Tag Archives: orgasm

नहीं जानते होंगे आप ऑर्गैज़्म से जुड़ी ये 10 बातें (10 Surprising Facts Of Female Orgasm)

Surprising Facts Of Female Orgasm
नहीं जानते होंगे आप ऑर्गैज़्म से जुड़ी ये 10 बातें (10 Surprising Facts Of Female Orgasm)

सेक्स या सेक्सुअल लाइफ में ऑगैज़्म यानी चरमसुख बहुत मायने रखता है. आज भी बहुतसी महिलाएं ऑगैज़्म तक नहीं पहुंच पाती, जिससे सेक्स उनके लिए उनका आनंददायक नहीं बन पाता, जितना उनके पार्टनर के लिए, इसलिए ऑर्गैज़्म से जुड़ी ये ज़रूरी बातें आपको भी पता होनी चाहिए…

Surprising Facts Of Female Orgasm

1. ऑर्गैज़्म पेनकिलर का काम करता है

आपको सिरदर्द है, तो कोई और उपाय करने से पहले एक बार सेक्स ट्राई करें. दरअसल, सेक्स के दौरान शरीर में ऑक्सीटॉसिन रिलीज़ होता है, जो हमें रिलैक्स करता है, तभी तो ऑर्गैज़्म आपके सिरदर्द के लिए बेहतरीन पेनकिलर का काम करता है.

2. कंडोम ऑर्गैज़्म क्वालिटी को अफेक्ट नहीं करता

अगर आपको लगता है कि कंडोम पहनने से सेक्स प्रक्रिया उतनी आनंददायक नहीं रहती, जितनी होनी चाहिए, तो यकीन मानिए एक्सपर्ट्स आपसे बिल्कुल इत्तेफ़ाक नहीं रखते. उनके मुताबिक कंडोम पहनने या न पहनने का ऑर्गैज़्म पर कोई असर नहीं पड़ता. यह ऑर्गैज़्म में बिल्कुल भी अड़चन नहीं बनता.

3. 30% महिलाएं ऑर्गैज़्म से वंचित रह जाती हैं

अगर आप ऑर्गैज़्म का अनुभव करने में सक्षम नहीं हो पाई हैं, तो घबराएं नहीं, बल्कि आपको यह जानकर हैरानी होगी कि लगभग 30% महिलाएं ऑर्गैज़्म तक नहीं पहुंच पातीं. कभी-कभार इसका कारण फीमेल सेक्सुअल डिस्फंक्शन भी होता है. अगर आप भी क्लाइमैक्स तक नहीं पहुंच पा रही हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें. आप चाहें, तो डायबिटीज़ या थायरॉइड भी चेक करवा सकती हैं.

4. जी स्पॉट आपके ऑर्गैज़्म को बेहतर बना सकता है

अक्सर बहुत-सी महिलाओं को अपने जी-स्पॉट के बारे में पता ही नहीं होता. आपको पता होना चाहिए कि वेजाइना के किस हिस्से में स्टिमुलेशन होने पर आप ऑर्गैज़्म तक पहुंचती हैं. आमतौर पर जी स्पॉट का टेक्स्चर रफ होता है, इसलिए इसे ढूंढ़ना बहुत मुश्किल नहीं. अपने जी स्पॉट की पहचान कर आप ऑर्गैज़्म तक आसानी से पहुंच सकती हैं.

5. उम्र के साथ ऑर्गैज़्म बेहतर होता जाता है

कहते हैं उम्र के साथ बहुत-सी चीज़ें बेहतर होती जाती हैं और ऑर्गैज़्म भी उसी का एक हिस्सा है, जो उम्र के साथ और बेहतर होता जाता है. रिपोर्ट्स की मानें, तो बढ़ती उम्र में महिलाओं को ऑर्गैज़्म आसानी से और जल्दी मिलता है, जो कि कम उम्र में उतनी जल्दी नहीं मिलता. जहां 18-24 साल की लड़कियों में मात्र 61% को ऑर्गैज़्म मिलता है, वहीं 30 की उम्र की लगभग 65% महिलाओं को ऑर्गैज़्म मिलता है, तो वहीं 40-50 की उम्र की 70% महिलाओं को ऑर्गैज़्म मिलता है.

यह भी पढ़ें: सेक्स रिसर्च: सेक्स से जुड़ी ये 20 Amazing बातें, जो हैरान कर देंगी आपको

Surprising Facts Of Female Orgasm

6. अलग-अलग पोज़ीशन्स से जल्दी ऑर्गैज़्म मिलता है

अगर आप रोज़ ही एक ही सेक्स पोज़ीशन ट्राई करती हैं और ऑर्गैज़्म तक नहीं पहुंच पातीं, तो आज कुछ अलग ट्राई करें. आज आप एक या दो पोज़ीशन्स ट्राई करें, इसके अलावा ओरल सेक्स को भी इसमें शामिल करें.

7. आपका आत्मविश्‍वास ऑर्गैज़्म को प्रभावित करता है

महिलाएं अक्सर अपने प्राइवेट पार्ट्स को लेकर काफ़ी कॉन्शियस रहती हैं, पर उसकी ज़रूरत नहीं, क्योंकि वेजाइना को कोई परफेक्ट शेप या साइज़ जैसी चीज़ नहीं होती. आपका प्राइवेट पार्ट जैसा भी है, आपको उसमें कॉन्फिडेंस होना चाहिए, क्योंकि आपका आत्मविश्‍वास ही आपको बेहतर ऑर्गैज़्म दिला सकता है.

8. महिलाओं के लिए टॉप पोज़ीशन

सेक्सोलॉजिस्ट्स के मुताबिक जिन महिलाओं को जल्दी ऑर्गैज़्म नहीं मिलता, उन्हें टॉप पोज़ीशन ट्राई करनी चाहिए, इसमें उन्हें जल्दी ऑर्गैज़्म मिलता है. बहुत-सी महिलाएं पूरी ज़िंदगी यही सोचती हैं कि सेक्स करना पति की ज़िम्मेदारी है, उन्हें बस उसमें साथ देना है, जबकि ऐसा है. संभोग को जब तक दोनों समान रूप से एंजॉय नहीं करेंगे, दोनों को ही उस चरमसुख की प्राप्ति नहीं होगी.

9. दुर्लभ मामलों में एक्सरसाइज़ से भी हो सकता है ऑर्गैज़्म

एक्सपर्ट की मानें, तो कुछ लोगों को एक्सरसाइज़ या मसाज के दौरान भी ऑर्गैज़्म मिल सकता है, हालांकि यह बहुत दुर्लभ स्थिति है. ऐसा बिरले लोगों के साथ ही होता है. दरअसल, एक्सरसाइज़ या मसाज के दौरान रक्त संचार बढ़ जाता है. अगर किसी के प्राइवेट पार्ट्स में ब्लड फ्लो बढ़ जाए, तो उसे ऑर्गैज़्म मिल सकता है. उदाहरण के लिए किसी को ट्रेडमिल पर चलने मात्र से ऑर्गैज़्म आ सकता है.

10. ज़्यादातर महिलाओं को ऑर्गैज़्म में व़क्त लगता है

यह तो सभी को पता है कि महिलाओं को पुरुषों की तुलना में ऑर्गैज़्म देरी से आता है, पर यह पूरी तरह सामान्य है. इसके लिए आप यह बिल्कुल न सोचें कि आपमें कोई कमी है, बल्कि अपनी सेक्स लाइफ को एंजॉय करें. याद रखें, आप अपनी सेक्स लाइफ को जितना इंट्रेस्टिंग बनाएंगी, ऑर्गैज़्म उतनी जल्दी मिलेगा.

– अनीता सिंह 

यह भी पढ़ें: सेक्सुअल हेल्थ के 30+ घरेलू नुस्खे

 

जानें जिम के 8 Exciting सेक्स बेनेफिट्स(8 Exciting Sex Benefits Of Gym)

जिम में रोज़ाना एक्सरसाइज़ करने से न स़िर्फ बॉडी फिट एंड फाइन रहती है, बल्कि ये सेक्स लाइफ को हेल्दी बनाने में भी मदद करता है. रेग्युलर जिम जाना आपके अंतरंग पलों के लिए क्यों फ़ायदेमंद है? आइए, जानते हैं.

Depositphotos_5420299_m

1. टेस्टोस्टेरॉन लेवल बढ़ता है

अंतरंग पलों में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. ये हार्मोन सेक्स की इच्छा और क्रियाशीलता के लिए उत्तरदायी है. रिसर्च बताती है कि रेग्युलर एक्सरसाइज़, ख़ासकर जिम में किए जानेवाले स्न्वैट्स से टेस्टोस्टेरॉन लेवल बढ़ता है.

2. एनर्जी लेवल बढ़ता है

रेग्युलर एक्सरसाइज़ करने से एनर्जी लेवल बढ़ता है और ये एनर्जी सेक्स लाइफ में भी आपको एनर्जेटिक बनाए रखता है और आप सेक्स को ज़्यादा एंजॉय कर पाते हैं.

3. आत्मविश्‍वास बढ़ता है

मोटापा सेक्स के लिए हानिकारक है. इससे जल्दी थकान महसूस होने लगती है और मोटापे का शिकार व्यक्ति पार्टनर को संतुष्ट नहीं कर पाता. इससे उसका आत्मविश्‍वास टूट जाता है और वह सेक्स से दूर भागने लगता है. जिम में एक्सरसाइज़ करने से मोटापा कम होता है और टेस्टोस्टेरॉन लेवल बढ़ने से सेक्स की इच्छा जागने लगती है.

ये भी पढें: मसाज थेरेपी फॉर बेटर सेक्स

4. मिलती है टोन्ड-अट्रैक्टिव बॉडी

स्लिम-ट्रिम व टोन्ड बॉडी सबको आकर्षित करती है. जिम जाने से एब्स टोन्ड होते हैं. हाथ और पैरों की मसल्स स्ट्रॉन्ग होती हैं. महिलाओं की कमर पतली होने लगती है. बॉडी में कर्व्स आने लगते हैं. प्यार के उन ख़ास पलों में आपकी आकर्षक बॉडी पार्टनर को आपके और क़रीब ले आती है.

5. दूर होता है स्ट्रेस

आमतौर पर स्ट्रेस के कारण कपल्स अंतरंग पलों को पूरी तरह एंजॉय नहीं कर पाते. तनावग्रस्त होने पर उन्हें सेक्स की इच्छा नहीं होती. स्ट्रेस से स्टेमिना भी घटता है. जिम में रेग्युलर एक्सरसाइज़ स्ट्रेस बस्टर का काम करता है. एक्सरसाइज़ करने के बाद आप रिलैक्स महसूस करते हैं.

6. बैलेंस डायट

जिम में एक्सरसाइज़ के साथ ही ट्रेनर आपको डायट चार्ट भी देते हैं. वो आपके एक्सरसाइज़ टाइप और शरीर की ज़रूरतों के अनुसार आपका डायट चार्ट बनाते हैं. वर्कआउट के बाद शरीर को पोषक तत्वों की ज़रूरत पड़ती है. मसल्स और बॉडी बिल्डिंग के लिए हाईप्रोटीन और ज़िंक युक्त डायट लेनी चाहिए. हेल्दी सेक्स लाइफ के लिए बैलेंस डायट बहुत ज़रूरी है.

7. ब्रीदिंग पर कंट्रोल होता है

valentines-day-planning (1)
एक्सरसाइज़ और योग आपको ब्रीदिंग पर कंट्रोल करना सिखाता है और सही ब्रीदिंग टेकनीक से आप सेक्स का ड्यूरेशन और प्लेज़र दोनों बढ़ा सकते हैं.

 ये भी पढें: रिलेशनशिप को हेल्दी रखने के लिए ज़रूरी है फिट रहना

 

8. ऑर्गेज़म को बेहतर बनाता है

रिसर्च से ये बात पता चली है कि जो महिलाएं रेग्युलर एक्सरसाइज़ करती हैं, वे जल्दी उत्तेजित हो जाती हैं और ऑगेज़म को एन्जॉय करती हैं. दरअसल एक्सरसाइज़ से उनमें सेक्स हार्मोन्स का लेवल बढ़ जाता है, जिससे वे बेहतर सेक्स पार्टनर साबित होती हैं.