natural tips

* शाम को भूख लगने पर भरपेट पपीता खाएं. इसमें कैलोरी कम और फाइबर ज़्यादा होता है.
* रात के खाने में रागी की रोटी खाएं. इसमें भरपूर मात्रा में न्यूट्रिएंट्स होते हैं और कैलोरी बहुत कम होती है.
* दालचीनी, लाल मिर्च, कालीमिर्च, अदरक, सरसों आदि मसाले वज़न घटाने में सहायक हैं इसलिए इनका सेवन भी कर सकती हैं.
* पपीता, अनन्नास, सेब, अमरूद, अंगूर, पीच आदि फल भी वज़न कम करने में सहायक हैं.

यह भी पढ़ें: Fat To Fit: 8 हफ़्तों में वज़न घटाएं- नज़र आएं स्लिम-ट्रिम

यह भी पढ़ें: 5 ईज़ी एक्सरसाइज़ फॉर फ्लैट टमी

किस समय क्या खाएं?
डायटिंग का पहला मंत्र है दिनभर में थोड़ा-थोड़ा खाना. इससे भूख भी नहीं लगती और वज़न भी कम होता है इसलिए पूरे दिनभर में 5 बार खाएं. साथ ही यह भी देखें कि आप किस समय क्या खा रही हैं.

सुबह का नाश्ता
अंकुरित अनाज, गाय का दूध, अंडे, नट्स आदि को अपने सुबह के नाश्ते में शामिल करें. इडली, डोसा, पोहा आदि भी ले सकती हैं.

मिड मील
नाश्ता व दोपहर के खाने के बीच में जब थोड़ी भूख होती है, उस समय मौसमी फल खाने चाहिए. ये आपको एनर्जी के साथ-साथ विटामिन्स और मिनरल्स भी प्रदान करते हैं, जिससे रोग-प्रतिरोधक शक्ति भी बढ़ती है. फलों के नियमित सेवन से आपको कम कैलोरी में सभी न्यूट्रीएंट्स मिल जाते हैं और ये वज़न कम करने में मददगार होते हैं.

दोपहर का खाना
इसमें ज्वारी, बाजरा, नाचनी से बनी रोटी का समावेश करें. हरी सब्ज़ियां व सभी प्रकार की दालों का भी समावेश किया जाना चाहिए. साथ ही सलाद भी खाएं. कैलोरीज़ कम करने के लिए रोटी में घी न लगाएं. सब्ज़ियों व दाल में भी कम घी/तेल का तड़का लगाएं. मसाले जैसे हल्दी, कालीमिर्च, हींग आदि के प्रयोग से भोजन को स्वादिष्ट बनाया जा सकता है. इन मसालों से शरीर का मेटाबॉलिज़्म भी बढ़ता है, जिससे वज़न कम होने में मदद मिलती है.

शाम का नाश्ता
इस समय नारियल पानी, छाछ या दही लिया जा सकता है. भूने हुए चने, ब्राउन ब्रेड सैंडविच, फ्रूट आदि भी ले सकती हैं.

रात का खाना
रात को हल्का खाना जैसे- सूप, सलाद, खिचड़ी आदि लेने से वज़न कम होता है. रात के खाने और सोने में लगभग 3 घंटे का अंतर होना चाहिए.

यह भी पढ़ें: वज़न घटाने के 25 ईज़ी टिप्स

यह भी पढ़ें: हेल्दी लाइफ के लिए करें सूर्यनमस्कार

 

हर बीमारी का आयुर्वेदिक उपचार  उपाय जानने के लिए इंस्टॉल करे मेरी सहेली आयुर्वेदिक होम रेमेडीज़ ऐप

अनहेल्दी खान-पान, केमिकल युक्त हेयर प्रॉडक्ट्स के इस्तेमाल और ठीक तरह से सफ़ाई न करने से आजकल असमय बाल सफ़ेद हो रहे हैं. इस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं 5 आसान होम रेमेडीज़.

shutterstock_140195281

* ताज़ा आंवलों को पीसकर पेस्ट बनाएं व बालों पर लगाएं या सूखे आंवले के पाउडर को पानी में मिलाकर सिर पर मसाज करें. इससे बाल ज़्यादा दिनों तक काले रहते हैं.
* चायपत्ती को पानी में उबालकर छान लें. इस पानी से बालों की जड़ों पर मसाज करें. 1 घंटे बाद धो दें. इससे बालों पर कलर कोट बनता है और वे स़फेद नहीं दिखते.
* बालों की जड़ों पर नारियल तेल (नींबू सहित), बादाम तेल या सरसों के तेल से मसाज करें. इससे बालों के सफ़ेद होने की गति कम होती है.
* नारियल तेल में करीपत्ता डालकर उबालें. इसे बालों पर लगाएं.
* खाने में मछली, केला, गाजर आदि को शामिल करें. येे शरीर को आयरन और आयोडीन प्रदान करते हैं.

shutterstock_59787685

ख़ूबसूरत बालों के लिए घरेलू नुस्ख़े
* बालों को सही पोषण देने के लिए सप्ताह में 2 बार गुनगुने तेल से मसाज करें. ऑयल मसाज से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है, साथ ही उचित पोषण भी मिलता है.
* बाल धोने से 2-3 घंटे पहले नारियल के गुनगुने तेल से मसाज करें. फिर गर्म पानी में डुबोकर निचोड़े हुए तौलिए से बालों को लपेटकर रखें. एक-डेढ़ घंटे बाद धो लें.
* 1 टीस्पून ग्लिसरीन, एक अंडे की स़फेदी और 2 टीस्पून कैस्टर ऑयल- तीनों को मिलाकर बालों की जड़ों में लगाएं. एक-डेढ़ घंटे बाद बाल धो लें.
* बालों की डीप कंडीशनिंग के लिए दही, बीयर और अंडे का प्रयोग करें.
* बालों को हेल्दी बनाने के लिए खाना सनफ्लावर ऑयल में पकाएं. सनफ्लावर ऑयल में एसेंशियल फैटी एसिड होता है, जो बालों को नमी प्रदान करता है.
* बालों की अच्छी ग्रोथ के लिए कैस्टर ऑयल (एरंडी का तेल) लगाएं. कैस्टर ऑयल हेयर टॉनिक का काम करता है.
* सनफ्लावर ऑयल से बालों की जड़ों में मसाज करने से बालों का रूखापन दूर होता है.
* बालों में चमक लाने के लिए 2 टीस्पून मेहंदी पाउडर में 1 टीस्पून दही, 1 टीस्पून मेथीदाना पाउडर, 1 टेबलस्पून कॉफी, 2 टेबल्सपून पुदीने का रस, 2 टेबलस्पून तुलसी का रस मिलाकर पेस्ट बनाएं और 2 घंटे तक बालों में लगाकर रखें. फिर बाल धो लें. अगर डार्क कलर चाहती हैं तो 3-4 घंटे रखें.

ख़्वाब हो मेरा या आसमान का चांद हो, जो भी हो तुम… बस मेरा अरमान हो… कभी रह-रहकर क़रीब आती हो, कभी रुक-रुक कर दूर जाती हो… किस बात से तुम घबराती हो… क्यों हर बात पर शरमाती… अब कर भी लो हमसे चाहत का इक़रार कि मेरी ही तरह तुम्हारा दिल भी है बेक़रार…

dreamstime_l_9840062

चांद जैसी ख़ूबसूरती पाने के लिए ट्राई करें ये ईज़ी नेचुरल स्किन केयर टिप्स

– 1-1 टेबलस्पून ऑरेंज जूस और नींबू का रस, 1 कप दही. सबको मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें. 15 मिनट तक चेहरे पर लगाकर रखें. वेट टिश्यू से पोंछ लें. स्किन चांद जैसी निखर उठेगी.

– 1 टीस्पून उड़द दाल और 5-6 बादाम को रातभर पानी में भिगोकर रखें. सुबह पीसकर आधे घंटे तक लगाकर रखें. त्वचा ग्लो करने लगेगी.

– कैस्टर ऑयल को स्किन पर अप्लाई करें. रिंकल्स और फाइन लाइन्स को दूर करने का बेहद प्रभावी उपाय है.

– कच्चे आलू को काटकर स्किन पर रब करें. इससे दाग़-धब्बे दूर होंगे और स्किन ग्लो करेगी.

– ककड़ी का रस, ग्लिसरीन और गुलाबजल को मिलाकर नेचुरल सनस्क्रीन लोशन तैयार कर सकती हैं. इसे चाहें, तो फ्रिज में भी रख सकती हैं.

– चंदन पाउडर में मिल्क क्रीम (मलाई) और गुलाबजल मिलाकर पैक बनाएं. त्वचा खिल उठेगी.

– लैवेंडर ऑयल में हीलिंग प्रॉपर्टीज़ होती हैं. यह दाग़-धब्बों व स्ट्रेच मार्क्स को भी दूर करता है.

– अंगूर को काटकर चेहरे पर उससे मसाज करें. फ्रूट एसिड्स नेचुरल एक्सफोलिएटर होते हैं.

– कोकोनट मिल्क भी स्किन को ग्लोइंग इफेक्ट देता है. कच्चे नारियल को कद्दूकस करके उसका रस (दूध) निकाल लें. चेहरा क्लीन करके कोकोनट मिल्क को चेहरे व होंठों पर भी अप्लाई करें. कुछ देर बाद धो लें. चेहरा चमक उठेगा.

– 1 कप पानी में अदरक का टकुड़ा भिगोकर रखें. 10 मिनट बाद इसमें थोड़ा शहद मिलाएं और चाय की तरह पीएं. यह चाय स्किन को डैमेज होने से बचाती है.

– कच्चा दूध चेहरे पर अप्लाई करें और 10 मिनट बाद धो लें. स्किन सॉफ्ट होकर ग्लो करने लगेगी.

– स्ट्रॉबेरी पल्प में थोड़ा पानी मिलाकर पीस लें. इस पैक को चेहरे पर लगाएं. सूखने पर धो लें. ग्लोइंग स्किन के लिए अच्छा पैक है.

– 2 टीस्पून पके टमाटर का रस में 3 टीस्पून छाछ मिलाएं. आधा घंटे तक इस पैक को लगाकर रखे. फिर धो लें.

– कीवी फ्रूट की प्यूरी में दही मिलाकर पैक बनाएं. इससे मसाज करें और 20 मिनट बाद धो लें.

– मिक्स फ्रूट्स के पल्प को मिलाकर पैक बनाएं. मसाज करें. 15 मिनट बाद धो लें. एक बात का हमेशा ध्यान रखें कि कोई भी फ्रूट पैक या अन्य पैक भी क्लीन व एक्सफोलिएट की हुई स्किन पर ही अप्लाई करें. इससे उसका असर अधिक होगा.