Tag Archives: Jobs

कैसे ढूंढ़ें सोशल मीडिया पर नौकरी? (How to Find Jobs on Social Media?)

shutterstock_277048049

ज़माना कब का बीत गया, जब अच्छी नौकरी पाने के लिए या तो अख़बारों पर निर्भर रहना पड़ता था या रोज़गार कार्यालय में नाम दर्ज कराना पड़ता था या फिर जान-पहचान द्वारा जुगाड़ करना पड़ता था, क्योंकि तब जॉब वेकेंसी का पता ही नहीं चलता था. इससे बुद्धिमान, क्वालिफाइड लोग बेरोज़गार रह जाते थे और सामान्य से व्यक्ति को नौकरी मिल जाती थी. आज ऐसा नहीं है. टेक्नोलॉजी बहुत आगे बढ़ चुकी है. आजकल इंटरनेट नौकरी चाहनेवालों और नौकरी देनेवाली कंपनियों व बिज़नेस हाउसेस को जोड़नेवाला पुल बन गया है.

 

shutterstock_431846191आजकल काम के अवसरों की कमी नहीं है. चाहे सरकारी दफ़्तर हो या प्राइवेट कंपनियां, सभी को नए लोगों की आवश्यकता होती है और ये लोग नौकरी के विज्ञापन अख़बारों पर और ऑनलाइन पोर्टल पर डालते रहते हैं. अतः इंटरनेट की मदद से आप नौकरी के कई अवसर प्राप्त कर सकते हैं और अपनी पसंद की नौकरी पा सकते हैं.

कैसे करें शुरुआत?

  •  सबसे पहले एप्लीकेशन लेटर बहुत ही प्रभावशाली ढंग से लिखें. उसके बाद बायोडाटा यानी रिज़्यूमे बनाएं. यह बहुत बढ़िया होना चाहिए.
  • ध्यान रहे नौकरी के लिए हज़ारों लोग अप्लाई करते हैं, लेकिन केवल कुछ ही रिज़्यूमे रिक्रूटमेंट बेंच तक पहुंचते हैं और उनमें से जिसका रिज़्यूमे दूसरों से अलग होता है, वही व्यक्ति सिलेक्ट होता है.

कैसे लगें सबसे अलग?

  • सबसे पहले आप जिस कंपनी में काम करना चाहते हैं, ऑनलाइन नेटवर्किंग के ज़रिए, उस कंपनी तक अपनी पहुंच बनाएं. व्यक्तिगत संपर्क से आपके आवेदन पर विचार करने की संभावना बढ़ जाती है.
  • जैसे ही आपको वेकेंसी का पता लगे, तुरंत प्रतिक्रिया दें. रिज़्यमे पहले से ही तैयार रखें, क्योंकि कई बार वैकेंसी आने के कुछ घंटों में ही जगह भर जाती है.
  • रिज़्यूमे में अपनी व्यक्तिगत ख़ूबियों, शक्तिशाली गुण, जैसे- कठोर परिश्रम, चीज़ों को बारीक़ी से देखना, टीम वर्क आदि का ज़िक्र ज़रूर करें.
  • आप यूट्यूब पर अपना वीडियो रिज़्यूमेे भी बना सकते हैं. इसमें यह बताएं कि आप किसी जॉब के लिए कितने और क्यों उपयुक्त हैं. चाहें तो अपने प्रोफेशनल बैकग्राउंड पर दिलचस्प स्टोरी बनाकर उसे बताएं और अपलोड करें.
  • रिज़्यूमे में अपने कामों को सीनियर से जूनियर के क्रम में लिखें यानी आपकी वर्तमान जॉब से क्रमशः पहली जॉब तक और पढ़ाई या काम के दौरान मिली उपलब्धियां ज़रूर लिखें.
  • रिज़्यूमे में ङ्गआईफ या ङ्गमैंफ शब्द का इस्तेमाल न करें. हां, एप्लीकेशन लेटर में ऐसा लिखा जा सकता है.
  • प्रभावशाली रिज़्यूमे बनाने के लिए कुछ साइट्स की मदद लें. ये इस प्रकार हैं:
  1. www.professional-resumes.com
  2. www.resume-templates.com
  3. www.resume-now.com

shutterstock_371024951

[amazon_link asins=’B01N4NFNZ2,B00TI7K2TU,B01L1YZXMI,B0108IPGIO’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’993e3488-b4aa-11e7-83e9-15da7f709f9e’]

ऐप्स डाउनलोड करें 

  • quicker sure (क्विकर श्योर): क्विकर के बारे में सभी जानते हैं कि यहां पुराना सामान बेचा और ख़रीदा जाता है, परंतु क्या आप जानते हैं कि आप क्विकर पर जॉब भी सर्च कर सकते हैं.
  • monster.com (मॉन्स्टर डॉट कॉम): इस वेबसाइट पर भारत के अलावा विदेशों में भी नौकरी के ऑफर मिल जाएंगे.
  • jagaranjoshsarkarinaukari (जागरण जोश सरकारी नौकरी): यदि आप सरकारी नौकरी ढूंढ़ रहे हैं, तो इस एप में आपको कई सरकारी जॉब्स के ऑफर मिलेंगे.
  • linked job search linked in professionals (लिंक्ड जॉब सर्च लिंक्ड इन प्रोफेशनल्स): इसमें आप जॉब सर्च करने के अलावा अपनी प्रोफेशनल प्रोफाइल भी मेंटेन कर सकते हैं.
  • freelancer (फ्रीलांसर): फुलटाइम जॉब्स ना चाहनेवाले इसमें अपनी प्रोफाइल बना सकते हैं.

अपलोड करें
जब आपका रिज़्यूमे तैयार हो जाए, तो आप ऑनलाइन जॉब पोर्टल पर अपना प्रोफाइल बना लें और रिज़्यूमे अपलोड कर दें.
यदि आप कंपनी या ऑफिस में जॉब वेकेंसी चाहते हैं, तो नीचे दी हुई साइट्स पर अप्लाई कर सकते हैं.
1. www.glassdoor.co.in
2. www.quiker.com/jobs
3. www.olx.in/jobs
4. www.clickindia.com

कुछ महत्वपूर्ण क़दम 

  • वेबसाइट पर अपना रिज़्यूमे समय-समय पर अपडेट करके पुनः अपलोड करते रहें.
  • अपने जॉब से जुड़े हुए कोर्स या सर्टिफिकेट कोर्स करते रहें. इससे अतिरिक्त योग्यता का जॉब पाने मेें बहुत फ़ायदा होगा.
  • आपके कोई दोस्त या रिश्तेदार किसी कंपनी में हों, तो उन्हें भी अपना रिज़्यूमे भेजें और उन्हें उनकी कंपनी के एच.आर. डिपार्टमेंट में फॉरवर्ड करने के लिए कहें, ताकि जब भी आपके योग्य जॉब निकले, आपका रिज़्यूमे पहले से हो.
  • अपना रिज़्यूमे कंपनी को भेजकर चुप ना बैठें. उसके बारे में लगातार पता करते रहें.
  • यदि आप किसी विशेष कंपनी में काम करने के इच्छुक हैं, तो वेबसाइट से उनका ईमेल एड्रेस निकालकर रिज़्यूमे उन्हें इमेल कर दें, साथ ही यह भी लिखें कि यदि कभी भी कोई वेकेंसी हो, तो आप वहां कार्य करने के लिए इच्छुक हैं.

जॉब पोर्टल वेबसाइट्स
1. www.merajob.com
2. www.timesjobs.com
3. www.monsterindia.com
4. www.naukari.com
5. www.shine.com
6. www.careerjet.com

अगर आप चाहते हैं कि आपके पास नौकरी के ज़्यादा से ज़्यादा विकल्प आएं, तो रोज़ अपने प्रोफाइल में कुछ न कुछ अपडेट ज़रूर करें, क्योंकि सबसे ज़्यादा अपडेटेड प्रोफाइल सबसे ऊपर रखी जाती है और उस पर ही कंपनी की नज़र पड़ती है. अगर आप चाहते हैं कि आपके पास नौकरी के ज़्यादा से ज़्यादा विकल्प आएं, तो रोज़ अपने प्रोफाइल में कुछ न कुछ अपडेट ज़रूर करें, क्योंकि सबसे ज़्यादा अपडेटेड प्रोफाइल सबसे ऊपर रखी जाती है और उस पर ही कंपनी की नज़र पड़ती है.

