persoal problems

मुझे 7 माह का गर्भ है. रूटीन चेकअप के दौरान गायनाकोलॉजिस्ट ने ब्लड शुगर टेस्ट करवाया, जिसमें ब्लड शुगर का लेवल बहुत बढ़ा हुआ था. क्या ब्लड शुगर बढ़ने का मतलब है कि मैं डायबिटिक हूं? डॉक्टर ने मुझे इंसुलिन लेने को कहा है. क्या मुझे हमेशा ही इंसुलिन लेना होगा? मेरी मम्मी भी डायबिटिक हैं.
– नलिनी जोशी, कर्नाटक

आपको जेस्टेशनल डायबिटीज़ की समस्या है, जो गर्भावस्था के दौरान होनेवाली बीमारियों में से ही एक है. कुछ महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान जेस्टेशनल डायबिटीज़ हो जाती है. ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के लिए आपको अपनी डायट में बदलाव करना चाहिए, जैसे- इंसुलिन नियमित रूप से लेते रहें, ताकि डिलीवरी तक आपका ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहे. शुगर लेवल को नियंत्रित करने के लिए आप डायबिटोलॉजिस्ट और डायटीशियन की सलाह भी ले सकती हैं, जो आपको और आपके बच्चे को ध्यान में रखते हुए डायट प्लान करेेंगे. इसके अतिरिक्त प्रेग्नेंसी के दौरान नियमित रूप से अपना चेकअप कराएं. हो सकता है कि डिलीवरी के बाद भी आपको इंसुलिन की ज़रूरत पड़े. इसके लिए नियमित अंतराल पर ब्लड शुगर टेस्ट कराती रहें.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: 3-4 महीनों के बाद पीरियड्स आते हैं (Why My Periods Are 3-4 Months Late?)

Increased Blood Sugar During Pregnancy

मैं 27 वर्षीया महिला हूं. हाल ही में मेरी फोरसेप डिलीवरी हुई है. तब से मैं बहुत परेशान हूं, क्योंकि डिलीवरी के बाद से मुझे गैस की समस्या बहुत बढ़ गई है. साथ ही बार-बार टॉयलेट भी जाना प़ड़ता है. इस वजह से मुझे घर से बाहर जाने में बहुत शर्म आती है. कृपया, कोई उपाय बताएं?
– सोनाक्षी म्हात्रे, मुंबई

आपको ऐनल इन्कन्टिनेंस की समस्या हो सकती है, जो इंस्ट्रूमेंटल डिलीवरी के कारण हो जाती है. आप गायनाकोलॉजिस्ट से संपर्क करें. चाहें तो आप कोलोरेक्टल सर्जन से भी संपर्क कर सकती हैं. वे आपके कुछ टेस्ट कराएंगे और उसी के अनुसार ट्रीटमेंट भी करेंगे, ताकि भविष्य में बच्चा प्लान करना चाहें तो इस तरह की परेशानी न हो.

यह भी पढ़ें: Personal Problems: प्रेग्नेंसी में किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? (Do’s And Don’ts For A Safer Pregnancy)

Dr. Rajshree Kumar

डॉ. राजश्री कुमार
स्त्रीरोग व कैंसर विशेषज्ञ
[email protected]

हेल्थ से जुड़ी और जानकारी के लिए हमारा ऐप इंस्टॉल करें: Ayurvedic Home Remedies