Tag Archives: periods

Personal Problems: पीरियड्स के दौरान असहनीय दर्द होता है (What Could Be Possible Reasons For Painful Periods?)

मेरी बेटी की उम्र 16 साल है. पीरियड्स (Periods) के दौरान उसे बहुत दर्द (Pain) होता है. क्या उसे इलाज की ज़रूरत है? क्या उसे किसी डॉक्टर को दिखाना चाहिए?
– ममता शाह, सूरत.

दर्दयुक्त माहवारी आपकी बेटी की सेहत के साथ-साथ उसकी पढ़ाई-लिखाई व पर्सनल लाइफ को भी प्रभावित कर सकती है. अगर इसके कारण वह अपनी लाइफ नॉर्मल तरी़के से जी नहीं पा रही है, तो आपको ज़रूर उसका इलाज कराना चाहिए. यह कई कारणों से हो सकता है, इसलिए सबसे पहले किसी एक्सपर्ट डॉक्टर से उसका चेकअप कराएं. वो उसे सोनोग्राफी करवाने की सलाह दे सकते हैं. पूरा चेकअप हो जाने के बाद डॉक्टर आपको कुछ पेनकिलर्स या ओरल कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स लेने की सलाह दे सकते हैं.

 यह भी पढ़ें: Personal Problems: एंडोमेटिरियोसिस क्या होता है? (Endometriosis: Symptoms, Causes And Treatment)

Reasons For Painful Periods

मेरी उम्र 30 साल है और हाल ही में मेरा लगातार दूसरा मिसकैरेज हो गया, जो दो महीने का था. क्या इसका यह मतलब है कि भविष्य में मैं कभी हेल्दी बच्चे को जन्म नहीं दे पाऊंगी?
– श्यामली राव, नागपुर.

ये बड़े दुर्भाग्य की बात है कि आजकल गर्भपात के मामले बहुत तेज़ी से बढ़े हैं और यह एक आम बात हो गई है. लगातार तीसरी बार गर्भपात की आशंका बहुत ही कम होती है. इसका कारण पैरेंट्स में किसी जेनेटिक समस्या का होना भी हो सकता है. इसलिए सबसे पहले किसी अच्छे गायनाकोलॉजिस्ट को मिलकर गर्भपात के कारणों को जानने के लिए सारे ज़रूरी टेस्ट्स कराएं. सही कारण पता चलते ही तुरंत इलाज कराएं. आप सकारात्मक सोच के साथ आगे बढ़ें. भविष्य में आप जल्दी ही एक हेल्दी बच्चे को जन्म देंगी.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: क्या पहली प्रेग्नेंसी में बहुत ज़्यादा चक्कर आते हैं? (Is Extreme Dizziness In First Pregnancy Normal?)

Dr. Rajshree Kumar

 

डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

 

 

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा ऐप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

Personal Problems: एंडोमेटिरियोसिस क्या होता है? (Endometriosis: Symptoms, Causes And Treatment)

मैं 24 वर्षीया कामकाजी महिला हूं. पिछले कई सालों से पीरियड्स (Periods) के दौरान मुझे काफ़ी दर्द (Pain) होता था, तो मैं पेनकिलर ले लेती थी. पर जब ज़्यादा तकलीफ़ बढ़ी, तो गायनाकोलॉजिस्ट को दिखाया. उन्होंने चेकअप करके बताया कि मुझे एंडोमेटिरियोसिस (Endometriosis) है. यह क्या है, कृपया मेरा मार्गदर्शन करें.
– प्रभा अवस्थी, मुंबई.

यूट्रस की अंदरूनी लाइनिंग के टिश्यूज़ को एंडोमेट्रियम कहते हैं. जब ये टिश्यूज़ यूट्र्स के बाहर ओवरीज़ या पेल्विक एरिया में चले जाते हैं, तब उस अवस्था को एंडोमेटिरियोसिस कहते हैं. इसके सही कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है. आमतौर पर यह 25-40 की उम्र की महिलाओं में होता है. इसके कारण महिलाओं को पेड़ू में और पीरियड्स के दौरान काफ़ी दर्द होता है. यह एक वंशानुगत समस्या है. ओरल कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स के सेवन से इसके होने की संभावना कम हो जाती है.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: बिना सर्जरी ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने के क्या उपाय हैं? (How To Enlarge Breast Size Without Surgery?)

Endometriosis

मैं 41 वर्षीया महिला हूं. मुझे अक्सर योनिमार्ग से स़फेद स्राव निकलता है और कभी-कभी बहुत खुजली भी होती है. मुझे क्या करना चाहिए?
– ख़ुशबू कुकरेजा, देहरादून.

कई बार योनिमार्ग से स़फेद स्राव निकलता है, पर अगर आपको उससे कोई समस्या नहीं है, तोउसके इलाज की कोई ज़रूरत नहीं होती है, वो अपने आप ठीक हो जाता है. योनि में खुजली होना और यूरिन पास करते समय जलन होना किसी इंफेक्शन के कारण हो सकता है और इसके कारण भी स़फेद स्राव होता है. अगर आपको डायबिटीज़ आदि कोई समस्या है, तो काफ़ी हद तक मुमकिन है कि यह फंगल इंफेक्शन हो. सबसे पहले फंगल इंफेक्शन का इलाज कराएं, इसके लिए आप अपने डॉक्टर से सलाह ले सकती हैं. इसके बाद आपको अपने डायबिटीज़ पर नियंत्रण करना होगा. योनि से होनेवाले स्राव के कई कारण हो सकते हैं, इसलिए जल्द से जल्द किसी अच्छे गायनाकोलॉजिस्ट से मिलें.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: कई सालों से हेवी ब्लीडिंग से परेशान हूं (Heavy Menstrual Bleeding Causes And Diagnosis)

 यह भी पढ़ें: Personal Problems: क्या पहली प्रेग्नेंसी में बहुत ज़्यादा चक्कर आते हैं? (Is Extreme Dizziness In First Pregnancy Normal?)

Dr. Rajshree Kumar

 

डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

 

 

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा ऐप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

Personal Problems: कई सालों से हेवी ब्लीडिंग से परेशान हूं (Heavy Menstrual Bleeding Causes And Diagnosis)

मैं 46 वर्षीया महिला हूं और ट्रीटमेंट (Treatment) के बावजूद पिछले कई सालों से हेवी ब्लीडिंग (Heavy Bleeding) से परेशान हूं. डॉक्टर ने मुझे हिस्टेरेक्टॉमी की सलाह दी है. कृपया, इसके साइड इफेक्ट्स के बारे में बताएं.
– रेखा वर्मा, कानपुर.

हिस्टेरेक्टॉमी में सर्जरी के ज़रिए यूटरस और सर्विक्स निकाल दी जाती हैं. यह सर्जरी एब्डॉमिनल, वेजाइनल और लैप्रोस्कोपिक तरीक़ों से की जा सकती है. वेजाइनल और लैप्रोस्कोपिक दोनों ही बेहतरीन तरी़के हैं, क्योंकि इनमें रिकवरी तेज़ी से होती है और ज़्यादा ब्लीडिंग भी नहीं होती. कुछ ही हफ़्तों में आप अपनी नॉर्मल लाइफ शुरू कर सकती हैं. सर्जरी के दौरान ओवरीज़ भी निकाल देने से एस्ट्रोजेन की कमी हो जाती है, जिससे मेनोपॉज़ के सभी लक्षण महसूस होते हैं. हालांकि सर्जरी के बाद डॉक्टर आपको क्या करें, क्या न करें की पूरी लिस्ट देंगे. सर्जरी के बाद आपको हाई फाइबर डायट लेना होगा, ताकि कफ़ या कब्ज़ की शिकायत न हो, वरना आपकी सर्जरी पर इसका असर पड़ेगा.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: क्या पहली प्रेग्नेंसी में बहुत ज़्यादा चक्कर आते हैं? (Is Extreme Dizziness In First Pregnancy Normal?)

Heavy Menstrual Bleeding

मैं 16 वर्षीया लड़की हूं. मेरी बाकी सहेलियों की तरह मुझे पीरियड्स नहीं आते, जबकि 14 साल की उम्र से ही हर महीने मुझे पेटदर्द होता है. अल्ट्रासाउंड से पता चला है कि मेरे गर्भाशय और योनि में खून जमा है. डॉक्टर के मुताबिक़ पीरियड्स के लिए मुझे एक छोटा-सा ऑपरेशन करवाना होगा. क्या ऐसा होता है?
– प्रगति सिन्हा, रायपुर.

आमतौर पर 11 से 14 साल के बीच लड़कियों के पीरियड्स आ जाते हैं, पर आपकी जो स्थिति है उसे हेमाटोकोल्पोस और हेमाटोमेत्रा कहते हैं, जिसमें ब्लड वेजाइना और यूटरस में जमा होता रहता है. आपकी वेजाइनल ओपनिंग बंद है, जिसके कारण ब्लड वेजाइना और यूटरस में जमा हो रहा है. जैसा कि आपने बताया कि 14 साल की उम्र से ही आपको हर महीने दर्द होता है, पर पीरियड्स नहीं होते, दरअसल तभी से आपके पीरियड्स शुरू हो गए हैं, पर वेजाइनल ओपनिंग के बंद होने के कारण ब्लड बाहर नहीं निकल पाया. आपको डरने की कोई ज़रूरत नहीं. बस, एक छोटे-से ऑपरेशन से सब ठीक हो जाएगा और आपके पीरियड्स नॉर्मल हो जाएंगे.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: क्या मेडिकल एबॉर्शन सेफ और इफेक्टिव है? (Is The Medical Abortion Safe?)

Dr. Rajshree Kumar

 

डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

 

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा ऐप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

 

क्या विटामिन डी3 लेवल चेक कराने की ज़रूरत है? (Do You Need To Go For A Vitamin D3 Test?)

मैं 39 वर्षीया महिला हूं और कमरदर्द से परेशान हूं. पेनकिलर्स लेने पर थोड़ी देर के लिए आराम हो जाता है, पर फिर स्थिति वही हो जाती है. डॉक्टर ने मुझे विटामिन डी3 लेवल (Vitamin D3 Level) चेक कराने की सलाह दी है. क्या यह ज़रूरी है? कृपया मेरा मार्गदर्शन करें. 
– ज्योति पांडे, भोपाल.

विटामिन डी दो प्रकार के होते हैं, डी2 और डी3. जहां डी2 भोजन और सप्लीमेंट से प्राप्त होता है, वहीं डी3 भोजन के अलावा सूरज की रोशनी से भी मिलता है. कैल्शियम मेटाबॉलिज़्म और बोन रिमॉडलिंग में इसका इस्तेमाल होता है. विटामिन डी हमारे इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाने के साथ-साथ, ब्रेन को डेवलप करने और हार्ट को हेल्दी बनाने का काम करता है. हड्डियों की मज़बूती के लिए यह बहुत ज़रूरी है, इसलिए अपना डी3 लेवल चेक कराएं, ताकि पता चल सके कि कहीं आपमें इसकी कमी तो नहीं.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: व्हाइट डिस्चार्ज से पीरियड्स जैसा पेटदर्द होता है (What Is Causing White Discharge With Menstrual Cramps?)

Vitamin D3 Test

मैं 17 साल की कॉलेज स्टूडेंट हूं. 13 साल की उम्र में मेरे पीरियड्स शुरू हो गए थे, पर कभी नियमित रूप से पीरियड्स आए नहीं. पिछले दो साल में स़िर्फ दो बार पीरियड्स आए हैं. डॉक्टर का कहना है कि इस उम्र में ऐसा होना सामान्य है, पर मेरी सभी सहेलियों के पीरियड्स नियमित हैं, इसलिए मुझे चिंता हो रही है. कृपया, मार्गदर्शन करें.
– रूपल मेहता, सूरत.

आमतौर पर पीरियड्स शुरू होने के दो साल तक अनियमित रहते हैं. कभी-कभार तो डेढ़ या दो महीने बाद पीरियड्स आते हैं, पर ज़्यादातर मामलों में 2 साल के बाद पीरियड्स नियमित हो जाते हैं, जबकि आपके मामले में ऐसा नहीं हुआ. आपको डरने की ज़रूरत नहीं. डॉक्टर से मिलकर आपको जनरल चेकअप के साथ-साथ कुछ ब्लड टेस्ट्स कराने होंगे, ताकि किसी भी तरह के हार्मोनल इश्यूज़ के बारे में पता चल सके. हो सकता है, इसका कारण थायरॉइड या पॉलीसिस्टिक ओवेरियन डिसीज़ हो, पर आप घबराएं नहीं, क्योंकि हर महिला का शरीर अलग होता है, इसलिए तुलना न करें, बल्कि डॉक्टर से मिलें.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: मेनोपॉज़ के क्या लक्षण होते हैं? (What Are The Signs And Symptoms Of Menopause?)

Dr. Rajshree Kumar

 

डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

 

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

Personal Problems: क्या पीरियड्स में सेक्स करने से प्रेग्नेंसी हो सकती है? (Can You Pregnant During Your Periods?)

मेरी एक सहेली ने पीरियड्स के पहले दिन सेक्स किया था, जिसके बाद दूसरे दिन से उसे ब्लीडिंग हुई ही नहीं. पीरियड्स न होने की वजह से वो काफ़ी परेशान है. कहीं वो प्रेग्नेंट तो नहीं?
–  मोहिनी राणा, इलाहाबाद.