और भी पढ़ें: न्यू जॉब जॉइन करने से पहले ख़ुद से करें कुछ सवाल

                                                                                       – डॉ. सुषमा श्रीराव

दवाओं में है इंटरेस्ट तो करें ये कोर्स (Career In Pharma Sector)

Career In Pharma Sector

Career In Pharma Sector

अगर आपको दवाएं पसंद हैं यानी आपको दवाओं के बारे में जानकारी रखना अच्छा लगता है और आप नई-नई दवाओं के बारे में जानते रहते हैं, तो करियर का बेहतरीन स्कोप है आपके लिए. जी हां, फार्मासूटिकल्स में आप करियर बनाकर अच्छा कमा सकते हैं. यहां नई-नई दवाइयों की खोज व विकास संबंधी कार्य किया जा सकता है. तो अगर आपको ज़रा भी इंटरेस्ट हो और झट से पैसा कमाने की ललक हो, तो इस क्षेत्र में करियर बनाएं.

शैक्षणिक योग्यता
बारहवीं के बाद आप इस क्षेत्र में आगे बढ़ सकते हैं.

क्या हैं कोर्सेस?
डिप्लोमा इन फार्मेसी (डीफार्मा)
यह दो साल का डिप्लोमा कोर्स है. बारहवीं के बाद आप इसे कर सकते हैं.

♦ बैचलर ऑफ फार्मेसी (बीफार्मा)
यह चार साल का अंडरग्रैजुएट कोर्स है. बारहवीं के बाद चार साल के इस कोर्स को आप करके इसमें करियर बना सकते हैं.

♦ बैचलर ऑफ फिजियोथेरपी (बीपीटी)
यह चार साल ग्रैजुएशन कोर्स है. इसके साथ ही छह माह की ज़रूरी क्लिनिकल इंटर्नशिप भी करनी होती है.

♦ मास्टर ऑफ फार्मेसी (एमफार्मा)
यह दो साल का पोस्टग्रैजुएट कोर्स है. इसे बीफार्मा के बाद किया जाता है.

पर्सनल इंटरेस्ट
अब ज़ामाना गया जब आप कुछ गिने-चुने सेक्टर में करियर बनाते थे. आज स्कोप बहुत है. आप चाहें, तो भरपूर पैसा कमा सकते हैं. इसके लिए आपका पर्सनल इंटरेस्ट होना बहुत ज़रूरी है. फर्मेसी सेक्टर में आगे बढ़ने के लिए बहुत ज़रूरी है कि आपको लाइफ साइंस व दवाइयों के प्रति जानकारी और नई जानकारी लेने में दिलचस्पी हो. इससे जुड़े नए-नए रिसर्च और जानकारी के बारे में आपको पढ़ना और जानना अच्छा लगता हो. इन सबके अलावा बातचीत करने का बेहतर और आसान ज़रिया आपको आना चाहिए.

रोज़गार के अवसर
इस कोर्स को करने के बाद आपके सामने बहुत स्कोप रहता है. हॉस्पिटल फार्मेसी, क्लिनिकल फार्मेसी, टेक्निकल फार्मेसी, रिसर्च एजेंसीज, मेडिकल डिस्पेंसिंग स्टोर, सेल्स ऐंड मार्केटिंग डिपार्टमेंट, एजुकेशनल इंस्टिट्यूट्स, हेल्थ सेंटर्स, मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव, क्लिनिकल रिसर्चर, मार्किट रिसर्च ऐनालिस्ट, मेडिकल राइटर, ऐनालिटिकल केमिस्ट, फार्मासिस्ट, ऑन्कॉलजिस्ट, रेग्युलेटरी मैनेजर के तौर पर आप कर सकते हैं और खूब पैसा कमा सकते हैं.

