Kangana ranaut on sushant s...

कंगना के साथ जिस तरह बदले की भावना से काम हो रहा है उस पर अब कंगना ने सीधे सीधे सोनिया गांधी से सवाल पूछा है. कंगना ने ट्वीट करके पूछा है कि महाराष्ट्र में आप भी सरकार में शामिल हैं और मेरे साथ यहां जिस तरह का बर्ताव किया का रहा है क्या आपको उसका दुःख नहीं, आप भी एक महिला हैं. क्या आप महाराष्ट्र सरकार से निवेदन नहीं कर सकतीं कि बाबा आम्बेडकर द्वारा जो देश का संविधान लिखा है उसके आदर्शों पर वो चले? क्या आपकी सरकार संविधान में विश्वास नहीं करती.

Kangana Ranaut

कंगना का दफ़्तर BMC द्वारा तोड़े जाने के बाद कंगना ने अपने टूटे दफ़्तर क मुआयना किया था और वो अपने दफ़्तर की हालत देख भावुक ही गईं थीं. कंगना ने कहा कि उनके पास इतने पैसे नहीं हैं कि दफ़्तर ठीक करवा सकूं इसलिए मैं इसी टूटे दफ़्तर से ही अब काम करूँगी. इसी संदर्भ में कंगना से सोनिया गांधी से सवाल किए.

इससे पहले कंगना ने बाला साहब ठाकरे का एक वीडियो भी शेयर किया और कहा कि वो मेरे प्रिय नेता थे. उन्हें सबसे बड़ा डर था कि कभी शिवसेना गठबंधन करके कहीं कांग्रेस जैसी पार्टी ही ना बन जाए और आज उनकी भावनाएं कितनी आहत ही होंगी.

यह भी पढ़ें: प्रोड्यूसर निखिल द्विवेदी भी रिया पर मेहरबान, जेल में ही दे डाला फिल्म का ऑफर, कहा सब ख़त्म होने पर साथ करेंगे काम, लेकिन सुशांत के फैंस हुए नाराज़! (Producer Nikhil Dwivedi: Rhea Chakraborty, When All This Is Over We Would Like To Work With You)

कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार ख़ासतौर से शिवसेना अब पूरी तरह आमने-सामने हैं. शिवसेना अब बदले की राजनीति पर उतर आई हैं और कंगना के ख़िलाफ़ आनन फ़ानन में दो अलग अलग थानों में केस दर्ज हो चुका है.

दरअसल कंगना के बयानों से बौखलाई शिवसेना ने बुधवार को कंगना के मुंबई पहुँचने से पहले ही उनका दफ़्तर BMC ने तोड़ना शुरू कर दिया था वो भी ग़ैरक़ानूनी तरीक़े से.

कंगना सुशांत मामले में लगातार फ़िल्म माफ़िया और महाराष्ट्र सरकार पर निशाना बनाए हुए हैं और इसी की उनको सज़ा मिल रही है. मुंबई हाई कोर्ट ने तोड़फोड़ पर रोक लगाने को कहा था लेकिन बावजूद इसके कोर्ट के निर्णय का इंतज़ार किए बिना ही BMC ने अपना हथौड़ा कंगना के 48 करोड़ के घर और दफ़्तर पर चला दिया.

इसी के चलते कंगना ने उद्धव को कहा था कि आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा. कंगना ने आगे कहा कि तुझे क्या लगता है कि तू फ़िल्म माफ़िया के साथ मिलकर मेरा घर तोड़कर मुझसे बदला लेगा. ये वक़्त वक़्त की बात है और काल चक्र घूमेगा. तेरा घमंड टूटेगा.

कंगना ने कहा कि आज मैन महसूस कर रही हूँ कि कश्मीरी पंडितों को कैसा महसूस हुआ होगा और मैं कश्मीर पर भी फ़िल्म बनाऊँगी.
कंगना ने एक वीडियो के ज़रिए यह संदेश दिया था लेकिन शिवसेना को यह नागवार गुज़रा और अब वो कंगना के ख़िलाफ़ क़ानूनी दाव पेंच आज़माने पर उतर आई है. उद्धव ठाकरे के लिए असभ्य भाषा का इस्तेमाल करने का आरोप लगते हुए कंगना पर दो अलग अलग थनों में fir दर्ज की गई है. एक विक्रोली में और दूसरा मामला दिंडोशी में दर्ज किया गया. लोग यह पूछ रहे हैं कि कंगना के ख़िलाफ़ केस दर्ज करने में बड़ी तत्परता दिखाई लेकिन कंगना को जब अपशब्द कहे गए तब क्यों नहीं कुछ किया. इससे यही लगता है कि यह बदले की करवाई है.

यह भी पढ़ें: पहले चलना सिखाया, अब रास्ता दिखाएगी… सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन की ‘इंडिया वाली मां’ (Pehle Chalna Sikhaya Tha, Ab Rasta Dikhayegi… Sony Entertainment Television’s ‘Indiawaali Maa’)

बेबाक और बिंदास कंगना ने हमेशा अपनी बात मज़बूती के साथ रखी है. बॉलीवुड में चल रहे भाई भतीजावाद पर वो पहले भी बोल चुकी हैं, पर सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से ही कंगना रनौत ने बॉलीवुड में चल रहे नेपोटिज़्म के ख़िलाफ़ खुलकर अपनी बात रखी. स्टार किड्स को फेवर करने और टैलेंटेड ऐक्टर्स को आउटसाइडर्स की तरह ट्रीट करनेवाले गुट के ख़िलाफ़ एक तरफ़ से उन्होंने मोर्चा खोल रखा है. हाल ही में एक न्यूज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि अगर मैं अपनी बात साबित नहीं कर पाई, तो पद्मश्री सम्मान लौटा दूंगी.

Kangana Ranaut

सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद कंगना रनौत के कई वीडियोज़ सोशल मीडिया पर शेयर किए, जिसमें उन्होंने बॉलीवुड में कुछ लोगों को सुशांत के ख़िलाफ़ गुटबाज़ी का आरोप भी लगाया. कंगना ने अपने वीडियो में बताया किस तरह सुशांत बॉलीवुड और मीडिया दोनों से ही प्रेशर और रिजेक्शन झेल रहे थे. उन्होंने मीडया के कुछ रिपोर्टर्स को भी सेलेब्स के नाम लिए बिना उनके बारे में ब्लाइंड आर्टिकल्स लिखने के लिए झाड़ा. उन्होंने यहां तक पूछा कि जिस तरह का व्यवहार उनके साथ किया गए, उसके सुशांत का ऐसा कदम सुसाइड है या प्लांड मर्डर.

Kangana Ranaut

हाल ही में एक न्यूज़ चैनल को दिए इंटरव्यू में कंगना ने बताया कि उन्हें सुशांत सिंह राजपूत केस में पुलिस का समन आया था. पुलिस उनका बयान लेना चाहती थी, पर जब मुझे फोन आया, तो मैंने बताया कि मैं मनाली में हूं, आप मुंबई से किसी को भेज दीजिये स्टेटमेंट लेने के लिए. उसके बाद से उनका कोई रिप्लाई नहीं आया.

Kangana Ranaut

क्वीन एक्ट्रेस कंगना ने कहा कि अगर मैंने कुछ ऐसा कहा है, जो मैं साबित नहीं कर पाई या फिर वो पब्लिक डोमेन में नहीं है, तो मैं अपना पद्मश्री लौटा दूंगी. मैं ऐसी नहीं हूं, जो कुछ भी कहे, मैंने जो कुछ भी कहा है, वो पब्लिक डोमेन में हैं.

Kangana Ranaut

कंगना ने यहां तक कहा कि कल को ये ज़रूरतमंद आउटसाइडर्स स्वरा भास्कर और तापसी पन्नू उठकर कहेंगी कि वो इस इंडस्ट्री से कितना प्यार करती हैं. मकीन सिर्फ़ इतना पूछना चाहती हूं कि अगर आप इस इंडस्ट्री से प्यार करती हो या करण जौहर से प्यार करती हो, आपको उतना काम क्यों नहीं मिलता, जितना आलिया और अनन्या को मिलता है. उनका इस इंडस्ट्री में होना ही नेपोटिज़्म का प्रूफ है. कंगना ने यह भी कहा कि मेरे इस इंटरव्यू के बाद मेरे बारे में लिखा जाएगा कि मैं पागल हो गयी हूं, मुझे पता है.

Kangana Ranaut

कंगना ने मुंबई पुलिस की जांच पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्होंने करण जौहर, आदित्य चोपड़ा, महेश भट्ट और फ़िल्म क्रिटिक राजीव मसंद को समन क्यों नहीं भेजा. महेश भट्ट पर गंभीर आरोप लगाते हुए कंगना ने कहा कि अपनी फिल्मों को चलाने के लिए वो परवीन बॉबी की बीमारी को बेचते आ रहे हैं. कंगना ने कहा कि पुलिस ने संजय लीला भंसाली को समन भेजा और तो और इंडस्ट्री में देवता समान शेखर कपूर को भी समन भेजा. इस तरह से कंगना ने मुंबई पुलिस की जांच पर ही सवालिया निशान लगाए हैं.

यह भी पढ़ें: ‘देवों के देव महादेव’ की पार्वती सोनारिका भदौरिया टीवी ऐक्ट्रेस से बन गई हैं फिल्म ऐक्ट्रेस, जानें उनकी असल ज़िंदगी से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें (Unknown Facts About Devon Ke Dev Mahadev Fame Sonarika Bhadoria)