Tag Archives: Home remedies

बच्चों के आम रोगों के उपयोगी घरेलू नुस्ख़े (Useful Home Remedies For Common Diseases Of Children)

जन्म के बाद से पांच वर्ष की उम्र तक का समय बच्चे की परवरिश की दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण होता है. इस दौरान ही उसके रक्त, मांस, सभी अवयव, मस्तिष्क आदि का विकास होता है. ऐसे समय में थोड़ी-सी लापरवाही या आम बीमारियां (Common Diseases) उनके शारीरिक या मानसिक विकास को रोक सकती हैं. आइए, इस उम्र में बच्चों (Children) को होनेवाली छोटी-मोटी समस्याओं के घरेलू इलाज (Home Remedies) के बारे में जानते हैं.

Common Diseases Of Children

गैस-कब्ज़

* आधा टीस्पून लहसुन के रस में आधा चम्मच घी मिलाकर पिलाएं. तुरंत गैस से राहत मिलेगी.

* चुटकीभर सेंकी हुई हींग का चूर्ण घी में मिलाकर चटाने से शिशु को गैस से आराम मिलता है.

* जीरा या अजवायन को पीसकर पेट पर लेप करने से वायु का अवरोध दूर होता है और बच्चा राहत महसूस करता है.

* हींग को भूनकर उसे पानी में घिसकर नाभि के चारों ओर लेप करें. गैस का शमन होगा और बच्चा चैन की सांस लेगा.

* रात को बीज निकाला हुआ छुहारा पानी में भिगो दें. सुबह उसे हाथ से मसलकर निचोड़ लें और छुहारे के गूदे को फेंक दें. छुहारे के इस पानी को बच्चे को आवश्यकतानुसार 3-4 बार पिलाएं. इससे कब्ज़ की शिकायत दूर होगी.

* बड़ी हरड़ को पानी के साथ घिसकर उसमें चुटकीभर काला नमक मिलाएं. इसे गुनगुना करके आवश्यकतानुसार दिन में 2-3 बार बच्चे को दें. अवश्य लाभ होगा.

खांसी-ज़ुकाम

* शिशु को खांसी-ज़ुकाम हो, तो थोड़ा-सा सरसों का तेल प्रतिदिन उसकी छाती पर मलें. शीघ्र ही आराम होगा.

* थोड़ा-सा सोंठ का चूर्ण गुड़ व घी के साथ मिलाकर चटाने से बच्चे की खांसी-ज़ुकाम ठीक होती है.

* आधा इंच अदरक व 2 तेजपत्ता को एक कप पानी में भिगोकर काढ़ा बनाएं. इसमें एक चम्मच मिश्री मिलाकर 1-1 चम्मच की मात्रा में दिनभर में तीन बार पिलाएं. खांसी-ज़ुकाम दो दिन में ठीक हो जाएगा.

* बच्चे की छाती पर कफ़ जम जाए, तो उसकी छाती पर थोड़ा गाय का घी मलें. इससे कफ़ पिघलकर बाहर आ जाएगा और बच्चे को आराम मिलेगा.

यह भी पढ़े: जानें हींग के 13 आश्‍चर्यजनक फ़ायदे (13 SURPRISING BENEFITS OF HING OR ASAFOETIDA)

बुख़ार

* कालीमिर्च के चूर्ण में 125 मि.ग्रा. तुलसी का रस व शहद मिलाकर दिन में तीन बार दें.

* बुख़ार तेज़ हो, तो प्याज़ को बारीक़ काटकर पेट व सिर पर रखें. बुख़ार कम होने लगेगा.

* बुख़ार में सिरदर्द हो, तो गर्म पानी या दूध में सोंठ का चूर्ण मिलाकर सिर पर लेप करें या जायफल पानी में पीसकर लगाएं.

* बुख़ार में पसीना अधिक हो, हाथ-पैरों में ठंड लगे, तो सोंठ के चूर्ण को हल्के हाथों से लगाएं. लाभ होगा.

मतली

* 1-1 टीस्पून अदरक का रस, नींबू का रस और शहद को मिलाकर चटाएं.

* आधा-आधा टीस्पून अदरक व प्याज़ का रस मिलाकर पिलाएं.

* चुटकीभर अजवायन और लौंग का चूर्ण लेकर शहद के साथ चटाएं.

* छोटी इलायची को भूनकर उसका कपड़छान चूर्ण बनाएं. चुटकीभर चूर्ण आधा चम्मच नींबू के रस में मिलाकर खिलाएं.

* इलायची के छिलकों को जलाकर उसकी भस्म चटाने से भी मतली में लाभ होता है.

यह भी पढ़े: स्वाद व गुणों से भरपूर अदरक (Ginger- A Versatile Natural Home Remedy)

नींद में डरना

* सर्दी के मौसम में एक से दो ग्राम सौंफ पानी में उबालकर उसे छान लें. इसे रात को सोने से पहले बच्चे को पिला दें. इससे नींद में डरने की शिकायत दूर होगी.

* गर्मी के मौसम में छोटी इलायची का एक ग्राम अर्क सौंफ के उबले हुए पानी के साथ पिलाएं. नींद में डरने की आदत छूट जाएगी.

