Tag Archives: Love Life

प्यार, शादी से लेकर तलाक तक: नवाजुद्दीन सिद्दीकी की लव लाइफ और मैरिड लाइफ में रहे हैं काफी ट्विस्ट(From Falling In Love To Getting Married To Parting Ways: Nawazuddin’s love and married life have many twists)

अपनी बेहतरीन एक्टिंग और एक से बढ़कर एक अच्छी फिल्में देने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी आजकल अपनी फैमिली लाइफ को लेकर खूब चर्चा में हैं. इससे पहले तक लोग यही समझते थे कि उनकी मैरिड लाइफ में सब ठीक ठाक चल रहा है, लेकिन जब पिछले दिनों उनके बर्थडे पर उनकी पत्नी आलिया ने उनके परिवार पर गंभीर आरोप लगाते हुए उन्हें तलाक की नोटिस भेजी, तब से नवाजुद्दीन तलाक की खबरों की वजह से खबरों में हैं.
और उनकी पत्नी आलिया सिद्दीकी करीब 15 सालों से साथ हैं, लेकिन अब आलिया ने अलग होने का फैसला किया है. आलिया सिद्दीकी ने ईमेल और व्हाट्सएप्प के ज़रिए लीगल नोटिस भेजकर तलाक और मैटेनेंस मांगा है. साथ ही उन्होंने नवाजुद्दीन के परिवार पर टॉर्चर करने के आरोप लगाए हैं.

Nawazuddin Siddiqui Aaliya Siddiqui

आज भले ही आलिया और नवाजुद्दीन अलग होने जा रहे हों, लेकिन एक समय था जब उनकी लव स्टोरी काफी इंटरेस्टिंग हुआ करती थी और दोनों एक दूसरे से बहुत ज्यादा प्यार करते थे.

पहले थीं अंजना किशोर पांडेय, फिर बनीं आलिया

आलिया सिद्दीकी और नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने कई सालों के लंबे रिलेशनशिप के बाद शादी की थी. आलिया सिद्दीकी का असली नाम अंजना किशोर पांडेय है. उन्होंने शादी के बाद अपना नाम आलिया सिद्दीकी कर लिया. दोनों 15 सालों से साथ थे. शादी से पहले भी दोनों लंबे वक्त तक लिव इन में भी रहे थे.

काफी ट्विस्ट भी रहा दोनों की लव लाइफ में
नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने एक इंटरव्यू में इस बारे में बताया था कि शादी से पहले वह अंजली के साथ रिलेशनशिप में थे, लेकिन अंजली काफी गुस्सा करती थीं और कई बार नाराज होकर अपने दोस्त के यहां चली जाती थीं और लंबे वक्त तक वापस नहीं आती थीं. एक बार ऐसी ही किसी बात पर बात बढ़ गई और उनका ब्रेकअप हो गया. इसके बाद उनकी मां ने उनकी शीबा से शादी तय कर दी और शादी हो भी गई. लेकिन यह शादी ज्यादा दिन नहीं चल पाई और दोनों का तलाक हो गया. शीबा से तलाक होने के बाद नवाज और आलिया फिर से मिले और दोनों ने शादी का फैसला किया. शादी के बाद अंजली ने अपना नाम आलिया कर लिया. उनके दो बच्चे भी हैं.

Nawazuddin Siddiqui Aaliya Siddiqui
5 रुपये उधार लेकर किया खिलाया थे ब्रेकफास्ट
नवाज़ुद्दीन ने खुद एक बार कहा था- हम दोनों एक बहुत खुश हैं. आलिया और मेरी बहुत अच्छी ट्यूनिंग है. हमने बुरे से बुरा समय साथ बिताया है. एक समय ऐसा भी था जब मैं उससे दूर था और उसके पास मुझे कॉल करने के लिए एक रुपये भी नहीं होते थे. एक बार तो मैंने खुद अपने दोस्त से 5 रुपए उधार लेकर आलिया को ब्रेकफास्ट खिलाया है.’ 

जासूसी का भी आरोप लग चुका है
एक बार नवाजुद्दीन सिद्दीकी पर अपनी पत्नी की जासूसी का आरोप भी लगा था, लेकिन तब आलिया खुद एक फेसबुक पोस्ट कर नवाजुद्दीन के साथ खड़ी हो गई थीं और सभी का मुंह बंद कर दिया था और तब आलिया ने जमकर नवाज़ुद्दीन की तारीफ भी की थी.
Nawazuddin Siddiqui

आखिर क्यों बिगड़े दोनों के संबंध?
सूत्रों के अनुसार इसकी वजह है दो-तीन साल पहले नवाजुद्दीन की आत्मकथा, जिसमें उन्होंने खुलकर अपने विवाहेतर संबंधों का जिक्र किया था. बताया जाता है कि यह बात उनकी पत्नी को बहुत नागवार गुजरी और तभी से उनके संबंध बुरी तरह बिगड़ते चले गए.

Nawazuddin Siddiqui Aaliya Siddiqui old pic

आलिया तलाक की वजह ‘टॉर्चर’ बताती हैं
हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में आलिया ने इस रिश्ते के टूटने के बारे में खुलकर बात की, “हमारी शादी में काफी पहले से ही प्रॉब्लम शुरू हो गई थी, लेकिन मैंने इस मामले को सुलझाने की कोशिश की, चीजों के ठीक होने का इंतजार किया, लेकिन कुछ नहीं बदला. मेरा आत्मसम्मान पूरी तरह से खत्म हो गया था. उनके परिवार के शारीरिक और मानसिक टॉर्चर से मैं थक चुकी थी. जब आप किसी रिश्ते को 10 साल देते हैं और इतने सालों बाद आपको ये एहसास होता है कि उसकी जिंदगी में आपके लिए खास जगह ही नहीं है, तो बहुत कुछ बदल जाता है. हालांकि नवाज ने मुझ पर कभी हाथ नहीं उठाया, लेकिन उनका हमेशा चिल्लाना और झगड़ा मेरी सहनशक्ति के बाहर हो गया था.”

Nawazuddin Siddiqui Aaliya Siddiqui

एक अच्छे इंसान नहीं बन पाए नवाज
आलिया ने नवाजुद्दीन के बारे में बताते हुए ये भी कहा, “भले ही कितने बड़े एक्टर आप बन गए हों, लेकिन अगर आप अच्छे इंसान नहीं बन पाए या अगर आप अपने बच्चों और पत्नी का सम्मान नहीं कर सकते तो क्या फायदा. मेरे बच्चों को याद भी नहीं है कि उनके पिता उनसे आखिरी बार कब मिलने आए थे. मेरे बच्चों को अपने पिता से मिले हुए 3-4 महीने हो गए हैं, लेकिन उन्हें इस बात की परवाह नहीं है. कुछ लोग फेम नहीं झेल पाते और नवाज उनमें से एक हैं. “
आलिया ने तलाक की नोटिस में अपने बच्चों की कस्टडी भी मांगी है और मेंटेनेन्स की भी मांग कर रही हैं.

बता दें कि 45 वर्षीय अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी फिलहाल अपने परिवार के साथ उत्तर प्रदेश के अपने गांव बुढाना में हैं और उनकी तरफ से अब तक इस बारे में कोई बयान नहीं आया है.

सुष्मिता सेन ने प्रेमी व बेटियों के साथ एंजॉय किया वैलेंटाइन डे… (Sushmita Sen Enjoyed Valentine’s Day With Boyfriend And Daughters…)

सुष्मिता सेन हमेशा से ही अपनी ख़ूबसूरती, प्यार व बोल्ड निर्णय के लिए सुर्ख़ियों में रही हैं. उन्होंने अपनी दोनों बेटियों व प्रेमी रोहमन शॉल के साथ बेहद रोमांटिक अंदाज़ में वैलेंटाइन डे मनाया. इससे जुड़ी तस्वीरें उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर की.

Sushmita Sen's Valentine's Day

मॉडल, मिस यूनिवर्स बनने से लेकर अभिनेत्री बनने तक सुष्मिता सेन ने एक लंबा सफ़र तय किया है. अक्सर उनके प्रेम के क़िस्से भी काफ़ी चर्चा में रहे, फिर वो उनकी पहली फिल्म दस्तक के निर्देशक विक्रम भट्ट के साथ हो या फिर रणदीप हुड्डा. सुष्मिता ने कभी भी समाज या लोग क्या कहेंगे कि परवाह नहीं की. उन्होंने हमेशा से ही वो किया, जो उन्हें सही लगा और जो उनके दिल ने माना. दिल की वे हमेशा से ही सुनती आई हैं, तभी तो अपने से 15 साल छोटे रोहमान के प्यार को स्वीकारने में देर ही सही उन्होंने अपनाया. आज वे पूरी शिद्दत के साथ अपनी लव लाइफ एंजॉय कर रही हैं.

अक्सर सोशल मीडिया पर सुष्मिता की रोहमन, अपने परिवार, बेटियों के साथ प्यार बांटते, मौज-मस्ती करते तस्वीरें देखी जा सकती हैं. रोहमन के साथ उनके लव कनेक्शन व एक्सप्रेशन का स्टाइल तो हर किसी को रोमांचित कर देता है. उनकी लव जर्नी पर एक नज़र डालते हैं…

Sushmita Sen's With Her Bf Sushmita Sen's Valentine's Day Sushmita Sen's Valentine's Day Sushmita Sen With Her Bf Sushmita Sen With Her Bf Sushmita Sen With Her Boyfriend Sushmita Sen With Her Boyfriend Sushmita Sen With Her Boyfriend Sushmita Sen's Valentine's Day Sushmita Sen With Her Boyfriend

 

 

View this post on Instagram

#love 💋

A post shared by Sushmita Sen (@sushmitasen47) on

 

यह भी पढ़ेहिंदी में जानें ‘अंग्रेज़ी मीडियम’ के बारे में इसके दिलचस्प ट्रेलर से… (Know About Angrezi Medium Film From Its Interesting Trailer…)

ब्रेकअप का पुरुषों पर क्या होता है असर? (How Men Deal With Breakups)

दिल के रिश्ते का हर एहसास ख़ास होता है… दिल मिलने पर जितनी ख़ुशी होती है, दिल टूटने पर दर्द भी उतना ही ज़्यादा होता है… कहते हैं, पुरुष अपने दिल का दर्द ज़ाहिर नहीं करते… तो फिर दिल टूटने का पुरुषों पर क्या होता है असर?

How Men Deal With Breakups

ब्रेकअप का पुरुषों पर ये होता है असर
ब्रेकअप का अलग-अलग पुरुषों पर अलग असर होता है. ब्रेकअप का दर्द शायद सभी पुरुषों को एक-सा हो, लेकिन इस दर्द से उबरने के लिए हर पुरुष अपना अलग तरीका खोज निकालता है. आमतौर पर ब्रेकअप का पुरुषों पर ये असर होता है:

1) ख़ुद को नशे में डुबो देना
ब्रेकअप के बाद अक्सर कई पुरुष अपना दर्द और अपने एक्स को भुलाने के लिए बहुत ज़्यादा सिगरेट-शराब पीने लगते हैं. इसका असर उनकी पर्सनल, प्रोफेशनल और सोशल लाइफ पर भी पड़ने लगता है. ज़्यादा शराब पीकर कई पुरुष दूसरों से झगड़ा या गाली-गलौज भी करने लगते हैं. घर वालों के समझाने पर उन्हें भी भला-बुरा कह देते हैं. ब्रेकअप का दर्द उन्हें इतना आहत करता है कि वो न तो अपने करियर पर फोकस कर पाते हैं और न ही उनका किसी चीज़ में मन लगता है.

2) लोगों से मिलने से कतराना
ब्रेकअप को कई पुरुष अपनी प्रतिष्ठा से जोड़कर देखते हैं. उन्हें लगता है कि किसी से मिलने पर यदि किसी ने उनसे उनके रिलेशनशिप के बारे में पूछ लिया, तो वे उसे क्या जवाब देंगे. ब्रेकअप के बाद पुरुष अपने रिश्ते के बारे में डिस्कस नहीं करना चाहतेे इसलिए वो लोगों से मिलने से कतराने लगते हैं.

3) सच्चाई स्वीकार न कर पाना
कई पुरुष ये बात स्वीकार ही नहीं पाते कि कोई महिला उन्हें लाइफ पार्टनर बनाने से इनकार कर सकती है. ब्रेकअप की बात सोचते ही उनके अहम् को ठेस लगती है इसलिए वो ये ये सच्चाई स्वीकारना ही नहीं चाहते कि किसी महिला ने उनका दिल तोड़ा है. इस बात का उनकी पर्सनैलिटी पर भी गहरा असर होता है. ऐसे लोग समझ ही नहीं पाते कि अब उन्हें आगे क्या करना है.

4) सारा दोष महिला पार्टनर से सिर मढ़ देना
कई पुरुष ये बात मानना ही नहीं चाहते कि उनके ब्रेकअप के लिए वो भी उतने ही ज़िम्मेदार हैं, जितना कि उनकी महिला पार्टनर. वो हर किसी से यही कहते फिरते हैं कि उनकी पाटर्नर इस रिश्ते की ज़िम्मेदारी उठाने लायक ही नहीं थी इसलिए उन्हें मजबूरन उससे रिश्ता तोड़ना पड़ा.

5) बिज़ी रहने की एक्टिंग करना
ब्रेकअप हो जाना कई पुरुषों को अपनी बेइज़्ज़ती लगती है इसलिए वो इस बात से डरते रहते हैं कि कोई उनसे उनके ब्रेकअप के बारे में न पूछ लें. दोस्तों और करीबियों के सवालों से बचने के लिए वो बिज़ी रहने की एक्टिंग करने लगते हैं. कई बार ऐसे लोग ख़ुद को काम में इतना डुबो देते हैं कि उन्हें अपने बारे में सोचने तक का समय नहीं मिल पाता.

यह भी पढ़ें: पुरुषों में होते हैं महिलाओं वाले 10 गुण (10 Girly Things Men Do And Are Proud To Admit)

Breakups

6) घंटों जिम में बिताना
कई पुरुष ब्रेकअप के बाद जिम में अधिक समय बिताते हैं. ऐसा वो इसलिए करते हैं ताकि अपना ग़ुस्सा और फ्रस्ट्रेशन जिम में जाकर रिलीज़ कर सकें. उन्हें किसी से मिलने या बात करने की इच्छा नहीं होती इसलिए वो जिम में ख़ुद को थकाकर अपना ग़ुस्सा शांत करते हैं. ब्रेकअप के बाद जो पुरुष जिम में अधिक समय बिताते हैं, कई बार वो अपनी क्षमता से अधिक एक्सरसाइज़ करके ख़ुद को नुक़सान तक पहुंचा देते हैं.

7) किसी भी महिला पर विश्‍वास न करना
ब्रेकअप के बाद कई पुरुषों का महिलाओं पर से विश्‍वास उठ जाता है. दिल का रिश्ता टूटने का उन पर इतना बुरा प्रभाव पड़ता है कि वो फिर किसी महिला पर विश्‍वास ही नहीं कर पाते. ऐसे पुरुषों को फिर से दिल लगाने में बहुत दिक्कत होती है. जब तक कोई महिला उनका विश्‍वास न जीत ले, वो तब तक महिलाओं से दूर ही रहते हैं.

8) मल्टीपल पार्टनर बनाना
दिल टूटने का अलग-अलग पुरुषों पर अलग असर होता है. दिल टूटने पर कई पुरुष महिलाओं से दूर रहते हैं, तो कई पुरुष मल्टीपल पार्टनर बना लेते हैं यानी एक साथ एक से ज़्यादा महिला पार्टनर के साथ रोमांस करने लगते हैं. मल्टीपल पार्टनर बनाने वाले पुरुष शादी के रिश्ते में नहीं बंधना चाहते, वो बस महिला पार्टनर का साथ चाहते हैं, उन्हें लाइफ पार्टनर नहीं बनाना चाहते.

9) डेटिंग ऐप्स का सहारा लेना
ब्रेकअप के दर्द से उबरने के लिए कई पुरुष डेटिंग ऐप्स का सहारा लेने लगते हैं. ऐसे पुरुष अपना अधिकतर समय डेटिंग ऐप्स में बिताने लगते हैं. वो डेटिंग ऐप्स के माध्यम से कई लड़कियों से मिलते-जुलते हैं और अपना ग़म दूर करने की कोशिश करते हैं.

10) सोशल मीडिया पर एक्टिव रहना
सोशल मीडिया अकेलापन दूर करने का आसान माध्यम बन गया है. सोशल मीडिया का सबसे बड़ा फ़ायदा ये है कि आप अपने मोबाइल स्क्रीन पर उंगलियां फिराते हुए कई लोगों से जुड़ सकते हैं. आपको न उनसे मिलने की ज़रूरत है और न ही उन्हें अपना चेहरा दिखाने की ज़रूरत है. ऐसे में अकेलेपन के शिकार कई लोग सोशल मीडिया पर अपना अधिकतर समय बिताते हैं. अपने करीबियों से मिलने-जुलने के बजाय उन्हें घर बैठे अजनबियों से बातें करना अच्छा लगने लगता है. वो सोशल मीडिया की आभासी दुनिया अपना ग़म भुलाने की कोशिश करते रहते हैं.

यह भी पढ़ें: इमोशनल अत्याचार: पुरुष भी हैं इसके शिकार (#MenToo Movement: Men’s Rights Activism In India)

How To Deal With Breakups
 ब्रेकअप के दर्द से कैसे उबरें पुरुष?
हालांकि दिल टूटने के दर्द से उबरना आसान नहीं, लेकिन ज़िंदगी में आगे बढ़ना भी ज़रूरी है. ब्रेकअप के दर्द से उबरने के लिए क्या करें पुरुष? आइए, जानते हैं.

1) शी-टॉक्स शुरू करें 
जिस तरह हम अपने शरीर से विषाक्त तत्व बाहर निकालने के लिए डीटॉक्स करते हैं, उसी तरह अपने पुराने रिश्ते से बाहर निकलने के लिए शी-टॉक्स शुरू करें. इसके लिए अपने एक्स से जुड़ी सभी यादों को ख़ुद से दूर करें. सोशल मीडिया पर उसे अनफ्रेंड करें, उसका नंबर डिलीट कर दें, इस तरह आप बार-बार उसे देखने या उसके बारे में जानने से बच पाएंगे और अपना ध्यान अपने काम पर लगा पाएंगे.

2) पुरानी यादों को जला दें
करीना कपूर और शाहिद कपूर की फिल्म जब वी मेट का वो सीन आपको याद होगा, जब शाहिद कपूर अपने एक्स की यादें मिटाने के लिए करीना कपूर से उसकी तस्वीर को जलाकर कमोड में फ्लश करने को कहते हैं, ताकि करीना उसकी यादों को भुला सके. आप भी ऐसा कर सकते हैं. बार-बार अपने एक्स की फोटो देखकर दुखी होने के बजाय उसकी फोटो को जलाकर अपने दिल को समझाएं कि अब वो आपकी ज़िंदगी में नहीं है.

3) एक्स से दोस्ती न रखें
कई लोग रिश्ता ख़त्म होने के बाद भी दोस्त बने रहना चाहते हैं. ऐसा करना तब सही होता है, जब आप अपनी दोस्ती को स़िर्फ दोस्ती की नज़र से देखें, लेकिन आपके मन में यदि अब भी अपने एक्स के लिए वही भावनाएं हैं, तो बेहतर होगा कि आप उससे दोस्ती भी न रखें. अपने एक्स को भुलाने के लिए आप उससे दूर ही रहें.

ये प्यार इतना कॉम्प्लिकेटेड क्यों है? देखें वीडियो:

4) ख़ुद को नशे से दूर रखें
ब्रेकअप के दर्द को भुलाने के लिए यदि आप भी ख़ुद को नशे में डुबो देते हैं, तो ये आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं है. नशा करने की बजाय अपने शौक के लिए व़क्त निकालें, वो चीज़ें करें जो आपको अच्छी लगती हैं.

5) महिलाओं से दूर न भागें
यदि एक महिला ने आपका दिल तोड़ा है, तो इसका ये मतलब नहीं कि सभी महिलाएं ऐसी ही होती हैं. अत: महिलाओं से कतराएं नहीं, बल्कि उनसे बात करें. यदि कोई महिला दोस्ती का हाथ आगे बढ़ाए, तो ख़ुद को एक और चांस दें और जीवन में आगे बढ़ें.

6) ख़ुद से प्यार करें
हर इंसान का ये फर्ज़ है कि वो दुनिया में सबसे ज़्यादा ख़ुद से प्यार करें. यदि आप ख़ुद से प्यार करेंगे, तभी आप दूसरों से भी उतना ही प्यार कर सकेंगे. हमेशा जीवन का सकारात्मक पहलू देखें. एक रिश्ता टूट जाने से ज़िंदगी ख़त्म नहीं होती. आज यदि आपका दिल टूटा है, तो इस बात पर विश्‍वास रखें कि आपके जीवन में इससे भी अच्छा लाइफ पार्टनर आने वाला है. ज़िंदगी एक बार मिलती है इसलिए उसे खुलकर जीएं. आप बस ख़ुद से प्यार करें, आपके जीवन में प्यार की कभी कमी नहीं होगी.

– कमला बडोनी

पहला अफेयर: लम्हे तुम्हारी याद के (Pahla Affair: Lamhe Teri Yaad Ke)

Love Stories

पहला अफेयर: लम्हे तुम्हारी याद के (Pahla Affair: Lamhe Teri Yaad Ke)

प्यार, यूं तो इस शब्द से हर शख़्स वाकिफ़ होता है, पर इसका एहसास तो होता है तब, जब किसी का इंतज़ार यूंं ही करते रहना अच्छा लगने लगता है. प्यार का एहसास मुझे इस रूप में होगा, मैंने कभी सोचा भी न था. ज़िंदगी की बीस बहारें यूूं ही गुज़र गईं और इस बहार ने मेरी ज़िंदगी के मायने ही बदल दिए.

हमने घर हाल में ही बदला था. कुछ दूर मोड़ पर जाकर ही उनका घर था. एक संपूर्ण व्यक्तित्व – सुंदर, बोलने में इतनी आत्मीयता कि कोई भी प्रभावित हुए बिना रह न सके. देखते-देखते कब बातें शुरू हुईं और कब एक अजनबी अपनों से बढ़कर मेरे इतने क़रीब आ गया, पता ही नहीं चला.

हर सुबह एक नई उमंग लेके आती और हर शाम नए ख़्वाब. उनके बिना कुछ भी सोच पाना मुमकिन न था. दिल के एक कोने में जीवनसाथी की तस्वीर उनके रूप में परिपूर्ण थी. उनकी आंखों में छिपी चाहत को मैंने कई बार महसूस किया, पर उन्होंने कभी कुछ कहा नहीं. वैसे तो निगाहों की भाषा काफ़ी होती है मोहब्बत के इज़हार के लिए, पर शायद वज़ूद के लिए शब्द भी ज़रूरी हैं, इसलिए शब्दों के सहारे मैंने अपनी इच्छाएं उनके सामने रख दीं. वो सुनते रहे और चुप रहे, पर जब उनका मौन टूटा तो मेरी ज़िंदगी, मेरा वज़ूद सब बिखर कर रह गया.

यह भी पढ़ें: पहला अफेयर: पहले प्यार की ख़ुशबू (Pahla Affair: Pahle Pyar Ki Khushbu)

‘कृति मैं भी तुमसे बहुत प्यार करता हूं. तुमने मेरी ज़िंदगी को एक नई दिशा दी है, पर एक सच्चाई जिसे मैं तुम्हें खोने के डर से आज तक नहीं बता पाया कि मैं एक शादीशुदा पुरुष हूं. तुम्हारे साथ, तुम्हारे प्यार और अपनेपन ने मुझे अंदर तक छू लिया. मेरी भावनाएं, मेरी इच्छाएं जो अब तक अधूरी थीं, तुमने उन सबको परिपूर्ण किया है. तुम्हारे साथ ने ही मुझे प्यार का एहसास कराया है. तुम ही मेरी ज़िंदगी का पहला प्यार हो, जिसे मैं हमेशा चाहूंगा, पर तुम्हारे इस साथ में मैं अपने यथार्थ को भूल गया था और उससे भाग रहा था. तुम्हें खोने के डर ने मुझे बहुत स्वार्थी बना दिया था, इसलिए चाहकर भी मैं तुम्हें आज तक ये नहीं बता पाया और जाने-अनजाने में तुम्हारी भावनाओं को आहत किया. काश! हमारी ज़िंदगी हमारी सोच की तरह आसान होती और जो हम चाहते, हमें मिल जाता. हो सके तो मुझे माफ़ कर देना…’ इतना कहकर वो चले गए.

सब कुछ रेत की तरह हाथों से निकल गया. उनके इस झूठ ने मेरी ज़िंदगी के मायने ही बदल दिए. सच है पहला प्यार कभी भी भुलाया नहीं जा सकता. सब कुछ जानते हुए आज भी मैं उनसे बेइंतहा मोहब्बत करती हूं और वो लम्हे जो हमने साथ गुज़ारे थे, वो अनमोल पल आज भी मेरी स्मृतियों में यूं ही कायम हैं और हमेशा रहेंगे.

हंसना तो बड़ी शै है, रोने भी नहीं देते
लम्हे तुम्हारी याद के, कुछ ऐसे भी आते हैं

– कृति

यह भी पढ़ें: पहला अफेयर- तुम मेरे हो… (Pahla Affair- Tum Mere Ho)

बेहतर सेक्स के लिए करें ये मुद्राएं (Mudras For Better Sex Life)

योग शास्त्र में ऐसी अनेक मुद्राएं और बंध हैं, जो सेक्सुअल पावर (Sexual Power) को बढ़ाते हैं. ये मुद्राएं व बंध स्वास्थ्यवर्द्धक होने के साथ-साथ शीघ्रपतन, मासिक स्राव व मेनोपॉज़ संबंधी समस्याओं को भी दूर करते हैं.

Mudras For Better Sex Life

स्वास्थ्य और यौनशक्ति को बढ़ाने वाले प्रमुख कारक हैं- प्राण, संचित ऊर्जा, स्वस्थ नर्वस सिस्टम, रक्तप्रवाही ग्रंथियों का ठीक प्रकार से काम करना आदि. शारीरिक स्तर पर हेल्दी सेक्सुअल रिलेशन इस बात पर निर्भर करता है कि हम कितने तनावरहित हैं और किसी भी प्रतिक्रिया के प्रति कितने खुले और जागरूक हैं. योगाभ्यास द्वारा इन सभी चीज़ों को बढ़ाया जा सकता है.

आसन व सेक्सुअल पावर

आमतौर पर जहां आसन हमारे शरीर में प्राणशक्ति और लचीलापन बढ़ाकर हमें यौनदृष्टि से स्वस्थ रखते हैं, वहीं दूसरी ओर कुछ विशेष मुद्राएं हैं, जो हमारी खोई हुई यौन उत्तेजना को पुनः प्राप्त करने में हमारी मदद करती हैं. ‘थंडर बोल्ट पोश्‍चर’ और ‘स्पाइन थंडर बोल्ट पोश्‍चर’ (जिसमें व्यक्ति अपनी मूल मुद्रा में एड़ियों के बल बैठने के बाद अपनी पीठ के बल चित्त लेट जाता है) उन्हीं में से हैं. शोल्डर स्टैंड, प्लग, नोबरा, बो, लोकस्ट और स्पाइनल ट्विस्ट- ये अनेक तरी़के हैं, जो सेक्स पावर को बढ़ाकर शरीर में यौन-ग्रंथियों और प्रजनन अंगों को दृढ़ता व उत्तेजना प्रदान करते हैं. पेल्विक व स्पाइन को भी गतिशीलता व लचीलापन प्रदान करने के साथ-साथ ये शीघ्रपतन, मासिक रक्तस्राव और मेनोपॉज़ में आनेवाली कठिनाइयों, प्रोस्टेट ग्रंथि का बढ़ जाना, स्त्रियों में कामशीतलता व पुरुषों में नपुंसकता आदि विकारों को रोकने में भी सहायक होते हैं.

शक्तिवर्द्धक मुद्राएं

‘हठ योग’ में ऐसी निश्‍चित मुद्राएं व बंध हैं, जो हमारे यौनांगों व मांसपेशियों पर प्रत्यक्ष सकारात्मक प्रभाव डालते हैं. मुद्रा एक तरह से ‘सील’ या ‘तालाबंद’ (lock) करना है और बंध से तात्पर्य बांधने, रोकने से है. ये दोनों ही प्राण वायु को शरीर में रोके रखने की तकनीकें हैं और इनमें अंतर केवल सैद्धांतिक ही है.
महामुद्रा (Great Seal)-
इस मुद्रा में बायां पैर मोड़कर उसकी एड़ी से गुदाद्वार पर दबाव डाला जाता है. दायां पैर पूरी तरह फैला रहता है और आगे की तरफ़ झुक कर, ठोड़ी से दाएं पैर के पंजे को छूने का प्रयास किया जाता है. यही क्रिया फिर दाएं पैर को मोड़कर दोहराई जाती है.

महाबंध (Great Binding)- पैरों की अलग स्थिति के कारण यह ‘महामुद्रा’ से भिन्न है. एक पैर की एड़ी को मोड़कर गुदाद्वार पर दबाव डाला जाता है, लेकिन दूसरा पैर फैले रहने के बजाय, मोड़कर उसका पंजा पैर की जंघा के मोड़ के पास रखा जाता है.

महावेध (Great Piercing)- इस आसन में या तो ‘महाबंध’ या अन्य किसी भी ध्यान की मुद्रा में बैठा जा सकता है. गहरी सांस खींचकर, उसे रोककर, ‘जालंधर बंध’ (Chin Lock) लगाया जाता है. दाईं हथेली दाएं कूल्हे के पास और बाईं हथेली बाएं कूल्हे के पास ज़मीन पर रहती है. इस मुद्रा में हथेली व कूल्हे से रुक-रुक कर ज़मीन पर दबाव
डालते हैं.

यह भी पढ़ें: सुहागरात में काम आएंगे ये सुपर सेक्स टिप्स (Super Sex Tips For Your First Night)

Mudras For Better Sex Life

उड्डीय मुद्रा (Abdominal Retraction)– इस मुद्रा में सांस को पूरी तरह बाहर निकालकर, पेट को पूरी तरह अंदर सिकोड़ा जाता है. योग शास्त्र के आरोग्य- सिद्धांत के अनुसार इसे शरीर की स्वच्छता की क्रिया के साथ-साथ ‘श्‍वास-नियंत्रण’ की सीमा माना जाता है.

मूलबंध- इस क्रिया में सिद्धासन में बैठकर एक पैर की एड़ी गुदाद्वार के सामने और दूसरी एड़ी प्यूबिस के सामने रखी जाती है. यदि सिद्धासन में बैठना कठिन हो, तो सुखासन में भी बैठकर इसे किया जा सकता है. नाभि के नीचे पेट के निचले हिस्से को अंदर सिकोड़ कर पीछे रीढ़ की हड्डी की तरफ़ खींचा जाता है. इस क्रिया में गुदा व नाभि को एक साथ सिकोड़ने का प्रयास करना चाहिए. जब तक संभव हो पेट को सिकोड़े रखें, फिर ढीला छोड़ें. 15 मिनट के बाद यही क्रिया फिर दोहराएं.

