Panga

बॉलीवुड क्वीन कंगना रनौत किसी से नहीं डरतीं. बॉलीवुड में नेपोटिज़्म पर खुलकर सामने आई हैं कंगना रनौत और कई लोगों का पर्दाफाश भी किया है. बॉलीवुड में नेपोटिज़्म पर कंगना रनौत और करण जौहर का विवाद तो जगजाहिर है. कंगना रनौत जब करण जौहर के शो ‘कॉफी विद करण’ में शामिल हुई, तब उन्होंने करण जौहर पर फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म फैलाने का आरोप लगाया था. सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद भी कंगना रनौत ने वीडियो जारी कर कहा कि सुशांत ने आत्महत्या नहीं की, उसकी हत्या की गई है. उसके बाद बॉलीवुड में नेपोटिज़्म पर बहस इतनी तेज हो गई कि ये अब थमने का नाम नहीं ले रही है. अब कंगना रनौत ने आमिर खान पर निशाना साधा है. कंगना के आमिर खान का एक पुराना इंटरव्यू शेयर कर उन पर धर्मनिरपेक्षता का सवाल उठाया है.

Kangana Ranaut Targets Aamir Khan

कंगना रनौत ने आमिर खान पर ऐसे साधा निशाना
कंगना रनौत ने अब आमिर खान से पंगा ले लिया है. कंगना ने आमिर खान का एक पुराना इंटरव्यू शेयर करते हुए उन पर धर्मनिरपेक्षता का सवाल उठाया है. कंगना ने अपने ट्वीट के माध्यम से यह कहने की कोशिश की है कि आमिर खान अपने बच्चों को सख्ती से इस्लाम को फॉलो करने को कहते हैं. बता दें कि आमिर खान इन दिनों अपनी आगामी फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ की शूटिंग के सिलसिले में तुर्की गए हुए थे. वहां पर उन्होंने तुर्की के राष्ट्रपति की पत्नी एमीन एर्दोगन से मुलाकात की. इस मुलाकात की तस्वीर जब सोशल मीडिया पर वायरल हुई, तो बवाल मच गया. बता दें कि तुर्की के राष्ट्रपति ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के खिलाफ बयान दिया था, ऐसे में आमिर खान का उनकी पत्नी से मिलना आग में हवा का काम कर गया. आमिर खान का तुर्की के राष्ट्रपति की पत्नी से मिलने को राजनीतिक दृष्टिकोण दे दिया गया और उनका विरोध होना शुरू हो गया. ऐसे में कंगना रनौत की टीम की तरफ से भी आमिर खान के लिए ट्वीट करना इस खबर को और बढ़ा रहा है. कंगना रनौत ने सोशल मीडिया पर आमिर खान का एक पुराना वीडियो शेयर किया है और अपने ट्वीट के माध्यम से यह कहने की कोशिश की है कि आमिर खान अपने बच्चों को सख्ती से इस्लाम को फॉलो करने को कहते हैं. कंगना रनौत की टीम की तरफ से आमिर खान का एक पुराना इंटरव्यू शेयर किया गया है, जिसमें आमिर ये कहते नज़र आ रहे हैं कि उनकी पत्नी भले ही हिंदू है, लेकिन उनके बच्चे हमेशा सिर्फ इस्लाम को फॉलो करेंगे.

यह भी पढ़ें: कंगना रनौत ने सुशांत सिंह राजपूत का वीडियो शेयर कर करीना कपूर पर ऐसे निशाना साधा (Kangana Ranaut Take An Indirect Dig At Kareena Kapoor)

आमिर खान ने अपने इंटरव्यू में ये कहा
जब आमिर खान से पूछा गया कि क्या हिंदू महिलाओं से शादी करने के बाद उन्हें रहन-सहन को लेकर किसी प्रकार की दुविधा का सामना नहीं करना पड़ा था. इसके जवाब में आमिर खान ने कहा, “नहीं, मुझे कभी भी ऐसा कुछ भी महसूस नहीं हुआ. मैं अपने तरीके से जीता हूं और मेरी पत्नी अपने तरीके से. हम दोनों एक दूसरे पर अपने धर्म की रीति-रिवाज कभी नहीं थोपते. हां, मैंने हमेशा से ये जरूर स्पष्ट कर रखा है कि मेरे बच्चे हमेशा इस्लाम को ही फॉलो करें. आमिर खान के इस स्टेटमेंट को कंगना रनौत ने कोट किया है और उन पर धर्मनिरपेक्षता का सवाल उठाया है. कंगना रनौत ने ट्वीट में लिखा है- ‘हिंदू + मुस्लिम = मुस्लिम. ये तो कट्टरपंथी है. दो अलग-अलग धर्म में शादी करने का ये मतलब नहीं होता कि जीन्स और तौर तरीके का ही मिलन होगा. दूसरे धर्म में शादी करने का मतलब ये होता है कि दो धर्मों का भी मिलन होगा. उनका आपस में मिश्रण होगा. बच्चों को अल्लाह की इबादत भी सिखाइए और श्री कृष्ण की भक्ति भी. यही सेक्युलेरिज्म है ना?’

Kangana Ranaut

कंगना रनौत के इस ट्वीट का आमिर खान क्या जवाब देते हैं, ये तो आने वाला वक़्त ही बताएगा, लेकिन बॉलीवुड क्वीन कंगना रनौत का पंगा जारी है. बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत जितना अपनी बेहतरीन एक्टिंग के लिए मशहूर हैं, उतना ही अपने बेबाक बयानों के लिए भी पॉप्युलर हैं. अपने बेबाक बयान के लिए कंगना रनौत अक्सर सुर्ख़ियों में रहती हैं. कंगना रनौत का बॉलीवुड में कोई गॉडफादर नहीं है, फिर भी उन्होंने बॉलीवुड में अपनी एक अलग पहचान बनाई है, लेकिन जब भी उन्हें अपने आसपास कुछ गलत होता नज़र आता है तो कंगना उस पर अपनी प्रतिक्रिया जरूर देती हैं.

पंगा गर्ल कंगना रनौत की बेबाकी पर आपकी क्या राय है, हमें कमेंट करके जरूर बताएं.

वर्ष 2019 न स़िर्फ स्पोर्ट्स, बल्कि फिल्मों के मामले में भी महिलाओं के नाम रहा. साल 2019 में एक के बाद एक बेहतरीन महिला प्रधान फिल्में रिलीज़ हुईं और इन फिल्मों में अपने दमदार अभिनय के दम पर अभिनेत्रियों ने ये साबित कर दिया कि महिला प्रधान फिल्में भी बॉक्स ऑफिस पर कमाल दिखा सकती हैं और इन फिल्मों को हिट कराने के लिए हीरो की ज़रूरत नहीं है. वर्ष 2019 ही नहीं 2020 भी महिला प्रधान फिल्मों के नाम रहनेवाला है यानी इस साल भी एक से बढ़कर एक महिला प्रधान फिल्में रिलीज़ के लिए तैयार हैं. इस साल आपको ये महिला प्रधान फिल्में ज़रूर देखनी चाहिए:

1) छपाक
जनवरी 2020 में रिलीज़ हुई दीपिका पादुकोण की फिल्म छपाक एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल के जीवन पर आधारित है. ये फिल्म आज की ज़रूरत है. इस फिल्म के माध्यम से एसिड अटैक की घटनाओं को रोकने का संदेश दिया गया है और लोगों को जागरूक करने की कोशिश की गई है. हालांकि दीपिका पादुकोण के जेएनयू दौरे के कारण कई जगहों पर फिल्म के प्रदर्शन में द़िक्क़त आई, लेकिन इस फिल्म को एक बेहतरीन महिला प्रधान फिल्म कहा जा सकता है.

2) पंगा
जनवरी 2020 में ही एक और महिला प्रधान फिल्म पंगा रिलीज़ हुई. ये फिल्म भारतीय महिला कबड्डी टीम की भूतपूर्व कप्तान रह चुकी जया निगम की कहानी है. फिल्म में जया निगम का क़िरदार कंगना रनौत ने निभाया है. फिल्म पंगा को भी दर्शकों ने पसंद किया. इस फिल्म में ये संदेश देने की कोशिश की गई है कि महिला को यदि अपने परिवारवालों का सपोर्ट मिले, तो वो अपने सपनों को आसानी से पूरा कर सकती है और सपनों को हासिल करने में उम्र कभी बाधा नहीं बनती.

3) थप्पड़
महिला प्रधान फिल्मों में तापसी पन्नू का होना ही फिल्म को स्पेशल बनाता है. फिल्म थप्पड़ में भी तापसी पन्नू ने दमदार अभिनय किया है. फरवरी 2020 में रिलीज़ हुई फिल्म थप्पड़ एक ड्रामा थ्रिलर है और एक बेहतरीन महिला प्रधान फिल्म भी.

यह भी पढ़ें: करीना कपूर से लेकर कैटरीना कैफ तक बॉलीवुड एक्ट्रेस को पसंद है रेड साड़ी (Bollywood Actress Likes Red Saree From Kareena Kapoor To Katrina Kaif)

4) गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल
इस फिल्म की ख़ास बात ये है कि इसकी चर्चा 2019 में भी काफ़ी हो चुकी है. गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल फिल्म में जाह्नवी कपूर मुख्य भूमिका में हैं. यह फिल्म महिलाओं के लिए ही नहीं, पूरे देश के लिए प्रेरणादायक है. वर्ष 2020 की महिला प्रधान फिल्मों में गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल एक महत्वपूर्ण फिल्म है.

5) धाकड़
कंगना रनौत का शानदार एक्शन आप पहले भी कई फिल्मों में देख चुके हैं. फिल्म धाकड़ में एक बार फिर कंगना एक्शन करती नज़र आएंगी. महिला प्रधान फिल्मों में कंगना रनौत का हमेशा से विशेष योगदान रहा है और इस फिल्म में भी वो अपनी एक अलग पहचान बनाती नज़र आएंगी.

6) शकुंतला देवी
बॉलीवुड की मोस्ट टैलेंटेड एक्ट्रेस विद्या बालन जल्द ही फिल्म शकुंतला देवी में नज़र आनेवाली हैं. इस फिल्म की कहानी महान गणितज्ञ शकुंतला देवी पर आधारित है. शकुंतला देवी तेज़ी से गणित का हिसाब करने की कला में माहिर थीं. इसी वजह से उन्हें मानव कंप्यूटर का उपनाम भी दिया गया था. फिल्म में विद्या बालन के पति का क़िरदार बांग्ला फिल्म जगत के लोकप्रिय अभिनेता जीशु सेनगुप्ता निभाएंगे.

यह भी पढ़ें: 10 बॉलीवुड एक्ट्रेस ने जब पहली बार मांग में भरा सिंदूर (First Sindoor Looks Of 10 Bollywood Actresses)

7) थलाइवी
जानी-मानी राजनीतिज्ञ और फिल्म अभिनेत्री रहीं जयललिता की बायोपिक थलाइवी में कंगना रनौत उनका क़िरदार निभाएंगी. इस फिल्म को ए एल विजय निर्देशित कर रहे हैं. 2020 में थलाइवी फिल्म को तमिल, तेलुगू और हिंदी में एक साथ रिलीज़ किया जाएगा.

8) गंगूबाई काठियावाड़ी
संजय लीला भंसाली की फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी भी वर्ष 2020 की एक प्रमुख महिला प्रधान फिल्म है. इस फिल्म में आलिया भट्ट मुख्य भूमिका में हैं. मुंबई के कमाठीपुरा में रहनेवाली एक माफिया क्वीन गंगूबाई पर आधारित फिल्म गंगूबाई काठियावाड़ी की कहानी हुसैन ज़ैदी की क़िताब माफिया क्वीन्स ऑफ मुंबई से ली गई है.

वर्ष 2019 की ये महिला प्रधान फिल्में हर महिला को देखनी चाहिए
वर्ष 2019 न स़िर्फ स्पोर्ट्स, बल्कि फिल्मों के मामले में भी महिलाओं के नाम रहा. साल 2019 में एक के बाद एक बेहतरीन महिला प्रधान फिल्में रिलीज़ हुईं और इन फिल्मों में अपने दमदार अभिनय के दम पर अभिनेत्रियों ने ये साबित कर दिया कि महिला प्रधान फिल्में भी बॉक्स ऑफिस पर कमाल दिखा सकती हैं और इन फिल्मों को हिट कराने के लिए हीरो की ज़रूरत नहीं है.

इन 10 बॉलीवुड एक्ट्रेस ने पहना सबसे महंगा शादी का जोड़ा, देखें वीडियो:

1) सांड की आंख
तापसी पन्नू और भूमि पेडनेकर की फिल्म सांड की आंख वर्ष 2019 की सबसे बेहतरीन महिला प्रधान फिल्म थी. इस फिल्म की सबसे ख़ास बात ये थी कि पहली बार कोई महिला प्रधान फिल्म दीपावली के समय रिलीज़ हुई और सांड की आंख फिल्म को दर्शकों ने ख़ूब पसंद भी किया. इस फिल्म में दोनों अभिनेत्रियों ने शूटर दादी का ज़बर्दस्त क़िरदार निभाया. फिल्म की कहानी और तापसी-भूमि की शानदार एक्टिंग के लिए फिल्म को काफी सराहना मिली. फिल्म सांड की आंख ने बॉक्स आफिस पर शानदार कमाई की.

2) मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी
बॉलीवुड की क्वीन कही जानेवाली एक्ट्रेस कंगना रनौत की फिल्म मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी इस साल की सबसे बड़ी महिला प्रधान फिल्म है. यह फिल्म झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के जीवन पर आधारित है. इस फिल्म में कंगना ने झांसी की रानी की भूमिका निभाई है और फिल्म में कंगना के काम को दर्शकों ने बहुत पसंद किया. हालांकि फिल्म अपने कुछ अंदरूनी मसलों के कारण विवादों में रही, लेकिन इसके बावजूद फिल्म को दर्शकों की अच्छी सराहना मिली. महिला प्रधान फिल्म होने के साथ ही इस फिल्म की ख़ास बात ये है कि इस फिल्म की निर्देशक भी कंगना रनौत ही हैं.

3) मिशन मंगल
इसरो की पहली ही कोशिश में मंगल पहुंचने की कहानी पर आधारित फिल्म मिशन मंगल में मुख्य क़िरदार में विद्या बालन, तापसी पन्नू, सोनाक्षी सिन्हा, कीर्ति कुल्हारी और नित्या मेनन हैं. हालांकि फिल्म में अक्षय कुमार मुख्य अभिनेता के रूप में थे, लेकिन ये फिल्म पूरी तरह से महिला प्रधान है. मार्स मिशन में महिलाओं का महत्वपूर्ण योगदान था और मिशन मंगल फिल्म में यही बताया गया है. हालांकि फिल्म के प्रमोशन के लिए अक्षय कुमार के नाम का सहारा लेने के लिए इस फिल्म की आलोचना भी हुई, लेकिन फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुई और सभी एक्ट्रेस की एक्टिंग की ख़ूब तारीफ़ भी हुई.

यह भी पढ़ें: लैक्मे फैशन वीक समर रिज़ॉर्ट 2020 में ये बॉलीवुड स्टार्स थे शो स्टॉपर (These Bollywood Stars Were The Show Stopper At Lakme Fashion Week Summer Resort 2020)

4) बदला
ये एक ऐसी महिला प्रधान फिल्म है, जिसने ये साबित कर दिखाया कि कम बजट में भी अच्छी फिल्म बनाई जा सकती है. कम बजट में बनी शाहरुख ख़ान के रेड चिलीज़ प्रोडक्शन की फिल्म बदला ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छी कमाई की. फिल्म में तापसी पन्नू और अमिताभ बच्चन मुख्य भूमिका में हैं. फिल्म में तापसी एक कत्ल के इल्ज़ाम में फंस जाती है और ख़ुद को बचाने के लिए अमिताभ बच्चन से मदद मांगती है. फिल्म बदला की कहानी और कलाकारों की एक्टिंग इतनी अच्छी है कि इसी कारण कम बजट में इतनी बेहतरीन फिल्म बन पाई है.

5) द स्काई इज़ पिंक
देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा लंबे समय से हिंदी फिल्मों में नज़र नहीं आईं, लेकिन जब उनकी फिल्म द स्काई इज़ पिंक रिलीज़ हुई, तो एक बार फिर दर्शक उनकी एक्टिंग के कायल हो गए. फिल्म में प्रियंका चोपड़ा ने जिस तरह एक प्रेमिका और मां की भूमिका निभाई है, उसने दर्शकों का दिल जीत लिया. फिल्म में प्रियंका के साथ फरहान अख़्तर भी हैं. इस फिल्म की कहानी और प्रियंका चोपड़ा की एक्टिंग इतनी भावुक है कि द स्काई इज़ पिंक फिल्म की तारीफ़ न स़िर्फ दर्शकों ने की, बल्कि कई कलाकारों ने भी की.

6) मर्दानी 2
पिछले कुछ समय से रानी मुखर्जी लगातार महिला प्रधान फिल्मों में काम कर रही हैं. मर्दानी, हिचकी जैसी संवेदनशील फिल्मों में काम करने के बाद 2019 में रानी मुखर्जी फिल्म मर्दानी 2 में इंस्पेक्टर शिवानी शिवाजी राव बनकर महिलाओं पर ज़ुल्म करनेवाले अपराधियों पर कहर बरपाती नज़र आईं. मर्दानी 2 फिल्म को दर्शकों ने पसंद किया और इसे रिलीज़ के पहले दिन से ही अच्छा रिस्पॉन्स मिला.

यह भी पढ़ें: 8 बॉलीवुड एक्ट्रेस ने भारतीय परिधान को दिया ग्लोबल लुक (8 Bollywood Actresses Gave Global Look To Indian Apparel)

7) एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा
इस फिल्म में यूं तो सोनम कपूर के साथ अनिल कपूर और राजकुमार राव भी मुख्य भूमिका में हैं, लेकिन अपने नाम और कहानी के कारण फिल्म सोनम कपूर के इर्दगिर्द ही घूमती है. एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा फिल्म की कहानी लेस्बियन यानी समलैंगिकता पर आधारित है. फिल्म का विषय अच्छा होते हुए भी ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर ख़ास कमाल नहीं दिखा पाई, लेकिन वर्ष 2019 की महिला प्रधान फिल्मों में इस फिल्म को शामिल किए बिना महिला प्रधान फिल्मों की बात अधूरी रह जाएगी.

8) द ज़ोया फैक्टर
सोनम कपूर ने वर्ष 2019 में दो महिला प्रधान फिल्मों (एक लड़की को देखा तो ऐसा लगा और द ज़ोया फैक्टर) में काम किया, लेकिन अफ़सोस उनकी दोनों ही फिल्में बॉक्स ऑफिस पर कुछ ख़ास कमाल नहीं कर पाईं. फिल्म द ज़ोया फैक्टर में सोनम कपूर ने एक ऐसी लड़की का क़िरदार निभाया है, जो इंडियन क्रिकेट टीम का लकी चार्म होती है, उसकी मौजूदगी में टीम सारे मैच जीतने लगती है. हालांकि फिल्म में सोनम कपूर के साथ दुलकर सलमान भी हैं, लेकिन फिल्म की कहानी पूरी तरह से सोनम कपूर के इर्दगिर्द ही घूमती है. सोनम कपूर की ये फिल्म भी ख़ास नहीं चली, लेकिन इस फिल्म को भी महिला प्रधान फिल्मों की कैटेगरी में रखना ज़रूरी है.
कमला बडोनी

पंगा क्वीन कंगना रनौत न किसी से डरती हैं और न ही अपनी बात कहने से पीछे हटती हैं. यदि क्रिकेट टीम के सबसे बड़े पंगेबाज़ की बात करें, तो उनके अनुसार, वे विराट कोहली हैं. वे न ही किसी से डरते हैं और देश को जीत दिलाने के लिए किभी तरह का पंगा लेने से नहीं कतराते. इस शुक्रवार को कंगना की फिल्म पंगा रिलीज होगी, जिस पर वे कहती हैं कि जहां मैं थिएटर में पंगा लूंगी, वहीं विराट कोहली न्यूज़ीलैंड में उनके घर में घुसकर ही खिलाड़ियों के साथ मैच जीतने का पंगा लेंगे. विराट बिल्कुल मेरी तरह हैं. किसी भी बात से नहीं घबराते, जो सही है, वहीं करते हैं…

Kangana Ranaut and Virat Kohli

सच ही कहा है विराट के बारे में कंगना ने. वैसे कंगना भी किसी से भी पंगा लेने से नहीं हिचकिचाती, फिर चाहे वो दीपिका पादुकोण हो, सैफ अली ख़ान या फिर कोई और. दीपिका के जेएनयू के विरोध प्रदर्शन में शामिल होने पर भी उन्होंने बेबाक़ी से कहा कि वे टुकड़े गैंग के साथ नहीं हैं. साथ ही दीपिका द्वारा छपाक लुक चैलेंज पर भी वे जमकर बरसी थीं. उनके अनुसार, इस तरह की चुनौती देकर दीपिका ने एसिड अटैक पीड़ित लोगों का अपमान ही किया है. उन्हें इतनी सस्ती पब्लिसिटी स्टंट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. अपने इस चैलेंज के लिए दीपिका ट्रोल भी ख़ूब हुई थीं.

Kangana RanautKangana Ranaut

View this post on Instagram

Kangana Ranaut debunks Saif's No India before British, asks "if No bharat, Then what was Mahabharata"? During 'Panga' promotions Kangana put her point of view over Saif Ali Khan’s 'No concept of India before British came in' statement. In an interview, during film panga promotions Kangana stated, ‘If there was no 'Bharat' then what was 'Mahabharat'' What did Ved Vyasa write then’. Kangana continued, "A few people have made their narratives that suit them but Lord Krishna was in Mahabharat, and that means Bharat was there at that time too. All the great kings of 'Bharat' fought the battle then. There was a collective identity even then called 'Bharat'." She further continues, "Now they say, that the territories should be different and should be split. But the division in three that happened then, people are still suffering from that.’ Video Courtesy: @zeenews #KanganaRanaut #SaifAliKhan

A post shared by Kangana Ranaut (@team_kangana_ranaut) on

सैफ अली ख़ान के भारत के अस्तित्व पर सवाल उठाने और इतिहास के साथ छेड़छाड़ करनेवाले बयान पर उन्होंने सैफ को लताड़ा. उनके अल्पज्ञान पर भी तंज कसा. रामायाण से लेकर महाभारत तक का ज़िक्र किया, जो हज़ारों वर्षों पुराने महाकाव्य हैं. सच, आख़िर अधिकतर सितारे इतने कम अक्ल क्यों होते हैं?

Kangana RanatKangana Ranat

वैसे धमाकेदार ख़बर तो यह भी है कि शायद कंगना राजनीति में भी आएं. रवि किशन से हुई बातचीत के बाद उन्होंने इस तरह का संकेत दिया है. वैसे भी थलाइवी फिल्म, जो अभिनेत्री व राजनीतिज्ञ जयललिता पर आधारित है, में वे उनका क़िरदार निभा रही हैं. ऐसे में यदि भविष्य में वे पॉलिटिक्स जॉइन करती हैं, तो कोई आश्‍चर्य की बात नहीं होगी. फ़िलहाल वे अपनी पंगा फिल्म द्वारा कबड्डी खेल में पंगे लेंगी. यह फिल्म एक ऐसी महिला कबड्डी खिलाड़ी पर है, जो शादी व बच्चे होने के बाद कबड्डी खेलना छोड़ देती है. लेकिन परिवार व सभी के द्वारा प्रोत्साहित करने पर दोबारा खेल में पंगा लेने के लिए कबड्डी से जुड़ती है. फिल्म से जुड़े प्रोमो, ट्रेलर, पोस्टर्स सब कुछ मज़ेदार रहा है अब तक. ख़ासकर कंगना के बेटे द्वारा उनकी हौसलाअफ़जाई करना, बहुत ही सुंदर व दिल को लुभाता है. अश्‍विनी अय्यर तिवारी द्वारा निर्देशित पंगा में कंगना के अलावा नीना गुप्ता, जस्सी गिल, रिचा चढ्डा भी ख़ास भूमिकाओं में है.

Street DancerKangana Ranat

कंगना रनौत के आए दिन पंगे लेते रहने की फ़ितरत के कारण फिल्म इंडस्ट्री भी बंटी हुई रहती है. लेकिन कंगना की सेहत पर इससे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता. उनका तो बस एक ही फंडा है कि भई हम तो पंगे लेंगे, सितारे चाहे जो भी हो. अब उनकी पंगा फिल्म जो स्ट्रीट डांसर 3 डी फिल्म के साथ टकराएगी, कितनी सफल और चुनौतीपूर्ण बन पाती है, यह तो परसों ही पता चल जाएगा. फ़िलहाल दोनों ही फिल्मों व भारतीय क्रिकेट टीम को ऑल द बेस्ट!..

यह भी पढ़ेOMG: अक्षय कुमार ने बढ़ाई अपनी फीस, अब एक फिल्म के लिए लेंगे इतने करोड़ (Akshay Kumar Hikes His Fee Again)