Rajkumar Rao

देश के टॉप रेटेड न्यूज़ एंकर्स अर्नब गोस्वामी अपने तेज़ तर्रार और आक्रामक अंदाज़ के लिए जाने जाते हैं. इंडिया के बेस्ट न्यूज़ एंकर्स में उनकी गिनती होती है. वैसे तो उनकी काफी ज्यादा फैन फॉलोइंग है, लेकिन पिछले कुछ दिनों से जिस तरह से उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत को इंसाफ दिलाने के लिए मुहिम छेड़ रखी थी, उससे वो आज सबके हीरो भी बन गए हैं.

Arnab Goswami


जैसा कि बॉलीवुड का ट्रेंड है कि वो पॉपुलर शख्सियत की लाइफ पर अक्सर फ़िल्म बनाते हैं. हो सकता है कोई मेकर अर्नब पर भी फ़िल्म बनाने की सोचे और अगर अर्नब पर कभी फ़िल्म बनी तो वे कौन से एक्टर्स हैं, जो उनका रोल परफेक्टली प्ले कर पाएंगे, आइये जानते हैं.

राजकुमार राव

Raj Kumar Rao


राजकुमार राव ने अपनी शानदार ऐक्टिंग से बॉलीवुड में अलग ही मुकाम बनाया है. ‘शाहिद’, ‘ओमेर्टा’, ‘शैतान’, ‘बरेली की बर्फी’, ‘न्यूटन’, ‘सिटी लाइट्स’, ‘स्त्री’…. बेहतरीन फिल्मों की लंबी लिस्ट और हर फिल्म में बेहतरीन परफॉर्मेंस… अर्नब के रोल के लिए राजकुमार का सेलेक्शन कभी गलत चॉइस हो ही नहीं सकता.

रणदीप हुडा

Randeep Hooda


अर्नब के किरदार के लिए एक और नाम सामने आता है, वो है रणदीप हुडा का. रणदीप कमाल के एक्टर हैं और बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपनी एक्टिंग का दम दिखा चुके हैं. उन्हें चाहे कोई भी रोल दे दो, वो उसे अपने 100% देते हैं और खुद को उस कैरेक्टर के लिए इतना तैयार करते हैं कि लगने लगता है कि उस रोल के लिए उनसे बेहतर कोई हो ही नहीं सकता. चाहे ‘वंस अपॉन ए टाइम इन मुंबई’, हो, ‘साहिब बीवी और गैंगस्टर’ हो, ‘सरबजीत’, या ‘हाईवे’, उन्होंने हर रोल को बहुत ही अच्छे से निभाया. अर्नब के रोल के लिए भी वो एक अच्छी चॉइस हो सकते हैं.

नीरज कबि

Neeraj kabi


जिन लोगों ने ‘पाताललोक’ वेबसीरीज़ देखी है, वो ये जानते होंगे कि अर्नब के रोल के लिए नीरज क्यों परफेक्ट होंगे. इस वेबसीरीज़ में नीरज ने जर्नलिस्ट संजीव मेहरा का किरदार निभाया है और इस किरदार में वो बहुत जंचे भी हैं और दर्शकों ने भी उन्हें बहुत पसंद किया है. नीरज कबी ने इससे पहले वेब सीरीज ‘सेक्रेड गेम्स’, फिल्म ‘हिचकी’, ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी’ व ‘तलवार’ आदि में बेहतरीन एक्टिंग कर चुके हैं. वो बहुत ही उम्दा थिएटर आर्टिस्ट भी हैं.

रोनित रॉय

Ronit Roy


रोनित कमाल के एक्टर तो हैं ही, उनकी पर्सनालिटी भी कमाल की है. उनकी एक्टिंग भी बहुत स्ट्रांग है और किसी भी रोल को वो बहुत ही बेस्ट तरीके से निभा लेते हैं. अर्नब के रोल के लिए रोनित रॉय बेस्ट चॉइस होंगे.

के के मेनन

Kk menon


के के मेनन बॉलीवुड को बेस्ट एक्टर्स में से एक हैं. उनकी एक्टिंग में एक अलग लेवल का ब्रिलियंस है, जिस तक कोई पहुंच भी नहीं सकता. चाहे फ़िल्म ‘गुलाम’ हो या शौर्य, जब वो एक्टिंग करते हैं तो नज़र और कहीं हटती ही नहीं… दमदार आवाज़, ज़बरदस्त एक्टिंग टैलेंट के के मेनन को बिल्कुल अलग लेवल पर ले जाता है. वो हर रोल को 100% देते हैं. चाहे ‘ब्लैक फ्राइडे’ ‘द्रोण’, ‘दंश’, ‘लाइफ इन अ मेट्रो’ या ‘शौर्या’ के के मेनन ने हर रोल में खुद को साबित किया है. अर्नब गोस्वामी के लिए वो भी बेस्ट चॉइस हो सकते हैं.


सैफ अली खान

Saif Ali Khan


सैफ भले ही फिल्में कम करते हों, लेकिन अपने हर रोल के लिए जमकर मेहनत करते हैं और किसी भी रोल को बहुत अच्छी तरह निभा लेते हैं. ओमकारा, रेस, फैंटम, बाजार में अपनी एक्टिंग स्किल से उन्होंने दिखा दिया कि वो कोई भी रोल निभा सकते हैं और बहुत अच्छी तरह से निभा सकते हैं… और हाल ही में आई उनकी फ़िल्म ‘तानाजी’… क्या परफॉर्मेंस दिया था सैफ ने. इसके अलावा सैफ में वो टैलेंट है कि वो एक न्यूज एंकर का रोल भी ईजिली कर सकते हैं.