अश्‍विनी मुद्रा- गुदा को सिकोड़कर मलद्वार में इस प्रकार तनाव (Tightness) उत्पन्न किया जाता है जैसा कि ‘मूल मुद्रा’ में किया जाता है. इस मुद्रा का नाम अश्‍व की मल निकास की प्रक्रिया के अनुरूप होने के कारण ‘अश्‍विनी मुद्रा’ रखा गया है.

जालंधर बंध (Chin Lock)- यौगिक श्‍वास-नियंत्रण की यह एक उन्नत क्रिया है. सांस को अंदर रोककर, ठोड़ी को नीचे झुकाकर, गले की हड्डी (Collar Bone) के ऊपर टिका दिया जाता है. सांस रोकने की यह क्रिया अन्य दो मुद्राओं- उड्डीयन बंध और मूल बंध के साथ की जाती है.

विपरीतकरणी बंध (Inverted Body Binding)- आसन होते हुए भी शास्त्रों में इसे मुद्रा के रूप में वर्णित किया गया है. थीओस बर्नार्ड ने इसे शीर्षासन के समरूप बताया है. जबकि अर्नेस्ट वूड इसे सर्वांगासन की तरह वर्णित करते हैं. प्रमुख तांत्रिक ग्रंथों में कहा गया है कि सिर ज़मीन पर टिका कर पैर आकाश की तरफ़ उठाओ- पहले दिन इस मुद्रा में कुछ ही क्षण रहो, फिर अगले दिन से धीरे-धीरे इसका समय बढ़ाओ.

वज्रोली मुद्रा– यह यौन-नियंत्रण की एक कला है, हालांकि ‘घरोन्द संहिता’ में इसका एक आसन के रूप में उल्लेख किया गया है. इस संहिता के अनुसार सीधे लेटकर दोनों पैर हवा में उठाएं, सिर भी ज़मीन से ऊपर रहे. ऋषियों द्वारा यह आसन शक्ति को जागृत करनेवाला तथा दीर्घायु प्रदान करनेवाला बताया गया है.

सहजोली और अमरोली मुद्रा– ये मुद्राएं वज्रोली मुद्रा के ही अन्य दो प्रकार हैं. वज्रोली मुद्रा को समाप्त करने के बाद स्त्री-पुरुष शांत बैठें व गाय के गोबर की भस्म अपने शरीर पर रगड़ें. यह सहजोली है और अमरोली का अर्थ है शीतल निर्झर के जल का पान करना.

यह भी पढ़ें: लव गेम: पार्टनर से पूछें ये नॉटी सवाल (Love Game: Some Naughty Questions To Ask Your Partner)

यह भी पढ़ें: क्यों घट रहा है पुरुषों में स्पर्म काउंट? (What Are The Reasons For Low Sperm Count In Men?)

पहला अफेयर: हार्डवेयरवाला प्यार (Pahla Affair: Hardwarewala Pyar)

Pyar Ki Kahaniya
पहला अफेयर: हार्डवेयरवाला प्यार (Pahla Affair: Hardwarewala Pyar)

उन दिनों मैं डीएन कॉलेज से इंफॉर्मेशन ब्रांच में बी.ई. कर रही थी. हमारे कॉलेज में संजय भी था, जो कंप्यूटर साइंस में था. आते-जाते अक्सर वह दिख जाता था और इधर-उधर निगाह बचाकर मुझे देखता था. लेकिन मैं ध्यान नहीं देती थी और बाहर निकल जाती थी. इस पर वो मुझे हसरतभरी निगाह से देखता था.

बी.ई. के छठे सेमिस्टर चल रहे थे. मेरा घर कॉलेज से काफ़ी दूर था. मैं बस का इंतज़ार कर रही थी, लेकिन बसें देर से चल रही थीं. मुझे एग्ज़ाम के लिए देर होने की चिंता सताने लगी कि तभी हेलमेट पहने एक बाइक सवार मेरे पास आकर रुका और कहने लगा, “पेपर का समय हो गया है, अगर इसी तरह खड़ी रहीं, तो आज का पेपर गया समझो.”

मैंने जब ग़ौर से देखा, तो मालूम हुआ कि वो तो संजय है. मैं उसके साथ बैठने में हिचकिचाने लगी. तब उसने कहा, “अरे भई, हम कोई भूत नहीं हूं, चलो जल्दी बैठो, पेपर शुरू होने में 10 मिनट ही बचे हैं.” अब मैं उसकी बाइक पर बैठ गई. बीच-बीच में कभी ब्रेक लगाने पर मेरा शरीर उससे छू जाता, तो अजीब-सी सिहरन होने लगती. मेरा मुंह सूख रहा था. मैंने ख़ुद को संभाला और पेपर देने चली गई.

इसके बाद संजय से मुलाक़ातें बढ़ने लगीं और धीरे-धीरे एहसास होने लगा कि पहला प्यार इसे ही कहते हैं. संजय बिहार से था और उसकी भाषा व बोलने के अंदाज़ पर मुझे कभी-कभी हंसी आ जाती थी. एक दिन वो बोला, “वो ऐसा है कि हमने ज़्यादा किसी से प्यार-व्यार नहीं किया, इसलिए मालूम नहीं कि ये कैसा होता है, पर अपना प्यार तो एकदम हार्डवेयरवाला है. पक्का मतलब एकदम पक्का.” तब मैंने हंसते हुए कहा, “अपन तो सॉफ्टवेयरवाले हैं और प्यार के मामले में भी एकदम सॉफ्ट हैं.”

यह भी पढ़ें: पहला अफेयर: इतना-सा झूठ (Pahla Affair: Itna Sa Jhooth)

अब हम लोग कॉलेज के पास की झील के किनारे बैठकर भविष्य के सपने बुनते रहते… एक बार वो तुकबंदी करते हुए कहने लगा… “जब फूल खिलता है, तो ख़ुशबू फैल जाता है… जब तुम हंसता है, तो बहार आ जाता है.” उसकी इस तुकबंदी पर मुझे ज़ोर से हंसी आ गई और मैंने भी हंसते हुए कहा, “ जब तुम तुकबंदी करता है, तो आंसू आ जाता है… यह ख़ुशी का है या ग़म का पता नहीं लग पाता है.” फिर काफ़ी देर तक हम हंसते रहे और मैंने सोचा कि व़क्त यहीं रुक जाए और यूं ही हंसते-खिलखिलाते ज़िंदगी गुज़र जाए.

बी.ई. पूरा होने के बाद संजय पटना चला गया. बीच-बीच में हमारी बातें होती रहती थीं और इसी बीच संजय ने बताया कि उसका सिलेक्शन आर्मी में हो गया है, संजय काफ़ी मेहनती था, जो ठान लेता, वो करता ही था. उसे दूर-दराज़ के इलाकों में कंप्यूटर इंस्टॉलेशन का काम सौंपा गया था. एक दिन मेरे मोबाइल पर उसका मैसेज आया- हम लोगों को अपने काम पर ले जानेवाला ट्रक खाई में गिर गया है, अस्पताल में पड़ा हूं, ऐसा लगता है ज़िंदगी ज़्यादा नहीं है. तुम अपनी ज़िंदगी सॉफ्टवेयर-सी रखना, मेरे जैसी हार्डवेयर नहीं.

आज मैं एक बैंक में कार्यरत हूं, लेकिन संजय के बिना ज़िंदगी वीरान है. उसका प्यार मेरा संबल है, पर उसके बिना ज़िंदगी सॉफ्ट नहीं, हार्डवेयर-सी है. अकेले जीवन गुज़ारते हुए बस उसका चेहरा और बातें ही सहारा हैं.

– संतोष श्रीवास्तव

यह भी पढ़ें: पहला अफेयर: काला खट्टा (Pahla Affair: Kaala Khatta)

सुष्मिता सेन की फोटो पर क्यूट रेस्पॉन्स देने से ख़ुद को नहीं रोक पाए रोहमन… क्या अब भी है प्यार? (Sushmita Sen’s Pic With A Baby Evokes A Cute Response from Rohman)

Sushmita Sen’s Pic With A Baby

सुष्मिता सेन की फोटो पर क्यूट रेस्पॉन्स देने से ख़ुद को नहीं रोक पाए रोहमन… क्या अब भी है प्यार? (Sushmita Sen’s Pic With A Baby Evokes A Cute Response from Rohman)

सुष्मिता सेन (Sushmita Sen) और रोहमन शॉल (Rohman Shawl) के बीच अब भी है प्यार? हॉट कपल के रूप में जाने जानेवाले सुष्मिता सेन और रोहमन के बीच पिछले दिनों ब्रेकअप की ख़बर काफ़ी चर्चा में थी. रोहमन की इंस्टाग्राम स्टोरीज़ ने सनसनी फैला दी थी और यह ख़बर जंगल में आग की तरह पूरी इंडस्ट्री और मीडिया में फैल गई थी.

लेकिन शुक्रवार को रोहमन की इंस्टाग्राम स्टोरी कुछ और ही बयां कर रही थी. इसमें रोहमन ने सुष्मिता के लिए प्यार और उनके साथ घर बसाने का क्यूट-सा मैसेज दिया था. रोहमन की इसी स्टोरी को सुष्मिता ने भी अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर पोस्ट किया, जिससे तो यही लग रहा है कि प्यार अभ भी बाकी है.

यह भी पढ़ें: इस पोस्ट के साथ मलाइका ने कंफर्म किया अर्जुन के साथ रिलेशनशिप (Malaika Arora Makes Her Relationship With Arjun Kapoor Official With Birthday Post On Instagram)

Sushmita Sen

इसके अलावा सुष्मिता ने अपनी एक पिक्चर भी शेयर की है, जिसमें वो एक छोटी-सी बेबी के साथ फ्लाइट में नज़र आ रही हैं, उनकी इस पिक्चर पर भी रोहमन से आठ घंटे पहले ही कमेंट किया है कि- माय बेबी विद ए बेबी!

तो प्यार में तो लड़ाई-झगड़ते होते रहते हैं, बस फैंस यही दुआ करते हैं कि ये हॉट कपल यूं ही हॉट बना रहे. हाल ही में सुष्मिता ने एक इंटरव्यू में भी अपने और रोहमन के पहले इंटरेक्शन की बात कही थी कि उनकी मुलाक़ात इंस्टाग्राम पर ही हुई थी और किस तरह से अंजाने में सुष ने रोहमन का मैसेज ओपन कर लिया था और उसके बाद बातों और डेट्स का सिलसिला शुरू हुआ.

 

rohmanshawl's profile picture

rohmanshawl

Verified

My BABY with a baby ❤️😘

सीखें हस्तरेखा विज्ञान: हृदय रेखा से जानें अपनी पर्सनैलिटी और लव लाइफ के बारे में (Learn Palmistry: Heart Line Tells A Lot About Your Personality And Love Life)

हस्तरेखा विज्ञान (Palmistry) से हम अपने व्यवहार, भविष्य, करियर, लव लाइफ आदि के बारे में आसानी से जान सकते हैं. हस्तरेखा विज्ञान की सबसे बड़ी ख़ासियत ये है कि इसके लिए हमें किसी और के पास जाने की ज़रूरत नहीं है. यदि हमें हस्तरेखा विज्ञान की समझ है तो हम अपना भविष्य खुद ही जान सकते हैं. यदि आप अपनी पर्सनैलिटी और लव लाइफ के बारे में जानना चाहते हैं, तो ज्योतिष व वास्तु एक्सपर्ट पंडित राजेन्द्र जी आपको सिखा रहे हैं हस्तरेखा विज्ञान. रोजेन्द्र जी आपको अपने हाथ की रेखा देखना सिखा रहे हैं, जिससे आप अपने हाथ की रेखा देखकर अपनी पर्सनैलिटी और लव लाइफ के बारे में आसानी से जान सकते हैं.

Palmistry

यदि आपकी हार्ट लाइन यानी दिल की रेखा छोटी है तो क्या होता है, यदि हार्ट लाइन बड़ी है तो क्या होता है, यदि हार्ट लाइन पर स्टार, बिंदु, त्रिकोण के निशान हैं तो क्या होता है, आपकी लव मैरिज होगी या अरेंज, आपकी शादीशुदा ज़िंदगी कैसी होगी, आपका दिल कितना स्वस्थ रहेगा, आप दूसरों की भावनाओं का कितना ख़्याल रखते हैं… आपकी हार्ट लाइन से जुड़े ऐसे कई सवालों के गूढ़ रहस्य बता रहे हैं ज्योतिष व वास्तु एक्सपर्ट पंडित राजेन्द्र जी.

यह भी पढ़ें: सीखें हस्तरेखा विज्ञान: जीवन रेखा से जानें अपने जीवन के रहस्य (Learn Palmistry: How Your Life Line Can Predict Your Life)

 

अपनी हथेली में हृदय रेखा देखकर जानें अपनी पर्सनैलिटी और लव लाइफ के बारे में, देखें वीडियो:

बर्थडे से जानें लव मैरिज होगी या अरेंज मैरिज (Love Or Arranged Marriage: Your Birthdate Can Predict)

 

अपनी शादी (Marriage) को लेकर हर किसी के मन में बेहद उत्सुकता रहती है. यहां पर हम जन्म के अंकों यानी न्यूमरोलॉजी (Numerology) के आधार पर बता रहे हैं कि आपका प्रेम विवाह (Love Marriage) होगा या आप परिवार की सहमति से शादी (Arranged Marriage) करेंगे. इस विषय में ज्योतिषाचार्य व वास्तुशास्त्री पं. राजेंद्रजी ने हमें कई उपयोगी जानकारियां दीं. आइए, इस दिलचस्प तथ्य पर एक नज़र डालते हैं.

* यदि आपके जन्म का अंक एक है, तो आपकी अरेंज मैरिज होने की संभावनाएं अधिक हैं. चूंकि आप थोड़े संकोची व शर्मीले नेचर के हैं. इस कारण प्यार के मामले में आगे नहीं बढ़ पाते हैं, इसलिए आपके लव मैरिज होने की गुंजाइश नहीं है.

* दो नंबरवाले लोग बुद्धिमान व प्रेमी स्वभाव के होते हैं. इनकी भरसक कोशिश रहती है कि वे जिससे प्यार करते हैं, उसी से शादी करें. इनमें एक और ख़ास बात यह रहती है कि वे प्यार के मामले में दूरदर्शी होते हैं. बहुत सोच-विचार कर ही प्यार की दुनिया में क़दम रखते हैं. इनके लिए प्यार से बढ़कर कुछ नहीं होता है, अत: ये प्रेम विवाह ही करते हैं.

* तीन नंबरवाले शख़्स की ख़ासियत यह है कि इनका प्यार कामयाब रहता है. प्रेम में इनका अटूट विश्‍वास होता है. कभी-कभी इनके लिए प्यार ईश्‍वर का रूप भी बन जाता है. प्यार को लेकर इनका जुनून, विश्‍वास इनके प्रेम विवाह को सफल बनाता है.

* चार नंबरवाले थोड़े मस्त व रंगीन स्वभाव के होते हैं. इनके जीवन में प्रेम कई बार कई रूप में आता है. कई बार ये थोड़े असमंजस में भी आ जाते हैं कि लव मैरिज करें या अरेंज मैरिज. वैसे भी प्यार के मामले में थोड़े चंचल भी होते हैं अर्थात् प्यार को लेकर उतनी गंभीरता व मैच्योरिटी नहीं होती, जितनी होनी चाहिए. इसलिए यदि ये लव मैरिज कर भी लेते हैं, तो भी शादी के बाद भी इनके कई संबंध बनने की संभावनाएं रहती हैं. कह सकते हैं कि थोड़े फ्लर्ट क़िस्म के होते हैं. लेकिन अधिकतर इनकी लव मैरिज ही होती है.

* पांच नंबरवाले लोग परंपरागत तरी़के से विवाह करने में विश्‍वास रखते हैं. इनके लिए घर-परिवार, बड़ों की आज्ञा, मान-प्रतिष्ठा काफ़ी मायने रखती है. ज़िंदगी के हर महत्वपूर्ण कार्य में बड़ों की रज़ामंदी लेना नहीं भूलते, इसलिए इनके प्रेम विवाह करने के आसार बहुत कम होते हैं. परिवार की अनुमति और पसंद ही इनके लिए स्वीकार्य है यानी ये अरेंज मैरिज करते हैं.

यह भी पढ़ेलघु उद्योग- कैंडल मेकिंग: रौशन करें करियर (Small Scale Industries- Can You Make A Career In Candle-Making?)

* प्यार की नींव विश्‍वास व समर्पण पर होती है, ख़ासकर जब वो रिश्ते के बंधन में बंधते हैं. यहीं पर छह नंबरवाले व्यक्ति डांवाडोल हो जाते हैं. ये अपने रिश्ते में स्थिर नहीं रह पाते. ये प्यार तो करते हैं, पर एक के प्रति वफ़ादार नहीं रह पाते. इनके कइयों के साथ संबंध बनते हैं. इस कारण कई बार ये अपने रिश्ते को भी बचा नहीं पाते.

* सात फेरे, सात वचन की तरह सात नंबरवाले रिश्ते में ईमानदार और वफ़ादार होते हैं. मूल रूप से शर्मीले स्वभाव के होने के कारण अपने दिल की बात खुलकर नहीं कर पाते. अक्सर किसी के प्रति झुकाव होने के बावजूद ये कह नहीं पाते. दिल की बात दिल में ही रह जाती है. लेकिन एक बात तय है कि चाहे ये अरेंज मैरिज करें या फिर संभावित रूप से लव मैरिज हो, ये पार्टनर के साथ वफ़ादार रहते हैं. एक सच्चे जीवनसाथी की तरह रिश्ते को पूरी ईमानदारी के साथ जीवनभर निभाते हैं.

* जिनका जन्म आठ तारीख़ को होता है, ये यूं तो अरेंज मैरिज ही करते हैं. फिर भी यदि संयोगवश किसी से प्यार हो जाता है, तो प्रेम विवाह करने से भी कतराते नहीं है. अपनी समझदारी और सरलता के कारण ये दोनों ही तरह के रिश्तों को यानी अरेंज  मैरिज व लव मैरिज दोनों में ही कामयाब रहते हैं.

* नौ नंबरवाले लोग प्यार के मामले में नौ दो ग्यारह यानी दूर ही रहने में भलाई समझते हैं. इन्हें प्यार करना ही सही नहीं लगता, क्योंकि इनका यह मानना है कि इस राह में ख़ुशी की जगह ग़म अधिक होते हैं. और रिश्ते में ये कोई रिस्क नहीं लेना चाहते. अत: ये अरेंज मैरिज ही करते हैं.

यह भी पढ़ेहर लड़की ढूंढ़ती है पति में ये 10 ख़ूबियां (10 Qualities Every Woman Look For In A Husband)

शादी को लेकर हर किसी के अपने कुछ अरमान होते हैं. आइए, जानते हैं किस राशिवाले लोग किस तरह शादी करने में यक़ीन रखते हैं.

* मेष राशिवाले लोग पार्टी, धूमधाम और फन के साथ विवाह करने में विश्‍वास रखते हैं.

* वृषभवाले परंपरागत शादी करते हैं और शाही को अधिक महत्व देते हैं.

* मिथुन राशि के शख़्स शादी के हर पल का भरपूर लुत्फ़ उठाते हैं. इनके लिए शादी फेस्टिवल और जश्‍न की तरह होती है.

* सिंपल तरी़के से मैरिज करना कर्क राशिवालों की पहचान होती है. इसी के साथ अपनों के साथ थोड़ा धूमधड़ाका भर कर लेते हैं.

* पूरी प्लानिंग और राजसी ठाट के साथ विवाह करने में यकीन रखते हैं सिंह राशिवाले. रॉयल स्टाइल में सभी कार्यक्रम करना इनकी ख़ासियत होती है.

* जीवन में हर काम सही ढंग से करने में विश्‍वास रखनेवाले कन्या राशिवाले अपनी शादी को भी सुनियोजित व परफेक्शन के साथ करते हैं, फिर चाहे वो ख़ुद की, घर की साज-सज्जा हो या बैंड-बाजा-बरात.

* तुला राशिवाले संतुलित विवाह को अहम् मानते हैं. इसके बावजूद थोड़ी उथल-पुथल हो ही जाती है. ये हक़ीक़त से अधिक ख़्वाबों की दुनिया में अधिक रहते हैं. शादी को लेकर भी सपनों के राजकुमार या ख़्वाबों की शहज़ादीवाली भावनाएं और सोच इनकी होती है. इस कारण कई बार इन्हें अनचाही मुसीबतों का भी सामना करना पड़ता है.

