latest Bollywood news

याहू की बेस्ट पर्सनैलिटीज़ ऑफ 2020 की लिस्ट जारी हो चुकी है. याहू की इस टॉपर्स की लिस्ट में शुमार होनेवाले में सोनू सूद का भी नाम है. एक्टर सोनू सूद ने जिस तरह पैनडेमिक में लोगों की मदद की, वो सच में एक रियल लाइफ हीरो के रूप में उभरकर सामने आए हैं…

Sonu Sood

लाखों माइग्रेंट वर्कर्स को घर पहुंचाने से लेकर, ज़रूरतमंदों की मदद तक, छात्रों को स्कॉलरशिप दिलाने से लेकर बेरोजगारों को रोजगार दिलाने तक सोनू ने बहुत कुछ किया है और लोगों के दिलों में असली हीरो के रूप में अपनी एक अलग पहचान बना ली है और अब सोनू बुजुर्गों के लिए एक पहल की शुरुआत करने जा रहे हैं.

अब ‘रुक जाना नहीं’ मिशन के तहत कराएंगे बुजुर्गों के घुटनों की सर्जरी

Sonu Sood

और अब नए साल में सोनू सूद नए मिशन की शुरुआत करने जा रहे हैं. 2021 में सोनू सूद ने बुजुर्गों के घुटनों की मुफ्त सर्जरी यानी फ्री नी रिप्लेसमेंट सर्जरी कराने का फैसला किया है.अपने इस मिशन की घोषणा उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए किया है. उन्होंने ट्विटर पर एक पोस्टर शेयर किया है, जिसमें वह नजर आ रहे हैं और साइड में व्हीलचेयर पर बैठे लोग और छड़ी पकड़े हुए लोगों की प्रतीकात्मक तस्वीरें दिख रही हैं. पोस्टर पर तिरंगे में ‘रुक जाना नहीं’ लिखा है. साथ ही पोस्टर में ये भी लिखा है कि ये वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक मिशन है जो जल्द ही लॉन्च होगा. ये पोस्टर शेयर करते हुए उन्होंने लिखा- ‘हमारा अस्तित्व हमारे बड़े-बुजुर्ग हैं.’ सोनू सूद का ये मिशन वरिष्ठ नागरिकों को घुटने की रिप्लेसमेंट सर्जरी कराने में मदद करेगा.

‘अब हमारी बारी है यह सुनिश्चित करने की कि हमारे बुजुर्ग चल सकें’- सोनू सूद

Sonu Sood

एक इंटरव्यू में अपने इस मिशन पर बात करते हुए सोनू ने बताया कि हमारे यहां अक्सर देखा गया है कि बुजुर्गों को तब तक चिकित्सा की मुहैया नहीं होती जब तक कि यह जीवन के लिए खतरनाक बीमारी न हो. लोग मुझसे कहते हैं, ‘जब आप बच्चों के दिल के ऑपरेशन करा सकते हैं तो बुजुर्गो की नी ट्रांसप्लांट सर्जरी क्यों नहीं? मेरा मानना है कि जब आप बच्चे थे, तो आपके माता-पिता ने आपको चलना सिखाया था. अब आपकी बारी है यह सुनिश्चित करने की कि वे चल सकें. ”

‘मैं चाहता हूँ, बुजुर्ग खुद को उपेक्षित न महसूस करें

Sonu Sood

सोनू ने आगे कहा, “ऐसा नहीं है कि सभी बच्चे अपने माता-पिता की जरूरतों के प्रति लापरवाह हैं. वे माता पिता की घुटने की सर्जरी के लिए आगे आते हैं, लेकिन अक्सर माता-पिता बच्चों के पैसे खर्च होंगे, ये सोचकर उन्हें रोक देते हैं और फिर बच्चे भी उन पैसों का इस्तेमाल दूसरी जरूरतों के लिए करते हैं. इस तरह बुजुर्ग उपेक्षित ही रह जाते हैं. मैं ऐसे बुजुर्गों के घुटनों की सर्जरी के लिए कुछ करना चाहता हूं, ताकि उन्हें यह महसूस न हो कि वे हमारे समाज का एक बेकार हिस्सा हैं. 2021 में मैं नी ट्रांसप्लांट सर्जरी को अपनी प्राथमिकता बनाना चाहता हूं.”

एक बार फिर फैन्स का दिल जीत लिया सोनू सूद ने

Sonu Sood

कहना न होगा कि सोनू के इस मिशन की लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं और कॉमेंट्स लिखकर उनकी हौसला अफजाई कर रहे हैं. लोग लिख रहे हैं कि ‘एक ही दिल है, कितनी बार जीतोगे सर’ जबकि एक ने लिखा कि ‘इससे अच्छा क्या हो सकता है…एक नई सुबह..’ तो एक अन्य फैन ने लिखा- ‘महान लोगों के विचार’.

