व एक-दूसरे के ख़िलाफ़ हैं. मैं पूरी तरह से आश्‍वस्त थी कि जब समय व हालात सही होंगे, तो मैं अपने काम पर दोबारा ज़रूर लौटूंगी, मुझे कुछ सामंजस्य बैठाने होंगे, कुछ एडजेस्टमेंट्स करने होंगे और वो मैं ज़रूर करूंगी.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी… मेरी ख़ूबसूरती का राज़… देखें वीडियो 

[amazon_link asins=’B0761TM3K5,B0761SQ8ZD,B074L236VX’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’60528504-b3e6-11e7-8b55-c9876da23d9b’]

Being A Mother Is A Gift Hema Malini
मैं ही क्या, किसी भी औरत के लिए अपने बच्चे से ज़रूरी कुछ नहीं होता. मेरे लिए मां बनना एक सपने के पूरे होने जैसा था, इसलिए मैंने अपना पूरा ध्यान अपनी बेटियों की परवरिश पर लगा दिया. बच्चों को मां की ज़रूरत ज़्यादा होती है, मां की कमी को कोई पूरा नहीं कर सकता, इसलिए मां को अपना अधिक से अधिक समय अपने बच्चे को देना चाहिए. जब मेरी बेटियां छोटी थीं और मुझे शूटिंग पर जाना पड़ता था, वो मुझे जाने नहीं देती थीं. मुझे भी उन्हें छोड़कर जाना अच्छा नहीं लगता था. फिर मैं कार में बेटी को राउंड पर ले जाती थी और जब वो सो जाती थी, तब मैं चुपके से शूटिंग के लिए निकल जाती थी.
अपनी बेटियों का बचपन अब मैं अपने नवासे में देखती हूं. हम सब चाहे उसे कितना ही प्यार दे दें, लेकिन उसे अपनी मां अपने पास ही चाहिए. मां बच्चे की सबसे बड़ी ज़रूरत होती है और औरत के लिए भी मां बनना सम्मान की बात होती है. मैं ख़ुशक़िस्मत थी कि मैं किसी भुलावे में या भ्रम में नहीं जी रही थी कि मैं चाहूं, तो सब कुछ एक साथ ही हासिल कर सकती हूं. मैं इस तथ्य से पूरी तरह वाक़िफ़ थी समय के साथ-साथ आपकी ज़रूरतें व ङ्गसब कुछफ की परिभाषा बदल जाती है. आपकी सोच अधिक परिपक्व व केंद्रित हो जाती है. आप यह तय कर पाते हो कि अभी आपको क्या चाहिए और भविष्य में आप किस तरह से अपनी प्राथमिकताएं बदल पाओगे. वर्तमान में जो चीज़ें आपके लिए गौण हो चुकी हैं, उन्हें आप आसानी से पहचान पाते हो, ऐसे में तमाम ग़ैरज़रूरी बातों और चीज़ों को आप पीछे छोड़कर आगे बढ़ सकते हो. ऐसे में आप अपनी नई भूमिकाओं और ज़रूरतों के अनुसार आसानी से अपनी राह चुन सकते हो.
मैंने अपने अनुभवों से यही सीखा है कि उन तमाम नकारात्मक लोगों को नज़रअंदाज़ करें, जो आपके मातृत्व के चुनाव को निराशाजनक कहते हैं या फिर यह मानते हैं कि आपने मातृत्व को अपनी ज़िंदगी में सबसे अधिक अहमियत देकर अपने करियर को नज़रअंदाज़ किया है, जिससे आप करियर के प्रति उतने समर्पित नहीं रह पाते, जितने पहले थे. मैंने यही पाया है कि मेरी ज़िंदगी में सबकी अपनी-अपनी जगह व अहमियत है. न किसी की अहमियत कम होती है, न ही ज़्यादा. मेरा यही कहना है कि आप सब कुछ ज़रूर पा सकते हो, लेकिन ज़ाहिर है कि एक ही समय पर सब कुछ नहीं.

यह भी पढ़ें: हेमा मालिनी …और मुझे मोहब्बत हो गई… देखें वीडियो

[amazon_link asins=’B075JH2QDW,B01NBLO7O4,B01G1NRO1W’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’e22c063c-b3e8-11e7-b195-7fd574539ddc’]

ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी (Dream Girl Hema Malini) का 69वां जन्मदिन 16 अक्टूबर 2017) कई मायने में ख़ास रहा. सबसे ख़ास बात ये थी उनके बर्थडे के ख़ास मौके पर पद्मावती यानी दीपिका पादुकोण (Dipika Padukone) ने उनकी बायॉग्रीफी (Biography) बियॉन्ड द ड्रीमगर्ल (Beyond The Dream girl) लॉन्च की. राम कमल मुखर्जी द्वारा लिखी गई इस किताब में ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी की ज़िंदगी के कई अनछुए पहलुओं को छूने की कोशिश की गई है. हेमा मालिनी फिल्म इंडस्ट्री में 50 साल पूरे करने जा रही हैं और इस ख़ास अवसर पर अमिताभ बच्चन, लता मंगेशकर, विद्या बालन, अर्जुन कपूर सहित 50 सेलिब्रिटीज़ ने उन्हें बाधाई दी. आइए, जानते हैं इस ख़ास मौके की स्पेशल बातें.

