oils Benefits

सरसों के तेल में काफ़ी गुण हैं और सर्दियों में तो यह वरदान है, ना सिर्फ़ हेल्थ बल्कि इसके ब्यूटी बेनीफिट्स भी हैं. 

हेल्थ बेनीफिट्स

  • इसमें एंटीबैक्टीरीयल, एंटीफ़ंगल और एंटीकर्सिनोजेनिक प्रॉपर्टीज़ हैं जो कैन्सर जैसे गंभीर रोग से बचाव करती हैं. यह पेट व मलाशय के कैन्सर से बचाता है. कई तरह के इन्फ़ेक्शंस से भी बचाने में यह कारगर है. खाना बनाने मेंइसका प्रयोग बेहद फ़ायदेमंद है.
  • इसकी तासीर गर्म होती है इसलिए ये सर्दी-ज़ुकाम से भी बचाव करता है. सरसों के तेलवाली स्टीम लेने से सीने औरनाक में जमा कफ निकल जाता है. 
  • यह साइनस से भी बचाव करता है. सरसों के तेल में लहसुन की कुछ कलियां और एक चम्मच अजवायन मिलाकरगर्म करें और इससे तलवों और सीने की मालिश करें. सर्दी से बचे रहेंगे.
  • यह शरीर में गर्माहट पैदा करता है. सरसों के तेल की मालिश करने से मांसपेशियां मजबूत होती हैं और रक्त संचारभी बेहतर होता है. 
  • इस तेल की मालिश करने के बाद स्नान करने से शरीर स्वस्थ रहता है. नहाने के बाद भी इसे लगा सकते हैं. नाक, कान और नाभि में इसे लगाएं. 
  • यह दांतों को मज़बूत और स्वस्थ बनाता है. दांतों में तकलीफ हो तो सरसों के तेल में नमक मिलाकर दांतों औरमसूड़ों की मालिश करें. 
  • सरसों के तेल की मालिश से जोड़ों का दर्द और गठिया रोग भी ठीक हो जाता है.
  • सरसों के तेल का प्रयोग हार्ट के लिए भी हेल्दी माना जाता है. इसे यूज़ करने से कोरोनरी हार्ट डिसीज़ का खतरा भीकम होता है. इसमें सैचुरेटेड फ़ैटी ऐसिड्स कम होता है और एसेंशियल फ़ैटी ऐसिड्स इसमें काफ़ी मात्रा में होते हैंजिससे ये खाने में प्रयोग का हेल्दी ऑप्शन है. यह हार्ट फेल और ऐंजाइना के ख़तरे को कम करता है और जिन्हेंहृदय रोग है उनके लिए यह बेहतरीन ऑप्शन है.
  • जिन्हें सांस संबंधी समस्या हो या अस्थमा की शिकायत हो तो उनके लिए भी सरसों का तेल वरदान साबित हुआ है. सरसों में मैग्नीशियम पाया जाता है और सरसों के तेल में पाया जानेवाला सेलेनियम अस्थमा के प्रभाव को कमकरने में कारगर साबित होता है.
  • यह मेटाबॉलिज़्म को बेहतर करता है, सर्कुलेशन और ब्रेन फ़ंक्शन को भी इम्प्रूव करता है क्योंकि इसमें स्टिम्युलंटप्रॉपर्टी होती है. 
  • ये पाचन तंत्र को बेहतर करके भूख लगने में मदद करता है. अगर भूख न लगे, तो खाना बनाने में सरसों के तेल काउपयोग करें.
  • ये वज़न को घटाने में भी सहायक है. इसमें मौजूद विटामिन्स मेटाबाल्जिम को बढ़ाते हैं जिससे वजन घटाने में मददमिलती है.
  • ये इन्सेक्ट बाइट और रैशेज़ के प्रभाव को कम करता है. अगर किसे कीड़े या मच्छर ने काट लिया है तो वहां इसेअप्लाई करें. इसी तरह रैशेज होने पर भी यहां तक कि छोटे बच्चों को नैपी रैश होने पर भी इसे यूज़ किया जाता है.
Benefits Of Mustard Oil

ब्यूटी बेनीफिट्स

  • यह बेहतरीन मॉइश्चराइज़र है, ठंड में ड्राई स्किन को हेल्दी ग्लो देना हो तो गुनगुने सरसों के तेल की मालिश करें.
  • इसे बेसन और हल्दी में मिलाकर उबटन तैयार करें, त्वचा निखर जाएगी.
  • एंटीफ़ंगल प्रॉपर्टीज़ के कारण ये फ़ंगल इंफ़ेक्शन से बचाता है. 
  • विटामिन ई का ये बेहतरीन स्रोत है, ये रिंकल्स और फ़ाइन लाइंस को कम करता है.
  • ये बालों के लिए भी बेहद लाभकारी है. हेयर फ़ॉल को रोकता है, स्काल्प में ब्लड सर्क्युलेशन बेहतर करके बालों कीग्रोथ भी बेहतर करता है.
  • यह सनटैन को दूर करने में भी मदद करता है.
  • यह फटे होंठों को नर्म मुलायम बनाता है.
  • इसमें विटामिन बी कॉमप्लेक्स भरपूर मात्रा में मौजूद होता है जो स्किन हेल्थ के लिए फायदेमंद है. इसे अप्लाई करनेसे स्किन टोन बेहतर होती है, दाग और झाइयों से भी छुटकारा मिलता है.
  • इसमें एंटी एजिंग तत्व होते हैं जो आपको देते हैं यंगर स्किन.
  • ये है नेचुरल सनस्क्रीन, जो अल्ट्रा वायलेट किरणों से बचाव करता है. घर से बाहर जाने से पहले हल्का सा ऑइलस्किन पर अप्लाई करें और सूरज की हानिकारक किरणों से बचें.
  • यह बालों को असमय सफ़ेद होने से रोकता है. दही में सरसों का तेल मिलाकर बालों में लगाने से कई तरह की बालोंकी समस्या से छुटकारा मिलता है.
  • अगर बाल समय से पहले सफ़ेद हो रहे हैं तो सोने से पहले सरसों के तेल की मालिश करें या सुबह बाल धोने से एकया आधे घंटे पहले तेल लगाएं, लाभ होगा.
  • अगर डैंड्रफ की समस्या है और इचि स्काल्प से परेशान हैं तो स्काल्प मसाज करें. चाहें तो सरसों और नारियल तेलको सामान मात्रा में मिला लें. स्काल्प मसाज करें, टोवेल से कवर करें और दो घंटे बाद शैम्पू कर लें.

रिंकू शर्मा

— 

ख़ूबसूरती निखारने के लिए हम ना जाने क्या क्या उपाय करते हैं जबकि इसका राज़ हमारे घर और किचन में ही मौजूद रहता है. यहां हम नारियल तेल के ब्यूटी बेनीफिट्स बता रहे हैं जो बेहद आसान भी हैं और कारगर भी.

दरअसल कोकोनट ऑइल में फैटी एसिड्स होती हैं और इसमें एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, यही वजह है कि यह इतना कारगर है.

  • यह बेहतरीन मॉइश्चराइज़र है. अगर आपकी स्किन ड्राई है तो कोकोनट ऑइल से मसाज करें. रात को घुटनों और कोहनियों पर मसाज करें, इससे वहां की रफ स्किन मुलायम होगी और रूखापन भी कम होगा.
  • अंडरआई क्रीम अलग से ना ख़रीदना चाहें तो नारियल तेल से हल्के हाथों से मसाज करें. इससे आंखों के आसपास की सूजन और फाइन लाइंस भी कम होगी.
  • बालों में रूसी की समस्या है तो गुनगुने नारियल तेल में नींबू का रस मिलाकर स्ल्काल्प मसाज करें. एक घंटे बाद शैम्पू कर लें.
Benefits Of Coconut Oil
  • होंठ फटे हों तो यह लिप बाम की तरह काम करता है.
  • यह बेहतरीन मेकअप रिमूवर है.
  • लीव इन कंडीशनर के तौर पर भी काम करता है. ड्राई बालों के लिए बहुत अच्छी रेमेडी है. शैम्पू के बाद थोड़ा सा नारियल तेल लेकर बालों के स्ट्रैन्ड्स पर अप्लाई करें जिससे मॉइश्चर लॉक हो जाएगा.
Benefits Of Coconut Oil
  • अगर नाख़ून ड्राई और टूटते हैं तो रोज़ रात को कोकोनट ऑइल से नाखूनों के बेस में मसाज करें और नाखूनों पर भी क्युटिकल क्रीम की तरह लगायें.
  • अगर आप फटी एडियों से परेशान हैं तो रात को ख़ूब सारा नारियल तेल लगाकर मोज़े पहन कर सो जाएँ.
  • बॉडी स्क्रब के तौर पर भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. एक या दो टेबल स्पून नारियल तेल में ग्राउंड कॉफी या फिर शुगर या नमक मिलाकर स्क्रब तैयार करें. यह बेहतरीन स्क्रब होगा.
Benefits Of Coconut Oil
  • फेस मास्क भी बना सकती हैं. बस नारियल तेल में शहद मिला लें. चेहरे और गर्दन पर 15-20 मिनट तक लगाकर रखें और गुनगुने पानी से धो लें.
  • फेस क्लीन करने और स्मूद स्किन व हेल्दी ग्लो के लिए नारियल तेल से चेहरे की मालिश करें. उसके बाद माइल्ड फेस वॉश से धो लें.
Benefits Of Coconut Oil
  • आई मेकअप और ख़ासतौर से वॉटर प्रूफ आई मेकअप रिमूवर के तौर पे बहुत अच्छा काम करता है.
  • चीक्स हाइलाइटर की तरह भी ऑर्गैनिक कोकोनट ऑइल का इस्तेमाल किया जा सकता है. मेकअप पे हल्का का ऑइल का डैब करें आपका फेस ग्लो करेगा.
  • आई लैशेज़ कमज़ोर हैं तो नारियल तेल से मसाज करें.
  • सन बर्न होने पर कोकोनट ऑइल लगायें, इसके एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण स्किन की सूद करते हैं.
  • दाग़ धब्बों को लाइट करने में भी यह काफ़ी कारगर है, पिंपल के दाग और यहां तक कि पिंपल पर भी इसको लगा सकते हैं.
  • कमज़ोर और झड़ते बालों के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल काफ़ी कारगर है. इससे बालों को नियमित रूप से मसाज करें.

यह भी पढ़ें: चोटी वाली 5 चुनिंदा हेयरस्टाइल (5 Braided Hairstyles For Women)

shutterstock_178522988

घर में मौजूद तेल के भी कई ब्यूटी बेनीफिट्स हैं. आप भी अपनी ख़ूबसूरती निखारने के लिए इनका इस्तेमाल करें और बन जाएं हुस्न की मलिका.

OLIVE-oil-for-hair-650x365

ऑलिव ऑयल:

यह विटामिन, मिनरल्स और नेचुरल फैटी एसिड्स से भरपूर होता है. सेंसिटिव स्किन के लिए उपयुक्त होता है. एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होने की वजह से यह एंटी-एजिंग ब्यूटी प्रोडक्ट्स में भी काफ़ी इस्तेमाल किया जाता है. झुर्रियों और फाइन लाइन्स को भी यह कम करता है, क्योंकि इसमें विटामिन ई और ए होता है, जो त्वचा का लचीलापन बनाए रखता है.

* अपने नहाने के पानी में 5 टेबलस्पून एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल मिलाएं. मात्र इसी से आपकी त्वचा बेहद नर्म-मुलायम हो जाएगी.

* नहाने से पहले एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल से बॉडी मसाज करें और बाद में थपथपाकर पोंछें. अतिरिक्त तेल भी हटा दें. आपको अपनी त्वचा में इतना बदलाव नज़र आएगा कि आप ख़ुद विश्‍वास नहीं कर पाएंगी.

* ऑलिव ऑयल को आप बॉडी लोशन की तरह इस्तेमाल करें. नहाने के बाद ऑयल को बॉडी लोशन की तरह अप्लाई करें. यह नेचुरल तरी़के से त्वचा की नमी बनाए रखता है.

* ऑलिव ऑयल को आप मेकअप रिमूवर की तरह भी यूज़ कर सकती हैं. यह न स़िर्फ मेकअप रिमूव करेगा, बल्कि त्वचा को पोषण भी देगा. कॉटन बॉल पर
थोड़ा-सा ऑलिव ऑयल लगाकर मेकअप हटाएं. चाहें तो कॉटन बॉल को थोड़ा गीला कर लें. अगर हैवी मेकअप है, तो पहले ऑयल से मालिश करें और फिर गर्म पानी में भिगोए कपड़े से साफ़ कर लें. गुनगुने पानी से चेहरा धोएं, फिर ठंडे पानी से धोएं.

* आई क्रीम के तौर पर ऑलिव ऑयल को यूज़ करें. आंखों के आसपास हल्का-सा ऑयल लगाकर हल्के हाथों से मालिश करें. यह आंखों के आसपास की बारीक़ रेखाओं को कम करके रिफ्रेशिंग लुक देगा. रात को सोने से पहले या फिर सुबह उठकर आप मसाज कर सकती हैं.

* चेहरे पर ग्लो लाने के लिए ऑलिव ऑयल फेस मास्क ट्राई करें. 1 टेबलस्पून ऑलिव ऑयल में 1 अंडे की जर्दी मिलाएं. चाहें तो थोड़ा-सा नींबू का रस भी मिला सकते हैं. 5-10 मिनट तक इसे चेहरे पर लगाकर रखें. पहले गुनगुने पानी से, फिर ठंडे पानी से धो लें.

* बालों को सॉफ्ट और शाइनी बनाने के लिए 1 अंडे की जर्दी में 2 टेबलस्पून ऑलिव ऑयल और 1 टीस्पून नींबू का रस मिलाकर मास्क लगाएं. 15 मिनट बाद शैंपू और कंडीशन कर लें.

Coconut-Oil-and-hairs

कोकोनट ऑयल:

यह बहुत से पोषक तत्वों से भरपूर होता है. इसके अलावा यह एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल भी है.

* यह हेयर टॉनिक का काम करता है. बालों को पोषण व मज़बूती देता है. तेल को हल्का गुनगुना करके बालों की जड़ों में मालिश करने से बाल घने और शाइनी होते हैं.

* यह ड्राई स्किन को बेहतरीन तरी़के से मॉइश्‍चराइज़ करता है. नहाने के बाद आप वर्जिन कोकोनट ऑयल को मॉइश्‍चराइज़र की तरह यूज़ कर सकती हैं. हां, अगर आपकी त्वचा ऑयली है, तो बेहतर है इसे यूज़ न करें.

* बालों की डीप कंडीशनिंग करता है. रातभर बालों में लगाकर रखें और इसका नियमित प्रयोग करें. दोमुंहे व ड्राई बालों की समस्या ख़त्म हो जाएगी.
* थोड़े से वर्जिन कोकोनट ऑयल में शक्कर और कुछ बूंदें वेनीला एसेंशियल ऑयल मिलाएं. यह बेहतरीन बॉडी स्क्रब का काम करेगा.

* यह बहुत अच्छा क्लींज़र भी है. रात को कॉटन बॉल में थोड़ा-सा तेल लेकर मसाज करते हुए फेस क्लीन करें. इससे आप आई मेकअप भी रिमूव कर सकती हैं. उसके बाद माइल्ड फेस वॉश से चेहरा धो लें.

* यह बेहतरीन अंडरआई क्रीम है. आंखों के आसपास मसाज करने से न स़िर्फ वहां की बारीक़ रेखाएं कम करता है, बल्कि पफी आईज़ यानी आई बैग्स की समस्या भी मिटाता है.

Mustard-Oil-for-Hair

मस्टर्ड ऑयल:

इसके गुणों को देखते हुए ही इसे एरोमा थेरेपी में भी इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन इसके इस्तेमाल से पहले पैच टेस्ट ज़रूर कर लें, कहीं आपको इससे एलर्जी तो नहीं.

  •  यह टैन और डार्क स्पॉट्स को दूर करता है. इसके लिए तेल में थोड़ा बेसन, दही और नींबू के रस की कुछ बूंदें मिलाएं. इस मास्क को 10-15 मिनट तक लगाकर रखें, फिर ठंडे पानी से धो लें. इस प्रयोग को हफ़्ते में 3 बार करें.
  • स्किन लाइटनिंग व त्वचा स्मूद बनाने के लिए सरसों के तेल में थोड़ा-सा नारियल का तेल मिलाएं और 5 मिनट तक मसाज करें. कॉटन से अच्छी तरह से पोंछ लें. यह न स़िर्फ त्वचा को स्मूद बनाएगा, मुंहासों से भी छुटकारा दिलाएगा.
  • यह रोमछिद्रों को खोलकर त्वचा से विषैले तत्वों को बाहर निकालता है.
    म एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल होने के कारण यह त्वचा को इंफेक्शन्स व रैशेज़ से बचाता है. इसके इस्तेमाल से त्वचा की ड्राईनेस भी ख़त्म हो जाती है.
  • होंठों को फटने से बचाने के लिए सोने से पहले सरसों के तेल की एक या दो बूंद नाभि में लगा लें.
  • बालों को असमय स़फेद होने से बचाता है. बालों को डाई करने से बेहतर है कुछ समय तक सरसों के तेल की मालिश करें.
  • यह विटामिन, मिनरल्स से भरपूर होता है, ख़ासतौर से इसमें बीटा-कैरोटीन की काफ़ी मात्रा होती है. यह बीटा-कैरोटीन विटामिन ए में परिवर्तित होकर बालों को हेल्दी, लंबा व घना बनाता है. साथ ही यह बालों को झड़ने से भी रोकता है.

Jug of sunflower oil with flowers isolated on white background

सनफ्लावर ऑयल:

इसकी सबसे बड़ी ख़ूबी यह है कि इसमें बीटा-कैरोटीन भरपूर मात्रा में होता है. यह एंटीऑक्सीडेंट्स का भी बेहतरीन स्रोत है.

  •  यह मुंहासों से बचाव करता है. इसकी परत त्वचा को बैक्टीरिया से बचाने के लिए सुरक्षित आवरण देती है, जिससे बैक्टीरिया त्वचा के सीधे संपर्क में नहीं आ पाते और मुंहासे पनप नहीं पाते.
  • इसमें मौजूद विटामिन ई और फैटी एसिड्स त्वचा को इंफेक्शन्स से भी बचाते हैं.
  • यह सन डैमेज से बचाव करता है. साथ ही त्वचा का लचीलापन बढ़ाकर झुर्रियों व समय से पहले पनपनेवाले बढ़ती उम्र के निशानों को कम करता है. इसे आप सीधे तौर पर त्वचा पर लगा सकती हैं. इसकी मालिश करने से त्वचा का इलास्टिन और कोलाजन बरक़रार रहता है, जिससे आपको मिलता है यंगर लुक.
  • डेढ़ कप सनफ्लावर ऑयल में तीन कप शक्कर मिलाकर बॉडी स्क्रब तैयार करें. इसे इस्तेमाल करने से पहले शरीर को गुनगुने पानी से भिगो लें. इससे शरीर का तापमान थोड़ा बढ़ जाएगा और मृत त्वचा को हटाना आसान होगा.
  • त्वचा को नमी प्रदान करता है. आप चाहें, तो अपने मॉइश्‍चराइज़िंग प्रोडक्ट में इस तेल की कुछ बूंदें मिलाकर उसे यूज़ कर सकती हैं.
  • इससे आप आंखों के आसपास भी मसाज कर सकती हैं, जिससे वहां की त्वचा पर बारीक़ रेखाएं कम होंगी और त्वचा हेल्दी बनेगी.

AceiteAlmendra

आल्मंड ऑयल:

यह त्वचा को हेल्दी ग्लो देता है, क्योंकि यह विटामिन ए, बी और ई से भरपूर होता है. ये सभी विटामिन्स हेल्दी स्किन के लिए बेहद ज़रूरी हैं.

  • यह त्वचा को भीतर से नमी प्रदान करता है.
  • फटे होंठों, ड्राई स्किन, एलर्जी व रैशेज़ के लिए बहुत लाभकारी है.
  • आंखों के नीचे काले घेरे को कम करने में बहुत फ़ायदेमंद है. रोज़ाना सोने से पहले आंखों के आसपास इससे मालिश करें. इसके नियमित प्रयोग से फ़ायदा होगा.
  • यह सेल्स का पुनर्निर्माण करने में मदद करता है, जिससे आपको मिलती है यंग, ग्लोइंग और फ्रेश त्वचा.
  • यह बेहतरीन हैंड और फूट क्रीम है. यह त्वचा द्वारा जल्दी सोख लिया जाता है, इसलिए यह इस्तेमाल में आसान है. इससे हाथों और पैरों की मालिश करें और हैंड व फूट क्रीम की जगह इसे इस्तेमाल करें.
  • त्वचा की डलनेस भी कम करता है. टैन भी दूर करता है.
  • आल्मंड ऑयल में थोड़ा-सा शहद मिलाकर होंठों पर लगाएं. होंठों का कालापन व ड्राइनेस दोनों दूर होगा. चाहें तो इस मिश्रण को स्टोर भी करके रख सकती हैं.
  • आधा एवोकैडो को मैश करके 1-1 टेबलस्पून तेल और शहद मिलाएं. प्यूरी जैसा बना लें और स्किन पर अप्लाई करें. 15-20 मिनट बाद गुनगुने पानी से धो लें. स्किन ग्लो करने लगेगी.
  • आल्मंड ऑयल मैग्नीशियम से भरपूर होता है, जो बालों के लिए बेहद ज़रूरी है. इसकी कमी से बाल झड़ने लगते हैं. हफ़्ते में एक बार आल्मंड ऑयल से स्काल्प मसाज करें. बाल झड़ने बंद होंगे. चाहें, तो मालिश के बाद गर्म तौलिए को बालों में लपेट लें. इससे तेल और बेहतर ढंग से समाएगा.
  • यह डैंड्रफ की समस्या को दूर करने में बेहद लाभकारी है. यह स्काल्प पर मौजूद मृत त्वचा को हटाकर डैंड्रफ दूर करता है. आंवले को मैश करके उसमें आल्मंड ऑयल मिलाकर बालों में 30 मिनट तक लगाकर रखें. फिर बाल धो लें. डैंड्रफ दूर होकर बाल शाइन करेंगे.
  • स्काल्प में आल्मंड ऑयल से नियमित मसाज करने से स्काल्प के इंफेक्शन्स व जलन ख़त्म होती है, स्काल्प हेल्दी होता है.
×