prime minister narendra modi

आज वर्ल्ड हेल्थ डे(World Health Day) है, लेकिन इस साल ये दिन पूरे विश्व के लिए बहुत अलग है. इस समय जब पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है, ऐसे में हेल्थ को लेकर सजग होना बहुत ज़रूरी है. आज यानी वर्ल्ड हेल्थ डे उन सभी लोगों को धन्यवाद कहने का दिन है जो हमारे स्वास्थ्य की रक्षा करने के लिए दिनरात मेहनत करते हैं. आज के दिन हमें उन सभी डॉक्टरों, नर्सों, चिकित्सा कर्मचारियों और स्वास्थ्य सेवा कर्मियों को तहे दिल से धन्यवाद कहना चाहिए, जो अपनी जान की परवाह किए बिना, अपने परिवार से दूर रहकर हम सब के स्वास्थ्य की रक्षा करने के लिए कोरोना वायरस से दिनरात जंग लड़ रहे हैं. आइए, वर्ल्ड हेल्थ डे के अवसर पर हम सब मिलकर उन सभी डॉक्टरों, नर्सों, चिकित्सा कर्मचारियों और स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के लिए की प्रार्थना करें, जो हमारी जान की रक्षा करने के लिए इस समय कोरोना वायरस से दिनरात जंग लड़ रहे हैं.

World Health Day

वर्ल्ड हेल्थ डे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी डॉक्टरों, नर्सों, चिकित्सा कर्मचारियों और स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के लिए की प्रार्थना और कहा ये

आज यानी वर्ल्ड हेल्थ डे के ख़ास अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके सभी डॉक्टरों, नर्सों, चिकित्सा कर्मचारियों और स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के लिए प्रार्थना की.

Prime Minister Narendra Modi Praying For All The Doctors, Nurses, Medical Staff And Healthcare Workers Who Are Fighting Bravely From Corona

यह भी पढ़ें: कोरोना लॉकडाउन पीरियड में मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य का ध्यान रखना बेहद ज़रूरी है (How To Take Care Of Yourself, Your Children And The Elderly At Home In The Corona Lockdown Period)

प्रधानमंत्री मोदी ने आज ट्वीट करके कहा कि हमें आज न केवल एक-दूसरे के अच्छे स्वास्थ्य और कल्याण के लिए प्रार्थना करना है, बल्कि उन सभी डॉक्टरों, नर्सों, चिकित्सा कर्मचारियों और स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के लिए भी प्रार्थना करना है जो, कोरोना वायरस से बहादुरी से लड़ रहे हैं.

वर्ल्ड हेल्थ डे से जुड़ी ज़रूरी बातें

* वर्ष 1948 में आज के दिन ही विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना हुई थी और इस दिन की शुरुआत विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा ही वर्ष 1950 में की गई थी. उसके बाद से हर साल 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य संगठन के स्थापना दिवस की वर्षगांठ पर विश्व स्वास्थ्य दिवस यानी वर्ल्ड हेल्थ डे मनाया जाता है.

* विश्व स्वास्थ्य संगठन, जिसे हम शॉर्ट में डब्ल्यूएचओ के नाम से जानते हैं, यह यूनाइटेड नेशन यानी संयुक्त राष्ट्र का हिस्सा है. इसका मुख्य कार्य पूरे विश्व में स्वास्थ्य समस्याओं पर नज़र रखना और स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाने तथा इसके निवारण में मदद करना है. 

* विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अब तक स्मॉल चिकेन पॉक्स जैसी गंभीर बीमारी को खत्म करने में बड़ी जिम्मेदारी निभाई है.

* इसी तरह डब्ल्यूएचओ टीबी, एचआईवी, एड्स जैसी जानलेवा बीमारियों की रोकथाम के लिए भी निरंतर रिसर्च कर रहा है. 

* भारत की बात करें तो, हमारे देश में अब तक पोलियो जैसी महामारी को खत्म किया गया है.

* इस समय डब्ल्यूएचओ कई देशों की सरकारों के साथ मिलकर कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है.

