Tag Archives: ideas

हेल्दी टिफिन आइडियाज़ (Healthy Tiffin Ideas)

Healthy Tiffin Ideas

हेल्दी टिफिन आइडियाज़ (Healthy Tiffin Ideas)

बच्चों को खाना खिलाना किसी चैलेंज से कम नहीं, क्योंकि बच्चों को रोज़ एक जैसा खाना पसंद नहीं आता. बच्चों को टिफिन में क्या दें, जो हेल्दी भी हो और टेस्टी भी, इस बात को लेकर लगभग सभी माएं परेशान रहती हैं. आपकी इस मुश्किल को सुलझाने के लिए हमने जुटाए हैं हेल्दी टिफिन आइडियाज़.

–    बच्चे के टिफिन के लिए यदि परांठे बना रही हैं, तो आटे को पानी की बजाय पकी हुई पीली दाल में गूंधें. चाहें तो इसमें कटा हुआ प्याज़, हरा धनिया, अदरक-लहसुन का पेस्ट, नींबू का रस भी मिला सकती हैं, फिर इसके परांठे बना लें.

–    ज्वार, बाजरा, रागी, नाचनी आदि का आटा मिक्स करके उसमें सब्ज़ियां स्टफ़ करके बच्चों के लिए हेल्दी परांठे बनाएं.

–    बच्चों के फेवरेट नूडल्स में ढेर सारी सब्ज़ियां डालकर उसे हेल्दी बनाएं.

–    पास्ता बनाते समय उसमें भी ख़ूब सारी सब्ज़ियां डाल दें.

–    यदि ढोकला बना रही हैं, तो दो ढोकले के बीच में एक पनीर या चीज़ की लेयर रख दें.

–    टिफिन के लिए यदि सूजी का उपमा बना रही हैं, तो उसमें बारीक़ कटी हरी सब्ज़ियां डाल दें.

–    सूजी की बजाय आप दलिया का उपमा भी बना सकती हैं और इसमें भी कटी हुई सब्ज़ियां डाल सकती हैं.

–   इसी तरह पोहा बनाते समय उसमें कटी हुई सब्ज़ियां, कॉर्न, पनीर आदि मिला सकती हैं.

–    आलू टिक्की बना रही हैं, तो उसमें उबला व पीसा हुआ राजमा मिला दें.

–    इडली बनाते समय भी उसमें कटी हुई सब्ज़ियां या सब्ज़ियों को पीसकर डाल दें.

–    पाव भाजी बना रही हैं, तो सब्ज़ी बनाते समय उसमें कॉर्न, पनीर आदि भी मिक्स करें.

–    सैंडविच में मिक्स वेजीटेबल्स भी स्टफ़ कर सकती हैं.

–    ऑमलेट बना रही हैं. तो उसमें शिमला मिर्च, प्याज़, टमाटर आदि काटकर डाल दें. इससे टिफिन और हेल्दी बन जाएगा.

–    बच्चों के टिफिन के लिए डोसा बनाते समय उसे मैक्सिकन स्टाइल में बनाएं. इसके लिए उसमें आलू स्टफ करने की बजाय लंबाई में पतली-पतली कटी सब्ज़ियां स्टफ कर लें.

–   हरी मूंगदाल के चीले भी बेस्ट ऑप्शन हैं. इसके लिए हरी मूंगदाल को रातभर पानी में भिगोकर रखें. सुबह पीसकर उसमें नमक, हरी मिर्च, अदरक-लहसुन का पेस्ट, कटा हुआ प्याज़, नींबू का रस आदि मिलाकर चटपटे और हेल्दी चीले बनाएं.

–    आटे में बारीक़ कटी या पीसी हुई सब्ज़ियां मिलाकर भी चीले बनाए जा सकते हैं.

–    यदि बच्चा चाट या भेल की फ़रमाइश करे, तो उसमें उबले कॉर्न, राजमा, चना, सोया आदि डाल दें.

यह भी पढ़ें: कुकिंग की ये 9 टेक्नीक्स बनाएंगी आपके खाने को टेस्टी (These 9 Techniques Will Make The Food Tasty)

 

समर में इन 10 हॉबी आइडियाज़ को दें उड़ान (Top 10 Hobby Ideas For Summer)

Hobby Ideas For Summer
समर में इन 10 हॉबी आइडियाज़ को दें उड़ान (Top 10 Hobby Ideas For Summer)
गर्मियों की छुट्टी में कुछ क्रिएटिव सीखें. इस बार की समर वेकेशन को इंट्रेस्टिंग बनाने के लिए अपनाएं ये बेहतरीन हॉबी आइडियाज़.
Hobby Ideas For Summer
गर्मी की छुट्टियों का इंतज़ार हर बच्चे को होता है, क्योंकि जहां एक तरफ़ पढ़ने से पीछा छूटता है, वहीं स्कूल जाने के नियम व दिनचर्या से राहत मिलती है. खेलकूद, मौज-मस्ती… इन दिनों वे अपनी मर्ज़ी से टीवी देख सकते हैं, खेलने जा सकते हैं, मोबाइल गेम, कैरम आदि खेल सकते हैं, पर सच तो यह है कि थोड़े ही दिनों में वे इन सबसे ऊब जाते हैं. तो क्यों न इस समर वेकेशन को बनाएं कुछ स्पेशल अपने हॉबी आइडियाज़ को नई पहचान देकर.

 

1. डांस

डांस करना एक अच्छी हॉबी है. जिन बच्चों की डांस में रुचि है, उन्हें 4-5 साल की उम्र में डांस क्लास जॉइन करा देना चाहिए, क्योंकि इस उम्र में शरीर बहुत लचीला होता है और डांस सीखने में आसानी होती है. आजकल टीवी पर आनेवाले रियलिटी शोज़ भी डांसर्स के लिए अच्छा प्लेटफॉर्म है. बड़े होकर कोरियोग्राफर, एक्टर, डांसर के रूप में करियर बनाने में भी मदद मिलती है.

2. सिंगिंग

संगीत एक बहुत अच्छी हॉबी है. अगर बच्चे की गाने में रुचि है, तो छुट्टियों में उसे संगीत सिखाया जा सकता है या फिर कोई म्यूज़िकल इंस्ट्रूमेंट सीखा जा सकता है.

3. पेंटिंग

बहुतसे बच्चों को पेंटिंग करना पसंद होता है. अगर आप देखें कि बच्चा काग़ज़ पर रंगों से चित्र बना रहा है या अक्सर वह पेंसिल से ही कुछ न कुछ बनाता रहता है, तो यह उसके लिए बहुत अच्छी हॉबी साबित होगी. आप उसे स्केचिंग क्लास भी जॉइन करा सकते हैं. पेंटिंग से क्रिएटिविटी को पंख मिलते हैं. पेंटिंग में बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हैं, जैसेवॉटर कलर पेंटिंग, ऑयल पेंटिंग, फैब्रिक पेंटिंग आदि. आजकल तो कई बड़े ब्रांड्स में एडल्ट कलरिंग बुक्स भी बाज़ार में उपलब्ध हैं. कलरिंग ऐसी कला है, जो बड़ों को भी बच्चों की तरह व्यस्त रख सकती है. आप किसी ख़ास तरह की पेंटिंग, जैसेमधुबनी, सांगानेरी, कोलम और कश्मीरी ट्राई कर सकते हैं.

4. कहानी, कविता आदि लिखना

लिखना एक बेहतरीन हॉबी है. लिखने से बच्चों की कल्पना को काफ़ी विस्तार मिलता है. बच्चे को कम उम्र से ही डायरी लिखने की आदत डाली जा सकती है. इसके अतिरिक्त बच्चों को कहानी, कविता, उपन्यास आदि लिखने के लिए भी प्रेरित किया जा सकता है. इससे उनकी एकाग्रता बढ़ेगी और हो सकता है बड़े होकर वे लेखक या लेखिका बन जाएं. कई राइटिंग वर्कशॉप्स भी होती हैं, जहां बच्चों को भेजा जा सकता है.

5. स्विमिंग है अच्छा ऑप्शन

गर्मी की छुट्टियों में आप चाहें, तो बच्चे को स्विमिंग सिखा सकते हैं और उनके साथ ख़ुद भी कर सकते हैं. यह एक अच्छी एक्सरसाइज़ तो है ही, साथ ही इससे बच्चों का माइंड भी फ्रेश होता है. इसके कारण उनके शारीरिक और मानसिक विकास में मदद मिलती है. गर्मियों में तो ख़ासकर यह हॉबी बहुत ही अच्छी है.

यह भी पढ़े: 19 आसान टिप्स बच्चों के हाइट बढ़ाने के

Hobby Ideas For Summer

6. गार्डनिंग करने दें

आमतौर पर हर घर में छोटासा बगीचा या बरामदों में ही पौधे लगे होते हैं. प्रकृति से हम हमेशा कुछ न कुछ सीखते हैं. बच्चों को यदि गार्डनिंग सिखाई जाए, तो इसके कारण बच्चों को प्रकृति से जुड़ने का मौक़ा मिलता है. उन्हें नए फूलपौधों की जानकारी एकत्रित करने के लिए प्रोत्साहित करें. उन्हें नर्सरी ले जाएं और उनकी पसंद के प्लांट्स चुनने का अवसर दें.

7. आर्ट एंड क्राफ्ट का कोर्स

बच्चों के लिए यह उनकी सबसे पसंदीदा हॉबी है. इसमें उन्हें हर रोज़ कुछ नया सीखने व करने का मौक़ा मिलता है. इससे जुड़े बहुत सारे कोर्स समर हॉलीडेज़ में चलते हैं. आप चाहें तो घर में पड़ी बेकार वस्तुओं से भी उन्हें कलात्मक व उपयोगी चीज़ें बनाना सिखा सकते हैं. बच्चा बहुत छोटा है, तो कलर्ड पेपर्स व क्ले से अलगअलग चीज़ें बना सकता है. वैसे भी आर्ट एंड क्राफ्ट एक्टिविटी आजकल छोटी क्लास से ही शुरू हो जाती है. इसके अलावा पेपरमैशी, डॉल मेकिंग, फ्लावर मेकिंग आदि के कोर्स भी किए जा सकते हैं.

8. गेम खेलें

घर में बच्चों को टीवी दिखाने से अच्छा है कि आप बच्चों के साथ गेम्स खेलें. सारे दिन मोबाइल गेम्स में वे उलझे न रहें, इसलिए बोर्ड गेम्स जिनकी आज बहुत वेराइटी उपलब्ध है, उनके साथ खेलें या उन्हें अपने दोस्तों के साथ खेलने के लिए प्रोत्साहित करें. मोबाइल व वीडियो गेम्स की लत लगने से बच्चे आउटडोर गेम्स कम खेलने लगे हैं. उन्हें बाहर ले जाएं और क्रिकेट, बैडमिंटन, फुटबॉल जैसे खेलों को खेलने के लिए प्रेरित करें. साइकिलिंग भी की जा सकती है.

9. प्ले ग्रुप बनाएं

आपके घर के आसपास जितने भी एक उम्र के बच्चे रहते हैं, उनका एक प्ले ग्रुप बनाएं. अब बच्चों के इस प्ले ग्रुप को अपने घर पर, पार्क या किसी अन्य सार्वजनिक जगह पर हर दिन इकट्ठा करें. इस प्ले ग्रुप में बच्चे एक साथ मिलकर कोई मज़ेदार खेल खेल सकते हैं. मज़ेदार कहानियां एकदूसरे को सुना सकते हैं या फिर अपना कोई ख़ास गुर अपने दोस्तों को सिखा सकते हैं. बच्चों को दूसरे बच्चों का साथ मिलेगा, तो न स़िर्फ उनकी छुट्टियां मज़ेदार बनेंगी, बल्कि वो सुबह से इस मौ़के के इंतज़ार में रहेंगे.

10. फिट रहें बच्चे के साथ

आप कब से चाह रही थीं कि मॉर्निंग वॉक करने या फिर एक्सरसाइज़ करने के लिए व़क्त निकालें, पर सुबह बच्चे को स्कूल के लिए तैयार करने, लंच बनाने और उसे बस स्टॉप तक छोड़ने की भागमभाग में एक्सरसाइज़ के लिए आपको व़क्त ही नहीं मिल पाता था, पर अब तो सुबहसुबह इस तरह की कोई ज़िम्मेदारी नहीं, तो सुबह के व़क्तघर के पासवाले पार्क में जाइए और बच्चे को भी साथ ले जाइए. अपने साथसाथ बच्चे का फिटनेस लेवल भी बढ़ाइए. आप चाहें, तो उसके साथ दौड़ भी लगा सकती हैं. बच्चे की सुबह भी मज़ेदार हो जाएगी और आप फिट भी हो जाएंगी.

सुमन बाजपेयी

यह भी पढ़ें: पैरेंटिंग गाइड- बच्चों के लिए इम्युनिटी बूस्टर फूड

विचारों से आती है ख़ूबसूरती (Vicharon Se Aati Hai KHoobsurati)

ख़ूबसूरत विचार

ख़ूबसूरत विचार

महंगे कॉस्मेटिक्स और पार्लर पर ढेरों ख़र्च करके हम अपने चेहरे को सबसे सुंदर बनाने में जुटे रहते हैं, मगर क्या कभी अपने विचारों व भावनाओं को ख़बूसरत बनाने की कोशिश की है? सच्ची ख़ूबसूरती चाहते हैं, तो चेहरे को नहीं, बल्कि विचारों को सवारें. ख़ूबसूरत विचारों से चेहरा ख़ुद-ब-ख़ुद चमकने लगेगा.

सकारात्मक सोच का जादू 
किसी ने सच ही कहा है ख़ूबसूरती तो देखने वाले की आंखों में होती है, जब हम अच्छा और सकारात्मक सोचेंगे, तो हमें हर चीज़ अच्छी और ख़ूबसूरत लगेगी. नकारात्मक लोगों को कभी कोई चीज़ अच्छी नहीं लग सकती, वो किसी की तारीफ़ भी बिना नुस्ख़ निकाले नहीं कर सकते, मगर जो दिल के साफ़ होते हैं, जिनके मन में घृणा का भाव नहीं होता उन्हें बदसूरत चीज़ भी सुंदर लगती है. आपके आसपास भी ऐसे कुछ लोग होंगे जिनकी मौजूदगी भर से आपका आत्मविश्‍वास बढ़ जाता है, क्योंकि वो कभी ये नहीं कहते, ‘अरे ये काम तो बहुत मुश्किल है कैसे होगा, आज तो संभव ही नहीं है कल देखते हैं…’ बल्कि कहते हैं ‘इसमें कौन-सी बड़ी बात है अभी हो जाएगा ये, बस थोड़ा टाइम लेगगा, मगर ये आज ही पूरा हो जाएगा.’ जब भी आप मुश्किल में होते हैं, तो अपने सकारात्मक रवैया (पॉज़िटीव एटीट्यूड) के कारण आपको वही इंसान याद आता है… आपके लिए उसका चेहरा मायने नहीं रखता, क्योंकि वो दिल से ख़ूबसूरत है. कई बार आपने ये भी ग़ौर किया होगा कि कुछ लोग गोरे-चिकने होते हैं, उनके नैन-नक्श भी ठीक-ठाक होते हैं, मगर फिर भी वो आपको आकर्षित नहीं करतें, वो सुंदर नहीं लगते क्योंकि उनके अंदर के नकारात्मक विचार चेहर पर झलकते हैं. कोई कितना भी क्रीम पाउडर लगा ले विचारों की बदसूरती का असर चेहरे पर दिख ही जाता है.

यह भी पढ़ें: शब्दों की शक्ति


विचारों को करें पॉलिश

अपने दुश्मन को भी दोस्त समझना और अपने से नफ़रत करने वालों से भी प्यार करना… ये काम थोड़ा मुश्किल ज़रूर है, मगर जिस दिन आप ये मुश्किल काम करने में सफल हो जाएंगे समझिए आप अपने विचारों को पॉलिश करने में सफल हो गएं. आपके ऑफिस या घर में कोई आपसे नफ़रत करता है, बदले में आप भी उसी तरह का व्यवहार करते हैं, तो दिन ब दिन आप दोनों के बीच की कड़वाहट बढ़ती जाएगी और उस शख़्स के आसपास रहने पर आप तनावग्रस्त हो जाएंगे जिसका असर आपकी सोच और सेहत दोनों पर होगा. इसके विपरीत यदि आप उसके प्रति नफ़रत को त्यागकर सामान्य व्यवहार करने लगें, तो इससे आप तो तनावमुक्त हो ही जाएंगे, हो सकता है सामने वाले को भी अपनी ग़लती का एहसास हो और आपके प्रति उसके विचार बदल जाएं. मसलन आपकी अपने पड़ोसी से नहीं पटती, मगर एक दिन आपने उसकी तारीफ़ में दो शब्द कह दिए, ये ड्रेस आप पर बहुत अच्छी लग रही है या आपने अपना घर बेहद ख़ूबसूरती से सजाया है… आपकी ये छोटी-सी तारीफ़ से पड़ोसी का आपके प्रति रवैया बदल सकता है, उसके मन में आएगा कि आप इतने भी बुरे नहीं है. धीरे-धीरे ही सही आपके बीच की नफ़रत की खाई पटने लगेगी. इस तरह से आप एक तीर से दो निशाने लगा सकते हैं. एक तो अपने विचारों को सुंदर बनाना और दूसरे सामने वाले के विचारों को सकारात्मक बनाने में मदद करना.

याद रह जाते हैं विचार
कई बार पहली नज़र में आपको कोई शख़्स अच्छा नहीं लगता, मगर जब आप उससे बात करते हैं, तो उसके विचारों के आगे आपको उसका रूप-रंग बौना लगने लगता है. बाहरी रूप तो चंद दिनों के लिए होता है, मगर विचारों की सुंदरता आपको जीवनभर सुंदर बनाए रख सकती है. लोग आपका चेहरा तो चंद दिनों में भूल जाते हैं, मगर आपकी अच्छी सोच, सकारात्मक विचार वो ज़िंदगीभर याद रखते हैं. इसके विपरीत किसी बेहद ख़ूबसूरत इंसान से मिलकर पहली बार में भले ही आप उसकी सुंदरता के क़ायल हो जाएं, मगर ज़ुबान खुलते ही आपको उसका चेहरा बदसूरत नज़र आने लगता है, क्योंकि वो बाहरी तौर पर तो सुंदर है, मगर उसकी नकारात्मक सोच और विचार उसे बदसूरत बना देते हैं.

कंचन सिंह

अधिक जीने की कला के लिए यहां क्लिक करें: JEENE KI KALA

 

रंगों से सजाएं आशियाना (colorful home decor ideas)

home decor ideas

home decor ideas

अपने सपनों के आशियाने को रंगों से सजाने के लिए घर ले आइए कलरफुल फर्नीचर्स और डेकोर एक्सेसरीज़ ताकि रंग आपके घर में ही नहीं जीवन में भी ख़ुशियां लाएं. कलरफुल डेकोरेटिव आइटम्स और फर्नीचर्स से सजे घर न स़िर्फ मेहमानों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करते हैं, बल्कि इससे घर को न्यू और फ्रेश लुक भी मिलता है.

ब्राइट एक्सेसरीज़
बात फैशन की हो या होम डेकोर की ब्राइट कलर्स इन दिनों डिमांड में हैं, इसलिए अपने घर को सजाने के लिए बोल्ड एंड ब्राइट कलर के होम डेकोर एक्सेसरीज़ को प्राथमिकता दें. इनसे आप मिनटों में अपने घर को फ्रेश और न्यू लुक दे सकती हैं.

home decor ideas

फ्लावर डेकोर 

घर को रंगों से सजाने के लिए आप ताज़े या अर्टिफिशियल फूलों का प्रयोग भी कर सकती हैं. बाज़ार में आपको ढेरों कलरफुल आर्टिफिशिल फ्लावर्स मिल जाएंगे. आप चाहें तो फूलों की बजाय कलरफुल फ्वालर पॉट भी चुन सकती हैं. इन दिनों निऑन कलर के फ्लावर पॉट काफ़ी पॉप्युलर हैं, आप इनका चुनाव भी कर सकती हैं.

home decor ideas

कैंडल्स का कमाल
सेंटर टेबल को न्यू लुक देने के लिए कलरफुल कैंडल्स का चुनाव करें. बाज़ार में न स़िर्फ डिफरेंट शेड्स, बल्कि डिफरेंट शेप और फ्रेगरेंस वाले कैंडल्स मौजूद हैं. अपनी पसंद के अनुसार आप इनका चुनाव कर सकती हैं.

home decor ideas

कलरफुल फर्नीचर
घर को सजाने में फर्नीचर की महत्वपूर्ण भूमिका होती है. आजकल टिपिकल फर्नीचर की बजाय लोग अलग-अलग शेप, डिज़ाइन और कलरफुल फर्नीचर से घर सजाना पसंद करते हैं. आप भी फर्नीचर ख़रीदते समय कुछ नया ज़रूर ट्राई करें.

home decor ideas

ट्रेंडी पिलो कवर
कम ख़र्च में घर का मेकओवर करना चाहती हैं, तो ख़ूबसूरत कलर के पिलो कवर घर ले आएं. इनसे आप मिनटों में घर को न्यू और फ्रेश लुक दे सकती हैं. घर सजाने का ये बहुत ही क़िफायती और आसान तरीक़ा है.

home decor ideas

डायनिंग आर्ट
डायनिंग रूम को बोल्ड-ब्राइट लुक देने के लिए आप या तो ब्राइट कलर का डायनिंग टेबल चुन सकती हैं या फिर लाइट कलर के डायनिंग टेबल को ब्राइट कलर के टेबल क्लॉथ, डिनर सेट, क्रॉकरी आदि से सजा सकती हैं.
क्विक आइडियाज़
यदि फर्नीचर बदलना मुमक़िन न हो और आप ज़्यादा ख़र्च भी नहीं करना चाहतीं, तो सोफा और कुर्सियों के कवर बदलकर भी आप अपने घर को ख़ूबसूरती से सजा सकती हैं. हां, कवर के लिए ब्राइट कलर का चुनाव करें, जो आपके आशियाने को रंगों से भर दें.

home decor ideas

किड्स कॉर्नर
बच्चों के कमरे को सजाने के लिए कलरफुल डेकोरेटिव आइटम्स का जमकर प्रयोग करें, क्योंकि बच्चों को रंगों से ख़ास लगाव होता है. बच्चों के कमरे को सजाने के लिए उनके पसंदीदा कलर, कार्टून कैरेक्टर आदि को ध्यान में ज़रूर रखें. आप चाहें तो बच्चों को ही उनके रूम के डेकोर एक्सेसरीज़ चुनने को कह सकती हैं.

विंडो ड्रेसिंग
अगर आपके घर की दीवारें लाइट कलर की हैं, तो ब्राइट कलर के कर्टन का चुनाव करके आप अपने घर को रंगों से सजा सकती हैं.

वैलेंटाइन होम डेकोर- आशियाने को दें रोमांटिक टच (Valentine Home Decor Ideas)

Valentine Decoration
Valentine Decoration
रेड कलर को प्यार का रंग माना जाता है, तो क्यों न इस बार वैलेंटाइन के दिन अपने साथ ही बेडरूम का भी मेकओवर करें, ताकि बेडरूम में घुसते ही पार्टनर रोमांटिक होकर आपकी आंखों में खो जाएं. तो क्या सोच रहीं हैं आप? चलिए अपने बेडरूम का मेकओवर करिए स़िर्फ हॉट रेड कलर से.

 

होम डेकोर में इन्हें करें शामिल

Valentine Decoration

रोज़ वॉलपेपर
वैसे स़िर्फ वैलेंटाइन ही क्यों आप यदि हमेशा के लिए अपने बेडरूम को रोमांटिक टच देना चाहती हैं, तो बेडरूम की एक दीवार को रोज़ पेटल वाले वॉलपेपर से सजाएं.

Valentine Decoration

रेड बेडशीट
वैलेंटाइन को स्पेशल बनाने के लिए बेडशीट से लेकर कारपेट तक सब कुछ सुर्ख़ लाल रंग का रखें.

Valentine Decoration

maddhome.com

 

स्पेशल कुशन
लव मैसेज लिखे हुए या लव सिंबल वाले कुशन्स के अलावा आप चाहें, तो स़िर्फ रेड कलर के कुशन्स से भी कमरे का मेकओवर कर सकती हैं.

Photo frame

फोटो फ्रेम
रेड कलर के ख़ूबसूरत फोटो फ्रेम में आप दोनों की कोई ख़ूबसूरत सी फोटो लगाकर दीवार पर लगाएं. कमरे में आते ही जब पार्टनर का ध्यान फोटो फ्रेम पर जाएगा, तो वो इंप्रेस हुए बिना नहीं रहेंगे.

balloons-goodie-tins-last-minute-ideas-for-valentines-day

रेड बलून्स
इस ख़ास दिन को और भी स्पेशल बनाने के लिए कमरे को हार्ट शेप बलून्स से सजाएं.

markham-florist-blooming-masterpiece-rose-arrangement-tim-clarks-flowers-the-vase-of-roses-with-red-color-flower-give-sign-of-lovemarkham-florist-blooming-masterpiece-rose-arrangement-tim-clarks-flowers-the-vase-of-roses-with-red-color-flower-give-sign-of-love

रेड रोज़
लाल गुलाब के बिना भला प्यार का इज़हार कैसे किया जा सकता है, तो अपने कमरे को लाल गुलाब से सजाना न भूलें.

NCG116001

maddhome.com

Valentine Decoration

maddhome.com

कैंडल्स

अट्रैक्टिव कैंडल से भी आप अपने बेडरूम का लुक बदल सकती हैं. वैसे यदि रात को घर पर ही कैंडल लाइट डिनर का प्लान बना रही हैं, तो भी इन ख़ूबसूरत कैंडल्स से डायनिंग टेबल की शोभा बढ़ा सकती हैं. डायनिंग टेबल पर रेड फ्लावर पॉट भी रख सकती हैं.

– कंचन सिंह

स्मार्ट सोफा सिलेक्शन आइडियाज़ (Smart sofa selection ideas)

sofa selection ideas
sofa selection ideas
सोफा न स़िर्फ हर घर की ज़रूरत है, बल्कि इससे आप अपने आशियाने का मेकओवर भी कर सकती हैं. बाज़ार में उपलब्ध सोफा की ढेरों वैरायटी में से आप अपनी पसंद और कमरे की साइज़ के मुताबिक स्टाइलिश सोफा ख़रीदकर अपने ड्रीम होम को दे सकती हैं न्यू लुक.

 

sofa selection ideas
बनें क्रिएटिव
मल्टी सिटर सोफा के साथ सेम डिज़ाइन के दो सिंगल सोफा वाला क्लासिक अरेंजमेंट तो आपने हर घर में देखा होगा, ये बहुत कॉमन स्टाइल है. यदि आप कुछ डिफरेंट करना चाहती हैं, तो मल्टी सिटर सोफा के दोनों साइड रखे जानेवाले सेम डिज़ाइन के सिंगल सोफा की बजाय डिफरेंट डिज़ाइन का सोफा रखें या फिर मल्टी सिटर और सिंगल डिज़ाइन को एक जैसा ही रहने दें और सिटिंग एरिया में उसके आसपास डिफरेंट स्टाइल में चेयर अरेंज करें. आप चाहें तो उस एरिया को आकर्षक बनाने के लिए कुछ डेकोरेटिव आइटम्स का भी इस्तेमाल कर सकती हैं, मगर ध्यान रखें कि वो सोफा से मैच करता हुआ न हो.

sofa selection ideas

एल शेप भी है अच्छा ऑप्शन
ये न स़िर्फ स्टाइलिस्ट दिखता है, बल्कि जगह भी कम लेता है. टिपिकल सोफा की बजाय ये आरामदायाक और फ्लेक्सिबल होता है. साथ ही इसपर ज़्यादा लोग एडजस्ट भी हो सकते हैं. इन दिनों बाज़ार में एल शेप सोफा के ढेर सारे डिज़ाइन्स उपलब्ध है. आप अपने घर की जगह और बजट के मुताबिक सोफा ख़रीद सकती हैं.

sofa selection ideas sofa selection ideas

सिंगल सिटर का विकल्प
यदि आपका कमरा बहुत छोटा है, तो बड़े साइज़ का सोफा ख़रीदने से बचें. छोटे कमरे में कंफर्टेबल सीटिंग अरेंजमेंट के लिए स्टाइलिस्ट सिंगल सिटर सोफा बेहतरीन विकल्प है. ये टू सिटर या फिर सिंगल होते हैं. कमरे के कॉर्नर स्पेस का उपयोग करने के लिए आप वहां भी डिज़ाइनर सिंगल सिटर रख सकती हैं. वैसे छोटे कमरे में मेहमानों के बैठने के लिए स्लिम सिंगल सिटर सोफा की बजाय आप एक छोटी कॉफी टेबल और चेयर भी रख सकती हैं.

sofa selection ideas

दीवान
यदि आप बेडरूम के लिए सोफा ख़रीदने की सोच रही हैं, तो नॉर्मल सोफा की बजाय दीवान आपके लिए बेस्ट रहेगा. ये बेंच की तरह होता है यानी इसके पीछे सपोर्ट नहीं रहता. बैठने के साथ ही आप इसमें कपड़े, बेडशीट, एक्स्ट्रा कपड़े आदि भी स्टोर कर सकती हैं. इसमें ऊपर की सीट हटाने पर अंदर स्टोरेज की व्यवस्था होती है, जिससे आप अपने अस्त-व्यस्त बेडरूम को सहेज सकती हैं.

 

sofa selection ideas

सोफा कम बेड
यदि आपके घर में अक्सर मेहमानों का आना-जाना लगा रहता है या फिर घर छोटा है तो, नॉर्मल सोफा की बजाय सोफा कम बेड बेहतरीन विकल्प होगा. वैसे भी अब थ्री सिटर टिपिकल सोफा कम ही पसंद किया जाता है. मेट्रो सिटिज़ में कमरे छोटे होने के कारण सोफा कम बेड ज़्यादा पसंद किया जाता है.

sofa selection ideas
ख़रीदते समय रखें इन बातों का ध्यान

* सबसे पहले उस जगह का मेज़रमेंट कर लें जहां आप सोफा रखने वाली हैं, इससे आप आसानी से डिसाइड कर पाएंगी कि आपके लिए 3-4 सिटर या  फिर सिंगल सोफा परफेक्ट है.

* सोफा ख़रीदते समय सबसे ज़्यादा अहमियत कंफर्ट को दें.

* यदि आप बेडरूम के लिए सोफा ख़रीद रही हैं, तो बहुत बड़ा सोफा ख़रीदने से बचें. हां, यदि कमरा बहुत स्पेसियस है, तो बड़ा सोफा ख़रीद सकती हैं.

* अपने होम डेकोर को डिफरेंट टच देने के लिए आप अलग-अलग डिज़ाइन के कुशन कवर का इस्तेमाल कर सकती हैं.

* सोफा का फैब्रिक ऐसा होना चाहिए जो आपके लाइफस्टाइल से मैच हो. कॉटन, सिल्क, सिंथेटिक आदि का चुनाव कर सकती हैं. वैसे यदि आप सोफा  और घर दोनों को स्टाइलिश लुक देना चाहती हैं, तो सिल्क बेस्ट रहेगा.

* सोफा का कलर सिलेक्ट करते समय अपनी पसंद के साथ ही कमरे के रंग भी ध्यान रखें.

* मार्केट में कई शेप व डिज़ाइन के सोफा उपलब्ध है, अपने घर की सजावट और जगह को ध्यान में रखकर शेप डिसाइड करें.

sofa selection ideas

ताकि सोफा बना रहे नया
सोेफा ख़रीदने के बाद कुछ दिनों तक तो वो बहुत अच्छा लगता है, मगर धूल-मिट्टी के कारण बहुद जल्दी ही वो पुराना दिखने लगता है. ऐसे में अपने सोफे को नए जैसा बनाए रखने के लिए यूं करें उसकी सफ़ाई.

* वैक्यूम क्लीनर से आप सोफे की सफ़ाई कर सकती हैं. इसके लिए सोफे पर से कुशन आदि हटा लें. सोफे को अच्छी तरह साफ़ करने के लिए सॉफ्ट    ब्रश का इस्तेमाल करें.

* यदि सोफा कवर निकलने वाले है, तो उसे साफ़ करने से पहले उसपर लिखे निर्देशों को ज़रूर पढ़ें. आमतौर पर हर फैब्रिक को अलग तरी़के से धोया  जाता है. कुछ के लिए गरम पानी ज़रूरी है, तो कुछ के लिए ठंडा.

* यदि सोफा का कवर रिमूवेबल नहीं है, तो उस पर लगे दाग़ को निकालने के लिए गुनगुने पानी में डिटर्जेंट मिलाकर नरम कपड़े से पोछें, मगर पहले  सोफे के पिछले हिस्से पर लगाकर ट्राई कर लें कि कहीं इससे फैब्रिक ख़राब तो नहीं हो रहा.

* यदि आपके पास लेदर सोफा है, तो सबसे पहले नरम कपड़े से धूल-मिट्टी साफ़ कर लें. फिर विनेगर या पानी स्प्रे करके तुरंत साफ़ कपड़ें से पोछ दें.

– कंचन सिंह

ईज़ी गेस्ट मैनेजमेंट आइडियाज़ (Easy Guest Management Ideas)

अक्सर घर में अचानक गेस्ट आ जाते हैं, तो आप घबरा जाती हैं, लेकिन इन ईज़ी गेस्ट मैनेजमेंट (Easy Guest Management) आइडियाज़ के ज़रिए आपकी सारी चिंताएं दूर हो जाएंगी.

guest manage

  • दरअसल गेस्ट मैनेजमेंट भी एक कला है. आप जब कुछ छोटी-छोटी बेसिक बातों को जान लेंगी, तो इस कला में निपुण हो जाएंगी और आपको यह बेहद आसान लगने लगेगा.
  • सबसे पहले यह बात दिमाग़ से निकाल दें कि आपके मेहमान या रिश्तेदार आपकी परफॉर्मेंस देखने या आपको जज करने आ रहे हैं. वो आपसे मिलने आए हैं. बेहतर होगा कि सहज रहें.
  • मेहमानों को भी सहजता का एहसास कराएं. बहुत ज़्यादा फॉर्मल होने पर उन्हें लगेगा कि उन्होंने आपको डिस्टर्ब किया है.
  • उनकी मूल सुविधाओं का ज़रूर ख़्याल रखें. अगर वो ओवरनाइट स्टे करेंगे, तो एक्स्ट्रा टॉवेल्स, बेड शीट्स, तकिया व बेड आदि की व्यवस्था होनी चाहिए.
  • घर में हमेशा एक्स्ट्रा शैंपू, साबुन, टूथब्रेश, स्लिपर्स आदि होने चाहिएं, ताकि यदि कोई अचानक भी आ जाए, तो आपको यहां-वहां भागना न पड़े.
  • अगर आपके गेस्ट्स सुबह जल्दी उठते हैं, तो उन्हें यह बताकर रखें कि बेसिक चीज़ें कहां रखी हैं, ताकि उन्हें अपनी हर छोटी-बड़ी ज़रूरत के लिए आप पर निर्भर न रहना पड़े.
  • अगर वो लॉन्ग जर्नी से आए हैं, तो उन्हें पहले रेस्ट करने दें. रिफ्रेशमेंट की व्यवस्था भी पर दें.
  • घर में हमेशा बिस्किट्स, नट्स, फ्रूट्स और कोल्ड ड्रिंक्स रखें.
  • अचार, पापड, स्नैक्स, दही आदि भी खाने के स्वाद को बढ़ा सकते हैं और उन्हें वेरायटी भी मिलती है.
  • भले ही आप चाय-कॉफी न पीते हों, लेकिन इनकी व्यवस्था घर पर ज़रूर रखें. टी वा कॉफी मेकर उनके बेडरूम में रख दें, ताकि वो जब चाहें चाय-कॉफी का मज़ा ले सकें.
  • रात को एक बास्केट में फ्रूट्स व बिस्किट्स रखें और पानी की भी व्यवस्था रखें.
  • कुछ अच्छी बुक्स और मैग्ज़ीन्स का कलेक्शन भी घर पर रखें. उन्हें गेस्ट रूम में रख दें.
  • गानों और मूवीज़ की डीवीडी भी उनके मनोरंजन के लिए उपलब्ध करा सकते हैं.
  • अगर वो घूमने-फिरने के उद्देश्य से आए हैं, तो उन्हें मैप, ट्रेन व बस टाइमिंग्स, टूरिस्ट स्पॉट्स की जानकारी उपलब्ध करा सकते हैं.
  • उनके साथ व़क्त भी बिताएं. अगर हो सके, तो एक दिन छुट्टी लेकर उनके साथ घर पर ही टाइम स्पेंड करें या शाम को डिनर या मूवी प्लान करें. इससे उन्हें अच्छा लगेगा.
  • कुछ ईज़ी स्नैक्स की रेसिपीज़ भी आप सीखकर रखें, जैसे- इंस्टेंट ढोकला, इडली, डोसा आदि. आप नाश्ते में ये चीज़ें खुद बनाकर दे सकती हैं.
  • अगर आप वर्किंग हैं, तो घर की देखभाल की ज़िम्मेदारी गेस्ट्स को सौंप दें और उन्हें सारी ज़रूरत की चीज़ें कहां-कहां रखी हैं, बता दें. इससे उन्हें घर जैसा माहौल लगेगा और उन्हें यह जानकर भी अच्छा लगेगा कि आपने उन पर भरोसा जताया और बिना फॉर्मैलिटी के उनका स्वागत किया.

स्मार्ट होम मैनेजमेंट आइडियाज़ (Smart Home Management Ideas)

Home Management

घर के हर कोने को साफ़ और व्यवस्थित रखना चाहती हैं, तो अपनाएं ये स्मार्ट होम मैनेजमेंट ट्रिक्स और कहलाएं स्मार्ट होम मैनेजर. Home Management 

3

लिविंग रूम
* सबसे पहले तो लिविंग रूम को फर्नीचर और एंटीक चीज़ों से भरने की ग़लती न करें. जितना ज़रूरी है, उतने ही फर्नीचर और डेकोरेटिव पीसेस रखें.  इससे मैनेज करना आसान हो जाता है.

* सोफा कवर या पर्दे थोड़े डार्क कलर के सिलेक्ट करें. ये जल्दी गंदे नहीं लगते.

* अगर लाइट कलर इस्तेमाल कर रही हैं, तो बेहतर होगा कि सोफा कवर, पर्दे, कुशन कवर्स आदि के एक से ज़्यादा पेयर रखें, ताकि इसकी क्लीनिंग  आसान हो जाए.

* कई सारे फोटोफ्रेम्स की बजाय सारे फोटो का कोलाज बनाकर एक-दो फ्रेम लगाएं. इससे लिविंग रूम को क्लीन लुक मिलेगा.

* सोफे के पीछे की जगह को स्मार्टली यूज़ करें. एक्स्ट्रा ब्लैंकेट, कुशन्स, डेकोरेटिव आइटम्स को बक्से में भरकर सोफे के पीछे रख दें. एक्स्ट्रा बुक्स  को भी आप ट्रंक में भरकर यहां रख सकती हैं.

* अपना एंटरटेनमेंट कॉर्नर एक बार चेक करें. डीवीडी या सीडी का कलेक्शन चेक करें. जो मूवी आप देख चुके हैं और जिसका कलेक्शन आपको नहीं  रखना है, उसे हटा दें. गैरज़रूरी चीज़ों को घर में न रखें. इससे घर मैनेज करना आसान हो जाएगा और समय की भी बचत होगी.

* हर डेकोरेटिव आइटम या पीस को ये सोचकर सहेजती न जाएं कि इतने पैसे ख़र्च किए थे या अब कहां मिलेंगी ऐसी चीज़ें. इससे आपका घर एंटीक चीज़ों का स्टोर बन जाएगा और आपके लिए उन्हें मैनेज करना भी मुश्किल हो जाएगा. अगर नई चीज़ें घर में लाती हैं, तो पुरानी चीज़ों को हटाना ही पड़ेगा.

* यदि आपने लिविंग रूम में लोटस पॉन्ड, वास आदि रखे हैं, तो उसकी क्लीनिंग का ख़ास ख़्याल रखें. उसका पानी रोज़ाना बदलती रहें, ताकि  बीमारियां न पनपने पाएं.

* क़िताबों को शीशे की आलमारी में रखें. इससे क़िताबों को ढूंढ़ना आसान हो जाएगा. हां समय-समय पर इनकी सफ़ाई करना न भूलें.

* यह सोचकर सफ़ाई को टालती न रहें कि इकट्ठे ही सफ़ाई करेंगी. हर 15 दिन में सफ़ाई करती रहें. इससे जहां आपका घर हेल्दी बना रहेगा, वहीं क्लीन  भी लगेगा.

4

किचन मैनेजमेंट

* जो चीज़ें अक्सर इस्तेमाल में आती हैं, उन्हें एक ही जगह रखें, ताकि उन्हें ढूंढ़ने में समय बर्बाद न हो.

* क्रॉकरी को भी उसके यूज़ के हिसाब से अरेंज करें. रोज़ाना या अक्सर यूज़ होनेवाली क्रॉकरी निचले शेल्फ में रखें और कभी-कभार होनेवाली क्रॉकरी  को ऊपर के शेल्फ में रखें.

* गैस के पास ही कुकिंग रेंज सेट करें जैसे कि मसालों, नमक, शक्कर के जार, कुकिंग पैन, कड़ाही आदि को गैस के पास के शेल्फ में ही रखें, ताकि  इस्तेमाल में आसानी हो.

* किचन में हर समय शॉपिंग लिस्ट लगाकर रखें. जैसे ही कोई चीज़ आउट ऑफ स्टॉक होती है, फ़ौरन उसे लिस्ट में शामिल कर लें. इससे आपको पता  रहेगा कि किचन में क्या चीज़ें नहीं हैं और अंतिम समय में होनेवाली भागदौड़ से आप बच जाएंगे.

* कई महिलाओं की आदत होती है कि कोई भी प्लास्टिक कंटेनर खाली होता है, तो उसे किचन में यूज़ करने लगती हैं. इससे किचन अन ऑर्गनाइज़्ड  तो लगता ही है, मेसी भी लगने लगता है. इसलिए बेहतर होगा कि प्लास्टिक कंटेनर्स का मोह छोड़ें और जितनी ज़रूरत हो, उतने ही कंटेनर्स रखें.

* फ्रिज को गैरज़रूरी चीज़ों का स्टोरेज युनिट न बनाएं. ख़राब हो चुकी सब्ज़ियों, बासी चीज़ों को रोज़ाना हटाती रहें. इससे फ्रिज आसानी से मेंटेन तो  होगा ही, आपके हेल्थ के लिए भी ये ज़रूरी है.

* किचन में साफ़-सफ़ाई का ख़ास ख़्याल रखें. एग्ज़ॉस्ट फैन ज़रूर लगवाएं. इससे किचन में धूल-मिट्टी कम जमती है और किचन क्लीन रहता है.

* किचन प्लेटफॉर्म के पास एक प्लास्टिक बैग टांगकर रखें और कुछ भी काटने के बाद कचरा उसमें ही डालें. ऐसा करने से किचन साफ़-सुथरा रहेगा.  साथ ही नैपकिन्स भी ज़रूर रखें. हाथ पोंछने के लिए सूखे तौलिए या हो सके तो डिस्पोज़ेबल पेपर नैपकिन का इस्तेमाल करें.

6

बेडरूम

* बेडरूम के ड्रॉवर्स का इस्तेमाल अक्सर हम ग़ैरज़रूरी चीज़ों को स्टोर करने के लिए करते हैं और जब उन चीज़ों की ज़रूरत पड़ती है, तो उन्हें ढूंढ़ने में  पूरा बेडरूम ही तहस-नहस कर देते हैं. इसलिए ऐसा करने से बचें. हर चीज़ के लिए एक जगह निर्धारित करें और उसे इस्तेमाल के बाद वहीं रखें.  इससे  आपका बेडरूम तो ऑर्गनाइज़ रहेगा ही, आपके समय की भी बचत होगी.

* बेड स़िर्फ सोने के लिए नहीं होते. इसके नीचे-ऊपर और आसपास की जगह को आप स्टोरेज के लिए स्मार्ट्ली यूज़ कर सकते हैं. लेकिन इसका ये  मतलब नहीं कि आप कहीं भी कुछ भी रख दें.

* इसके लिए आप कलरफुल स्टोरेज ट्रे और प्लास्टिक बिन लेकर आएं और इसमें सामान रखें. इसे आप बेड के नीचे या साइड में अच्छी तरह अरेंज  कर सकती हैं. इन ट्रे और प्लास्टिक बिन्स को समय-समय पर क्लीन करती रहें.

* बेडरूम के हर फर्नीचर यहां तक कि नाइट टेबल का सिलेक्शन करते समय भी स्टोरेज को ध्यान में रखें.

* छोटे घरों में ड्रेसिंग टेबल भी अक्सर बेडरूम में ही रखा जाता है. कॉस्मेटिक्स के लिए कलरफुल ट्रे यूज़ करें. ज्वेलरी और
एक्सेसरीज़ के लिए हैंगिंग ऑर्गेनाइज़र का इस्तेमाल करें. इसमें कई पॉकेट्स बने होते हैं और इसमें आपके ईयरिंग्स, ज्वेलरी, वॉचेस आदि अच्छे से  अरेंज हो जाते हैं.

* हर सुबह उठने के बाद नियम बनाएं कि पांच मिनट बेडरूम ऑर्गनाइज़ करने के लिए देंगे. सारे बेडशीट, पिलो, रजाई वगैरह फोल्ड करके रखें. कोई  चीज़ ग़ैरज़रूरी लगे, तो उसे हटा दें. इससे आपका बेडरूम हमेशा मैनेज रहेगा.

5


वॉर्डरोब मैनेजमेंट

* हर सीज़न के बाद अपना वॉर्डरोब चेक करें. उसमें से जो भी कपड़े अगले सीज़न में इस्तेमाल में न आनेवाले हों, उन्हें वॉर्डरोब से हटा दें.

* जिन कपड़ों के बारे में तय नहीं कर पा रहे हैं कि पहनेंगे या  नहीं, उन्हें भी वॉर्डरोब से बाहर निकाल दें.
* इसी तरह जब भी नए कपड़े, खिलौने, बुक्स आदि ख़रीदें,  तो पुरानी और अनुपयोगी चीज़ों को निकाल दें. इससे  ग़ैरज़रूरी चीज़ों से घर भरा नहीं रहेगा और मैनेज करना भी  आसान हो जाएगा.

* हर सीज़न के कपड़े अलग-अलग रखें और एक सीज़न के  ख़त्म होते ही वो कपड़े अच्छी तरह से क्लीन करके पैक  करके रख दें, ताकि अगले सीज़न में आसानी से यूज़ कर  सकें. इससे आपका वॉर्डरोब क्लीन और मैनेजेबल हो  जाएगा.

* एक जैसे कपड़े, जैसे- शर्ट, सूट, वेस्टर्न वेयर, इंडियन वेयर, पार्टी वेयर आदि को वॉर्डरोब के एक हिस्से में रखें. इससे ज़रूरत पड़ने पर आपको पूरा वॉर्डरोब ढूंढ़ने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.

* हैवी सूट्स, साड़ियां, बच्चों के हैवी कपड़े, जेंट्स सूट, जो कभी-कभार ही पहने जाते हैं, उन्हें सूटकेस में रख दें.

* कई पॉकेट वाले हैंगिंग प्लास्टिक बैग्स को भी वॉर्डरोब में लटका कर रख दें. इसमें आप ज्वेलरी, कॉस्मेटिक्स, एक्सेसरीज़ आदि रख सकती हैं.

* स्टोरेज स्पेस बढ़ाने के लिए ड्रॉवर्स बनवाएं. इनमें कपड़े मैनेज करना भी आसान होता है.

* कपड़ों को हमेशा आयरन करके ही वॉर्डरोब में रखें. इससे जहां वॉर्डरोब आर्गनाइज़्ड रहेगा, वहीं कपड़े भी अच्छी कंडीशन में रहेंगे.

* अच्छी क्वालिटी के हैंगर्स ख़रीदें और इन पर ही कपड़े रखें. इससे कपड़ों पर सिलवटें नहीं पड़ेंगी और उनमें जंग लगने की संभावना भी नहीं रहेगी.

 
कुछ काम की बातें

* ऐसी कोई चीज़, जो अच्छी कंडीशन में हो, पर आपके काम न आती हो, उसे फेंकने से अच्छा है किसी को दान कर दें.

* बिज़नेस या विज़िटिंग कार्ड्स को मैनेज करना मुश्किल होता है, इसलिए बेहतर होगा कि उसे फोन में सेव कर लें या डिजिटल कॉन्टैक्ट लिस्ट
बना लें.

* ज़रूरी पेपर्स और बिल्स को यहां-वहां रखने की बजाय उसे फाइल करने की आदत डालें. इससे उनके खोने का डर नहीं रहेगा और ज़रूरत पड़ने पर वो  आसानी से मिल भी जाएंगे.

घर को क्लीन लुक देने के लिए टूटी-फूटी, ख़राब हो चुकी और ग़ैरज़रूरी चीज़ों को तुरंत हटा दें, जैसे-

* एक्सपायर हो चुके फूड आइटम्स

* शॉपिंग, रेस्टोरेंट के बिल्स, जो ज़रूरी न हों

* टूटे हुए बेकार के इलेक्ट्रॉनिक या किचन अप्लायंसेस, गेम्स आदि

* पुराने कॉस्मेटिक्स, ज्वेलरी

* बच्चों के पुराने खिलौने

* ग़ैरज़रूरी कपड़े या अन्य सामान

क्विक मेकअप आइडियाज़

मेकअप आइडियाज़

 

shutterstock_254940538

– यदि आई मेकअप नहीं करना चाहतीं या समय नहीं है, तो आई लैशेज को कर्ल कर लें और मस्कारा लगा लें. आंखों को आकर्षक लुक देने का ये सबसे आसान और क्विक तरीक़ा है.

–  आंखों के मेकअप के लिए ज़्यादा व़क़्त न हो, तो ब्राउन आईशैडो का एकदम डार्क शेड लें और आईलिड पर ब्रश की सहायता से स्मज करें. ख़ूब सारा मस्कारा लगाएं और निचले लिड पर काजल लगाएं.

परफेक्ट मेकअप ट्रिक्स

2

– मेकअप करने से पहले अपनी स्किन पर 5-10 मिनट तक ब़र्फ रब कर लें. इसके बाद मेकअप करने से वो ़ज़्यादा देर तक टिकता है.

–  क्लीन-मॉइश्‍चराइ़ज़्ड स्किन से शुरू करें.

– फुल फेस कवरेज के लिए सबसे पहले माथे, नाक, ठोड़ी और गालों पर फाउंडेशन के डॉट्स लगाकर उंगलियों के पोरों से ब्लेंड करें. अब थोड़ा फाउंडेशन लगाएं.

–  आजकल सांवली रंगत के लिए कई सारे फाउंडेशन, कंसीलर और पाउडर मार्केट में उपलब्ध हैं, लेकिन इसमें ज़्यादातर ऑरेंज टोन होता है. इसलिए इनसे बचें. इसकी बजाय डीप यलो या रिच गोल्डन टोन वाले फाउंडेशन का चुनाव करें.

– इसी तरह फेयर कॉम्प्लेक्शनवालों को हैवी फाउंडेशन से बचना चाहिए. टिंटेड मॉइश्‍चराइज़र और शीयर फाउंडेशन आपको नेचुरल लुक देंगे.

– अपनी उंगलियों से धीरे-धीरे थपथपाते हुए फाउंडेशन को ब्लेंड करें. अगर चाहें तो गीले स्पॉन्ज से इसे और अच्छी तरह ब्लेंड कर सकती हैं.

– आईशैडो के बेस के तौर पर आईलिड पर भी फाउंडेशन अप्लाई करें.

– कोई दाग़-धब्बे नज़र आएं, तो कंसीलर से उन्हें कवर करें.

– फाउंडेशन से कॉम्प्लीमेंट करता ट्रांस्लुसेंट पाउडर अप्लाई करें. एक बड़े राउंड ब्रश से थोड़ा-सा ट्रांस्लुसेंट पाउडर डस्ट करें. मैट फिनिश के लिए हल्का-सा पाउडर पफ लगाएं.

– टचअप के लिए एक स्टिक फाउंडेशन साथ में रखें, जो आसानी से आपके मेकअप को फ्रेश टचअप देने के लिए काफ़ी है. बहुत ज़्यादा पाउडर के इस्तेमाल  से बचें.

पोनीटेल ट्विस्ट

4

– पोनी अब सिंपल हेयर लुक नहीं रह गया है. पोनी भी नए ग्लैमरस व वेरायटी मेकओवर के साथ फैशन वर्ल्ड का हिस्सा बन चुका है.

– बबल पोनीटेल ट्राई करें. इसके लिए पहले पोनी बांधें. फिर थोड़ी-थोड़ी दूरी पर रबर बैंड बांधते जाएं.

– लो पोनी बांधकर उसे मेटल थ्रेड से अच्छे से रैप कर दें.

– पोनी से बालों का एक सेक्शन लेकर उसे पोनी पर रैप करें. ये भी डिफरेंट लुक देगा.

– पोनी बांधें. अब उसे हल्का-सा पफ लुक देते हुए थोड़ी दूरी पर एक रबर बैंड और बांधें.

– सेंटर पार्टिंग करके दोनों कानों के पास दो पोनी बांधें और बालों का सेक्शन लेकर दोनों पोनी पर रैप कर दें.

– रोल्ड पोनीटेल ट्राई करें. साइड पोनी बनाकर रिबन से उसे रैप करें या पोनी के दो सेक्शन करके उन्हें आपस में ट्विस्ट करके ट्विस्टेड पोनी बनाएं.

– श्रेया तिवारी

ब्यूटी आइडियाज़

एक ख़्वाब जिसे हर आंख ने देखा, एक ख़्याल जो हर दिल में
मुहब्बत बन धड़का… एक नग़मा जिसे हर ज़ुबां ने गुनगुनाया… कभी ठहरे हुए पानी-सी ख़ामोशी लगी उसकी ख़ूबसूरती, तो कभी लहरों की चंचलता… और शबनम के मोती-सा उसका रूप ख़्वाब की ताबीर बन गया. ऐसे ही हुस्न की ख़्वाहिश हमने भी की है आपके लिए, तभी तो ये ब्यूटी आइडियाज़ ले आए हैं आपके लिए.

मेकअप इन फैशन

1

लिपस्टिक

– 70 का ट्रेंड लौट आया है. डार्क लिप्स आजकल हॉट ट्रेंड है. बेरी, प्लम, ब्राउन शेड्स की लिपस्टिक सिलेक्ट करें.

–  डार्क लिपस्टिक लगा रही हैं, तो बाकी मेकअप टोन्ड डाउन ही रखें.

–  लिपस्टिक में ब्लर इफेक्ट भी आजकल इन है. इसके लिए होंठों के बीच में लिपस्टिक लगाएं और उंगलियों से उसे पूरे होंठों पर स्मज करें.

–  डार्क शेड आपके होंठों को पतला दिखाते हैं. बेहतर होगा कि लिपस्टिक लगाने से पहले आउटलाइन कर लें.

–  क्लासिक लुक के लिए डीप रेड कलर की लिपस्टिक लगाकर विंग्ड आईलाइनर और ख़ूब सारा मस्कारा लगाएं.

–  वॉयलेट लिपस्टिक के साथ स्मोकी आईज़ परफेक्ट लुक देती है.

आईलाइनर

–  ग्राफिक आईलाइनर न्यू हॉट ट्रेंड है.

–  इसके लिए लाइनर को आंखों के बाहर खींचते हुए लगाएं.

–  इस सीज़न विंग्ड आईलाइनर को भी प्ले करने दें डबल रोल यानी अपर  और लोअर लिड को विंग्ड आईलाइनर लुक दें.

–  एक्सपेरिमेंट करना चाहती हैं, तो ज्योमैट्रिक लाइनर ट्राई करें.

ब्राइट आईशैडो

–  आई मेकअप में ब्लैक और ब्राउन अब पुरानी बात हो गई है. न्यू ट्रेंड है कलर पॉपिंग का. ब्राइट ऑरेंज से आइसी ब्लू तक- आप कोई भी ब्राइट आईशैडो सिलेक्ट कर सकती हैं.

–  आईलिड पर पहले व्हाइट या न्यूड शेड का प्राइमर अप्लाई करें. इससे कलर पॉपिंग का इफेक्ट ज़्यादा दिखाई देगा.

–  आईशैडो का वही शेड लोअर आई लैशेज पर यूज़ करें. ख़ूबसूरत स्मोकी इफेक्ट मिलेगा.

–  आईशैडो को और ज़्यादा इंटेंसिफाई करने के लिए उसी कलर का लाइनर अप्लाई करें.

