Kapil

kapil dev

भारत को पहला विश्‍व कप दिलानेवाले कपिल पा जी को जन्मदिन की ढेर सारी बधाइयां. 6 जनवरी 1959 को जन्में कपिल देव हरफनमौला खिलाड़ी थे. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि कपिल पा जी फिटनेस के चलते कभी भी टीम से बाहर नहीं रहे यानी वो मैदान के अंदर और बाहर दोनों जगह फिट एंड फाइन रहते थे. आज भी कॉमेंट्री बॉक्स में कपिल देव की कॉमेंट्री लोगों में जोश भर देती है.

कपिल देव को साल 1979-80 में अर्जुन अवॉर्ड, 1982 में पद्मश्री, 1983 में विसडन क्रिकेटर ऑफ द ईयर, 1991 में पद्म भूषण, 2002 में विसडन इंडियन क्रिकेटर ऑफ द सेंचुरी से सम्मानित किया गया.  इसके अलावा कपिल के योगदान को देखते हुए उन्हें 24 सितंबर 2008 को भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल का दर्जा दिया गया.

देश को पहली बार वर्ल्डकप जिताने वाले कपिल देव को एक बार मैच फिक्सिंग का आरोप भी झेलना पड़ा था. बात उस समय की है, जब उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम के कोच के रूप में चुना गया था. उस समय मनोज प्रभाकर ने उनके ऊपर फिक्सिंग का आरोप लगाया, जिसके चलते कपिल देव ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया.