international women’s day

छोटे पर्दे की सबसे पॉपुलर और महंगी एक्ट्रेस में शुमार दिव्यांका त्रिपाठी अक्सर सुर्खियों में बनी रहती हैं. सोशल मीडिया पर उनकी फैन फॉलोइंग का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि वो जो भी पोस्ट करती हैं वो देखते ही देखते वायरल हो जाता है. अपनी दिलकश अदायगी और खूबसूरती से दिलों को जीतने वाली दिव्यांका के चाहने वाले आपको लगभग हर घर में मिल जाएंगे. अक्सर अपनी लेटेस्ट तस्वीरों और वीडियो के ज़रिए फैन्स के साथ जुड़ी रहने वाली दिव्यांका त्रिपाठी अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर कोई वीडियो पोस्ट न करें ऐसा कैसे हो सकता है?

Divyanka Tripathi
Photo Credit: Instagram

जी हां, ‘इंटरनेशनल वुमन्स डे’ पर दिव्यांका ने अपने पति विवेक दहिया के साथ एक मज़ेदार वीडियो शेयर किया है, जिसमें वो भूख लगने पर अपने पति के गाल को ही खाती हुई दिख रही हैं. करोड़ों दिलों पर राज करने वाली दिव्यांका ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम हैंडल से जो वीडियो शेयर किया है, उसमें वो अपने पति के साथ मस्ती के मूड़ में नज़र आ रही हैं. इस वीडियो को फैन्स बार-बार देखना पसंद कर रहे हैं और यह तेज़ी से इंटरनेट पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो को अब तक ढाई लाख के करीब व्यूज़ मिल चुके हैं और फैन्स कमेंट्स के ज़रिए कपल के लिए अपना प्यार ज़ाहिर कर रहे हैं. यह भी पढ़ें: International Women’s Day 2021: राज कुंद्रा ने वाइफ शिल्पा शेट्टी को खास अंदाज़ में दी महिला दिवस की बधाई, शेयर किया ये वीडियो (Raj Kundra Wishes Wife Shilpa Shetty On International Women’s Day With a Special Video)

Divyanka Tripathi
Photo Credit: Instagram

इस वीडियो के साथ दिव्यांका ने कैप्शन लिखा है- ‘ईट एनीथिंग यू लव टूडे, नो डायटिंग’ यानी आज आप कुछ भी खा सकते हैं, जिससे आपको प्यार है. कोई परहेज़ नहीं. इसके साथ ही एक्ट्रेस ने लिखा है- ‘हैप्पी इंटरनेशनल वुमन्स डे.’ इस वीडियो में दिव्यांका त्रिपाठी का एक अलग ही अंदाज़ फैन्स को देखने को मिल रहा है, जबकि विवेक दहिया के एक्स्प्रेशन्स ने भी फैन्स को कायल कर दिया है. वीडियो में दिव्यांका भूख लगने पर अपने पति के गाल को खाती हुई नज़र आ रही हैं. दोनों के इस लाजवाब वीडियो पर फैन्स दिल खोलकर अपना प्यार लुटा रहे हैं.

दिव्यांका त्रिपाठी सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाली एक्ट्रेसेस में से एक हैं, जो अक्सर अपनी फोटोज़ को फैन्स के साथ शेयर करती हैं. इससे पहले दिव्यांका ने ‘वैलेंटाइन डे’ पर एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें विवेक दहिया को पत्नी दिव्यांका से खास अंदाज़ में प्यार का इज़हार करते हुए देखा गया था. वीडियो रोमांटिक होने के साथ-साथ बेहद क्यूट भी था, क्योंकि विवेक दहिया कुछ बोले बगैर ही इशारों-इशारों में दिव्यांका से प्यार का इज़हार करते दिखे. वीडियो को फैन्स ने काफी पसंद किया था. यह भी पढ़ें: रश्मि देसाई ने इस बोल्ड अंदाज़ में विमेंस डे पर कहा, दुनिया में दो शक्तियों का हमें पता है, पर एक तीसरी शक्ति भी है…! (Women’s Day 2021: Rashmi Desai Shares Bold Post, Says There Are Two Powers We Know Of But There Is A Third Power Too)

दिव्यांका के वर्क फ्रंट की बात करें तो वो इन दिनों ‘क्राइम पेट्रोल’ शो को होस्ट कर रही हैं. इसके अलावा उन्होंने कई फेमस सीरियल्स में काम किया है, जिनमें ‘बनूं मैं तेरी दुल्हन’, ‘ये है मोहब्बतें’, ‘नच बलिए’ और ‘द वॉयस’ शामिल है. इन शोज़ में अपने दमदार अभिनय से दिव्यांका ने लाखों-करोड़ों दिलों को जीता है और घर-घर में अपनी खास पहचान बनाई है. बहरहाल, वुमन्स डे पर शेयर किए गए इस वीडियो को उनके चाहने वाले बेहद पसंद कर रहे हैं.

दुनिया भर की महिलाओं के प्रति प्यार और सम्माज ज़ाहिर करने के लिए आज (8 मार्च 2021) अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस सेलिब्रेट किया जा रहा है. इंटरनेशनल वुमन्स डे पर तमाम लोग गिफ्ट्स, सरप्राइज़ के अलावा अलग-अलग तरीकों से अपने जीवन की खास महिलाओं को स्पेशल फील कराने की कोशिश करते हैं. आम लोगों से लेकर सेलिब्रिटीज़ तक इस दिन को बहुत धूमधाम से सेलिब्रेट करते हैं. इस खास अवसर पर राज कुंद्रा ने भी अपनी वाइफ शिल्पा शेट्टी कुंद्रा को बेहद खास अंदाज़ में महिला दिवस की बधाई दी है. उन्होंने इंटरनेशनल वुमन्स डे पर अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम पर एक दिलचस्प वीडियो शेयर करके अपनी लाइफ पार्टनर को इस दिन की शुभकामनाएं दी हैं.

Raj Kundra and Shilpa Shetty
Photo Credit: Instagram
Raj Kundra and Shilpa Shetty
Photo Credit: Instagram

8 मार्च 2021 को बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर वीडियो शेयर एक स्पेशल नोट भी लिखा है. उन्होंने वीडियो के साथ कैप्शन लिखा है- ‘इस महिला दिवस पर एक छोटा सा अनुरोध है… कृपया सम्मान और समानता का दिन हर रोज़ मनाएं… मेरा दिन अपनी प्रेमिका @शिल्पा शेट्टी का नाम लेने से शुरू होता है उसी के साथ खत्म होता है. वह स्ट्रॉन्ग, सक्सेसफुल, इंडिपेंडेंट और एक अद्भुत रोल मॉडल से भी ऊपर हैं. यह सिर्फ आज के लिए नहीं है, बल्कि यह हर दिन के लिए है.’ यह भी पढ़ें: महिला दिवस पर विराट कोहली ने शेयर की अनुष्का शर्मा और बेटी वमिका की तस्वीर, लिखा ये भावुक संदेह (Virat Kohli Writes An Emotional Message For Anushka Sharma And Daughter Vamika, Shares Adorable Photo Of New Born Girl For The First Time, Wishes Happy Women’s Day)

वीडियो को फिल्म ‘राम लखन’ का हिट सॉन्ग ‘तेरा नाम लिया’ पर बनाया गया है, जिसमें शिल्पा शेट्टी अपने पति राज कुंद्रा की तस्वीर के सामने गाने पर एक्ट करती दिख रही हैं, जबकि राज कुंद्रा तस्वीर में एक्ट करते दिख रहे हैं. तस्वीर में एक्ट करते पति को देख शिल्पा भी हैरान रह जाती हैं. इस मज़ेदार वीडियो को फैन्स खूब पसंद कर रहे हैं और शिल्पा के लिए भी महिला दिवस पर पति की तरफ से इससे स्पेशल गिफ्ट और भला क्या हो सकता है? आपको बता दें कि राज कुंद्रा अक्सर अपनी पत्नी की तारीफों के पुल बांधते रहते हैं, लेकिन इस मामले में शिल्पा भी कुछ कम नहीं हैं. वो भी एक पति और पिता की भूमिका में राज कुंद्रा की काफी सराहना व सम्मान करती हैं.

Shilpa Shetty
Photo Credit: Instagram
Shilpa Shetty
Photo Credit: Instagram

शिल्पा शेट्टी और राज कुंद्रा की जोड़ी बॉलीवुड की मोस्ट रोमांटिक और सबसे ज्यादा पसंद की जानेवाली जोड़ियों में से एक है. यह कपल अक्सर अपनी रोमांटिक तस्वीरों और वीडियोज़ को फैन्स के साथ शेयर करता है. दोनों ने 22 नवंबर 2009 को शादी की थी और सात जन्मों के पवित्र बंधन में बधे थे. शादी के बाद उन्होंने अपनी खुशहाल वैवाहिक जीवन की यात्रा शुरू की और 2012 में शिल्पा ने बेटे वियान को जन्म दिया, जिसके बाद 15 फरवरी 2020 को सरोगेसी के ज़रिए शिल्पा और राज ने बेटी समीशा का इस दुनिया में स्वागत किया. बेटी समीशा के जन्म के बाद शिल्पा और राज की फैमिली पूरी हो गई है. यह भी पढ़ें: करीना कपूर ने शेयर की दूसरे बेबी की तस्वीर; फैंस को किया ‘विमेंस डे’ विश (Kareena Kapoor shares Second Baby’s photo; Wish Fans ‘Women’s Day’)

Raj Kundra and Shilpa Shetty
Photo Credit: Instagram

गौरतलब है कि शिल्पा और राज कुंद्रा अक्सर अपने बच्चों की तस्वीरों और वीडियो को शेयर करते हैं. शिल्पा अपने बेटे वियान और बेटी समीशा से स्पेशल बॉन्डिंग शेयर करती हैं. जन्म के बाद से ही वो अपनी बेटी के लिए हम मुमेंट को स्पेशल बनाने की कोशिश करती रहती हैं. शिल्पा जहां एक अच्छी पत्नी और मां बनकर अपनी ज़िम्मेदारियों को अच्छी तरह से निभा रही हैं तो वहीं राज कुंद्रा भी एक अच्छे पति और पिता की तरह अपनी हर ज़िम्मेदारी को बखूबी निभा रहे हैं.

आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के ख़ास मौके पर रिया चक्रवर्ती ने अपनी मां के लिए एक इमोशनल पोस्ट सोशल मीडिया पर शेयर की है. सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद रिया लंबे समय तक सोशल मीडिया से दूर थी. रिया ने अपनी आखिरी पोस्ट पिछले साल अगस्त में पोस्ट की थी. रिया चक्रवर्ती ने इस भावुक पोस्ट में अपनी मां के लिए लिखा ये नोट…

Rhea Chakraborty

सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद बढ़ गई थी रिया चक्रवर्ती की मुसीबतें
बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद रिया चक्रवर्ती की मुश्किलें काफी बढ़ गई थीं. 14 जून को सुशांत के निधन के बाद उनके परिवार और फैन्स ने एक्टर को न्याय दिलाने की जो मुहिम छेड़ रखी थी, वो अभी तक जारी है. सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद रिया चक्रवर्ती से लंबी पूछताछ की गई. रिया को सोशल मीडिया पर सुशांत के फैन्स के आक्रोश का भी सामना करना पड़ा था. 14 जून साल 2020 को सुशांत सिंह ने अपने बांद्रा के घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी, जिसके बाद एनसीबी ने इस मामले में रिया चक्रवर्ती समेत कई बड़े सितारों से पूछताछ की थी. साथ ही रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक चक्रवर्ती सहित कई अन्य बड़े सेलिब्रिटीज़ से ड्रग्स मामले में भी पूछताछ की गई और उन्हें हिरासत में भी रखा गया. यह भी बता दें कि कुछ दिन पहले ही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद सामने आए ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक के साथ-साथ करीब 33 लोगों के खिलाफ लगभग 12,000 पन्नों की चार्जशीट दाखिल की है. बॉलीवुड ड्रग्स मामले में अभिनेत्री सारा अली खान, दीपिका पादुकोण जैसे बड़े स्टार्स का नाम भी सामने आया है.

Rhea Chakraborty

अगस्त 2020 में रिया ने शेयर की थी ये पोस्ट
दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद रिया चक्रवर्ती ने सोशल मीडिया से दूरी बना ली थी. बता दें कि रिया चक्रवर्ती ने पिछली पोस्ट अगस्त 2020 में पोस्ट की थी. रिया ने अपनी इस पोस्ट में अपने घर की एक वीडियो शेयर किया था. ये वीडियो उस समय का है जब रिया से सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े मामलों में पूछताछ की जा रही थी. रिया ने अपने घर के बाहर लगी मीडिया की भीड़ से परेशान होकर यह वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया था और मुंबई पुलिस से अपने परिवार सुरक्षा के लिए मदद मांगी थी.

महिला दिवस के मौके पर रिया चक्रवर्ती ने मां के लिए लिखी ये भावुक पोस्ट
लंबे समय तक सोशल मीडिया से दूरी बनाए रखने के बाद रिया चक्रवर्ती ने महिला दिवस के ख़ास मौके पर अपनी मां के लिए एक भावुक पोस्ट इंस्टाग्राम पर शेयर किया है. रिया चक्रवर्ती ने अपनी इस पोस्ट में एक फोटो भी शेयर की है, जिसमें उन्होंने अपनी मां का हाथ पकड़ रखा है. इस फोटो को शेयर करते हुए रिया चक्रवर्ती ने लिखा है, ‘हमें महिला दिवस मुबारक हो… मां और मैं… एक साथ हमेशा… मेरी ताकत, मेरा विश्वास, मेरा भाग्य- मेरी मां.’

रिया चक्रवर्ती की इस भावुक पोस्ट के बारे में आपका क्या कहना है, हमें कमेंट करके जरूर बताएं.

कोरोना महामारी के दौरान लंबे समय तक काम करना और घर से काम करने यानी वर्क फ्रॉम होम में महिलाओं को सबसे ज्यादा काम करना पड़ा. उन्हें कामकाजी यानी प्रोफेशनल के साथ-साथ हाउस वाइफ़ और घर पर सबका ख़याल रखने की भूमिका भी निभानी पड़ी. भारत में 80% से ज्यादा कामकाजी महिलाओं पर कोविड-19 के दौरान नकारात्मक प्रभाव पड़ा है. कामकाजी जीवन को संतुलित करना बेहद मुश्किल हो गया है. भारत के औपचारिक क्षेत्र में महिला कामगारों पर कोविड-19 के प्रभाव से संबंधित एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है.

एस्‍पायर फॉर हर और सस्‍टेनेबल एडवांसमेंट ‘वुमेन@वर्क’ रिपोर्ट जारी की है, इसके अनुसार सर्वेक्षण में भाग लेने वाली कामकाजी महिलाओं में 38.5% ने कहा कि घर का काम बढ़ जाने, बच्चों की देखभाल के साथ बुजुर्गों का ख्याल रखने जैसे कामों से उनपर प्रतिकूल असर हुआ. 43.7% ने कहा कि कामकाजी जीवन से संतुलन बनाना सबसे मुश्किल हो गया है.

