Numerology

बॉलीवुड में ऐसे स्टार्स की कमी नहीं हैं, जो अंधविश्वास को बढ़ावा देते है. फिल्मों में सफल होने के लिए तरह-तरह के टोटके अपनाते हैं. कुछ सालों से इंडस्ट्री में न्यूमेरोलॉजी का ट्रेंड शुरू हुआ है. अजय देवगन, राजकुमार राव, रानी मुखर्जी अनेक स्टार्स ऐसे हैं, जिन्होंने सक्सेसफुल करियर और लाइफ के लिए न्यूमेरोलॉजी का सहारा लिया है. आइये नज़र डालते है इन स्टार्स पर.

  1. Ayushmann Khurrana from Ayushman Khurana
Ayushmann Khurrana

आरजे से एक्टर बने आयुष्मान खुराना ने भी गुड़लक पाने के लिए अंकशास्त्र का सहारा लिया. बहुत से लोगों की मालूम नहीं होगा कि उनके पिता ज्‍योतिषी हैं, इसलिए वे भी अंकशास्त्र में विश्वास रखते हैं. उनका पहले नाम सिर्फ Ayushman Khurana था. बाद में उन्होंने अपने नाम के साथ एक एक्स्ट्रा ‘एन’ और ‘आर’ जोड़ा. लिखने में उनके नाम की स्पेलिंग और भी जटिल हो गई है. लेकिन  न्यूमेरोलॉजी का असर उनके करियर पर जरूर दिखाई दिया है. उन्होंने अपने फ़िल्मी करियर सफलता पाई और बॉक्स ऑफिस में उनकी फ़िल्में सुपरहिट रही. इतना ही नहीं बॉलीवुड में अपने लिए एक जगह बनाई.

2. Rajkummar Rao from Rajkumar Yadav

Rajkummar Rao

बॉलीवुड के टैलेंटेड एक्टर राजकुमार राव भी न्यूमेरोलॉजी में बहुत विश्वास करते हैं. उन्होंने भी अपने नाम में  न्यूमेरोलॉजी को ट्राई किया. अंकशास्त्र के अनुसार अपने नाम में बदलाव किया और एक्टिंग करियर में सफलता पाई.  पहले राजकुमार का नाम राजकुमार यादव था. न्यूमेरोलॉजी के अनुसार उनहोंने अपने नाम के आखिर से यादव सरनेम हटा दिया और राजकुमार में कुमार के साथ अतिरिक्त ‘एम’ जोड़ा और अब न्यूमेरोलॉजी के अनुसार उनका नया नाम राजकुमार राव है.

3. Ajay Devgn from Ajay Devgan

Ajay Devgn

बॉलीवुड के सिंघम अजय देवगन भी न्यूमेरोलॉजी में विश्वास तो नहीं करते हैं, लेकिन परिवार वालों के कहने पर उन्होंने अपने सरनेम को थोड़ा सा मॉडिफाई जरूर किया. अजय ने साल २००९ में अपने सरनेम Devgan को Devgn किया. उनका यह एक्सपेरिमेंट काफी सक्सेसफुल भी रहा. इसके बाद उन्हें प्रोफेशनल लेवल पर बहुत लाभ हुआ. साल २०१०  में उन्होंने फिल्म राजनीति की, जो बॉक्स ऑफिस पर सफल रही.

4. Rani Mukerji from Rani Mukherji

 Rani Mukerji

हिचकी गर्ल रानी मुखर्जी बॉलीवुड मशहूर अभिनेत्रियों में से एक हैं. उउन्होंने अपने करियर की शुरुआत 90 के दशक और 2000 के दशक से की थी, आरंभ में तो रानी के करियर औसत चल रहा था, लेकिन बाद में उन्होंने अपने नाम में थोड़ा बदलाव किया. पहले उनका नाम Rani Mukherji था लेकिन अंकशास्त्र के मुताबिक रानी ने इसे बदलकर Rani Mukerji कर लिया. अपने सरनेम से h हटा दिया.

5. Suniel Shetty from Sunil Shetty

Suniel Shetty

अपने समय के सुपरहिट एक्टर सुनील शेट्टी आजकल बड़े परदे पर बिलकुल भी दिखाई भी नहीं देते है, लेकिन अपनी फिटनेस को लेकर जरूर चर्चा में रहते हैं. उन्होंने भी करियर में सफलता पाने के लिए अपने नाम में परिवर्तन किया. अपने  Sunil नाम में अतिरिक्त ‘I’ जोड़कर Suniel किया.

6. Karisma Kapoor from Karishma Kapoor

Karisma Kapoor

करिश्मा कपूर ने प्रेम कैदी से अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की थी.  उनकी पहली फिल्म तो सुपरहिट रही, लेकिन बाद में उनकी बहुत सारी फ़िल्में फ्लॉप रहीं. उसके बाद करिश्मा ने भी रानी मुखर्जी को फॉलो करते हुए  न्यूमेरोलॉजी का सहारा लिया. अंक शास्त्र के अनुसार करिश्मा ने भी अपने नाम में एक h हटा दिया और वह Karishma Kapoor से Karisma Kapoor बन गई.

7. Tusshar Kapoor from Tushar Kapoor

Tusshar Kapoor

बॉलीवुड के फ्लॉप हीरो माने जाने वाले तुषार कपूर ने भी अंकशास्त्र के अनुसार अपने नाम को चेंज किया है. उन्होंने भी अपने नाम में एक अतिरिक्त’ s ’भी जोड़ा और Tushar Kapoor से Tusshar Kapoo बन गए हैं. हालांकि ऐसा करके उनक फिल्मी करियर पर कुछ खास फर्क नहीं पड़ा है.  

8. Javed Jaffrey from Javed Jaafery

Javed Jaffrey

अभिनेता जावेद जाफरी ने न्यूमेरोलॉजी के अनुसार अपने नाम में बदलाव किया है वह और Javed Jaafery से  Javed Jaffrey बन गए. उन्होंने अपने अंतिम नाम में अक्षरों का स्थान भी बदल दिया, जिससे वह लिखने में और भी जटिल हो गया. अंकशास्त्र के अनुसार यह बदलाव कितना सफल रहा, यह तो वही बता सकते हैं.

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड की वो 7 एक्ट्रेसेस जिन्होंने हीरो की बजाय कर ली मशहूर खलनायकों से शादी! (7 Bollywood Actresses Who Married Famous Villains)

क्या आप भी 2, 11, 20 और 29 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 2 (Numerology No 2: Personality And Characteristics)

जी हां, जिन लोगों का जन्म 2, 11, 20 और 29 तारीख़ को होता है, उन्हें नंबर 2 रूल करता है, जिसे हम उनको रूलिंग नंबर या बर्थ नंबर कह सकते हैं. इसका सीधा-सा कैल्कुलेशन है- आपकी डेट ऑफ बर्थ यानी जन्म तारीख़ के अंकों को जोड़ लें और उससे जो नंबर आता है, वो आपका रूलिंग नंबर कहलाता है. आज हम बात करेंगे नंबर टु यानी दो नंबर वालों की, क्या होती है उनकी ख़ासियत और कैसी होती है उनकी पर्सनैलिटी, आइए जानें-

– नंबर 2 वाले सौम्य स्वभाव के व बहुत ही समझदार होते हैं.
– ये बहुत ज़्यादा इमेजिनेटिव होते हैं.
– बेहद रोमांटिक होते हैं और ये इतने क्रिएटिव होते हैं कि अपने रोमांस में भी क्रिएटिविटी ले आते हैं.
– इन्हें नेचर से बेहद प्यार होता है और ये घंटों प्रकृति की आगोश में बैठे रह सकते हैं.
– इन्हें हर चीज़ में संतुलन व सामंजस्य पसंद होता है.
– किसी भी समस्या के हर पहलू को देखने व समझने की इनमें ग़ज़ब की क्षमता होती है.
– इन्हें सभी लोग पसंद व प्यार करते हैं.
– इनका दूसरे लोग आसानी से फ़ायदा उठा लेते हैं और इन्हें असफलता व हार का भी बहुत डर होता है.
– ये क्रिएटिव करियर में जाते हैं, क्योंकि ये बेहद क्रिएटिव होते हैं.

कैसे होते हैं नंबर 2 वाले पुरुष?
– ये नेचुरल लवर होते हैं और अपने परिवार व घर से बेहद लगाव रखते हैं.
– इनके चरित्र में अजीब सा विरोधाभास देखा जा सकता है, जहां एक ओर वो कभी-कभार बहुत ही डॉमिनेटिंग नज़र आते हैं, वहीं कभी-कभी ये आलसी और निष्क्रिय भी रहते हैं.

यह भी पढ़ें: क्या आप भी 1, 10, 19 और 28 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 1 

कैसी होती हैं नंबर 2 वाली महिलाएं?
– ये समर्पित, समझदार और फ्रेंडली होती हैं.
– वैसे तो ये अपने पार्टनर द्वारा दी गई हर चीज़ से संतुष्ट रहती हैं, लेकिन सब कुछ स़िर्फ इनके मूड पर निर्भर करता है.
– इनकी ख़ासियत होती है कि ये मूडी, सेंसिटिव, अनप्रेडिक्टेबल होती हैं.
– ये अच्छी पत्नी व पार्टनर होती हैं और अपनी सारी ज़िम्मेदारियां बख़ूबी निभाती हैं, लेकिन इन्हें अधिक समय तक किचन में रहना पसंद नहीं होता.
– इन्हें अपने तरी़के से ही काम करना पसंद होता है और ये दूसरों को भी उतना ही स्पेस देती हैं.

किन नंबर्स के साथ होते हैं कंपैटिबल?
नंबर 2 अपने ही यानी नंबर 2 वालों के साथ कंपैटिबल होते हैं. इसके अलावा नंबर 3. 4. 6 और 8 नंबर वालों के साथ भी इनकी पटती है. 9 नंबर वालों के साथ ये न्यूट्रल रहते हैं.

किन सेलिब्रिटीज़ के साथ शेयर करते हैं बर्थडे?
टाइगर श्रॉफ, कंगना रनौत, सोनाक्षी सिन्हा, अमिताभ बच्चन, शाहरुख ख़ान, अजय देवगन, जैकलीन फर्नांडिस, अक्षय खन्ना, रणदीप हुड्डा…

 

अपनी शादी (Marriage) को लेकर हर किसी के मन में बेहद उत्सुकता रहती है. यहां पर हम जन्म के अंकों यानी न्यूमरोलॉजी (Numerology) के आधार पर बता रहे हैं कि आपका प्रेम विवाह (Love Marriage) होगा या आप परिवार की सहमति से शादी (Arranged Marriage) करेंगे. इस विषय में ज्योतिषाचार्य व वास्तुशास्त्री पं. राजेंद्रजी ने हमें कई उपयोगी जानकारियां दीं. आइए, इस दिलचस्प तथ्य पर एक नज़र डालते हैं.

* यदि आपके जन्म का अंक एक है, तो आपकी अरेंज मैरिज होने की संभावनाएं अधिक हैं. चूंकि आप थोड़े संकोची व शर्मीले नेचर के हैं. इस कारण प्यार के मामले में आगे नहीं बढ़ पाते हैं, इसलिए आपके लव मैरिज होने की गुंजाइश नहीं है.

* दो नंबरवाले लोग बुद्धिमान व प्रेमी स्वभाव के होते हैं. इनकी भरसक कोशिश रहती है कि वे जिससे प्यार करते हैं, उसी से शादी करें. इनमें एक और ख़ास बात यह रहती है कि वे प्यार के मामले में दूरदर्शी होते हैं. बहुत सोच-विचार कर ही प्यार की दुनिया में क़दम रखते हैं. इनके लिए प्यार से बढ़कर कुछ नहीं होता है, अत: ये प्रेम विवाह ही करते हैं.

* तीन नंबरवाले शख़्स की ख़ासियत यह है कि इनका प्यार कामयाब रहता है. प्रेम में इनका अटूट विश्‍वास होता है. कभी-कभी इनके लिए प्यार ईश्‍वर का रूप भी बन जाता है. प्यार को लेकर इनका जुनून, विश्‍वास इनके प्रेम विवाह को सफल बनाता है.

* चार नंबरवाले थोड़े मस्त व रंगीन स्वभाव के होते हैं. इनके जीवन में प्रेम कई बार कई रूप में आता है. कई बार ये थोड़े असमंजस में भी आ जाते हैं कि लव मैरिज करें या अरेंज मैरिज. वैसे भी प्यार के मामले में थोड़े चंचल भी होते हैं अर्थात् प्यार को लेकर उतनी गंभीरता व मैच्योरिटी नहीं होती, जितनी होनी चाहिए. इसलिए यदि ये लव मैरिज कर भी लेते हैं, तो भी शादी के बाद भी इनके कई संबंध बनने की संभावनाएं रहती हैं. कह सकते हैं कि थोड़े फ्लर्ट क़िस्म के होते हैं. लेकिन अधिकतर इनकी लव मैरिज ही होती है.

* पांच नंबरवाले लोग परंपरागत तरी़के से विवाह करने में विश्‍वास रखते हैं. इनके लिए घर-परिवार, बड़ों की आज्ञा, मान-प्रतिष्ठा काफ़ी मायने रखती है. ज़िंदगी के हर महत्वपूर्ण कार्य में बड़ों की रज़ामंदी लेना नहीं भूलते, इसलिए इनके प्रेम विवाह करने के आसार बहुत कम होते हैं. परिवार की अनुमति और पसंद ही इनके लिए स्वीकार्य है यानी ये अरेंज मैरिज करते हैं.

यह भी पढ़ेलघु उद्योग- कैंडल मेकिंग: रौशन करें करियर (Small Scale Industries- Can You Make A Career In Candle-Making?)

* प्यार की नींव विश्‍वास व समर्पण पर होती है, ख़ासकर जब वो रिश्ते के बंधन में बंधते हैं. यहीं पर छह नंबरवाले व्यक्ति डांवाडोल हो जाते हैं. ये अपने रिश्ते में स्थिर नहीं रह पाते. ये प्यार तो करते हैं, पर एक के प्रति वफ़ादार नहीं रह पाते. इनके कइयों के साथ संबंध बनते हैं. इस कारण कई बार ये अपने रिश्ते को भी बचा नहीं पाते.

* सात फेरे, सात वचन की तरह सात नंबरवाले रिश्ते में ईमानदार और वफ़ादार होते हैं. मूल रूप से शर्मीले स्वभाव के होने के कारण अपने दिल की बात खुलकर नहीं कर पाते. अक्सर किसी के प्रति झुकाव होने के बावजूद ये कह नहीं पाते. दिल की बात दिल में ही रह जाती है. लेकिन एक बात तय है कि चाहे ये अरेंज मैरिज करें या फिर संभावित रूप से लव मैरिज हो, ये पार्टनर के साथ वफ़ादार रहते हैं. एक सच्चे जीवनसाथी की तरह रिश्ते को पूरी ईमानदारी के साथ जीवनभर निभाते हैं.

* जिनका जन्म आठ तारीख़ को होता है, ये यूं तो अरेंज मैरिज ही करते हैं. फिर भी यदि संयोगवश किसी से प्यार हो जाता है, तो प्रेम विवाह करने से भी कतराते नहीं है. अपनी समझदारी और सरलता के कारण ये दोनों ही तरह के रिश्तों को यानी अरेंज  मैरिज व लव मैरिज दोनों में ही कामयाब रहते हैं.

* नौ नंबरवाले लोग प्यार के मामले में नौ दो ग्यारह यानी दूर ही रहने में भलाई समझते हैं. इन्हें प्यार करना ही सही नहीं लगता, क्योंकि इनका यह मानना है कि इस राह में ख़ुशी की जगह ग़म अधिक होते हैं. और रिश्ते में ये कोई रिस्क नहीं लेना चाहते. अत: ये अरेंज मैरिज ही करते हैं.

यह भी पढ़ेहर लड़की ढूंढ़ती है पति में ये 10 ख़ूबियां (10 Qualities Every Woman Look For In A Husband)

शादी को लेकर हर किसी के अपने कुछ अरमान होते हैं. आइए, जानते हैं किस राशिवाले लोग किस तरह शादी करने में यक़ीन रखते हैं.

* मेष राशिवाले लोग पार्टी, धूमधाम और फन के साथ विवाह करने में विश्‍वास रखते हैं.

* वृषभवाले परंपरागत शादी करते हैं और शाही को अधिक महत्व देते हैं.

* मिथुन राशि के शख़्स शादी के हर पल का भरपूर लुत्फ़ उठाते हैं. इनके लिए शादी फेस्टिवल और जश्‍न की तरह होती है.

* सिंपल तरी़के से मैरिज करना कर्क राशिवालों की पहचान होती है. इसी के साथ अपनों के साथ थोड़ा धूमधड़ाका भर कर लेते हैं.

* पूरी प्लानिंग और राजसी ठाट के साथ विवाह करने में यकीन रखते हैं सिंह राशिवाले. रॉयल स्टाइल में सभी कार्यक्रम करना इनकी ख़ासियत होती है.

* जीवन में हर काम सही ढंग से करने में विश्‍वास रखनेवाले कन्या राशिवाले अपनी शादी को भी सुनियोजित व परफेक्शन के साथ करते हैं, फिर चाहे वो ख़ुद की, घर की साज-सज्जा हो या बैंड-बाजा-बरात.

* तुला राशिवाले संतुलित विवाह को अहम् मानते हैं. इसके बावजूद थोड़ी उथल-पुथल हो ही जाती है. ये हक़ीक़त से अधिक ख़्वाबों की दुनिया में अधिक रहते हैं. शादी को लेकर भी सपनों के राजकुमार या ख़्वाबों की शहज़ादीवाली भावनाएं और सोच इनकी होती है. इस कारण कई बार इन्हें अनचाही मुसीबतों का भी सामना करना पड़ता है.

* शादी जीवन में एक बार और यादगार होनी चाहिए, कुछ इस तरह की सोच रहती है वृश्‍चिक राशिवालों की. इनकी यही चाह रहती है कि शादी के अरेंजमेंट से लेकर विदाई तक सब कुछ लाजवाब हो.

* अपनी सुविधा के अनुसार घर से दूर और मनोेरंजन से भरपूर मैरिज करना धनु राशिवालों का उद्देश्य होता है. इनकी शादियां लोगों को ख़ास पसंद आती हैं.

* हर रस्म-रिवाज़ के साथ, परंपरागत और सिंपल तरी़के से शादी करना मकर राशिवालों की विशेषता होती है. शादी से जुड़ा हर कार्यक्रम और रस्म वे पारिवारिक परंपरा के अनुसार निभाते हुए करना पसंद करते हैं.

* मकर राशि से एकदम विपरीत होते हैं कुंभ राशिवाले. इनके लिए मैरिज से जुड़ा हर कार्य आधुनिक ढंग से होना चाहिए. ये मॉडर्निटी से ख़ासे प्रभावित रहते हैं.

* इसमें कोई दो राय नहीं कि मीन राशिवाले थोड़े फिल्मी होते हैं, इसलिए अपनी शादी को भी वही अंदाज़ देना चाहते हैं. प्यार की रोमानियत से भरपूर यादगार शादी होती है इनकी.

– ऊषा गुप्ता

3, 12, 21, 30, जन्मे हैं, रूलिंग नंबर है, Numerology No 3, Personality, Characteristicsजिन लोगों का जन्म दिन 3, 12, 21 और 30 तारीख को होता है, उनका बर्थ नंबर या रूलिंग नंबर 3 होता है. क्या आप का बर्थ नंबर भी 3 है? यदि हां तो, क्या आप जानते है अपने बर्थ नंबर की ख़ासियत. अगर नहीं जानते है, तो आइए हम आपको बताते हैं इस नंबर की ख़ूबियों के बारे में विस्तार से.

स्वभाव

इस नंबरवाले लोग बुुद्धिमान होने के साथ-साथ घंमडी भी होते है. बुद्धिमान होने के कारण इनमें किसी भी विषय को जल्दी समझने और सीखने की क्षमता होती है. हर काम पूरे कॉन्फिडेंस के साथ करते हैं. ऐसे लोग सही काम को सही समय पर करने से नहीं चूकते. ये लोग बहुत हेल्पिंग नेचरवाले होते हैं, लेकिन थोड़े से लालची किस्म के होते हैं, जिसके कारण छोटे-छोटे फ़ायदों के लिए बड़े फ़ायदों को नज़रअंदाज़ करते हैं. ये मेच्योर होने के बावजूद थोड़े लापरवाह किस्म के होते हैं. यह लोग स्वभाव से संकोची होते हैं और दिमाग़ के बजाय दिल से अधिक काम लेते है.

करियर

एजुकेशन, कंसल्टेंट, बिजनेस, योग और चिकित्सा के क्षेत्र में इन्हें विशेष सफलता मिलती है. इसके अलावा आर्ट, स्पोर्ट्स, साइंस, फाइनेंस, बैंक, बीमा फूड और सोशल सर्विस से जुड़े क्षेत्रों में भी इनके लिए अपार बेस्ट ऑप्शन है.
पर्सनैलिटी: इनके हर काम में प्रोफेशनलिज़्म होता है, जिसके कारण जीवन में हर चीज़ प्राप्त कर लेते हैं.

यह भी पढ़ें: क्या आप भी 5, 14 और 23 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 5 

शौक

इस नंबरवाले लोगों को घुड़सवारी, निशानेबाजी और खेलकूद का बहुत शौक़ होता है और इन क्षेत्रों में बेहद सफल भी होते हैं.

लव लाइफ

प्यार के मामले में यह लोग ज़्यादा भरोसेमंद नहीं होते. सेक्स के प्रति थोड़े उदासीन होते हुए भी इनका वैवाहिक जीवन ख़ुशहाल रहता है.

यह भी पढ़ें: क्या आप भी 8, 17 और 26 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 8 

फाइनेंस

इस मामले में इन लोगों की शुरुआत धीमी रहती है, लेकिन धीरे-धीरे आर्थिक स्थिति में सुधार होने लगता है.

पॉप्युलरिटी

ये तरक्की पसंद होते हैं, इसलिए जीवन में हमेशा आगे बढ़ने का प्रयास करते हैं. सफलता प्राप्त करने के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते है. इस नंबरवाले लोगों में अपनी दोस्तों व मित्रों के बीच लोकप्रियता और आकर्षण का केन्द्र बनने की बहुत चाह होता है, जहां इन्हें पब्लिसिटी या इंपोटेंस नहीं मिलती, वहां जाना ये पसंद नहीं करते.

यह भी पढ़ें: क्या आप भी 2, 11, 20 और 29 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 2 

किस नंबर वाले होते हैं इनके बेस्ट पार्टनर

3 नंबरवाले लोगों से फ्रेंडशिप ज़रूर करनी चाहिए, क्योंकि बुद्धिमान होने के कारण इनसे हमेशा कुछ न कुछ सीखने को मिलता है. इस नंबर वाले लोगों को फ्रेंड्स सर्कल काफ़ी बड़ा होता है. 3,6 और 9 नंबरवाले लोग इनके बेस्ट पार्टनर होते हैं.

लकी डे: मंगलवार, गुरुवार और शुक्रवार

लकी नंबर: 3, 6 और 9

लकी कलर: येलो, ऑरेंज और पिंक

लकी स्टोन: पुखराज

पॉप्युलर मेल सेलिब्रेटीज़: सोनू निगम, गोविंदा, संजय खान, रजनीकांत, युवराज सिंह.

पॉप्युलर फीमेल सेलिब्रेटिज़: करीना कपूर खान, कोंकना सेन शर्मा, प्राची देसाई, गुल पनाग, रानी मुखर्जी, जया प्रदा, श्रेया घोषाल.

यह भी पढ़ें: कितनी लकी है आपकी बर्थ डेट?

न्यूमरोलॉजी का रूलिंग नंबर 5 ऐडवेंचर का नंबर माना जाता है. जिन लोगों का जन्म 5, 14 और 23 तारीख़ को होता है, उन्हें नंबर 5 रूल करता है, जिसे हम उनका रूलिंग नंबर या बर्थ नंबर कह सकते हैं. इसका सीधा-सा कैल्कुलेशन है- आपकी डेट ऑफ बर्थ यानी जन्म तारीख़ के अंकों को जोड़ लें और उससे जो नंबर आता है, वो आपका रूलिंग नंबर कहलाता है. आज हम बात करेंगे नंबर 5 यानी पांच नंबरवालों की. यहां हम उनके स्वभाव, करियर, लव लाइव और पर्सनैलिटी के बारे में जानने की कोशिश करेंगे.

पर्सनालिटी

नेचुरल डिटेक्टिव्स

नंबर 5 वाले नेचुरल डिटेक्टिव्स होते हैं. ये आज़ादी पसंद लोग होते हैं. इनकी ज़िंदगी काफ़ी ऐडवेंचरस होती है. ये चीज़ों को बड़े आसानी से अपना लेते हैं. सफलता की ऊंचाइयों को छूना इनका शौक़ होता है. ये हर फंक्शन की जान होते हैं.

बदलाव पसंद

ये उत्साहित और सकारात्मक किस्म के लोग होते हैं. इनका ज़िंदगी जीने का सकारात्मक रवैया दूसरों को काफ़ी पसंद आता है और यही वजह है कि ये सभी के चहेते होते हैं. ये बदलाव पसंद होते हैं, इसलिए इन्हें रूटीन लाइफ पसंद नहीं, ज़िंदगी में आगे बढ़ते रहना ही इनका मोटो होता है.

फैशनेबल

ये काफ़ी फैशनेबल होते हैं और इन्हें ब्राइट कलर्स बहुत पसंद होते हैं.

सीखना पसंद है

इन्हें हर व़क्त कुछ न कुछ सीखना पसंद है और जिस चीज़ में इन्हें इंट्रेस्ट होता है, उस विषय के बारे में ज़्यादा से ज़्यादा जानना और पढ़ना पसंद करते हैं.

यह भी पढ़ें: क्या आप भी 1, 10, 19 और 28 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 1

स्वभाव

फ्रेंडली व फन लविंग होते हैं, जिससे बहुत जल्दी लोगों से घुलमिल जाते हैं. इनके दोस्तों की फेहरिस्त काफ़ी बड़ी होती है. दोस्ती को दिल से निभाते हैं, पर ऐसे लोग बिल्कुल नापसंद हैं, जो लोग इन्हें फॉर ग्रांटेड लेते हैं. आज़ादी पसंद लोग होते हैं और किसी पर निर्भर रहना इन्हें पसंद नहीं.

करियर

नौकरी, बिज़नेस इनकी ज़िंदगी में हमेशा परिवार के बाद आते हैं. करियर इनके लिए ज़िंदगी जीने का महज़ ज़रिया है. हांलाकि अपने काम में काफ़ी ज़िम्मेदार होते हैं और अपनी ज़िम्मेदारियों को बख़ूबी निभाते हैं. नंबर 5 वाले अपनी हॉबी और पैशन को ही करियर के तौर पर चुनते हैं, ताकि उसे एंजॉय कर सकें. सेल्स, ऐडवर्टाइज़िंग, ट्रैवेल और आउटडोर फिल्ड में जुड़ना पसंद करते हैं.

यह भी पढ़ें: क्या आप भी 2, 11, 20 और 29 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 2

लव लाइफ

ये काफ़ी रोमांटिक और पैशनेट लवर्स माने जाते हैं. सेक्स में अपने पार्टनर को ऐडवेंचरस मूव्स से सरप्राइज़ करना इन्हें बहुत पसंद है. ये कमिटेड पार्टनर्स होते हैं. अपने पार्टनर की भावनाओं का बख़ूबी ख़्याल रखते हैं.

किस नंबरवाले होंगे आपके बेस्ट लाइफ पार्टनर- 1, 3, 5, 6, 7.
लकी डे-  बुधवार और शुक्रवार.
लकी नंबर– 5
लकी कलर- लाइट ग्रे, व्हाइट, ऑरेंज, लाइट ग्रीन.
लकी स्टोन- एमराल्ड और डायमंड.

सेलिब्रिटीज़- आमिर ख़ान, दीपिका पादुकोण, काजोल, आयुष्मान खुराना, राज बब्बर, सनी देओल, तनुजा और हिमेश रेशमिया.

यह भी पढ़ें: क्या आप भी 8, 17 और 26 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 8

यह भी पढ़ें: परफेक्शनिस्ट होते हैं सितंबर में जन्मे लोग

Numerology No 8: Personality And Characteristics

जिन लोगों का जन्म 8, 17 और 26 तारीख़ को होता है, उन्हें नंबर 8 रूल करता है, जिसे हम उनका रूलिंग नंबर या बर्थ नंबर कह सकते हैं. इसका सीधा-सा कैल्कुलेशन है- आपकी डेट ऑफ बर्थ यानी जन्म तारीख़ के अंकों को जोड़ लें और उससे जो नंबर आता है, वो आपका रूलिंग नंबर कहलाता है. आज हम बात करेंगे नंबर ऐट यानी आठ नंबरवालों की. हम उनके स्वभाव, करियर, लव लाइव और पर्सनैलिटी के बारे में जानने की कोशिश करेंगे.

स्वभाव- ख़ुशमिजाज़, मिलनसार व ज़िंदादिल स्वभाव के होते हैं. हर किसी से जल्दी ही घुलमिल जाते हैं. इमोशनल होते हैं. मदद करने में तत्पर रहना इनका स्वाभाविक गुण व स्वभाव होता है.

करियर- अपने काम के प्रति ईमानदार होते हैं. हर काम को प्लानिंग के साथ करते हैं. इनमें अच्छे लेखक, कलाकार, कवि और चित्रकार होने की प्रतिभा होती है. हर बात को गंभीरता से सोचते हैं, इसलिए ज़िंदगी में कामयाब रहते हैं. साथ ही जो भी संकल्प लेते हैं, उसे पूरा करके ही रहते हैं. अधिक समय तक किसी के अधीन कार्य नहीं कर सकते. इन्हें प्रतिकूल परिस्थितियों से बख़ूबी लड़ना आता है.

पसंद, झुकाव व शौक़- सोशल वर्क करना पसंद है. समाज और अध्यात्म के प्रति अधिक झुकाव होता है. संगीत पसंद है. खाने-पीने के शौक़ीन होते हैं. परिवार का साथ पसंद है. उनकी सुविधाओं का ख़्याल रखते हैं.

पर्सनैलिटी- स्मार्ट पर्सनैलिटी के होते हैं. इनमें मनोबल व आध्यात्मिक शक्ति अधिक होती हैं. दूसरों की भावनाओं की कद्र करते हैं. इनमें तर्कशक्ति व कल्पनाशक्ति ग़जब की होती है. साहसी, दानी व महत्वांकाक्षी होते हैं. लेकिन अक्सर अपनी ज़िद और ईगो के कारण अपना काफ़ी नुक़सान भी कर लेते हैं.

यह भी पढ़े: क्या आप भी 2, 11, 20 और 29 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 2 

लकी डे- शनिवार
लकी नंबर- 2, 5, 9
लकी कलर- ब्लैक, ब्लू, पर्पल, डार्क ब्राउन, रेड
लकी स्टोन- नीलम और ब्लैक मोती

लव लाइफ- रोमांटिक स्वभाव के होते हैं. सरल व मीठे स्वभाव के कारण हर कोई इनसे प्रभावित होता है. प्यार के प्रति ईमानदार होते हैं. बचपन से ही प्यार के प्रति अधिक झुकाव होता है. परिवार और पार्टनर का बहुत ख़्याल रखते हैं. पार्टनर की हर छोटी-छोटी बात को महत्व देते हैं.

इसमें कोई दो राय नहीं कि 8 तारीख़वाले लोग मेहनती, गंभीर व प्रेम संबंधों के प्रति वफ़ादार होते हैं.

किस नंबरवाले होंगे आपके बेस्ट लाइफ पार्टनर-
रूलिंग नंबर 8 वालों के लिए- 1, 2, 4, 5, 6, 7, 8, 9.

यह भी पढ़े: क्या आप भी 1, 10, 19 और 28 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 1 

पुरुष- ज़िद्दी स्वभाव के होते हैं. सच्चाई पसंद करते हैं. दूसरों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं, पर ख़र्चीले भी होते हैं. ख़ुद पर नियंत्रण होता है.

महिलाएं- संवेदनशील होती हैं. रिश्तों के प्रति ईमानदार होती हैं. अकेले रहना अधिक पसंद करती हैं. बातूनी होती हैं. ख़ुद दुखी होने पर भी सभी को ख़ुश देखना चाहती हैं.

सेलिब्रिटीज़- आशा भोसले, शिल्पा शेट्टी, सौरव गांगुली, सचिन, मधुर भंडारकर, मेनका गांधी, रोजर फेडरर, मदर टेरेसा, बेंजामिन फ्रैंकलिन, जॉर्ज बनार्ड शॉ, एलिजाबेथ टेलर.

यह भी पढ़े: Numerology: कितनी लकी है आपकी बर्थ डेट?

क्या आप भी 1, 10, 19 और 28 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 1 (Numerology No 1: Personality And Characteristics)

जिन लोगों का जन्म 1, 10, 19 और 28 तारीख़ को होता है, उन्हें 1 नंबर रूल करता है, जिसे हम उनको रूलिंग नंबर या बर्थ नंबर कह सकते हैं. इसका सीधा-सा कैल्कुलेशन है- आपकी डेट ऑफ बर्थ यानी जन्म तारीख़ के अंकों को जोड़ लें और उससे जो नंबर आता है, वो आपका रूलिंग नंबर कहलाता है. आज हम बात करेंगे नंबर वन यानी एक नंबर वालों की, क्या होती है उनकी ख़ासियत और कैसी होती है उनकी पर्सनैलिटी, आइए जानें-

ऑरिजनैलिटी इनकी पहचान होती है: ये न्यू आइडियाज़ और ओरिजनैलिटी में विश्‍वास रखते हैं. क्रिएटिव होते हैं. उन्हें दूसरों से आदेश लेना या किसी के अंडर काम करना पसंद नहीं होता. यही वजह है कि ये या तो अपना बिज़नेस स्टार्ट करते हैं या फिर आप इन्हें बड़ी कंपनियों में बड़े पदों पर देख सकते हैं.

पारिवारिक व ज़िम्मेदार होते हैं: ये परिवार में भी ज़िम्मेदारी निभाते हैं. हां, उन्हें घर के सदस्यों द्वारा सम्मान चाहिए होता है.

यह भी पढ़ें: क्या आप भी 2, 11, 20 और 29 को जन्मे हैं, तो आपका रूलिंग नंबर है- 2

जो ठान लेते हैं, वही करते हैं: एक बार इन्होंने कोई निर्णय ले लिया, तो फिर ये पीछे नहीं हटते, चाहे सारी दुनिया इनके ख़िलाफ़ क्यों न हो जाए. आप इन पर भरोसा कर सकते हैं.

प्यार में वफ़ादारी है इनकी निशानी: ये लॉयल पार्टनर्स होते हैं और प्यार में धोखा नहीं देते. बेहद रोमांटिक होते हैं और अपने पार्टनर को भी काफ़ी महंगे गिफ्ट्स देते हैं. बदले में ये वही वफ़ादारी अपने पार्टनर से भी एक्सपेक्ट करते हैं.

परेशानियों से घबराते नहीं हैं: चाहे इनके सामने कितनी भी परेशानियां या चुनौतियां आएं, ये घबरानेवालों में से बिल्कुल नहीं हैं. यही वजह है कि ये जिस भी क्षेत्र में करियर बनाते हैं, वहां ऊंचाइयों तक जाते हैं.

किन सेलेब्स के साथ शेयर करते हैं आप अपना नंबर: अनुष्का शर्मा, विद्या बालन, रितिक रौशन, ऐश्‍वर्या राय, धीरूभाई अंबानी, सुनील गावस्कर, लता मंगेश्कर, रेखा आदि कुछ उदाहरण हैं, जिनका बर्थ नंबर 1 है.

यह भी पढ़ें: हाथ की रेखाओं से जानें कि कहीं आपको ब्लडप्रेशर का ख़तरा तो नहीं

क्या वाकई नंबर्स हमारी ज़िंदगी से इस क़दर जुड़े होते हैं कि उनकी संख्या का बढ़ना या घटना हमें सफल या असफल बना सकता है? क्या 1 तारीख़ को पैदा हुए लोग वाकई हमेशा नंबर 1 बने रहते हैं और 8 नंबर वालों को बहुत मेहनत के बाद सफलता मिलती है? क्या है अंकशास्त्र यानी न्यूमेरोलॉजी का रहस्य और अंक हमारे जीवन को किस तरह प्रभावित करते हैं? आइए, जानते हैं.

1
नंबर 1
न्यूमेरोलॉजी के रूलिंग नंबर 1 का स्वामी सूर्य है. 1 नंबर वाले लोग अपने फील्ड में भी नंबर वन होते हैं. इन्हें लीडर भी कहा जा सकता है. 1, 10, 19, 28 तारीख़ को जन्मे लोगों का रूलिंग नंबर 1 होता है. ऐश्‍वर्या राय, धीरूभाई अंबानी, मुकेश अंबानी, रतन टाटा, लता मंगेशकर आदि का रूलिंग नंबर 1 है.
नंबर 2
न्यूमेरोलॉजी के रूलिंग नंबर 2 का स्वामी चंद्र है. 2, 11, 20,29 तारीख़ को जन्मे लोगों का रूलिंग नंबर 2 होता है. अमिताभ बच्चन, शाहरुख ख़ान आदि इसके अंतर्गत आते हैं. इस नंबर वाले लोग अपने फ़ील्ड के सुपर स्टार होते हैं और ये काफ़ी पॉप्युलर भी होते हैं.
नंबर 3
न्यूमेरोलॉजी के रूलिंग नंबर 3 का स्वामी गुरु है. इस नंबर वाले लोग ख़ूब पैसा कमाते हैं. ये अपना काम ज़ीरो से शुरू करते हैं और उसमें काफ़ी नाम और पैसा कमाते हैं. 3, 12, 21, 30 तारीख़ को जन्मे लोग इस कैटेगरी में आते हैं. गोविंदा, रजनीकांत, करीना, रानी आदि का रूलिंग नंबर 3 है.

2

न्यूमेरोलॉजिस्ट श्‍वेता जुमानी के अनुसार, “9 ग्रहों के 9 नंबर्स हमारे व्यक्तित्व, व्यवहार को रूल करते हैं और हमारी सफलता या असफलता का कारण भी बनते हैं. अपने डेट ऑफ़ बर्थ यानी जन्म तारीख़ पर तो हमारा कंट्रोल होता नहीं, लेकिन नाम को लकी बनाकर काफ़ी हद तक हम अपना भाग्य बदल सकते हैं. आज अनिल कपूर, इमरान हाशमी, सुनील शेट्टी, इरफ़ान ख़ान, अनु मलिक, अजय देवगन से लेकर स्मृति ईरानी, पूनम ढिल्लन, तनुश्री दत्ता, श्‍वेता साल्वे, सेलीना जेटली जैसे कई सेलिब्रिटीज़ हमसे कंसल्ट करने यूं ही नहीं चले आते. न्यूमेरोलॉजी के सही प्रेडिक्शन ही इसकी लोकप्रियता का सबसे बड़ा कारण हैं.”

3

नंबर 4
न्यूमेरोलॉजी के रूलिंग नंबर 4 का स्वामी राहू है. इस अंक वाले लोग काफ़ी बुद्धिमान और स्पिरिचुअल होते हैं. इनका एक माइनस प्वाइंट है कि ये एडजस्ट नहीं कर पाते. तब्बू, जूही, उर्मिला मातोंडकर आदि का रूलिंग नंबर 4 है.
नंबर 5
न्यूमेरोलॉजी के रूलिंग नंबर 5 का स्वामी बुध है. ये बहुमुखी प्रतिभा के धनी होते हैं इसलिए किसी भी काम से बहुत जल्दी बोर हो जाते हैं और अलग-अलग फील्ड में काम करना पसंद करते हैं. 5, 14, 23 तारीख़ को जन्मे लोग 5 अंक की श्रेणी में आते हैं. हिमेश रेशमिया, आमिर ख़ान का रूलिंग नंबर 5 है.
नंबर 6
न्यूमेरोलॉजी के रूलिंग नंबर 6 का स्वामी शुक्र है. इस फील्ड के लोग फिल्म, मीडिया, स्पोर्ट्स आदि से जुड़ना पसंद करते हैं और उसमें ख़ूब नाम कमाते हैं. 6, 15, 24 तारीख़ को जन्मे लोगों का रूलिंग नंबर 6 है. माधुरी दीक्षित, आलिया भट्ट, सचिन तेंदुलकर, सुभाष घई, कपिल देव, सानिया मिर्ज़ा, संजय लीला भंसाली आदि इस श्रेणी में आते हैं.

4

न्यूमेरोलॉजिस्ट भाविक सांघवी मानते हैं कि अंकशास्त्र तभी सही रिज़ल्ट दे सकता है, जब उसे पूरी तरह फॉलो किया जाए. उनके अनुसार, ⁛ज़्यादातर लोग समझते हैं कि न्यूमेरोलॉजी में स़िर्फ नाम बदलना होता है और आपकी क़ामयाबी पक्की समझो, पर असल में ऐसा है नहीं. स़िर्फ नाम बदलने से ज़िंदगी नहीं बदलती, इसके साथ-साथ मंत्र, दान, उपवास, लकी जेम स्टोन्स, नंबर, कलर आदि का भी ध्यान रखना होता है. आपके बर्थ और कंपाउंड नंबर्स किसके साथ मैच करते हैं और किस समय पर कौन-सा काम आपको शुभ फल देगा, इसके अनुसार यदि कार्य किए जाएं तो ही सही रिज़ल्ट मिल पाते हैं. मेरे पास गोविंदा, सुष्मिता सेन, पूजा बेदी, अपरा मेहता जैसे कई सेलिब्रिटीज़ के अलावा कई कॉमन लोग भी आते हैं और उन्हें इस साइंस का फ़ायदा भी मिला है. फ़िल्म इंडस्ट्री में ही नहीं, आम लोगों में भी न्यूमेरोलॉजी का चलन बढ़ रहा है. फिल्म स्टार्स की कोई भी बात छुपी नहीं रहती इसलिए लोगों इसकी जानकारी तुरंत मिल जाती है.”

5
नंबर 7
न्यूमेरोलॉजी के रूलिंग नंबर 7 का स्वामी केतु है. इस अंक वाले लोग काफ़ी भावुक और मूडी होते हैं, यही वजह है कि ये क्रिएटिव भी होते हैं. आर्ट से जुड़ना इन्हें पसंद होता है. 7, 16, 25 तारीख़ को जन्मे लोगों का रूलिंग नंबर 7 होता है. एकता कपूर, महेन्द्र सिंह धोनी, सैफ़ अली ख़ान, करण जौहर, कैटरीना कैफ़, विपाशा बसु, शोभा डे आदि इस श्रेणी में आते हैं.
नंबर 8
न्यूमेरोलॉजी के रूलिंग नंबर 8 का स्वामी शनि है. इस नंबर को अमूमन अनलकी माना जाता है, लेकिन ये लोग यदि स्पिरिचुअल हों तो ये इनके लिए फ़ायदेमंद होता है. इस राशि के लोगों को इनकी क़ाबिलियत के अनुसार सफलता नहीं मिल पाती. 8, 17, 26 तारीख़ को जन्मे लोग इस कैटेगरी में आते हैं. मदर टैरेसा, आसाराम बापू, सौरव गांगुली, शबाना आज़मी, आशा भोसले, शिल्पा शेट्टी आदि का रूलिंग नंबर 8 है.
नंबर 9
न्यूमेरोलॉजी के रूलिंग नंबर 9 का स्वामी मंगल है. ये तेज़ ग्रह है इसलिए इस अंक वाले लोग बहुत ग़ुस्से वाले होते हैं. आर्मी के ़ज़्यादातर ऑफ़िसर्स भी 9 अंक वाले ही पाए जाते हैं. 9, 18, 27 तारीख़ को जन्मे लोग इस श्रेणी में आते हैं. सलमान ख़ान, सुनिल शेट्टी, अक्षय कुमार, जैकी चैन, ब्रूसली आदि का रूलिंग नंबर 9 है.

6

न्यूमरोलॉजिस्ट श्‍वेता बरड़िया किसी भी विज्ञान को 100% सही नहीं मानतीं. उनके अनुसार, “कोई भी शास्त्र किसी के भी भविष्य की सौ फीसदी गारंटी नहीं दे सकता और न ही किसी की तक़दीर बदल सकता है. हां, अन्य शास्त्रों की तरह न्यूमेरोलॉजी भी बारिश में छाते का काम ज़रूर करती है. लेकिन तेज़ बारिश में जाने पर जिस तरह छाता साथ होते हुए भी शरीर पर बारिश के कुछ छींटे पड़ते ही हैं, उसी तरह कर्मों का फल तो भुगतना ही होता है, न्यूमेरोलॉजी कुछ हद तक आपकी राह आसान कर सकता है. आप अपने अच्छे समय में किसी अंक या ज्योतिषशास्त्री के पास जाते हैं और आपका सब कुछ अच्छा होता चला जाता है तो आपका इस पर विश्‍वास बढ़ने लगता है. लेकिन बुरे समय में जब यही शास्त्र असर नहीं दिखा पाता तो यक़ीन करना थोड़ा मुश्क़िल हो जाता है. कोई भी शास्त्र रात को दिन या दिन को रात में नहीं बदल सकता, ये स़िर्फ बता सकता है कि आगे खाई मिलेगी, लेकिन उसे पार तो आपको ही करना होगा. लोग कहते हैं कि अमिताभ बच्चन ने जब से नीलम की अंगूठी पहनी है, तब से उनका अच्छा समय शुरू हो गया, लेकिन तब हम ये सोचना क्यों भूल जाते हैं कि आज वे जादूगर, अजूबा, तू़फ़ान जैसी फ़िल्में नहीं साइन कर रहे हैं.”

7
न्यूमेरोलॉजी में 1, 3, 5, 6 को पॉजीटिव नंबर कहा जाता है, इन नंबर्स के लोगों को क़ामयाबी पाने के लिए अन्य नंबर्स के मुक़ाबले कम मेहनत करनी पड़ती है. 2 और 7 क्रिएटिव नंबर माने जाते हैं, इन नंबर्स के लोग ज़्यादातर क्रिएटिव फ़ील्ड में क़ामयाबी हासिल करते हैं. न्यूमेरोलॉजी के सबसे टफ़ नंबर हैं 4, 8 और 9, इन नंबर्स के लोगों को क़ामयाबी पाने के लिए ज़्यादा मेहनत करनी पड़ती है. 8 नंबर वालों को तो ज़्यादातर 35 साल के बाद ही क़ामयाबी मिल पाती है.

– कमला बडोनी