Migrant worker

कोरोना महामारी की मार पूरे देश में पड़ रही है, लेकिन सबसे ज़्यादा बुरी हालत मुम्बई की है. मुम्बई जैसे बड़े शहर में अनेक राज्यों से आनेवाले मजदूरों की मुसीबतें सबसे ज़्यादा हैं. बड़ी संख्या में मजदूर मुंबई शहर में फंसे हैं ऐसे में बॉलीवुड एक्टर सोनू सून उनके लिए आगे आए हैं. सोनू ने प्रवासी मजदूरों को उनके गांव पहुंचाने के लिए बस की सुविधा की. इसके साथ ही सोनू सूद ने खाने पीने की व्यवस्था की और ट्रांसपोर्ट का पूरा खर्च उठाया.

सोनू सूद ने मुंबई से कर्नाटक के लिए कुल 10 बसों का इंतज़ाम किया. मजदूरों को मुंबई से कर्नाटक के गुलबर्ग ले जाने के लिए उन्होंने महाराष्ट्र सरकार और कर्नाटक सरकार से सारी ज़रूरी कार्यवाही पूरी की. सारा डॉक्यूमेंटेशन हो जाने के बाद उन्होंने 10 बसों से प्रवासी मजदूरों को रवाना किया. सोनू सूद ने कहा कि इस वैश्विक महामारी और संकट की घड़ी में मुझे लगता है हर किसी को अधिकार है कि वह अपने परिवार के साथ रहे. इसीलिए उन्होंने मजदूरों को उनके घर पहुंचाने में मदद की.

Sonu Sood Arranges Transport For Mumbai's Migrant Workers

सोनू सूद ने यह भी बताया कि इस पूरी प्रक्रिया को पूरा करने में महाराष्ट्र और कर्नाटक दोनों सरकारों की तरफ़ से उन्हें काफ़ी सहयोग मिला. राज्य सरकारों ने अपने स्तर पर सभी कागज़ी कार्यवाही जल्दी की, वहीं कर्नाटक सरकार ने उन प्रवासी मजदूरों का खुले दिल से स्वागत किया. इसके अलावा सोनू सूद ने मुंबई के डॉक्टरों को 1500 पीपीई किट डोनेट किए. सोनू सूद ने मुंबई स्थित अपने होटल को भी मजदूरों और हेल्थ वर्कर्स के लिए खोल दिया था. हेल्थ वर्कर्स इनके होटल में आराम करने के लिए आ रहे हैं. रमजान के पाक महीने में उन्होंने भिवंडी के बहुत से ज़रूरतमंद लोगों को खाना भी खिलाया. कोरोना महामारी के इस संकट की घड़ी में सोनू सूद औरों के लिए एक मिसाल हैं. सभी मजदूरों ने उनकी नेकदिली के लिए उन्हें ढेरों आशीर्वाद और शुभकामनायें दीं.

– अनीता सिंह

यह भी पढ़ें: 10 बॉलीवुड स्टार्स जिन्हें सीरियस क्राइम के लिए जेल जाना पड़ा (10 Bollywood Stars Who Went To Jail For Serious Crimes)