सुपर टिप

आधा चम्मच तुलसी के रस में आधा चम्मच शहद मिलाकर दिन में तीन बार बच्चे को पिलाने से सर्दी-खांसी में तुरंत राहत मिलती  है.

– परमिंदर निज्जर

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazana

5 चीज़ें स्किन को रखती हैं हेल्दी (Skin Care: 5 Beauty Tips For Healthy Skin)

5 चीज़ें स्किन को रखती हैं हेल्दी और आपको अगर इन 5 चीज़ों के बारे में पता हो, तो आप आसानी से हेल्दी स्किन (Beauty Tips For Healthy Skin) पा सकती हैं. हेल्दी स्किन के लिए अच्छा खान-पान का ध्यान रखने के अलावा कुछ ऐसे हर्ब्स (जड़ी बूटियां) और उनमें मौजूद पोषक तत्व भी हैं जिन्हें स्किन पर लगाकर त्वचा को हेल्दी बनाया जा सकता है. कौन-सी 5 चीज़ें त्वचा को हेल्दी बनाती हैं? आइए, हम आपको बताते हैं.

Beauty Tips For Healthy Skin

1. एलोवेरा जेल
रूखी त्वचा के लिए एलोवेरा के पत्ते से निकाला हुआ जेल बेहतरीन काम करता है. इसका इस्तेमाल छोटे-मोटे घाव व खरोच के लिए भी किया जा सकता है. एलोवेरा जेल खुजली, त्वचा का रूखापन, त्वचा का लाल होना या सूजन जैसी समस्या के लिए भी कारगर है. इसे सीधे स्किन पर लगाएं.

2. इवनिंग प्राइमर ऑयल
इसमें मौजूद फैटी एसिड स्किन टोन को अच्छा बनाता है. साथ ही ये रूखी त्वचा, एक्ज़िमा आदि में भी उपयोगी है. इसके कैप्सूल को आप खा भी सकती हैं या इसे काटकर स्किन पर भी लगा सकती हैं.

3. हल्दी
हल्दी लगाने से स्किन का रूखापन और उससे होने वाली खुजली में फायदा होता है. इसके लिए हल्दी को सिर्फ पानी में मिलाकर पेस्ट बनाएं और स्किन पर लगाएं.

यह भी पढ़ें: 30+ महिलाओं के लिए बेस्ट स्किन केयर रूटीन (The Best Skin Care Routine For Your 30s)

 

4. पिसी हुई अलसी
पिसी हुई अलसी खाने से स्किन का रूखापन, एक्ने व एक्ज़िमा की समस्या कम होती है. ये जोड़ों के दर्द और दिल की सेहत के लिए भी फायदेमंद है.

5. विटामिन ई
हेल्दी स्किन पाने के लिए विटामिन ई ज़रूरी है. आप विटामिन ई की कैप्सूल का भी प्रयोग कर सकती हैं, बाज़ार में आप विटामिन ई की कैप्सूल उपलब्ध हैं. आप विटामिन ई की कैप्सूल खा भी सकती हैं और स्किन पर लगा भी सकती हैं.

यह भी पढ़ें: क्या पीरियड्स के दौरान वैक्सिंग नहीं करना चाहिए? (Can We Get Waxing Done During Periods?)

 

30+ महिलाओं के लिए बेस्ट स्किन केयर रूटीन (The Best Skin Care Routine For Your 30s)

Best Skin Care Routine

30+ के बाद त्वचा को ख़ास देखभाल (Best Skin Care Routine) की ज़रूरत पड़ती है. 30+ के बाद यदि त्वचा की ठीक से देखभाल न की जाए, तो चेहरे पर बढ़ती उम्र के निशान साफ़ दिखाई देने लगते हैं. 30+ के बाद त्वचा की देखभाल करने के लिए क्या करना चाहिए? आइए, हम आपको बताते हैं.

Best Skin Care Routine

* इस उम्र में ड्राई स्किन की समस्या से बचने के लिए त्वचा को हाइड्रेट रखना ज़रूरी है. अतः ढेर सारा पानी और फलों का जूस पीएं.
* बहुत ज़्यादा स्क्रब न करें. हफ़्ते में दो बार होममेड स्क्रब (दूध, आटे और शहद को मिलाकर) लगाएं, मगर इससे ज़्यादा नहीं.
* पिंपल्स इस उम्र में भी होते हैं. अतः चेहरे की क्लिंज़िंग करें. इसके लिए टमाटर, आलू, दूध, शहद जैसे नेचुरल क्लिज़ंर का इस्तेमाल बेहतर होगा.
* त्वचा में कसाव लाने के लिए टोनर का इस्तेमाल करें.
* डेड स्किन हटाने के लिए चेहरे को हफ़्ते में दो बार एक्सफोलिएट करें. एक्सफोलिएट करने के बाद टोनर लगाएं.
* इस उम्र में त्वचा पर धूप का असर ज़्यादा दिखता है इसलिए 30 एसपीएफ या इससे ज़्यादा वाला सनस्क्रीन लगाएं. वरना स्किन टैन हो जाएगी.

यह भी पढ़ें: मेरे नाखून बार-बार टूट क्यों जाते हैं? (10 Nail Care Tips Every One Should Know)

5 ब्यूटी टिप्स करते हैं ड्राई स्किन की देखभाल
* गुनगुने पानी से नहाएं, गर्म पानी से नहीं.
गर्म पानी स्किन में मौजूद ज़रूरी ऑयल को नष्ट कर देता है.
* नहाने के पहले स्किन पर बेबी ऑयल या ऑलिव ऑयल का मसाज करें और नहाने के बाद किसी ऐसी क्रीम से मसाज करें जिसमें एसेन्शियल ऑयल मौजूद हों. ऐसा करने से स्किन में मॉइश्‍चर का संतुलन बना रहता है.
* आंख व मुंह के आसपास ढेर सारी क्रीम लगाएं.
* बहुत स्ट्रॉन्ग साबुन या डिटरजेन्ट के इस्तेमाल से बचें, क्योंकि ये स्किन का रूखापन बढ़ा देते हैं.
* फ्लाइट पर ट्रैवल के पहले स्किन को अच्छी तरह मॉइश्‍चराइज़ करें. प्रेशर व तापमान में बदलाव की वजह से स्किन की नमी कम होने लगती है.

यह भी पढ़ें: होममेड लिप ग्लॉस और लिप प्रोटेक्टिव क्रीम अब मिनटों में घर पर बनाएं (Homemade Lip Gloss And Lip Protective Cream)

 

ग्लोइंग स्किन के लिए खाएं 10 फूड, देखें वीडियो:

ऑयल फ्री स्किन पाने के 5 आसान घरेलू उपाय (Get Rid Of Oily Skin With These 5 Home Remedies)

ऑयली स्किन (Oily Skin) वालों को पिंपल्स, ब्लैक हेड्स, चिपचिपापन जैसी जैसी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जिसके कारण कई बार उनका कॉन्फिडेंस भी कम हो जाता है. यदि आपकी स्किन भी ऑयली है, तो आपको ये ब्यूटी प्रॉब्लम्स (Beauty Problems) होती होंगी, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा, क्योंकि हम आपको बता रहे हैं ऑयल फ्री स्किन पाने के 5 आसान घरेलू उपाय (Home Remedies). ऑयल फ्री स्किन पाने के ये 5 आसान घरेलू उपाय आपकी स्किन से एक्स्ट्रा ऑयल हटाकर आपको देंगे एक नया निखार. ऑयल फ्री स्किन पाने के 5 आसान घरेलू उपाय आप भी ज़रूर ट्राई करें.

Oily Skin Remedies

1) ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए नींबू के रस में चंदन पाउडर और दही मिलाकर लगाएं.
2) अंडे की सफ़ेदी में थोड़ा कपूर घोलकर इसकी पतली परत चेहरे पर लगाएं. सूखने पर ठंडे पानी से धो लें. कपूर मिलाने से अंडे की महक नहीं आएगी.
3) चोकर, बेसन, 1 टीस्पून ऑलिव ऑयल और चुटकीभर हल्दी पाउडर मिलाकर चेहरे पर हल्के हाथ से मसाज करने से मैल व अतिरिक्त तेल दोनों निकल जाएंगे.
4) ऑयली स्किन को साफ़ करने के लिए 1 खीरे का रस, 2 टीस्पून व्हाइट विनेगर, फिटकरी पाउडर, थोड़ा-सा कपूर और 2 अंडे की स़फेदी को एकसाथ ब्लेंड करके लगाएं. रोमछिद्र साफ़ हो जाएंगे और आप फ्रेश महसूस करेंगी.
5) 1 टेबलस्पून ओटमील पाउडर में आधा कद्दूकस किया हुआ सेब और दूध मिलाकर चेहरे और गले पर लगाएं. 15 मिनट बाद हल्का मसाज करते हुए छुड़ाएं.

यह भी पढ़ें: होममेड लिप ग्लॉस और लिप प्रोटेक्टिव क्रीम अब मिनटों में घर पर बनाएं (Homemade Lip Gloss And Lip Protective Cream)

 

10 होममेड फेस पैक से पाएं इंस्टेंट ग्लो, देखें वीडियो:

बच्चों को गैस से राहत दिलाने के 5 अचूक घरेलू नुस्ख़े (5 Home Remedies To Treat Gas Problems In Children)

बच्चों (Children) को गैस (Gas) से राहत दिलाने के 5 अचूक घरेलू नुस्ख़े (Home Remedies) अपनाकर आप भी अपने बच्चे को मिनटों में गैस से राहत दिला सकती हैं. गैसे के कारण बच्चों को दूध पीने, सोने आदि में तकलीफ़ होती है. पेट में गैस जमा होने के कारण बच्चे असहज महसूस करते हैं और लगातार रोते रहते हैं. ऐसे में घरेलू नुस्ख़े अपनाकर आप अपने बच्चे को गैस की समस्या से राहत दिला सकती हैं.

