INS Viraat

INS Viraat

3 दशक से भी अधिक समय से भारतीय नौसेना का मान बढ़ाने वाला आएनएस विराट अलविदा कहने को तैयार है. दुनिया का सबसे पुराना एयरक्राफ्ट कैरियर वॉरशिप 1987 से सर्विस दे रहा है. विराट 12 मई 1987 को इंडियन नेवी में कमीशंड हुआ थ. इस शिप की पंच लाइन जलमेव यस्य, बलमेव तस्य है. इसका मतलब- जिसका समंदर पर कब्ज़ा है, वही सबसे बलवान है.

विराट ने 2252 दिन समुद्र में बिताए हैं. इस दौरान इसने 10 लाख 94 हजार 215 किलोमीटर की यात्रा की है. यह दुनिया के 27 बार चक्कर लगाने के समान है. इस वॉरशिप से लड़ाकू विमानों ने 22 हजार 622 घंटे की उड़ान भरी है. विराट ने 1989 में श्रीलंका में भेजी गई शांति सेना के दौरान आपरेशन जूपिटर, 2001-02 में संसद पर हमले के बाद ऑपरेशन पराक्रम के दौरान अहम भूमिका निभाई थी. विराट का वजन करीब 24 हजार टन, लंबाई 740 फीट, चौड़ाई 160 फीट है. इस पर डेढ़ हजार जवान तैनात होते हैं.

सबसे अधिक समय तक सेवा देने के लिए आईएनएस विराट का नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया था. रिटायरमेंट के बाद आईएनएस विराट का क्या होगा फिलहाल इस बात को लेकर कोई जानकारी सामने नहीं आई है.