Tag Archives: kitchen remedies for pain

सिरदर्द-बदनदर्द के लिए आज़माएं ये होम टिप्स (Home Remedies for Headache and Body Pain)

home remedies for headache and body pain
कुछ दर्द ऐसे होते हैं, जो जब-तब परेशानी का सबब बन जाते हैं, जिसमें सिरदर्द, बदन दर्द, जोड़ों का दर्द इत्यादि हैं. तो आइए, इनसे निजात पाने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे आज़माएं.

सिरदर्द

home remedies for headache and body pain

* गुड़ को पानी में छानकर पीने से सिरदर्द में लाभ होता है.

* तुलसी के पत्तों को पीसकर लेप करने से सिरदर्द में आराम मिलता है.

* माइग्रेन (आधासीसी) होने पर गाय का ताज़ा घी सुबह-शाम नाक से ऊपर खींचें.

* ढाई सौ ग्राम दूध में 4-5 छुआरे उबालकर खा लें व दूध में थोड़ा-सा शुद्ध घी मिलाकर पी जाएं. माइग्रेन में काफ़ी राहत मिलेगी.

* गर्मी से हुए सिरदर्द में दही खाएं व उससे सिर पर मालिश करें, पर कफ़ से होनेवाले सिरदर्द में सिर पर दही न लगाएं.

* नथुने में एक बूंद शहद डालें. ध्यान रहे, यदि दाईं तरफ़ का सिरदर्द कर रहा है, तो बाएं नथुने में शहद डालें और बाईं तरफ़ दर्द हो, तो दाएं नथुने में डालें.

* खीरा काटकर सूंघने व सिर पर गड़ने से सिरदर्द में तुरंत लाभ मिलता है.

* सुबह खाली पेट सेब काटकर उस पर नमक डालकर खाएं. सिरदर्द दूर करने का यह बेहतरीन नुस्ख़ा है.

* लौकी का गूदा सिर पर लेप करने से सिरदर्द में आराम मिलता है.

* दालचीनी को पीसकर उसमें पानी मिलाकर पतला पेस्ट बना लें और माथे पर लगाएं. सूखने पर धो लें.

* तवे पर थोड़ा-सा लौंग गरम करके उसे रुमाल में बांधकर थोड़ी-थोड़ी देर पर सूंघते रहें.

* कच्चे अमरूद को पीसकर सुबह उठकर सिर पर लेप करने से सिरदर्द में लाभ मिलता है.

* यदि सिर पर ठंडे पानी की धार गिराएं, तो इससे भी सिरदर्द में आराम मिलता है.

 

बदनदर्द

 

home remedies for headache and body pain

* अलसी के तेल की मालिश करने से कमरदर्द में आराम मिलता है.

* सोंठ व गोखरू समभाग में लेकर सुबह-शाम क्वाथ बनाकर पीएं.

* बच्चे के जन्म के बाद एक टुकड़ा गुड़ आधा टीस्पून अजवायन के साथ लेने से कमरदर्द ठीक हो जाता है.

* 100 मि.ली. जायफल का चूर्ण तेल में मिलाकर धीमी आंच पर गर्म करें. फिर ठंडा करके हाथ-पैर पर मसाज करने से दर्द दूर हो जाता है.

* इलायची, भुनी हुई हींग, सेंधा नमक व जवाक्षार का काढ़ा बनाकर उसमें एरंडी का तेल डालकर पीने से कमर, पीठ, सिर, कान, आंख आदि का दर्द दूर हो जाता है.

और भी पढ़ें: क्या है वज़न और कैलोरी का संबंध?

और भी पढ़ें: वेट लॉस टिप ऑफ द डे 

आज़माएं नेचुरल पेनकिलर्स

सिरदर्द, पेटदर्द, जोड़ों का दर्द या फिर किसी भी तरह के दर्द से छुटकारा पाने के लिए पेनकिलर खाने की बजाय अपने घर में नज़र दौड़ाएं, आपको कई नेचुरल पेनकिलर्स नज़र आ जाएंगे. तो अब दर्द न सहें और नेचुरल पेनकिलर्स से अपने दर्द को करें छूमंतर.

2

 