Gas Problems In Children

शिशु को क्यों होती है गैस की समस्या?
अक्सर शिशु जब दूध पीता है, तो दूध के साथ बहुत सारी हवा भी निगल लेता है. यह हवा ही शिशु के पेट की गैस है. पेट में गैस हो जाने से शिशु असहज महसूस करने लगता है और रोने लगता है. पेट में गैस होने से शिशु ठीक से दूध नहीं पी पाता, सो नहीं पाता, बस रोता रहता है.

शिशु को गैस की समस्या से कैसे बचाएं?
शिशु को गैस की समस्या से बचाने के लिए दूध पिलाने के बाद उसे डकार ज़रूर दिलाएं. इसके लिए दूध पिलाने के बाद शिशु को अपने कंधे से लगाएं और दूसरे हाथ से उसकी पीठ थपथपाएं. ये शिशु को डकार दिलाने का सबसे आसान तरीक़ा है. यदि बच्चे को ज़्यादा तकलीफ़ हो, तो बच्चे को गैस से राहत दिलाने के लिए आप दादीमां के घरेलू नुस्ख़े भी आज़मा सकती हैं.

यह भी पढ़ें: आज राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस है: जानें बच्चों के पेट से कीड़े हटाने के 5 घरेलू उपाय (National Worm Prevention Day: How To Get Rid Of Stomach Worm In Children)

 

बच्चों को गैस से राहत दिलाने के 5 अचूक घरेलू नुस्ख़े जानने के लिए देखें वीडियो:

 

मिनटों में पाएं ख़ूबसूरत बाल- आज़माएं 5 आसान घरेलू उपाय (5 Simple Homemade Beauty Tips For Hair)

5 आसान घरेलू उपाय (Easy Home Remedies) आपके बालों (Hair) को मिनटों में देंगे एक नया निखार. हेयर स्टाइलिंग के 5 आसान घरेलू उपाय आप भी ज़रूर आज़माएं और पाएं ख़ूबसूरत बाल (Beautiful Hair), वो भी मिनटों में.

Tips For Hair

हेयर स्टाइलिंग के 5 आसान घरेलू उपाय:

1) बालों में तेल की बजाय शहद लगाकर 15 मिनट रखें. फिर बाल धो लें. बालों में नई चमक आ जाएगी.
2) कच्चे अंडे में ऑलिव ऑयल मिलाएं और इसे बालों में लगाएं. कुछ देर अच्छी तरह शैम्पू कर लें. इससे बाल झड़ने की समस्या से निजात मिलेगी.
3) चमकदार घने बालों के लिए 3 केले के गूदे को स्टीम करके बालों में पैक की तरह लगाएं. 15 मिनट बाद धो लें.
4) एक बड़े पतीले में चाय की पत्तियां उबालकर छान लें. इसमें 1 टीस्पून नींबू का रस मिलाएं. शैम्पू करने के तुरंत बाद इस पानी से बाल धोएं. बालों में चमक आ जाएगी.
5) बालों को हाईलाइट करने के लिए ग्रीन टी लगाएं. ग्रीन टी को पानी में उबालें. ठंडा होने पर इससे बाल धो लें. थोड़ी देर बाद बालों को साफ़ पानी से धोएं.

यह भी पढ़ें: बालों की लंबाई से जानिए किसी भी महिला का राज़ (What Does Your Hair Length Say About Your Nature)

स्मार्ट टिप
* बालों को बाउंसी बनाने के लिए नीम की पत्तियों को पानी में उबालकर इससे बाल धोएं. इससे बालों का झड़ना व डैंड्रफ भी ख़त्म हो जाएगा.

सीखें आलिया भट्ट जैसी क्यूट हेयर स्टाइल स्टेप बाय स्टेप, देखें वीडियो:

 

आंवला के 17 चमत्कारी फ़ायदे (17 Magical Health Benefits Of Amla)

आंवला हमारे देश के श्रेष्ठ फलों में से एक है. यह आयुवर्द्धक, कल्याणकारी, श्रीफल, अमृतफल आदि नामों से भी जाना जाता है. आंलवा कफ़, पित्त, वायु को दूर करता है. इसके नियमित सेवन से आंखों की ज्योति बढ़ती है. यह हृदय रोग में भी लाभकारी है. इससे जिगर को ताक़त मिलती है. हरा आंवला रसायन होता है, सूखा आंवला कफ़ को नष्ट करता है. यह ख़ून की गर्मी को शांत करता है तथा हड्डियों को मज़बूत बनाता है. यह भूख को बढ़ानेवाला, पाचनशक्ति को ठीक करनेवाला तथा त्वचा रोगों को नष्ट करनेवाला भी माना जाता है.

Amla

 

1. एक छोटा चम्मच पिसा हुआ आंवला रात को दूध के साथ सेवन करें. यह आंतों को साफ़ कर कब्ज़ दूर करता है.

2. सूखा आंवला तथा काला नमक समान भाग में लेकर चूर्ण बना लें. अजीर्ण से होनेवाले दस्त में आधा चम्मच चूर्ण दिन में तीन बार पानी के साथ सेवन करें. दस्त बंद हो जाएंगे.

3. बवासीर की शिकायत होने पर आंवले का चूर्ण दही के साथ नियमित लेना चाहिए.

4. तीन भाग ताज़े आंवले के रस में एक भाग शहद मिलाकर सुबह-दोपहर-शाम को लें. पीलिया में आश्चर्यजनक लाभ होगा.

5. नेत्र रोगों में आंवले का चूर्ण गाय के दूध के साथ नियमित सेवन करना चाहिए. इससे नेत्र ज्योति बढ़ती है.

यह भी पढ़े: औषधीय गुणों से भरपूर राई (10 Incredible Mustard Benefits)

6. आंवले को आग पर भूनकर उसमें सेंधा नमक मिलाकर बारीक़ पीस लें. साथ ही इसमें दो-तीन बूंदें सरसों के तेल की मिला दें. इससे नियमित मंजन करने से पायरिया रोग का नाश होता है.

7. आंवले के रस में चंदन अथवा पीपरि का चूर्ण डालकर शहद के साथ चाटने से उल्टी बंद होती है.

8. हड्डी टूटने पर आवश्यक उपचार के बाद नियमित रूप से आंवले का रस किसी फल के रस में मिलाकर लें. विशेष लाभ होगा.

9. आंवला और हल्दी 10-10 ग्राम लेकर काढ़ा बना कर पीने से मूत्र मार्ग और गुदा मार्ग की जलन शांत होती है और पेशाब साफ़ होता है.

10. बीस ग्राम आंवले के रस में एक पका हुआ केला मसलकर, उसमें 5 ग्राम शक्कर मिलाकर खाने से स्त्रियों का सोमरोग (बहुमूत्र रोग) दूर हो जाता है.

11. आंवले का चूर्ण मूली के साथ खाने से मूत्राशय की पथरी में लाभ होता है.

12. एक औंस ताज़े आंवले का रस नित्य प्रातः खाली पेट एक हफ़्ते तक लें. पेट के कीड़े मर जाएंगे.

13. यदि नकसीर किसी प्रकार बंद न हो तो ताज़े आंवले का रस नाक में टपकाएं, नकसीर बंद हो जाएगी. जिन्हें अक्सर नकसीर की शिकायत रहती है, उन्हें नित्य आंवले का सेवन तथा सिर पर आंवले का लेप करना चाहिए.

यह भी पढ़े: फूल-पत्तियों से बीमारियों को दूर करने के टॉप 17 होम रेमेडीज़ (Top 17 Home Remedies To Get Rid Of Diseases Using Flower Petals)

14. आंवले और काले तिल का बारीक़ चूर्ण बना लें. यह चूर्ण 5 ग्राम की मात्रा में घी या शहद के साथ नियमित चाटने से वृद्धत्व दूर होता है और शक्ति आती है.

15. बाल गिरते हों या कम उम्र में स़फेद हो गए हों, तो आंवले का चूर्ण पानी में मिलाकर तुलसी की हरी पत्तियों को पीसकर उसमें मिला दें. इसे बालों की जड़ों में मलें. 10 मिनट के बाद बाल धो लें, नियमित कुछ दिन तक ऐसा करने से बालों का गिरना तथा सफ़ेद होना रुक जाता है.

16. ताज़े आंवले के रस में थोड़ा नमक मिलाकर पीने से डायबिटीज़ कुछ महीने में ही ठीक हो जाता है.

17. आंवले के चूर्ण का लेप सिर पर लगाने से सिरदर्द से राहत मिलती है.

– ऊषा गुप्ता

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazana

गर्भपात रोकने के 5 चमत्कारी घरेलू उपाय (How To Prevent Miscarriage Naturally- Top 5 Home Remedies)

गर्भपात रोकने के 5 चमत्कारी घरेलू उपाय आपको मां बनने का सुख देते हैं. गर्भपात के कारण कई महिलाएं मां नहीं बन पातीं और उनका मां बनने का सपना अधूरा रह जाता है. गर्भपात के कारण महिलाओं को शारीरिक-मानसिक कष्ट से गुज़रना पड़ता है, इससे बचने के लिए हम आपको बता रहे हैं गर्भपात रोकने के 5 चमत्कारी घरेलू उपाय.

Home Remedies

1) हरी दूब के पंचांग (जड़, तना, पत्ती, फूल, फल) को पीसकर, उसमें मिश्री व दूध मिलाकर 150-200 ग्राम शरबत के रूप में सुबह-शाम पीने से गर्भपात नहीं होता.
2) गाय का ठंडा किया हुआ दूध व जेठीमधु का काढ़ा बनाकर पिलाएं. साथ-साथ इसी काढ़े को नाभि के नीचे के भाग पर लगाएं. इससे गर्भस्राव की संभावना कम हो जाती है.
3) अशोक की छाल का क्वाथ बनाकर कुछ दिनों तक सुबह-शाम पिलाने से गर्भवती स्त्री के गर्भस्राव की संभावना नहीं रहती.
4) एक पके केले को मथकर, उसमें शहद मिलाकर गर्भवती को खिलाएं. ऐसा करके गर्भपात की संभावना को रोका जा सकता है.
5) पीपल और बड़ी कंटकारी की जड़ पीसकर भैंस के दूध के साथ कुछ दिनों तक लेने से भी गर्भपात नहीं होता.

