NASA

Sushant Singh Rajput to Play Astronaut

सुशांत सिंह राजपूत अब आंतरिक्ष में जाने के लिए तैयार हैं. सुशांत इसके लिए नासा में ख़ास ट्रेनिंग भी ले रहे हैं. एस्ट्रोनॉट बनने की ये तैयारी सुशांत कर रहे हैं अपनी अगली फिल्म चंदा मामा दूर के लिए, जो कि एक साइंस फिक्शन फिल्म होगी. आइफा अटेंड करने के बाद सुशांत न्यूयॉर्क से सीधे वाशिंगटन डीसी चले गए, जहां नासा में वो आंतरिक्ष यात्री बनने की बारीक़ियां सीख रहे हैं.

Sushant Singh Rajput to Play Astronaut

नासा से कुछ तस्वीरें भी सुशांत ने टि्वटर पर पोस्ट की थी. एक तस्वीर में वो आंतरिक्ष यात्री की ड्रेस में नज़र आ रहे हैं, तो वबीं एक पिक्चर में उन्होंने हाथों में टॉय रॉकेट थाम रखा है.

यह भी पढ़ें: Fresh! डबल मीनिंग से भरपूर ‘शुभ मंगल सावधान’ का Funny ट्रेलर रिलीज़! 

Pictures! सना खान की बैकलेस ड्रेस की वजह से शरमा गए सलमान खान, ऐसे लगाया गले

Sushant Singh Rajput to Play Astronaut

ख़बरे हैं कि फिल्म में नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी और आर माधवन भी होंगे. चंदा मामा दूर के अगले साल 26 जनवरी पर रिलीज़ होगी.Sushant Singh Rajput to Play Astronaut

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें. 

Shawna-Pandya3

* डॉ. शावना पांड्या स्पेस में उड़ान भरनेवाली तीसरी भारतीय महिला बन गई हैं.
* इसके पहले कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स ने यह उपलब्धि हासिल की थी.
* नासा ने 2018 के अपने स्पेस मिशन के लिए सीएसए (सिटीज़न साइंस एस्ट्रोनॉट) प्रोग्राम के तहत 3200 लोगों में से दो लोगों को चुना, जिनमें से एक शावना हैं.
* उन्होंने सीएसए में सबसे अधिक स्कोर किया था.
* इस स्पेस मिशन में क़रीब 120 लोग हिस्सा लेंगे.
* वे वहां पर बायो मेडिसिन व मेडिकल साइंस के एक्सपेरिमेंट्स करेंगे.
* इस प्रोजेक्ट का नाम पोस्सम (POSSUM- Polar Suborbital Science in the Upper Mesosphere)  है. इसमें क्लाइमेट चेंज पर स्टडी की जाएगी.
* 32 साल की न्यूरो सर्जन डॉ. शावना कनाडा के अल्बर्टा यूनिवसिर्टी हास्पिटल में जनरल फिजिशियन हैं.
* वे मूल रूप से मुंबई की हैं और उनका परिवार यहीं पर रहता है.
* शावना एस्ट्रोनॉट व डॉक्टर के अलावा, राइटर, ताइक्वांडो की इंटरनेशनल चैंपियन व ओपेरा सिंगर भी हैं.
* उन्होंने नेवी सील की ट्रेनिंग भी ले रखी है.
* उन्हें मेडिसिन फील्ड से बेहद लगाव है.
* शावना ने यूनिवर्सिटी ऑफ अल्बर्टा से न्यूरो साइंस में बीएसई और मेडिसिन में एमडी की डिग्री ली है.
* साथ ही इंटरनेशनल स्पेस यूनिवर्सिटी से स्पेस साइंस में एमएसई किया है.
* अंग्रेज़ी के अलावा हिंदी और फ्रेंच लैंग्वेज पर भी उनकी अच्छी पकड़ है.
* वे बचपन से ही सुपरहीरो और एस्ट्रोनॉट बनना चाहती थीं. आख़िरकार उनका सपना पूरा हुआ.
– ऊषा गुप्ता