Women's Day Special

इस रिपोर्ट पर एक वर्चुअल पैनल चर्चा का भी आयोजन किया गया था, जिसमें कई जाने-माने पैनेलिस्ट थे. ये हैं – सुश्री मधुरा दासगुप्ता सिन्हा (एस्‍पायर फॉर हर की संस्थापक और सीईओ), डॉ. नयन मित्रा (सस्‍टेनेबल एडवांसमेंट्स के संस्थापक), सुश्री निष्ठा सत्यम (डिप्टी कंट्री रिप्रेजेंटेटिव, यूएन वूमेन) और सुश्री नव्या नवेली नंदा (संस्थापक, प्रोजेक्ट नवेली और सह-संस्थापक तथा सीएमओ आरा हेल्थ). हमिंगबर्ड एडवाइजर्स की सीईओ सुश्री पूर्णिमा शेनॉय ने इसका संचालन किया.

इस रिपोर्ट के अनुसार जो सबसे आम प्रतिक्रिया मिली वह यह कि महामारी के समय उन्हें ज्यादा समय तक ज्यादा परिश्रम के साथ काम करना पड़ा. इस तरह काम और जीवन के बीच संतुलन बिगड़ गया. मिड करियर यानी 16-20 साल काम करने का अनुभव रखनेवाली महिलाओं में 50.4% ने इसका कारण बताया, घर के बढ़े हुए काम के कारण यह बोझ बढ़ा. इनमें बच्चों और बुजुर्गों की देखभाल शामिल है.

Women's Day Special

रिपोर्ट पर चर्चा करते हुए एस्पायर फॉर हर की संस्थापक और सीईओ सुश्री मधुरा दासगुप्ता सिन्हा ने कहा, इस महामारी का महिलाओं पर बहुत ही गहरा असर हुआ है और ये अलग-अलग क्षेत्रों में काम करनेवाली महिलाओं ने खुद महसूस किया है. इस रिसर्च से हमें रणनीति में बनाने में काफी मदद मिलेगी, जिससे हम करियर में आगे बढ़ने की चाह रखनेवाली महिलाओं को मानसिक रूप से संबल दे पाएंगे और उनकी मनःस्थिति को बेहतर बना पाएंगे. इस रिसर्च से हमें पांच पॉइंट्स पर बदलाव लाने में सहायता मिली है, इनमें मेनटॉर और रोल मॉडल, सीखने और रीस्किलिंग के मौके, करियर की समीक्षा और मौके तथा मजबूत टीम व सपोर्ट की आवश्यकता शामिल है. ये रिसर्च 800 महिलाओं पर हुआ है, जिसमें मुंबई, कोलकाता, बेंगलुरु, दिल्ली, चेन्नई, हैदराबाद, भुवनेश्‍वर, रांची, जयपुर, पुणे और अहमदाबाद जैसे शहरों को शामिल किया गया.

सिुश्री पूर्णिमा शेनॉय, सीईओ – हमिंगबर्ड एडवाइजर्स ने कहा, दुनिया जब कोविड-19 वायरस के प्रभाव से जूझ रही थी तब एक और वायरस था जो सामाजिक संरचनाओं को प्रभावित कर रहा था. दुनिया भर में कामकाजी महिलाएं, सबसे ज्यादा प्रभावित हुईं और यह बढ़ती बेरोजगारी के कारण था. रिपोर्ट से पता चलता है कि महामारी के दौरान जेंडर के आधार पर असमानताएं और भेदभाव काफ़ी हावी था. महिलाओं के साथ भेदभाव वाला व्यवहार किए जाने या फिर घरेलू काम की जिम्मेदारी के बंटवारे का अनुपात ठीक नहीं होने से महिलाएं काफ़ी परेशान रहीं.

Women's Day Special

विभिन्न प्रोफ़ेशन व क्षेत्रों में पुरुषों-महिलाओं के बीच फ़र्क़ पर भी रिसर्च ने प्रकाश डाला है- कोविड-19 के कारण अपनी नौकरी गंवाने वाली 61.1% महिलाओं ने महसूस किया कि महिलाएं पुरुषों की तुलना में ज्यादा बुरी स्थिति में हैं, इसके बाद वो महिलाएं हैं जिन्होंने ब्रेक लिया (46.7%), फिर कामकाजी महिलाएं (42.3%) जबकि 35.6% छात्राएं और स्व रोजगार करने वाली 30.3% महिलाएं ऐसा मानती हैं.

स्वरोज़गार वाली महिलाएं बेहद प्रभावित हुईं: रिपोर्ट में कहा गया की स्वरोजगार करने वाली 41.6% महिलाओं ने बताया कि वे कोविड-19 से नकारात्मक रूप से प्रभावित हुई थीं. कोई नया बिज़नेस मॉडल अपनाने के मामले में सबसे बड़ी समस्या मार्केट में सप्लाई और डिमांड को समझने या अनुमान लगाने में अपर्याप्त जानकारी और आर्थिक संसाधनों की कमी रही है.

Women's Day Special

सुश्री नव्या नवेली नंदा, संस्थापक – प्रोजेक्ट नवेली और सह-संस्थापक तथा सीएमओ आरा हेल्थ ने कहा: कोविड महामारी के चलते स्व रोज़गार वाली महिलाओं के लिए कई चुनौतियाँ खड़ी हो गई, वो पूरी तरह से अकेली पड़ गईं, जबकि इसके लिए एक सामूहिक मंच aur प्रयास की आवश्यकता है – एक ऑनलाइन कम्यूनिटी होनी चाहिए जहां अपने अनुभव और स्ट्रगल स्टोरीज़ को शेयर किया जा सके और करियर के लिए संसाधन, सुविधाएं व अन्य तरह की मदद मुहैया कराए जा सकें. उस हिसाब से ये रिसर्च काफ़ी लाभकारी व आंखें खोलनेवाला है.
सस्टेनेबल एडवांसमेंट्स के संस्थापक और रिपोर्ट को लिखनेवाले डॉ. नयन मित्रा, सीएसआर के विशेषज्ञ हैं उनका मानना है कि यह रिपोर्ट भारत में महिलाओं और पुरुषों को सतर्क करने के लिए है. अगर हम ऐसा करते हैं जो हम पिछले 15 वर्षों से करते आए हैं तो देश उच्च शिक्षित, विविध क्षेत्रों में काम करने योग्य शानदार प्रतिभा के इस भंडार को खो देगा और खरबों डॉलर की अर्थव्यवस्था हाथ से निकल जाएगी.

Women's Day Special

– शिक्षा क्षेत्र में काम करने वाली 50.6% महिलाओं ने महसूस किया कि महामारी के दौरान पुरुषों की तुलना में महिलाएं अधिक खराब स्थिति में थीं. कई टीचर्स को ऑनलाइन वीडियो प्लेटफॉर्म की मदद लेनी पड़ी, लेकिन जो इतने टेक्नोसैवी नहीं थे उनके लिए ये जीवन का सबसे मुश्किल काम था. 21.8% महिलाओं ने महसूस किया कि उनपर नकारात्मक प्रभाव पड़ा और कहा कि उनमें से ज्यादातर (54.1%) को कठिन / लंबे समय तक काम करना पड़ा जबकि 41.8% ने कहा कि उनपर गृहकार्य / बच्चों की देखभाल / बुजुर्गों का ख्याल रखने का अतिरिक्त बोझ था.

Women's Day Special

पिछले 15 वर्षों से महिलाओं से संबंधितग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स में उनका खराब होता रैंक चिंता का एक बड़ा कारण है, जो महामारी से और बिगड़ा है. ऐसे में ye रिसर्च आंखें खोलनेवाला है जिससे महिलाओं की स्थिति को बेहतर करने की दिशा में कदम ज़रूर बढ़ाया जा सकता है! इंटरनेशनल विमन्स डे पर इतना तो किया और सोचा ही जा सकता है!

यह भी पढ़ें: मात्र 6 रुपये में मिलेगा ‘सेना जल’ जिसे तैयार किया है भारतीय सेना के परिवारों ने, बिक्री से होनेवाली कमाई इस नेक काम में होगी इस्तेमाल! (Get Sena Jal For Just 6 Rupees, Great Initiative By Army Wives)

वर्ष 2019 न स़िर्फ स्पोर्ट्स, बल्कि फिल्मों के मामले में भी महिलाओं के नाम रहा. साल 2019 में एक के बाद एक बेहतरीन महिला प्रधान फिल्में रिलीज़ हुईं और इन फिल्मों में अपने दमदार अभिनय के दम पर अभिनेत्रियों ने ये साबित कर दिया कि महिला प्रधान फिल्में भी बॉक्स ऑफिस पर कमाल दिखा सकती हैं और इन फिल्मों को हिट कराने के लिए हीरो की ज़रूरत नहीं है. वर्ष 2019 ही नहीं 2020 भी महिला प्रधान फिल्मों के नाम रहनेवाला है यानी इस साल भी एक से बढ़कर एक महिला प्रधान फिल्में रिलीज़ के लिए तैयार हैं. इस साल आपको ये महिला प्रधान फिल्में ज़रूर देखनी चाहिए:

1) छपाक
जनवरी 2020 में रिलीज़ हुई दीपिका पादुकोण की फिल्म छपाक एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल के जीवन पर आधारित है. ये फिल्म आज की ज़रूरत है. इस फिल्म के माध्यम से एसिड अटैक की घटनाओं को रोकने का संदेश दिया गया है और लोगों को जागरूक करने की कोशिश की गई है. हालांकि दीपिका पादुकोण के जेएनयू दौरे के कारण कई जगहों पर फिल्म के प्रदर्शन में द़िक्क़त आई, लेकिन इस फिल्म को एक बेहतरीन महिला प्रधान फिल्म कहा जा सकता है.

2) पंगा
जनवरी 2020 में ही एक और महिला प्रधान फिल्म पंगा रिलीज़ हुई. ये फिल्म भारतीय महिला कबड्डी टीम की भूतपूर्व कप्तान रह चुकी जया निगम की कहानी है. फिल्म में जया निगम का क़िरदार कंगना रनौत ने निभाया है. फिल्म पंगा को भी दर्शकों ने पसंद किया. इस फिल्म में ये संदेश देने की कोशिश की गई है कि महिला को यदि अपने परिवारवालों का सपोर्ट मिले, तो वो अपने सपनों को आसानी से पूरा कर सकती है और सपनों को हासिल करने में उम्र कभी बाधा नहीं बनती.

3) थप्पड़
महिला प्रधान फिल्मों में तापसी पन्नू का होना ही फिल्म को स्पेशल बनाता है. फिल्म थप्पड़ में भी तापसी पन्नू ने दमदार अभिनय किया है. फरवरी 2020 में रिलीज़ हुई फिल्म थप्पड़ एक ड्रामा थ्रिलर है और एक बेहतरीन महिला प्रधान फिल्म भी.

यह भी पढ़ें: करीना कपूर से लेकर कैटरीना कैफ तक बॉलीवुड एक्ट्रेस को पसंद है रेड साड़ी (Bollywood Actress Likes Red Saree From Kareena Kapoor To Katrina Kaif)

4) गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल
इस फिल्म की ख़ास बात ये है कि इसकी चर्चा 2019 में भी काफ़ी हो चुकी है. गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल फिल्म में जाह्नवी कपूर मुख्य भूमिका में हैं. यह फिल्म महिलाओं के लिए ही नहीं, पूरे देश के लिए प्रेरणादायक है. वर्ष 2020 की महिला प्रधान फिल्मों में गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल एक महत्वपूर्ण फिल्म है.

5) धाकड़
कंगना रनौत का शानदार एक्शन आप पहले भी कई फिल्मों में देख चुके हैं. फिल्म धाकड़ में एक बार फिर कंगना एक्शन करती नज़र आएंगी. महिला प्रधान फिल्मों में कंगना रनौत का हमेशा से विशेष योगदान रहा है और इस फिल्म में भी वो अपनी एक अलग पहचान बनाती नज़र आएंगी.

6) शकुंतला देवी
बॉलीवुड की मोस्ट टैलेंटेड एक्ट्रेस विद्या बालन जल्द ही फिल्म शकुंतला देवी में नज़र आनेवाली हैं. इस फिल्म की कहानी महान गणितज्ञ शकुंतला देवी पर आधारित है. शकुंतला देवी तेज़ी से गणित का हिसाब करने की कला में माहिर थीं. इसी वजह से उन्हें मानव कंप्यूटर का उपनाम भी दिया गया था. फिल्म में विद्या बालन के पति का क़िरदार बांग्ला फिल्म जगत के लोकप्रिय अभिनेता जीशु सेनगुप्ता निभाएंगे.

यह भी पढ़ें: 10 बॉलीवुड एक्ट्रेस ने जब पहली बार मांग में भरा सिंदूर (First Sindoor Looks Of 10 Bollywood Actresses)

7) थलाइवी
जानी-मानी राजनीतिज्ञ और फिल्म अभिनेत्री रहीं जयललिता की बायोपिक थलाइवी में कंगना रनौत उनका क़िरदार निभाएंगी. इस फिल्म को ए एल विजय निर्देशित कर रहे हैं. 2020 में थलाइवी फिल्म को तमिल, तेलुगू और हिंदी में एक साथ रिलीज़ किया जाएगा.

8) गंगूबाई काठियावाड़ी
संजय लीला भंसाली की फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी भी वर्ष 2020 की एक प्रमुख महिला प्रधान फिल्म है. इस फिल्म में आलिया भट्ट मुख्य भूमिका में हैं. मुंबई के कमाठीपुरा में रहनेवाली एक माफिया क्वीन गंगूबाई पर आधारित फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी की कहानी हुसैन ज़ैदी की क़िताब माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई से ली गई है.

वर्ष 2019 की ये महिला प्रधान फिल्में हर महिला को देखनी चाहिए
वर्ष 2019 न स़िर्फ स्पोर्ट्स, बल्कि फिल्मों के मामले में भी महिलाओं के नाम रहा. साल 2019 में एक के बाद एक बेहतरीन महिला प्रधान फिल्में रिलीज़ हुईं और इन फिल्मों में अपने दमदार अभिनय के दम पर अभिनेत्रियों ने ये साबित कर दिया कि महिला प्रधान फिल्में भी बॉक्स ऑफिस पर कमाल दिखा सकती हैं और इन फिल्मों को हिट कराने के लिए हीरो की ज़रूरत नहीं है.

इन 10 बॉलीवुड एक्ट्रेस ने पहना सबसे महंगा शादी का जोड़ा, देखें वीडियो:

1) सांड की आंख
तापसी पन्नू और भूमि पेडनेकर की फिल्म सांड की आंख वर्ष 2019 की सबसे बेहतरीन महिला प्रधान फिल्म थी. इस फिल्म की सबसे ख़ास बात ये थी कि पहली बार कोई महिला प्रधान फिल्म दीपावली के समय रिलीज़ हुई और सांड की आंख फिल्म को दर्शकों ने ख़ूब पसंद भी किया. इस फिल्म में दोनों अभिनेत्रियों ने शूटर दादी का ज़बर्दस्त क़िरदार निभाया. फिल्म की कहानी और तापसी-भूमि की शानदार एक्टिंग के लिए फिल्म को काफी सराहना मिली. फिल्म सांड की आंख ने बॉक्स आफिस पर शानदार कमाई की.

2) मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी
बॉलीवुड की क्वीन कही जानेवाली एक्ट्रेस कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी इस साल की सबसे बड़ी महिला प्रधान फिल्म है. यह फिल्म झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के जीवन पर आधारित है. इस फिल्म में कंगना ने झांसी की रानी की भूमिका निभाई है और फिल्म में कंगना के काम को दर्शकों ने बहुत पसंद किया. हालांकि फिल्म अपने कुछ अंदरूनी मसलों के कारण विवादों में रही, लेकिन इसके बावजूद फिल्म को दर्शकों की अच्छी सराहना मिली. महिला प्रधान फिल्म होने के साथ ही इस फिल्म की ख़ास बात ये है कि इस फिल्म की निर्देशक भी कंगना रनौत ही हैं.

3) मिशन मंगल
इसरो की पहली ही कोशिश में मंगल पहुंचने की कहानी पर आधारित फिल्म मिशन मंगल में मुख्य क़िरदार में विद्या बालन, तापसी पन्नू, सोनाक्षी सिन्हा, कीर्ति कुल्हारी और नित्या मेनन हैं. हालांकि फिल्म में अक्षय कुमार मुख्य अभिनेता के रूप में थे, लेकिन ये फिल्म पूरी तरह से महिला प्रधान है. मार्स मिशन में महिलाओं का महत्वपूर्ण योगदान था और मिशन मंगल फिल्म में यही बताया गया है. हालांकि फिल्म के प्रमोशन के लिए अक्षय कुमार के नाम का सहारा लेने के लिए इस फिल्म की आलोचना भी हुई, लेकिन फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुई और सभी एक्ट्रेस की एक्टिंग की ख़ूब तारीफ़ भी हुई.

यह भी पढ़ें: लैक्मे फैशन वीक समर रिज़ॉर्ट 2020 में ये बॉलीवुड स्टार्स थे शो स्टॉपर (These Bollywood Stars Were The Show Stopper At Lakme Fashion Week Summer Resort 2020)

4) बदला
ये एक ऐसी महिला प्रधान फिल्म है, जिसने ये साबित कर दिखाया कि कम बजट में भी अच्छी फिल्म बनाई जा सकती है. कम बजट में बनी शाहरुख ख़ान के रेड चिलीज़ प्रोडक्शन की फिल्म बदला ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छी कमाई की. फिल्म में तापसी पन्नू और अमिताभ बच्चन मुख्य भूमिका में हैं. फिल्म में तापसी एक कत्ल के इल्ज़ाम में फंस जाती है और ख़ुद को बचाने के लिए अमिताभ बच्चन से मदद मांगती है. फिल्म बदला की कहानी और कलाकारों की एक्टिंग इतनी अच्छी है कि इसी कारण कम बजट में इतनी बेहतरीन फिल्म बन पाई है.

5) द स्काई इज़ पिंक
देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा लंबे समय से हिंदी फिल्मों में नज़र नहीं आईं, लेकिन जब उनकी फिल्म द स्काई इज़ पिंक रिलीज़ हुई, तो एक बार फिर दर्शक उनकी एक्टिंग के कायल हो गए. फिल्म में प्रियंका चोपड़ा ने जिस तरह एक प्रेमिका और मां की भूमिका निभाई है, उसने दर्शकों का दिल जीत लिया. फिल्म में प्रियंका के साथ फरहान अख़्तर भी हैं. इस फिल्म की कहानी और प्रियंका चोपड़ा की एक्टिंग इतनी भावुक है कि द स्काई इज़ पिंक फिल्म की तारीफ़ न स़िर्फ दर्शकों ने की, बल्कि कई कलाकारों ने भी की.

6) मर्दानी 2
पिछले कुछ समय से रानी मुखर्जी लगातार महिला प्रधान फिल्मों में काम कर रही हैं. मर्दानी, हिचकी जैसी संवेदनशील फिल्मों में काम करने के बाद 2019 में रानी मुखर्जी फिल्म मर्दानी 2 में इंस्पेक्टर शिवानी शिवाजी राव बनकर महिलाओं पर ज़ुल्म करनेवाले अपराधियों पर कहर बरपाती नज़र आईं. मर्दानी 2 फिल्म को दर्शकों ने पसंद किया और इसे रिलीज़ के पहले दिन से ही अच्छा रिस्पॉन्स मिला.

यह भी पढ़ें: 8 बॉलीवुड एक्ट्रेस ने भारतीय परिधान को दिया ग्लोबल लुक (8 Bollywood Actresses Gave Global Look To Indian Apparel)

7) एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा
इस फिल्म में यूं तो सोनम कपूर के साथ अनिल कपूर और राजकुमार राव भी मुख्य भूमिका में हैं, लेकिन अपने नाम और कहानी के कारण फिल्म सोनम कपूर के इर्दगिर्द ही घूमती है. एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा फिल्म की कहानी लेस्बियन यानी समलैंगिकता पर आधारित है. फिल्म का विषय अच्छा होते हुए भी ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर ख़ास कमाल नहीं दिखा पाई, लेकिन वर्ष 2019 की महिला प्रधान फिल्मों में इस फिल्म को शामिल किए बिना महिला प्रधान फिल्मों की बात अधूरी रह जाएगी.

