Tag Archives: interior

टॉप वॉलपेपर सिलेक्शन आइडियाज़(Top Wallpaper Selection Ideas)

वॉल डेकोर को नया अंदाज़ देना चाहती हैं तो उसे वॉलपेपर से सजाएं और होम डेकोर को दें डिफरेंट लुक, लेकिन वॉलपेपर सिलेक्शन से पहले कुछ बातों का ध्यान रखें.

ban-680-1
वॉलपेपर सिलेक्शन टिप्स

– वॉलपेपर ख़रीदते समय अपने बजट का ध्यान रखें, क्योंकि महंगे वॉलपेपर लगाने का लेबर कॉस्ट भी अधिक होगा.
– वॉलपेपर ख़रीदते समय इस बात का ध्यान रखें कि किस रूम के लिए किस टाइप का वॉलपेपर ख़रीदना है.
– किचन के लिए ऐसा वॉलपेपर चुनें, जो इनफ्लेमेबल (ज्वलनशील) न हो.
– किड्स रूम के लिए वॉलपेपर का चुनाव करते समय उनकी पसंद-नापसंद का ध्यान रखें.
– अच्छी क्वालिटीवाला वॉलपेपर ही ख़रीदें, जो टिकाऊ भी हो.
– आप ऐसे वॉलपेपर का चुनाव भी सकते हैं, जो स्क्रैचेज़ और स्टेन रेज़िस्टेंट हो.
– वॉलपेपर के मार्केट रेट की जानकारी प्राप्त करने के बाद एक बार ऑनलाइन रिसर्च ज़रूर करें. इस रिसर्च के दौरान वॉलपेपर के टाइप, मटेरियल, क़ीमत और रिव्यू ज़रूर पढ़ें.

वॉलपेपर के प्रकार

विनायल वॉलपेपर: किचन और बाथरूम की सुरक्षा के लिए विनायल वॉलपेपर सबसे अच्छा विकल्प है, क्योंकि इन वॉलपेपर पर नमी नहीं लगती. इनकी क़ीमत कम होती है और क्लीनिंग व केयर में भी अधिक मेहनत नहीं लगती. ये वॉलपेपर किचन व बाथरूम को शाइनी व स्मूद टच देते हैं.
पीवीएफ (पॉली विनायल फॉम) वॉलपेपर: इस वॉलपेपर को घर के इन्सुलेटेड एरिया में लगाना चाहिए, जैसे- घर के उस एरिया में, जहां पर आपने होम थियेटर सिस्टम इंस्टॉल किया हो. वास्तव में पीवीएफ, साउंड इन्सुलेटर का काम करता है, जिससे बाहरी शोर अंदर सुनाई नहीं देता. इस वॉलपेपर को लगाने का एक दूसरा लाभ यह भी है कि यह कमरे में कूलिंग बनाए रखने में मदद करता है.

1e5f04c4e3d1e2dce71ef9a7d0df0e9f
फ्लोक्ड वॉलपेपर (टेक्सटाइल फाइबर से बने वॉलपेपर): सिल्क, कॉटन, वेलवेट और लिनेन से बने इन वॉलपेपर की क़ीमत बहुत अधिक होती है. इन वॉलपेपर को बहुत अधिक केयर और मेंटेनेंस की ज़रूरत होती है. महंगे होने के बाद भी अधिकतर लोग इन वॉलपेपर को अपने घर में लगाते हैं, क्योंकि ये वॉलपेपर कमरे में ङ्गविज़ुअल ब्यूटीफ जैसा लुक क्रिएट करते हैं. अमूमन डाइनिंग व लिविंग रूम में इस तरह के वॉलपेपर लगाए जाते हैं.
फाइबरग्लास वॉलपेपर: कंटेम्प्रेरी टाइपवाले ये वॉलपेपर दिखने में बहुत ही ख़ूबसूरत लगते हैं. ये फायर रेटारडेंट (अग्नि विरोधी) होते हैं. इन्हें घर पर धो भी सकते हैं.
फॉइल वॉलपेपर: घर को ट्रेडिशनल लुक देेने के लिए मेटालिक फॉइल शीट और पेपर से बने वॉलपेपर लगा सकते हैं, लेकिन मेटल शीट से बने होने के कारण इन वॉलपेपर्स को लाइट, स्विच व सॉकेट के आसपास न लगाएं.
उपरोक्त बताए टाइप के अलावा और भी बहुत सारे टाइप के वॉलपेपर बाज़ार में मिलते हैं, जिनका चुनाव आप अपनी पसंद, शौक़, बज़ट और ट्रेंड के अनुसार कर सकते हैं.