Dream Girl Hema Malini Biography

* ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी हो गई हैं 69 साल की. 16 अक्टूबर 2017 यानी सोमवार के दिन बहुत ही ख़ास अंदाज़ में उनका बर्थडे सेलिब्रेट किया गया.
* उनके जन्मदिन के ख़ास मौके पर उनकी बायोग्राफी लॉन्च की गई.
* भाजपा सांसद हेमा मालिनी की बायोग्राफी बियॉन्ड द ड्रीमगर्ल की प्रस्तावना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिखी है.
* हेमा मालिनी ने ट्वीट किया कि वो अपनी बायोग्राफी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रस्तावना लिखे जाने से बहुत सम्मानित महसूस कर रही हैं.
* हेमा जी की बायोग्राफी राम कमल मुखर्जी ने लिखी है, इससे पहले राम कमल ने हेमा मालिनी पर एक और किताब दिवा अनवेल्ड भी लिखी है.

Dream Girl Hema Malini Biography
* हेमा मालिनी की बायोग्राफी बियॉन्ड द ड्रीमगर्ल को लॉन्च किया रानी पद्मावती यानी ख़ूबसूरत दीपिका पादुकोण ने. इस ख़ास मौके पर एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण ने बनारसी साड़ी पहनी थी, उनका ये ख़ूबसूरत अंदाज़ उनकी आनेवाली फिल्म पद्मावती में उनके लुक से मेल खा रहा था.
* इस इवेंट में हेमा मालिनी और दीपिका पादुकोण के बीच जबरदस्त केमेस्ट्री देखने को मिली.

यह भी देखें: हेमा मालिनी… हां, सपने पूरे होते हैं…! देखें वीडियो 

Dream Girl Hema Malini Biography
* इस ख़ास मौके पर हेमा मालिनी और दीपिका पादुकोण ने अपनी-अपनी हिस्टोरिक फिल्मों और उनके बजट पर ख़ूब सारी बातें की. हेमा जी ने बताया कि उनके समय में किस तरह कम बजट में अच्छी फिल्में बनाने के लिए मेहनत की जाती थी.
* हेमा जी ने कहा कि नंबर 1 पोजिशन में रहने वाले अक्सर अकेले हो जाते हैं, क्योंकि 1 नंबर भी अकेला ही होता है. उनके काम का कमिटमेंट उन्हें अकेला कर देता है.
* एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण और हेमा मालिनी दोनों ने माना कि फेलियर के दौर से गुजरते हुए जब डिप्रेशन होने लगता है, तो उससे उबरना आसान नहीं होता. इसके लिए हमें ख़ुद ही कोशिश करनी पड़ती है.

यह भी देखें: हेमा मालिनी …और मुझे मोहब्बत हो गई… देखें वीडियो 

Dream Girl Hema Malini Biography
* अपने रिश्ते और प्यार-मोहब्बत की बातों को लेकर दीपिका ने बताया कि रोमांटिक रिश्ते बहुत कॉम्प्लिकेटेड होते हैं. ऐसे में एक ऐसा पार्टनर ढूंढ़ना जो आपको समझ सके, थोड़ा मुश्किल है.
* जब हेमा मालिनी की बायोग्राफी के लेखक राम कमल ने बताया कि हेमा मालिनी के माता-पिता ने उस समय के अखबार में हेमा मालिनी के लिए वैवाहिक विज्ञापन पोस्ट किया था, तो दीपिका पादुकोण ने हंसने हुए कहा, प्लीज़ इस बारे में बात मत कीजिए, यदि मेरे पिताजी (प्रकाश पादुकोण) यह सुनेंगे तो वो भी मेरी शादी के बारे में बात करने लग जाएंगे.

[amazon_link asins=’B01K4K6266,B0761TM3K5,B0723CP1HF’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’752a749f-b333-11e7-9d02-e1c344c3910c’]

Dream Girl Hema Malini Biography
* हेमा मालिनी इस साल फिल्म इंडस्ट्री में 50 साल पूरे करने जा रही हैं, इस ख़ास मौ़के पर अमिताभ बच्चन, लता मंगेशकर, विद्या बालन, अर्जुन कपूर सहित ग्लैमर इंडस्ट्री के 50 सलिब्रिटीज़ ने हेमा जी बधाई और शुभकामनाएं दी.
* हेमा मालिनी की बायोग्राफी के लॉन्च पर उनकी दोनों बेटियां और दामाद ईशा-भरत तथा आहना-वैभव भी मौजूद थे.

यह भी देखें: हेमा मालिनी… मेरी ख़ूबसूरती का राज़… देखें वीडियो

Dream Girl Hema Malini Biography
* इस मौके पर जूही चावला, मधु, अल्का याज्ञिक, रमेश सिप्पी, किरण जुनेजा आदि कई सेलिब्रिटीज़ मौजूद थे.
* हेमा मालिनी का बर्थडे केक भी इसी समारोह में काटा गया.

Dream Girl Hema Malini Biography

Dream Girl Hema Malini Biography

[amazon_link asins=’9352773225,8174364676,1547118121′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’ca2a19be-b333-11e7-9baf-637e969a6f8c’]