अगर पीरियड्स के दौरान ब्लीडिंग फ्लो सही था, तो प्रेगनेंसी के बहुत काम चान्सेस हैं. आपके इस तरह के ब्लड फ्लो का कारण हार्मोन्स का असंतुलन हो सकता है. फिर भी निश्चिन्त होने के लिए यूरिन प्रेग्नेंसी टेस्ट करा लें. या फिर आप अगले पीरियड्स तक इंतज़ार करें, अगर तब भी ब्लीडिंग इस बार की तरह हो तो समझ जाएं की यह नॉर्मल है. प्रेगनेंसी स्टेटस की सही जानकारी के लिए आप बीटा एचसीजी ब्लड टेस्ट भी करा सकती हैं.

यह भी पढ़ें: पीएमएस के दौरान बहुत ज़्यादा चिड़चिड़ापन महसूस होता है (I Feel Very Frustrated During PMS)

Pregnant in Periods

 

मेरी एक समस्या है कि सेक्स के बाद अक्सर मेरा जी मिचलाने लगता है. सेक्स के बाद उल्टी जैसा फील होना क्या नॉर्मल है?
– सानिका मोरे, पुणे.

ये बेहद ही सामान्य बात है. हार्मोनल बदलाव की वजह से सेक्स से पहले और बाद में इस तरह की समस्या होती है. सेक्सुअल ऐक्टिविटी शुरू करने से पहले पानी पीना अवॉइड करें. सेक्सु्अल ऐक्टिविटी के बाद अपने गुप्तागों को क्लीन करें. रूम का तापमान कम रखें, इन चीज़ों को करने से आपको काफ़ी मदद मिलेगी. आप चिंता न करें, क्योंकि ये चिंता वाली बात ही नहीं है.

 

यह भी पढ़ें:  पीरियड्स देरी से आने के क्या कारण हो सकते हैं? (What Could Be The Reasons For Delayed Periods?)

Dr. Rajshree Kumar

 

डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

 

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

 

Personal Problems: पीएमएस के दौरान बहुत ज़्यादा चिड़चिड़ापन महसूस होता है (I Feel Very Frustrated During PMS)

मैं 23 वर्षीया कॉलेज स्टूडेंट हूं, पर पिछले कुछ महीनों से पीएमएस के दौरान बहुत ज़्यादा थकान, चिड़चिड़ापन, रात में पसीना आना और पेट फूलने से परेशान हूं. क्या मुझे किसी गायनाकोलॉजिस्ट से मिलना चाहिए?
– बरखा झा, पटना.

आपके द्वारा बताए गए लक्षण आपकी उम्र में बहुत आम बात हैं. शरीर में हार्मोंस के बदलाव के कारण ऐसे लक्षण नज़र आते हैं. इस दौरान प्रोजेस्टेरॉन
हार्मोंस के कारण पेट फूलना, छाती में भारीपन, मूड बदलने जैसे लक्षण पाए जाते हैं. पीरियड्स से कुछ दिन पहले से ही खाने में नमक की मात्रा कम कर दें. रोज़ाना थोड़ी देर योग व ध्यान करें. अगर आपको इससे आराम नहीं मिलता, तो गायनाकोलॉजिस्ट से ज़रूर मिलें.

यह भी पढ़ें: क्या इमरजेंसी कॉन्ट्रासेप्टिव्स के साइड इफेक्ट्स होते हैं? (Does Emergency Contraceptives Have Any Side Effects?)

 PMS Frustrations
मैं 38 वर्षीया स्वस्थ महिला हूं. रोज़ाना संतुलित आहार लेती हूं और हाइजीन का भी पूरा ख़्याल रखती हूं, फिर भी वेजाइनल डिस्चार्ज की समस्या से जूझ रही हूं. इसका क्या कारण हो सकता है. क्या मुझे डॉक्टर से मिलना चाहिए.
– चित्रा मिश्रा, झांसी.

वेजाइनल डिस्चार्ज के कई कारण हो सकते हैं, जैसे- बैक्टीरियल वेजिनोसिस, कैंडीडा इंफेक्शन, ट्रिकोमोनस इंफेक्शन आदि. अगर आप डायबिटीज़ या अस्थमा के कारण लंबे समय से स्टेरॉइड थेरेपी पर हैं या फिर लंबे समय से एंटीबायोटिक्स का सेवन कर रही हैं, तो आपको वेजाइनल इंफेक्शन हो सकता है. जैसा कि आपने बताया कि आप हाइजीन का ख़्याल रखती हैं, तो भी गर्मियों में आपको ज़्यादा अलर्ट रहने की ज़रूरत है, क्योंकि गर्मियों में उमस और पसीने के कारण वेजाइनल इंफेक्शन की संभावना और भी बढ़ जाती है. इसलिए हमेशा वेजाइना को साफ़ व सूखा रखने की कोशिश करें.

यह भी पढ़ें: पीरियड्स में क्या है नॉर्मल, क्या है ऐब्नॉर्मल? (What Is Normal & Abnormal In Periods?)

यह भी पढ़ें: पीरियड्स देरी से आने के क्या कारण हो सकते हैं? (What Could Be The Reasons For Delayed Periods?

Dr. Rajshree Kumar

 

डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

Personal Problems: पीरियड्स देरी से आने के क्या कारण हो सकते हैं? (What Could Be The Reasons For Delayed Periods?)

Personal Problems: पीरियड्स देरी से आने के क्या कारण हो सकते हैं? (What Could Be The Reasons For Delayed Periods?)
मैं 47 साल की महिला हूं. मुझे कई महीनों से पीरियड्स नहीं आ रहे हैं. इसकी क्या वजह हो सकती है? कहीं मुझे मेनोपॉज़ तो नहीं हो गया है. कृपया, मेरी समस्या का समाधान करें.
– रेषा गुप्ता, ठाणे.

मेनोपॉज़ होने पर पीरियड्स पहले की तरह रेग्युलर नहीं रहते हैं. कभी ब्लीडिंग ज़्यादा होती है, कभी कम और कई बार केवल स्पॉट नज़र आता है. कई बार पीरियड्स ज़्यादा दिनों के लिए रहते हैं, तो कभी कम दिनों में ही ख़त्म हो जाते हैं. अगर आपके पीरियड्स मिस हो रहे हैं, तो सबसे पहले प्रेग्नेंसी टेस्ट करें. अगर आप प्रेग्नेंट नहीं हैं, तो हो सकता है कि यह मेनोपॉज़ के संकेत हों. अगर लगातार 12 महीनों तक आपको पीरियड्स नहीं आते हैं और उसके बाद भी स्पॉटिंग ही दिखाई देती है, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें, क्योंकि ये कैंसर जैसी गंभीर समस्या भी हो सकती है.
मेनोपॉज़ को आप स्वयं पहचान सकती हैं. मेनोपॉज़ के कॉमन लक्षण हैं- वेजाइनल ड्रायनेस, नींद की कमी या नींद डिस्टर्ब हो जाना, ज़्यादा पसीना आना आदि. इन सारे लक्षणों की वजह से आप चिंता या अवसाद महसूस कर सकती हैं. मेनोपॉज़ है या नहीं ये जानने के लिए आप गायनाकोलॉजिस्ट से संपर्क करें. एक ब्लड टेस्ट के ज़रिए आसानी से इसका पता लगाया जा सकता है. इसके अलावा आप पैप स्मीयर यानी सरवाइकल कैंसर स्क्रीनिंग टेस्ट भी करवा सकती हैं.

यह भी पढ़ें: शारीरिक संबंध के बाद १-२ दिन तक ब्लीडिंग क्यों होती है?

Delayed Periods

पिछले 2-3 महीने से मेरे पीरियड्स देरी से आ रहे हैं. कृपया, मुझे बताएं कि पीरियड्स देरी से आने के क्या-क्या कारण हो सकते हैं.
– दीपिका शिंदे, जलगांव.  

स्ट्रेस, कुपोषण, थाइरॉइड प्रॉब्लम, कोई बीमारी, कंट्रासेप्टिव पिल्स, ईटिंग डिसऑर्डर, अर्ली मेनोपॉज़, ब्रेस्ट फीडिंग, मोटापा, पीसीओडी और अचानक से वज़न काम होने पर भी पीरियड्स देरी से आते हैं. आप अपने डॉक्टर से मिलें वो आपके पीरियड्स देरी से आने का कारण ज़्यादा सही तरीक़े से बता पाएंगे.

यह भी पढ़ें:  कंडोम के इस्तेमाल से प्राइवेट पार्ट में खुजली व जलन क्यों होती है?

 Dr. Rajshree Kumar

 

 डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

Personal Problems: 10-15 दिन में पीरियड्स आने के क्या कारण हो सकते हैं? (Possible Reasons For Periods In 10-15 Days?)

Reasons For Periods
Personal Problems: 10-15 दिन में पीरियड्स आने के क्या कारण हो सकते हैं? (Possible Reasons For Periods In 10-15 Days?)

महिलाओं की कई व्यक्तिगत समस्याएं होती हैं, जिनके बारे में वो मेरी सहेली के Personal Problems में जान सकती हैं. हो सकता है आपकी समस्या, किसी और की भी समस्या हो. तो महिलाओं की ऐसी ही पर्सनल प्रॉब्लम्स के बारे में जानने के लिए यहाँ पढ़ें.

मेरी उम्र 22 साल है. मेरी समस्या यह है कि हर 10 से 15 दिन में मेरे पीरियड्स आ जाते हैं. ऐसा क्यों होता है? कृपया बताएं मुझे क्या करना चाहिए?
– कुसुम कुमारी, नागपुर.

ये समस्या ज़्यादातर हार्मोनल असंतुलन या थायरॉइड की वजह से होती है. अगर महिला मेनोपॉज़ की ओर बढ़ रही है, तो ये लक्षण सामान्य हैं, क्योंकि इस दौरान पीरियड्स अनियमित हो जाते हैं. लेकिन आप 22 साल की हैं, तो मेनोपॉज़ नहीं हो सकता है. कुछ हार्मोनल टेस्ट्स और अल्ट्रासोनोग्राफी के ज़रिए इसके कारण का पता लगाया जा सकता है. आपको अपने हीमोग्लोबिन पर भी नज़र बनाए रखनी होगी, क्योंकि बार-बार पीरियड्स होने की वजह से एनीमिया और कमज़ोरी हो सकती है. कुछ घरेलू उपचार, जैसे- गुड़, खजूर, फल व हरी पत्तेदार सब्ज़ियों का सेवन करने से आपकी समस्या काफ़ी हद तक कम हो सकती है.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: ओवरी के सिस्ट को लेकर परेशान हूं

Reasons For Periods

मेरी शादी को डेढ़ साल हो गए हैं. इस साल फरवरी में मेरा मिसकैरेज हो गया था. अब मैं दोबारा कंसीव करना चाहती हूं, लेकिन कंसीव नहीं हो पा रहा है. क्या इसकी वजह मिसकैरेज है? कृपया बताएं मुझे क्या करना चाहिए?
– रेखा यादव, इलाहाबाद. 

गर्भपात या ऐब्नॉर्मल प्रेगनेंसी को नेचर्स लॉ कह सकते हैं, क्योंकि यह हमारे हाथ में नहीं होता. आप दोबारा प्रेगनेंसी की कोशिश कर सकती हैं.
किसी इंफर्टिलिटी स्पेशलिस्ट से मिलें. किसी तरह की मेडिकल प्रॉब्लम, दवाई रोज़ाना लेती हैं, तो वो भी हमें बताएं. अगर पिछली बार आपने नेचुरली कंसीव किया था तो इस बार भी नेचुरली कंसीव करने की संभावना है. फिर भी ओवेरियन रिज़र्व, ट्यूब की पोटेंसी, थाइरॉइड आदि के बारे में चेक करना होगा.

यह भी पढ़ें: पर्सनल प्रॉब्लम्स: गर्भधारण नहीं कर पा रही हूं, क्या मुझमें कोई प्रॉब्लम है?

 

 डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

Personal Problems: पीरियड्स में कम ब्लीडिंग का क्या कारण हो सकता है? (What Could Be Possible Reasons For Light Periods?)

Reasons For Light Periods
मेरी शादी को दो साल हो रहे हैं. मेरी उम्र 26 साल है. हमने 3 साल बाद बच्चे की प्लानिंग की थी, लेकिन अब मुझे पीरियड्स में कम ब्लीडिंग हो रही है. कहीं इसके कारण आगे चलकर मुझे बच्चे पैदा करने में कोई दिक्कत तो नहीं होगी?
– महिमा रेड्डी, हैदराबाद.

पीरियड्स के दौरान कम ब्लीडिंग के कई कारण हो सकते हैं, जैसे- हार्मोन्स का असंतुलन, पोषण की कमी, पीसीओएस, थायरॉइड प्रॉब्लम्स. अपने परिवार में पता करें कि अर्ली मेनोपॉज़ की हिस्ट्री तो नहीं.  आपको कुछ ब्लड टेस्ट कराने होंगे. टेस्ट में ओवेरियन रिज़र्व चेक कराएं और सोनोग्राफी करवाएं ताकि पता चल सके कि कितने साल और रुक सकते हैं. किसी फर्टिलिटी एक्सपर्ट से मिलें.

यह भी पढ़ें: पर्सनल प्रॉब्लम्स: क्या एनीमिया के कारण कंसीव नहीं कर पाऊंगी?

Reasons For Light Periods

मेरे बाएं ब्रेस्ट में गांठ है. इस गांठ की वजह से मुझे अब तक कोई प्रॉब्लम नहीं हुई है. लेकिन मेरे बाएं ब्रेस्ट का साइज़ दाएं वाले ब्रेस्ट से बड़ा है. क्या इससे मुझे भविष्य में कोई समस्या हो सकती है? मुझे क्या करना चाहिए?
– रोशनी पटवा, पटना.

ब्रेस्ट में छोटे लम्प्स फाइब्रोएडीनोमा हो सकते हैं. पर अच्छा होगा कि आप एक बार डॉक्टर से अपने ब्रेस्ट की कंप्लीट जांच करा लें. एक बार पारिवारिक इतिहास देख लें, कहीं किसी को परिवार में ब्रेस्ट कैंसर तो नहीं था. जॉक्टर की जांच के बाद आप बायलैट्रल ब्रेस्ट की सोनो-मैमोग्राफी करा लें. यह निदान का सबसे बेहतर टूल है.

यह भी पढ़ें: क्या कंसीव करने की संभावना को जानने के लिए कोई टेस्ट है?

 

 डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

 

 

Personal Problems: पीरियड्स के पहले बाएं स्तन में कंपन महसूस होती है? (Reasons For Palpitations In Left Breast Before Periods)

Breast, Periods, menstrual cycle
मैं 29 वर्षीया कामकाजी महिला हूं. पिछले कुछ महीनों से पीरियड्स के पहले मेरे बाएं स्तन में थोड़ी-थोड़ी देर पर कंपन या धकधकी महसूस होती है, पर कुछ देर बाद वह शांत हो जाती है. कहीं मुझे कोई बड़ी प्रॉब्लम तो नहीं?
– राजश्री पांचाल, मुंबई.

पीरियड्स के पहले हार्मोनल बदलावों के कारण छाती में बदलाव नज़र आते हैं. आपने महसूस किया होगा कि पीरियड्स के बाद यह कंपन बंद हो जाती है. आपको किसी गायनाकोलॉजिस्ट को मिलना चाहिए, ताकि अगर इससे आपके स्वास्थ्य पर कोई असर पड़ रहा हो, तो वो ज़रूरी टेस्ट्स व ट्रीटमेंट कर सकें. कंपन की जांच करवानी ज़रूरी है, क्योंकि वो हार्ट या थायरॉइड प्रॉब्लम्स के कारण भी हो सकती है. ऐसे ट्रीटमेंट में डॉक्टर आपको मल्टीविटामिन या फिर इवनिंग प्रिमरोज़ ऑयल सप्लीमेंट दे सकते हैं.

यह भी पढ़ें: क्या पेट के टीबी से फर्टिलिटी प्रभावित हो सकती है?

Breast, Periods, menstrual cycle

मैं 26 वर्षीया कॉलेज स्टूडेंट हूं. पिछले कुछ समय से खाना खाने के बाद मेरी नाभि के पास मुझे हल्का-हल्का दर्द महसूस होता है. इस दर्द का क्या कारण हो सकता है? कृपया, मेरी मदद करें.
– कोयल महापात्रा, कसौली.

स्टूडेंट्स अक्सर भागदौड़ व पढ़ाई के कारण अपने खानपान का ठीक से ध्यान नहीं देते. हो सकता है कि आप खाने के बीच में काफ़ी लंबा गैप कर देती हों, या फिर खाना समय से नहीं खातीं या फिर फास्टफूड ज़्यादा खाती हों. आमतौर पर नाभि के आसपास दर्द का सबसे बड़ा कारण एसिडिटी होती है. आपको ध्यान रखना होगा कि आप हर दो घंटे में कुछ न कुछ खाएं और तले व मसालेदार खाने से बचें. अगर दर्द लगातार बना हुआ है, तो आपको किसी गैस्ट्रोइंटरोलॉजिस्ट को मिलना चाहिए.

यह भी पढ़ें: क्या कंसीव करने की संभावना को जानने के लिए कोई टेस्ट है?

 

 डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

 

 

पर्सनल प्रॉब्लम्स: क्या प्रेग्नेंसी प्लान करने से पहले मेडिकल चेकअप करवाना चाहिए? (Do I Need Pre Pregnancy Checkups?)

Need Pre Pregnancy Checkups
मैं 35 वर्षीया शादीशुदा महिला हूं और मुझे बेटा भी है. मैं एक स्वस्थ महिला हूं और मुझे कोई बुरी आदत भी नहीं है. अगर मुझे दूसरा बच्चा चाहिए, तो क्या मुझे कंप्लीट मेडिकल चेकअप की ज़रूरत है?
– रंजना शिंदे, पुणे.

प्रेग्नेंसी के दौरान मां व बच्चे दोनों की अच्छी सेहत के लिए मां का स्वस्थ होना बहुत ज़रूरी है. प्रेग्नेंसी प्लान करने से पहले सभी ज़रूरी टेस्ट्स करवाएं. रेग्युलर हेल्थ चेकअप में ब्लड टेस्ट ज़रूर करवाएं. इससे थायरॉइड, डायबिटीज़ और ओबेसिटी जैसी बीमारियों का पता उनके शुरुआती दौर में ही चल जाता है. थायरॉइड के कारण जहां कंसीव करने में परेशानी होती है, वहीं डायबिटीज़ व ओबेसिटी से प्रेग्नेंसी के दौरान द़िक्क़तें आ सकती हैं. अगर कंसीव करने से पहले इनका पता चल जाए, तो सही तरी़के से इलाज किया जा सकता है और प्रेग्नेंसी में कोई प्रॉब्लम नहीं आती. प्रेग्नेंसी प्लान करने से पहले किसी अच्छे गायनाकोलॉजिस्ट को मिलें.

 Need Pre Pregnancy Checkups
मेरी बेटी की उम्र 15 साल है. पीरियड्स के दौरान उसे बहुत दर्द होता है. क्या उसे इलाज की ज़रूरत है? क्या उसे किसी डॉक्टर को दिखाना चाहिए?
– ममता शाह, सूरत.

दर्दयुक्त माहवारी आपकी बेटी की सेहत के साथ-साथ उसकी पढ़ाई-लिखाई व पर्सनल लाइफ को भी प्रभावित कर सकती है. अगर इसके कारण वह अपनी लाइफ नॉर्मल तरी़के से जी नहीं पा रही है, तो आपको ज़रूर उसका इलाज कराना चाहिए. यह कई कारणों से हो सकता है, इसलिए सबसे पहले किसी एक्सपर्ट डॉक्टर से उसका चेकअप कराएं. वो उसे सोनोग्राफी करवाने की सलाह दे सकते हैं. पूरा चेकअप हो जाने के बाद डॉक्टर आपको कुछ पेनकिलर्स या ओरल कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स लेने की सलाह दे सकते हैं.

यह भी पढ़ें: कंडोम के इस्तेमाल से प्राइवेट पार्ट में खुजली व जलन क्यों होती है?

यह भी पढ़ें: पर्सनल प्रॉब्लम्स: गर्भधारण नहीं कर पा रही हूं, क्या मुझमें कोई प्रॉब्लम है?

 

 डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies

 

 

पर्सनल प्रॉब्लम्स: पीरियड्स के दौरान असहनीय दर्द होता है (Possible Reasons For Painful Periods)

Reasons For Painful Periods
मैं 24 वर्षीया अविवाहित युवती हूं. हर महीने पीरियड्स के दौरान मुझे असहनीय दर्द होता है और मेरी रूटीन एकदम से बिगड़ जाती है. कृपया, कोई उचित मार्गदर्शन करें.
– नूपुर सेन, दिल्ली.

पीरियड्स के शुरुआती दिनों में दर्द नहीं होता, लेकिन कुछ सालों बाद दर्द शुरू हो जाता है. यह ओव्यूलेशन के कारण होता है. पीरियड्स के पहले दिन ज़्यादा दर्द होता है, पर धीरे-धीरे दर्द कम होने लगता है. आपके दर्द का कारण एंडोमेट्रियोसिस भी हो सकता है. सामान्य एंडोमेट्रियोसिस की स्थिति में दवा से आसानी से इलाज हो जाता है, लेकिन गंभीर एंडोमेट्रियोसिस के मामले में आपको लैप्रोस्कोपिक सर्जरी करवानी पड़ सकती है.

यह भी पढ़ें: शारीरिक संबंध के बाद १-२ दिन तक ब्लीडिंग क्यों होती है?

Reasons For Painful Periods

कई सालों पहले फायब्रॉइड्स के कारण मुझे अपना यूटरस निकलवाना पड़ा था. अब जब भी खांसती हूं या किसी काम के लिए ज़ोर लगाती हूं, तो वेजाइना बाहर की तरफ़ आ जाता है. मुझे क्या करना चाहिए?
 – रचना जाधव, पुणे.

आपके द्वारा बताए गए लक्षणों से लगता है कि आपको वॉल्ट प्रोलैप्स है. यूटरस निकलवाने के बाद कभी-कभी इस तरह की समस्या सामने आ जाती है. इसके लिए आपको वेजाइनल या लैप्रोस्कोपिक सर्जरी करवानी पड़ेगी. इस विषय में अधिक जानकारी के लिए जल्द से जल्द अपने डॉक्टर से संपर्क करें.

यह भी पढ़ें: कंडोम के इस्तेमाल से प्राइवेट पार्ट में खुजली व जलन क्यों होती है?

यह भी पढ़ें: पर्सनल प्रॉब्लम्स: गर्भधारण नहीं कर पा रही हूं, क्या मुझमें कोई प्रॉब्लम है?

 

डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

 

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा एेप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies