Tag Archives: New Business Started

बिज़नेस वुमन्स के लिए 2 विशेष सरकारी योजनाएं (2 Special Government Schemes for Business Women)

Special Government Schemes for Business Women

Special Government Schemes for Business Women
इंद्रा नूई, चंदा कोचर और एकता कपूर जैसी कामयाब महिला उद्यमियों को देखकर बहुत-सी महिलाओं को अपना बिज़नेस शुरू करने का ख़्याल आता है, पर पूंजी निवेश के बारे में सोचकर ही वो अपने क़दम पीछे खींच लेती हैं. लेकिन अब ऐसा करने की ज़रूरत नहीं, क्योंकि  महिलाओं को आर्थिक रूप से सबल बनाने के लिए सरकार के साथ-साथ कई बैंक भी इस मुहिम में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं. 

 

सरकारी योजनाएं

क्या आप एक हाउसवाइफ हैं, जो घर बैठे बोर हो रही हैं और अपना ख़ुद का कोई बिज़नेस शुरू करना चाहती हैं या आप एक वर्किंग वुमन हैं, जो अपनी नौकरी से तंग आकर ख़ुद अपना बिज़नेस शुरू करना चाहती हैं, तो ख़ास आपके लिए हम लाए हैं सभी सरकारी योजनाओं और बैंक सुविधाओं की जानकारी, ताकि आप भी बन सकें कामयाब महिला उद्यमी.

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना

देश की आधी आबादी को व्यापार के लिए प्रोत्साहित करने के लिए ख़ासतौर से केंद्र सरकार द्वारा ये योजना लॉन्च की गई है.

  • ब्यूटी पार्लर, टेलरिंग का बिज़नेस, ट्यूशन सेंटर जैसे उद्योग शुरू करने के लिए आप इस योजना का लाभ उठा सकती हैं.
  • अगर कुछ महिलाएं मिलकर कोई उद्योग शुरू करना चाहती हैं, तो उन्हें लोन व फंड की सुविधा दी जाती है.
  • इसके तहत महिलाओं को 50 हज़ार से लेकर 10 लाख तक का लोन मुहैया किया जाता है.
  • इस योजना का लाभ आप किसी भी सहकारी बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, इलाहाबाद बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, केनरा बैंक, एक्सिस बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और विजया बैंक से ले सकती हैं.
  • योजना के तहत लोन सैंक्शन होने पर आपको बैंक की तरफ़ से मुद्रा कार्ड दिया जाता है, जिसे आप क्रेडिट कार्ड की तरह इस्तेमाल कर सकती हैं.
  • योजना को शिशु, किशोर और तरुण तीन कैटेगरीज़ में बांटा गया है. जहां शिशु के तहत 50 हज़ार तक का लोन मिलेगा, वहीं किशोर के तहत 50 हज़ार से 5 लाख और तरुण के तहत 10 लाख तक का लोन बैंक द्वारा दिया जाएगा.

और भी पढ़ें: बिज़नेस वुमन के लिए स्मार्ट स्कीम्स 

ट्रेड सब्सिडी स्कीम 

ट्रेड रिलेटेड एंटरप्रेनरशिप असिस्टेंस एंड डेवलपमेंट (टे्रड) स्कीम मिनिस्ट्री ऑफ माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइज़ेस की ओर से कम पढ़ी-लिखी, अशिक्षित, असंगठित और ज़रूरतमंद महिला उद्यमियों के लिए है.

  • इसके तहत उन्हें सब्सिडी लोन मुहैया किया जाता है.
  • महिलाओं के छोटे-मोटे रोज़गार, लघु उद्योग और व्यापार के लिए उन्हें 30% की आर्थिक सहायता मिलती है.
  • यह सुविधा ख़ासतौर से उन महिलाओं के लिए है, जिन्हें बैंक से लोन आदि की सुविधा नहीं मिलती.
  • इस योजना के तहत आर्थिक मदद पाने के लिए आपको किसी एनजीओ की मदद लेनी होगी. सीधे तौर पर स़िर्फ किसी महिला को यह सुविधा नहीं दी जाती यानी अगर आप किसी ग़ैरसरकारी संगठन से जुड़ी हैं, तो आपको इस योजना का फ़ायदा मिलेगा.

और भी पढ़ें: कैसे करें यंगस्टर्स फाइनेंशियल प्लानिंग की शुरूआत?

                                                                                                                             – सुनीता सिंह