Tag Archives: Politics

हमेशा याद रहेंगे… सरल, सहज… मनोहर परिकर! (Goa CM Manohar Parrikar Passes Away)

CM Manohar Parrikarहमेशा याद रहेंगे… सरल, सहज… मनोहर परिकर! (Goa CM Manohar Parrikar Passes Away)

अपनी निष्ठा और सहज स्वभाव के लिए तो मनोहर परिकर जाने जाते ही थे पर देश के रक्षा मंत्री के तैर पर भी इन्होंने अपनी अलग छाप छोड़ी है!

मनोहर परिकर ने रविवार १७ मार्च को लम्बी बीमारी के बाद अंतिम सांसें लीं! उन्हें पैंक्रीयास की बीमारी थी जिसका इलाज भी काफ़ी चला, पर अफ़सोस के वो अब हमारे बीच नहीं रहे!

63 वर्षीय पर्रिकर को सोमवार सुबह 11 बजे श्रधांजलि दी जाएगी. मनोहर पर्रिकर को  उनके कार्य और उनकी ईमानदारी के लिए जाना जाएगा.

प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने मनोहर परिकर के निधन पर ट्विट करके शोक प्रकट करते हुए लिखा ”श्री मनोहर पर्रिकर एक अद्वितीय नेता थे. एक सच्चे देशभक्त और असाधारण प्रशासक, वह सभी की प्रशंसा करते थे. राष्ट्र के प्रति उनकी त्रुटिहीन सेवा को पीढ़ियों द्वारा याद किया जाएगा। उनके निधन से गहरा दुख हुआ. उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना.”

मेरी सहेली की ओर से उन्हें श्रद्धांजलि!

जन्मदिन पर विशेष: जानिए नरेंद्र मोदी से जुड़ी ये दिलचस्प बातें! (Happy Birthday: Interesting Facts About Narendra Modi)

जन्मदिन पर विशेष: जानिए नरेंद्र मोदी

 

जन्मदिन पर विशेष: जानिए नरेंद्र मोदी

ख़्वाब तो हम सभी देखते हैं, लेकिन उन्हें शिद्दत के साथ पूरा करने का जज़्बा कम ही लोग दिखा पाते हैं. बेपरवाह होकर स़िर्फ अपने लक्ष्य पर नज़र बनाए रखने की कला भी सभी में नहीं होती, विरोधियों की बातों का जवाब अपने काम से देने में भी हर कोई माहिर नहीं होता… जिस शख़्स में ये तमाम ख़ूबियां होती हैं, फिर वो साधारण कहां रह जाता है? ऐसे ही असाधारण व्यक्तित्व के धनी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी हैं, जिनके जन्मदिन पर हम उन्हें सलाम कर रहे हैं.

  • 17 सितंबर 1950 को गुजरात में जन्मे नरेंद्र मोदी आज पूरी दुनिया की आंखों का तारा बन चुके हैं. दुनिया का बड़े से बड़ा शख़्स उनके विचारों, उनकी कूटनीति और उनके काम करने के अंदाज़ का कायल हो चुका है.
  • 2014 के लोकसभा चुनाव में 282 सीटें जीतकर अभूतपूर्व सफलता हासिल करने का करिश्मा इस करिश्माई नेता ने ही किया और आज भारत की दुनिया में जो साख बनी है, उसका श्रेय भी इन्हीं को जाता है. बेबाक, बेधड़क और देशहित में बोल्ड निर्णय लेने का जिगर भी नरेंद्र मोदी के पास ही है यह उन्होंने नोटबंदी और जीएसटी जैसे निर्णय लेकर साफ़ दिखा दिया है.
आइए उनके जन्मदिन पर उनसे जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें जानते हैं-
  • नरेंद्र मोदी हमेशा अपने हस्ताक्षर हिंदी में ही करते हैं, फिर चाहे वो सरकारी दस्तावेज़ हों या कोई और ईवेंट. हिंदी भाषा से उन्हें कितना प्रेम है, यह भी किसी से छिपा नहीं है और वो गर्व के साथ हिंदी का प्रयोग अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर करते हैं.
  • छोटी उम्र में ही नरेंद्र मोदी ने संन्यासी जीवन का अनुभव ले लिया था. कुछ वर्षों तक वो पहाड़ों और जंगलों में संन्यासी के तौर पर रहे.
  • अपने गांव में नदी के किनारे उन्होंने मगरमच्छ से भी लोहा ले लिया था और उससे लड़कर अपने बुलंद हौसले छोटी उम्र में ही दिखा दिए थे.
  • शायद कम ही लोग जानते हैं कि नरेंद्र मोदी पोलिटिकल साइंस में पोस्ट ग्रैजुएट हैं.
  • मोदीजी उन चार लोगों में से एक हैं, जिन्हें ट्विटर पर जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे फॉलो करते हैं.

यह भी पढ़ें: ‘वाहन’ से जानें किसी भी वाहन की जानकारी

यह भी पढ़ें: दुनिया के 10 पावरफुल लोगों में मोदी 9वें नंबर पर!

  • मोदीजी टेक्नोलॉजी को बेहद अच्छी तरह समझते हैं और यही वजह है कि उसका इस्तेमाल भी ख़ूब करते हैं. सेल्फी का शौक उन्हें भी है और लोगों के इस क्रेज़ को अच्छे कामों के लिए किस तरह से इस्तेमाल करना है, यह भी वो बख़ूबी जानते हैं. सेल्फी विद डॉटर की सफलता इसी का एक उदाहरण है.
  • सख़्त निर्णय लेनेवाला यह व्यक्ति कवि की कोमल भावनाएं भी रखता है. जी हां, मोदीजी कविताएं भी लिखते हैं.
  • वो कभी छुट्टी नहीं लेते, यहां तक कि 13 वर्षों के गुजरात के मुख्यमंत्री के अपने कार्यकाल में भी उन्होंने कोई छुट्टी नहीं ली थी.

यह भी पढ़ें: पेंशनर्स के लिए आसान हुआ जीवन प्रमाण पत्र 

यह भी पढ़ें: डिमॉनिटाइज़ेशन एक बोल्ड मूव- बिल गेट्स

  • उन्हें फैशन आयकॉन के तौर पर भी लोग फॉलो करते हैं, क्योंकि उनका व्यक्तित्व इतना आकर्षक है कि भले ही वो ख़ुद को फैशन फ्रीक न मानें, लेकिन मीडिया से लेकर आम जनता तक उनके पहनावे पर ख़ासा ध्यान देती है.
  • 2014 के चुनाव से पहले तक उनके मैरिटल स्टेटस के बारे में किसी को नहीं पता था, लेकिन उसके बाद यह बात सामने आई कि टीनएज में ही उनकी शादी हुई थी, लेकिन उन्होंने अपनी पत्नी को आगे पढ़ाई जारी रखने के लिए प्रेरित किया और ख़ुद संन्यासी जीवन की ओर अग्रसर हो गए.
  • मेरी सहेली की ओर से उन्हें जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं!

शॉटगन शत्रुघ्न सिन्हा हुए 71 साल के, जानें ये इट्रेस्टिंग किस्से (Happy Birthday Shatrughan Sinha)

फैन्स के बीच शॉटगन नाम से मशहूर शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) हो गए हैं 71 साल के. 9 दिसंबर 1945 को पटना में जन्मे शत्रुघ्न के खामोश कहने का अंदाज़ आज भी दूसरे स्टार्स कॉपी करते हैं. बॉलीवुड में बतौर विलन एंट्री लेने वाले शत्रु बॉलीवुड के हीरो बन गए. उन्होंने मेरे अपने, कालीचरण, दोस्ताना, शान, क्रांति, नसीब, काला पत्थर, लोहा जैसी एक से बढ़कर एक फिल्में करके लोगों का दिल जीत लिया. उनकी बुलंद आवाज, डायलॉग बोलने का अंदाज दर्शकों को इतना पसंद आया कि वो कम समय में ही फैन्स के फेवरेट बन गए. Shatrughan Sinha (1)उनके जन्मदिन के मौक़े पर जानते हैं उनके बारे में ये रोचक बातें.