आख़िर ऐसा क्या था उस 7 साल की बच्ची के लेटर में कि गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने ख़ुद दिया उसका जवाब? (Google CEO Sundar Pichai replied to a 7-year-old who applied for a job)

‪Sundar Pichai‬‬

‪Sundar Pichai‬‬

सोचकर भी हैरानी होती है कि गूगल का सीईओ भला किसी के लेटर का जवाब दे सकता है. इतना बिज़ी इंसान, जिसके पास लाखों लेटर हर दिन आते होंगे, उसमें से किसी का जवाब देना, वो भी 7 साल की लड़की का, सुनकर ही हैरानी होती है. आख़िर उस सात साल की बच्ची ने उस लेटर में ऐसा क्या लिख दिया था कि गूगल के सीईओ उसका जवाब देने के लिए आतुर हो गए. आइए, देखते हैं.

आप ख़ुद पढ़िए कि क्या लिखा था इंग्लैंड की रहनेवाली 7 साल की क्लोई ब्रिजवॉटर ने:

डियर गूगल बॉस, मेरा नाम क्लो है, मैं बड़ी होकर गूगल में काम करना चाहती हूं. मैं चॉकलेट फैक्ट्री में भी काम करना चाहती हूं और ओलंपिक में तैराक बनना चाहती हूं. मैं शनिवार और मंगलवार को स्वीमिंग सीखने जाती हूं. मैं ऐसी जगह काम करना चाहती हूं जहां बीन बैग्स हों और इलेक्ट्रिक गाड़ी गो कार्ट हो. मेरे डैड ने कहा कि जब मैं गूगल में काम करूंगी, तो मैं बीन बैग और गो कार्ट पर भी बैठ सकती हूं. मुझे कंप्यूटर अच्छा लगता है और मेरे पास गेम्स खेलने के लिए टैबलेट है. मेरे डैड ने मुझे एक गेम दिया है, जिसमें मैं एक रोबोट को एक स्क्वायर में ऊपर और नीचे घुमाना होता है. उन्होंने कहा है कि इससे मुझे कंप्यूटर सीखने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा वो मुझे एक दिन कंप्यूटर भी देंगे. मैं सात साल की हूं और मेरे टीचर्स ने मां को बताया है कि मैं पढ़ने में अच्छी हूं. मेरी रीडिंग और राइटिंग स्पेलिंग दोनों अच्छी है. डैड कहते हैं कि अगर मैं पढ़ाई करने में अच्छी रही, तो एक दिन मुझे गूगल में नौकरी मिल सकती है. मेरा पत्र पढ़ने के लिए आपका शुक्रिया…

‪Sundar Pichai‬‬

7 साल की क्लोई ब्रिजवॉटर की चिट्ठी का जवाब पिचाई ने किसी एंप्लॉई से दिलाने की बजाय ख़ुद ही दिया. पिचाई ने लिखा:

तुमने पत्र लिखा इसके लिए धन्यवाद. मैं ख़ुश हूं कि तुम्हें कंप्यूटर और रोबोट्स अच्छे लगते हैं. मुझे उम्मीद है कि तुम टेक्नोलॉजी के बारे में पढ़ती रहोगी. मुझे उम्मीद है कि तुम कड़ी मेहनत करोगी और अपने सपने पूरे करोगी. तुम हर वो चीज़ हासिल कर सकती हो, जो तुमने सोच रखा है. गूगल में काम करने से लेकर ओलंपिक में स्वीमिंग भी कर लोगी. तुम्हारा स्कूल ख़त्म होने के बाद मैं तुम्हारे एप्लिकेशन का इंतज़ार करूंगा.

‪Sundar Pichai‬‬

गूगल के सीईओ का ये पत्र क्लोइ और उसके डैड के लिए किसी आश्चर्य से कम नहीं था. दोनों ही बेहद ख़ुश हुए और सोशल मीडिया पर इसे डाला.

वैसे ये उन कंपनी के मालिकों के लिए और जीवन में हार मान चुके उन कर्मचारियों के लिए एक सीख है. उस 7 साल की बच्ची ने कर्मचारियों को एक सीख दी है कि काम करने की कोई उम्र नहीं होती. गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने भी ख़त का जवाब देकर एंप्लॉयर के लिए एक मिसाल पेश की है कि जब इतने बड़े फर्म का मालिक अपनी छोटी-सी ‘इच्छुक कर्मचारी’ के लेटर का जवाब दे सकते हैं, तो आप भी इस तरह का काम कर सकते हैं.

– श्वेता सिंह