Tag Archives: Kiss

पार्टनर को रोमांचित करेंगे ये 10 हॉट किसिंग टिप्स (10 Hot Kissing Tips For Your Partner)

सेक्स लाइफ को रोमांच बनाए रखने के लिए किस यानी चुंबन काफ़ी मायने रखता है. पर सेक्स एक्सपर्ट्स की मानें तो बहुत-से पार्टनर्स अच्छे किसर नहीं होते, जिससे उनके पार्टनर्स को वह रोमांच महसूस नहीं होता, जो एक अच्छे किसर से होता है. आपका पार्टनर इस रोमांच से वंचित न रह जाए, इसलिए हम लाएं हैं, कुछ हॉट किसिंग टिप्स.

Hot Kissing

1. सबसे पहली बात यह कि एक किसर हमेशा किस करने से पहले अपने पार्टनर से पूछता है. ‘क्या मैं आपको किस कर सकता हूं’ जैसा वाक्य न स़िर्फ आपके पार्टनर का मूड बनाता है, बल्कि उसकी सहमति आपके किस के अनुभव को बेहतरीन बना सकती है. अपनी पूरी इंटेन्स फीलिंग्स के साथ किया गया किस पार्टनर के रोम-रोम को महका जाता है.

2. एक अच्छा किसर बनने के लिए आपको अपने लिप्स हमेशा हाइड्रेटेड रखने होंगे. सॉफ्ट लिप्स से किस करने का जो रोमांच है, वो ड्राई लिप्स से बिल्कुल नहीं. ड्राई लिप्स आपके पार्टनर का अच्छा खासा मूड बिगाड़ सकते हैं, इसलिए किस करने से पहले ध्यान रखें कि आपके लिप्स सॉफ्ट हों.

3. एक अच्छा किसर अपने पार्टनर को स़िर्फ किस नहीं करता, बल्कि कभी उसकी नाज़ुक कमर को पकड़ता है, तो कभी उसके प्यारे से चेहरे को चूमता है, तो कभी उसकी गर्दन पर उंगलियों से खेलता है. आप भी ये सब ट्राई करें.

4. सॉफ्ट लिप्स की ही तरह किस करने के लिए महकती सांसें भी बहुत मायने रखती हैं. अगर आपके मुंह से बदबू आती है, तो उसका उपाय कीजिए. किस करने से पहले इलायची या कोई माउथ फ्रेशनर खाएं. याद रखें आपकी महकती सांसें पार्टनर को बहका सकती हैं. तो क्यों न इस बेहतरीन ट्रिक को आज ही आज़माएं.

5. अच्छे किसर पार्टनर के सिर को हल्का-सा टेढ़ाकर करके किसर करते हैं. ऐसा करने से दोनों के लिए ही किसिंग काफ़ी इंट्रेस्टिंग हो जाती है. सीधे लिप्स से किस रकने की बजाय पहले गालों को किस करें, फिर माथे को फिर लिप्स पर जाएं. ऐसा करने से पार्टनर रिस्पेक्ट फील करता है.

यह भी पढ़ें: सेफ सेक्स के 20 + असरदार ट्रिक्स

Hot Kissing

यह भी पढ़ें: सेक्स से जुड़े टॉप 12 मिथ्सः जानें हक़ीकत क्या है

यह भी पढ़ें: 7 टाइप के किस: जानें कहां किसिंग का क्या होता है मतलब?

6. हमेशा याद रखें कि किस एक तरफ़ा नहीं होता, इसमें दोनों का ही इंवॉल्वमेंट बेहद ज़रूरी है. स़िर्फ एक किस करे और दूसरा स़िर्फ बुत बना रहे, तो उस किस में पैशन नहीं आएगा. अगर आपका पार्टनर भी उसी इंटेन्स फीलिंग्स के साथ किस करेगा, तभी दोनों उसे एंजॉय कर पाएंगे.

7. किसिंग बातचीत जैसी होनी चीहिए. जब एक पार्टनर स्लो हो जाए, तो दूसरे को फास्ट होना चाहिए. फिर यह एक ऐक्ट नहीं, बल्कि सेक्सुअल कंवर्ज़ेशन लगेगा.

8. अगर आप किसर करने पर आमादा है, पर पार्टनर अपना मुंह इधर-उधर कर रहा है, तो समझ जाइए कि वो अभी तैयार नहीं. इसके अलावा अगर वो अपने लिप्स को टाइट बंद करके रखे हुए है, तो भी कोशिश न करें, क्योंकि एक अच्छा किसर बिना पार्टनर की सहमति के कभी ज़बरदस्ती नहीं करता.

9. हर किसी को अलग तरह की किसिंग पसंद आती है. किसी को फोर्सफुल किस अच्छा लगता है, तो किसी को सॉफ्ट और स्मूद. आपके पार्टनर की पसंद के अनुसार आप चुनें, अपनी टाइप की किस.

10. आमतौर पर किस की शुरुआत हमेशा स्लो और स्मूद होनी चाहिए. अपने लिप्स को इंटरलॉक करें और एक-दूसरे को अपने होने के एहसास से रूबरू कराएं. बहुत ज़्यादा टंग का इस्तेमाल कुछ लोगों को अच्छा नहीं लगता, इसलिए लिप्स को अपना काम करने दीजिए. एक-दूसरे के प्यार में खो जाने के लिए किसिंग से ख़ूबसूरत भला क्या हो सकता है. अपनी मैरिड लाइफ को और ज़्यादा रोमांचक बनाए रखने के लिए किसिंग को एक लैंग्वेज की तरह इस्तेमाल करें.

– अनीता सिंह

यह भी पढ़ें: नवविवाहितों के लिए 20 सेक्स रूल्स

किस थेरेपीः Kiss के 11 Amazing हेल्थ बेनीफिट्स (Kiss therapy: 11 Amazing Health Benefits of Kiss)

मुहब्बत के इज़हार का ख़ूबसूरत तरीका है किस यानि चुंबन. किस दो प्यार करनेवालों को और क़रीब लाने में मदद करता है. लेकिन क्या आप जानते हैं किस के कई हेल्थ बेनीफिट्स भी हैं और कई शोधों से ये बात साबित भी हो चुकी है.

Uyumadan önce sevgiliye söylenecek en güzel sözler, en güzel aşk mesajları (2015) 3

 

1. स्ट्रेस दूर करता है

किसिंग के दौरान स्त्री-पुरुष शरीर में कोर्टिज़ोल हार्मोन का स्तर कम होता है और दिमाग़ में सेरोटोनिन हार्मोन में बढ़ोतरी होने लगती है. चूंकि स्ट्रेस के लिए ये दोनों हार्र्मोेन्स ज़िम्मेदार होते हैं, इसलिए कोर्टिज़ोल हार्मोन के कम होने और दिमाग़ में सेरोटोनिन हार्मोन बढ़ने से शरीर का तनाव दूर हो जाता है और सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है. इतना ही नहीं, चुंबन तनाव के लिए ज़िम्मेदार ऑक्सीटोसिन हार्मोन के स्तर को कम करके चिंता को भी दूर कर देता है.

2. दिल को रखे तंदुरुस्त

चुंबन के दौरान शरीर में एड्रेनालिन नाम का हार्मोन बनता है जो दिल के लिए बहुत ही फ़ायदेमंद होता है. चुंबन रक्त में एपिनेफ्रीन भी छोड़ता है, जिसके कारण दिल में रक्त का संचार बहुत तेज़ी से होता है. चुंबन पूरे शरीर में रक्त संचार के लिए दिल की मदद करता है. इससे ब्लडप्रेशर कम करने और शरीर में रक्त संचार ठीक रखने में मदद मिलती है. तो अब न सिर्फ़ दिल को ख़ुश करने, बल्कि इसे सेहतमंद रखने के लिए किस करें.

यह भी पढ़ें: सेक्स रिसर्च: सेक्स से जुड़ी ये 20 Amazing बातें, जो हैरान कर देंगी आपको

3. इम्यूनिटी को सुधारे

चुंबन संक्रमण से लड़ने वाले एंटीबॉडीज़ बढ़ाता है, जिससे रक्त में हिस्टामाइन भी बढ़ता है. यह छींक व आंसू या सूजन के रूप में दिखता है. इन क्रियाओं का मतलब शरीर वायरस या बैक्टीरिया से लड़ रहा है. इससे इम्यून सिस्टम बहुत मज़बूत होता है. यह महिलाओं को मसाइटोमेगालोफ वायरस से बचाने में मदद करता है जो गर्भावस्था में शिशु को जन्मजात अंधा बना सकता है. यह वायरस केवल गर्भवती महिलाओं को नुकसान पहुंचाता है.

4. रखे हमेशा फिट

जब स्त्री-पुरुष के होंठ एक-दूसरे को स्पर्श करते हैं, तब दिल की धड़कन बहुत तेज़ हो जाती है. उस समय दिल एड्रेनालाइन हार्मोन या एपिनेफ्रीन के साथ न्यूरोट्रांसमीटर रक्त में रिलीज़ करता है. एड्रेनालाइन के स्तर में बढ़ोतरी से मेटाबॉलिज़्म दर भी बढ़ती है, जो ज़्यादा कैलोरी बर्न करने में मदद करता है. क़रीब एक मिनट के किस के दौरान दो से तीन कैलोरी बर्न होती है. हर पैशनेट किस से 8 से 16 कैलोरीज़ बर्न की जा सकती है.

5. चेहरे पर ग्लो लाता है

एक किसिंग सेशन से टिश्यूज़ टाइट व टोन्ड होते हैं और पूरे चेहरे में रक्त संचार तेज़ी से होता है. इसके फलस्वरूप त्वचा ख़ूबसूरत हो जाती है. किस सेशन के समय ओर्बिचुलारिस ओरिस नाम का हार्मोन सबसे ज़्यादा सक्रिय रहता है जो चेहरे से जुड़े अंगों को टोन करते हैं, जिससे आप लंबे समय तक यंग नज़र आते हैं.

6. दांतों को बनाए चमकीला

चुंबन दांतों की सफ़ाई करने का सबसे सहज, सरल और नैसर्गिक तरीक़ा है. किस सेशन के दौरान मुंह के अंदर जो लार बनती है, वह अपने एसिडिक गुणों के कारण दांतों पर जमे प्लाक को तोड़ने और दांतों में कैविटी बनने से रोकता है, क्योंकि लार आपके दांतों में फंसे खाने के टुकड़ों को साफ़ करके दांतों को सड़ने से रोकता है. जो लोग मोतियों जैसे सफ़ेद दांतों की ख़्वाहिश रखते हैं, उनके लिए किस फ़ायदेमंद है. किस दांतों मेें कैविटी भरते हैं और बैक्टीरिया ख़त्म करते हैं.

7. दर्द को करे कम

किस से शरीर में एड्रेनालाइन हार्मोन बनता है जो दर्द की कम करने में मददगार होता है और इसके साथ-साथ शरीर एंडोर्फिन नामक नेचुरल केमिकल को शरीर में छोड़ता है जो दर्द कम या दूर करने के लिए मॉर्फिन जैसी नशीली दवाई से ज़्यादा पावरफुल होती है.

8. लंबी उम्र के लिए करें किस

हर महिला अपने पति को सुबह के समय गुडबाय किस देकर उनकी ज़िंदगी के पांच साल बढ़ा सकती है. जर्मन चिकित्सकों और मनोवैज्ञानिकों के समूह ने दावा किया है कि शादीशुदा पुरुष अगर सुबह के समय अलविदा किस अपने पार्टनर को दें, तो उनका जीवन उन शादीशुदा पुरुषों से ज़्यादा लंबा होता है जो सुबह के समय अपने पार्टनर को अलविदा किस नहीं देते.

9. मनोदशा में सुधार

चुंबन डोपामाइन और सेरोटोनिन हार्मोन के स्तर को बढ़ाता है, जिससे मूड अच्छा होता है और भावनात्मक उथल-पुथल शांत होती है. अगर आपका मन ठीक नहीं है, तो अपने पार्टनर के साथ जमकर एक किस सेशन कीजिए. आप फ्रेश फील करने लगेंगे.

10. संबंधों में प्रगाढ़ता

चुंबन दो लोगों के आपसी रिश्ते को बहुत ज़्यादा मज़बूत और मधुर बनाता है. इसीलिए जब भी हम चुंबन लेते हैं, तब पुरुष और महिला दोनों के शरीर में ऑक्सीटोसिन हार्मोन बहुत तेज़ी से बनता है. इसीलिए इस हार्मोन को लव हार्मोन भी कहते हैं, क्योंकि यह अपोज़िट सेक्स के बीच रिश्ते को और गहरा करता है. संबंध अच्छे होने पर आदमी ख़ुश रहता है और स्वस्थ रहने के लिए ख़ुश होना पड़ता है.

11. दांपत्य जीवन करे सफल

पति-पत्नी के बीच मन-मुटाव के बाद सुलह के लिए किस सबसे बढ़िया ज़रिया है. जो दंपति हमेशा एक-दूसरे को किस करते रहते हैं, उनकी शादीशुदा ज़िंदगी बहुत अच्छी चलती है. जब चुंबन लेते हैं, तब दोनों के शरीर एक-दूसरे के साथ संवाद करने लगते हैं. विवाह के लिए और विवाह के बाद हेल्दी बच्चों के लिए भी किसिंग सेशन बहुत ज़रूरी है.

यह भी पढ़ें:  6 AMAZING लव रूल्स हैप्पी लव लाइफ के लिए

‘किस’ पर नहीं चली सेंसर की कैंची, लगभग 40 किसिंग सीन के साथ रिलीज़ होगी ‘बेफिक्रे’

Befikre Filmबेफिक्रे फिल्म (Befikre Film) के किसिंग सीन्स पर सेंसर बोर्ड की कैंची कितनी चलती है, इसका हर कोई बेसब्री से इंतज़ार कर रहा था. बेफिक्रे में लगभग 40 किसिंग सीन्स हैं, ऐसे में कयास लगाए जा रहे थे कि सेंसर बोर्ड की कैंची ज़रूर इन पर चलेगी, पर सेंसर बोर्ड ने इस बार सबको चौंका दिया है. यू/ए सर्टिफिकेट के साथ सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन ने बेफिक्रे को रिलीज़ करने की मंजूरी दे दी है. सेंसर बोर्ड के इस फैसले से यक़ीनन हर किसी को आश्चर्य हुआ होगा, क्योंकि हाल ही में रिलीज़ हुई फिल्म ऐ दिल है मुश्किल के किसिंग सीन्स को सेंसर बोर्ड के आदेश के बाद फिल्म से निकालना पड़ गया था.