  • शत्रुघ्न सिन्हा को फिल्मों में सबसे पहला ब्रेक देव आनंद ने दिया था. फिल्म प्रेम पुजारी में उन्होंने एक पाकिस्तानी मिलिट्री ऑफिसर का किरदार निभाया था.
  • शत्रुघ्न का रामायण के ‌किरदारों से गहरा नाता है. उनके घर में सबके नाम रामायण के किरदारों से प्रभावित हैं. वो अपने चारों भाई राम, लक्ष्मण, भरत में सबसे छोटे हैं. उनके बेटों के नाम लव-कुश हैं.
  • मेरे अपने फिल्म में छेनू का किरदार निभाकर वे काफी फेमस हो गए.
  • फिल्मों में शुरुआती दौर में विलेन का रोल करने वाले शत्रुघ्न ने अपने चेहरे पर मौजूद कट के निशान का ज़बरदस्त इस्तेमाल किया. उनके चेहरे के कट को लोगों ने पसंद भी किया.
  • पूर्व मिस यंग इंडिया पूनम चंडीरमानी को पहली ही नज़र में दिल दे बैठे थे शत्रु. चलती ट्रेन में उन्होंने पूनम को प्रपोज़ किया था. पेपर पर पाकीज़ा फिल्म का फेमस डायलॉग अपने पांव ज़मीन पर मत रखिएगा… ‌‌लिखकर और घुटनों पर बैठकर ये लेटर उन्होंने पूनम को दिया और शादी के लिए प्रपोज़ कर दिया.
  • पूनम की मां शत्रुघ्न को बिल्कुल पसंद नहीं करती थीं, क्योंकि वो सांवले थे और फिल्मों में नेगेटिव रोल करते थे. बहुत समझाने-बुझाने के बाद ही दोनों की शादी हो पाई थी.
  • पूनम से शादी करने से पहले शत्रुघ्न का अफेयर रीना रॉय से था. दोनों की जोड़ी फिल्मों में पसंद की जाती थी और इसी दौरान उनमें प्यार भी हो गया था. जब रीना किसी काम से लंदन गई थीं, तब शत्रु ने अचानक पूनम से शादी कर ली.
  • शत्रु और बिग बी भले ही आज एक-दूसरे के बेस्ट फ्रेंड हों, लेकिन एक दौर ऐसा भी था, जब दोनों में बिल्कुल नहीं बनती थी.
  • एनीथिंग बट खामोश: द शत्रुघ्न सिन्हा बायोग्राफी में उन्होंने अपने और अमिताभ के बीच आई दरारों का ज़िक्र किया हैं. उन्होंने बताया है, ”फिल्मों से जो शोहरत अमिताभ चाहते थे, वह मुझे मिल रही थी. इससे अमिताभ परेशान होते थे, जिसके चलते मैंने कई फिल्में छोड़ दी थीं और प्रोड्यूसर को पैेसे तक लौटा दिए थे.”

फिल्मों के अलावा राजनीति में भी बिहारी बाबू काफ़ी ऐक्टिव रहे. अटल बिहारी वाजपयी की सरकार में वो केन्द्रीय कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं. अब बिहार के पटना साहिब से बीजेपी सासंद हैं.

सोनाक्षी ने इंस्टाग्राम पर पापा शत्रु्न के साथ एक ब्लैक एंड व्हाइट पिक्चर शेयर की है और बहुत ही प्यारे अंदाज़ में विश भी किया है.

मेरी सहेली (Meri Saheli) की ओर से उन्हें ढेरों शुभकामनाएं.