इमरान हाशमी

Emraan Hashmi


इमरान को भले ही ‘किसर एक्टर’ या हॉट फ़िल्म स्पेशल हीरो का टैग लगा दिया गया हो और उन्हें हमेशा कमतर आंका जाता हो, पर जन्नत, शंघाई और बार्ड ऑफ ब्लड फिल्मों में अपनी बेस्ट परफॉर्मेंस से उन्होंने साबित कर दिखाया है कि वो बेहद टैलेंटेड एक्टर हैं. 2012 में आई फ़िल्म ‘रश’ में इमरान ने एक क्राइम जर्नलिस्ट का रोल प्ले किया था, जिसके लिए क्रिटिक्स ने उनकी बहुत तारीफ की थी. तो अगर अर्नब गोस्वामी की लाइफ पर फ़िल्म बनती है, तो इमरान को लेने के बारे में भी सोचा जा सकता है.

विक्की कौशल और राजकुमार राव की बिल्डिंग ओबेरॉय स्प्रिंग्स को BMC ने सील कर दिया है, क्योंकि यहां एक ११ साल को बच्ची कोरोना पॉज़िटिव पाई गई. यह बच्ची एक निर्देशक की बेटी है और इस बिल्डिंग में पत्रलेखा और चित्रांगदा सिंह व और भी कई मशहूर हस्तियाँ रहती हैं.
प्रशासन यही लोगों को समझा रहा है को यह बीमारी अमीर गरीब या जाति धर्म नहीं देखती. इसलिए लॉकडाउन का पालन करें व सतर्क रहें.

Fanney Khan Movie Review: अभिनेता अनिल कपूर (Anil Kapoor), ऐश्वर्या राय बच्चन (Aishwarya Rai Bachchan) और राजकुमार राव (Rajkumar Rao) जैसे बड़े सितारों से सजी फिल्म फन्ने खां आज सिनेमाघरों में रिलीज़ हो चुकी है. इस फिल्म में कॉमेडी, म्यूज़िक और ड्रामा का भरपूर तड़का लगाया गया है. यह फिल्म एक ऐसे पिता की कहानी है, जो अपनी बेटी को लता मंगेशकर जैसी बड़ी सिंगर बनाने का ख़्वाब देखता है और इस सपने को साकार करने की जद्दोजहद करता दिखाई देता है.
Fanney Khan Movie
मूवी- फन्ने खां
स्टार कास्ट- अनिल कपूर, ऐश्वर्या राय बच्चन, राजकुमार राव, पीहू सैंड. 
डायरेक्टर- अतुल मांजरेकर
अवधि- 2 घंटा 10 मिनट
रेटिंग- 3/5
Fanney Khan Movie
कहानी-  फिल्म फन्ने खां में प्रशांत वर्मा (अनिल कपूर) अपने परिवार को चलाने के लिए टैक्सी चलाता है और वो अपने दोस्तों के बीच फन्ने खां के नाम से जाना जाता है, क्योंकि गल्ली-नुक्कड़ में उसका अपना एक ऑर्गेनाइज़्ड म्यूज़िकल बैंड है. फिल्म में राजकुमार राव उनके बेस्ट फ्रेंड का किरदार निभा रहे हैं. फन्ने खां के दोस्त होने के साथ-साथ राजकुमार राव मशहूर सिंगर बेबी सिंह (ऐश्वर्या राय बच्चन) के बहुत बड़े फैन हैं. फन्ने खां अपने सपनों को अपनी बेटी लता (पीहू सैंड) के ज़रिए पूरा होते देखना चाहता है. वो चाहता है कि उसकी बेटी लता मंगेशकर जैसी एक बहुत बड़ी सिंगर बने. हालांकि लता अपने भारी-भरकम वज़न के चलते बॉडी शेमिंग का शिकार होती है, लेकिन उसमें टैलेंट कूट-कूट कर भरा हुआ है.
लता को जब दर्शकों के सामने अपना टैलेंट दिखाने का मौका मिलता है तो उसे भारी भरकम वज़न के चलते काफ़ी कुछ सुनना पड़ता है. इससे वो परेशान हो जाती है, लेकिन उसके पिता उसका न सिर्फ़ साथ देते हैं, बल्कि उसे अपने सपनों को पूरा करने के लिए प्रेरित भी करते हैं. इस बीच ऐसा कुछ होता है कि फन्ने खां और उनका दोस्त मशहूर सिंगर बेबी सिंह को किडनैप कर लेते हैं, जिसके बाद इस फिल्म की कहानी में नया ट्विस्ट आता है. किडनैपिंग के बाद फिल्म की कहानी क्या मोड़ लेती है यह जानने के लिए आपको यह फिल्म देखनी पड़ेगी.
डायरेक्शन- डायरेक्टर अतुल मांजरेकर की यह फिल्म उम्मीदों, सपनों और रिश्तों की कहानी बयां करती है. इसमें उन्होंने मुंबई के एक मिडल क्लास व्यक्ति के जीवन को बेहतरीन तरीक़े  से पर्दे पर उतारा है. बेशक फिल्म में ऐश्वर्या राय का लुक काफ़ी ग्लैमरस नज़र आता है, लेकिन उनकी कहानी पर ज़्यादा मेहनत नहीं की गई है. फिल्म में राजकुमार राव और अनिल कपूर के बीच फिल्माए गए कॉमेडी सीन्स आपको पसंद आ सकते हैं. हालांकि सेकेंड हाफ में फिल्म की कहानी लीक से थोड़ी भटकती हुई दिखाई देती है और फिल्म का यह हिस्सा थोड़ा लंबा है.
एक्टिंग- हमेशा की तरह अनिल कपूर अपने किरदार में बिल्कुल फिट नज़र आ रहे हैं. पर्दे पर उन्होंने एक मिडल क्लास आदमी का किरदार बेहतरी तरीक़े से निभाया है. राजकुमार राव एक लाजवाब एक्टर हैं और उन्होंने इस फिल्म में अपने किरदार के साथ पूरा न्याय करने की कोशिश की है. हॉट सिंगर बेबी सिंह के किरदार में ऐश्वर्या काफ़ी ख़ूबसूरत नज़र आ रही हैं, जबकि लता के किरदार से बतौर एक्टर डेब्यू करने वाली पीहू सैंड ने अपने किरदार को काफ़ी संजीदगी से जीया है.
बहरहाल, फन्ने खां बड़े सितारों से सजी हुई एक म्यूज़िकल ड्रामा फिल्म है, जो दर्शकों का मनोरंजन करने के साथ ही एक मैसेज भी देती है. ऐसे में इस वीकेंड फन्ने खां देखना एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है.

यह भी पढ़ें: Mulk Review: मज़हब की भावुक और संवेदनशील कहानी (Review of Film Mulk: Taapsee Pannu and Rishi Kapoor starrer gets a Thums Up

 

 

 

बॉलीवुड के बिज़ी एक्टर्स में से एक हैं वरुण धवन (Varun Dhawan), लेकिन उनकी ख़ासियत यह है कि उन्हें जब भी अपने बिजी शेड्यूल से थोड़ा वक़्त मिलता है वो अपनी गर्लफ्रेंड नताशा दलाल के साथ क्वालिटी टाइम स्पेंड करना पसंद करते हैं. वैसे तो वरुण धवन कई मौकों पर अपनी गर्लफ्रेंड नताशा दलाल के साथ स्पॉट किए जाते हैं और पिछले दिनों मीडिया में ऐसी ख़बरें भी आई थीं कि दोनों इसी साल मई या जून में शादी कर सकते हैं, लेकिन ये ख़बरें महज़ एक अफवाह साबित हुईं. बता दें कि बीती रात वरुण अपनी गर्लफ्रेंड नताशा के साथ जाने माने फिल्म निर्माता दिनेश विजान की बर्थडे पार्टी में शामिल हुए.

Varun Dhawan and Natasha Dalal

ख़बरों की मानें तो हाल ही में वरुण ने अपनी अपकमिंग फिल्म ‘सुई धागा’ की शूटिंग पूरी की है और अगली फिल्म में बिज़ी होने से पहले वो अपनी गर्लफ्रेंड नताशा दलाल के साथ क्वालिटी टाइम बिताना चाहते हैं और इसलिए वो बाली या लंदन में वेकेशन भी प्लान कर रहे हैं. कहा तो यह भी जा रहा है कि वो जल्द ही नताशा से शादी करेंगे, जिसके लिए वो अपने नए घर में शिफ्ट भी हो गए हैं. बताया जा रहा है कि नताशा शादी के बाद अपना अलग घर चाहती हैं, इसलिए वरुण ने अपने पैरेंट्स के घर के क़रीब ही एक नया घर लिया है.

Varun Dhawan and Natasha Dalal

फिल्म निर्माता दिनेश विजान की पार्टी में न सिर्फ़ वरुण और नताशा ने शिरकत की, बल्कि बॉलीवुड के कई सितारे भी इस पार्टी में शरीक़ हुए. बता दें कि दिनेश विजान इन दिनों अपनी फिल्म ‘स्त्री’ को लेकर सुर्खियों में हैं और उनके बर्थडे के दिन ही इस फिल्म का ट्रेलर भी रिलीज़ हुआ है. इस फिल्म में राजकुमार राव, श्रद्धा कपूर और पंकज त्रिपाठी जैसे स्टार्स नज़र आएंगे.

Rajkumar Rao, Shraddha Kapoor and Pankaj Tripath

बता दें कि फिल्म निर्माता के तौर पर दिनेश विजान ‘लव आजकल’, ‘एजेंट विनोद’, ‘फाइंडिंग फेनी’, ‘बदलापुर’, ‘हिंदी मीडियम’ और ‘राब्ता’ जैसी फिल्में दे चुके हैं. इस बर्थडे पार्टी में फिल्म ‘स्त्री’ की स्टारकास्ट के साथ फिल्म मेकर करण जौहर, सोनाक्षी सिन्हा, भूमि पेडनेकर जैसे बॉलीवुड के कई सितारे शामिल हुए.

 

Karan Johar, Sonakshi Sinha and Bharat Paidekarkar

यह भी पढ़ें: टीवी के ये 8 कपल्स रियल लाइफ़ में कर रहे हैं एक-दूसरे को डेट (8 Onscreen TV Couples Who Are Dating In Real Life)

 

 

 

आज फिल्मी फ्राइडे है और सिनेमा घरों में दो अलग कॉन्सेप्ट वाली फिल्में रिलीज़ हुई हैं. एक तरफ है सदी के महानायक अमिताभ बच्चन और ऋषि कपूर की फिल्म ‘102 नॉट आउट’ है तो वहीं दूसरी तरफ इस फिल्म को टक्कर दे रही है अभिनेता राजकुमार राव की फिल्म ‘ओमेर्टा’. अमिताभ की यह फिल्म बुजुर्गों के एकाकीपन की कहानी बयां करती है तो राजकुमार राव की फिल्म एक आतंकी की कहानी को अलग अंदाज़ में दर्शकों के सामने पेश करती है.

फिल्म- 102 नॉट आउट
निर्देशक- उमेश शुक्ला
स्टार कास्ट- अमिताभ बच्चन, ऋषि कपूर, जिमित त्रिवेदी
अवधि- 1 घंटा 45 मिनट
रेटिंग- 3.5/5
फिल्म की कहानी-
निर्देशक उमेश शुक्ला की फिल्म ‘102 नॉट आउट’ बुजुर्गों के एकाकीपन की त्रासदी की कहानी है. इस फिल्म में 75 साल के बाबूलाल वखारिया (ऋषि कपूर) घड़ी की सुईयों के हिसाब से चलनेवाले एक सनकी बुजुर्ग हैं. जो अपने एनआरआई बेटे और उसके परिवार से पिछले 17 सालों से नहीं मिले हैं. हालांकि उनका बेटा हर साल मिलने का वादा तो करता है पर मिलता नहीं है.

उधर, बाबूलाल के 102 साल के पिता दत्तात्रेय वखारिया (अमिताभ बच्चन) एक ऐसे 102 साल का जवान हैं जो ज़िंदगी को ज़िंदादिली के साथ जीना पसंद करते हैं. एक दिन दत्तात्रेय अपने बेटे बाबूलाल के सामने कुछ शर्ते रखते हुए उसे वृद्धाश्रम भेजने की धमकी देते हैं. दरअसल वो अपने 75 साल के बेटे की जीवनशैली और सोच में इन शर्तों के ज़रिए बदलाव लाना चाहता हैं, लेकिन क्यों इसके लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी.

कैसी है फिल्म?

इस फिल्म के ज़रिए निर्देशक उमेश शुक्ला ने विदेश में रहने वाले एनआरआई बच्चों से मिलने के लिए तड़पने वाले माता-पिता तक एक भावनात्मक संदेश भी पहुंचाने की कोशिश की है. इस फिल्म का पहला हिस्सा थोड़ा धीमा है, लेकिन इसके दूसरे हिस्से में फिल्म अपनी रफ्तार पकड़ लेती है और क्लाइमेक्स आपको इमोशनल करने के साथ-साथ जीत की खुशी का एहसास भी करा जाता है.

एक्टिंग

इस फिल्म में अमिताभ बच्चन और ऋषि कपूर की जोड़ी क़रीब 27 साल बाद पर्दे पर साथ नज़र आ रही है. एक तरफ जहां दत्तात्रेय की भूमिका में अमिताभ बच्चन किरदार के नब्ज़ को पकड़ते हुए कभी दर्शकों को लुभाते तो कभी चौंकाते हुए नज़र आ रहे हैं तो वहीं बाबूलाल की भूमिका अदा कर रहे ऋषि कपूर ने भी अपने किरदार को बेहद सहजता और संयम के साथ निभाया है. एकाकीपन से लड़ते दो बुजुर्गों की मज़ेदार नोकझोंक आपको बेहद पसंद आएगी.

फिल्म- ओमेर्टा
निर्देशक- हंसल मेहता 
स्टार कास्ट- राजकुमार राव, टिमोथी रायन, केवल अरोड़ा, राजेश तेलांग
अवधि- 1 घंटा 36 मिनट
रेटिंग- 3.5/5
फिल्म की कहानी- 
राजकुमार राव लीक से हटकर बनी फिल्मों में काम करने से बिल्कुल भी पीछे नहीं हटते हैं. एक बार फिर निर्देशक हंसल मेहता की फिल्म में राजकुमार राव का अलग अंदाज़ देखने को मिल रहा है. फिल्म ‘ओमेर्टा’ के ज़रिए एक आतंकी की कहानी को कुछ अलग ढंग से पेश करने की कोशिश की गई है. बता दें कि ओमेर्टा एक इटैलियन शब्द है और ऐसे आतंकी के लिए इस शब्द का प्रयोग किया जाता है जो पुलिस के बेइंतहां ज़ुल्म के बाद भी नहीं टूटता.
फिल्म की कहानी साल 2002 की है. जब लंदन में रह रहा अहमद ओमार सईद शेख (राजकुमार राव) पत्रकार डेनियल पर्ल (टिमोथी रायन) की हत्या की कहानी को अपने शब्दो में बयां करता है. इस कहानी के ज़रिए हंसल मेहता ने यह दिखाने की सराहनीय कोशिश की है कि आखिर क्यों आज की भटकी हुई युवा पीढ़ी आंतकवादी संगठनों की ओर आकर्षित हो रही है. उन्हें आईएसआई जैसे आतंकवादी संगठनों में ऐसा क्या नज़र आता है जो वो अपने सिर पर कफ़न बांधकर इसमें शामिल हो जाते हैं.
फिल्म की शूटिंग-
फिल्म की कहानी के अनुसार, इसकी सारी शूटिंग आउटडोर लोकेशन्स पर की गई है. लंदन और भारत की लोकेशन्स पर शूट की गई इस फिल्म में पाकिस्तान दवारा चलाए जा रहे आतंकी कैंपेन को भी अच्छी तरह से पेश किया है. इस फिल्म का बैकग्राउंड स्कोर भी ठीक ठाक है. इस फिल्म को देखने के बाद आप भी यही महसूस करेंगे कि एक खूंखार आतंकवादी को आपने बेहद क़रीब से समझा है.
एक्टिंग-
अगर एक्टिंग की बात करें तो एक आंतकी के किरदार को राजकुमार राव ने अपने लाजवाब अभिनय से जीवंत कर दिखाया है. इस फिल्म में दमदार अभिनय करके एक बार फिर राजकुमार राव ने ख़ुद को एक बेहतरीन और बेमिसाल एक्टर साबित किया है. वहीं टिमोथी रायन, केवल अरोड़ा, राजेश तेलांग जैसे कलाकारों ने अपने-अपने किरदार को बेहतरीन ढंग से पेश किया है.
बहरहाल, अगर आप इस वीकेंड भावनात्मक संदेश देनेवाली पारिवारिक फिल्म देखना चाहते हैं तो ‘102 नॉट आउट’ देख सकते हैं और अगर लीक से हटकर एक आतंकी की कहानी से रूबरू होना चाहते हैं तो फिर ‘ओमेर्टा’ आपके लिए एक बेहतर विकल्प है.

फिल्मों में आपने अभिनेत्रियों के बोल्ड सीन्स तो देखे होंगे, लेकिन इस मामले में बॉलीवुड एक्टर्स भी इन एक्ट्रेसेस से पीछे नहीं हैं. जी हां, कई ऐसे एक्टर्स भी हैं जो फिल्मों के लिए न्यूड भी हो चुके हैं. चलिए हम आपको ऐसे ही 7 अभिनेताओं के बारे में बताते हैं जिनका फिल्मों दिख चुका है न्यूड अवतार.

Bollywood actors, goes naked for film

टाइगर श्रॉफ 

अभिनेता टाइगर श्रॉफ और दिशा पटानी की फिल्म ‘बागी 2’ को दर्शक खूब पसंद कर रहे हैं. इस फिल्म में टाइगर एक सीन में बिना कपड़ों के नज़र आ रहे हैं. टाइगर का यह न्यूड सीन दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींचने में कामयाब रहा है.

आमिर खान 

फिल्म ‘पीके’ में आमिर खान का न्यूड अवतार दर्शक देख चुके हैं. इस फिल्म के एक पोस्टर में ही आमिर बिना कपड़ों के  नज़र आए थे. फिल्म में एलियन बने आमिर ने अपने न्यूड शरीर को सिर्फ़ एक रेडियो से ढंका था.

रणबीर कपूर

फिल्म ‘सांवरिया’ से बॉलीवुड में एंट्री लेनेवाले रणबीर कपूर ने पहली फिल्म में ही अपने न्यूड अवतार से दर्शकों का दिल जीत लिया था. फिल्म के एक गाने में रणबीर सिर्फ़ तौलिए में डांस करते नज़र आए थे और आख़िर में वह तौलिया भी गिर गया था.

जॉन इब्राहिम

फिल्म ‘न्यूयॉर्क’ में जॉन इब्राहिम का बोल्ड न्यूड अवतार दिख चुका है. इस फिल्म के एक सीन में जॉन को अमेरिका के जेल में न्यूड करके टॉर्चर किया जाता है.

नील नितिन मुकेश

फिल्म ‘जेल’ में नील नितिन मुकेश भी न्यूड अवतार में दिख चुके हैं. मधुर भंडारकर की इस फिल्म में जेल के एक सीन में वो बिना कपड़ों के नज़र आए थे.

राजकुमार राव

अभिनेता राजकुमार राव फिल्म ‘शाहिद’ में अपना न्यूड अवतार दिखा चुके हैं. इस फिल्म में राजकुमार राव न्यूड अवतार में पुलिस की प्रताड़ना सहते हुए दिखाई दे रहे थे. इसी फिल्म के लिए उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था.

रणवीर सिंह 

अपने दमदार अभिनय से दिलों को जीतनेवाले रणवीर सिंह भी फिल्म में न्यूड अवतार में नज़र आ चुके हैं. फिल्म ‘बेफिक्रे’ में रणवीर ने न सिर्फ बोल्ड सीन दिए थे बल्कि उन्होंने अपना न्यूड अवतार भी दिखाया था.

यह भी पढ़ें: Movie Review: अक्टूबर है अनकहे प्यार का अहसास तो साइलेंट थ्रिलर फिल्म है मरक्यूरी 

 

 

 

इन दिनों दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह के अलावा सोनम कपूर और आनंद अहूजा की शादी की ख़बरें मीडिया में सुर्खियां बटोर रही हैं. अब इस लिस्ट में राजकुमार राव और पत्रलेखा का नाम भी जुड़ गया है. हाल ही में दिए एक इंटरव्यू के दौरान राजकुमार राव की गर्लफ्रेंड पत्रलेखा ने अपनी शादी और हनीमून प्लान के बारे में बताया है.

 

राजकुमार राव से शादी के प्लान पर पत्रलेखा ने कहा कि वो फिलहाल 6-7 साल तक शादी के बंधन में नहीं बंधना चाहते, लेकिन जब भी हमारी शादी होगी, बहुत खूबसूरत होगी और शादी के बाद हम कम से कम दो महीने के लंबे हनीमून पर जाएंगे. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि दोनों के परिवार वालों की तरफ से शादी को लेकर किसी भी तरह का दबाव नहीं है.

बता दें कि राजकुमार राव और पत्रलेखा साल 2014 में रिलीज़ हुई फिल्म ‘सिटीलाइट्स’ के दौरान नज़दीक आए और क़रीब 4 साल से एक-दूसरे को डेट कर रहे हैं. पत्रलेखा को राजकुमार राव के साथ वेब सीरीज़ ‘बॉस: डेथ और अलाइव’ में देखा गया था. फिलहाल पत्रलेखा अपनी अपकमिंग फिल्म ‘नानू की जानू’ की शूटिंग में बिज़ी हैं, वहीं राजकुमार राव फिल्म ‘फन्ने खां’ की शूटिंग में बिज़ी हैं.

यह भी पढ़ें: अक्षय कुमार ने जुहू बीच पर बनवाया बायो टॉयलेट, ख़र्च किए 10 लाख रुपए ! 

 

 

राजकुमार राव की शादी में ज़रूर आना. इससे पहले की आप कुछ और सोचें आपको बता दें कि ये है उनकी अगली फिल्म का नाम. राजकुमार राव गज़ब के ऐक्टर हैं, ये तो आप सब जानते ही हैं. एक बार फिर फिल्म का इस ट्रेलर में राजकुमार की ऐक्टिंग आपका ध्यान आकर्षित करेगी. फिल्म में कृति खरबंदा भी हैं.

फिल्म का ट्रेलर शुरुआत में जितना रोमांटिक लगता है, उतना ही अंत में संस्पेस से भर जाता है.

फिल्म 10 नवंबर को रिलीज़ होगी.

यह भी पढ़ें: 75 की उम्र में भी बेजोड़ बच्चन! हैप्पी बर्थडे बिग बी, देखें उनके 12 दमदार डायलॉग्स 

फिल्म- भूमि

स्टारकास्ट- संजय दत्त, अदिति राव हैदरी, शरद केलकर, शेखर सुमन

निर्देशक- ओमंग कुमार

रेटिंग- 3 स्टार

Movie Review, Bhoomi

जेल से आने के बाद संजय दत्त की पहली फिल्म है भूमि. एक ज़बरदस्त कमबैक किया है संजय दत्त ने. उन्होंने एक ऐसा रोल चुना है, जिसमें वो अपनी उम्र का ही किरदार निभा रहे हैं. आइए, जानते हैं कैसी है ओमंग कुमार निर्देशित फिल्म भूमि.

कहानी

कहानी है पिता अरुण सचदेव (संजय दत्त) की, जो अपनी बेटी भूमि (अदिति राव हैदरी) को बहुत प्यार करता है. भूमि की मां नहीं है, लेकिन अरुण मां और पिता दोनों का प्यार अपनी बेटी को देता है. भूमि की शादी बड़ी ही धूमधाम से कराने की तैयारी भ करता है, लेकिन बारात लौट जाती है, जिसकी वजह है धौली (शरद केलकर) जिसने अपने गुंडों के साथ मिलकर उसकी बेटी का शोषण किया है. अरुण बेटी का इंसाफ़ दिलाने के लिए पुलिस और अदालत के चक्कर भी लगाता है, लेकिन वहां इंसाफ़ नहीं मिलता. इस बाच से दुखी होकर भूमि और अरुण अदालत के चक्कर लगाना बंद कर देते हैं और सब बोतें भुला कर नई ज़िंदगी जीना चाहते हैं, लेकिन समाज उन्हें जीने नहीं देता. इन सबसे परेशान होकर अरुण आखिरकार अपनी बेटी के साथ हुए अन्याय के ख़िलाफ़ अपने तरीक़े से लडता है.

ऐक्टिंग का दम

संजय दत्त की ऐक्टिंग के बारे में कुछ कहने की ज़रूरत ही नहीं है, वो हमेशा की तरह अपने रोल में दमदार लगे हैं. एक प्यार करने वाला पिता और बेटी के सम्मान को बचाने के लिए विलन का सामना करने वाला पिता, इन दोनों ही रोल को बेहतरीन ढंग से उन्होंने पर्दे पर पेश किया है.

अदिति राव हैदरी भी संजय दत्त की बेटी के रोल में अच्छी लग रही हैं और उनका अभिनय भी ज़बरदस्त है.

शरद केलकर के पास भी अच्छे डायलॉग्स हैं, जो फिल्म में उनकी जगह को ख़ास बना देते हैं.

फिल्म देखने जाएं या नहीं?

ज़रूर जाएं. ये फिल्म देखनी तो बनती है. संजय दत्त को इतने लंबे समय बाद पर्दे पर देखकर यकीनन आपको अच्छा लगेगा. इलके अलावा एक अच्छी फिल्म है भूमि, जिसे न देखना फिल्म के साथ ग़लत होगा.

यह भी पढ़ें: Go Go Go Golmaal! लॉजिक नहीं मैजिक होगा ‘गोलमाल अगेन’ में, देखें ट्रेलर

Movie Review, Newton

फिल्म- न्यूटन

स्टारकास्ट- राजकुमार राव, पंकज त्रिपाठी, संजय मिश्रा और रघुवीर यादव 

निर्देशक- अमित मसुरकर

रेटिंग- 4 स्टार

रिलीज़ होते ही न्यूटन की टीम को मिली है ख़ुशख़बरी. न्यूटन को भारत की तरफ़ से आधिकारिक तौर पर ऑस्कर अवॉर्ड्स में एंट्री मिली है. राजकुमार राव न्यूटन के रोल में बेहतरीन लग रहे हैं. आइए, जानते हैं क्या खा़स है न्यूटन में?

कहानी

न्यूटन (राजकुमार राव) का नाम नूतन कुमार होता है. लड़कियों वाले इस नाम को दसवीं की परिक्षा के दौरान वो न्यूटन में बदल देता है. न्यूटन सरकारी कर्मचारी बन जाता है. एक ईमानदार और हर काम कायदे से करने वाले न्यूटन की ड्यूटी नक्सल प्रभावित इलाके में लग जाती है. उसे नक्सल प्रभावित इलाके में जाकर वोटिंग करवानी पड़ती है. ऊसूलों के पक्के न्यूटन के साथ वहां क्या-क्या होता है? ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी.

फिल्म की ख़ासियत

अमित मसुरकर का निर्देशन बेहतरीन है. लोेकेशन, सिनेमैटोग्राफी भी कमाल की है.

सरकारी कर्मचारी के रोल में राजकुमार राव ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि ऐक्टिंग का दम दिखाने के लिए बड़े बैनर और बड़े बजट की फिल्मों की ज़रूरत नहीं होती है.

वोटिंग और इलेक्शन जैसे मुद्दों को गहराई से लेकिन मनोरंजक अंदाज़ में पेश किया गया है.

पुलिस अफसर के रोल में पंकज त्रिपाठी ने बेहतरीन काम किया है. रघुबीर यादव, अंजलि पाटिल और संजय मिश्रा ने भी अपने अभिनय की छाप छोड़ी है.

फिल्म देखने जाएं या नहीं?

ज़रूर देखने जाएं ये फिल्म. अगर आप राजकुमार राव के फैन नहीं भी हैं, तो इस फिल्म को देखने के बाद आप उनकी ऐक्टिंग के कायल हो जाएंगे. इसके अलावा अगर आप कुछ अलग विषय पर फिल्म देखने के शौक़ीन हैं तो ये फिल्म आपके लिए ही है.

यह भी पढ़ें: Inside Pictures: करीना की Birthday Bash की पिक्चर्स देखें, पहले तैमूर फिर क्लोज़ फ्रेंड्स के साथ पार्टी 

 

Movie Review, Haseena Parkar

फिल्म- हसीना पारकर

स्टारकास्ट- श्रद्धा कपूर, सिद्धांत कपूर, अंकुर भाटिया

निर्देशक- अपूर्व लाखिया

रेटिंग- 2.5 स्टार

 

अपूर्वा लाखिया निर्देशित हसीना पारकर मोस्ट वांटेड अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर की कहानी है. आइए, जानते हैं कैसी है फिल्म.

कहानी

कोर्ट रूम के इस ड्रामे को अच्छे से पेश नहीं कर पाए हैं अपूर्वा. सबसे अहम् बात ये है कि अंत तक फिल्म में वो यही समझा नहीं पाए कि वो दाऊद के परिवार को गलत दिखाना चाहते हैं या सही. फिल्म में दाऊद के क्रिमिनल से आंतकी बनने की कहानी नज़र आएगी. दाऊद के रोल में हैं श्रद्धा कपूर के भाई सिद्धार्थ कपूर, जबकि हसीना पारकर के रोल में हैं श्रद्धा कपूर. दाऊद के डॉन बनने की वजह से उसकी बहन हसीना पारकर को भी कोर्ट तक जाना पड़ता है. ख़ुद को पीड़ित बताने वाली हसीना पारकर की इस कहानी पर यकीन करना मुश्किल है. स्क्रीनप्ले भी बेहद कमज़ोर है. हसीना पारकर से ज़्यादा ये फिल्म दाऊद की कहानी लगती है. कोर्ट रूम का ड्रामा आपको बोर करेगा.

फिल्म देखने जाएं या नहीं?

अगर आप श्रद्धा कपूर के फैन हैं, तो भी ये फिल्म देखने से पहले एक बार सोच लें. श्रद्धा की ऐक्टिंग अच्छी ज़रूर है, लेकिन पूरी फिल्म को देखना केवल समय और पैसों की बर्बादी है.

यह भी पढ़ें: ये रिश्ता क्या कहलाता है सीरियल में नक्श और कीर्ति का मेहंदी सेलिब्रेशन

'बोस डेड/अलाइव' में राजकुमार राव बने सुभाष चंद्र बोस

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत कैसे हुई ये आज भी एक रहस्य है, लेकिन अब इस पर से पर्दा उठाने की कोशिश की गई है वेबसीरीज़ बोस डेड/अलाइव में. इसका ट्रेलर रिलीज़ कर दिया गया है और नेताजी के किरदार में राजकुमार राव को देखकर दंग रह जाएंगे आप. राजकुमार राव ने नेताजी के इस किरदार को निभाने के लिए न सिर्फ़ 12 किलो वज़न बढ़ायास बल्कि उन्होंने अपना आधा सिर भी मुंडवा दिया है.

यह भी पढ़ें: दीया और बाती हम की पूर्वी बनीं मां

हंसल मेहता और राजकुमार राव ने जब भी साथ काम किया है, तब शाहिद, सिटी लाइट, अलीगढ़ जैसी बेहतरीन फिल्में बनकर सामने आई है. इस वेबसीरीज़ से भी यही उम्मीद की जा रही है. एकता कपूर के बैनर तले बनी इस वेबसीरीज़ का पहला ट्रेलर वाक़ई शानदार है. आप भी देखें ट्रेलर.

https://www.youtube.com/watch?v=FF8wWILATMM

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें. 

फिल्म- राबता

स्टारकास्ट- सुशांत सिंह राजपूत, कृति सेनन, राजकुमार राव

डायरेक्टर- दिनेश विजन

रेटिंग- 2.5 स्टार film-raabta_68d47db4-4b5c-11e7-81ca-1a4d4992589d (1)पुनर्जन्म की कहानी अक्सर लोगों को पसंद आती हैं, लेकिन न्यू जनेरेशन के साथ पुनर्जन्म को जोड़ना थोड़ा मुश्किल हो जाता है. राबता की कहानी भी पुनर्जन्म पर आधारित है. दिनेश विजन की डायरेक्टोरियल डेब्यू फिल्म है राबता. आइए, जानते हैं कैसी है ये फिल्म.

फिल्‍म की कहानी शिव (सुशांत सिंह राजपूत) और सारा ( कृति सेनन) के प्यार की, जो पिछले जन्म में अधूरी रह जाती है. शिव एक बैंकर है और नौकरी के लिए वो बुडापेस्‍ट जाता है, जहां उसकी मुलाकात सारा से होती है. दोनों को लगता है उनमें कोई न कोई कनेक्‍शन है. दोनों को प्यार हो जाता है. लेकिन इस प्यार के बीच तीसरा शख़्स आ जाता है. फिर क्या होता है, ये जानने के लिए आपको ये फिल्म देखनी होगी.

सुशांत सिंह राजपूत और कृति सेनन की केमेस्ट्री अच्छी लग रही है. लेकिन फिल्म की कहानी वो कमाल नहीं कर पाई, जिसकी उम्मीद की जा रही थी. फिल्म के कुछ डायलॉग्स दमदार हैं. अगर विजुअल के मुताबिक़ फिल्म की समीक्षा की जाए, तो विजु्ली फिल्म अच्छी लगती है. लेकिन अगर कहानी में ही दम ना हो, तो न गाने काम आते हैं, न विजुअल्स. फिल्म का सेकंड हाफ काफ़ी स्लो है.

खैर कुल मिलाकर देखा जाए, तो अगर इस वीकेंड आप कुछ नहीं कर रहे हैं, तो एक बार ये फिल्म देख सकते हैं. अगर ये फिल्म आपसे मिस भी हो गई, तो कोई ख़ास नुक़सान नहीं होगा आपका.

BEHEN-HOGI-TERI-COMPLETED (1)

फिल्म- बहन होगी तेरी

स्टारकास्ट- राजकुमार राव, श्रुति हसन, रंजीत, गुलशन ग्रोवर

डायरेक्टर- अजय पन्नालाल

 रेटिंग- 3 स्टार
बहन होगी तेरी कॉमेडी फिल्म है. वो कपल्स इस फिल्म से ज़्यादा इत्तेफ़ाक रख पाएंगे, जो एक ही मोहल्ले में बड़े हुए हैं और एक-दूसरे से इश्क करते हैं. आइए, जानते हैं कैसी है फिल्म.
फिल्म की कहानी है लखनऊ के एक ही मोहल्ले में रहने वाले गट्टू (राजकुमार राव) और श्रुति हसन (बिन्नी) की. दोनों पड़ोसी हैं. दोनों एक-दूसरे को पसंद करते हैं, लेकिन जैसा होता है, अक्सर एक ही मोहल्ले के लड़के-लड़कियों को भाई-बहन समझा जाता है, वैसा ही कुछ हाल इस फिल्म की कहानी में दोनों का है.
गट्टू पर भी यही प्रेशर है. एक दिन बिन्नी की शादी राहुल (गौतम गुलाटी) के साथ तय कर दी जाती है.  बिन्नी पर नज़र रखने की ज़िम्मेदारी गट्टू को दी जाती है.
अंत में क्या गट्टू आगे आकर बिन्नी के घरवालों से अपनी शादी की बात कर पाता है या राहुल बिन्नी से शादी कर लेता है. इन सारे सवालों का जवाब तब मिलेगा, जब आप ये फिल्म देखेंगे.
कहानी अच्छी है, लेकिन इसे सही तरीक़े से दर्शाने में थोड़ी-सी कमी रह गई है. बात करें अगर अभिनय कि तो राजकुमार राव हमेशा की तरह अपने अभिनय से इस फिल्म में भी दिल जीत लेते है. श्रुति हसन का अभिनय भी अच्छा है.
अगर आप राजकुमार राव के फैन हैं, तो ये फिल्म आप ज़रूर देख सकते हैं.

Trapped Movie Review

फिल्म- ट्रैप्ड

रेटिंग- 3 स्टार

राजकुमार राव ने एक बार फिर साबित कर दिया की वो एक बेहतरीन ऐक्टर हैं. ट्रैप्ड जैसी फिल्में अक्सर हॉलीवुड में बनती है. बॉलीवुड में इस तरह की फिल्में कम ही बनती हैं. कम बजट और छोटी स्टार स्टारकास्ट के साथ भी एक बेहतरीन फिल्म बनाई जा सकती है, ये साबित कर दिया है निर्देशक विक्रमादित्य मोटवानी ने. पूरी फिल्म एक घर के अंदर शूट की गई है. फिल्म में शौर्य का किरदार निभाने वाले राजकुमार राव 35वें फ्लोर पर अपने फ्लैट में लॉक हो जाते हैं. यहां से शुरू होती है ट्रैप्ड की कहानी. बिना इलेक्ट्रिसिटी और पानी के कैसे शौर्य एक फ्लैट के अंदर अकेले बाहर निकलने के लिए लड़ता है, ये देखकर आप दंग रह जाएंगे.

फिल्म की सबसे ख़ास बात ये है कि इस फिल्म में कोई इंटरवल नहीं है. दर्शक भी फिल्म ख़त्म होने तक थिएटर में ट्रैप हो जाएंगे.

फिल्म की लोकेशन से लेकर सिनेमैटोग्राफी, सब कुछ परफेक्ट है. अगर आप कुछ अलग तरह की फिल्म देखना चाहते हैं या राजकुमार राव के फैन हैं, तो एक बार ये फिल्म देखने ज़रूर जाएं.

Machine Movie Review

फिल्म- मशीन

रेटिंग- 1.5 स्टार

सस्पेंस और थ्रिलर फिल्में बनाने वाले अब्बास-मस्तान एक बार फिर एक थ्रिलर फिल्म लेकर आए हैं. मशीन फिल्म से अब्बास के बेटे मुस्तफा ने डेब्यू किया है. मुस्तफा के साथ इसमें किआरा आडवाणी भी हैं.

फिल्म के लोकेशन्स तो बेहतरीन हैं, लेकिन फिल्म की कहानी में वो दम नज़र नहीं आया, जिसके लिए अब्बास-मस्तान फेमस हैं. मुस्तफा की ऐक्टिंग में भी वो बात नज़र नहीं आई, जो किरदार की डिमांड थी. फिल्म के गाने भी दर्शकों को बांधे रखने में कामयाब नहीं हो पाए. कुल मिलाकर मशीन के पुर्ज़े काफ़ी घिसेपिटे थे.