वॉलपेपर डिज़ाइनिंग आइडियाज़

 

modern-home-decor-BEDROOM-INSPIRATIONS-MODERN-VINTAGE-WALLPAPER-harlequin-poetica-wallpapers-e1432717014235

– आजकल मार्केट में विभिन्न प्रकार के पैटर्न- क्लासिक पैटर्न, ऐब्सट्रैक्ट पैटर्न, ग्राफिक्स पैटर्न, फ्लोरल पैटर्न, ज्योमैक्ट्रिकल पैटर्न, रेट्रो पैटर्न, थ्रीडी पैटर्न और मेटालिक पैटर्न आदि मिलते हैं. अपनी पसंद, शौक़ और कमरे के अनुसार वॉलपेपर का सिलेक्शन करें.
– अलग-अलग रूम के अलग-अलग थीम वाला वॉलपेपर चुनें.
– वॉल कलर से मैच करते हुए और डल कलरवाले वॉलपेपर का सिलेक्शन न करें.
– छोटे कमरे में बोल्ड कलर और बड़े प्रिंट के वॉलपेपर न लगाएं. इससे कमरा और छोटा लगेगा.
– छोटे कमरे को स्पेशियस लुक देने स्ट्राइप्स पैटर्नवाले वॉलपेपर का चुनाव करें. इससे कमरा स्पेशियस लगता है.
– किचन के लिए सॉलिड विनायल वॉलपेपर अच्छा विकल्प है. यह स्टेन रेज़िस्टेंट होता है, साथ ही रब करने पर जल्दी ख़राब भी नहीं होता.
– किड्स रूम के लिए ब्राइट कलर्स और आकर्षक पैटर्नवाले वॉलपेपर चुनें.
– कमरे की फीचर वॉल के लिए ब्राइट प्रिंट और पैटर्न बेस्ड वॉलपेपर चुनें.
– कमरे को मॉडर्न लुक देने के लिए ब्लैक कलर में क्लासिक पैटर्नवाला वॉलपेपर लगाएं.
– कमरे को बोल्ड लुक देने के लिए डीप रेड कलर के वॉलपेपर का सिलेक्शन करें.
– केवल एक दीवार पर ही नहीं, चाहें तो दो दीवारों पर ही वॉलपेपर लगाएं और बाकी दो दीवारों को पेंट करें. इससे भी डेकोर को न्यू लुक मिलेगा.

– देवांश शर्मा

टॉप 25 वास्तु टिप्स: बिना तोड़-फोड़ के कैसे दूर करें वास्तु दोष? (Top 25 Vastu Tips: Vastu Correction without Demolition)

तमाम एहतियात के बावजूद कई बार घर में बिना वजह के तनाव व लड़ाई-झगड़ा बना रहता है. आपसी रिश्तों में कड़वाहट और
उदासीनता-सी रहती है. अन्य कारणों के अलावा वास्तु दोष के कारण भी ऐसा हो सकता है. आप चाहें तो बिना किसी
तोड़-फोड़ घर के वास्तु दोष को दूर कर सकती हैं.

 

013-695x400

– यदि घर में पानी का फ्लो ठीक न हो या पानी की सप्लाई सही दिशा से न हो, तो उत्तर-पूर्व दिशा से यानी ईशान कोण से भूमिगत पानी की टंकी का निर्माण कर उसी से घर में पानी की सप्लाई करें. ऐसा करने से यह वास्तु दोष दूर हो जाएगा और पानी की ग़लत दिशा से सप्लाई भी बंद हो जाएगी.
– घर का आगे का हिस्सा ऊंचा व पीछे का भाग नीचा हो, तो निचले भाग में डिश एंटीना, टीवी एंटीना आदि को अगले भाग से ऊंचा कर लगा दें. इससे यह वास्तु दोष पूरी तरह से दूर हो जाएगा.
– घर में जो घड़ियां बंद पड़ी हों, उन्हें या तो घर से हटा दें या रिपेयर करवा लें. बंद घड़ियां हानिकारक होती हैं. इनसे नकारात्मक ऊर्जा निकलती हैं.
– यदि घर का प्लास्टर उखड़ गया हो या दरारें पड़ गई हों, तो उसे तुरंत रिपेयर करवा दें.
– किचन के दरवाज़े के ठीक सामने बाथरूम का दरवाज़ा हो, तो यह नकारात्मक ऊर्जा देगा. इस दोष से बचने के लिए बाथरूम या किचन के बीच में एक कपड़े का परदा या किसी अन्य प्रकार का पार्टिशन खड़ा कर सकते हैं, ताकि किचन से बाथरूम दिखाई न दे.
– आग्नेय कोण (पूर्व-दक्षिण की मध्य की दिशा) में किचन न होने पर गैस चूल्हे को किचन के आग्नेय कोण में रखकर दोष का निवारण किया जा सकता है.
– यदि उपरोक्त उपाय नहीं कर सकते, तो आग्नेय कोण में ज़ीरो पावर का बल्ब जलाकर भी इस दोष से बचा जा सकता है.
– यदि ईशान में बोरिंग या अंडरग्राउंड टैंक आदि न बनवा सके हों, तो ईशान में एक सिंपल पानी की टंकी लगवाकर दोष का निवारण कर सकते हैं.

यह भी पढ़े: किचन के लिए Effective वास्तु टिप्स, जो रखेगा आपको हेल्दी

यह भी पढ़े: धन प्राप्ति के लिए 25 Effective वास्तु टिप्स 
– यदि भूखंड चौकोर नहीं हो, तो यह ज़रूर देख लें कि लंबाई चौड़ाई की दुगुनी से अधिक न हो. यदि लंबाई चौड़ाई से दुगुनी हो, तो अतिरिक्त भूभाग पर इंडिविज़ुअल कुछ डेवलप किया जा सकता है.
– फेंगशुई के अनुसार, घर के पूर्वोत्तर दिशा में तालाब या फाउंटेन शुभ होता है, पर इसके पानी का बहाव घर की ओर होना चाहिए न कि बाहर की ओर.
– घर के वास्तु दोष को दूर करने के लिए घर में इलेक्ट्रिकल उपकरण, जो कर्कश आवाज़ पैदा करते हों, जैसे- पंखे, कूलर आदि की समय-समय पर मरम्मत करवाते रहें.
– दरवाज़ों के कब्जों में तेल डालते रहें, वरना दरवाज़ा खोलते या बंद करते समय आवाज़ आती है, जो वास्तु के अनुसार अशुभ व नुक़सानदायक होती है.
– यदि आप वैवाहिक जीवन में ख़ुशियां चाहते हैं, तो बेडरूम की साफ़-सफ़ाई व ख़ूबसूरती पर भी विशेष ध्यान दें. बेडरूम शांत, ठंडा, हवादार व बिना दबाववाला होना चाहिए. बेडरूम में बेकार का सामान न रखें.
– बेडरूम में प्राइवेसी बरक़रार रहे, इसके लिए ध्यान रखें कि बेडरूम की खिड़की दूसरे कमरे में नहीं खुलनी चाहिए.
– बेडरूम की आवाज़ बाहर नहीं आनी चाहिए. इससे दांपत्य जीवन में मिठास बनी रहती है.
– बेडरूम की दीवारों पर पेंटिंग्स व तस्वीरें कम, मनभावन व आकर्षक हों.
– बेडरूम में पलंग आवाज़ करनेवाला न हो और सही दिशा में रखा हो. सोते समय सिर दक्षिण की ओर होना चाहिए. आरामदायक व भरपूर नींद से दांपत्य जीवन अधिक सुखद बनता है.
– बाथरूम बेडरूम से लगा हुआ होना चाहिए. बाथरूम का दरवाज़ा बेडरूम में खुलता हो, तो उसे बंद रखना चाहिए या फिर उस पर परदा भी डाल सकते हैं.
– बेडरूम में सोते समय ज़ीरो वॉट का बल्ब जलाना चाहिए, पर ध्यान रहे कि रोशनी सीधी पलंग पर नहीं पड़नी चाहिए.
– फेंगशुई में कछुए को शुभ माना जाता है. इसे घर में रखने से धन-दौलत व सुख-समृद्धि बनी रहती है. इसे अपने घर या ऑफिस की उत्तर दिशा में रखें. ध्यान रहे, कछुए को जब भी रखें, तो उसका चेहरा अंदर की ओर होना चाहिए, तभी दिशा शुभ होगी. इसे कभी जोड़े में न रखें.
– फेंगशुई से वास्तु दोष निवारण में कछुआ अहम् भूमिका निभाता है और यदि आपके घर में कछुआ है, तो समझ लीजिए आप बीमारी व शत्रुओं से दूर ही रहेंगे.
– परिवार की ख़ुशहाली व स्वास्थ्य के लिए पूरे परिवार की फोटो लकड़ी के फ्रेम में जड़वाकर घर की पूर्व दीवार पर लगाएं.
– लिविंग रूम में जहां घर के सदस्य आमतौर पर इकट्ठा होते हैं, वहां बांस का पौधा रखना चाहिए. पौधे को लिविंग रूम के पूर्व कोने में गमले में रखें.
– बेडरूम में पौधा नहीं रखना चाहिए, पर बीमार व्यक्ति के कमरे में फ्रेश फ्लावर्स रख सकते हैं. लेकिन इन फूलों को रात को कमरे से हटा दें.
– मानसिक शांति के लिए चंदन की अगरबत्ती जलाएं. इससे मानसिक बेचैनी कम हो जाती है.

– ऊषा गुप्ता

यह भी पढ़े: चाहते हैं बच्चों की तरक्क़ी तो वास्तु के अनुसार सजाएं कमरा

यह भी पढ़े: करियर में कामयाबी के लिए इफेक्टिव वास्तु ट्रिक्स

[amazon_link asins=’B00L2BRYZK,B072L43YDG,B078GC787C,B077LRYBYP’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’d99c172a-ea2e-11e7-ae47-552018496668′]

 

वास्तु के अनुसार कलर स्कीम सिलेक्शन(Colour Scheme Selection as per Vastu Shashtra)

आपके जीवन में हमेशा ख़ुशियां शामिल हों… सुख-संपत्ति और स्वास्थ्य प्राप्त हो, इसके लिए ज़रूरी है घर को वास्तु शास्त्र से सजाना… कलर स्कीम वास्तु के सिद्धांतों के अनुसार तय करना.

 

modern-luks-daire-dekorasyon-fikirleri-1

– आसमानी रंग का इस्तेमाल मकान के उत्तर दिशा में करना चाहिए.
– लाल रंग का इस्तेमाल घर के दक्षिणी या दक्षिण-पूर्वी हिस्से में करें.

 

winsome-red-rooms-for-girls-bedroom-magnificent-room-design-ideas-couch-living-perth-designs-decorating-sofa-dining-1024x742

 

– अगर इस हिस्से में अगर बेडरूम हो तो वहां लाइट पिंक रंग लगाएं.
– हरे रंग का प्रयोग घर के उत्तर में करना चाहिए. इससे आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा.

यह भी पढ़ें: हेल्दी लाइफ और लंबी उम्र के लिए घर में रखें ये लकी चार्म

 

home-decor-store

– पीले रंग का इस्तेमाल घर के पूर्वोत्तर में स्थित किसी भी कमरे में किया जा सकता है.

 

– अगर इस दिशा में स्टडी रूम, लाइब्रेरी या बच्चों का कमरा हो तो डार्क पीले की जगह हल्के पीले रंग का इस्तेमाल करें.
– छोटे बच्चों, लड़कियों और नवविवाहित जोड़ों के कमरे में हल्के बैंगनी रंग का इस्तेमाल करें.
यह भी पढ़ें: किचन के लिए Effective वास्तु टिप्स, जो रखेगा आपको हेल्दी

b58db1bd09ce3a5ca7ea11301910e6bd

 

ध्यान रखें-

 

– दक्षिण पूर्व में कभी हल्के या गहरे ब्लू रंग का इस्तेमाल न करें.
– पूर्वोत्तर या उत्तर दिशा में कभी लाल या ऑरेंज रंगों का इस्तेमाल न करें.
– एक ही बेडरूम की चारों दीवारों पर अलग-अलग कलर न करें. इससे रिश्तोें में तनाव आता है.
– मकान के बाहरी दीवारों पर ग्रे, ब्राउन या काले रंग का इस्तेमाल कभी न करें.
यह भी पढ़ें: बेडरूम में पॉज़िटीविटी बनाए रखने के लिए फॉलो करें ये 9 वास्तु रूल्स

बेस्ट समर होम डेकोर आयडियाज़(Best Summer Home Decor Ideas)

 

मौसम बदलते ही जिस तरह आप अपनी ईटिंग हैबिट्स, ब्यूटी रूटीन, वॉर्डरोब की चीज़ें बदलती हैं, उसी तरह आपके घर को भी बदलाव की ज़रूरत होती है. हॉट समर में अपने ड्रीम होम को कैसे रखें कूल और क्लासी? आइए, हम आपको बताते हैं.

समर में घर को कूल और कंफर्टेबल बनाने के लिए कौन-से रूल्स फॉलो करने चाहिए? बता रही हैं इंटीरियर डिज़ाइनर अंजलिका कृपलानी.

ईको फ्रेंडली डेकोर

 

modern-living-room-designs-interior-decorating-5
– समर में घर को ईको फ्रेंडली टच देकर आप घर का लुक भी बदल सकती हैं और गर्मी से राहत भी पा सकती हैं.
– केन, बैंबू, नारियल की जटा व छाल, टेराकोटा आदि से बने फर्नीचर का उपयोग करके आप न स़िर्फ अपने घर को ख़ूबसूरत बना सकती हैं, बल्कि प्रकृति को बचाए रखने में भी सहायक साबित हो सकती हैं.
– घर को ईको फ्रेंडली लुक देने के लिए बेज, इंडिगो आदि शेड व फ्लोरल प्रिंट वाले सॉफ्ट फैब्रिक आपके बहुत काम आ सकते हैं.

व्हाइट पावर

 

modern-luks-daire-dekorasyon-fikirleri-1

– समर में व्हाइट कलर घर को कूल लुक देता है. यदि आपके घर की दीवारों का कलर व्हाइट या ऑफ व्हाइट है, तो आप घर के लिए कोई भी थीम आसानी से चुन सकती हैं, क्योंकि इनके साथ कोई भी कलर स्कीम मैच हो जाती है.
– आप अपनी प्लेन दीवारों को वायब्रेंट लुक देने के लिए कलरफुल वॉल एक्सेसरीज़ का इस्तेमाल कर सकती हैं.
– ख़ास मौ़के पर डायनिंग टेबल पर प्लेन टेबल क्लॉथ बिछाकर कलरफुल कैंडल्स, नैपकीन, फ्लावर अरेंजमेंट से टेबल को वॉर्म लुक दे सकती हैं. आप चाहें तो प्लेन व्हाइट टेबल के साथ कलरफुल चेयर्स का कॉम्बिनेशन भी ट्राई कर सकती हैं.
– ऑफ व्हाइट या व्हाइट दीवारों के साथ कलरफुल कर्टन, कुशन आदि का प्रयोग करके आप घर को वायब्रेंट लुक दे
सकती हैं.

सिट्रस मैजिक

sweet-looking-yellow-home-decor-beautiful-design-1000-images-about-color-yellow-on-pinterest
– घर को वॉर्म लुक देने के लिए सिट्रस कलर्स, जैसे- यलो, ऑरेंज, ऑलिव आदि बेस्ट ऑप्शन हैं.
– सिट्रस कलर्स का इस्तेमाल अगर दीवार को कलर करने के लिए कर रही हैं, तो साथ में ग्रे, ऑफ व्हाइट जैसे सॉफ्ट कलर्स का प्रयोग करें.
– यदि सिट्रस कलर्स का प्रयोग एक्सेसरीज़ के रूप में कर रही हैं, तो रूम की दीवार बेसिक कलर, जैसे – ऑफ व्हाइट, बेज आदि शेड की ही रखें.
– टेबल वेयर, लैंप, कुशन, कर्टन आदि के लिए सिट्रस कलर्स का प्रयोग करके आसानी से घर को वॉर्म लुक दिया जा सकता है.

 

फ्लोरल टच

u
– समर में घर को फ्लोरल थीम देना बेस्ट ऑप्शन है.
– हां, फ्लोरल डेकोर करते समय इस बात का ख़ास ध्यान रखना ज़रूरी है कि सारी चीज़ें फ्लोरल न हो जाएं, जैसे- कुशन फ्लोरल प्रिंट के हैं, तो सोफ़ा कवर व कारपेट प्लेन ही रखें.
– घर को फ्लोरल थीम देने के लिए आप ताज़े या आर्टिफिशियल फूलों का इस्तेमाल भी कर सकती हैं.
– यदि टेबल डेकोर के लिए फूलों का इस्तेमाल कर रही हैं, तो टेबल क्लॉथ प्लेन रखें.
– आप चाहें तो दीवार पर फ्लोरल थीमवाली बड़ी-सी पेंटिंग भी लगा सकती हैं.

 

स्पेस मैनेजमेंट

– यदि घर में बच्चे सामान यहां-वहां बिखेर देते हैं, तो आप अलग-अलग शेप की कलरफुल केन बास्केट ख़रीद लें और इनमें सामान समेटकर रख लें. ये घर को व्यवस्थित रखने के साथ ही घर की ख़ूबसूरती भी बनाए रखती हैं. घर में इधर-उधर पड़ी हुई मैगज़ीन्स, न्यूज़पेपर्स, बच्चों के खिलौने आदि को बास्केट में रखकर आप कम समय में घर को री-अरेंज कर सकती हैं.
– आप चाहें तो प्लेन केन की बास्केट ख़रीदकर उन्हें मनपसंद कलर्स से पेंट भी कर सकती हैं.
– यदि केन की बास्केट्स ख़रीदना मुमकिन न हो, तो आप ब्राइट कलर्स की प्लास्टिक बास्केट से भी काम चला सकती हैं. कम दाम में घर को व्यवस्थित रखने का इससे अच्छा विकल्प शायद ही कोई हो.

 

विंडो ड्रेसिंग

– घर को सजाने में पर्दे बहुत बड़ा रोल अदा करते हैं, इसलिए कर्टन का चुनाव सोच-समझकर करें. समर में रूम को ईको फ्रेंडली इफेक्ट देने के लिए खादी या ग्रीन शेड के पर्दे ख़रीदें.
– पर्दों का चुनाव करते समय इस बात का ख़ास ध्यान रखें कि वे सोफे के साथ मैच हो जाएं, वरना घर ऑर्गेनाइज़्ड नहीं दिखेगा.
– कमरे को दो सेक्शन में बांटना हो, तो भी पर्दे आपकी मदद कर सकते हैं. इससे रूम का लुक भी बदल जाता है.

 

किचन डेकोर

– समर में किचन में काम करना आसान नहीं है, इसलिए किचन डेकोर पर ध्यान देना बेहद ज़रूरी है. पर्याप्त शेल्फ और स्टोरेज किचन को मॉडर्न और ऑर्गेनाइज़्ड लुक देते हैं और इससे किचन में काम करना भी आसान हो जाता है, इसलिए किचन डेकोर के समय इस बात पर ख़ास ध्यान दें कि किचन में पर्याप्त और स्मार्ट स्टोरेज हो.
– व्हाइट, आयवरी, मिंट, क्रीम जैसे लाइट कलर मॉडर्न नज़र आते हैं और किचन को फ्रेश लुक देते हैं, इसलिए पेंट, क्रॉकरी, एक्सेसरीज़ आदि के ज़रिए किचन में इन कलर्स का इस्तेमाल करें.

 

घर को सही तरीके से सजाना एक आर्ट है और इस आर्ट को आप तक पहुंचा रही हैं इंटीरियर डिज़ाइनर संध्या चव्हाण.

ख़ुशबू से महकाएं आशियाना

– समर में घर को सजाने के साथ ही उसे महकाए रखना भी ज़रूरी है. घर में महकती सूदिंग फ्रेगरेंस राहत का एहसास देती है.
– घर को महकाए रखने के लिए आप इनमें से किसी भी तरी़के का प्रयोग कर सकती हैं:
– एरोमा ऑयल में थोड़ा पानी मिलाकर उसे पतला कर लें. इसका छिड़काव चादर, कारपेट, पर्दे, सो़फे आदि पर करें.
– लैवेंडर को स्प्रे बॉटल में भरकर तकिए और चादरों पर हल्का छिड़काव करें.
– कैमोमॉइल की कुछ बूंदें पानी में मिलाकर इसे स्प्रेवाली बॉटल में भरकर इसका छिड़काव करें.
– ख़ूबसूरत मोमबत्तियों पर एरोमा ऑयल की कुछ बूंदें डालें. इन्हें जलाने पर ख़ुशबू सारे कमरे को महका देगी.

– कमला बडोनी

फेस्टिवल होम डेकोर आइडियाज़ (Festival Home Decor Ideas)

त्योहारों पर घर को सजाने-संवारने का उत्साह हर किसी को रहता है, ख़ासकर दीपावली पर. इस विषय पर इंटीरियर डिज़ाइनर जतिन दवे ने हमें कई उपयोगी टिप्स दिए. तो आइए जानते हैं कि फेस्टिवल में होम डेकोर को डिफरेंट टच कैसे दें.

 

shutterstock_108401306

इंटीरियर स्ट्रोक्स

* घर की दीवारों को वॉल पेपर्स व सीनरी से आकर्षक अंदाज़ दें.

* फर्नीचर के साथ भी कई तरह के एक्सपेरिमेंट्स किए जा सकते हैं.

* एंटीक फर्नीचर का इस्तेमाल करें. इसके साथ विंटेज चीज़ों को भी आज़माया जा सकता है.

* नक्काशीदार कलाकृतियों से ड्रॉइंगरूम को सजाएं.

* आर्टिस्टिक चीज़ों व नेचर से जुड़े या फिर मॉडर्न पेंटिंग्स से घर को डिफरेंट लुक दें.

* फर्नीचर को रिअरेंज करके, इनडोर प्लांट्स से सजाकर, किचन को मॉड्यूलर लुक देकर फेस्टिवल में घर को ख़ूबसूरत व आकर्षक लुक दिया जा  सकता है.

 

2

कलर कॉम्बिनेशन

* होम डेकोरेशन में कलर कॉम्बिनेशन पर ख़ास ध्यान दें.

* पेंटिंग के लिए यदि आप चाहें, तो ख़ूबसूरत सीनरी दीवार पर बना सकते हैं.

* एक ही कमरे की वॉल को दो अलग कलर्स से डेकोरेट करके सिग्नेचर वॉल बनाएं. कुछ अलग लुक देगा.

* ब्राइट प्रिंटेड कलर के परदे लगाएं.

* फेस्टिवल पर हैवी व डार्क कलर के परदे लगाना बेहतर रहता है.

* सोफा कवर प्रिंटेड या फिर प्लेन कलर का ले सकते हैं.

shutterstock_319871714

दीये-कैंडल्स

* दीये के बिना दीपावली अधूरी है. होम डेकोर में दीये को ख़ास जगह दें.

* घर को डिज़ाइनर दीये व कैंडल्स से विशेष रूप से सजाएं.

* मिट्टी के रंग-बिरंगे दीये से घर के कोनों को डेकोरेट करें.

* दीये के साथ कैंडल्स का कॉम्बिनेशन भी कर सकते हैं.

* रेड, मरून, ग्रीन, यलो, ब्लू या गोल्डन कलर्स के दीये या फिर ट्रेडिशनल डार्क कलर्स के दीयों का उपयोग करें. इस तरह के कलर्स फेस्टिवल की  पहचान होते हैं.

* फ्लोटिंग कैंडल्स की डिमांड दीपावली में अधिक रहती है. ये न केवल घर की ख़ूबसूरती को बढ़ाती हैं, बल्कि माहौल को ख़ुशनुमा बनाती हैं.

* मिट्टी या मेटल के किसी बड़े बाउल में पानी भरकर कई सारी छोटी-छोटी फ्लोटिंग कैंडल्स रख दें. पानी में तैरती ये ख़ूबसूरत फ्लोटिंग कैंडल्स बेहद  सुंदर लगती हैं.

* यदि आप चाहें, तो पानी में गुलाब की पंखुड़ियां डाल दें, रोशनी के साथ यह आकर्षक दिखेंगी.

 

shutterstock_442328068

लाइटिंग अरेंजमेंट्स

* फेस्टिवल में लाइटिंग काफ़ी मायने रखती है, ख़ासकर दिवाली पर, क्योंकि यह रोशनी का त्योहार जो है.

* नेट लड़ी, हार्ट शेप, फ्लावर, फ्रूट्स आदि के तोरण, राइस लड़ी, मटकी व परियों की लड़ी से घर को सजाएं.

* ध्यान रहे कि लाइटिंग क्लासी हो, क्योंकि कई बार लाइटिंग डेकोरेशन के नाम पर ढेर सारे हैवी व चुभनेवाली लाइटिंग की जाती है, जो ठीक नहीं है.

* रंग-बिरंगी लड़ियां या फिर कलरफुल पेपर से बने कंदील घर के बाहर लगाएं.

* यदि आप चाहें, तो लाल-पीले-नीले रंगों के छोटे-छोटे बल्ब से भी घर के बाहर के दरवाज़े और अंदर के किनारों को सजा सकते हैं.

* बेडरूम में सूूदिंग व व्हाइट रोशनी रखें. इससे आप रिलैक्स महसूस करेंगे.

* घर को मॉडर्न व स्टाइलिश अंदाज़ देने के लिए फेयरी लाइट्स का भी इस्तेमाल किया जा सकता है.

* कॉर्नर्स को हाइलाइट करने के लिए ट्रेक लाइट लगाएं.

* ख़ूबसूरत फूलों व अन्य साइज़ की टी लाइट्स से घर को अनूठा अंदाज़ दें. इन छोटी-छोटी टी लाइट्स से झिलमिलाती रोशनी पूरे घर को आकर्षक  बना देती है.

* डिज़ाइनर लैंप्स से बिखरती रोशनी पूरे माहौल को रौशन कर देती है.

 

496478f01d7c8a449cc067dfbb773ed2

डेकोर एक्सटेंशन

* घर के प्रवेशद्वार, आंगन और बरामदे में रंगोली बनाएं.

* मुख्यद्वार पर फूलों की तोरण लगाएं.

* स्टील के प्लैटर के किनारे पर फ्रेश फ्लावर्स सजाकर बीच में मिठाइयां रखें.

* वुडन डेकोरेटिव बास्केट में नीचे फूल डेकोरेट करके अलग-अलग तरह की ढेर सारी चॉकलेट्स रखकर ड्रॉइंगरूम के सेंटर टेबल पर रखें.

* डेकोरेशन के लिए पुरानी व विंटेज कलेक्शन का भी इस्तेमाल करें.

* मोतियों, फूलों व पत्तियों के तोरण से घर के सभी दरवाज़ों को सजाएं.

* वैसे कपड़े के बने रंग-बिरंगे बंदनवार, जिनके किनारों पर छोटी-छोटी घंटियां लगी होती हैं, भी दरवाज़े की सुंदरता में चार चांद लगा देते हैं.

* घर के आसपास पेड़-पौधे हैं, तो उसे पेपर लालटेन से सजाएं.

– ऊषा गुप्ता

वॉल डेकोर आइडियाज़ ( Wall decor ideas)

decor ideas

decor ideas

2

घर की दीवारों को अलग अंदाज़ में सजाकर भी आप अपने आशियाने की सुंदरता में चार चांद लगा सकती हैं.

5

वॉल ऑर्गनाइज़र से सजाएं दीवारें
* वॉल डेकोर में ऑर्गनाइज़र्स या वॉल बॉक्सेस भी आपकी मदद कर सकते हैं. आजकल मार्केट में अलग-अलग तरह के ऑर्गनाइज़र्स मौजूद हैं. आप अपनी सुविधा के अनुसार इन्हें इस्तेमाल कर सकते हैं.
* ये अलग-अलग आकार और रंग के आते हैं. आप अपनी दीवार की लंबाई या चौड़ाई के मुताबिक़ सिलेक्शन कर सकते हैं.
* इसके अलग-अलग कम्पार्टमेंट में आप अलग-अलग वॉल एक्सेसरीज़ या फ्लॉवर वास, इंडोर प्लांट, फैमिली फोटोज़, क्लॉक वगैरह रखकर अपनी दीवार को एलीगेंट लुक दे सकते हैं.
* आप इसे अपनी क्रिएटिविटी से डिफरेंट लुक दे सकते हैं.

4

वॉलपेपर और वॉल आर्ट आइडियाज़
* वॉलपेपर्स की कई वेराइटीज़ आजकल लोगों को काफ़ी लुभा रही हैं. इनमें आप अपनी पसंद की विनाइल, हैंड प्रिंटेड, ब्लोन विनाइल, रिलीफ, वुडचिप, लाइनिंग व बॉर्डर्सवाला कोई भी वॉलपेपर सिलेक्ट कर सकते हैं.
* वॉलपेपर्स में न स़िर्फ फ्लोरल, बल्कि अलग-अलग टेक्स्चरवाले वॉलपेपर्स भी मिलते हैं, जिन्हें आप अपनी पसंद के अनुसार
ले सकते हैं.
* इनके अलावा वॉशेबल वॉलपेपर्स भी मिलते हैं, जिन्हें गंदा होने पर आप गीले कपड़े से पोंछकर साफ़ कर सकते हैं.
* अगर आप कुछ नया ट्राई करना चाहते हैं, तो घर की एक दीवार पर फ्लोरल वॉलपेपर लगा दें और बाकी दीवारों को वॉलपेपर वाले रंग से पेंट करें.
* वॉलपेपर्स लगाने से न सिर्फ़ आपकी दीवारें ख़ूबसूरत दिखती हैं, बल्कि आप बार-बार पेंट करने के झंझट से भी बच जाते हैं.
* वॉल आर्ट में आप अपनी फैमिली फोटोज़, बच्चों की पेंटिंग्स, ख़ूबसूरत आर्ट पीसेस की मदद से अपनी दीवार को सजा सकते हैं.

3

वॉल एक्सेसरीज़ से करें डेकोर
* आजकल मार्केट में वॉल एक्सेसरीज़ के भी अच्छे ऑप्शन उपलब्ध हैं. इन्हें आप वॉल डेकोर के लिए यूज़ कर सकती हैं.
* आप चाहें तो पेंटिंग्स, फैमिली फोटो को एंटीक फ्रेम में लगाकर वॉल एक्सेसरी के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं. या फिर घड़ी के आस-पास
अलग-अलग आकार के फ्रेम्स या एब्स्ट्रैक्ट पीसेस लगाकर भी दीवार को क्रिएटिव लुक दे सकते हैं.
* कलरफुल पॉट्स, प्रकृति या पशु-पक्षियों की ख़ूबसूरत पेंटिंग्स, फोटो फ्रेम्स, कलरफुल वॉल क्लॉक आदि से भी आप दीवारों को ख़ूबसूरत बना सकते हैं.

8

वॉल स्टिकर्स
* आजकल वॉल स्टिकर्स काफी ट्रेंड में हैं, जिनसे आप अपने घर की दीवारों को ख़ूबसूरत व क्रिएटिव लुक दे सकते हैं. ये वॉलडेकोर का ईज़ी व मनीसेविंग आइडिया है.
* वॉल स्टिकर्स काफ़ी ट्रेंडी लगते हैं, जो यक़ीनन आपके होम डेकोर को नया एलीमेंट देंगे.
* पक्षियों, तितलियों, परिवार से जुड़े अच्छे कोट्स, अपने पसंदीदा कार्टून कैरेक्टर्स के वॉल स्टिकर्स से दीवारों को नया लुक दे सकते हैं.
* लिविंग रूम में सीटिंग एरिया, चेयर या सोफा के पीछे की दीवार पर वॉल स्टिकर्स आपके डेकोर को अलग ही अंदाज़ देंगे.