navratri rules

नवरात्र 2020 कल यानी 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं. देश में कई राज्यों में कोरोना के केसेस की अधिकता के कारण कई लोग नवरात्र पूजा के लिए ज़रूरी सामान नहीं ख़रीद पा रहे हैं, जिसके चलते लोगों के मन में निराशा का भाव भी है. इस विपरीत परिस्थिति में जो भी संसाधन उपलब्ध हैं, उनसे आप किस तरह नवरात्र की तैयारी कर सकते हैं, ये जानने के लिए हमने बात की एस्ट्रो-टैरो एक्सपर्ट व न्यूमरोलॉजिस्ट मनीषा कौशिक से. मनीषा कौशिक ने हमें कोरोना काल में नवरात्र की तैयारी करने के कुछ आसान उपाय बताए इस तरह बताए:

Navratri 2020

आश्विन मास की शुक्ल पक्ष – शारदीय नवरात्रि नवरात्र 2020 का शुभ मुहूर्त
17 अक्टूबर 2020 से शारदीय नवरात्र शुरू हो रहे हैं. नवरात्र 2020 घटस्थापना का शुभ मुहूर्त है:

पहला ब्रह्म मुहूर्त प्रातः 4 से 6 बजे तक
दूसरा मुहूर्त सुबह 6:27 से 10:13 बजे तक
तीसरा अभिजीत मुहूर्त 11:43 से 12:28 बजे तक
चौथा सबसे अच्छा और शुभ मुहूर्त सुबह 7:53 से 9:18 बजे तक
वैसे तो ये सभी मुहूर्त अच्छे हैं, लेकिन चौथा मुहूर्त सभी के लिए बहुत अच्छा है. यदि संभव हो तो, इस मुहूर्त पर पूजा-आराधना करें.

यह भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल: नवरात्रि में किस राशि वाले किस देवी की पूजा करें (Navratri Special: Durga Puja According To Zodiac Sign)

कोरोना काल में ऐसे करें नवरात्र 2020 की तैयारियां
कई लोग इस बात से परेशान हैं कि कोरोना काल के चलते वो नवरात्र पूजा और घटस्थापना के लिए ज़रूरी सामान नहीं खरीद पा रहे हैं. यदि आपके साथ भी ऐसा ही हो रहा है, तो घबराएं नहीं. कोरोना काल में आप इस तरह नवरात्र 2020 की तैयारियां कर सकते हैं:

  • यदि आप नवदुर्गा को चढ़ाने के लिए नई चुनरी नहीं ख़रीद पा रहे हैं, तो आज यानी नवरात्र से एक दिन पहले घर की पुरानी चुनरी धोकर उसका प्रयोग करें.
  • यदि किसी कारणवश पुरानी चुनरी भी नहीं धो पाए, तो चुनरी पर गंगाजल छिड़ककर फिर उसे पूजा में प्रयोग में लाएं.
  • यदि आपके पास चुनरी नहीं है, तो नवदुर्गा के सिर पर मौली का एक टुकड़ा रख दें, ये भी वस्त्र का ही काम करता है.
  • यदि आप घटस्थापना के लिए श्रीफल यानी नारियल नहीं ख़रीद पा रही हैं, तो मंदिर में सिर्फ घी का दीया जलाकर भी अपने व्रत की शुरुआत कर सकती हैं.
  • कोरोना काल के चलते आपको कन्या जिमाने में भी दिक्कत आ सकती है, क्योंकि लोग अपनी लड़कियों को नहीं भी भेज सकते हैं. यदि आपको कन्या जिमाने में दिक्कत आ रही है, तो आप पूजा का भोग-प्रसाद बनाकर उसे एक थाली में नौ भागों में रख दें और उस थाली को छत में रखें. ऐसा करने से पक्षी आपका भोग-प्रसाद खाएंगे, जिससे आपको उतना ही पुण्य मिलेगा. हां, भोग के साथ छत पर पानी भी ज़रूर रखें. जिस तरह खाने के बाद हमें पानी की ज़रूरत पड़ती है, उसी तरह पक्षियों को भी प्यास लगती है, इसलिए भोग के साथ एक बर्तन में पानी भी ज़रूर रखें.

यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: किस दिन क्या भोग लगाएं (Navratri Special: 9 Bhog For Nav Durga)

नवरात्र 2020 का व्रत रखते समय इस बात का रखें ख़ास ध्यान
किसी भी पूजा-अर्चना, व्रत-उपवास में उसकी सामग्री से कहीं ज्यादा भक्त की भावना मायने रखती है, इसलिए आपकी पूजा या उपवास में कोई कमी रह भी जाए, तो परेशान न हों, माता रानी आपकी भावना को समझेंगी और आपको ढेर सारा आशीर्वाद देंगी. नवरात्र 2020 आप सभी के जीवन सुख-सौभाग्य-समृद्धि लेकर आए!
– कमला बडोनी

Navaratri Special
नवरात्रि (Navaratri) के शुभ अवसर पर अधिकतर लोग 9 दिन का उपवास (Fast) रखते हैं, वो भी फलाहारी. फलाहारी यानी फल और विशेष सब्जियों से बना हुआ भोजन (Food). क्या आप भी इस नवरात्रि में फलाहारी व्रत रख रहें हैं? यदि हां तो हम आपको यहां पर बता रहे है कि व्रत के अवसर पर क्या खाएं और क्या नहीं.

1. व्रत में साबूदाने को आप कई तरह से खा सकते हैं, जैसे- साबूदाना की खिचड़ी, खीर, पापड़, साबूदाने से बने स्नैक्स आदि.

sabudana khichdi
2. फास्टिंग के दौरान ड्रायफ्रूट्स खाने से पेट होने का एहसास तो होता ही है, साथ ही पूरे दिन
एनर्जेटिक भी रहते हैं. ड्रायफ्रूट्स को आप दूध के साथ खा सकते हैं. इसके अलावा ड्रायफ्रूट्स मिक्स्चर भी बनाकर खा सकते हैं.

Navratri Dry Fruits
3. अधिकतर लोग व्रत में पोटैटो चिप्स खाते हैं, जिसे खाने से वज़न बढ़ता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि आलू को उबालकर खाने से वज़न नहीं बढ़ता है.
4. ज़्यादातर लोग उपवास में डेयरी प्रोडक्ट्स- दूध, लस्सी आदि अधिक पीते हैं, डेयरी प्रोडक्ट्स में कैलोरी बहुत अधिक होती है, जिसके कारण दिनभर एनर्जी बनी रहती है.
5. व्रत में दूध की तुलना दही खाना ज़्यादा अच्छा होता है. इसमें अनेक पौष्टिक तत्व होते हैं, जो व्रत में शरीर को ऊर्जावान बनाए रखते हैं. दही में फल या उबला आलू मिलाकर खाने से लंबे समय तक पेट भरा रहता है.

dairy products
6. रात को फलाहार के तौर पर कुट्टू, सिंघाड़े, सामक आदि से बनी चीज़ें खाएं.

और भी पढ़ें: फ्रूट फैक्ट: जानें फलों के दिलचस्प रहस्य (Surprising Facts About Fruits)

7. अगर आप ऑफिस या घर से बाहर हैं, तो डिहाइड्रेशन से बचने के लिए फलों का जूस पीएं. जूस पीने से शरीर में पानी की कमी नहीं होती.

fruit juice
8. व्रत में अधिकतर दूधवाली चाय बहुत पीते हैं. इसकी बजाय आप चाहें तो ग्रीन टी भी पी सकते हैं.
9. भूख लगने पर दूध से बनी मिठाइयां भी खा सकते हैं. इन मिठाइयों को आप किसी भी समय खा सकते हैं.

Navaratri Sweets
10. इस दौरान फलों का सेवन अधिक से अधिक करें. विशेष रूप से तरबूज, संतरा, मौसमी, अंगूर, पपीता, खरबूजा, छाछ, नारियल पानी आदि. चाहें तो फलों का मिक्स फ्रूट चाट बनाकर भी खा सकते हैं.

क्या न खाएं?
– व्रत के दौरान तला हुआ भोजन न खाएं. तला हुआ भोजन खाने से शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ती है.
– उपवास के दौरान पूरे दिन भूखा रहने की बजाय दिनभर में 3-4 बार थोड़ा-थोड़ा कुछ न कुछ खाते रहें.

और भी पढ़ें: व्रत में खाएं ये 5 फलाहारी रेसिपीज़ (5 Delicious Dish To Try During Fasting)

 – नागेंद्र शर्मा