सिरदर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: लौंग का तेल, अदरक, ग्रीन टी, दालचीनी पाउडर, तरबूज़ का रस, शहद, नींबू, सेब, नीलगिरी का तेल.
– सिरदर्द मेें लौंग के तेल में थोड़ा-सा नमक मिलाकर माथे पर लगाएं, तुरंत आराम मिलेगा.
– थोड़ा-सा अदरक कूटकर पानी में उबालकर-छानकर पीएं, दर्द से राहत मिलेगी.
– गर्म पानी में ग्रीन टी के साथ आधे नींबू का रस मिलाकर पीएं.
– 2 टेबलस्पून दालचीनी पाउडर में पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं और माथे व कनपटी पर लगाएं.
– अगर गर्मी के कारण सिरदर्द हो रहा हो, तो एक ग्लास तरबूज़ का रस आपको इससे राहत दिला सकता है.
– जिन्हें कई दिनों से सिरदर्द हो, वो रोज़ाना खाली पेट 1 ग्लास पानी में 1 टीस्पून शहद मिलाकर पीएं.
– कभी-कभी खाली पेट गैस होने के कारण भी सिरदर्द होने लगता है, ऐसे में तुरंत नींबू पानी पीएं.
– अगर सुबह उठते ही आपको सिरदर्द होने लगता है, तो खाली पेट एक सेब पर नमक लगाकर खाएं और ऊपर से गर्म पानी पीएं.
– गर्म पानी में कुछ बूंदें नीलगिरी तेल की डालकर भाप लें.
कमरदर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: लहसुन, अदरक, कपूर, नारियल तेल.
– जब कमरदर्द सताए, तब नारियल या सरसों के तेल में 8-10 लहसुन की कलियां गरम करके मालिश करें.
– नारियल के तेल में अदरक का रस मिलाकर मालिश करें या देशी घी में सोंठ पाउडर मिलाकर इसका सेवन करें.
– नारियल के तेल में कपूर मिलाकर गर्म करें और एक कांच की बॉटल में भरकर रख लेेंं. रात को सोने से पहले मसाज करें.
– गर्म या ठंडी पट्टी की सेंक भी कर सकते हैं.

पेटदर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: अदरक, खानेवाला सोडा, हींग, नींबू, गर्म पानी, अजवायन, दही.
– पेटदर्द में 2-2 टीस्पून अदरक और तुलसी का रस गुनगुने पानी में मिलाकर पीएं. इसके अलावा पिसी हुई सोंठ में थोड़ा-थोड़ा सेंधा नमक और हींग मिलाकर पीने से भी पेटदर्द से तुरंत राहत मिलती है.
– अदरक के रस को पेट पर लगाने से दर्द में आराम मिलता है.
– गुनगुने पानी में नींबू का रस, थोड़ी-सी अजवायन और काला नमक मिलाकर पीएं.
– अदरक के रस में कैस्टर ऑयल मिलाकर पीएं.
– 1 ग्लास गर्म पानी में 1 टीस्पून खानेवाला सोडा मिलाकर पीएं.
– पेटदर्द में हींग बहुत फ़ायदेमंद होता है. एक चुटकी हींग को गर्म करके दूध के साथ लें.
– पेट और सीने में जलन हो रही हो, तो 1 ग्लास गन्ने के रस में 2-2 टीस्पून अदरक का रस और पुदीने का रस मिलाकर लें.
– अगर पेट ख़राब है, तो दही बहुत फ़ायदेमंद है. यह पेटदर्द को ठीक करके आपकी रोगप्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाता है.
– पेट में अचानक दर्द होने पर एक टीस्पून अजवायन फांक लें.

कान का दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: लौंग का तेल, प्याज़, तुल सी, लहसुन, नमक, एप्पल साइडर विनेगर, मां का दूध, अदरक, सरसों का तेल.
– कान में दर्द हो, तो लौंग तेल में थोड़ा-सा तिल का तेल मिलाकर कान में डालें, तुरंत आराम मिलेगा.
– कान में दर्द हो, खुजली या त्वचा लाल हो गई हो, तो प्याज़ का रस कान में डालें.
– तुलसी केकुछ पत्तों को पीसकर उसका रस निकालें और 4-5 बूंदें कान में डालें.
– लहसुन की कुछ कलियां, सरसों, नारियल, जैतून या तिल के तेल में गर्म करें और उस तेल की 2 बूंदें कान में डालें. लहसुन की जगह आप अदरक भी ले सकते हैं.
– 1 कप नमक गर्म करके एक कपड़े में बांधकर जिस कान में दर्द हो रहा है, उसे 5-10 मिनट तक सेंकें, तुरंत आराम लगेगा.
– 1 टीस्पून एप्पल साइडर विनेगर में 1 टीस्पून पानी मिलाकर रुई के फाहे में डुबोएं और 5 मिनट के लिए कान में डालें. 5 मिनट बाद रुई
निकालकर कान साफ़ कर लें.
– बड़े या बच्चों को अगर कान में इंफेक्शन के कारण दर्द हो रहा हो, तो मां के दूध की 2-3 बूंदें थोड़ी-थोड़ी देर में कान में डालें.

गले में दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: कच्ची हल्दी, लौंग, नमक, खानेवाला सोडा, शहद.
– गले में दर्द हो, तो कच्ची हल्दी अदरक के साथ समान मात्रा में पीसकर गुड़ मिलाकर खाएं, तुरंत राहत मिलेगी.
– नमक-पानी का गरारा भी नेचुरल पेनकिलर है.
– शहद न स़िर्फ गले की सूजन को कम करता है, बल्कि दर्द का कारण बने टिश्यूज़ की जलन को भी कम करता है. एक कप गर्म पानी में 2-3 टीस्पून शहद मिलाकर पीएं. आप चाहें, तो नींबू का रस भी मिला सकते हैं.
– 1 कप गर्म पानी में 1-1 टेबलस्पून शहद और एप्पल साइडर विनेगर मिलाकर पीएं.
– 1 ग्लास पानी में डेढ़ टीस्पून खानेवाला सोडा मिलाकर गरारे करें.
– गले में खराश के कारण होनेवाले दर्द से छुटकारा पाने के लिए लौंग चबाकर खाएं.

जोड़ों में दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: लहसुन, अदरक, शहद, दालचीनी पाउडर, हल्दी, मेथीदाना.
– 1 टीस्पून लहसुन के पेस्ट में शहद मिलाकर रोज़ाना दो बार खाने के साथ लें. इसके अलावा लहसुन के पेस्ट को किसी भी तेल में मिलाकर जोड़ों पर लगाने से दर्द
से तुरंत आराम मिलता है.
– जोड़ों में दर्द हो या सूजन या फिर शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द हो रहा हो, तो अदरक में 3-4 लहसुन की कलियां और थोड़ा-सा नमक मिलाकर कूट लें. प्रभावित हिस्से पर पेस्ट रखकर प्लास्टिक शीट से ढकें और पट्टी बांध लें. 5-6 घंटे तक
रहने दें.
– आर्थराइटिस के मरीज़ अगर रोज़ाना सुबह खाली पेट शहद में दालचीनी पाउडर मिलाकर चाटें, तो जल्द ही दर्द से छुटकारा मिलता है.
– गर्म दूध में 1-1 टीस्पून हल्दी और शहद मिलाकर पीने से जोड़ों के दर्द में राहत मिलती है.
– मेथीदाना को भूनकर पीस लें. 2 टीस्पून पाउडर में पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं और जोड़ों पर लगाएं. इसके अलावा मेथीदाना को रातभर भिगोकर रखें और सुबह पानी निथारकर दाने चबाकर खा लें.
– पर्याप्त पानी पीएं, यह आपके शरीर को हाइड्रेटेड रखता है और जोड़ों में किसी तरह का वेस्ट जमा नहीं होने देता.
– कच्चे प्याज़ में मौजूद सल्फर दर्द पैदा करनेवाले एन्ज़ाइम्स को रोक देता है. अपने खाने में कच्चे प्याज़ को ज़रूर शामिल करें.
दांत का दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स:हसुन, लौंग का तेल, अदरक, एप्पल साइडर विनेगर, आलू, अमरूद के पत्ते.
– लहसुन के पेस्ट में नमक मिलाकर दांत पर लगाएं या फिर लहसुन की 1-2 कलियां खाएं, आराम मिलेगा.
– दांत में दर्द हो या मसूड़ों की समस्या या फिर मुंह में छाले हो गए हों, बस रूई में थोड़ा-सा लौंग का तेल लगाकर उस जगह पर लगाएं, फास्ट रिलीफ मिलेगा.
– अदरक के रस में सेंधा नमक मिलाकर प्रभावित दांत पर लगाएं, दर्द चला जाएगा या फिर दांतों में अचानक टीस उठ रही हो, तो अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े दांत के नीचे दबाकर रखें.
– रुई के फाहे में एप्पल साइडर विनेगर डुबोकर दांत में दबाकर रखें.
– ताज़े कटे कच्चे आलू के टुकड़े पर नमक लगाकर दांत पर रखें.
– अमरूद के पत्तों को पानी में उबालकर उस पानी से कुल्ले करें.
पीरियड्स का दर्द
नेचुरल पेनकिलर्स: सोंठ, अदरक, शहद, दालचीनी पाउडर, तुलसी, लैवेंडर ऑयल, गर्म पानी.
– पीरियड्स के दौरान होेनेवाले दर्द से निजात पाने के लिए पुराने गुड़ में सोंठ पाउडर मिलाकर काढ़ा बनाकर पीएं.
– 1 ग्लास पानी में अदरक कूटकर डालें. इसे छानकर इसमें शहद और नींबू का रस मिलाएं और पीरियड्स के दौरान दिन में तीन बार यह चाय पीएं.
– पेट में हो रहे मरोड़ को दूर करने के लिए एक कप उबलते हुए पानी में 1 टेबलस्पून तुलसी के पत्ते डालें और ठंडा करके पी लें.
– पीरियड्स के पहले दिन 1 कप गर्म पानी में डेढ़ टीस्पून दालचीनी पाउडर और 1 टेबलस्पून शहद मिलाकर पीएं. दिन में तीन बार ऐसा करें, दर्द में राहत मिलेगी.
– गर्म पानी शरीर में रक्तसंचार को बढ़ा देता है, जिससे दर्द कम हो जाता है, इसलिए इस दौरान गर्म पानी पीएं.

– अनीता सिंह