Tag Archives: Indian soldiers

कारगिल विजय दिवस के 18 साल: अमर शहीद जवानों को याद करें देशभक्ति के गानों के साथ (Remembering Kargil War Heroes With Bollywood Patriotic Songs)

18 साल पहले आज ही के दिन 26 जुलाई 1999 को जम्मू-कश्मीर के कारगिल में भारतीय सेना ने पकिस्तान को हरा कर अपना तिरंगा लहराया था. यह जीत 527 जवान शहादत केे बाद मिली. इस जंग में 1367 वीर जवान घायल हुए थे.

कारगिल की पहाड़ियों पर कब्ज़ा जमाए बैठे पाकिस्तानियों को खदेड़ने के लिए भारतीय सेना ने उनके खिलाफ़ ऑपरेशन विजय चलाया था. कारगिल युद्ध 8 मई 1999 को शुरू हुआ था और पाकिस्तान की हार के साथ 26 जुलाई 1999 को ख़त्म हुआ, जिसके बाद से 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस मनाया जाता है. 16 से 18 हज़ार फिट की ऊंचाई पर कारगिल में लड़ी गई इस लड़ाई में भारतीय सेना ने पाकिस्तानियों को भारतीय धरती से निकाल बाहर फेंक दिया. कैप्टन विक्रम बत्रा, मेजर अजय सिंह जसरोटिया, कैप्टन मनोज कुमार पांडेय, कैप्टन विजयंत थापर, नायब सूबेदार योगेंद्र सिंह यादव, राइफलमैन संजय कुमार, कैप्टन अनुज नय्यर जैसे जांबाज़ वीरों की वजह से ये जीत मिली थी.

भारतीय सेना के साहस, वीर शहीद जवानों की शहादत और देश के लिए उनके परिवारों के बलिदान को हमारा सलाम.

मेरी सहेली की ओर से वीर शहीद जवानों और उनके परिवारों को शत् शत् नमन.

आइए, देखते हैं बॉलीवुड के कुछ देशभक्ति के गाने, जो इस जज़्बे को और मज़बूत बनाते हैं.

फिल्म- LOC कारगिल

फिल्म- लक्ष्य

फिल्म- हक़ीकत

फिल्म- काबुलीवाला

फिल्म- नया दौर

फिल्म- बॉर्डर

फिल्म- शहीद

फिल्म- कर्मा

गाना- मां तुझे सलाम…

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें.

 

What an Idea! अक्षय कुमार ऐप के ज़रिए करेंगे शहीदों के परिवार की मदद (Akshay Kumar’s App Idea to Support Shaheed families)

565389-akshay-kumar-app (1)खिलाड़ियों के खिलाड़ी अक्षय कुमार का नया आइडिया कमाल का है. अक्षय ने सोशल मीडिया पर ये आइडिया अपने वीडियो के ज़रिए शेयर भी किया है. अक्षय एक ऐसा ऐप बनाना चाहते हैं, जिसके ज़रिए लोग शहीदों के परिवार वालों की सीधे-सीधे मदद कर पाएंगे.

5 मिनट 40 सेकंड के इस वीडियो में अक्षय ने कहा कि क्यों न हम शहीदों के परिवार वालों को और लोगों को एक कॉमन जगह पर मिलवा दें. अक्षय ने ये भी कहा कि ये आइडिया डायरेक्ट उनके दिल से निकला है, हो सकता है कि ये आइडिया एकदम बेकार हो या एकदम हिट हो.

अक्षय एक ऐसी वेबसाइट या मोबाइल ऐप बनाना चाह रहे हैं, जहां शहीद जवान के एक क़रीबी जैसे- पिता, माता, पत्नी की डिटेल इस ऐप पर आ जाए उनके वेरिफाइड एकाउंट डिटेल्स के साथ. रिपोर्ट आ जाए, ताकि जिसे भी शहीदों के परिवार वालों की मदद करनी है, वो डायरेक्ट बिना किसी के बीच में आए परिवार की मदद कर सके. हर कोई अपनी मर्ज़ी और हैसियत के मुताबिक़ पैसे डोनेट कर सकता है, जैसे ही शहीद के परिवार वाले के एकाउंट में 15 लाख रुपए जमा हो जाएंगे, वो एकाउंट ऐप से हटा दिया जाएगा.

अक्षय ने ये भी कहा कि अगर इतनी बड़ी आबादी से 15 हज़ार लोग भी 100 रुपए डाल दें, तो सिर्फ 4 घंटे में परिवार को 15 लाख रुपए मिल जाएंगे. बिना कोई फॉर्म भरे या दफ़्तरों के चक्कर लगाए उनके बच्चों का भविष्य सुरक्षित हो जाएगा.

उन्होंने ये भी कहा, ”अगर आप सब की परमिशन है, तो मैं ये वेबसाइट और ऐप आर्म्ड फोर्सेस की मदद और सरकार की परमिशन से ख़ुद ही बनवा लूंगा. आज हम सब की लाइफ है, क्योंकि वो (जवान) बंदूक तान के बैठा है दिन रात, अगर हम ये काम कर गए तो ये सबसे बड़ा सैल्यूट होगा जवानों के लिए. जय हिंद.”

– प्रियंका सिंह