Jaya prada

हमारे देश में राजनीति और इंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का बड़ा पुराना संबंध है. ऐसे कई एक्टर्स हैं, जिन्होंने पॉलिटिक्स को बतौर दूसरे करियर के रूप में शुरू किया और कामयाब भी रहे, पर बहुत से ऐसे भी रहे, जिन्हें राजनीति रास नहीं आई और वो लौटकर बॉलीवुड में वापस आ गए. आइये देखते हैं कौन से हैं वो बड़े सितारे जिन्होंने राजनीति में अपने हाथ आज़माएं.

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan)

Amitabh Bachchan

शायद बहुतों की तरह आपको भी पता न हो कि बॉलीवुड के शहंशाह भी राजनीति में अपनी किस्मत आज़मा चुके हैं. दरअसल, साल 1984 में अपने दोस्त राजीव गांधी को सपोर्ट करने के लिए अमिताभ बच्चन ने राजनीति में कदम रखा था. बॉलीवुड से ब्रेक लेकर उन्होंने प्रयागराज (इलाहाबाद) सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ा था और भारी मतों से जीते भी थे. लेकिन बिग बी को राजनीति रास नहीं आई और वो 3 साल बाद ही राजनीति छोड़कर मुंबई वापस आ गए.

सुनील दत्त (Sunil Dutt)

Sunil Dutt

एक ज़माने में बॉलीवुड के हैंडसम हीरो कहे जानेवाले सुनील दत्त ने बॉलीवुड में कई हिट फिल्में दी हैं. स्वर्गीय सुनील दत्त साहब न सिर्फ़ ऐक्टर थे, बल्कि उन्होंने बताहर डायरेक्टर और प्रोड्यूसर भी काम किया है. सुनील दत्तजी ने 1984 में कांग्रेस पार्टी जॉइन की थी. उनकी लोकप्रियता का अंदाज़ा इसी बात से लगाया का सकता है कि वो लगातार 5 बार विजयी हुए थे. साथ ही साल 2004 से 2005 तक वो यूथ अफेयर्स और स्पोर्ट्स मंत्री भी थे. उनके ही पदचिह्नों पर चलते हुए उनकी बेटी प्रिया दत्त ने भी कांग्रेस पार्टी से जुड़कर उन्हीं के विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा और जीती ही भी.

विनोद खन्ना (Vinod Khanna)

Vinod Khanna

बॉलीवुड से पॉलिटिक्स में कदम रखनेवाले सभी एक्टर्स में से विनोद खन्ना का सफर सबसे दिलचस्प माना जाता है. विनोद खन्ना ने 1997 में बीजेपी जॉइन की थी और पंजाब के गुरदासपुर लोकसभा सीट से 1998 से 2009 और फिर 2014 से 2018 तक लोकसभा सांसद रहे. साल 2002 में उन्हें अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में कल्चर और टूरिज्म मंत्रालय मिला. इसके 6 महीने बाद ही विनोद खन्ना एक्सटर्नल अफेयर्स में मिनिस्टर और स्टेट नियुक्त किये गए.

राजेश खन्ना (Rajesh Khanna)

Rajesh Khanna

बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना ने भी राजनीति में अपने हाथ आज़माएं थे. उन्होंने 1992 लोक सभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के टिकट पर दिल्ली से चुनाव लड़ा था और जीते भी थे. बतौर सांसद उन्होंने 5 सालों का कार्यक्रम पूरा किया, लेकिन उन्हें राजनीति रास नहीं आई और उसके बाद उन्होंने पॉलिटिक्स छोड़ दी.

शत्रुघन सिन्हा (Shatrughan Sinha)

Shatrughan Sinha

साल 1992 में शत्रुघन सिन्हा ने बीजेपी जॉइन की और शुरुआत अपने दोस्त और बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना के सामने बाय इलेक्शन में खड़े हुए. यहां शत्रुघ्न सिन्हा राजेश खन्ना से 25 हज़ार वोटों से हार गए, लेकिन उसके बाद से दोनों के रिश्ते बिगड़ गए. 2009 में उन्होंने बिहार के पटना साहिब से लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीते. उसके बाद 2014 में भी वो वहां से विजयी हुए. अटल बिहारी बाजपेयी की तीसरी सरकार में वो कैबिनेट मंत्री बने. उन्हें स्वास्थ्य के साथ साथ शिपिंग विभाग भी दिया गया. हालांकि 2019 में उन्होंने बीजेपी छोड़कर कांग्रेस पार्टी जॉइन कर ली है.

हेमा मालिनी (Hema Malini)

Hema Malini

बॉलीवुड की ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी ने भी एक्टिंग के साथ साथ पॉलिटिक्स में एंट्री ली. 2004 में उन्होंने बीजेपी जॉइन की और विनोद खन्ना के लिए उनके चुनाव क्षेत्र में प्रचार प्रसार किया. बॉलीवुड में कई ब्लॉकबस्टर फ़िल्में देनेवाली हेमा मालिनी ने 2014 के लोकसभा चुनाव में मथुरा से चुनाव लड़ा और जीतकर लोकसभ सांसद बनीं. उसके बाद 2019 के लोकसभा चुनाव में भी मथुरा की जनता ने भारी मतों से विजयी बनाया.

जया प्रदा (Jaya Prada)

Jaya Prada

जया प्रदा ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत 1994 में तेलुगू देशम पार्टी से की थी, लेकिन चंद्रबाबू नायडू से चलते मतभेदों के कारण उन्होंने टीडीपी छोड़ दी और समाजवादी पार्टी जॉइन की. 2004 से 2014 तक वो उत्तर प्रदेश के रामपुर से लोकसभा सांसद रहीं. देखा जाये तो जया प्रदा का राजनीतिक करियर काफ़ी सफल रहा है. लेकिन समाजवादी पार्टी में चल रहे बदलावों के कारण कुछ ऐसे मतभेद हुए कि उन्होंने समाजवादी पार्टी छोड़कर बीजेपी जॉइन कर ली.

जया बच्चन (Jaya Bachchan)

Jaya Bachchan

जया बच्चन ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत समाजवादी पार्टी से की. साल 2004 में राजनीति से जुड़ने के बाद वो 2004 से 2006 तक समाजवादी पार्टी की उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सदस्य चुनी गईं. वो अब चौथी बार राज्यसभा सदस्य बनी हैं. 2006 से 2010 और फिर 2012 में वो एक बार फिर चुनकर आयीं. उसके बाद 2018 में उन्हें फिर राज्यसभा सदस्यता मिली.

राज बब्बर (Raj Babbar )

Raj Babbar

3 बार लोकसभा सदस्य और 2 बार राज्यसभा सदस्य राज बब्बर की राजनीतिक पारी काफी सफल मानी जाती है. साल 1989 में वो जनता दल से जुड़ते हुए राजनीति में आए. कुछ साल बाद वो जनता दल छोड़कर समाजवादी पार्टी से जुड़ गए. लेकिन वहां भी बहुत ज़्यादा समय तक उनका मन नहीं लगा और उन्होंने कांग्रेस पार्टी जॉइन कर ली. वो उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

स्मृति ईरानी (Smriti Irani)

Smriti Irani

मॉडल, एक्ट्रेस और अब सक्सेसफुल पॉलिटिशियन स्मृति ईरानी ने 2003 में अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत की. 2019 के लोकसभा चुनाव में अमेठी से राहुल गांधी को हराकर वो लोकसभा सदस्य बनीं. इससे पहले वो गुजरात से राज्यसभा सांसद थीं और नरेंद्र मोदी सरकार में उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया गया था. फ़िलहाल वो टेक्सटाइल मिनिस्टर हैं और महिला एवं बाल विकास कल्याण मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार भी उन्हें दिया गया है.

किरण खेर (Kirron Kher)

Kirron Kher

इंडियन फिल्म, टेलीविज़न और थियटर आर्टिस्ट किरण खेर ने 2009 में बीजेपी से जुड़ीं. यहीं से इनके राजनीतिक पारी की शुरुआत हुई. साल 2014 में चंडीगढ़ से वो लोकसभा सदस्य बनीं और 2019 में वो दोबारा लोकसभा सदस्य बनीं.

इनके अलावा टैलेंटेड एक्टर और कॉमेडियन परेश रावल 2014 में अहमदाबाद से लोकसभा सदस्य रहे, फिल्म स्टार गोविंदा 2004 में मुंबई से लोकसभा सांसद बने और अपना टर्म पूरा किया. 2019 के लोकसभा चुनाव में जहां गुरदासपुर से बीजेपी के कैंडिडेट सन्नी देओल ने चुनाव जीता, वहीं कांग्रेस की उर्मिला मातोंडकर को हार का सामना करना पड़ा.

बॉलीवुड के अलावा टॉलीवुड के कई बड़े स्टार्स हैं, जिन्होंने लंबी राजनीतिक पारियां खेली हैं. एम जी रामचंद्रन और जयललिता की राजनीतिक पारियां काफ़ी सफल रहीं. वहीं मेगास्टार चिरंजीवी, रजनीकांत और पवन कल्याण भी राजनीति से जुड़ गए हैं.

– अनीता सिंह

यह भी पढ़ें: बेटी की उम्र की लड़कियों से शादी रचा चुके हैं ये फिल्म स्टार्स! (Bollywood Stars Who Married A Girl Of Their Daughter’s Age)