–  आई मेकअप में थोड़ा शिमर एंड शाइन ऐड करें. इससे आंखों को ग्लैमरस लुक मिलेगा.

2

फॉर स्मोकी लुक

–  स्मोकी लुक ऑलटाइम ट्रेंडी लुक है.

–  इसके लिए कॉटन बड (ईयर बड) से काजल को आईलिड पर रब करें. अब जो लिप पेंसिल आप लिप पर अप्लाई करेंगी, उसी लिप पेंसिल को काजल पर हल्का-सा रब करें और कॉटन बड से स्मज कर दें.

–  शिमर्स इस सीज़न में इन हैं. अगर पार्टी लुक चाहती हैं, तो शिमरी स्मोकी आईज़ क्रिएट करें. इसके लिए आई मेकअप को स्मोकी इफेक्ट देने के बाद शिमर ऐड करें.

नेल आर्ट

–  परफेक्ट नेलपॉलिश आपका मूड बदल सकता है और ये बात शोधों में भी साबित हो चुकी है. तो क्यों न नेलपॉलिश को भी नया ट्विस्ट दें. नेल आर्ट ट्राई करें, जो आजकल काफ़ी ट्रेंड में भी है.

–  लाइट कलर की नेलपॉलिश अप्लाई करें. टूथपिक से कंट्रास्ट कलर की नेलपॉलिश से डॉट्स बनाकर पोल्का डॉट्स का इफेक्ट दें.

–  नेलपॉलिश अप्लाई करके कॉर्नर पर ग्लिटर स्प्रेड करके ग्लिटरी इफेक्ट दें.

–  मार्कर या ब्रश से स्ट्राइप्स बनाएं. ये ईज़ी और क्विक नेल आर्ट ट्रिक है.

–  आप चाहें तो हर नेल को अलग-अलग ब्राइट कलर से पेंट कर सकती हैं.

आईशैडो सिलेक्शन

–  अगर आपकी आंखों का रंग डार्क ब्राउन है, तो ब्रॉन्ज, कॉपर या ब्राउन आईशैडो सिलेक्ट करें. ग्लैमरस लुक के लिए ग्रीन चुनें.

–  अगर आपकी आंखों का रंग ब्लैक है, तो आप कोई भी शेड सिलेक्ट कर सकती हैं. ब्राउन, सॉफ्ट गोल्ड या ग्रे आईशैडो आप पर ख़ूबसूरत लगेंगे.

–  अगर आपकी ब्लू आईज़ हैं तो आप टरकॉयज़, सिल्वर, फुशिया जैसे डार्क शेड्स अप्लाई करें.

–  अगर आईशैडो पर ज़्यादा ख़र्च करना नहीं चाहतीं, तो पाउडर आईशैडो ख़रीदें. ये सस्ते तो होते ही हैं, इनके एक कॉम्पैक्ट में एक साथ कई शेड और हाइलाइटर भी शामिल होते हैं.

–  अगर आप जल्दी में हैं, तो आईशैडो स्टिक आपके लिए पऱफेक्ट होगा. ये लगाने में आसान होता है और ज़्यादा महंगा भी नहीं होता.

–    आंखों के मेकअप के लिए ज़्यादा व़क़्त न हो, तो ब्राउन आईशैडो का एकदम डार्क शेड लें और आईलिड पर ब्रश की सहायता से स्मज करें. ख़ूब सारा मस्कारा लगाएं और निचले लिड पर काजल लगाएं.

– श्रेया तिवारी

फिगर करेक्शन

परफेक्ट फिगर बहुत कम लोगों को नसीब होता है, लेकिन आप अगर चाहें, तो सही स्टाइलिंग के ज़रिए अपनी इन कमियों को छुपाकर ख़ूबसूरत ऩज़र आ सकती हैं.

3

अगर हाइट कम है और मोटी हैं तो
* जितना हो सके अपने लुक को सिंपल रखें.
* आप ड्रेप्ड टॉप्स और ड्रेसेज़ ट्राई कर सकती हैं. इन कपड़ों में बॉडी स्ट्रक्चर हाईलाइट नहीं होता, जिससे ब्रॉडनेस भी छिप जाती है और हाइट भी अच्छी लगती है.
* आप लॉन्ग फ्लोई टॉप्स भी ट्राई कर सकती हैं.
* बूटकट बॉटम्स के साथ हाई हील्स या वेजेज़ पहनें.
* फ्लोर लेंथ ड्रेसेज़ हाई हील्स के साथ पेयर कर
सकती हैं.

क्या न करें?
* स्लीवलेस व इन कट स्लीव्स अवॉइड करें.
* इसके अलावा आप हॉरिज़ॉन्टल स्ट्राइप्स और फ्लैट फुटवेयर्स भी अवॉइड करें.
* आप कभी भी लेयरिंग ट्राई न करें.

गर्दन छोटी व मोटी हो तो
* वी नेकवाले या बड़े गलेवाले टॉप्स पहनें.
* शॉर्ट व चंकी ज्वेलरी की बजाय एक लंबी पतली चेन से अपने लुक को एक्सेसराइज़ करें.

क्या न करें?
* स्मॉल राउंड नेक, कॉलर्स व हाई नेकवाले टॉप्स अवॉइड करें.
* जहां तक हो सके, शर्ट्स अवॉइड करें.
* अपने बॉडी पोश्‍चर पर भी ध्यान दें. लंबी दिखने के लिए हमेशा सीधी बैठें.

1

 

 

बस्टलाइन ज़्यादा चौड़ी हो तो
* ग्राफिक नेकलाइन्स और शॉर्टर वी नेकवाले टॉप्स ख़ास आपके लिए हैं.
* डार्क शेड या ज्वेल्ड टोन के सॉलिड कलर्स के टॉप सिलेक्ट करें.
* स्कार्फ यूज़ करें. यह आपको टॉल लुक देगा.

क्या न करें?
* बहुत ज़्यादा कलर कॉन्ट्रास्ट से बचें.
* हॉरिज़ॉन्टल स्ट्राइप्स, कॉम्प्लीकेटेड प्रिंट्स और चंकी ज्वेलरी हमेशा
अवॉइड करें.
* एम्पायर कट्स अवॉइड करें.

हिप्स बड़े हों तो
* हिप्स कवर हो जाएं, ऐसे लंबे टॉप्स पहनें.
* आपको पेपलम्स ट्राई करने चाहिए.
* आपके लिए लॉन्ग टॉप्स और शिफ्ट ड्रेसेज़ आइडियल हैं.
* डार्क कलर्ड डेनिम्स और पैंट्स पहनें. बूट कट बॉटम्स भी आप पर अच्छे लगेंगे.

क्या न करें?
* आप लो वेस्ट बॉटम्स अवॉइड करें.
* इसके अलावा शॉर्ट टॉप्स और स्किनी जींस भी अवॉइड करें.
* फ्लैट फुटवेयर्स की बजाय हील्स में आप ज़्यादा अच्छी दिखेंगी.

यह भी देखें: 65 बेस्ट फैशन टिप्स हर स्टाइलिश वुमन को जानने चाहिए

2

कमर चौड़ी हो तो
* लॉन्ग टॉप्स व ट्यूनिक्स, कफ़्तान और स्ट्रेट कट स्टाइल के टॉप्स आपके लिए आइडियल हैं.
* पेपलम टॉप के साथ बेल्ट ऐड करें.
* एम्पायर लाइन्स, पेपलम्स, इल्यूज़न प्रिंट्स, ड्रेप्स, नॉट्स और मिड वेस्ट सिल्हॉट्स ख़ास आपके लिए हैं.

क्या न करें?
* फिटेड या शॉर्ट टॉप्स कभी ना पहनें.

यह भी देखें: 35 स्टाइलिश ब्लाउज़: 35 स्टाइलिश लुक्स ‘ये है मोहब्बतें’ एक्ट्रेस अनिता हसनंदानी के

4

थाईज़ मोटी हों तो
* स्ट्रेट कट पैंट्स पहनें.
* लॉन्ग मैक्सी स्कर्ट्स, पलाज़ो पैंट्स, मैक्सी ड्रेसेज़ आपके लिए आइडियल हैं.

क्या न करें?
* आप लैगिंग्स अवॉइड करें.
* शॉर्ट ड्रेसेज़, स्किनी जींस, शॉर्ट्स और टाइट कपड़े अवॉइड करें.

फैशन की अन्य ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें