kishor kumar

सिंगिंग, एक्टिंग, म्यूजिक डायरेक्शन से लेकर लिरिक्स राइटिंग हर काम में माहिर किशोर कुमार को उनके टैलेंट ही नहीं, बल्कि मजाकिया और मनमौजी स्वभाव के लिए भी जाना जाता है. आज उनके जन्मदिन के इस खास अवसर पर सुनाते हैं उनसे जुड़े ज़िदादिल और मस्तमौला अंदाज़ के कुछ दिलचस्प किस्से…

बचपन में फटे बांस जैसी आवाज़ थी किशोर कुमार की

Kishore Kumar

किशोर कुमार के बारे में कहा जाता है कि उन्होंने संगीत की कभी कोई ट्रेनिंग नहीं ली. इसके बावजूद वो सुरों के जादूगर कहलाए और करोड़ों दिलों पर राज किया. इस बारे में उनके बड़े भाई अशोक कुमार ने बताया था कि बचपन में किशोर की आवाज़ बिलकुल फटे बांस जैसी थी, लेकिन एक बार उनका पांव सब्ज़ी काटने वाली दराती पर पड़ गया था. पैर में गहरा ज़ख्म हो गया. तब किशोर कुमार 2-3 दिन तक रोते ही रह गए. बस उन दिनों के रोने में ही उनका गला साफ हो गया.

दुनिया उन्हें पागल कहती थी

Kishore Kumar


एक इंटरव्यू के दौरान एक जर्नलिस्ट ने उनसे पूछा था कि आप किसी भी पार्टी में नहीं जाते, ना ही आपके बंगले पर कोई आता है. तो आपको अकेलापन महसूस नहीं होता? इस पर किशोर कुमार ने जो जवाब दिया, उसके लिए उन्हें पागल कहा जाने लगा. किशोर कुमार ने कहा, ‘नहीं, मुझे बिलकुल अकेला नहीं लगता. मैंने अपने घर में लगे इन पेड़-पौधों से दोस्ती कर ली है. उनके नाम रखे हैं. मैं इनसे ही बातें करता हूं.’  इन इंटरव्यू के बाद उस मैगज़ीन ने उन्हें ‘मैड मैन’ नाम दे दिया. इस पट किशोर ने कहा था, ‘दुनिया कहती है मैं पागल और मैं कहता हूं दुनिया पागल’.

किशोर दा कभी एक्टिंग नहीं करना चाहते थे

Kishore Kumar


किशोर कुमार कभी एक्टिंग नहीं करना चाहते थे. वो कुंदन लाल सहगल के फैन थे और उनकी ही तरह गाना चाहते थे. लेकिन उनके बड़े भाई अशोक कुमार ने बॉलीवुड में कदम जमाने के लिए उन्हें एक्टिंग करने को कहा. किशोर दा एक्टिंग के लिए सीरियस नहीं थे. उन्हें जब भी अशोक कुमार के कहने पर किसी फिल्म में लिया जाता तो वो कोई बहाना बना कर एक्टिंग करने से बच जाते थे. एक बार किशोर कुमार को अपने भाई अशोक कुमार के साथ फिल्म ‘भाई-भाई’ के लिए सीन शूट करना था. किशोर ने फिर से अपना पैंतरेबाज़ी शुरू कर दी. लेकिन इस दफा अशोक कुमार के सामने उनकी दाल नहीं गल पा रही थी. तब उन्होंने डायलॉग भूल जाने का नाटक किया और भागने लगे. पर अशोक कुमार भी अशोक कुमार थे, उन्होंने किशोर कुमार के दोनों पैरों पर अपना पैर रख दिया और उन्हें हिलने का भी मौका नहीं दिया. तब जाकर कहीं शूटिंग हो सकी.


जब देव आनंद को गाली देकर भाग गए किशोर दा

Kishore Kumar


एक्टिंग से बचने के लिए किशोर दा ने क्या क्या पैंतरे किए हैं, उनके तो ढेरों किस्से हैं, लेकिन देव आनंद के साथ जो उन्होंने किया था, उसे लोग आज तक याद करते हैं. हुआ यूं था कि एक फिल्म में अशोक कुमार और देव आनंद साथ काम कर रहे थे. उस फिल्म के एक सीन के लिए कोई एक्टर चाहिए था तो अशोक कुमार ने किशोर से कहा कि ये सीन तुम कर दो. अशोक कुमार ने उन्हें सीन भी समझा दिया कि जैसे देव अन्दर आएगा, तुझे उसे खरी-खोटी सुनानी है. किशोर ने हां तो कह दिया. लेकिन जैसे ही सीन शुरू हुआ और देव आनंद अंदर आए, किशोर कुमार ने उन्हें सच में गंदी गाली दे दी और भाग गए. डायरेक्टर प्रोड्यूसर सब चिल्लाते रहे कि सीन अभी पूरा नहीं हुआ है. लेकिन किशोर कुमार तो एक दो तीन हो गए.

जब सेट पर आधा सिर मुंडवाकर पहुंचे थे किशोर कुमार

Kishore Kumar


एक बार किशोर दा किसी फिल्म की शूटिंग कर रहे थे. लेकिन प्रोड्यूसर ने उन्हें आधी पेमेंट ही दी थी. प्रोड्यूसर ने किशोर से कहा था कि फिल्म कंप्लीट होने के बाद आधे पैसे मिलेंगे. इस बात का किशोर कुमार को बहुत बुरा लगा, लेकिन गुस्सा होने की बजाय उन्होंने इसका जवाब मजाकिया अंदाज में दिया. अगले दिन वे सेट पर आधी मूंछ और आधे बाल मुंडवा कर पहुंच गए. जब उनसे इसकी वजह पूछी गई, तो उन्होंने कहा कि आधे पैसे मिले हैं तो गेटअप भी आधा ही होगा. जब पूरे पैसे मिलेंगे तो गेटअप पूरा हो जाएगा.

जब मसूर दाल देखकर मसूरी ट्रिप का प्लान बना लिया

Kishore Kumar


किशोर दा से जुड़ा ये किस्सा भी काफी मजेदार है. दरअसल उन्हें बाजार जाकर छोटी- छोटी चीजें, तरह तरह के आइटम खरीदेने का शौक था. एक बार वो बाजार गए थे. अचानक उन्हें मसूर की दाल दिखी और उन्होंने तुरंत ‘मसूरी’ घूमने का प्लान बना लिया.


टेबल पर लेटकर किशोर कुमार ने गाना था ये गाना

Kishore Kumar


फ़िल्म ‘शराबी’ के गाने ‘इंतहा हो गई इंतजार की… ‘ से भी एक दिलचस्‍प किस्‍सा जुड़ा है और ये किस्सा खुद आशा भोंसले ने एक कार्यक्रम में शेयर किया था कि किशोर दा ने पहले इस सॉन्‍ग को गाने से मना कर दिया था. लेकिन बाद में वह इस शर्त पर ये गाना गाने को तैयार हुए कि वह इस गाने को शराबी की तरह लेट कर गायेंगे. आखिरकार उन्होंने स्टाफ से टेबल की अरेंजमेंट करवाई और फिर टेबल पर लेट कर ही ये गाना रिकॉर्ड किया.


जब लता जी की अनुपस्थिति में मेल फीमेल दोनों आवाज़ में गाया किशोर दा ने

Kishore Kumar


फिल्म ‘हाफ टिकट’ का गाना ‘आके सीधे लगी दिल पे जैसी’ किशोर कुमार और लता मंगेशकर को डुएट गाना था, लेकिन किसी कारण लता मंगेशकर रिकॉर्डिंग नहीं कर पाई, तब किशोर कुमार ने कहा ‘क्या मैं कोशिश करके देखूं’. फिर किशोर कुमार ने मेल और फीमेल दोनों ही आवाज़ों में गाना गाया. मजे की बात तो यह की गाना एक टेक में फाइनल कर दिया गया और सुपरहिट भी हुआ.   

तो ‘आनंद’ फिल्म में राजेश खन्ना नहीं किशोर कुमार होते

Rajesh Khanna


बहुत कम लोग ये बात जानते हैं कि फिल्म ‘आनंद’ के लिए ऋषिकेश मुख़र्जी की पहली पसंद राजेश खन्ना नहीं, बल्कि किशोर कुमार थे. लेकिन एक छोटी सी गलती की वजह से किशोर दा के हाथ से ‘आनंद’ निकल गई. हुआ यूं कि किशोर कुमार का किसी बंगाली डायरेक्टर के साथ झगड़ा हो गया था, इसलिए उन्होंने अपने गार्ड से कह रखा था कि अगर कोई बंगाली आए तो उसे डांट के भगा देना. संयोगवश उसी दिन ऋषिकेश मुख़र्जी ‘आनंद’ के सिलसिले में बात करने किशोर कुमार के घर पहुंचे, लेकिन बंगाली डायरेक्टर को देखकर किशोर दा के कहे अनुसार गार्ड ने ऋषि दा को भला-बुरा कहकर भगा दिया. इस बात से ऋषिकेश मुख़र्जी बेहद नाराज़ हुए और उन्होंने किशोर कुमार को अपनी फिल्म में लेने का विचार छोड़ राजेश खन्ना को साइन कर लिया.

क्या आपको पता है कि बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन अपनी पंक्चुअलिटी के लिए बॉलीवुड में सबसे मशहूर हैं. उनके बारे में यह भी मशहूर है कि सुबह की शूटिंग में वो ही अपने डायरेक्टर और क्रू मेंबर्स को उनका अलार्म बजने से पहले फ़ोन करके उठाते हैं. एक वक़्त ऐसा भी था, जब अमितजी ही फिल्मिस्तान स्टूडियो का ताला खोलते थे, क्योंकि वो गेटकीपर से भी पहले वहां पहुंच जाते थे. बिग बी की ही तरह खिलाड़ी अक्षय कुमार और आमिर खान भी समय के बेहद पाबंद हैं. यहां हम बॉलीवुड के कुछ ऐसे लेट लतीफ़ सेलेब्स के बारे में बता रहे हैं, जो फिल्म इंडस्ट्री में लेट लतीफी के लिए बदनाम हैं.

  1. सलमान खान (Salman Khan)
(Salman Khan

हम सभी के बजरंगी भाईजान लेट लतीफीवाली लिस्ट में सबसे ऊपर हैं. सलमान खान के लिए मशहूर है कि वो कभी टाइम से सेट पर नहीं पहुंचते. एक इंटरव्यू में आमिर खान ने कहा भी था कि फिल्म अंदाज़ अपना अपना की शूटिंग के वक़्त उन्हें सलमान की लेट लतीफी के कारण काफ़ी प्रॉब्लम होती थी. सल्लू मियां सिर्फ फिल्म के सेट पर ही नहीं, बल्कि मीडिया इवेंट्स पर भी कभी टाइम से नहीं पहुंचते और आते ही अपनी मधुर मुस्कान से सबको सम्मोहित कर देते हैं. अब तो मीडियावालों को भी भाईजान की इस आदत की आदत हो गई है.

2. शाहरुख खान (Shahrukh Khan)

Shahrukh Khan

बॉलीवुड के बादशाह भले ही अपनी मनमोहक मुस्कान और दिलकश अदाकारी से आपका दिल जीत लेते हैं, पर लेट लतीफी के मामले में वो सल्लू मियां से कम नहीं हैं. एक बार उनके सबसे अच्छे दोस्त करण जौहर ने भी कहा था कि शाहरुख हमेशा दो घंटे लेट ही चलते हैं. फिल्म के सेट पर सभी उनका इंतज़ार करते रहते हैं और आते ही शाहरुख अपनी प्यारी सी स्माइल के साथ बस इतना कहते हैं फ्लाइट लेट हो गई या कोई और बहाना. खैर हम भी ऐसे कई बहाने बनाते हैं, इसलिए इसे अच्छे से समझ सकते हैं.

3. किशोर कुमार (Kishor Kumar)

Kishor Kumar

आपको जानकर हैरानी होगी कि आवाज़ के जादूगर किशोर कुमार जिन्होंने गायकी में कई रिकॉर्ड्स बनाये हैं, उनका भी समय की पाबन्दी के मामले में रिकॉर्ड बहुत ख़राब है. गाने की रिकॉर्डिंग हो या फिल्म की शूटिंग किशोर कुमार सेट और स्टूडियो में अक्सर लोगों को इंतज़ार कराते थे. यह उनकी आवाज़ का ही जादू था कि कभी किसी ने उन्हें इसके लिए नहीं टोका, क्योंकि हर कोई उन्हें बेहद पसंद करता था.

4. राजेश खन्ना (Rajesh Khanna)

Rajesh Khanna

जी हां, ये हम सभी के लिए बेहद चौंकानेवाला नाम है क्योंकि कोई बिरला ही होगा, जो बॉलीवुड के सबसे पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना का दीवाना न हो. प्रोड्यूसर और डायरेक्टर के लिए मुश्किल इसलिए और भी बढ़ जाती थी, क्योंकि उस ज़माने में मोबाइल फ़ोन तो होते नहीं थे कि उनका पता चल सके कि वो कहां हैं.

5. गोविंदा (Govinda)

Govinda

गोविंदा सिर्फ हीरो नंबर वन ही नहीं, लेट लतीफ़ नंबर वन भी हैं. फिल्म के सेट पर लेट पहुंचनेवाले स्टार्स में गोविंदा का नाम भी टॉप पर है. एक समय में बॉलीवुड के सबसे पॉप्युलर कॉमिक एक्टर माने जानेवाले गोविंदा की लेट लतीफी ने ही उनके फ़िल्मी करियर पर फुल स्टॉप लगा दिया. बहुत सी एक्ट्रेसेस ने गोविंदा की लेट लतीफी की शिकायत की है. उनमें से एक ने इंटरव्यू में कहा भी था कि बाकी स्टार्स के शेड्यूल काफ़ी टाइट होते हैं, उन्हें बाइक टू बैक शूटिंग करनी होती थी लेकिन गोविंदा की लेट लतीफी के कारण बाकी लोगों को काफ़ी दिक्कत होती थी.

6. रणवीर सिंह (Ranveer Singh)

Ranveer Singh

शाहरुख की तरह ही रणवीर भी सेट पर लेट पहुंचने पर अपनी स्माइल से सबको फुसला लेते हैं. लेट लतीफी के मामले में ये भी किसी से कम नहीं हैं. रणवीर सिंह के बारे में एक बार अर्जुन कपूर ने कहा था कि वो हमेशा फिल्म की सेट पर लेट आते हैं.

7. रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor)

Ranbir Kapoor

हम सभी भारतीयों की तरह रणबीर कपूर भी हमेशा समय से पीछे ही चलते हैं. वेक अप सिड फिल्म की ही तरह रियल लाइफ में भी रणबीर कपूर काफ़ी लेट लतीफ़ और समय की पाबन्दी को उतना महत्व न देनेवाले हैं.

8. अरिजीत सिंह (Arijit Singh)

Arijit Singh

अपनी बेमिसाल गायकी से लोगों के दिलों में दर्द का एहसास जगानेवाले अरिजीत सिंह ने भी बहुतों को देर तक इंतज़ार करवाकर उनकी ज़िंदगी में भी उन्हें दर्द दिया है. अरिजीत भी हमेशा लेट से पहुंचने वाले सेलेब्स की लिस्ट में शामिल हैं. सिंगिंग सेंसेशन फिल्म इंडस्ट्री में उनके साथ काम करनेवाले लोग उनकी इस आदत से ख़ुश नहीं हैं.

9. करीना कपूर (Kareena Kapoor)

Kareena Kapoor

आउटडोर शूट के मामले में करीना बेहद लेट लतीफ़ हैं. ऐसा सुनने में आता है कि सारी यूनिट उनका इंतज़ार करती रहती है और बेबो आकर 10-15 मिनट शूट करके अपनी वैनिटी में वापस चली जाती हैं. रियल लाइफ में करीना काफ़ी लेट लतीफ़ हैं, इसलिए शूट हमेशा दोपहर के बाद ही रखवाती हैं, क्योंकि वो सुबह बहुत जल्दी उठ नहीं सकतीं.

10. काजोल (Kajol)

Kajol

लेट लतीफों की लिस्ट ने अगला नाम काजोल का है. गर्ल नेक्स्ट डोर के नाम से मशहूर काजोल के लिए एक बार आमिर खान ने एक इंटरव्यू में भी कहा था कि उन्हें काजोल के साथ काम करने में उतनी दिलचस्पी नहीं रहती, क्योंकि वो बिलकुल भी पंक्चुअल नहीं हैं. जो लेट लतीफ़ एक्ट्रेसेस में से एक हैं. शायद यही वजह है कि उन दोनों की फ़ना के बाद कोई और फिल्म साथ में नहीं आई.

– अनीता सिंह

यह भी पढ़ें: 10 बॉलीवुड ब्यूटीज़ जो बिना मेकअप के लगती हैं ज़्यादा हसीन! (10 Bollywood Hotties Blessed With Natural Beauty)

मधुबाला फिल्म जगत बेहद खूबसूरत अभिनेत्रियों में से एक हैं. मधुबाला की खूबसूरती का ज़िक्र आज भी होता है. ऊपरवाले ने मधुबाला को खूबसूरती और अदाकारी तो बहुत दी, लेकिन उनके हाथों की लकीरों में प्यार की रेखा बहुत छोटी कर दी. मधुबाला की निजी ज़िंदगी बहुत दर्दभरी रही. असल ज़िंदगी में मधुबाला खुशियों के लिए तरसती रह गई, वो जीना चाहती थी, लेकिन किस्मत ने उन्हें जी भरकर जीने भी नहीं दिया. दिलीप कुमार के साथ मधुबाला का नौ साल का मोहब्बत का रिश्ता आखिर क्यों टूटा? मधुबाला और दिलीप कुमार सगाई के बंधन में बंधने के बाद भी शादी के रिश्ते में क्यों नहीं बंध पाए? मधुबाला की छोटी बहन मधुर भूषण ने हाल ही में अपने एक इंटरव्यू में मधुबाला और दिलीप कुमार के रिश्ते के बारे में बात की और उनका रिश्ता टूटने की वजह भी बताई.

 Madhubala And Dilip Kumar

कोर्ट केस के कारण आई मधुबाला और दिलीप कुमार के रिश्ते में दरार
यासेर खान ने ट्विटर हैंडल पर मधुबाला की बहन की बताई सारी बातें शेयर की हैं. मधुबाला की बहन मधुर भूषण ने मधुबाला और दिलीप कुमार के रिश्ते के बारे में बताते हुए कहा कि मधुबाला और दिलीप कुमार एक दूसरे के लिए बने थे. उनके रिश्ते में दरार तब आई, जब 50 के दशक मे रिलीज हुई फिल्म नया दौर के दौरान एक कोर्ट केस हो गया. उस कोर्ट केस के कारण मधुबाला और दिलीप कुमार के रिश्ते में दूरियां आ गईं. दरअसल हुआ यूं की इस फिल्म की यूनिट को ग्वालियर में कहीं शूट करना था. इस जगह पर एक और फिल्म ‘जबीन जलील’ की शूटिंग के दौरान भीड़ बेकाबू हो गई और भीड़ ने महिलाओं पर हमला कर दिया, उन्होंने महिलाओं के कपड़े भी फाड़ दिए थे. इस बात से मधुबाला के पिता परेशान हो गए और उन्होंने शूटिंग की लोकेशन बदलने की मांग की. फिर ये केस अदालत में पहुंचा और दिलीप कुमार ने मधुबाला के पिता को तानाशाह कहा. इतना ही नहीं, उन्होंने फिल्म के निर्देशक बी.आर. चोपड़ा का सपोर्ट किया. फिर इस केस के कारण मधुबाला और दिलीप कुमार के रिश्ते में दरार पड़ गई. मधुबाला ने बात को सुलझाने की कोशिश भी की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. मधुबाला की बहन मधुर भूषण ने अपने इंटरव्यू में कहा कि आपा उन दिनों बहुत रोती थी. दोनों की अपनी शर्तें थीं. दिलीप कुमार कहते, ‘तुम अपने पिता को छोड़ दो, मैं तुमसे शादी कर लूंगा.’ वहीँ मधुबाला कहती, ‘मैं तुमसे शादी कर लूंगी, लेकिन घर आकर सॉरी कह दो और उन्हें गले लगा लो.’ दोनों में से कोई झुकने को तैयार नहीं था और दोनों के ईगो ने उनके रिश्ते को बर्बाद कर दिया. मधुबाला की बहन मधुर भूषण ने अपने इंटरव्यू में बताया कि उनके पिता ने मधुबाला से सगाई तोड़ने के लिए कभी नहीं कहा और न ही उन्होंने दिलीप कुमार को माफी मांगने के लिए कहा, फिर भी ये रिश्ता टूट ही गया. मधुर भूषण ने ये भी बताया कि मधुबाला ने बीमारी की स्थिति में ही फिल्म मुग़ल-ए-आज़म की शूटिंग की थी.

यह भी पढ़ें: मीना कुमारी के अधूरे प्रेम की दर्दभरी दास्तान: कमाल अमरोही से लेकर धर्मेंद्र तक सबने प्यार में धोखा दिया (Tragic Love Story Of Tragedy Queen Meena Kumari)

 Madhubala And Dilip Kumar

मधुबाला की बहन मधुर भूषण ने बताया कि मधुबाला को पहला प्यार दिलीप कुमार से नहीं हुआ था. ये बात यासेर खान ने ट्विटर हैंडल पर शेयर की है-

मधुबाला के पहले प्यार नहीं थे दिलीप कुमार
यासेर खान ने ट्विटर हैंडल पर वो सारी बातें शेयर की हैं, जो मधुबाला की बहन मधुर भूषण ने बताईं. मधुर भूषण ने बताया कि मधुबाला को पहला प्यार दिलीप कुमार से नहीं हुआ था, मधुबाला को सबसे पहले प्रेमनाथ से प्यार हुआ था, लेकिन इन दोनों का रिश्ता छह महीने में ही टूट गया. इसकी वजह ये थी कि प्रेमनाथ ने मधुबाला को अपना मज़हब छोड़ने के लिए कहा. मधुबाला इसके लिए राज़ी नहीं थीं, इसलिए दोनों अलग हो गए. इसके बाद मधुबाला की ज़िंदगी में दिलीप कुमार आए, लेकिन इन दोनों नौ साल का रिश्ता भी शादी के बंधन में नहीं बंध सका.

 Madhubala And Dilip Kumar

…और फिर मधुबाला को किशोर कुमार से हुआ प्यार
मधुबाला की बहन मधुर भूषण ने अपने इंटरव्यू में बताया कि दिलीप कुमार से रिश्ता टूटने के बाद मधुबाला को किशोर कुमार से प्यार हुआ. उस वक़्त उनका और उनकी पत्नी का तलाक हो रहा था. मधुबाला और किशोर कुमार की प्रेम कहानी ‘चलती का नाम गाड़ी’ और ‘हाफ टिकट’ फिल्म के दौरान शुरू हुई. 1960 में जब मधुबाला और किशोर कुमार ने शादी की, तब मधुबाला 27 साल की थीं.

यह भी पढ़ें: ऋषि कपूर की 10 बेहतरीन फिल्में, आपको कौन सी फिल्म सबसे ज़्यादा पसंद है? (10 Best Movies Of Rishi Kapoor, Which Movie Do You Like The Most?)

 Madhubala And Dilip Kumar

मधुबाला कहती रह गईं, “मुझे ज़िंदा रहना है, मुझे मरना नहीं है”
मधुबाला की बहन मधुर भूषण ने अपने इंटरव्यू में मधुबाला की ज़िंदगी के आख़िरी दिनों का दर्द भी बताया. मधुर भूषण ने बताया कि शादी के बाद मधुबाला और किशोर कुमार लंदन गए, जहां डॉक्टर ने उन्हें बताया कि मधुबाला अब सिर्फ दो साल तक ज़िंदा रह सकती हैं. उसके बाद किशोर ने मधुबाला को उसके मायके लाकर छोड़ दिया और कहा कि वो अब मधुबाला की देखभाल नहीं कर सकते. किशोर कुमार अक्सर बाहर रहते थे इसलिए वो मधुबाला की देखभाल नहीं कर पा रहे थे, लेकिन मधुबाला अब भी किशोर कुमार के साथ रहना चाहती थीं. किशोर उनसे मिलने दो महीने में एक बार आते थे. शायद वो मधुबाला से अलग होना चाहते थे. मधुबाला की बहन मधुर भूषण ने बताया कि अपनी ज़िंदगी के आखिरी दिनों में भी मधुबाला अक्सर रोती रहती थीं. वो अक्सर यही कहती थीं, “मुझे ज़िंदा रहना है, मुझे मरना नहीं है, डॉक्टर कब इलाज निकालेंगे?” मधुबाला की इस दर्दभरी पुकार पर ज़िंदगी को बिल्कुल भी रहम नहीं आई और आखिरकार 23 फरवरी 1969 को मधुबाला ने ज़िंदगी नाता तोड़ इस दुनिया को अलविदा कह दिया.

यह भी पढ़ें: Childhood Pictures: बचपन में भी क्यूट दिखते थे ये बॉलीवुड स्टार (Childhood Pictures: Throwback Photos Of Bollywood Celebrities)

शादी सात जन्मों का पवित्र बंधन होता है और हर व्यक्ति अपने जीवन में एक बार शादी तो ज़रूर करता है. आम लोगों की तरह बॉलीवुड सेलेब्स भी शादी करते हैं, लेकिन इस इंडस्ट्री में कई ऐसे सेलेब्स भी हैं, जिन्होंने एक शादी नाकाम होने पर दूसरी कर ली और जब दूसरी असफल हुई तो तीसरी शादी कर ली. आज हम आपको बॉलीवुड के ऐसे ही सितारों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने एक नहीं, दो नहीं बल्कि तीन-तीन शादियां की.

Bollywood Celebrities, married Thrice
करण सिंह ग्रोवर
बॉलीवुड की सेक्स सिंबल कही जाने वाली हॉट एक्ट्रेस बिपाशा बसु के पति करण सिंह ग्रोवर ने बिपाशा के साथ सात फेरे लेने से पहले साल 2012 में जेनिफर विंगेट से शादी की थी और दो साल में दोनों का तलाक हो गया. हालांकि जेनिफर से पहले उन्होंने टीवी एक्ट्रेस श्रद्धा निगम से शादी की थी जो 10 महीने तक ही चली.

 

Bollywood Celebrities, married Thrice
संजय दत्त
साल 2008 में मान्यता से शादी करने वाले संजय दत्त ने भी तीन-तीन शादियां की हैं. संजय की पहली पत्नी रिचा शर्मा का निधन साल 1996 में ब्रेन ट्यूमर के कारण हो गया था. पहली पत्नी की मौत के बाद साल 1998 में संजय ने रिया पिल्लई से शादी की थी, लेकिन 2005 में दोनों का तलाक हो गया. मान्यता उनकी तीसरी पत्नी हैं.

 

Bollywood Celebrities, married Thrice
सिद्धार्थ रॉय कपूर
अभिनेत्री विद्या बालन और सिद्धार्थ रॉय कपूर की शादी साल 2012 में हुई थी. विद्या उनकी तीसरी पत्नी हैं और उनसे पहले सिद्धार्थ ने एक जानी मानी टेलीविज़न प्रोड्यूसर से शादी की थी जिससे साल 2011 में अलग हो गए थे. जबकि उनकी पहली पत्नी उनके बचपन की दोस्त हुआ करती थी.

 

Bollywood Celebrities, married Thrice
संजय कपूर
बिजनेसमैन और करिश्मा कपूर के एक्स हसबैंड संजय कपूर भी तीन बार दुल्हा बन चुके हैं. उन्होंने करिश्मा के लिए अपनी पहली पत्नी नंदिता महतानी को तलाक दे दिया था. करिश्मा से शादी करने के बाद उनके रिश्तों में कड़वाहट आने लगी, जो उनके तलाक का कारण बनी. करिश्मा से तलाक लेने के बाद संजय ने प्रिया सचदेव से शादी की.

 

Bollywood Celebrities, married Thrice

कबीर बेदी
एक्टर कबीर बेदी तो इन सभी सेलेब्स से एक कदम आगे ही निकले. जी हां, कबीर बेदी चार बार दूल्हा बन चुके हैं. कबीर ने साल 1969 में ओडिसी डांसर प्रोतिमा गौरी से पहली शादी की थी. फिर दूसरी शादी उन्होंने ब्रिटिश मूल की फैशन डिज़ाइनर सुजेन हम्प्रेस से की. कबीर ने तीसरी शादी साल 1992 में टीवी और रेडियो प्रेजेंटर निकी रिड्स से की थी और साल 2016 में अपने 70वें जन्मदिन पर कबीर ने परवीन दोसांझ के साथ 7 फेरे लिए.

 

Bollywood Celebrities, married Thrice

नीलिमा अज़ीम
अभिनेत्री नीलिमा अज़ीम शाहिद कपूर की मां हैं. नीलिमा ने सबसे पहले एक्टर पंकज कपूर से शादी की थी, लेकिन दोनों का तलाक हो गया. जिसके बाद नीलिमा ने दूसरी शादी एक्टर राजेश खट्टर से की और बाद में उन्होंने अपने बचपन के दोस्त रज़ा अली खान से शादी कर ली.

 

Bollywood Celebrities, married Thrice

किशोर कुमार
जादुई आवाज़ के बादशाह किशोर कुमार ने एक बार नहीं बल्कि 4 बार शादी की थी. पहली बार उन्होंने 1950 में रुमा गुहा से शादी की थी, फिर उन्होंने 1960 में मधुबाला से शादी की, लेकिन शादी के 9 साल बाद मधुबाला की मौत हो गई. फिर उन्होंने योगिता बाली से शादी की जो सिर्फ दो साल तक चली. उसके बाद 1980 में किशोर दा को लीना चंद्रावरकर से प्यार हो गया और उनसे शादी कर ली. लेकिन किशोर दा शादी के कुछ समय बाद इस दुनिया को छोड़कर चले गए.

Bollywood Celebrities, married Thrice

यह भी पढ़ें: ‘रुस्तम’ अक्षय कुमार नीलाम कर रहे हैं अपना यूनिफॉर्म, इसके पीछे वजह है बेहद ख़ास 

Mehmood-01-810x550 (1)महमूद साहब को मनोरंजन जगत में ‘किंग ऑफ कॉमेडी’ के नाम से जाना जाता है. लेकिन उन्हें इस मुक़ाम तक पहुंचने में काफी संघर्ष करना पड़ा. जिस किशोर कुमार को उन्होंने बाद में अपने होम प्रोडक्शन फिल्म पड़ोसन में काम दिया, उन्हीं किशोर कुमार ने महमूद को काम देने से इंकार कर दिया था.

महमूद के अभिनय की गाड़ी चली तो फिर ‘भूत बंगला’, ‘पड़ोसन’, ‘बॉम्बे टू गोवा’, ‘गुमनाम’, ‘कुंवारा बाप’ जैसी फिल्मों ने महमूद को स्थापित कर दिया. महमूद अपनी अलग अदा के लिए लोगों के चहेते बन गए, न सिर्फ़ फिल्मी दुनिया के लिए, बल्कि अपने प्रशंसकों के लिए भी. Mehmoods-Birthday-on-29th-September (1)महमूद का जन्म 29 सितंबर, 1932 को मुंबई में हुआ था. उनके पिता मुमताज़ अली बॉम्बे टॉकीज़ स्टूडियो में काम करते थे. घर की आर्थिक जरूरतें पूरी करने के लिए महमूद मलाड और विरार के बीच चलने वाली लोकल ट्रेनों में टॉफियां बेचा करते थे. बचपन के दिनों से ही महमूद का रुझान अभिनय में था. पिता की सिफारिश की वजह से 1943 में उन्हें बॉम्बे टॉकीज की फिल्म ‘किस्मत’ में किस्मत आजमाने का मौका मिला. फिल्म में महमूद ने अभिनेता अशोक कुमार के बचपन की भूमिका निभाई थी. महमूद का हैदराबादी अंदाज दर्शकों को बेहद पसंद आया और उनके बोलने की कला और अभिनय के लाजवाब अंदाज ने करोड़ों लोगों को अपना दीवाना बना लिया. महमूद ने जिस वक्त फिल्मों को गंभीरता से लेना शुरू किया था, उस समय भारतीय फिल्म जगत में किशोर कुमार की कॉमेडी का जादू छाया हुआ था.

यह भी पढ़ें: हैप्पी बर्थडे लता दीदी, देखें उनके 10 बेहतरीन गाने

thequint%2F2015-07%2F37cabbae-71fe-4c48-8f60-81aea9dd7106%2FBombay (1)लेखक मनमोहन मेलविले ने अपने एक लेख में महमूद और किशोर के दिलचस्प किस्से को बयान किया है. इसमें कहा गया है कि महमूद ने अपने करियर के सुनहरे दौर से गुज़र रहे किशोर से अपनी किसी फिल्म में भूमिका देने की गुजारिश की थी, लेकिन महमूद की प्रतिभा से पूरी तरह वाकिफ़ किशोर ने कहा था कि वह ऐसे किसी व्यक्ति को मौका कैसे दे सकते हैं, जो भविष्य में उन्हीं के लिए चुनौती बन जाए. इस पर महमूद ने बड़ी विनम्रता के साथ कहा, ”एक दिन मैं भी बड़ा फिल्मकार बनूंगा और आपको अपनी फिल्म में भूमिका दूंगा.” महमूद अपनी बात के पक्के साबित हुए और आगे चलकर जब उन्होंने अपनी होम प्रोडक्शन की फिल्म पड़ोसन शुरू की तो उसमें किशोर को काम दिया. इन दोनों महान कलाकारों की जुगलबंदी से यह फिल्म बॉलीवुड की सबसे बड़ी कॉमेडी फिल्म साबित हुई.

यह भी पढ़ें: हैप्पी बर्थडे देव साहब, जानें कुछ बातें, देखें उनके 10 गानें 
5fc padosan_1443096108 (1)
महमूद के तीन दशक लंबे करियर में 300 से ज़्यादा हिन्दी फिल्में उनके नाम हैं. महमूद अभिनेता और नृत्य कलाकार मुमताज़ अली के आठ बच्चों में से एक थे. अभिनेता के तौर पर काम से पहले वह छोटे-मोटे काम करते थे, गाडियां चलाने का काम भी करते थे. उस ज़माने में मीना कुमारी को टेबल टेनिस सिखाने के लिए उन्हें नौकरी पर रखा गया था. बाद में उन्होंने मीना कुमारी की बहन मधु से शादी की. शादी करने और पिता बनने के बाद ज़्यादा पैसे कमाने के लिए उन्होंने अभिनय करने की सोची. शुरुआत में उन्होंने ‘दो बीघा जमीन’ और ‘प्यासा’ जैसी फिल्मों में छोटे-मोटे किरदार निभाए.

यह भी पढ़ें: नवरात्र में मां दुर्गा की आराधना करें बॉलीवुड के 11 गरबा के गानों के साथ Mehmood (1)महमूद को फिल्मों में पहला बड़ा मौका ‘परवरिश’ (1958) से मिला था. इसमें उन्होंने फिल्म के नायक राजकपूर के भाई का किरदार निभाया था और उसके बाद उन्होंने फिल्म ‘गुमनाम’ में भी काम किया. उन्होंने ‘प्यार किए जा’, ‘प्यार ही प्यार’, ‘ससुराल’, ‘लव इन टोक्यो’ और ‘जिद्दी’ जैसी हिट फिल्में दी. इसके बाद उन्होंने कुछ फिल्मों में मुख्य भूमिका भी निभाई, लेकिन दर्शकों ने उन्हें एक कॉमेडियन के तौर पर ज्यादा पसंद किया. महमूद ने बाद में अपना खुद का प्रोडक्शन हाउस खोला. उनकी पहली होम प्रोडक्शन फिल्म ‘छोटे नवाब’ थी. उन्होंने बतौर निर्देशक सस्पेंस-कॉमेडी फिल्म ‘भूत बंग्ला’ बनाई. अभिनेता, निर्देशक, कथाकार और निर्माता के रूप में काम करने वाले महमूद ने शाहरुख खान को लेकर वर्ष 1996 में अपनी आखिरी फिल्म ‘दुश्मन दुनिया का’ बनाई, लेकिन वह बॉक्स ऑफिस पर नाकाम रही.

यह भी पढ़ें: 67 की हुईं शबाना आज़मी, पहली ही फिल्म में मिला था नेशनल अवॉर्ड, जानें दिलचस्प बातें maxresdefaultअपनी छवि में आई एकरूपता से बचने के लिए महमूद ने अपने आप को विभिन्न प्रकार की भूमिकाओं में पेश किया. इसी क्रम में वर्ष 1968 में फिल्म ‘पड़ोसन’ का नाम सबसे पहले आता है. ‘पड़ोसन’ में महमूद ने अलग भूमिका निभाई और दर्शकों की वाहवाही लूटने में सफल रहे. ‘पड़ोसन’ 60 के दशक की ज़बरदस्त हिट फिल्म साबित हुई थी. 1970 में फिल्म ‘हमजोली’ में महमूद के अभिनय के अलग रूप दर्शकों को देखने को मिले. इस फिल्म में महमूद ने ट्रिपल रोल निभाया और दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींचा.

महमूद को तीन बार फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया. पांच दशकों में उन्होंने क़रीब 300 फिल्मों में काम किया. 23 जुलाई, 2004 को महमूद इस दुनिया से हमेशा के लिए चले गए और हमारे बीच केवल उनकी ख़ूबसूरत यादें ही बाक़ी हैं.

यह भी पढ़ें: बर्थ डे स्पेशल: ऋषि कपूर को बतौर चाइल्ड ऐक्टर मिला था पहला नेशनल अवॉर्ड, देखें टॉप 10 गाने