Tag Archives: Is brown bread healthier than white bread?

ब्राउन ब्रे़ड बनाम व्हाइट ब्रेड, क्या है बेहतर? (Which Is healthier: White Bread Or Brown Bread?)

सैंडविच की दुकान पर आपका दोस्त हमेशा ब्राउन ब्रेड सैंडविच खाना पसंद करता है और आपका सहकर्मी लंच में ब्राउन राइस लेकर आता है. स़िर्फ आपके आस-पास के लोग ही नहीं, आजकल ज़्यादातर लोग ब्राउन ब्रेड व ब्राउन राइस को प्राथमिकता देते हैं. आख़िर क्या ख़ासियत है इन भूरे रंग के खाद्य पदार्थों में और लोग इन्हें क्यों ज़्यादा तरज़ीह देते हैं? चलिए जानते हैं.

White Bread Versus Brown Bread

बनाम व्हाइट ब्रेड
व्हाइट राइस की तरह ही व्हाइट ब्रेड के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला आटा ज़्यादा प्रोसेस्ड होता है. प्रोसेसिंग के कारण गेहूं की सारी ख़ूबियां ख़त्म हो जाती हैं और बचता है स़िर्फ इंडोस्पर्म, जिसमें सबसे कम पोषक तत्व पाए जाते हैं. व्हाइट ब्रेड में हाई फ्रूक्टोज़ सिरप के साथ-साथ ऐडेड शुगर भी होता है. इसे रोज़ाना या अत्यधिक मात्रा में खाने से वज़न बढ़ने के साथ-साथ बहुत-सी स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं, जैसे-डायबिटीज़ और कार्डियोवैस्कुलर डिज़ीज़ भी हो सकते हैं. इसके विपरीत ब्राउन ब्रेड में वीट जर्म और ब्रान मौजूद होते हैं, जिसके कारण यह ज़्यादा पौष्टिक होता है. होल वीट ब्राउन ब्रेड में फाइबर, प्रोटीन, विटामिन ई, विटामिन बी, मैग्नीशियम, मैगनीज़, आयरन, फास्फोरस, पोटैशियम और ज़िंक पाया जाता है.

White Bread Versus Brown Bread

घर पर ब्राउन ब्रेड बनाएं
सामग्री: 800 ग्राम आटा, 200 ग्राम मैदा, 30 ग्राम यीस्ट, 25 ग्राम ग्लुटेन, 30 ग्राम शक्कर, 20 ग्राम नमक, 100 ग्राम ओट का आटा, 500 ग्राम पानी व ड्राय ऑरिगैनो.
विधि: आटा और मैदा को एक साथ मिक्स करें. इसमें ओट का आटा, यीस्ट, ग्लुटेन, शक्कर और नमक मिलाकर आटा गूंथ लें. ध्यान रहे, आटा चिकना होना चाहिए. आटे को चार भाग में बांटकर मनचाहा आकार दें और उन्हें चार बेकिंग डिश में रखकर 30 मिनट के लिए छोड़ दें. फिर उन्हें ओवन में 190-200 डिग्री पर 15-20 मिनट के लिए बेक करें. ऑरिगैनो छिड़कें. ब्रेड तैयार है.

ब्राउन बनाम व्हाइट राइस
बात जब खाने की हो तो सबसे पहला नियम है कि हमेशा नैचुरली ब्राउन या गाढ़े रंग के खाद्य पदार्थ चुनने चाहिए, क्योंकि उनमें ज़्यादा पौष्टिक तत्व, एंटीऑक्सिडेंट्स और फाइटोकेमिकल्स होते हैं जो कोशिकाओं को क्षतिग्रस्त करनेवाले फ्री रेडिकल्स से लड़ने में शरीर की मदद करते हैं. हालांकि ब्राउन राइस और व्हाइट राइस में समान मात्रा में कैलोरीज़ और कार्बोहाइड्रेट्स पाए जाते हैं, लेकिन प्रमुख अंतर उनके प्रोसेसिंग के तरी़के और पोषक तत्वों में होता है. आपको बता दें कि ब्राउन राइस तैयार करने के लिए स़िर्फ चावल का सबसे ऊपरी पर्त निकाला जाता है, जबकि व्हाइट राइस बनाने के लिए तीन और पर्त निकाले जाते हैं, जिसके बाद स्टार्ची इंडोस्पर्म बचता है. इतने पर्त निकालने के कारण बहुत से विटामिन्स, फाइबर और डायटरी मिनरल्स के साथ-साथ न्यूट्रिशियस ब्रान ऑयल भी नष्ट हो जाता है.

ये भी पढ़ेंः जानिए डकार आने की 9 वजहें और उससे बचने के उपाय