* डब्ल्यूएचओ ने सभी से नर्सिंग एवं मिडवाइफ कर्मियों को सशक्त बनाने के लिए सहयोग देने का आह्वान किया है, ताकि हर जगह और सभी लोगों को जरूरी स्वास्थ्य सुविधाएं आसानी से उपलब्ध हो सकें.

यह भी पढ़ें: कोरोना लॉकडाउन में सर्दी, खांसी, जुकाम से बचने के लिए करें ये 10 घरेलू उपाय (10 Home Remedies To Prevent Cough And Cold In Corona Lockdown)

चंद्रयान 2 (Chandrayaan 2) का भले ही चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने से पहले इसरो (ISRO) से संपर्क टूट गया, लेकिन वो सभी देशवासियों को आपस में जोड़ गया. हर किसी ने इसरो टीम के सालों की कड़ी मेहनत-लगन और संघर्ष की प्रशंसा की और उनका हौसला बढ़ाया. भारत के प्रधानमंत्री (Prime Minister) श्री नरेंद्र मोदीजी (Shri Narendra Modiji) कल रात से ही इस ऐतिहासिक पल के साक्षी बनने के लिए बैंगलुरू के इसरो सेंटर (ISRO Center) में मौजूद रहे.

Modiji and Isro Chief

चंद्रयान 2 से मात्र 2.1 कि.मी. की दूरी पर संपर्क न हो पाने पर सभी काफ़ी निराश हो गए थे. इस पर मोदीजी ने इसरो (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) के चीफ कैलाशवादिवू सीवन और उनकी पूरी टीम का हौसला बढ़ाया. सीवनजी की पीठ थपथपाते हुए उनके प्रयासों की सराहना की.

सफल हैं, पर और कामयाब होना अभी बाकी है…

मोदीजी ने सभी का हिम्मत बढ़ाते हुए यह भी कहा कि हार-जीत तो होती रहती है, पर सबसे बड़ी बात होती कुछ कर ग़ुजरने का हौसला. उतार-चढ़ाव तो ज़िंदगी का हिस्सा है, पर इससे निराश नहीं होना चाहिए और सतत कोशिश करते रहना चाहिए और आगे बढ़ते रहना चाहिए.

https://www.instagram.com/p/B2GD5_ZAb4e/

नेता, अभिनेता, खिलाड़ी और आम जनता सभी ने भारतीय वैज्ञानिकों की तारीफ़ की और उनकी हौसलाअफ़जाई की. एक्टर अनुपम खेर ने मोदीजी के इसरो चीफ के. सीवन को गले लगाते और हिम्मत बंधाते हुए फोटो शेयर की और कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी, इसरो में दिया गया आपका भाषण अब तक का आपका सबसे प्रेरणादायी भाषणों में से एक है. इसरो चीफ के. सीवन के प्रति आपका प्यार-स्नेह व भावपूर्ण यह दृश्य सालों तक हर भारतीय के दिलों में यादगार रहेगा. आप अक्सर अपने प्रोत्साहन से हमें सुरक्षित महसूस कराते हैं. धन्यवाद!..

वाकई अनुपम खेर का यह संदेश हर भारतीय के दिल के उद्गार हैं. इसी तरह कई फिल्मी कलाकारों ने हौसला बढ़ाते हुए संदेश भेजे हैं.

देखें तस्वीरें…

Chandrayaan-2

मेरी सहेली की तरफ़ से भी भारतीय वैज्ञानिकों के जज़्बे, मेहनत-लगन और हौसले को सलाम!

इसरो टीम आप सभी याद रखें कि हम होंगे कामयाब एक दिन…

यह भी पढ़ेमूवी रिव्यूः छिछोरे, मनोरंजन के साथ-साथ संदेश भी (Movie Review Of Chhichhore)

इन दिनों पूरे देश में लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) की गहमागहमी है. देश के कई इलाकों में वोटिंग हो चुकी हैं तो कई जगहों पर होनी अभी बाकी है. ऐसे में बॉलीवुड के किंग शाहरुख ख़ान (Shah Rukh Khan) ने भी लोगों से वोट करने की अपील की है. दरअसल लोकसभा चुनाव शुरू होने से पहले ही पीएम मोदी ने बॉलीवुड के सभी सितारों से अपील की थी कि वो जनता को ज़्यादा से ज़्यादा वोट देने के लिए प्रोत्साहित करें. यही वजह है कि अब शाहरुख ने एक रैप म्यूज़िक वीडियो बनाकर लोगों से वोट देने को कहा है. इस वीडियो में शाहरुख ख़ान खुद गाना गाते नज़र आए. वीडियो का नाम है चलो मतदान करें. 

Shah Rukh Khan

Shah Rukh Khan song for PM Narendra Modi

इस वीडियो में शाहरुख ख़ान का अंदाज़ देखने लायक है. शाहरुख ने रैप गाने के साथ लोगों से वोट करने की अपील की है. इस वीडियो को ट्विटर पर शेयर करते हुए शाहरुख ने लिखा ‘’पीएम साहिब नरेंद्र मोदी ने क्रिएटिवटी के लिए बोला था. मैं थोड़ा लेट हो गया वीडियो बनाने में…आप मत होना वोट करने में. वोटिंग केवल आपका अधिकार ही नहीं बल्कि शक्ति है. इसका इस्तेमाल करें. धन्यवाद….

इस म्यूज़िक वीडियो को संगीत तनिष्क बागची ने दिया है. जबकि इसके बोल लिखे हैं अब्बी विरल ने. इस वीडियो शाहरुख ख़ान और गौरी के प्रोडक्शन हाउस ने बनाया है. शाहरुख ख़ान की इस कोशिश की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री ने ट्वीट करते हुए उन्हें धन्यवाद कहा. पीएम नरेंद्र मोदी ने शाहरुख खान को ट्विटर पर रिप्लाई करते हुए इस गाने की तारीफ की है. पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा- शानदार कोशिश शाहरुख खान. मुझे पूरा विश्वास है कि भारत की जनता खासकर पहली बार वोटर आपकी अपील ज़रूर सुनेंगे और भारी संख्या में वोट देंगे.

ये भी पढ़ेंः कंगना रनौत द्वारा अपने परिवार पर लगाए आरोपों पर आलिया भट्ट ने चुप्पी तोड़ी (Alia Bhatt Breaks Her Silence On Kangana Ranaut, Rangoli Chandel’s Attack On Her Family)

 

 

PM, Narendra Modi, Grand Reception, Virat, Anushka

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंचे विराट-अनुष्का के ग्रैंड रिसेप्शन में (PM Narendra Modi Attends The Grand Reception Of Virat & Anushka)

दिल्ली में चल रहे विराट और अनुष्का के grand reception में प्रधानमंत्रीश्री नरेंद्र मोदी भी शरीक हुए… देखें तस्वीरें

 

यह भी पढ़ें: विराट-अनुष्का के रिसेप्शन की पहली तस्वीरें

Bhutan's Royal Baby in india with narendra modi

भूटान के क्यूट प्रिंस बन गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के भी दुलारे! (Bhutan’s Royal Baby Steals The Show)

भारत के दौरे पर इन दिनों आए हुए हैं भूटान नरेश जग्मे खेसर नामग्याल (jigme khesar namgyel wangchuck). भूटान का यह शाही परिवार मंगलवार को दिल्ली पहुंचा. भारत में उनका भव्य स्वागत हुआ और दोनों देशों के बीच कई विषयों को लेकर गंभीर चर्चा भी हुई. लेकिन इन सबके बीच सबसे अधिक सुर्ख़ियां बटोरीं भूटान के क्यूट से नन्हे प्रिंस ने. जी हां, भूटान नरेश अपने छोटे नरेश जिग्मे नामग्याल और पत्नी के साथ भारत के दौरे पर हैं और इस दौरे में उनके क्यूट प्रिंस ही सारी लाइमलाइट चुरा रहे हैं. उनकी पिक्चर्स इंटरनेट पर वायरल हो चुकी हैं और सबको लुभा रही हैं.

Bhutan's Royal Baby in india with narendra modi
इस नन्हे प्रिंस को देखकर सारी गंभीर चर्चाएं एक तरफ़ रह गईं और सबका ध्यान बस उन्हीं पर आकर टिक गया. उनकी क्यूट हरक़तों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) तक को बहुत इंप्रेस किया. छोटे प्रिंस अपने पापा और मम्मी के साथ जहां भी गए, वहां उन्होंने अपनी मासूम शरारतों से सबको अपनी तरफ आकर्षित कर लिया.

Bhutan's Royal Baby in india with narendra modi
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रिंस के साथ बात करते और खेलते नज़र आए, उन्होंने प्रिंस को तोहफे दिए जिसमें फुटबॉल और चेस है.
शाही परिवार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी मिला, वहां भी प्रिंस को देखकर राष्ट्रपति और उनकी पत्नी बेहद ख़ुश हुए.
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी भूटान नरेश से मुलाक़ात की और वो भी छोटे-से प्रिंस से लाड़ लड़ाती नज़र आईं.

आप भी देखिए उनकी वायरेल पिक्चर्स.

Bhutan's Royal Baby in india with narendra modi

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज छोटे प्रिंस से लाड़ लड़ाती हुईं 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ क्यूट प्रिंस 

यह भी पढ़ें: तैमूर अली खान की पहली बर्थडे पार्टी होगी कुछ ऐसी, करिश्मा ने बताए बर्थडे प्लान्स! 

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ आज एक कार्यक्रम न रहकर जन आंदोलन का रूप ले चुका है. हर ख़ास और आम उनके मन की बात पूरे मन से सुनते हैं. इसकी सबसे बड़ी वजह है कि वो इस तरह के विषयों पर बात करते हैं, जो कहने-सुनने में छोटे लगें, लेकिन आम जन मानस की रोज़मर्रा ज़िंदगी में बड़ी अहमियत रखते हैं. मन की बात की उपयोगिता, सार्थकता व जनता पर उसके सकारात्मक प्रभाव को देखते हुए ही उनके कार्यक्रम में कहे लफ़्ज़ों को कलम से काग़जों पर उतारकर एक पुस्तक का रूप दे दिया गया है. जी हां, शनिवार 29 जुलाई 2017 को मुंबई में राजभवन में ‘मन की बात’- ए सोशल रेवॉल्यूशन ऑन रेडियो पुस्तक का विमोचन महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री श्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) द्वारा किया गया. इस अवसर पर महाराष्ट्र के राज्यपाल श्री सी. विद्यासागर राव और केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री श्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) भी मौजूद थे.

यह पुस्तक ब्लूक्राफ्ट डिजिटल फाउंडेशन द्वारा संकलित की गई और इसे पब्लिश किया लेक्सिस नेक्सिस ने. दिलचस्प बात है कि मन की बात की प्रस्तावना जापान के प्रधानमंत्री श्री शिंजो आबे ने लिखी है. उन्होंने इसमें ख़ासतौर से लिखा है कि कैसे प्रधानमंत्री मोदी भारत के लोगों, ख़ासतौर से युवाओं के साथ बातचीत करने के लिए उत्साहित रहते हैं. मैं उनमें अपने लोगों से बात करने का जुनून देखता हूं. मन की बात दरअसल प्रधानमंत्री मोदी की उस ऊर्जा से भरपूर है, जो वो भारत के लोगों के साथ संवाद करते व़क्त महसूस करते हैं और ख़ासतौर से युवा वर्ग के साथ. मैं उनके उत्साह को समझ सकता हूं, जो वो अपने लोगों के साथ बात करने व़क्त महसूस करते हैं.

यह भी पढ़ें: डिमॉनिटाइज़ेशन एक बोल्ड मूव- बिल गेट्स

कार्यक्रम के दौरान ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने भी अपने विचार रखे और कहा कि मन की बात स़िर्फ एक कार्यक्रम ही नहीं है, यह एक आंदोलन है, जो नई संभावनाओं को जन्म देता है. हर एपिसोड में कुछ न कुछ नया पहलू सामने आता है, जो हमारी विचारशक्ति को एक नई दिशा देता है. उदाहरण के तौर पर, स्वच्छता की ही बात ले लीजिए, यह हम सबसे जुड़ा विषय है. कहने को छोटी-सी बात है, लेकिन बेहद ज़रूरी है. इस विषय को जन-जन तक पहुंचाना और इस विषय की गंभीरता को पहचानना यही मन की बात में बताया है, लेकिन न स़िर्फ विषय को उठाना, बल्कि किस तरह से आम जनता तक उस विषय को पहुंचाना है, यह भी मोदीजी बख़ूबी जानते हैं और इसमें वो कामयाब भी हुए हैं. और जो सबसे महत्वपूर्ण बात रही है कि इस कार्यक्रम में मोदीजी ने एक भी विषय ऐसा नहीं चुना, जो राजनीति से जुड़ा हो यानी विषयों का व समस्याओं का राजनीतिकरण नहीं किया गया, बल्कि सामाजिक तौर पर उन विषयों की महत्ता पर ध्यान दिलाया गया.

बच्चों की पढ़ाई, उनके स्ट्रेस से जुड़े संदवेनशील विषय पर भी मोदीजी बड़ी ही सहजता व कुशलता से बात की और कोई सोच भी नहीं सकता कि एक प्रधानमंत्री आम जनता के रोज़मर्रा से जुड़े ऐसे विषयों पर इतनी संवेदनशीलता रखता है. इस पुस्तक के ज़रिए लोगों को एक नया आयाम मिलेगा और विस्तार व गहराई से वो इन विषयों को समझ पाएंगे. ब्लूक्राफ्ट फाउंडेशन और इस पुस्तक को प्रकाशित करनेवाली संस्था को भी बधाई, क्योंकि यह जनता से जुड़े विषयों का संकलन है.

यह भी पढ़ें: ‘वाहन’ से जानें किसी भी वाहन की जानकारी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी अपनी राय रखी. उनका कहना था कि हमारे देश में यदि किसी चीज़ की कमी है, तो वो है डॉक्यूमेंटेशन. हम चीज़ें बहुत करते हैं, संशोधन भी करते हैं, संस्कृति की बातें भी करते हैं, लेकिन इनमें से किसी भी चीज़ का डॉक्यूमेंटेशन नहीं किया गया. इसलिए ज़रूरी है कि डॉक्यूमेंटेशन किया जाए. मन की बात एक ऐसी व्यवस्था है, जो राजनीति की बात नहीं करती, बल्कि जिन चीज़ों से समाज प्रेरित हो, उन पर ध्यानाकर्षित किया जाता है. और न स़िर्फ ध्यानाकर्षित किया जाता है, बल्कि मोदीजी ने यह भी दिखा दिया कि इन तमाम विषयों पर काम किस तरह से और किस तेज़ी के साथ किया जा सकता है. मन की बात ने करोड़ों लोगों को प्रेरित किया है.

कुछ लोग कहते हैं कि मन की बात तो मात्र प्रधानमंत्री के मन की बात है, यह एक तरफ़ा कम्यूनिकेशन है, लेकिन संवाद का अर्थ स़िर्फ दो तरफ़ा बात नहीं, बल्कि इसका मतलब है कि आम लोगों के मन की बात जो सामनेवाला समझ रहा है. प्रधानमंत्रीजी आम लोगों के मन की बात कहते हैं और उनके इस काम ने करोड़ों लोगों को जगाया है, प्रेरणा दी है. स्वच्छता से लेकर डिप्रेशन, स्ट्रेस, बच्चों की पढ़ाई, खेल-कूद, अंगदान जैसे विषयों को इसमें उठाया जाता है, जिससे लोग जुड़ाव महसूस करते हैं.

ब्लूक्राफ्ट डिजिटल फाउंडेशन और लेक्सिस नेक्सिस बधाई के पात्र हैं कि लोगों के सामने वे प्रधानमंत्रीजी के विचारों को पुस्तक के माध्यम से सबके सामने लाए.

यह भी पढ़ें: दुनिया के 10 पावरफुल लोगों में मोदी 9वें नंबर पर! 

कैशलेस अर्थव्यवस्था की ओर एक और मज़बूत क़दम बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘भीम (Bhim) ऐप’ लॉन्च किया है. ‘भीम’ का पूरा नाम- भारत इंटरफेस फॉर मनी है. इस ऐप के ज़रिए डिजिटल पेमेंट्स को बढ़ावा मिलेगा. इसे नेशनल पेमेंट्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने बनाया है.

   bhim revised

    क्या ख़ास है ‘भीम’ (Bhim) में?

  • इसकी सबसे ख़ास बात यह है कि इसमें  आपको बार-बार अकाउंट नंबर डालने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी. बस, एक बार अकाउंट नंबर रजिस्टर करें और आसानी से डिजिटल पेमेंट करें.
  • इसकी दूसरी सबसे ख़ास बात है कि यह ऐप बिना इंटरनेट के भी काम करेगा.
  • इसमें टठ कोड भी दिया गया है, जिससे आप सामान ख़रीदने के बाद आसानी से पेमेंट कर सकते हैं. इसके लिए आपको स़िर्फ दुकानदार का टठ कोड स्कैन करके पेमेंट करना होगा.
  • पेमेंट्स करने के साथ-साथ आप अपने बैंक अकाउंट का बैलेंस भी चेक कर सकते हैं.
  • इसमें कस्टम पेमेंट ऐड करने की सुविधा है.
  • इस ऐप में मिनिमम पेमेंट लिमिट 10 हज़ार और मैक्सिमम 20 हज़ार रुपए है.
    यह भी पढ़ें: सफल करियर के लिए चुनें बेस्ट करियर ऐप्स और वेबसाइट्स

    कैसे ऑपरेट करें ‘भीम’?

  • यह एक फ्री ऐप है, तो इसे बस डाउनलोड कर इंस्टॉल करें. 
  • इसके बाद स़िर्फ एक बार आपको अपना बैंक अकाउंट नंबर रजिस्टर करना होगा और एक
    यूपीआई (UPI) पिनकोड जनरेट करना होगा.
  • इसके बाद आपका मोबाइल नंबर ही आपका पेमेंट ऐड्रेस होगा.
  • इंटरनेट कनेक्शन न होने पर आप अपने मोबाइल से USSD कोड +99# डालकर ऑपरेट कर सकते हैं.
  • फिलहाल यह ऐप हिंदी और अंगे़्रजी दो भाषाओं में है, पर जल्द ही अन्य क्षेत्रीय भाषाएं भी इसमें शामिल की जाएंगी.
  • यह ऐप एंड्रॉयड और आईओएस दोनों के लिए उपलब्ध है.

यह भी पढ़ें: स्मार्टफोन आंखों के लिए है हानिकारक

 

न बैंकों को करेगा सपोर्ट:

– Allahabad Bank
– Andhra Bank
– Axis Bank
– Bank of Baroda
– Bank of Maharashtra
– Canara Bank
– Catholic Syrian Bank
– Central Bank of India
– DCB Bank
– Dena Bank
– Federal Bank
– HDFC Bank
– ICICI Bank
– IDBI Bank
– IDFC Bank
– Indian Bank
– Indian Overseas Bank
– IndusInd Bank
– Karnataka Bank
– Karur Vysya Bank
– Kotak Mahindra Bank
– Oriental Bank of Commerce
– Punjab National Bank
– RBL Bank
– South Indian Bank
– Standard Chartered Bank
– State Bank of India
– Syndicate Bank
– Union Bank of India
– United Bank of India
– Vijaya Bank

– अनीता सिंह

लेटेस्ट ऐप्स और टेक्नोलॉजी से जुड़े आर्टिकल्स पढ़ें

हर आम और ख़ास जुड़ रहा है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुहिम Sandesh2Soldiers के साथ. सीमा पर तैनात फौजी हर त्योहार छोड़ कर 24 घंटे मुस्तैदी से हमारी और देश की रक्षा कर रहे हैं, ताकि हम सुरक्षित रह सकें. वीर जवानों के लिए नरेंद्र मोदी ने संदेश टु सोल्जर्स नाम से एक मुहिम की शुरुआत की है, जिसमें हर कोई फौजियों को दिवाली पर विश कर सके और इस माध्यम से छोटी ही सही पर उन्हें ख़ुशी दे सके. मोदीजी ने हर किसी से अपील की है कि वो देश के जवानों को दिवाली की शुभकामनाएं भेजें, उन्होंने टि्वटर पर एक वीडियो भी शेयर किया है.

बॉलीवुड और स्पोर्ट्स जगत के लोग इस मुहिम से जुड़ भी चुके हैं. सलमान खान, अक्षय कुमार, आमिर खान, अनुपम खेर, कैलाश खेर और वीरेंद्र सहवाग ने किस तरह से विश किया है जवानों को आइए देखते हैं.

अक्षय कुमार ने टि्वटर पर एक वीडियो पोस्ट करके फौजी भाइयों को शुभकामनाएं दी और कहा कि ये दिवाली आप सब के नाम.

वीरेंद्र सहवाग ने लिखा, ”किसी भी फौजी को देखो, तो सल्यूट ठोको.” 

आमिर खान ने भी लोगों से अपील की कि वे इस मुहिम से जुड़ें.

सलमान खान ने भी देश के जवानों को दिवाली की शुभकामनाएं दी.

अनुपम खेर ने भी एक वीडियो इंस्टाग्राम पर शेयर किया है और लिखा है, ”इस दिवाली एक दीया, देश के नाम.”

Iss Diwali 'Ek Diya Desh Ke Naam.' #JaiHind #sandesh2soldiers ??

A video posted by Anupam Kher (@anupampkher) on

कैलाश खेर ने कहा कि हमारे सैनिकों में मुझे ईश्वर नज़र आते हैं.

आप भी विश करें

जवानों की दिवाली को ख़ास बनाने के लिए आप भी अपना संदेश भेज सकते हैं और शुभकामनाएं दे सकते हैं. नरेंद्र मोदी ऐप डाउनलोड करें, इस ऐप (http://mygov.in) पर आप #Sandesh2Soldiers अभियान के तहत जवानों के लिए अपना मैसेज टाइप करके भेज सकते हैं.

 

 

Honourable Prime Minister Narendra Modi meets with Kajol%2c %27Help a Child Reach 5%27 handwashing ambassador to discuss handwashing facilities and behaviour change in schoolsकाजोल के ट्विटर का स्टेट्स है हैंड वॉशिंग चैंपियन और वो कुछ सालों से कई स्वच्छता अभियान से जुड़ी हुई हैं. स्वच्छ आदतें व हाइजीन के मुद्दे पर बातचीत करने के लिए काजोल मिलीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से. काजोल ने ट्विटर पर पीएम के साथ अपनी फोटो शेयर करते हुए लिखा है,

Great meeting w/@narendramodi on need for having handwashing facilities in schools #HELPAChildreach5

काजोल हेल्प ए चाइल्ड रीच 5 अभियान से जुड़ी हैं, जिसके ज़रिए वह लोगों को हाथ को अच्छी तरह धोने और हाइजीन का ख़्याल रखने जैसी अच्छी आदतें सिखा रही हैं.

काजोल ने स्कूलों में बच्चों के हाथों की सफ़ाई के लिए सुविधाएं देने और इस आदत को अनिवार्य करने के बारे में भी प्रधानमंत्री से बात की. काजोल ने ट्विटर पर लिखा है,

I met @narendramodi to talk about swachh aadat & hygiene for #SwachhBharat #HELPAChildreach5

काजोल ने बताया कि ये अभियान प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान जैसा ज़रूर है, पर अभी तक हमारे बीच कोई ऑफिशियल टाइअप नहीं हुआ है.