8) द ज़ोया फैक्टर
सोनम कपूर ने वर्ष 2019 में दो महिला प्रधान फिल्मों (एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा और द ज़ोया फैक्टर) में काम किया, लेकिन अफ़सोस उनकी दोनों ही फिल्में बॉक्स ऑफिस पर कुछ ख़ास कमाल नहीं कर पाईं. फिल्म द ज़ोया फैक्टर में सोनम कपूर ने एक ऐसी लड़की का क़िरदार निभाया है, जो इंडियन क्रिकेट टीम का लकी चार्म होती है, उसकी मौजूदगी में टीम सारे मैच जीतने लगती है. हालांकि फिल्म में सोनम कपूर के साथ दुलकर सलमान भी हैं, लेकिन फिल्म की कहानी पूरी तरह से सोनम कपूर के इर्दगिर्द ही घूमती है. सोनम कपूर की ये फिल्म भी ख़ास नहीं चली, लेकिन इस फिल्म को भी महिला प्रधान फिल्मों की कैटेगरी में रखना ज़रूरी है.
कमला बडोनी

8 मार्च को दुनियाभर में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का जश्न मनाया गया और नारी शक्ति को सलाम किया गया. इस बेहद ही खास मौके पर बॉलीवुड के कई सितारों ने भी अपने सोशल मीडिया अकाउंट से देश भर की महिलाओं को शुभकामनाएं दी. सदी के महानायक अमिताभ बच्चन ने भी महिला दिवस पर अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक तस्वीर पोस्ट की. जिसमें जया बच्चन, बेटी श्वेता नंदा बच्चन, नातिन नव्या नवेली और पोती आराध्या बच्चन नज़र आई लेकिन इस तस्वीर में कहीं भी ऐश्वर्या राय दिखाई नहीं दीं.

ऐश्वर्या राय बच्चन को तस्वीरों से नदारद देख उनके फैंस ने सोशल मीडिया पर सवालों की झड़ी लगा दी. एक फीमेल फैन ने कमेंट बॉक्स में बिग बी से सवाल करते हुए लिखा कि क्या आप अपनी बहू को बेटी नहीं मानते हैं?  महिला दिवस के मौके पर आपने सबकी तस्वीर शेयर की, लेकिन बहू ऐश्वर्या को छोड़ दिया. ये सही बात नहीं है सर जी.

वहीं एक यूज़र ने लिखा है कि मैं आपसे गुज़ारिश करता हूं कि ऐश्वर्या राय बच्चन की तस्वीर के साथ एक बार फिर से फोटो ट्वीट करें, वो सिर्फ आपकी बहू ही नहीं बल्कि आपकी बेटी भी है, धन्यवाद.

यह भी पढ़ें:धड़क की शूटिंग पर लौटीं जाह्नवी, साड़ी में लग रही हैं बिल्कुल मां श्रीदेवी जैसी !

वुमन्स डे

बदलते व़क्त के साथ महिलाओं का दायरा बहुत बढ़ा है. जमीं से लेकर आसमां तक अपनी उपलब्धियों का परचम लहरा चुकी महिलाओं के लिए इस बार का इंटरेशनल वुमन्स डे बहुत स्पेशल होगा. दरअसल, देश की सबसे बड़ी एयरलाइंस एअर इंडिया की महिलाओं ने एक ख़ास रिकॉर्ड बनाकर देश की सभी महिलाओं का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया है. महिलाओं की बढ़ती ताकत दिखाने के लिए एयर इंडिया के एक विशेष विमान ने दिल्ली से सैन फ्रांसिस्को के लिे उड़ान भरी. इसकी खास बात ये रही कि विमान के पायलट और क्रू मेंबर्स से लेकर ग्राउंड स्टाफ तक सब महिलाएं थीं. ऐसा करने वाली एयर इंडिया दुनिया की पहली कंपनी है.

5 दिनों का सफ़र
एयर इंडिया फ्लाइट ने सभी महिला क्रू के साथ सोमवार को नई दिल्ली से सैन फ्रांसिसको के लिए उड़ान भरी और पूरी दुनिया की सैर के बाद शुक्रवार वापस आई. एयर इंडिया के अधिकारियों के मुताबिक़ इस विमान की उड़ान के लिए ग्राउंड हैंडलिंग स्टाफ से लेकर इंजीनियर और एयर ट्रैफिक कंट्रोलर तक महिलाओं का योगदान रहा.

वुमन्स डे

गिनिज़ बुक में नाम दर्ज कराने की मांग
एयर इंडिया ने महिलाओं के इस रिकॉर्ड को गिनीज़ बुक ऑफ द रिकॉर्ड में दर्ज करवाने के लिए आवेदन किया है. एयर इंडिया ने कहा है कि अब वो हर साल इंटरनेशनल वुमन्स डे के मौ़के पर महिला टीमों वाली उड़ानों का संचालन करेगी.

 

– कंचन सिंह

×