यह भी पढ़ें: स्तनों (Breast) को बड़ा और सुडौल बनाने 5 अचूक घरेलू उपाय (Breast Enhancement: 5 Home Remedies To Increase Breast Size)

 

गर्भपात रोकने के लिए ये नुस्ख़े भी हैं बहुत काम के

* वंशलोचन, मिश्री, नागकेशर को लेकर बारीक चूर्ण कर लें. इसे 2 ग्राम की मात्रा में सुबह-शाम गाय के दूध के साथ खाने से लाभ होता है.
* मूली के बीजों का कपड़छन बारीक चूर्ण और भीमसेनी कपूर को गुलाब के अर्क में मिलाकर गर्भ ठहरने के बाद योनि में कुछ दिनोें तक मलने से बहुत लाभ होता है. अगर किसी स्त्री को बार-बार गर्भस्राव होता है तो उसके लिए यह प्रयोग बहुत ही फ़ायदेमंद है.

गर्भपात रोकने के 5 चमत्कारी घरेलू उपाय जानने के लिए देखें वीडियो:

 

रूसी को जड़ से ख़त्म करने के आयुर्वेदिक घरेलू उपाय (Home Remedies To Get Rid Of Dandruff Naturally)

रूसी को जड़ से ख़त्म करने के आयुर्वेदिक घरेलू उपाय आज़माकर आप भी पा सकते हैं डैंड्रफ फ्री बाल. रूसी बालों की एक आम समस्या है, जिससे कई लोग परेशान रहते हैं. रूसी के कारण बाल झड़ना, खुजली, रूखापन जैसी बालों से जुड़ी कई समस्याएं होने लगती हैं. रूसी को जड़ से ख़त्म करने के आयुर्वेदिक घरेलू उपाय ट्राई करके आप भी रूसी से छुटकारा पा सकते हैं.

Home Remedies for Dandruff

* नारियल तेल में छोटा प्याज़ डालकर गर्म करें और इससे हेयर मसाज करें. इससे रूसी से छुटकारा मिल जाता है.
* ऑलिव ऑयल, नींबू का रस और नारियल का तेल मिलाकर हल्का-सा गुनगुना कर लें और उंगलियों के पोरों से बालों की जड़ों में लगाएं. रूसी से राहत पाने का ये आसान घरेलू उपाय है.
* तेल में कपूर डालकर गर्म करें. इससे बालों की जड़ों में 10 मिनट तक मसाज करें. आधे घंटे बाद बाल धो लें. ये आयुर्वेदिक घरेलू उपचार आपको ज़िद्दी डैंड्रफ यानी रूसी से निजात दिलाएगा.
* एक भाग नींबू के रस में दो भाग नारियल का तेल मिलाएं. इससे बालों की जड़ों में मसाज करें. आपको जल्दी ही रूसी से आराम मिलेगा.
* 1-1 टीस्पून कैस्टर ऑयल, राई का तेल और नारियल के तेल को मिलाएं और इस मिश्रण से बालों की जड़ों में मसाज करें. 3-4 घंटे बाद बाल धो लें. बालों से रूसी ग़ायब हो जाएगी.

यह भी पढ़ें: 5 हेयर ऑयल बालों के लिए सबसे अच्छे हैं (5 Most Useful Hair Oil For Your Hair)

* दही और नींबू के मिश्रण को स्काल्प पर लगाएं और 1 घंटे बाद धो लें. हर दूसरे दिन ऐसा करने से 2 हफ़्तों में रूसी ख़त्म हो जाएगी.
* 1 टीस्पून मेथीदाना को रातभर पानी में भिगोकर रखें. सुबह इसका पेस्ट बनाकर बालों की जड़ों में लगाएं और आधे घंटे बाद बाल धो लें. रूसी से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो ये आसान घरेलू उपाय ज़रूर आज़माएं.
* किसी भी एंटी डैंड्रफ शैम्पू में 2 एस्प्रीन की गोलियां मिलाकर बाल धोएं. ये रूसी का सफाया करने वाला रामबाण उपाय है. इससे तुरंत रूसी से छुटकारा मिलता है.

10 घरेलू उपाय रोकते हैं बालों का झड़ना, देखें वीडियो:

मेरे नाखून बार-बार टूट क्यों जाते हैं? (10 Nail Care Tips Every One Should Know)


मेरे नाखून बार-बार टूट जाते हैं. ऐसा क्यों होता है? मैं अपने नाखूनों की देखभाल किस तरह करूं कि वो टूटे ना और ख़ूबसूरत भी नज़र आएंं.

अक्सर लोग चेहरे, बाल व त्वचा को ख़ूबसूरत बनाने के लिए तो मोटी रकम ख़र्च कर देते हैं, लेकिन नाख़ूनों की देखभाल यानी नेल केयर को नज़रअंदाज़ कर जाते हैं. ख़ूबसूरत और मज़बूत नाख़ून हमारे अच्छे स्वास्थ्य की पहचान भी होते हैं. आइए, हम आपको बताते हैं नेल केयर के कुछ ख़ास टिप्स.

