R Ashwin

Ravichandran-Ashwin-Spin-Bowler
साल 2016… हमेशा ही भारतीय क्रिकेट इतिहास में कई उपलब्धियों के लिए याद किया जाएगा. यही वो साल है, जब इंडियन टीम एक बार फिर से टेस्ट क्रिकेट में नंबर वन बनी. यही वो साल है, जब कई क्रिकेटरों ने शादी कर ली और यही वो साल है, जब मैदान पर हर तरह से भारतीय टाइगर्स की दहाड़ गूंजती रही. इंग्लैंड को सीरीज़ हराने की ख़ुशी हम मना ही रही थे कि आईसीसी ने भारतीय प्रशंसकों को एक और ख़ुशी का मौक़ा दिया. आईसीसी ने आर अश्‍विन को क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना है.

FotorCreated

राहुल द्रविण और सचिन तेंदुलकर के बाद आर अश्विन तीसरे भारतीय खिलाड़ी हैं, जिन्हें आइसीसी क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना गया है.

2016 रहा आर अश्विन के लिए बेहद लकी
आईसीसी क्रिकटर ऑफ द ईयर के साथ ही अश्‍विन को टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर भी चुना गया. इतना ही नहीं आईसीससी की टेस्ट टीम 2016 में भी भारत की ओर से स़िर्फ अश्विन ही हैं. अश्‍विन के लिए सच में ये साल बेहतरीन रहा और आर अश्विन के नाते भारत के लिए यह साल सुनहरा था. आइए, देखते हैं कि अवॉर्ड पाने के बाद क्या कहा अश्विन ने. इंग्लैंड के ख़िलाफ़ 5 टेस्ट मैचों की सीरीज़ में अश्‍विन ने 28 विकेट लिए. अब तक 44 टेस्ट मैच खेल चुके अश्विन 248 विकेट अपनी झोली में डाल चुके हैं. स़िर्फ बॉलिंग नहीं, अश्विन का बल्ला भी ख़ूब चलता है. टेस्ट मैचों में वो 1800 से ज़्यादा रन बना चुके हैं.


ICC अवॉर्ड्स 2016

आइसीसी क्रिकेटर ऑफ द ईयर- आर. अश्विन

आइसीसी टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर- आर. अश्विन

आइसीसी वनडे क्रिकेटर ऑफ दि ईयर- क्विंटन डी कॉक

आइसीसी स्पिरिट ऑफ क्रिकेट अवॉर्ड- मिस्बाह उल हक

आइसीसी टी20 परफॉरमेंस ऑफ द ईयर- कार्लोस ब्रेथवेट

आइसीसी इमर्जिंग क्रिकेट ऑफ द ईयर- मुस्ताफिजुर रहमान

आइसीसी अंपायर ऑफ द ईयर- मराइस इरासमस

– श्वेता सिंह 

5219_Ravichandran-Ashwin
दुनिया के नंबर 1 ऑलराउंडर आर. अश्विन(R.Ashwin) अपना बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. 17 सितंबर 1886 को जन्मे अश्विन 30 साल के हो गए. उनको जन्मदिन की शुभकामनाएं. कुंबले के जाने के बाद अश्विन बेहतरीन स्पिनर के रूप में उभरे हैं. शुरुआत में अश्विन स़िर्फ टी 20 मैचों के लिए बेहतरीन खिलाड़ी माने जाते थे, लेकिन धीरे-धीरे वह टेस्ट क्रिकेट के हीरो बन गए और भारत को कुंबले के बाद एक बेहतरीन स्पिनर मिल गया. चलिए हम आपको अश्विन के जीवन से जुड़ी 30 दिलचस्प बातें बताते हैं.

* स़िर्फ भारत में ही नहीं, बल्कि विदेशी खिलाड़ियों और खेल प्रेमियों में अश्‍विन के नाम को लेकर हमेशा कंफ्यूज़न बना रहता है. लोग समझ नहीं पाते कि उनका नाम रविचंद्रन है या अश्‍विन. हम आपको बताते हैं कि रविचंद्रन उनके पिता का नाम है और अश्विन उनका.

* अश्विन के पिता भी क्रिकेटर थे. वह क्लब क्रिकेटर थे.

* अश्विन के पिता जिस क्लब के लिए क्रिकेट खेलते थे, अश्‍विन ने भी उसी से क्रिकेट खेलने की शुरुआत की.

* अश्विन के मां चित्रा हमेशा ही अश्विन की पढ़ाई को लेकर स्ट्रिक्ट रहती थीं.

* बचपन में अश्‍विन गेंदबाज़ नहीं, बल्कि बैट्समैन बनना चाहते थे.

* अश्विन का निकनेम एश है.

* अश्विन ओपनर के तौर पर बैटिंग करने उतरते थे.

* अश्विन जूनियर टीम में टॉप क्लास के ओपनर थे.

* 14 साल की उम्र में अश्‍विन को चोट लगी, जिससे कारण बैट्समैन बनने का सपना थोड़ा पीछे रह गया.

* इस चोट के कारण अश्विन 2 महीने तक बिस्तर पर थे.

* चोट के कारण 8 महीने वह क्रिकेट से दूर रहे.

* ठीक होने के बाद जब अश्‍विन वापस अपनी टीम में आए, तो ओपनिंग की जगह चली गई.

* अश्विन इससे बहुत निराश हुए, लेकिन उनकी मां ने उन्हें पहली बार बैटिंग करने के बदले बॉलिंग करने को कहा.

* 5 जून 2010 को श्रीलंका के ख़िलाफ़ वनडे डेब्यू किया.

* 6 नवंबर 2011 को वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ टेस्ट डेब्यू किया.

* अब तक अश्‍विन 35 टेस्ट मैच खेल चुके हैं. 

* टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज़ 100 विकेट लेनेवाले अश्‍विन पहले भारतीय हैं.

* अश्विन टेस्ट क्रिकेट में एक ही मैच में सेंचुरी और पांच विकेट लेने का कारनामा दो बार कर चुके हैं.

* ऐसा करने वाले अश्‍विन भारत के इकलौते क्रिकेटर हैं.

* यह कारनामा अश्‍विन ने दोनों बार वेस्टइंडीज के ख़िलाफ़ किया.

* अश्विन और रोहित शर्मा के बीच 280 रनों की साझेदारी भारत की तरफ़ से सातवें विकेट के लिए टेस्ट में की गई सबसे बड़ी साझेदारी है.

* दिसंबर 2012 में अश्विन ने टेस्ट में 500 रन और 50 विकेट पूरे किए थे. सबसे तेज़ ऐसा करनेवाले वो दुनिया के तीसरे क्रिकेटर बने थे.

* टेस्ट क्रिकेट में अश्‍विन 6 बार मैन ऑफ द सीरीज़ बन चुके हैं. उन्होंने सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग को पीछे किया.

* एक टेस्ट सीरीज़ में सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले भारतीय आर अश्विन ही हैं. 2012-13 बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में उन्होंने 28 विकेट झटके थे. इससे पहले यह रिकॉर्ड पूर्व कप्तान अनिल कुंबले के नाम दर्ज था.

* अश्विन दुनिया के 1 नंबर के ऑलराउंडर बन गए हैं.

* क्रिकेट खेलने से पहले अश्‍विन बचपन में फुटबॉलर बनना चाहते थे.

* अपने डेब्यू मैच में मैन ऑफ द मैच बनने वाले अश्‍विन तीसरे भारतीय खिलाड़ी हैं.

* मुथैया मुरलीधरन, जिनके नाम सबसे ज़्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड है, ने आर. अश्विन की तारीफ़ करते हुए कहा कि उनका रिकॉर्ड स़िर्फ अश्विन ही तोड़ सकते हैं.

* अश्विन ने अपनी बचपन की दोस्त से शादी की है. इनका नाम प्रिति नारायणन है.

* अश्विन को अर्जुन अवॉर्ड से भी नवाज़ा जा चुका है.

– श्वेता सिंह

1पर्दे पर फिल्म स्टार्स और ग्राउंड पर क्रिकेटर्स का जलवा तो आप कई बार देख चुके होंगे, लेकिन जब दोनों फिल्ड के महारथी साथ में आते हैं, तो होता है ख़ूब धमाल और मस्ती. जी हां फिल्म स्टार्स और क्रिकेटर्स एक साथ उतरे फुटबॉल के ग्राउंड में चैरिटी मैच खेलने के लिए.8

14

9 फुटबॉल मैच को अभिषेक बच्चन के प्लेइंग फॉर ह्यूमेनिटी और विराट के द विराट कोहली फाउंडेशन ने ऑर्गनाइज़ किया था. अभिषेक की टीम ‘ऑल स्टार्स’ से सुजीत सरकार और रणबीर कपूर के ट्रेनर एंटोनियो पेकोरा ने गोल किया.13

3ये मैच बराबरी का रहा. दोनों ही टीमों का ये मुकाबला 2-2 से ड्रा रहा. विराट की टीम ऑल हार्ट फुटबॉल क्लब में विराट के साथ इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी खेल रहे थे.4 विराट की टीम से युवराज सिंह और केएल राहुल ने गोल किया. मैच के दौरान युवराज और विराट को चोट भी लगी.2 अमिताभ बच्चन, सोनाक्षी सिन्हा, शिल्पा शेट्टी कई सितारे मैच देखने पहुंचे.