quick relief from period pain

पीडियड्स के समय दर्द, अनियमित पीरियड्स, अत्यधिक ब्लीडिंग आदि प्रॉब्लम्स से क्विक रिलीफ पाना चाहती हैं तो ये होम रेमेडीज़ ट्राई करें.

 

Home Remedies for Period Problems

 

जब हो बहुत ज़्यादा दर्द

पीरियड्स के दौरान होनेवाले अत्यधिक दर्द में पेनकिलर लेने की बजाय ये होम रेमेडीज़ ट्राई करें.
* जैसे ही दर्द शुरू हो दो-तीन ग्लास गर्म पानी पी लें.
* एक जगह बैठने या लेटे रहने की बजाय टहलें. इससे दर्द से राहत मिलती है.
* दादी मां ये नुस्खा आज़माएं- एक टीस्पून शक्कर को आधा टीस्पून घी और आधा टीस्पून आजवायन के साथ गर्म करें और पानी के साथ इसका सेेवन करें.
* 2 से 3 ग्राम अदरक, 4 काली मिर्च, एक बड़ी इलायची, इन्हें कूटकर उबलते पानी में डालिए, फिर इसमें काली चाय, दूध और शक्कर मिलाइए. उबालकर थोड़ी देर रखने के बाद गर्म ही पीजिए. मासिक धर्म के दर्द से मुक्ति के लिए यह अत्यंत उपयोगी नुस्खा है.
* पीरियड्स के पहले ही दिन एक ग्लास गुनगुने पानी में डेढ़ टीस्पून दालचीनी पाउडर और 1 टेबलस्पून शहद मिलाकर दिन में तीन बार पीएं.
* एक कप पानी में अदरक का एक टुकड़ा, शहद और नींबू का रस मिलाकर पांच मिनट तक उबालें. दिन में तीन बार पीएं.
* एक कप पानी में 1 टेबलस्पून तुलसी की पत्तियां उबालकर थोड़ी-थोड़ी देर में पीएं.
* अलसी में दर्दनिवारक गुण होते हैं, जो पीरियड्स में होनेवाले दर्द व मरोड़ मेें आराम दिलाते हैं. 1-2 टेबलस्पून अलसी फांक लें.
* गर्म पानी की थैली से पेट के निचले हिस्से में सेंक करें. तुरंत आराम मिलेगा.
* एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण पपीता पीरियड्स के दर्द में काफ़ी फ़ायदेमंद साबित होता है.

अनियमित माहवारी

* पीरियड्स नियमित न हो तो यह नुस्खा आज़माएं- 10 ग्राम तिल को 200 ग्राम पानी में उबालें. चौथाई रहने पर उसे उतारकर तथा उसमें गुड़ मिलाकर पीएं.
* गाजर का रस पीने से भी पीरियड्स नियमित हो जाता है. सुबह-शाम 200 ग्राम गाजर का जूस पानी के साथ पीनेे से मासिक धर्म नियमित होने लगता है.
* पीरियड्स अनियमित तथा दर्द के साथ हो तो आधा चम्मच कलौंजी दिन में दो बार मासिक धर्म के दौरान लें. कलौंजी के बीजों का चूर्ण बनाकर रख लें और इसे गर्म पानी के साथ लें.
* पीरियड्स शुरू होने के कुछ दिन पहले ही 1 टीस्पून साबूत धनिया दो कप पानी में डालकर उबालें. जब पानी आधा रह जाए, तब उसे उतारकर छान लें. दिन में तीन बार इसे पीएं. धीरे-धीरे माहवारी सामान्य हो जाएगी.
* एक कप पानी में आधा टीस्पून अदरक मिलाकर पांच-सात मिनट तक उबालें. स्वाद के लिए थोड़ी शक्कर मिला लें. खाना खाने के बाद दिन में तीन बार यह काढ़ा लें. महीनेभर यह उपाय करें.
* 1 ग्लास दूध में डेढ़ टीस्पून दालचीनी पाउडर मिलाकर तीन-चार हफ़्तों तक पीएं. अगर आप चाहें, तो चाय में दालचीनी पाउडर भी मिलाकर पी सकती हैं.
* एक ग्लास दूध में 1/4 टीस्पून हल्दी पाउडर मिलाकर रोज़ाना पीएं. अनियमित माहवारी को नियमित करने में यह भी काफ़ी मदद करता है.
* एक ग्लास पानी में 2 टेबलस्पून सौंफ भिगोकर रातभर रखें. सुबह छानकर सौंफ का पानी पी लें. इस नुस्ख़े को एक महीने
तक आज़माएं.
* 1 टीस्पून पुदीना के पत्तों को सुखाकर पीस लें. उसमें 1 टीस्पून शहद मिलाकर दिन में तीन बार उसका सेवन करें.
* गाजर का जूस भी अनियमित माहवारी को नियमित बनाता है.

अधिक रक्तस्राव

अगर आपके पीरियड्स सात दिन से ज़्यादा रहते हैं और आपको हर 2-3 घंटों में सैनिटरी नैपकीन बदलनी पड़ती है, तो आप अधिक रक्तस्राव की समस्या से जूझ रही हैं. यह आपके लिए नुक़सानदायक है, क्योंकि इसके कारण आप एनीमिया की भी शिकार हो सकती हैं. इसलिए इन होम रेमेडीज़ की मदद से उसे कंट्रोल करें.
* एक ग्लास ऑरेंज जूस में 2 टेबलस्पून नींबू का रस मिलाकर दिन में चार-पांच बार पीएं.
* हैवी ब्लीडिंग में मूली काफ़ी लाभदायक होती है. 2-3 मूली को पीसकर उसमें 1 कप छाछ मिलाकर 3-4 बार पीएं.
* कद्दू को पीसकर उसमें थोड़ी-सी शक्कर मिलाएं. इस मिश्रण को दूध या दही में मिलाकर खाएं.
* पीरियड्स के 1-2 हफ़्ते पहले कुछ दिनों तक गन्ने का जूस पीएं. यह पीरियड्स को नियमित करने के साथ-साथ हैवी ब्लीडिंग को भी कंट्रोल करता है.
* बेल की पत्तियों को पानी में उबालकर-छानकर पीएं. इसके अलावा बेल खाने से भी अत्यधिक रक्तस्राव की समस्या में राहत
मिलती है.
* सरसों को पीसकर पाउडर बना लें. आधा टीस्पून सरसों पाउडर एक ग्लास दूध में मिलाकर दिन में दो बार पीएं.

 

व्हाइट डिस्चार्ज

व्हाइट डिस्चार्ज को ज़्यादातर महिलाएं हल्के में लेती हैं, पर बहुत अधिक व्हाइट डिस्चार्ज सेक्सुअली ट्रांस्मिटेड डिसीज़, हार्मोनल प्रॉब्लम्स, वेजाइनल इंफेक्शन, ओवेरियन कैंसर और सर्वाइकल इंफेक्शन्स का कारण भी बन सकता है. इससे निजात पाने के लिए अपनाएं कुछ घरेलू नुस्ख़े.
* एक कप पानी में कुछ भिंडी उबालें. जब पानी गाढ़ा हो जाए, तब उसे छानकर व ठंडा करके पी लें.
* 2 टेबलस्पून आंवला पाउडर में शहद मिलाकर दिन में दो बार खाएं. व्हाइट डिस्चार्ज से जल्द राहत मिलेगी.
* इस दौरान चावल का मांड़ दिन में दो बार पीएं. यह काफ़ी लाभदायक होता है.
* अमरूद की पत्तियों को पानी में उबालकर दिन में दो बार पीएं.
* अनार की पत्तियों को पीसकर रोज़ाना खाली पेट खाने से भी व्हाइट डिस्चार्ज की समस्या से राहत मिलती है.

यूरिनरी इंफेक्शन्स

महिलाओं में यह एक आम समस्या है. संकोच के कारण अक्सर महिलाएं इसे छिपाए रखती हैं, ऐसे में ये होम रेमेडीज़ उनके लिए काफ़ी कारगर सिद्ध होंगी.
* इसमें भरपूर पानी पीना आपके लिए बहुत लाभदायक होगा. इसलिए ख़ूब पानी पीएं.
* ककड़ी जैसे पानी से भरपूर फ्रूट्स को अपने डायट में शामिल करें.
* अदरक की चाय आपको इससे राहत दिलाएगी.
* गर्म पानी की थैली से सेंक करें.
* दो कप पानी में 1 टेबलस्पून पार्सले की सूूखी पत्तियों को उबालकर उसका पानी पीएं.
                                                                                                                                    – सुनीता सिंह