Mahima Chaudhary

क्या आपको शाहरुख खान की फिल्म ‘परदेस’ याद है? जब शाहरुख खान ने कहा कि जरा तस्वीर से तू निकल के सामने आ….तो सामने आया एक ऐसा खूबसूरत चेहरा जिसने रातोंरात दर्शकों को दीवाना बना लिया. ये चेहरा था महिमा चौधरी का… महिमा यानी वो एक्ट्रेस जिसे सुभाष घई ने 3000 लड़कियों के ऑडिशन के बाद सेलेक्ट किया था, जिसेअपनी पहली फिल्म के लिए ही बेस्ट डेब्यू एक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला था. वो एक्ट्रेस जिसकी एक्टिंग से लेकर स्माइल तक की तुलना माधुरी दीक्षित से होने लगी थी और जिसे एक ही फ़िल्म ने लाखों दिलों की धड़कन बना डाला था.

Mahima Chaudhary


सुभाष घई द्वारा निर्देशित इस मूवी से वो रातों-रात स्टार बन गई थीं. मगर इस मूवी के रिलीज़ होने के कुछ साल बाद वो लाइम लाइट से दूर हो गई थीं, उनके फैन्स समझ ही नहीं पाए कि आखिर ऐसा क्या हुआ कि वो फिल्मों से एकदम ही गायब हो गईं, लेकिन अब जाकर महिमा ने खुलासा किया है कि एक भयंकर एक्सीडेंट का शिकार होने की वजह से उन्हें फिल्मों से दूर होना पड़ा.

इस दर्दनाक हादसे ने बदल दी पूरी ज़िंदगी

Mahima Chaudhary


हाल ही में एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में महिमा ने उस हादसे के बारे में खुलासा किया जिसने सब कुछ बदलकर रख दिया. महिमा ने बताया कि लोग आज लॉकडाउन में रह रहे हैं, पर उन्हें तो सालों पहले काफी लंबे अर्से तक लॉकडाउन में रहना पड़ा था. ”ये साल 1999 की बात है. मैं प्रकाश झा के साथ अजय देवगन और काजोल की होम प्रोडक्शन फिल्म ‘दिल क्या करे’ की बेंगलुरु में शूटिंग कर रही थी. मैं स्टूडियो जा रही थी कि अचानक एक ट्रक ने मेरी कार को जबरदस्त टक्कर मार दी. ये टक्कर इतनी भयंकर थी कि गाड़ी के कांच के टुकड़े टुकड़े हो गए. उस वक्त मुझे अपनी आंखों के सामने मौत नज़र आ रही थी और लग रहा था कि मैं मरने वाली हूं.
एक्सीडेंट इतना भयानक था लेकिन कोई मदद को आगे नहीं आ रहा था. मुझे हॉस्पिटल ले जाया गया. हॉस्पिटल पहुंचने के बाद जब मेरी मां और अजय आए तो दोनों आपस में कुछ बातें करने लगे. मुझे कुछ गड़बड़ लगी. मैं फिर उठी और मिरर में अपना चेहरा देखा. अपना चेहरा देखकर मैं सच में डर गई थी. मेरे पूरे चेहरे पर कांच धँसे हुए थे. आखिर मेरे चेहरे की सर्जरी हुई और डॉक्टर्स ने मेरे चेहरे से 67 कांच के टुकड़े निकाले.”

कई महीनों तक नहीं देखा अपना चेहरा

Mahima Chaudhary

महिमा ने बताया कि सर्जरी के बाद उन्हें ठीक होने में बहुत लंबा समय लगा. ”आज भी जब कभी मैं उस हादसे को याद करती हूं तो रूह कांप जाती है मेरी. मेरे पूरे चेहरे पर स्टिचेस और स्टेपल थे. मुझे घर के अंदर रहना पड़ता था, डॉक्टरों ने कहा था धूप से बचना होगा मुझे. मेरा कमरा पूरी तरह से डार्क होता था. मुझे याद है, मैंने लम्बे समय तक खुद को देखा तक नहीं था. मैंने अपने कमरे में कोई मिरर नहीं रखा था, ताकि खुद को देख ही न पाऊं.”

करियर हो गया था बर्बाद

Mahima Chaudhary

इस घटना से महिमा का पूरा करियर बर्बाद हो गया. वह कहती हैं कि उस दौरान उनके पास कई फिल्में थीं, जिसकी शूटिंग वो शुरू ही करने वाली थी, ”लेकिन मुझे वो सारी फिल्में छोड़नी पड़ीं. मैंने इस एक्सीडेंट का ज़िक्र तक किसी से नहीं किया, क्योंकि मुझे डर था कि जब लोगों को पता चलेगा तो वो सोचेंगे कि अब तो इसका चेहरा खराब हो चुका है, क्योंकि उस समय लोग सपोर्टिव नहीं थे, जितने आज हैं. आखिर मैंने फिल्मों से दूरी बना ली और लोगों से छिपती रही. लेकिन मेरे परिवार ने ऐसे मुश्किल समय में मुझे हिम्मत दी और संभाला.”

फिल्में मिलनी ही बंद हो गईं

Mahima Chaudhary

इस हादसे के काफ़ी समय बाद फ़िल्म ‘प्यार कोई खेल नहीं’ में सनी देओल के साथ उन्होंने एक गाना शूट किया था. अक्षय कुमार ने भी अपनी फ़िल्म ‘धड़कन’ में कैमियो रोल करने का मौक़ा दिया था. लेकिन एक समय के बाद उन्हें अच्छी फिल्मों के ऑफर मिलने ही बंद हो गए जिस वजह से उन्होंने बॉलीवुड से दूरी बना ली. हालांकि महिमा आज भी फिल्मों में कमबैक करना चाहती हैं. उनका कहना है कि अगर उन्हें ‘तुम्हारी सुलू’ जैसी फिल्मों के ऑफर मिलें तो वो ज़रूर करना चाहेंगी.

बता दें कि महिमा चौधरी ने अपने करियर में ‘दाग: द फायर’, ‘प्यार कोई खेल नहीं’, ‘धड़कन’, ‘दीवाने’, ‘कुरुक्षेत्र’, ‘ओम जय जगदीश’ और ‘दिल है तुम्हारा’ जैसी कई फिल्मों में यादगार भूमिकाएं निभाई थीं और अपनी खूबसूरती और एक्टिंग से दर्शकों के दिलों में खास जगह बना ली थी.

एक बेहद खूबसूरत बेटी की मां हैं
बता दें कि महिमा ने साल 2006 में बॉबी मुखर्जी से शादी की थी. लेकिन शादी के 7 साल बाद दोनों अलग हो गए. दोनों की एक बेटी है अरियाना, जो महिमा के साथ रहती है. इससे पहले महिमा टेनिस प्लेयर लिएंडर पेस के साथ भी रिलेशनशिप में रही हैं.

Mahima Chaudhary