Nail Care Tips

1) नाखून टूटने का एक बड़ा कारण भोजन में सही पोषण की कमी भी हो सकती है इसलिए सबसे पहले अपने भोजन पर ध्यान दें. भोजन में मल्‍टी विटामिन और मल्‍टी मिनरल शामिल करें. अगर खाने में आयरन, कैल्शियम और विटामिन बी की कमी है, तो इससे भी नाख़ून टूटते हैं.

2) यदि आपके नाख़ून जल्दी टूट जाते हैं या फिर ज़्यादा नाज़ुक हैं, तो विटामिन बी, ख़ासकर बी 5 व फ़्लैक्सीड ऑयल का उपयोग करें.

3) जिन लोगों के नाखून बेजान होकर जल्दी टूटने लगते हैं, उन्हें नारियल तेल या अॉलिव अॉयल से अपने नाखूनों का मसाज करना चाहिए.

4) अगर आपके नाखून बेजान हैं, तो दूध का सेवन करें. दूध हड्डियों और नाखूनों को भी को मज़बूत बनाता है. इसी तरह  दूध में अंडे की जर्दी डालकर अच्छी तरह फेंटें और नाखूनों को उसमें डुबोकर रखें. एेसा करने से नाखून मजबूत होते हैं और तेज़ी से बढ़ते हैं.

5) महिलाओं को किचन में काम करते समय बार-बार हाथ धोना पड़ता है, जिससे उनकी उंगलियों में फंगल इंफेक्शन हो जाता है. अत: बार-बार हाथ धोने से परहेज करें.

यह भी पढ़ें: होममेड लिप ग्लॉस और लिप प्रोटेक्टिव क्रीम अब मिनटों में घर पर बनाएं (Homemade Lip Gloss And Lip Protective Cream)

6) रात में सोने से पहले एंटीफंगल नेल ड्रॉप्स अप्लाई करें. यदि नेल्स के कलर्स में बदलाव दिखाई दे, तो डर्मेटोलॉजिस्ट से संपर्क करें.

7) नोकदार जूते पहनने से परहेज करें, क्योंकि ऐसे ़फुटवेयर पहनने से पैरों के अंगूठों पर ज़ोर पड़ता है और वहां के नाख़ून ठीक तरह से नहीं बढ़ पाते. ऐसे शूज़ पहनने से पैरों में दर्द, सूजन और इं़फेक्शन जैसी समस्याएं पैदा हो सकती हैं.

8) मेनीक्योर या पेडीक्योर करवाते समय इस बात की जांच कर लें कि सभी इन्स्ट्रूमेंट्स स्टरलाइ़ज़्ड हैं या नहीं. हो सके तो पार्लर में अपना इन्सट्रूमेंट किट ले जाएं.

9) नाख़ूनों को कुछ दिनों के लिए नेल पॉलिश न लगाएं. इससे उन पर पीले धब्बे नहीं पड़ेंगे. एसीटोन फ्री नेल पॉलिश रिमूवर का इस्तेमाल करें. नेल पॉलिश निकालने के बाद हाथ-पैर पर मॉइश्‍चराइज़र क्रीम लगाएं.

10) नेल्स के क्युटिकल्स को छेड़ें नहीं, क्योंकि क्युटिकल्स नेल्स और उसके आसपास की त्वचा पर बैक्टीरिया होने से बचाते हैं. यदि क्युटिकल्स सख़्त हैं तो क्युटिकल सॉ़फ़्टनर यूज़ करें.

यह भी पढ़ें: खुले रोमछिद्र बंद करने के 5 आसान घरेलू उपाय (How To Get Rid Of Large Open Pores Naturally)

 

ख़ूबसूरत त्वचा पाने के लिए कौन-से 10 हेल्दी फूड खाएं? देखें वीडियो:

मदर्स केयर- बच्चों की खांसी के 15 घरेलू असरदार उपाय (Mothers Care- 15 Tips For Relieving In Baby Cough)

Mothers Care

 

  1. एक चम्मच तुलसी का रस, एक चम्मच अदरक का रस और एक चम्मच शहद मिलाकर दिन में तीन बार सेवन करने से कफ तथा खांसी से राहत मिलती है.
  2. अंजीर खाने से छाती में जमा बलगम निकल जाता है और खांसी से छुटकारा मिलता है.
  3. बड़ी इलायची का चूर्ण दो-दो ग्राम दिन में तीन बार पानी के साथ लेने से सभी प्रकार की खांसी से आराम मिलता है.
  4. काली खांसी होने पर कपूर की धूनी सूंघने से लाभ होता है.
  5. खांसी को कम करने के लिए मिश्री के साथ अदरक का एक छोटा-सा टुकड़ा मुंह में रखकर चबाइए. इससे खांसी से शीघ्र आराम मिलेगा.
  6. अदरक का रस शहद के साथ रात को सोते समय चाटें. इसके बाद पानी न पीएं. इससे खांसी में राहत पहुंचेगी.
  7. काली मिर्च तथा मिश्री या मुलहठी को मुख में रखकर चूसें. इससे सूखी खांसी में आराम मिलता है.
  8. तवे पर फिटकरी भून लें और उसका चूर्ण बनाकर मिश्री या शहद के साथ सेवन करें. सूखी खांसी से राहत मिलेगी.

