Puja Muhurat

कल यानी 21 अगस्त को हरितालिका तीज है. ये सुहागन महिलाओं का त्योहार है. इस दिन सभी सुहागिन महिलाएं भगवान शिव और माता पार्वती से अपने सुहाग की सुख समृद्धि के लिए प्रार्थना करती हैं और अपने पति की लंबी आयु का वरदान मांगती हैं. ये व्रत कुंवारी लड़कियां भी रखती हैं, ताकि उन्हें अच्छा और मनचाहा वर मिले. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार माता पार्वती ने शिव जी को पति के रूप में पाने के लिए कठोर तप किया था. माता पार्वती के कठोर तप को देखकर शिव जी ने उन्हें दर्शन दिए और अपनी पत्नी के रूप में स्वीकार किया. तभी से अच्छे पति की कामना और पति की लंबी आयु के लिए महिलाएं इस दिन व्रत रखती हैं.

Hartalika Teej 2020


ये व्रत निर्जला रखा जाता है. इस दिन महिलाएं 24 घंटे से भी अधिक समय तक निर्जल उपवास कर गौरी-शंकर की पूजा अर्चना करती हैं. दूसरे दिन सुबह पूजा पाठ करने के बाद ही अपना व्रत खोलती हैं.

इस बार हरितालिका तीज क्यों है खास

Hartalika Teej 2020


हरतालिका तीज 21 अगस्त को शुक्रवार के दिन मनाई जाएगी. शुक्र प्यार का कारक ग्रह है और तीज पति-पत्नी का त्योहार है. इसलिए शुक्रवार के दिन तीज का पड़ना बहुत शुभ माना जाता है. इस दिन सूर्य का उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र और सिद्धि योग है. इसके अलावा चंद्रमा कन्या राशि में है. ये सारे संयोग आपके लिए कभी लाभ लेकर रहे हैं.

शुभ मुहूर्त
21 अगस्त के प्रात: काल – मुहूर्त सुबह 5 बजकर 53 मिनट से 8 बजकर 29 मिनट तक
पूजा मुहूर्त- शाम 6 बजकर 54 मिनट से रात 9 बजकर 6 मिनट तक 

कैसे करें पूजन?

Hartalika Teej 2020


– घर में ही मिट्टी या बालू की भगवान शिव और माता पार्वती की प्रतिमा बनाकर उनकी पूजा करें.
– एक चौकी पर शुद्ध मिट्टी में गंगाजल मिलाकर शिवलिंग, रिद्धि-सिद्धि सहित गणेश, पार्वती की प्रतिमा बनाएं.
– साथ ही मां पार्वती को सोलह शृंगार की सामग्री अर्पण कर अखंड सुहाग की कामना करें.
– सुहाग सामग्री में मेहंदी, चूड़ी, बिछिया, काजल, बिंदी, कुमकुम, सिंदूर, कंघी, महावर आदि चीज़ें चढ़ाई जाती हैं.
– हरतालिका तीज व्रत कथा सुनें.
– शिव-गौरी की आरती करें.
– पूजन-पाठ के बाद रात भर भजन-कीर्तन करें.

इन मंत्रों का जाप करें
पार्वती पूजन के समय ये मंत्र पढ़ें
ॐ उमायै नम:
ॐ पार्वत्यै नम:
ॐ जगत्प्रतिष्ठयै नम:
ॐ शांतिरूपिण्यै नम:
ॐ जगद्धात्र्यै नम:
ॐ शिवायै नम:

शिव की आराधना इन मंत्रों से करें
ॐ हराय नम:
ॐ महेश्वराय नम:
ॐ शम्भवे नम:
ॐ शूलपाणये नम:
ॐ पिनाकवृषे नम:
ॐ शिवाय नम:
ॐ पशुपतये नम:
ॐ महादेवाय नम:

शुभ फल प्राप्ति के लिए अपनाएं ये नियम

Hartalika Teej 2020


– चूंकि ये सुहागिनों का व्रत है, इसलिए व्रत से एक दिन पहले महिलाएं मेहंदी लगाती हैं. अगर आप आज यानी गुरुवार को मेहंदी लगा रही हैं, तो अपनी मेहंदी में हल्दी मिलाकर लगाएं. इससे आपका गुरू बलवान होगा और पति की सेहत अच्छी होगी.
– पति-पत्नी दोनों को गुलाबी वस्त्र पहनना चाहिए. पत्नी पूरा 16 श्रृंगार करें. ऐसा करने से इस पूजा का विशेष फल मिलेगा.
– तीज के दिन पानी में गुलाबजल मिलाकर नहाएं.
– शाम को पूजा के दौरान शिव जी का अभिषेक भी गुलाबजल से करें. 

जीवन में धन की कमी कभी न हो इसलिए धनतेरस के दिन ऐसी चीजें खरीदी जाती हैं, जिनसे जीवन में वैभव आता है. धनतेरस के दिन सही समय यानी शुभ मुहूर्त पर खरीददारी की जाती है, ताकि जीवन में कभी धन की कमी न हो. धनतेरस में किस राशि वाले कौन सी धातु खरीदें, कौन सी चीजें खरीदने से हो सकती है धनहानि, धनतेरस पर कौन सी राशि वाले लोग डायमंड न खरीदें, कौन सा रंग न खरीदें, धनतेरस से जुड़ी कई महत्वपूर्ण जानकारियां दे रहे हैं पं. राजेंद्र जी.

दिवाली धनतेरस 2019 (Diwali-Dhanteras 2019) का शुभ मुहूर्त, पूजा विधि जानने के लिए देखें ये वीडियो:
ये भी जानें कि दिवाली धनतेरस 2019 में धन लाभ के लिए क्या खरीदें और कौन सी चीज भूलकर भी न खरीदें:

जानें धनप्राप्ति के अचूक उपाय:
1) धनतेरस के दिन रसोई में जो भी भोजन बना हो, वह धनतेरस से नित्य पांच दिन तक गाय को खिलाने से धन की वृद्धि होती है.
2) धनतेरस के दिन हीरा ख़रीदना शुभ माना जाता है इसलिए इस दिन हीरा ख़रीदें.
3) चांदी का सिक्का या बर्तन ख़रीदना भी शुभ माना जाता है. लक्ष्मी पूजन के लिए चांदी की लक्ष्मी और गणेश की मूर्ति भी ख़रीदकर उनकी पूजा करें. उन्हें नियमित धूप दिखाएं. ऐसा करने से धन की वृद्धि होती है.
4) धनतेरस के दिन धनिया के बीज खरीदें. ये धन के प्रतीक माने जाते हैं. लक्ष्मी पूजन में देवी को धनिया अर्पित करने के बाद बगीचे में बो दें. कुछ को तिजोरी में रख दें. ऐसा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं.
5) धनतेरस के दिन लाल वस्त्र व शृंगार की वस्तु ख़रीदकर उन्हें उपहार में दें.

यह भी पढ़ें: दिवाली स्पेशल रंगोली: सीखें फेस्टिवल स्पेशल 5 रंगोली डिज़ाइन्स (Diwali Special Rangoli: Learn 5 Easy And Innovative Festival Rangoli Designs)

Diwali-Dhanteras 2019
6) धनतेरस के दिन स़फेद चीज़ों का दान करने से आर्थिक लाभ होता है.
7) धनतेरस के दिन बहेड़े की जड़ और शंखपुष्पी की जड़ लाकर चांदी के डिब्बे में रखकर लक्ष्मी जी के साथ पूजन करें. धन के मार्ग खुलेंगे.
8) धनतेरस के दिन पूजा के बाद प्राण प्रतिष्ठित दक्षिणावर्ती शंख के चारों तरफ़ अष्ठगंध से श्री लिखें. इससे धन संबंधी चिंता ख़त्म होती है.
9) धनतेरस के दिन पीतल का लोटा अवश्य ख़रीदें. इससे स्वास्थ्य में वृद्धि होती है और रोग नहीं सताते.
10) धनतेरस के दिन घर में धनवंतरि हवन करें, इससे घर में सभी को स्वास्थ्य लाभ मिलता है.
11) धनतेरस से पांच दिन तक पैसे का व्यवहार न करें, स्वास्थ्य हेतु मदद कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें: अपनी राशि के अनुसार कौन सा रत्न पहनें जिससे हो भाग्योदय (Zodiac Birthstones: Gemstones You Should Wear According To Your Zodiac Sign)