सोनू के अन्य मिशन

Sonu Sood

सोनू सूद ने कुछ दिनों पहले विदेशों में मेडिकल की पढ़ाई करनेवाले स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप देने के लिए SONUISM की शुरुआत की थी. इससे पहले, वह टेक्निकल कोर्स में स्कॉलरशिप देने के लिए, रोजगार उपलब्ध कराने के लिए, सर्जरी कराने के लिए, सिविल सर्विसेज की एक्जाम्स के प्रशिक्षण जैसी बहुत सी चीजों के लिए कई प्लेटफॉर्म लॉन्च कर चुके हैं. इसके अलावा पेंडमिक में मजदूरों की हर तरह से सहायता करके पहले ही वो रियल लाइफ हीरो का खिताब जीत चुके हैं.

अक्षय कुमार की फिल्म ‘लक्ष्मी’ लगातार सुर्खियों में बनी हुई है. कल यानी 9 नवंबर को ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज होनेवाली यह फिल्म अपनी कहानी के माध्यम से एक खास संदेश देगी. फिल्म की रिलीज से पहले अक्षय सोशल मीडिया पर फिल्म का जबरदस्त प्रमोशन कर रहे हैं. साथ ही फिल्म में अपने द्वारा निभाए गए ट्रांसजेंडर के किरदार को समाज में स्वीकारता और सम्मान दिलाने की बात भी कर रहे हैं. इसको लेकर उन्होंने एक ट्वीट भी किया, जिसमें बड़ी सी लाल बिंदी लगाए अक्षय ने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा.

सायना नेहवाल भी आईं अक्षय के समर्थन में

Saina Nehwal

अब इंडिया की स्टार शटलर साइना नेहवाल ने भी अक्षय कुमार की फिल्म ‘लक्ष्मी’ के सपोर्ट में एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें नेहवाल माथे पर एक बड़ी सी लाल बिंदी लगाए हुए दिखाई दे रही हैं, साथ ही उन्होंने अक्षय कुमार की मुहिम को सपोर्ट करते हुए एक पोस्ट भी लिखा है.

अक्षय कुमार ने लाल बिंदी लगा ट्रांसजेंडर्स के सम्मान के लिए शुरू की मुहिम

Akshay Kumar

गौरतलब है कि हाल ही में फिल्म ‘लक्ष्मी’ का नया गाना ‘अब हमारी बारी…’ रिलीज हुआ है. इस गाने के माध्यम से अक्षय कुमार समाज के तीसरे लिंग ट्रांसजेंडर्स के खिलाफ बनी लोगों की गलत सोच को बदलने की अपील कर रहे हैं. साथ ही अक्षय कुमार किन्नर समाज के सम्मान और समर्थन के लिए लाल बिंदी लगाकर उन्हें सपोर्ट कर रहे हैं. इस गाने से सोशल मीडिया पर एक मुहिम शुरू करने की अपील की जा रही है जहां पर सभी लाल बिंदी लगा ट्रांसजेंडर्स का सम्मान करने की बात हो रही है.

अक्षय कुमार ने खूबसूरत पोस्ट के ज़रिए की मुहीम की शुरुआत

Akshay Kumar

गाने के साथ अक्षय कुमार ने खूबसूरत पोस्ट भी लिखी है, नजर से बचने के लिए तो बहुत टीके लगाए हैं, नजरिया बदलने वाला टीका लगाने की अब हमारी बारी है. अब समय आ गया है कि अब इस लिंग भेद को खत्म कर दें और ट्रांसजेंडर को भी वहीं सम्मान दें. लाल बिंदी लगा समान प्यार और सम्मान के लिए साथ खड़े हो जाइए.

Akshay Kumar

अक्षय ने इसके बाद माथे पर लाल रंग की बिंदी लगाकर एक तस्वीर भी शेयर की. तस्वीर के साथ अक्षय ने कैप्शन में लिखा- ‘मैंने तो लगा ली है प्यार और समानता की लाल बिंदी. अब आपकी बारी है मुझे ज्वॉइन करने की अब हमारी बारी है फिल्टर इंस्टाग्राम पर. ये प्यार और स्वीकारता का सिंबल है थर्ड जेंडर के लिए.’ 

ट्रांसजेंडर्स के लिए नेहवाल ने लगाई लाल बिंदी

Akshay Kumar

इस बीच लाल बिंदी का यह ट्रेंड सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है. ऐसे में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने भी इस ट्रेंड को फॉलो करते हुए इंस्टाग्राम पर एक फ़ोटो शेयर की है, जिसमें वो माथे पर एक बड़ी लाल बिंदी लगाए हुए दिखाई दे रही हैं. साथ ही एक पोस्ट के ज़रिए साइना नेहवाल ने अक्षय की इस मुहिम की तारीफ की है और लोगों से भी ट्रांसजेंडर्स के लिए नजरिया बदलने और इस मुहीम से जुड़ने की अपील की है. साइना की इस लेटेस्ट फोटो को फैन्स काफी पसंद कर रहे हैं. बता दें कि साइना नेहवाल के जीवन पर बॉयोपिक भी बन रही है, जिसमें बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणीति चोपड़ा उनका किरदार निभा रही हैं. 

माथे पर लाल बिंदी लगाकर सिद्धार्थ शुक्ला और रित्विक धनजानी ने भी शेयर की फ़ोटो

Siddharth Shukla

अक्षय कुमार के मुहीम के सपोर्ट से कई टेलीविजन स्टार्स भी जुड़ रहे हैं. सबसे पहला नम्बर है सिद्धार्थ शुक्ला और रित्विक धनजानी का, जिन्होंने लाल बिंदी लगाकर अपनी फ़ोटो शेयर की है.

Rithvik Dhanjani

साथ ही एक पोस्ट लिखकर अक्षय की इस मुहीम के तारीफ करते हुए लोगों से भी इससे जुड़ने की अपील की है.

साल 2020 सच में काफी मनहूस साबित हुआ है, खासकर फ़िल्म इंडस्ट्री के लिए ये साल बुरी खबरों से भरा रहा. कई बड़े एक्टर डाइरेक्टर की मौत की खबर के बाद भी मनहूस खबरों का सिलसिला रुक नहीं रहा है. और अब लेटेस्ट बुरी खबर ये है कि संजय दत्त को लंग कैंसर से पीड़ित पाए गए हैं.

Sanjay Dutt



बता दें कि शनिवार यानि 8 अगस्त को सांस लेने में तकलीफ के चलते संजय दत्त को मुम्बई के लीलावती अस्पताल में एडमिट किया गया था. पहले डॉक्टर्स को उनके कोरोना पॉजिटिव होने का शक था, लेकिन उनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद डॉक्टर्स और उनके फैन्स ने राहत की सांस ली और दो दिन बाद ही यानि सोमवार की दोपहर को संजय दत्त को अस्पताल से डिस्चार्ज भी कर दिया गया था. और आज खबर आ रही है कि उनके टेस्ट से उनके लंग कैंसर से पीड़ित होने का पता चला है. कहा जा रहा है कि वे 3rd stage कैंसर से पीड़ित हैं.

Sanjay Dutt


हालांकि उनकी फैमिली से किसी ने आधिकारिक रूप से इस बात की पुष्टि नहीं की है, लेकिन अपने पाली हिल के घर में पहुंचने के अगले दिन ही संजय दत्त ने जिस तरह मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए छुट्टी पर जाने का ऐलान किया है, उसे देखते हुए उनके कैंसर से पीड़ित होने की खबर में सच्चाई लग रही है.

Sanjay Dutt



संजय दत्त ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के जरिए लिखा- “हाय दोस्तों, मैं मेडिकल ट्रीटमेंट के चलते काम से छोटा सा ब्रेक ले रहा हूं. मेरा परिवार और मेरे दोस्त मेरे साथ हैं और मैं अपने शुभचिंतकों से गुजारिश करता हूं कि मेरी तबीयत को लेकर गैर-जरूरी अनुमान न लगाएं जाएं. आप सभी के प्यार और शुभकामनों की वजह से मैं जल्द ही वापसी करूंगा.”

View this post on Instagram

🙏🏻

A post shared by Sanjay Dutt (@duttsanjay) on


हालांकि अभी तक किसी ने भी संजय दत्त को कैंसर होने की पुष्टि नहीं की है. लेकिन उनके इस पोस्ट ने उनके कैंसर से पीड़ित होने की अटकलों को और तेज़ कर दिया है. खबरों के अनुसार संजय दत्त ट्रीटमेंट के लिए जल्दी ही यूएस के लिए रवाना होंगे. बता दें कि संजय दत्त की मां नरगिस दत्त और उनकी पहली पत्नी ऋचा शर्मा भी कैंसर से पीड़ित थीं.

‘मेरी सहेली’ परिवार संजय दत्त के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता है.