यह भी पढ़े: कैसे करें बच्चों की सेफ्टी चेक? (How To Keep Your Children Safe?)

  1. एक चम्मच सोंठ का चूर्ण (भूना हुआ), थोड़ा-सा गुड़ और एक चुटकी अजवाइन इन तीनों को एक साथ मिलाकर खाएं और ऊपर से गर्म दूध पीकर कम्बल ओढ़कर सो जाएं. खांसी से छुटकारा मिलेगा.
  2. काली खांसी को खत्म करने के लिए काले बांस को जलाकर राख बना लें. इसे शहद के साथ मिलाकर चाटें.
  3. एक तोला मुलहठी, चौथाई तोला काली मिर्च, आधा तोला सोंठ, आधा तोला अदरक- इन सबको बारीक पीसकर छान लें और दो तोले गुड़ में मिलाकर बेर के बराबर गोलियां बना लें. 1-1 गोली सुबह-शाम गर्म पानी के साथ सेवन करें. इससे काली खांसी खत्म हो जाएगी.
  4. बादाम की 5 गिरी, 5 मुनक्का और 5 काली मिर्च- इन्हें मिश्री के साथ पीसकर गोली बना लें. चार-चार घंटे पर एक गोली चूसें. इससे खांसी दूर हो जाएगी.
  5. खांसी में थोड़े-से नमक में बराबर मात्रा में हल्दी मिलाकर फांक लें और ऊपर से एक कप गुनगुना दूध पी लें.
  6. चाय के पानी में चुटकी भर नमक मिलाकर सोते समय गरारे करने से भी खांसी में लाभ होता है.
  7. खांसी आने पर अरवी की सब्जी खाएं. इससे खांसी तुरंत ठीक हो जाएगी.

– रेखा गुप्ता

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazana

औषधीय गुणों से भरपूर राई (10 Incredible Mustard Benefits)

राई बहुत ही गुणकारी एवं पाचक है. दादी मां के खज़ाने में दवा के रूप में इसके घरेलू नुस्ख़े उपलब्ध हैं. लाल व सफेद राई कफ व पित्त को हरने वाली, तीक्ष्ण, गर्म और अग्नि को प्रदीप्त करने वाली होती है. यह खुजली, कोढ़ और पेट के कीड़ों को नष्ट करने वाली होती है. काली वाई में भी यही गुण हैं. परंतु यह अत्यंत तीक्ष्ण होती है. इसके प्रसिद्ध घरेलू नुस्ख़े निम्न हैं.

Mustard Benefits

* राई को बारीक पीसकर पेट पर लेप करने से उल्टी तुरंत बंद हो जाती है.

* राई पीसकर सूंघने से जुकाम शीघ्र दूर हो जाता है. जुकाम की वजह से पैर ठंडे हो जाने पर राई का लेप हितकारी है.

* राई के एक-दो माशे चूर्ण में थोड़ी-सी शक्कर मिलाकर खाने और ऊपर से एक कप पानी पीने से पेटदर्द दूर होता है.

* राई चार रत्ती, सेंधा नमक दो रत्ती और शक्कर दो माशा मिलाकर सुबह-शाम सेवन करने से खांसी में कफ़ गाढ़ा हो गया हो तो पतला होकर सरलता से निकल जाता है.

यह भी पढ़े: अमरूद खाने के 7 चमत्कारी फ़ायदे (7 Health Benefits Of Guava)

* यदि किसी ने जाने-अनजाने विष खा लिया हो, तो आधा तोला पिसी हुईराई और आधा तोला नमक गर्म पानी में मिलाकर पीने से उल्टी होती है, जिससे विष बाहर निकल जाता है.

* राई के तेल में नमक मिलाकर दांत साफ करें. इससे दांत एवं मसूड़े स्वस्थ एवं मजबूत होते हैं.

* वात-व्याधि से जकड़ गए अंगों पर राई की पुल्टिस बांधने अथवा राई का प्लास्टर करने से लाभ होता है.

* गुड़, गुग्गुल और राई को पीसकर पानी में उबालकर लेप करने से कंखवारी मिटती है. कहावत भी है गुड़, गुग्गुल और पिसी राई, क्या करती उसे कंखवारी.

* राई के आटे को आठ गुने गाय के पुराने घी में मिलाकर उसका लेप करने से थोड़े दिनों में सफेद कोढ़ मिट जाता है. इस लेप से खाज-खुजली और दाद में भी फ़ायदा होता है.

* मिर्गी-मूर्च्छा में राई के आटे का नस्य दिया जाता है.

– ओमप्रकाश गुप्ता

दादी मां के अन्य घरेलू नुस्ख़े/होम रेमेडीज़ जानने के लिए यहां क्लिक करें-  Dadi Ma Ka Khazana