* शादी जीवन में एक बार और यादगार होनी चाहिए, कुछ इस तरह की सोच रहती है वृश्‍चिक राशिवालों की. इनकी यही चाह रहती है कि शादी के अरेंजमेंट से लेकर विदाई तक सब कुछ लाजवाब हो.

* अपनी सुविधा के अनुसार घर से दूर और मनोेरंजन से भरपूर मैरिज करना धनु राशिवालों का उद्देश्य होता है. इनकी शादियां लोगों को ख़ास पसंद आती हैं.

* हर रस्म-रिवाज़ के साथ, परंपरागत और सिंपल तरी़के से शादी करना मकर राशिवालों की विशेषता होती है. शादी से जुड़ा हर कार्यक्रम और रस्म वे पारिवारिक परंपरा के अनुसार निभाते हुए करना पसंद करते हैं.

* मकर राशि से एकदम विपरीत होते हैं कुंभ राशिवाले. इनके लिए मैरिज से जुड़ा हर कार्य आधुनिक ढंग से होना चाहिए. ये मॉडर्निटी से ख़ासे प्रभावित रहते हैं.

* इसमें कोई दो राय नहीं कि मीन राशिवाले थोड़े फिल्मी होते हैं, इसलिए अपनी शादी को भी वही अंदाज़ देना चाहते हैं. प्यार की रोमानियत से भरपूर यादगार शादी होती है इनकी.

– ऊषा गुप्ता

पहला अफेयर: नीली छतरीवाली लड़की… (Pahla Affair: Neeli Chhatriwali Ladki)

Pyar ki Khaniya

पहला अफेयर: नीली छतरीवाली लड़की… (Pahla Affair: Neeli Chhatriwali Ladki)

प्रतिदिन वो नीली छतरीवाली लड़की घर के सामने से गुज़रती थी. किसी बच्चे को स्कूल बस तक छोड़ने के लिए चौराहे तक जाना उसका रोज़ का काम था. लेकिन आज पहली बार मेरी नज़र उसकी नज़र से टकरा गई. वो हौले से मुस्कुराई और आगे बढ़ गई. उसकी आंखों में ओस की बूंदों के समान चमक थी. मुस्कुराते हुए उसके लब ऐसे लग रहे थे मानो गुलाब की कई कलियां अभी-अभी खिली हों.

उसकी नाज़ुक-सी कलाई में एक ब्रेसलेट था, उसी हाथ से उसने छतरी को पकड़ रखा था, दूसरे हाथ की उंगली को बच्चे ने पकड़ रखा था. उसकी सुराहीदार गर्दन में कोई आभूषण नहीं था और सच पूछो तो उसे किसी आभूषण की ज़रूरत भी नहीं थी, बिन शृंगार के ही बेहद ख़ूबसूरत लगती थी वो. पैरों में सिंपल-सी चप्पल और हल्के रंग की सलवार-कुर्ती पहनकर आती थी वो. वेशभूषा भले ही साधारण थी उसकी, पर व्यक्तित्व असाधारण था. उसमें ग़ज़ब का आकर्षण था, एक कशिश थी, जो मुझे उसकी ओर खींच रही थी. वो किसी मत्स्यकन्या की तरह ख़ूबसूरत थी.

मैं उसके वापस लौटने का इंतज़ार करने लगा. कुछ देर बाद वह वापस लौटी. अब उसकी पलकें झुकी हुई थीं. लजाते हुए वो छुईमुई-सी प्रतीत हो रही थी. उसकी मासूम मुस्कान अब भी बनी हुई थी. उसे देखकर मेरे भीतर हज़ारों फूल खिल गए थे. यह पहली नज़र का प्यार नहीं तो और क्या था? मैंने घड़ी को देखा, तो दस बजने को थे. मैं अब रोज़ साढ़े नौ बजे से ही उसका इंतज़ार करने लगा था.

वो रोज़ मुस्कुराते हुए आती और चली जाती. मैं बस उसे देखता रह जाता. इतना ज़रूर समझ गया था कि वो भी मुझे पसंद तो करती थी, पर क्या प्यार भी करने लगी थी? सोचता था उसका नाम पूछूं, पर कभी हिम्मत ही नहीं जुटा पाया.

यह भी पढ़ें: पहला अफेयर: वो लड़की… (Pahla Affair: Wo Ladki)

यह सिलसिला कई दिनों तक चलता रहा, फिर अचानक उसका मेरी राह से गुज़रना बंद हो गया. मैं परेशान था. मोहल्ले से पता चला कि उसकी शादी तय हो चुकी है. समय बीतता गया, पर 7-8 महीनों बाद वो फिर दिखाई दी. कलाईभर की चूड़ियां पहने हुए थी वो. मांग में सिंदूर और गले में मंगलसूत्र था. लेकिन ये क्या… उसका सौदर्य यूं मुरझाया हुआ क्यों लग रहा था. उसके चहरे पर पहले-सी आभा नहीं थी. होंठ सूखे और मन उदास लग रहा था. बेहद कमज़ोर और थकी हुई लग रही थी. अब वो मुस्कुराती भी नहीं थी.

वो अक्सर मायके आया करती थी. सुनने में आता कि जाते समय वो मायके से ढेर सारा सामान ले जाया करती थी.

पर कई महीनों से उसके मायके आने का सिलसिला भी ख़त्म हो गया था. फिर एक दिन अचानक ख़बर मिली कि ससुराल ेमं उसकी जलने से मौत हो गई. क्या, कैसे और क्यों हुआ, कोई नहीं जानता… पर अंदाज़ा तो सबको है कि दहेज की बलि चढ़ चुकी थी वो.

इस दुनिया में अब वो नीली छतरीवाली लड़की नहीं है, लेकिन मुझे लगता है कि वो नीली छतरीवाली लड़की आज भी मुझे नीले आकाश से निहारती है और अब हमें कोई जुदा नहीं कर सकता.

– वैभव कोठारी

यह भी पढ़ें: पहला अफेयर: प्यार की परिभाषा (Pahla Affair: Pyar Ki Paribhasha)

सेक्स लाइफ का राशि कनेक्शन (What Does Your Zodiac Sign Say About Your Sex Life?)

आपकी राशि (Zodiac) आपका स्वभाव, पर्सनैलिटी, करियर और भविष्य ही नहीं बताती, बल्कि यह आपकी सेक्स लाइफ (Sex Life) के बारे में भी बहुत कुछ बताती है. जी हां, यकीन नहीं होता, तो अपनी राशि के बारे में पढ़कर देख लें, अपने आप यकीन हो जाएगा.

 Sex Life

 

मेष (20 मार्च-19 अप्रैल)

–     मेष राशिवाले स्वभाव से ऐडवेंचरस होते हैं और यह ऐडवेंचर इन्हें अपनी सेक्स लाइफ में भी पसंद है.

–     किसी का हो जाने की बजाय किसी को अपना बनाने में इन्हें ज़्यादा मज़ा आता है.

–     आमतौर पर सभी मेष राशिवाले थोड़े एग्रेसिव भी होते हैं, इसलिए इन्हें बहुत ज़्यादा ड्रामा और इमोशनल होना पसंद नहीं. सेक्स में भी ये यही पसंद करते हैं.

–     ये बहुत ही पैशनेट लवर्स होते हैं और एक बार जिसके साथ कमिटमेंट कर लेते हैं, तो पूरी ज़िंदगी के लिए उसके हो जाते हैं.

–     अपने पार्टनर को सेक्सी फील कराना इनके बाएं हाथ का काम है.

आइडियल पार्टनर: मेष, सिंह, कुंभ, तुला, मिथुन और धनु राशिवाले.

वृष (20 अप्रैल-20 मई)

–     सभी राशियों में से वृष राशिवाले सबसे सेंसुअल माने जाते हैं.

–     कमरे में मनमोहक ख़ुशबू हो, मदहोश कर देनेवाला संगीत और प्यार से छूकर दिल में उतर जानेवाला पार्टनर- ये इस राशिवालों का ड्रीम होता है.

–     स्वभाव से आलसी होने के कारण ये प्यार को पाने के लिए बहुत ज़्यादा मेहनत करने में विश्‍वास नहीं करते, बल्कि इन्हें यक़ीन होता है कि जब सही व़क्त आएगा, तो इनका पार्टनर इन्हें ख़ुद मिल जाएगा.

–     हालांकि रिश्तों को लेकर इनकी सोच काफ़ी प्रैक्टिकल होती है, पर अपने पार्टनर के लिए बहुत ज़्यादा पज़ेसिव होते हैं.

–     सेंसुअल होने के कारण इनकी लव लाइफ काफ़ी रोमांटिक होती है.

आइडियल पार्टनर: वृष, कन्या, मकर, कर्क, वृश्‍चिक और मीन राशिवाले.

मिथुन (21 मई-21 जून)   

–     मिथुन राशिवाले काफ़ी क्रिएटिव और ज़िंदादिल होते हैं, जो उनकी सेक्स लाइफ में भी साफ़ नज़र आता है.

–     ये अपनी सेक्स लाइफ को कभी बोरिंग नहीं होने देते. रूटीन से हटकर कुछ अलग करते रहना इन्हें बेहद प्रिय है.

–     सेक्सुअल लाइफ में एक्सपेरिमेंट करना इनका पैशन है.

–     सेक्सुअल रिलेशन के दौरान शरारतें और शरारती बातें इनकी पहचान है. यूं कहें तो इन्हें सेक्स के दौरान फनमेकिंग बहुत पसंद है.

–     वैसे तो ये स्वभाव से ही फ्लर्ट होते हैं, पर अपने पार्टनर को लेकर पज़ेसिव होते हैं.

–     सेक्स के दौरान इन्हें एनर्जी से भरपूर लवमेकिंग पसंद है. अपने पार्टनर से भी उसी उत्साह और उमंग की चाह रखते हैं.

आइडियल पार्टनर: मिथुन, तुला, कुंभ, मेष, सिंह और धनु राशिवाले.

कर्क (22 जून-22 जुलाई)  

–     स्वभाव से इमोशनल होने के कारण कर्क राशिवाले सेक्स लाइफ में भी इमोशंस पसंद करते हैं.

–     इनके लिए सेक्स एक प्राइवेट, इमोशनल और पैशनेट अफेयर है, जो दो लोगों को दिल से जोड़ता है और जहां दिखावे की कोई ज़रूरत नहीं.

–     ये काफ़ी सेंसुअल और क्रिएटिव लवर्स माने जाते हैं.

–     रंग-बिरंगे फ्लावर्स, एक ख़ूबसूरत-सा गिफ्ट या फिर प्यार से बनाया हुआ खाना इनके मूड को सेट करने के लिए परफेक्ट चॉइस है, क्योंकि जब ये रोमांटिक मूड में होते हैं, तो अपना बेस्ट परफॉर्मेंस देते हैं.

–    अपनी सेक्स लाइफ में भी कंफर्ट और सेफ्टी को ये बहुत महत्व देते हैं. जिसके साथ ये सेफ महसूस करते हैं, उसी के साथ अपने सेक्सुअल रिलेशनशिप को आगे बढ़ाते हैं.

आइडियल पार्टनर: कर्क, वृश्‍चिक, मीन, वृष, कन्या और मकर राशिवाले.

सिंह (23 जुलाई-22 अगस्त)    

–     सिंह राशिवाले अपने चार्म से किसी को भी अपना दीवाना बना सकते हैं. इनकी पर्सनैलिटी में वो चुंबकीय आकर्षण होता है, जिससे बिरले ही बच पाते हैं.

–     इनकी सेक्स ड्राइव काफ़ी स्ट्रॉन्ग होती है. बस, इन्हें पार्टनर में रोमांटिक केमिस्ट्री नज़र आनी चाहिए, फिर देखिए इनका कमाल.

–     अपने पार्टनर को रिझाना-सताना, फोरप्ले इन्हें बेहद पसंद होता है. उन पर अपना जादू चलाने के लिए ये उन्हें हर तरह से उत्तेजित करते हैं.

–     बेड में इन्हें फनमेकिंग और शरारतें पसंद हैं.

–     इन्हें सेक्सुअल फैंटसीज़ को जीना अच्छा लगता है, इसीलिए इनकी सेक्स लाइफ काफ़ी फिल्मी होती है.

आइडियल पार्टनर: सिंह, मेष, धनु, तुला और कुंभ राशिवाले.

कन्या (23 अगस्त-22 सितंबर)    

–     कन्या राशिवालों का एनर्जी लेवल काफ़ी हाई होता है. यही वजह है कि इनकी सेक्स लाइफ हमेशा हॉट और स्पाइसी बनी रहती है.

–     इन्हें रिश्ते में ईमानदारी बेहद पसंद है, इसलिए पार्टनर से उम्मीद करते हैं कि वो सेक्स लाइफ में धोखा बिल्कुल न करे.

–     इस राशिवालों की ख़ासियत है कि ये सामने से भोले-भाले दिखाई देते हैं, पर बेड में ऐसे बिल्कुल नहीं हैं. इनकी सेक्स लाइफ काफ़ी रोमांचक होती है.

–     स्वभाव से परफेक्शनिस्ट होने के कारण सेक्स लाइफ में भी इन्हें परफेक्शन पसंद है. सेक्सुअल रिलेशन से पहले शावर लेना, साफ़-सुथरा माहौल और हाइजीन का ये बेहद ध्यान रखते हैं.

आइडियल पार्टनर: वृष, कन्या, मकर, कर्क, वृश्‍चिक और मीन राशिवाले.

यह भी पढ़ें: क्या होती है सेक्सुअल फिटनेस? (What Is Sexual Fitness?)

 Zodiac Sex Life
तुला (23 सितंबर-22 अक्टूबर)      

–     तुला राशिवालों को हर ख़ूबसूरत चीज़ पसंद आती है और यह इनकी रोमांटिक सेक्स लाइफ में भी नज़र आता है.

–     ख़ूबसूरत और सेक्सी इनरवेयर, रोमांटिक म्यूज़िक और चॉकलेट्स इन्हें उत्तेजित करने के लिए परफेक्ट चॉइस हैं.

–     सेक्स लाइफ में रोमांस इनकी प्राथमिकता है. नॉटी बातें, छेड़छाड़ और फोरप्ले इनकी सेक्स लाइफ को बूस्ट करते हैं.

–     सेक्सुअल रिलेशन में ये अपने पार्टनर की इच्छाओं का पूरा ध्यान रखते हैं. पार्टनर को ख़ुश करने के लिए कुछ नया और क्रिएटिव भी करते रहते हैं.

–     इनकी सेक्स ड्राइव इतनी स्ट्रॉन्ग होती है कि एक दिन में ये तीन बार भी रिलेशन बना सकते हैं.

आइडियल पार्टनर: मिथुन, तुला, कुंभ, मेष, सिंह और धनु राशिवाले.

वृश्‍चिक (23 अक्टूबर-21 नवंबर)   

–     सभी राशियों में वृश्‍चिक राशिवाले सबसे सेक्सी माने जाते हैं. इतना ही नहीं, इस राशि की महिलाओं को ‘सेक्स गॉडेस’ भी कहा जाता है.

–     ये उम्मीद करते हैं कि सेक्सुअल रिलेशन के दौरान इन्हें संतुष्ट करने के लिए इनका पार्टनर सब कुछ ट्राई करे.

–     अपने स्वभाव के कारण बेड में भी ये काफ़ी डॉमिनेटिंग होते हैं.

–     अगर आपका पार्टनर वृश्‍चिक राशिवाला है, तो आप नकली ऑर्गैज़्म से उन्हें संतुष्ट नहीं कर सकते, क्योंकि इस मामले में ये काफ़ी स्मार्ट होते हैं.

–     इनके लिए शारीरिक संबंध से पहले स्ट्रॉन्ग इमोशनल कनेक्शन बेहद ज़रूरी है.

आइडियल पार्टनर: कर्क, वृश्‍चिक, मीन, वृष, कन्या और मकर राशिवाले.

धनु (22 नवंबर-21 दिसंबर)

–     इस राशिवालों के लिए रोमांस का मतलब अपने पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिताना है. इस टाइम को ये मस्ती से भरपूर बनाने की पूरी कोशिश करते हैं.

–     इमोशनल रिलेशन की बजाय ये क्वालिटी टाइम में विश्‍वास रखते हैं, इसलिए इनकी सेक्स लाइफ काफ़ी प्रैक्टिकल होती है.

–     सेक्सुअल लाइफ में इन्हें फ्रीडम और ऐडवेंचर बेहद पसंद है. घर की चार दीवारों के अलावा पब्लिक प्लेसेस पर रोमांस करना इनका शग़ल है.

–     ये फनलविंग होते हैं, इसलिए सेक्सुअल रिलेशन को काफ़ी मज़ेदार बनाते हैं.

–     अगर आपका पार्टनर इस राशि का है, तो आपकी सक्सेसफुल सेक्स लाइफ का एक ही मंत्र होगा कि आप पज़ेसिव होने से बचें.

आइडियल पार्टनर: मेष, सिंह, धनु, मिथुन, तुला और कुंभ राशिवाले.

मकर (22 दिसंबर-19 जनवरी)

–    वृश्‍चिक राशिवालों की ही तरह मकर राशिवाले भी काफ़ी सेंसुअल और रोमांटिक माने जाते हैं.

–     इनके मुताबिक़ पैर और घुटने इनके शरीर के सबसे कामोत्तेजक अंग हैं और इन्हें उत्तेजित करना काफ़ी आसान है.

–     सभी को लगता है कि इस राशिवाले शर्मीले होते हैं, पर ऐसा है नहीं. एक बार अपने पार्टनर से दिल से जुड़ जाएं, फिर देखिए इनका कमाल.

–     ये काफ़ी प्रोटेक्टिव स्वभाव के होते हैं, इसलिए पब्लिक प्लेस की बजाय बेडरूम में रोमांस फरमाना पसंद करते हैं.

–     इनका सेक्सुअल स्टैमिना बेहतरीन होता है, तभी तो अपने साथ-साथ अपने पार्टनर को भी संतुष्ट करना अच्छी तरह जानते हैं.

आइडियल पार्टनर: वृष, कन्या, मकर, कर्क, वृश्‍चिक और मीन राशिवाले.

कुंभ (20 जनवरी-18 फरवरी) 

–     कुंभ राशिवाले बुद्धिमान और आदर्शवादी माने जाते हैं और बात जब सेक्स लाइफ की हो, तो यहां भी वफ़ादारी के मामले में ये सभी राशियों से बाज़ी मार ले जाते हैं.

–     लव लाइफ में इनकी कल्पनाशक्ति कमाल की होती है. इनके पार्टनर इनकी इमैजिनेशन की दाद देते हैं.

–     सेक्स लाइफ में कुछ नया और एक्साइटिंग करना इन्हें अच्छा लगता है, इसलिए अगर आपका पार्टनर इस राशि का है, तो आप भी कई सरप्राइज़ेस के लिए तैयार रहें.

–     इनकी सेक्स लाइफ काफ़ी रोमांचक होती है, क्योंकि ये बेड में कुछ न कुछ नया ट्राई करना पसंद करते हैं.

आइडियल पार्टनर: मिथुन, तुला, कुंभ, मेष, सिंह और धनु राशिवाले.

मीन (19 फरवरी-19 मार्च)

–    इस राशिवालों के लिए सेक्स का मतलब प्यार है, तभी तो इनकी सेक्स लाइफ रोमांस से भरपूर होती है.

–     ये काफ़ी पैशनेट लवर्स माने जाते हैं और अपनी ख़ुशी से ज़्यादा अपने पार्टनर की ख़ुशी का ख़्याल रहते हैं.

–     मीन राशिवालों में एक ग़ज़ब का चुंबकीय आकर्षण होता है, जिसके कारण बहुत से लोग इनकी मनमोहक छवि के आकर्षण में बंध जाते हैं.

–    इनके लिए किसिंग और हगिंग सेक्सुअल रिलेशन से भी ज़्यादा मायने रखती है.

–     पार्टनर की सेक्सुअल फैंटसीज़ को पूरा करने के लिए कुछ न कुछ नया करते हैं.

आइडियल पार्टनर: कर्क, वृश्‍चिक, मीन, वृष, कन्या और मकर राशिवाले.

– संतारा सिंह

यह भी पढ़ें: रोमांटिक लाइफ के लिए अपनाएं ये १२ सेक्स टिप्स (12 Sex Tips For Romantic Life)

रिश्तों में बढ़ रहा है जासूसी का चलन (Why People Are Hiring Detectives To Spy On Their Loved Ones)

Detective Rajani Pandit

जनम-जनम का बंधन कहा जाने वाला शादी का रिश्ता कई बार कुछ क़दम भी साथ नहीं चल पाता… कई बार बाद में पता चलता है कि ये शादी नहीं साजिश थी… शादी जैसे पवित्र रिश्ते में जब मिलता है धोखा, तो क्या होता है… ऐसे ही कुछ पेचीदा सवालों के जवाब जानने के लिए हम मिले देश की पहली महिला जासूस रजनी पंडित (Detective Rajani Pandit) से. रजनी पंडित (Detective Rajani Pandit) ने हमें बताया कि रिश्तों में बढ़ती धोखाधड़ी के कारण अब रिश्तों में जासूसी का ट्रेंड बढ़ गया है. जब रिश्ते में कहीं कोई गड़बड़ी नज़र आने लगती है, तो लोग उसकी सच्चाई जानने के लिए जासूसी का सहारा लेते हैं.

Detective Rajani Pandit

क्यों बढ़ रही है रिश्तों में जासूसी?
डिटेक्टिव रजनी पंडित (Detective Rajani Pandit) के अनुसार, कई लोग अपने रिश्तों के प्रति ईमानदार नहीं होते. उन्हें किसी की भावनाओं से कोई लेना देना नहीं होता. वो बड़ी ख़ामोशी से अपने रिश्तों को धोखा देते रहते हैं. लेकिन जब उन पर शक की सूई घूमने लगती है, तो सच्चाई उजागर करने के लिए जासूसी का सहारा लिया जाता है. डिटेक्टिव रजनी पंडित ने हमारे साथ रिश्तों में जासूसी के कुछ अजीबोगरीब केस कुछ इस तरह शेयर किए:

Detective Rajani Pandit

सोशल मीडिया का प्यार
62 वर्ष की एक बुजुर्ग महिला के पति का देहांत हो चुका था. फिर सोशल मीडिया पर अपने हमउम्र एक विदेश में रहने वाले पुरुष से उनकी दोस्ती हो गई. दोनों घंटों चैट करते रहते थे. विदेश में रहनेवाले उस पुरुष ने बताया कि उसका वहां बहुत बड़ा बिज़नेस है, लेकिन बच्चे अपनी दुनिया में व्यस्त रहते हैं इसलिए वो बहुत अकेलापन महसूस करते हैं. महिला की स्थिति भी कुछ ऐसी ही थी, उनके बच्चे विदेश में रहते थे इसलिए उनकी ज़िंदगी में भी बहुत अकेलापन था. जल्दी ही दोनों को महसूस होने लगा कि अब उन्हें साथ रहना चाहिए. महिला उनके साथ काफ़ी जुड़ाव महसूस करने लगी थी. वो उनके लिए काफ़ी महंगे गिफ्ट भी भेजा करती थी.
हां, जब बदले में उसे कोई गिफ्ट न मिलता तो उसे अजीब ज़रूर लगता, लेकिन उन्होंने सोचा, हर किसी का अपना स्वभाव होता है. शायद उन्हें गिफ्ट लेना-देना पसंद न हो. फिर एक बार पुरुष ने कहा कि वो उनसे मिलने इंडिया आ रहे हैं. वो उनसे मिलने के लिए बहुत ख़ुश थीं. फिर पुरुष ने उनसे एक बड़ा अमाउंट बैंक से निकालकर रखने को कहा. पूछने पर कहा कि मेरे लिए इतना अमाउंट यहां से लाना मुश्किल है इसलिए फिलहाल तुम निकाल लो. बाद में मैं तुम्हारे अकाउंट में ट्रांसफर कर दूंगा.

…और फिर शुरू हुई जासूसी
उन्हें ये बात बड़ी अजीब लगी कि इतना बड़ा बिज़नेसमैन पैसे क्यों नहीं ला सकता. उन्हें शक हुआ, तो उन्होंने ये बात डिटेक्टिव रजनी पंडित से शेयर की. जब रजनी की टीम ने उनकी छानबीन की, तो पता चला सोशल मीडिया पर जो फोटो थी, उससे इस आदमी का चेहरा मैच नहीं करता. वो 30-35 साल का युवा था और उसने उस बुजुर्ग महिला से पैसे ऐंठने के लिए वो फोटो लगा रखी थी.

क्या सबक लें?
अगर सही समय पर वो सतर्क न होतीं, तो वो उन्हें बेवकूफ़ बनाकर उनसे न जाने कितने पैसे ठग लेता. रजनी पंडित की टीम ने उस महिला से कहा कि आप उस आदमी की पुलिस कंप्लेंट करो, लेकिन उन्होंने ये कहकर मना कर दिया कि मेरे बेटे-बहू के सामने मेरी बेइज़्ज़ती हो जाएगी. इसलिए उन्होंने बात को वहीं दबा दिया. समाज के डर से महिलाएं आगे नहीं आतीं, अपने हक़ के लिए आवाज़ नहीं उठातीं, इसीलिए दोषियों का हौसला बढ़ता है और वे बार-बार क्राइम (अपराध) करते हैं.

यह भी पढ़ें: रिश्तों को आजकल हुआ क्या है? (What Is Wrong With Relationship These Days?)

 

लव, शादी और धोखा
अभिषेक का तलाक़ हो चुका था इसलिए माता-पिता ने उसके लिए दूसरी लड़की ढूंढ़ी और सबकी रजामंदी से उसकी दूसरी शादी हो गई. शादी के कुछ ही समय बाद अभिषेक को अपनी पत्नी के अ़फेयर की बात पता चली. सुनकर वो हैरान रह गया. उसने पत्नी से जब इस बारे में बात की, तो पत्नी ने कहा कि उसने माता-पिता के प्रेशर में आकर उससे शादी की, उसका शादी से पहले ही अफेयर चल रहा है. उसने अभिषेक से कहा कि वो उससे तलाक़ चाहती है. पत्नी की बातें सुनकर अभिषेक और परेशान हो गया. उसे समझ नहीं आ रहा था कि वो क्या करे. क्या वो एक बार फिर से तलाक़ ले? लेकिन बार-बार तलाक़ लेने से लोग उसे ही दोषी समझेंगे, ये सोचकर अभिषेक ने चुप रहना ही सही समझा.

…और फिर शुरू हुई जासूसी
पत्नी की हरकतें जब हद से ज़्यादा बढ़ने लगीं, तो अभिषेक ने जासूस रजनी पंडित से कॉन्टेक्ट किया. अभिषेक की पत्नी की जासूसी करने से पता चला कि उसका बॉयफ्रेंड बहुत नशा करता है और उससे अक्सर पैसे मांगता है. वो उसे अभिषेक से तलाक लेकर मोटी रकम बसूलने को कहता है.

क्या सबक लें?
सोच-समझकर रिश्ता तय करें. शादी के बाद तलाक लेने में बहुत मुश्किल होती है, दोनों परिवार डिस्टर्ब हो जाते हैं इसलिए शादी तय करते समय दोनों पक्षों पूरी जांच-पड़ताल कर लें.

Detective Rajani Pandit

जब टूटता है विश्‍वास
शाह परिवार को बहू के रूप में रुचिता बहुत पसंद थी. हां, रुचिता का मोटापा उनकी चिंता का कारण था, लेकिन उन्हें उसका व्यवहार इतना पसंद था कि उन्होंने शादी से पहले उसका वेट लॉस ट्रीटमेंट करवाया, ताकि उनके घर आकर या उनके रिश्तेदारों के बीच उठने-बैठने में उसे किसी तरह हीनभावना न हो. रुचिता ने भी ससुराल वालों के अनुरूप ख़ुद का मेकओवर किया. उसने फैशन डिज़ाइनिंग का कोर्स किया था इसलिए ससुराल वालों ने उसे बुटीक खोलकर दिया. लेकिन मेकओवर के बाद रुचिता का कॉन्फिडेंस इतना ज़्यादा बढ़ गया कि वो न स़िर्फ ज़रूरत से ज़्यादा छोटे कपड़े पहनने लगी, बल्कि शराब भी पीने लगी थी. साथ ही वो काम का हवाला देकर देर रात घर आने लगी.

…और फिर शुरू हुई जासूसी
बहू में आये इस बदलाव को देखकर ससुराल वालों को शक हुआ और उन्होंने रुचिता की जासूसी करवाई. तब पता चला कि उसकी दोस्ती अच्छे लोगों के साथ नहीं है. वो देर रात तक ऐसे लोगों के साथ घूमती-फिरती है, जिनके लिए रोज़ पार्टी, शराब और जिस्मानी रिश्ता आम बात है.

क्या सबक लें?
किसी पर भी आंख मूंदकर विश्‍वास न करें. यदि परिवार के किसी सदस्य में अचानक ऐसे बदलाव नज़र आएं, जो अजीबोगरीब हों, तो इस बात को नज़रअंदाज़ न करें. इससे पहले कि बहुत देर हो जाए, सचेत होना ज़रूरी है.

यह भी पढ़ें: रिश्ते में बर्दाश्त न करें ये 10 बातें (10 Things Never Adjust In A Relationship)

 

जब बीवी करे ब्लैकमेल
वैभव शादी के बाद बीवी को लेकर विदेश गया. कुछ समय तक तो सबकुछ नॉर्मल था. नियमित रूप से वो अपने माता-पिता को इंडिया में फोन करता था, फिर अचानक सब बंद हो गया. वैभव कहां है, क्या कर रहा है, उसकी पत्नी कैसी है… कोई ख़बर नहीं.

…और फिर शुरू हुई जासूसी
जब बेटे की कोई ख़बर न मिली, तो वैभव के माता-पिता ने जासूस रजनी पंडित की टीम से उसके बारे में पता करने को कहा. रजनी पंडित की टीम ने जब वहां जाकर पता किया तो पता चला कि वैभव अपने माता-पिता को भी अपने साथ बुलाना चाहता था. उनके पेपरवर्क की तैयारी कर रहा था, लेकिन उसकी बीवी ऐसा नहीं चाहती थी इसलिए उसने वैभव को धमकी दी कि यदि उसने अपने पैरेंट्स को बुलाया, तो वो उसे तलाक़ दे देगी. पत्नी के डर से वैभव ने घर फोन करना ही छोड़ दिया.

क्या सबक लें?
डरकर न रहें. अपनी बात परिवार के साथ शेयर करें. यदि आपका पति या पत्नी आप पर ग़लत काम के लिए दबाव डालें, तो पहले उन्हें समझाने की कोशिश करें. इससे भी बात न बने, तो काउंसलर या एक्सपर्ट का सहारा लें.

रिश्तों में जासूसी के ऐसे कई केस अब एक्सपर्ट्स के पास आ रहे हैं और रिश्तों में जासूसी के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. बदलती लाइफ स्टाइल ने रिश्तों के मायने बदल दिए हैं. अब रिश्तों में न पहले जैसा समर्पण नज़र आता है और न विश्‍वास इसीलिए रिश्तों में जासूसी का ट्रेंड बढ़ रहा है.

– कमला बडोनी