Rani Padmavati

एक-दो दिन पहले दिए गए एक इंटरव्यू में दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) ने स्वीकार किया कि वे आजकल बहुत थका हुआ (Feeling Exhausted) महसूस करती हैं. अब इसके पहले कि आप उनकी थकान का कोई और मतलब निकालें, हम आपको बताना चाहेंगे कि दीपिका की थकान का कारण कुछ और नहीं, बल्कि उनकी आगामी फिल्म पद्मावती है. अपनी इस फिल्‍म के बारे में दीपिका पादुकोण का कहना है कि पद्मावती कर के वह थक गई हैं क्‍योंकि इस फिल्‍म की शूटिंग काफ़ी ‘थकाऊ’ रही. उन्होंने कहा कि हमने सात आठ महीनों तक बिना रुके काम किया. उल्लेखनीय है कि इस पीरियड-फिल्म में शाहिद कपूर ने महारावल रतन सिंह का किरदार निभाया है, जो एक राजपूत राजा हैं और पद्मावती के पति हैं. हालांकि दीपिका यह कहना नहीं भूलीं कि रानी पद्मावती का किरदार उनकी करियर की सबसे यादगार भूमिकाओं में से एक है.

ग़ौरतलब है कि सोमवार को मुंबई में दीपिका पादुकोण हेमा मालिनी की बायोग्राफी ‘बियॉन्‍ड द ड्रीम गर्ल’ के लॉन्‍च इवेंट में नजर आईं. यहां अपनी आने वाली फिल्‍म ‘पद्मावती’ पर बात करते हुए दीपिका ने कहा, ‘मैं खुद को बहुत सौभाग्यशाली महसूस करती हूं कि मैंने संजय लीला भंसाली जैसे दिग्गज निर्देशक के साथ बार-बार काम किया है. पांच साल के दौरान एक के बाद एक लगातार तीन फिल्मों में, मेरा किरदार बेहद चुनौतीपूर्ण, शक्तिशाली और उस तरह का रहा, जिस प्रकार की भूमिकायें महिलाओं को देने के लिये भंसाली को जाना जाता है.

 

इससे पहले 31 वर्षीय अभिनेत्री दीपिका, भंसाली के साथ ‘गोलियों की रासलीला: रामलीला’ और ‘बाजीराव मस्तानी’ में काम कर चुकी हैं और यह इस एक्‍टर-डायरेक्‍टर जोड़ी की तीसरी फिल्‍म है.

ये भी पढ़ेंः दीपिका पादुकोण ने लॉन्च की ड्रीमगर्ल हेमा मालिनी की बायोग्राफी
फिल्म और टीवी जगत से जुड़ी अन्य ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें

लंबे इंतज़ार के बाद दीपिका पादुकोण, रनवीर सिंह व शाहिद कपूर की बहुप्रतिक्षित फिल्म पद्मावती  का फर्स्ट लुक रिलीज़ कर दिया गया है. पोस्टर में दीपिका ब्लां की ख़ूबसूरत दिख रही हैं. आपको बता दें कि संजय लीला भंसाली अपनी फिल्म को भव्य बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है.

Padmavati movie first look

Padmavati movie first look

Padmavati movie first look

Padmavati movie first look

ग़ौरतलब है कि यह फिल्म चित्तौड़ की महारानी पद्मिनी पर आधारित है, जिन पर हिंदुस्तान का बादशाह अल्लाउद्दीन खिजली फिदा था और उसे हर हाल में अपनाना चाहता था. लेकिन कहानी में एक जोरदार ट्विस्ट है. सूत्रों के अनुसार अल्लाउद्दीन खिजली सिर्फ़ पद्मिनी पर ही नहीं, बल्कि अपने एक सेवक मलिक काफूर की ओर भी आकर्षित था. संजय लीला भंसाली ने अपनी कहानी के माध्यम से अल्लाउद्दीन खिजली का बायसेक्सुअय कैरेक्टर दिखाने की कोशिश की है. सुनने में तो बहुत मज़ेदार है, अब देखना है कि संजय लीला भंसाली पर्दे पर इसे कैसे प्रस्तुत करते हैं.

ये भी पढ़ेंः नवरात्र में मां दुर्गा की आराधना करें बॉलीवुड के 11 गरबा के गानों के साथ

फिल्म व टीवी जगत से जुड़ी अन्य ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें