Tag Archives: Oil

6 कॉमन कुकिंग मिस्टेक्स (6 Common Cooking Mistakes)

कॉमन कुकिंग मिस्टेक्स, Common Cooking Mistakes

कॉमन कुकिंग मिस्टेक्स, Common Cooking Mistakesमहिलाएं खाना बनाने में निपुण होती हैं, पर अक्सर खाना बनाते समय वे ऐसी ग़लतियां कर बैठती हैं, जिससे भोजन के अधिकतर पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं और भोजन का स्वाद भी कम हो जाता है. हम यहां पर ऐसी ही कुछ आम ग़लतियों के बारे में बता रहें है, जिससे महिलाएं अपनी कुकिंग संबंधी आदतों में सुधार कर सकती हैं.

मिस्टेक: खाने में अधिक तेल डालने से खाना स्वादिष्ट बनता है.
सोल्यूशन: अधिक महिलाओं का ऐसा माना है कि अधिक तेल डालने से भोजन का स्वाद बढ़ जाता है. यह सरासर उनकी भूल है. कार्डियोलॉजिस्ट का मानना है कि भोजन में अधिक तेल का इस्तेमाल करने से मोटापा, ब्लड प्रेशर और हार्ट संबंधी बीमारियां हो सकती है. खाने में कुकिंग ऑयल की जगह ऑलिव ऑयल का प्रयोग करें. यदि फ्राइड खाने के शौक़ीन हैं, तो भी कुकिंग ऑयल की जगह ऑलिव ऑयल का प्रयोग करें.

और भी पढ़ें: 20 स्मार्ट कुकिंग आइडियाज़

मिस्टेक: स्नैक्स को डीप फ्राई करने के बाद ऑयल को दोबारा इस्तेमाल करना.
सोल्यूशन: कुकिंग करने का सबसे अनहेल्दी तरीक़ा है डीप फ्राइंग करना. डीप फ्राई स्नैक्स खाने से वज़न बढ़ता है और मोटापा भी. इसके अलावा अधिकतर महिलाओं की यह आदत होती हैं कि वे फ्राइड फूड बनाने के बाद बचे हुए तेल को कई बार गरम करती हैं. इस तेल को दोबारा तेज़ आंच पर गरम करने से तेल का ट्रांस-फैट बढ़ता है और अधिक मात्रा में ट्रांस फैट का सेवन करने मोटापा, ब्लड प्रेशर और हार्ट संबंधी बीमारियां होने की संभावना होती है.

मिस्टेक: सब्ज़ियां और स्प्राउट्स उबालने के बाद उनके पानी को फेंक देना.
सोल्यूशन: उबले हुए स्प्राउट्स और सब्ज़ियों में ‘बी कॉम्प्लेक्स विटामिन्स’ प्रचूर मात्रा में होते हैं. अधिकतर ‘बी कॉम्प्लेक्स विटामिन्स’ वॉटर सोलुबल होते हैं. जब सब्ज़ियों और स्प्राउट्स को उबालकर उनका पानी निथारते हैं, तो ये ‘बी कॉम्प्लेक्स विटामिन्स’ बाहर निकल जाते हैं. इसलिए सब्ज़ियों व स्प्राउट्स को उबालने की बजाए भाप में पकाएं. यदि सब्ज़ियां, दाल और स्प्राउट्स को उबालकर ही इस्तेमाल करना है, तो उनके निथारे हुए पानी को फेंकें नहीं, बल्कि ग्रेवी के तौर पर दूसरी सब्ज़ियों में इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके अतिरिक्त निथारे हुए पानी से आटा भी गूंध सकते हैं.

मिस्टेक: खाने से 4-5 घंटे पहले फलों को और सब्ज़ियों को बनाने से 5-6 घंटे पहले काटकर रखना.
सोल्यूशन: फलों को खाने से और सब्ज़ियों को पकाने से थोड़ी देर पहले ही काटना चाहिए. फलों और सब्ज़ियों में ‘विटामिन सी’ और ‘बी कॉम्प्लेक्स विटामिन्स’ होते हैं. फलों और सब्ज़ियों को 5-6 घंटे पहले काटकर लाइट व हीट में रखने पर ‘विटामिन सी’ और ‘बी कॉम्प्लेक्स विटामिन्स’ नष्ट हो जाते हैं. समय का अभाव होने के कारण यदि फलों व सब्ज़ियों को काटकर रखना ही है, तो उन्हें फ्रिज में अच्छी तरह पैक करके या ढंककर रखें. ऐसा करके फलों व सब्ज़ियों में मौजूद विटामिन्स को नष्ट होने से बचाया जा सकता है.

मिस्टेक: खाना बनाते समय सही मेजरमेंट का यूज़ न करना.
सोल्यूशन: खाना बनाते समय अधिकतर महिलाएं सही मेजरमेंट का प्रयोग नहीं करती और अंदाज़ से पानी, मसाले आदि डाल देती है, जिससे भोजन का स्वाद तो ख़राब होता ही है और खाना पकाने में भी अधिक समय लगता है. इसलिए खाना बनाते समय पानी या मसाले सही मेजरमेंट के अनुसार ही डालें.


मिस्टेक: कम क़ीमत पर सस्ता सामान ख़रीदना.
सोल्यूशन: अमूमन महिलाओं में यह बुरी आदत होती है कि बचत करने के चक्कर में कई बार वे कम क़ीमत पर सामान की क्वालिटी चैक किए बिना ही मिलावटी व घटिया मसाले और दूसरे खाद्य पदार्थों को ख़रीद लेती हैं. इस तरह के मिलावटी मसालों व खाद्य पदार्थों का सेवन करने से पूरे परिवार के स्वास्थ्य को नुक़सान हो सकता है. इसलिए मीट व चीज़ आदि ग्रासरी फूड व मसाले अच्छी जगह से ख़रीदें और उनकी एक्सपायरी डेट चेक करना न भूलें.

– पूनम नागेंद्र

टेस्टी और ईज़ी रेसिपीज़ बनाने के लिए यहां क्लिक करें : रेसिपीज़  

कौन हैं बालों के दोस्त? कौन हैं दुश्मन?

बालों की ग्रोथ न स़िर्फ हमारी लाइफस्टाइल, बल्कि अच्छी-बुरी आदतों पर भी निर्भर करती है. अच्छी आदतें जहां बालों को स्वस्थ बनाती हैं, वहीं बुरी आदतों से बाल बेजान नज़र आते हैं. आइए, जानते हैं कौन हैं बालों के दोस्त और कौन हैं दुश्मन? 

 

बालों के दोस्त

 

dreamstime_m_22805780

तेल

तेल बालों का मुख्य आहार है. इससे बाल स्वस्थ होते हैं और स्वस्थ बाल तेज़ी से बढ़ते हैं. अतः सप्ताह में 3-4 बार बालों में तेल लगाकर मसाज करें. इससे बाल जड़ से मज़बूत होते हैं.

साफ़-सफ़ाई

साफ़-सुथरे बाल तेज़ी से बढ़ते हैं. अतः जब भी ज़रूरत महसूस हो, बालों को शैम्पू ज़रूर करें. संभव हो तो रोज़ाना या एक दिन छोड़कर शैम्पू करें. स्वच्छता से बाल स्वस्थ होते हैं और स्वस्थ बाल तेज़ी से बढ़ते हैं.

संतुलित आहार

बालों को जड़ से मज़बूत बनाना हो, तो अपने आहार में अंडे, हरी सब्ज़ियां, नट्स, ऑयली फिश, बेरीज़ शामिल करें, क्योंकि अंडे में प्रोटीन, हरी सब्ज़ियों में विटामिन्स और नट्स में ज़िंक और ओमेगा3 एडिस की मौजूदगी से बाल स्वस्थ व मज़बूत बनते हैं.

healthy diet for hair

ट्रिमिंग

हेल्दी-हैप्पी हेयर के लिए बालों की ट्रिमिंग भी ज़रूरी होती है. 2-3 महीने के अंतराल पर बालों को ट्रिम कराती रहें. इससे बाल घने नज़र आते हैं और तेज़ी से बढ़ते हैं.

योग व एक्सरसाइज़

नियमित योग व एक्सरसाइज़ से भी आप बालों को स्वस्थ व तंदरुस्त बना सकती हैं. अतः रोज़ाना नियमित रूप से योग या एक्सरसाइज़ करें.

बालों के दुश्मन

2

 

 

गंदगी

बालों को धूल-मिट्टी और गंदगी से बचाएं. साथ ही तेज़ धूप के संपर्क में आने से भी परहेज़ करें, वरना बाल रूखे, बेजान व कमज़ोर बन सकते हैं.

तनाव

स्ट्रेस बालों के जानी दुश्मनों में से एक है. अतः स्ट्रेस से बचें. किसी भी मुद्दे पर बहुत ज़्यादा सोच-विचार न करें. इसका आपके बालों पर नकारात्मक असर हो सकता है.

जंक फूड

तली-भुनी, मसालेदार चीज़ों के सेवन से बचें. साथ ही जंक फूड से भी परहेज़ करें. ये न स़िर्फ आपको शारीरिक तौर पर बीमार करते हैं, बल्कि इनके सेवन से बाल भी कमज़ोर हो जाते हैं.

good for hair
केमिकलयुक्त कलर

केमिकलयुक्त हेयर कलर या हेयर स्टाइलिंग से दूर रहें. हेयर कलर के इस्तेमाल से कई बार बाल स़फेद हो जाते हैं और केमिकलयुक्त हेयर स्टाइलिंग से बाल कमज़ोर हो जाते हैं.

कॉस्मेटिक हेयर ट्रीटमेंट

कॉस्मेटिक हेयर ट्रीटमेंट लेने से बचें, वरना बाल कमज़ोर होने के साथ ही झड़ भी सकते हैं. बेहतर होगा कि आप किसी ट्रेंड डर्मेटोजॉलिस्ट की निगरानी में हेयर ट्रीटमेंट लें.

20+ प्रैक्टिकल हेयर केयर टिप्स

long hair,healthy hair,hair care tips

 

स्वस्थ-सुंदर-सेहतमंद बाल पाने के लिए उनकी सही देखभाल बेहद ज़रूरी है. आप कैसे पा सकती हैं लंबे-घने-लहराते बाल? आइए, हम बताते हैं.

 

beautiful hair,hair care tips,healthy hair

1. साफ़-सुथरे बाल तेज़ी से बढ़ते हैं, इसलिए बालों की सफ़ाई पर विशेष ध्यान दें. ज़्यादा दिनों तक बाल न धोने से वे न स़िर्फ गंदे हो जाते हैं, बल्कि अंदरूनी तौर पर कमज़ोर होकर झड़ने भी लगते हैं. अतः बालों को नियमित रूप से धोएं.

2. बाल धोने के लिए अच्छी क्वालिटी का शैम्पू इस्तेमाल करें. केमिकलयुक्त शैम्पू के इस्तेमाल से बचें, वरना बाल रूखे होने के साथ ही झड़ भी सकते हैं

3. शैम्पू की तरह ही अच्छी क्वालिटी का कंडीशनर भी इस्तेमाल करें.

4. कंडीनशनर बालों के लिए मॉइश्‍चराइज़र का काम करता है.

5. धूल-मिट्टी और प्रदूषण से बालों की हिफाज़त करें. बाहर जाने से पहले बालों को दुपट्टे से अच्छी तरह कवर कर लें, ताकि बाल गंदगी से बचे रहें.

6. धूल से सनी, गंदी या दूसरों की कंघी इस्तेमाल करने से बचें. रोज़ाना कंघी भी ज़रूर धोएं, ताकि कंघी में चिपकी धूल-मिट्टी बालों में न लगे और बाल गंदे न हों.

7. बाल यदि अंदर से मज़बूत हों, तो वे न स़िर्फ तेज़ी से बढ़ते हैं, बल्कि जल्दी टूटते भी नहीं हैं. इसके लिए बालों में नियमित रूप से तेल लगाएं. तेल से मालिश करने पर बाल जड़ से मज़बूत होते हैं और जल्दी नहीं टूटते.

8. स्वस्थ बालों के लिए हेल्दी डायट लें. अपने डायट प्लान में हरी पत्तेदार सब्ज़ियां, फल, दूध व अन्य डेयरी प्रॉडक्ट्स, ड्रायफ्रूट्स आदि शामिल करें. बालों की मज़बूती के लिए आयरन व आयोडीन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें.

hair comb_hair brush
9. बालों को अंदर से मज़बूत बनाने के लिए योगा व एक्सरसाइज़ करें. इससे बाल मज़बूत और चमकदार बनते हैं.

10. बालों में तेल, शैम्पू या कंडीशनर हल्के हाथों से लगाएं. ज़ोर से रगड़ने पर बाल टूट सकते हैं.

11. बालों को तेज़ धूप या एसी से बचाएं, इनसे बाल रूखे और बेजान हो जाते हैं.
हर दो-तीन महीने के अंतराल पर बालों को ट्रिम ज़रूर करवाएं. ऐसा करने से दोमुंहे बालों की समस्या नहीं होती.

12. बहुत टाइट चोटी न बांधें, टाइट चोटी बांधने से खिंचाव के कारण बालों की जड़ें कमज़ोर हो जाती हैं.

13. केमिकलयुक्त हेयर प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल करने से बचें. इनके कई साइड इफेक्ट हो सकते हैं. साथ ही ये बालों को कमज़ोर भी बनाते हैं.

14. कोई भी हेयर ट्रीटमेंट अच्छे एवं ट्रेंड डर्मेटोलॉजिस्ट की निगरानी में ही करवाएं.

15. बालों में रूसी हो तो तुरंत उसका इलाज कराएं, क्योंकि रूसी के कारण बाल तेज़ी से झड़ते हैं.

16. जब आप थकी या तनाव में होती हैं तो बाल बहुत धीरे-धीरे बढ़ते हैं, इसलिए टेंशन फ्री रहें. टेंशन फ्री होने के लिए रोज़ाना 7 से 8 घंटे की नींद ज़रूर लें.

17. बालों को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाने के लिए धूप में बाहर निकलते समय बालों में यूवी फिल्टर युक्त हेयर प्रॉडक्ट लगाएं.

Shampoo,hair wash
18. हेड मसाज कराना बालों के लिए काफ़ी फ़ायदेमंद होता है. हेड मसाज से सिर में रक्त संचार बढ़ता है, जिससे बाल प्राकृतिक रूप से पोषित होकर मज़बूत बनते हैं.

19. दोमुंहे बालों को छोटा करा लें. ऐसा करने से बाल हेल्दी नज़र आएंगे और उनकी ग्रोथ भी अच्छी होगी.

20. बालों के एक गुच्छे को खींचें, यदि बाल आसानी से उखड़ रहे हों तो समझ जाइए कि आपके बाल रूखे हैं और उन्हें मॉइश्‍चराइज़िंग शैम्पू और कंडीशनर की ज़रूरत है.

21. शैम्पू या स्टाइलिंग प्रॉडक्ट्स इस्तेमाल करने के बाद यदि बालों को ठीक से न धोया जाए तो बालों के फॉलिकल को नुक़सान पहुंचता है और उनकी ग्रोथ रुक जाती है. अतः शैम्पू या कंडीशनिंग करने के बाद बालों को ठीक से धोकर साफ़ करें.

ऑयल्स के ब्यूटी सीक्रेट्स ( Beauty Secrets of Oils)

Beauty Secrets

shutterstock_178522988

घर में मौजूद तेल के भी कई ब्यूटी बेनीफिट्स हैं. आप भी अपनी ख़ूबसूरती निखारने के लिए इनका इस्तेमाल करें और बन जाएं हुस्न की मलिका.

OLIVE-oil-for-hair-650x365

ऑलिव ऑयल:

यह विटामिन, मिनरल्स और नेचुरल फैटी एसिड्स से भरपूर होता है. सेंसिटिव स्किन के लिए उपयुक्त होता है. एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होने की वजह से यह एंटी-एजिंग ब्यूटी प्रोडक्ट्स में भी काफ़ी इस्तेमाल किया जाता है. झुर्रियों और फाइन लाइन्स को भी यह कम करता है, क्योंकि इसमें विटामिन ई और ए होता है, जो त्वचा का लचीलापन बनाए रखता है.

* अपने नहाने के पानी में 5 टेबलस्पून एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल मिलाएं. मात्र इसी से आपकी त्वचा बेहद नर्म-मुलायम हो जाएगी.

* नहाने से पहले एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल से बॉडी मसाज करें और बाद में थपथपाकर पोंछें. अतिरिक्त तेल भी हटा दें. आपको अपनी त्वचा में इतना बदलाव नज़र आएगा कि आप ख़ुद विश्‍वास नहीं कर पाएंगी.

* ऑलिव ऑयल को आप बॉडी लोशन की तरह इस्तेमाल करें. नहाने के बाद ऑयल को बॉडी लोशन की तरह अप्लाई करें. यह नेचुरल तरी़के से त्वचा की नमी बनाए रखता है.

* ऑलिव ऑयल को आप मेकअप रिमूवर की तरह भी यूज़ कर सकती हैं. यह न स़िर्फ मेकअप रिमूव करेगा, बल्कि त्वचा को पोषण भी देगा. कॉटन बॉल पर
थोड़ा-सा ऑलिव ऑयल लगाकर मेकअप हटाएं. चाहें तो कॉटन बॉल को थोड़ा गीला कर लें. अगर हैवी मेकअप है, तो पहले ऑयल से मालिश करें और फिर गर्म पानी में भिगोए कपड़े से साफ़ कर लें. गुनगुने पानी से चेहरा धोएं, फिर ठंडे पानी से धोएं.

* आई क्रीम के तौर पर ऑलिव ऑयल को यूज़ करें. आंखों के आसपास हल्का-सा ऑयल लगाकर हल्के हाथों से मालिश करें. यह आंखों के आसपास की बारीक़ रेखाओं को कम करके रिफ्रेशिंग लुक देगा. रात को सोने से पहले या फिर सुबह उठकर आप मसाज कर सकती हैं.

* चेहरे पर ग्लो लाने के लिए ऑलिव ऑयल फेस मास्क ट्राई करें. 1 टेबलस्पून ऑलिव ऑयल में 1 अंडे की जर्दी मिलाएं. चाहें तो थोड़ा-सा नींबू का रस भी मिला सकते हैं. 5-10 मिनट तक इसे चेहरे पर लगाकर रखें. पहले गुनगुने पानी से, फिर ठंडे पानी से धो लें.

* बालों को सॉफ्ट और शाइनी बनाने के लिए 1 अंडे की जर्दी में 2 टेबलस्पून ऑलिव ऑयल और 1 टीस्पून नींबू का रस मिलाकर मास्क लगाएं. 15 मिनट बाद शैंपू और कंडीशन कर लें.

Coconut-Oil-and-hairs

कोकोनट ऑयल:

यह बहुत से पोषक तत्वों से भरपूर होता है. इसके अलावा यह एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल भी है.

* यह हेयर टॉनिक का काम करता है. बालों को पोषण व मज़बूती देता है. तेल को हल्का गुनगुना करके बालों की जड़ों में मालिश करने से बाल घने और शाइनी होते हैं.

* यह ड्राई स्किन को बेहतरीन तरी़के से मॉइश्‍चराइज़ करता है. नहाने के बाद आप वर्जिन कोकोनट ऑयल को मॉइश्‍चराइज़र की तरह यूज़ कर सकती हैं. हां, अगर आपकी त्वचा ऑयली है, तो बेहतर है इसे यूज़ न करें.

* बालों की डीप कंडीशनिंग करता है. रातभर बालों में लगाकर रखें और इसका नियमित प्रयोग करें. दोमुंहे व ड्राई बालों की समस्या ख़त्म हो जाएगी.
* थोड़े से वर्जिन कोकोनट ऑयल में शक्कर और कुछ बूंदें वेनीला एसेंशियल ऑयल मिलाएं. यह बेहतरीन बॉडी स्क्रब का काम करेगा.

* यह बहुत अच्छा क्लींज़र भी है. रात को कॉटन बॉल में थोड़ा-सा तेल लेकर मसाज करते हुए फेस क्लीन करें. इससे आप आई मेकअप भी रिमूव कर सकती हैं. उसके बाद माइल्ड फेस वॉश से चेहरा धो लें.

* यह बेहतरीन अंडरआई क्रीम है. आंखों के आसपास मसाज करने से न स़िर्फ वहां की बारीक़ रेखाएं कम करता है, बल्कि पफी आईज़ यानी आई बैग्स की समस्या भी मिटाता है.

Mustard-Oil-for-Hair

मस्टर्ड ऑयल:

इसके गुणों को देखते हुए ही इसे एरोमा थेरेपी में भी इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन इसके इस्तेमाल से पहले पैच टेस्ट ज़रूर कर लें, कहीं आपको इससे एलर्जी तो नहीं.

  •  यह टैन और डार्क स्पॉट्स को दूर करता है. इसके लिए तेल में थोड़ा बेसन, दही और नींबू के रस की कुछ बूंदें मिलाएं. इस मास्क को 10-15 मिनट तक लगाकर रखें, फिर ठंडे पानी से धो लें. इस प्रयोग को हफ़्ते में 3 बार करें.
  • स्किन लाइटनिंग व त्वचा स्मूद बनाने के लिए सरसों के तेल में थोड़ा-सा नारियल का तेल मिलाएं और 5 मिनट तक मसाज करें. कॉटन से अच्छी तरह से पोंछ लें. यह न स़िर्फ त्वचा को स्मूद बनाएगा, मुंहासों से भी छुटकारा दिलाएगा.
  • यह रोमछिद्रों को खोलकर त्वचा से विषैले तत्वों को बाहर निकालता है.
    म एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल होने के कारण यह त्वचा को इंफेक्शन्स व रैशेज़ से बचाता है. इसके इस्तेमाल से त्वचा की ड्राईनेस भी ख़त्म हो जाती है.
  • होंठों को फटने से बचाने के लिए सोने से पहले सरसों के तेल की एक या दो बूंद नाभि में लगा लें.
  • बालों को असमय स़फेद होने से बचाता है. बालों को डाई करने से बेहतर है कुछ समय तक सरसों के तेल की मालिश करें.
  • यह विटामिन, मिनरल्स से भरपूर होता है, ख़ासतौर से इसमें बीटा-कैरोटीन की काफ़ी मात्रा होती है. यह बीटा-कैरोटीन विटामिन ए में परिवर्तित होकर बालों को हेल्दी, लंबा व घना बनाता है. साथ ही यह बालों को झड़ने से भी रोकता है.

Jug of sunflower oil with flowers isolated on white background

सनफ्लावर ऑयल:

इसकी सबसे बड़ी ख़ूबी यह है कि इसमें बीटा-कैरोटीन भरपूर मात्रा में होता है. यह एंटीऑक्सीडेंट्स का भी बेहतरीन स्रोत है.

  •  यह मुंहासों से बचाव करता है. इसकी परत त्वचा को बैक्टीरिया से बचाने के लिए सुरक्षित आवरण देती है, जिससे बैक्टीरिया त्वचा के सीधे संपर्क में नहीं आ पाते और मुंहासे पनप नहीं पाते.
  • इसमें मौजूद विटामिन ई और फैटी एसिड्स त्वचा को इंफेक्शन्स से भी बचाते हैं.
  • यह सन डैमेज से बचाव करता है. साथ ही त्वचा का लचीलापन बढ़ाकर झुर्रियों व समय से पहले पनपनेवाले बढ़ती उम्र के निशानों को कम करता है. इसे आप सीधे तौर पर त्वचा पर लगा सकती हैं. इसकी मालिश करने से त्वचा का इलास्टिन और कोलाजन बरक़रार रहता है, जिससे आपको मिलता है यंगर लुक.
  • डेढ़ कप सनफ्लावर ऑयल में तीन कप शक्कर मिलाकर बॉडी स्क्रब तैयार करें. इसे इस्तेमाल करने से पहले शरीर को गुनगुने पानी से भिगो लें. इससे शरीर का तापमान थोड़ा बढ़ जाएगा और मृत त्वचा को हटाना आसान होगा.
  • त्वचा को नमी प्रदान करता है. आप चाहें, तो अपने मॉइश्‍चराइज़िंग प्रोडक्ट में इस तेल की कुछ बूंदें मिलाकर उसे यूज़ कर सकती हैं.
  • इससे आप आंखों के आसपास भी मसाज कर सकती हैं, जिससे वहां की त्वचा पर बारीक़ रेखाएं कम होंगी और त्वचा हेल्दी बनेगी.

AceiteAlmendra

आल्मंड ऑयल:

यह त्वचा को हेल्दी ग्लो देता है, क्योंकि यह विटामिन ए, बी और ई से भरपूर होता है. ये सभी विटामिन्स हेल्दी स्किन के लिए बेहद ज़रूरी हैं.

  • यह त्वचा को भीतर से नमी प्रदान करता है.
  • फटे होंठों, ड्राई स्किन, एलर्जी व रैशेज़ के लिए बहुत लाभकारी है.
  • आंखों के नीचे काले घेरे को कम करने में बहुत फ़ायदेमंद है. रोज़ाना सोने से पहले आंखों के आसपास इससे मालिश करें. इसके नियमित प्रयोग से फ़ायदा होगा.
  • यह सेल्स का पुनर्निर्माण करने में मदद करता है, जिससे आपको मिलती है यंग, ग्लोइंग और फ्रेश त्वचा.
  • यह बेहतरीन हैंड और फूट क्रीम है. यह त्वचा द्वारा जल्दी सोख लिया जाता है, इसलिए यह इस्तेमाल में आसान है. इससे हाथों और पैरों की मालिश करें और हैंड व फूट क्रीम की जगह इसे इस्तेमाल करें.
  • त्वचा की डलनेस भी कम करता है. टैन भी दूर करता है.
  • आल्मंड ऑयल में थोड़ा-सा शहद मिलाकर होंठों पर लगाएं. होंठों का कालापन व ड्राइनेस दोनों दूर होगा. चाहें तो इस मिश्रण को स्टोर भी करके रख सकती हैं.
  • आधा एवोकैडो को मैश करके 1-1 टेबलस्पून तेल और शहद मिलाएं. प्यूरी जैसा बना लें और स्किन पर अप्लाई करें. 15-20 मिनट बाद गुनगुने पानी से धो लें. स्किन ग्लो करने लगेगी.
  • आल्मंड ऑयल मैग्नीशियम से भरपूर होता है, जो बालों के लिए बेहद ज़रूरी है. इसकी कमी से बाल झड़ने लगते हैं. हफ़्ते में एक बार आल्मंड ऑयल से स्काल्प मसाज करें. बाल झड़ने बंद होंगे. चाहें, तो मालिश के बाद गर्म तौलिए को बालों में लपेट लें. इससे तेल और बेहतर ढंग से समाएगा.
  • यह डैंड्रफ की समस्या को दूर करने में बेहद लाभकारी है. यह स्काल्प पर मौजूद मृत त्वचा को हटाकर डैंड्रफ दूर करता है. आंवले को मैश करके उसमें आल्मंड ऑयल मिलाकर बालों में 30 मिनट तक लगाकर रखें. फिर बाल धो लें. डैंड्रफ दूर होकर बाल शाइन करेंगे.
  • स्काल्प में आल्मंड ऑयल से नियमित मसाज करने से स्काल्प के इंफेक्शन्स व जलन ख़त्म होती है, स्काल्प हेल्दी होता है.