potato

आलू को यदि ठीक से नहीं रखा गया, तो जल्दी ही उनमें अंकुर आने लगते हैं. आलू हमारे किचन की सबसे जरूरी चीजों में एक है. आलू को हम कई सब्जियों में मिलाते है. इसके अलावा आलू की सब्ज़ी, चाट, पकौड़े आदि भी बनते हैं इसलिए भारतीय किचन में आलू के बिना काम चल ही नहीं सकता. आलू को सही तरीके से स्टोर करके उन्हें अंकुरित होने से बचाया जा सकता है. आलू को अंकुरित होने से कैसे रोकें, आइए जानते हैं.

Potatoes

आलू को अंकुरित होने से रोकने के आसान टिप्स

  • आलू को सुरक्षित रखना बेहद जरूरी है इसलिए आलू को अंधेरे और ठंडी जगह पर रखें.
  • आलू को नमी से बचाएं. यदि आलू गीले हैं, तो संभालने से पहले उन्हें अच्छी तरह सुखा लें.
  • आलू को सुरक्षित रखने के लिए उन्हें सूती कपड़े के बैग या पेपर बैग में रखें.
  • गरम जगह पर आलू को स्टोर करने से ये अंकुरित होने लगते हैं इसलिए इन्हें हवादार जगह पर रखें.
  • आलू को बाकी सब्जियों और फलों की टोकरी से दूर रखें.
  • आलू और प्याज दोनों को एक साथ एक टोकरी में न रखें.
  • आलू फ्रिज में नहीं रखना चाहिए, क्योंकि आलू में स्टार्च होता है, जो फ्रिज में रखने से शुगर में बदल जाता है. स्टार्च से बनी हुई शुगर के सेवन से कई तरह के कैंसर हो सकते हैं इसलिए आलू को भूलकर भी फ्रिज में न रखें.
  • आलू को सूरज की रोशनी में या खुले में टोकरी में नहीं रखना चाहिए. इससे आलू बहुत जल्दी अंकुरित हो जाते हैं.
  • आलू को स्टोर करने से पहले अच्छी तरह देख लें. यदि उनमें से कोई आलू ख़राब है, तो उसे अलग कर दीजिए, क्योंकि एक सड़ा आलू बाकी आलुओं को भी खराब कर सकता है.
  • आलू को स्टोर करने से पहले कभी भी धोना नहीं चाहि, इससे आलू में नमी रह सकती है और वो जल्दी ख़राब हो सकते हैं.

यह भी पढ़ें: इनडाइजेशन या अपच के 5 आयुर्वेदिक उपचार (5 Home Ayurvedic Remedies For Indigestion)

अंकुरित आलू खाने से हो सकता है ये नुकसान
आलू एक ऐसी सब्जी है, जो सभी घरों में प्रयोग होती है, लेकिन अंकुरित आलू खाने से सेहत को नुकसान हो सकता है इसलिए आलू को सुरक्षित रखना बहुत जरूरी है. आलू यदि हरा या अंकुरित हो गया है, तो ये सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है इसलिए आलू को अंकुरित होने से बचाना चाहिए. जब आलू अंकुरित होता है, तो उसमें एक रसायनिक क्रिया होने लगती है, जिसके चलते अंकुरित आलू का कार्बोहाइड्रेट स्टार्च शुगर में बदलने लगता है. इसके साथ ही सोलानिन (Solanin) और अल्फा कैकोनिन ( Alpha Caconin) नामक दो जहरीले तत्व भी बनने लगते हैं. इसके कारण आलू बाहर से नरम होकर मुरझा जाता है. ये दोनों तत्व हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होते हैं, इनके कारण हमारा पाचनतंत्र खराब हो सकता है. अंकुरित आलू या हरे आलू खाने से फूड प्वाइजनिंग भी हो सकता है इसलिए इनका सेवन नहीं करना चाहिए.