Tag Archives: joint pain

योग से 10 तरह के दर्द से छुटकारा पाएं (International Yoga Day: Yoga Poses That Relieve 10 Types Of Body Pain)

International Yoga Day

योग से 10 तरह के दर्द से छुटकारा पाने के लिए के लिए आपको कौन-से योगासन करने चाहिए? इंटरनेशनल योगा डे (International Yoga Day) के ख़ास मौके पर हम आपको बता रहे हैं योग से १० तरह के दर्द से छुटकारा पाने का आसान उपाय.

International Yoga Day

* घुटने के दर्द के लिए 4 योगासन (Top 4 Yoga Poses For Knee Pain)
1) नी रोटेशन-उत्तानासन
2) नी स्ट्रेचिंग-सुलभ उत्तानासन
3) अर्ध तितली आसन-गुल्फ घूर्णन
4) अर्ध कपोत आसन-नी स्ट्रेचिंग

 

* टॉप 4 योगा पोज़ेज़ फॉर बैक पेन (Top 4 Yoga Poses For Back Pain
1) मार्जरासन
2) पूर्व भुजंगासन
3) शलभासन
4) पवनमुक्तासन

 

* टॉप 4 योगा पोज़ेज़ फॉर स्पॉन्डिलाइसिस (Top 4 Yoga Poses For Spondylosis)
1) हैंड इन हैंड आउट ब्रीदिंग
2) प्रसरित चक्रासन
3) शोल्डर रोटेशन
4) एलिफेंट ईयर
5) स्विमिंग स्ट्रोक

* टॉप 4 योगा पोज़ेज़ फॉर सर्वाइकल प्रॉब्लम्स (Top 4 Yoga Poses for Cervical Problems)
1) सुखासन-साइड स्ट्रेच
2) दत्त मुद्रा
3) सुलभ वक्रासन
4) सिंह मुद्रा

 

* टॉप 4 योगा पोज़ेज़ फॉर अर्थराइटिस (Top 4 Yoga Poses for Arthritis)
1) गतियामत मेरु वक्रासन
2) चक्कीचालन क्रिया
3) पवनमुक्तासन क्रिया
4) वीरासन-शोल्डर स्ट्रेच

* टॉप 4 योगा पोज़ेज़ फॉर मसल्स क्रैम्प (Top 4 Yoga Poses for Muscle Cramps)
1) गटियामत-ताड़ासन-उत्तानासन क्रिया
2) पवनमुक्तासन क्रिया
3) अधोमुख श्‍वानासन-स्ट्रेच
4) पूर्ण तितली आसन

* टॉप 4 योगा पोज़ेज़ फॉर साइटिका (Top 4 Yoga Poses for Sciatica)
1) उत्थित एकपादासन
2) सेतुबंधासन
3) पवनमुक्तासन-हिप स्ट्रेच
4) अर्ध शलभासन-शलभासन

 

* टॉप 4 योगा पोज़ेज़ फॉर हैप्पी पीरियड्स (Top 4 Yoga Poses For Period Problems)
1) उपविष्ट कोणासन
2) जानुशिरासन
3) पश्‍चिमोत्तानासन
4) बद्धकोणासन
5) प्रसरित पादोत्तानासन

* टॉप 4 योगा पोज़ेज़ फॉर माइग्रेन (Top 4 Yoga Poses for Migraine)
1) उत्तानासन
2) प्रसरित पादोत्तानासन
3) अधोमुख वीरासन
4) अधोमुख स्वस्तिकासन

* टॉप 4 योगा पोज़ेज़ फॉर वेरीकोज़ वेन्स (Top 4 Yoga Poses for Varicose Veins)
वेरीकोज़ वेन्स की समस्या में भी कई लोगों को दर्द होता है, ऐसे में ये 4 योगा पोज़ेज़ आपको दर्द से राहत दिलाएंगे:
1) सुलभ जानुशिरासन
2) उत्थित एकपादासन
3) विपरीत कर्णी मुद्रा
4) सपोर्टेड विपरीत कर्णी मुद्रा

 

 

जोड़ों के दर्द से छुटकारा पाने के 20 सुपर इफेक्टिव घरेलू उपाय ( 20 Effective Home Remedies To Get Rid Of Joint Pain)

Home Remedies for joint pain

सर्दी का सुहाना मौसम अपने साथ कई स्वास्थ्य समस्याएं भी लेकर आता है, ख़ासकर जोड़ों का दर्द, क्योंकि सर्दियों में जोड़ों के दर्द की समस्या बढ़ जाती है. ठंड के मौसम में जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए आज़माएं ये घरेलू उपाय (Home Remedies for Joint Pain).


* अजवायन या नीम के तेल से मालिश करने से जोड़ों के दर्द में आराम मिलेगा.
* पानी में एक मुट्ठी अजवायन और 1 बड़ा चम्मच नमक डालकर उबालें. उस पर जाली रखकर कपड़ा निचोड़कर तह करके गरम करें और उससे सेंक करें. दर्द दूर हो जाएगा.
* राई का लेप करने से भी हर तरह का दर्द दूर होता है.
* अजवायन को पानी में डालकर पका लें और उस पानी की भाप को दर्द वाली जगह पर दें. देखते ही देखते दर्द छूमंतर हो जाएगा.
* लहसुन की दो कलियां कूटकर तिल के तेल में गरम करें और इससे जोड़ों पर मालिश करें. बहुत लाभ होगा.
* दर्द से परेशान होने पर कपड़े को गरम करके जोड़ों पर सेंक कर करें. इससे बहुत आराम मिलता है.
* कनेर की पत्ती उबालकर पीस लें और मीठे तेल में मिलाकर लेप करें.


* लहसुन पीसकर लगाने से बदन के हर अंग का दर्द छूमंतर हो जाता है, लेकिन इसे ज़्यादा देर तक लगाकर न रखें, वरना फफोले पड़ने का डर रहता है.
* कड़वे तेल में अजवायन और लहसुन जलाकर उस तेल की मालिश करने से हर तरह के दर्द से छुटकारा मिलता है.
* विनेगर और जैतून के तेल को मिलाकर मालिश करें.
* कपड़े में 4-5 नींबू के टुकड़े बांधकर गरम तिल के तेल में थोड़ी देर डुबोएं. फिर उसे घुटनों पर लगाएं.
* राई को पीसकर घुटनों पर उसका लेप करें. तुरंत आराम मिलेगा.
* अजवायन को पानी में उबालकर उसकी भाप घुटनों पर लेने से दर्द से राहत मिलेगी.
* सेंधा नमक को गुनगुने पानी में डालकर नहाएं.
* दालचीनी पाउडर और शहद मिलाकर पेस्ट बनाएं. इससे जोड़ों पर मालिश करें.
* जोड़ों के दर्द में नीम के तेल की मालिश लाभदायक होती है.
* लहसुन की दो कलियां कूटकर तिल के तेल में गर्म करके जोड़ों पर मालिश करें.
* सरसों के तेल में अजवायन और लहसुन गरम करके दर्दवाले भाग पर मालिश करें.
* अमरूद के पत्ते पीसकर दर्द वाले स्थान पर लगाएं. अमरूद के पत्ते पानी में उबालकर इस पानी से सिकाई करने से भी लाभ मिलता है.
* कांच की बॉटल में आधा लीटर तिल का तेल और 10 ग्राम कपूर मिलाकर धूप में रख दें. जब ये दोनों घुलकर एक हो जाएं, तो इस तेल से मालिश करें. जोड़ों के दर्द से आराम मिलेगा.

ये भी पढ़ेंः अश्‍वगंधा के 20 + एेसे फ़ायदे, जो आप नहीं जानते

पीठदर्द और जोड़ों के दर्द से छुटकारा पाने का घरेलू उपाय जानने के लिए देखें वीडियो:

 

ज्वाइंट पेन के लिए होम रेमेडीज़( Home Remedies for Joint pain)

Home Remedies for Joint pain
ज्वाइंट पेन (Joint pain) या नी पेन से परेशान हैं तो ट्राई करें ये ईज़ी व इफेक्टिव होम रेमेडीज़ (Home Remedies) और पाएं दर्द से फौरन छुटकारा.

 

Home Remedies for Joint pain

घुटनों का दर्द

 

अगर घुटनों में दर्द उठे, तो हमारा उठना- बैठना और चलना सब कुछ मुश्किल हो जाता है. ऐसे में कुछ घरेलू उपाय आपको ज़रूर आराम देंगे.
विनेगर: इसके अम्लीय गुणों के कारण यह घुटनों के जोड़ों पर जमा होनेवाले टॉक्सिन को कम करता है और जोड़ों के ल्यूब्रिकेंट को बरक़रार रखता है.
– दो टीस्पून एप्पल साइडर विनेगर को दो कप पानी में मिलाकर रखें. थोड़े-थोड़े समय के अंतराल पर इस मिश्रण का एक-एक घूंट दिनभर पीते रहें.
– पानी में 2 कप विनेगर मिलाकर स्नान करें.
– विनेगर और जैतून के तेल को मिलाकर मालिश करें.
हल्दीः हल्दी में कुरक्यूमिन नामक तत्व पाया जाता है, जो एंटी ऑक्सिडेंट होने के साथ-साथ दर्दनिवारक भी होता है. हाल ही में नेशनल सेंटर फॉर कांप्लीमेंटरी एंड ऑल्टरनेटिव मेडिसीन की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि हल्दी गठिया रोग होने से रोकती है, जो घुटनों के दर्द का मुख्य कारण है.
– आधा टीस्पून पिसी हुई अदरक और हल्दी को पानी में 10 मिनट तक उबालें और फिर पानी छान लें. इस पानी में शहद मिलाकर पीएं.
– एक ग्लास पानी में हल्दी को उबालकर पीएं.
नींबूः नींबू में मौजूद सिट्रिक एसिड हमारे शरीर में यूरिक एसिड को बढ़ने नहीं देता, जिससे गठिया का ख़तरा काफ़ी कम हो जाता है.
– एक कपड़े में 4-5 नींबू के टुकड़े बांधकर, उसे गर्म तिल के तेल में थोड़ी देर डुबोकर रखें, फिर उस तेल को घुटनों पर लगाएं.

 

एक्स्ट्रा रेमेडीज़

– राई को पीसकर घुटनों पर उसका लेप करें. तुरंत आराम मिलेगा.
– अजवायन को पानी में उबालकर उसकी भाप घुटनों पर लेने से दर्द से तुरंत राहत मिलती है.
– लहसुन को पीसकर दर्दवाली जगह पर लगाने से तुरंत राहत मिलती है, पर याद रहे, इसे ज़्यादा देर तक न रहने दें, वरना फफोले आ सकते हैं.

 

जोड़ों का दर्द

 

आर्थराइटिस या गठिया में जोड़ों में दर्द और सूजन आ जाती है. इससे छुटकारा पाने के लिए आप कुछ आसान से उपाय अपना सकते हैं.

 

सेंधा नमक: यह मैग्नीशियम का बहुत अच्छा स्रोत है. इससे हमारे शरीर में पीएच का संतुलन बना रहता है.
– आधे कप गुनगुने पानी में सेंधा नमक और नींबू का रस समान मात्रा में मिलाकर सुबह-शाम 1-1 चम्मच पीएं.
– सेंधा नमक को गुनगुने पानी में डालकर नहाएं.
दालचीनीः दालचीनी में कई दर्दनिवारक गुण होते हैं. इसके साथ ही यह कई शारीरिक समस्याओं से भी राहत
दिलाता है .
– एक चम्मच दालचीनी पाउडर और एक चम्मच शहद को एक कप गर्म पानी में मिलाकर सुबह खाली पेट लें.
– दालचीनी पाउडर और शहद मिलाकर पेस्ट बना लें. इससे जोड़ों पर मालिश करें.
– इन सभी घरेलू उपायों के साथ यह ज़रूर ध्यान में रखें कि यह सभी दर्द आधुनिक जीवनशैली में व्यायाम की कमी और उठने-बैठने व चलने की ग़लत मुद्राओं के कारण होते हैं, इसलिए व्यायाम ज़रूर करें और स्वस्थ रहें. अगर दर्द ज़्यादा हो, तो डॉक्टर से ज़रूर मिलें.

 

एक्स्ट्रा रेमेडीज़

– गठिया रोग में नीम के तेल की मालिश काफ़ी लाभदायक होती है.
– लहसुन की दो कलियां कूटकर तिल के तेल में डालकर गर्म करें. इससे जोड़ों पर मालिश करें. यह बहुत फ़ायदेमंद
उपाय है.
– 2 टीस्पून एरंडी के तेल में थोड़ी-सी सोंठ मिलाकर काढ़ा बनाएं. रोज़ाना सुबह पीएं, जल्द आराम लगेगा.
– सर्दियों में जब दर्द सताए, तो पानी में 2 टेबलस्पून अजवायन और एक टेबलस्पून नमक मिलाकर उबालें. भगोने के ऊपर जाली रखकर कपड़ा रखें और उसी से सेंक करें. फौरन आराम मिलेगा.
– सरसों के तेल में अजवायन और लहसुन गर्म करके दर्दवाले भाग पर मालिश करें, तुरंत राहत मिलेगी.

आज़माएं नेचुरल पेनकिलर्स

सिरदर्द, पेटदर्द, जोड़ों का दर्द या फिर किसी भी तरह के दर्द से छुटकारा पाने के लिए पेनकिलर खाने की बजाय अपने घर में नज़र दौड़ाएं, आपको कई नेचुरल पेनकिलर्स नज़र आ जाएंगे. तो अब दर्द न सहें और नेचुरल पेनकिलर्स से अपने दर्द को करें छूमंतर.

2

 

सिरदर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: लौंग का तेल, अदरक, ग्रीन टी, दालचीनी पाउडर, तरबूज़ का रस, शहद, नींबू, सेब, नीलगिरी का तेल.
– सिरदर्द मेें लौंग के तेल में थोड़ा-सा नमक मिलाकर माथे पर लगाएं, तुरंत आराम मिलेगा.
– थोड़ा-सा अदरक कूटकर पानी में उबालकर-छानकर पीएं, दर्द से राहत मिलेगी.
– गर्म पानी में ग्रीन टी के साथ आधे नींबू का रस मिलाकर पीएं.
– 2 टेबलस्पून दालचीनी पाउडर में पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं और माथे व कनपटी पर लगाएं.
– अगर गर्मी के कारण सिरदर्द हो रहा हो, तो एक ग्लास तरबूज़ का रस आपको इससे राहत दिला सकता है.
– जिन्हें कई दिनों से सिरदर्द हो, वो रोज़ाना खाली पेट 1 ग्लास पानी में 1 टीस्पून शहद मिलाकर पीएं.
– कभी-कभी खाली पेट गैस होने के कारण भी सिरदर्द होने लगता है, ऐसे में तुरंत नींबू पानी पीएं.
– अगर सुबह उठते ही आपको सिरदर्द होने लगता है, तो खाली पेट एक सेब पर नमक लगाकर खाएं और ऊपर से गर्म पानी पीएं.
– गर्म पानी में कुछ बूंदें नीलगिरी तेल की डालकर भाप लें.
कमरदर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: लहसुन, अदरक, कपूर, नारियल तेल.
– जब कमरदर्द सताए, तब नारियल या सरसों के तेल में 8-10 लहसुन की कलियां गरम करके मालिश करें.
– नारियल के तेल में अदरक का रस मिलाकर मालिश करें या देशी घी में सोंठ पाउडर मिलाकर इसका सेवन करें.
– नारियल के तेल में कपूर मिलाकर गर्म करें और एक कांच की बॉटल में भरकर रख लेेंं. रात को सोने से पहले मसाज करें.
– गर्म या ठंडी पट्टी की सेंक भी कर सकते हैं.

पेटदर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: अदरक, खानेवाला सोडा, हींग, नींबू, गर्म पानी, अजवायन, दही.
– पेटदर्द में 2-2 टीस्पून अदरक और तुलसी का रस गुनगुने पानी में मिलाकर पीएं. इसके अलावा पिसी हुई सोंठ में थोड़ा-थोड़ा सेंधा नमक और हींग मिलाकर पीने से भी पेटदर्द से तुरंत राहत मिलती है.
– अदरक के रस को पेट पर लगाने से दर्द में आराम मिलता है.
– गुनगुने पानी में नींबू का रस, थोड़ी-सी अजवायन और काला नमक मिलाकर पीएं.
– अदरक के रस में कैस्टर ऑयल मिलाकर पीएं.
– 1 ग्लास गर्म पानी में 1 टीस्पून खानेवाला सोडा मिलाकर पीएं.
– पेटदर्द में हींग बहुत फ़ायदेमंद होता है. एक चुटकी हींग को गर्म करके दूध के साथ लें.
– पेट और सीने में जलन हो रही हो, तो 1 ग्लास गन्ने के रस में 2-2 टीस्पून अदरक का रस और पुदीने का रस मिलाकर लें.
– अगर पेट ख़राब है, तो दही बहुत फ़ायदेमंद है. यह पेटदर्द को ठीक करके आपकी रोगप्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाता है.
– पेट में अचानक दर्द होने पर एक टीस्पून अजवायन फांक लें.

कान का दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: लौंग का तेल, प्याज़, तुल सी, लहसुन, नमक, एप्पल साइडर विनेगर, मां का दूध, अदरक, सरसों का तेल.
– कान में दर्द हो, तो लौंग तेल में थोड़ा-सा तिल का तेल मिलाकर कान में डालें, तुरंत आराम मिलेगा.
– कान में दर्द हो, खुजली या त्वचा लाल हो गई हो, तो प्याज़ का रस कान में डालें.
– तुलसी केकुछ पत्तों को पीसकर उसका रस निकालें और 4-5 बूंदें कान में डालें.
– लहसुन की कुछ कलियां, सरसों, नारियल, जैतून या तिल के तेल में गर्म करें और उस तेल की 2 बूंदें कान में डालें. लहसुन की जगह आप अदरक भी ले सकते हैं.
– 1 कप नमक गर्म करके एक कपड़े में बांधकर जिस कान में दर्द हो रहा है, उसे 5-10 मिनट तक सेंकें, तुरंत आराम लगेगा.
– 1 टीस्पून एप्पल साइडर विनेगर में 1 टीस्पून पानी मिलाकर रुई के फाहे में डुबोएं और 5 मिनट के लिए कान में डालें. 5 मिनट बाद रुई
निकालकर कान साफ़ कर लें.
– बड़े या बच्चों को अगर कान में इंफेक्शन के कारण दर्द हो रहा हो, तो मां के दूध की 2-3 बूंदें थोड़ी-थोड़ी देर में कान में डालें.

गले में दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: कच्ची हल्दी, लौंग, नमक, खानेवाला सोडा, शहद.
– गले में दर्द हो, तो कच्ची हल्दी अदरक के साथ समान मात्रा में पीसकर गुड़ मिलाकर खाएं, तुरंत राहत मिलेगी.
– नमक-पानी का गरारा भी नेचुरल पेनकिलर है.
– शहद न स़िर्फ गले की सूजन को कम करता है, बल्कि दर्द का कारण बने टिश्यूज़ की जलन को भी कम करता है. एक कप गर्म पानी में 2-3 टीस्पून शहद मिलाकर पीएं. आप चाहें, तो नींबू का रस भी मिला सकते हैं.
– 1 कप गर्म पानी में 1-1 टेबलस्पून शहद और एप्पल साइडर विनेगर मिलाकर पीएं.
– 1 ग्लास पानी में डेढ़ टीस्पून खानेवाला सोडा मिलाकर गरारे करें.
– गले में खराश के कारण होनेवाले दर्द से छुटकारा पाने के लिए लौंग चबाकर खाएं.

जोड़ों में दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: लहसुन, अदरक, शहद, दालचीनी पाउडर, हल्दी, मेथीदाना.
– 1 टीस्पून लहसुन के पेस्ट में शहद मिलाकर रोज़ाना दो बार खाने के साथ लें. इसके अलावा लहसुन के पेस्ट को किसी भी तेल में मिलाकर जोड़ों पर लगाने से दर्द
से तुरंत आराम मिलता है.
– जोड़ों में दर्द हो या सूजन या फिर शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द हो रहा हो, तो अदरक में 3-4 लहसुन की कलियां और थोड़ा-सा नमक मिलाकर कूट लें. प्रभावित हिस्से पर पेस्ट रखकर प्लास्टिक शीट से ढकें और पट्टी बांध लें. 5-6 घंटे तक
रहने दें.
– आर्थराइटिस के मरीज़ अगर रोज़ाना सुबह खाली पेट शहद में दालचीनी पाउडर मिलाकर चाटें, तो जल्द ही दर्द से छुटकारा मिलता है.
– गर्म दूध में 1-1 टीस्पून हल्दी और शहद मिलाकर पीने से जोड़ों के दर्द में राहत मिलती है.
– मेथीदाना को भूनकर पीस लें. 2 टीस्पून पाउडर में पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं और जोड़ों पर लगाएं. इसके अलावा मेथीदाना को रातभर भिगोकर रखें और सुबह पानी निथारकर दाने चबाकर खा लें.
– पर्याप्त पानी पीएं, यह आपके शरीर को हाइड्रेटेड रखता है और जोड़ों में किसी तरह का वेस्ट जमा नहीं होने देता.
– कच्चे प्याज़ में मौजूद सल्फर दर्द पैदा करनेवाले एन्ज़ाइम्स को रोक देता है. अपने खाने में कच्चे प्याज़ को ज़रूर शामिल करें.
दांत का दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स:हसुन, लौंग का तेल, अदरक, एप्पल साइडर विनेगर, आलू, अमरूद के पत्ते.
– लहसुन के पेस्ट में नमक मिलाकर दांत पर लगाएं या फिर लहसुन की 1-2 कलियां खाएं, आराम मिलेगा.
– दांत में दर्द हो या मसूड़ों की समस्या या फिर मुंह में छाले हो गए हों, बस रूई में थोड़ा-सा लौंग का तेल लगाकर उस जगह पर लगाएं, फास्ट रिलीफ मिलेगा.
– अदरक के रस में सेंधा नमक मिलाकर प्रभावित दांत पर लगाएं, दर्द चला जाएगा या फिर दांतों में अचानक टीस उठ रही हो, तो अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े दांत के नीचे दबाकर रखें.
– रुई के फाहे में एप्पल साइडर विनेगर डुबोकर दांत में दबाकर रखें.
– ताज़े कटे कच्चे आलू के टुकड़े पर नमक लगाकर दांत पर रखें.
– अमरूद के पत्तों को पानी में उबालकर उस पानी से कुल्ले करें.
पीरियड्स का दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: सोंठ, अदरक, शहद, दालचीनी पाउडर, तुलसी, लैवेंडर ऑयल, गर्म पानी.
– पीरियड्स के दौरान होेनेवाले दर्द से निजात पाने के लिए पुराने गुड़ में सोंठ पाउडर मिलाकर काढ़ा बनाकर पीएं.
– 1 ग्लास पानी में अदरक कूटकर डालें. इसे छानकर इसमें शहद और नींबू का रस मिलाएं और पीरियड्स के दौरान दिन में तीन बार यह चाय पीएं.
– पेट में हो रहे मरोड़ को दूर करने के लिए एक कप उबलते हुए पानी में 1 टेबलस्पून तुलसी के पत्ते डालें और ठंडा करके पी लें.
– पीरियड्स के पहले दिन 1 कप गर्म पानी में डेढ़ टीस्पून दालचीनी पाउडर और 1 टेबलस्पून शहद मिलाकर पीएं. दिन में तीन बार ऐसा करें, दर्द में राहत मिलेगी.
– गर्म पानी शरीर में रक्तसंचार को बढ़ा देता है, जिससे दर्द कम हो जाता है, इसलिए इस दौरान गर्म पानी पीएं.

– अनीता सिंह