Tag Archives: Sargun Mehta

IN PICS: 10 बॉलीवुड और टीवी दुल्हन, जिन्होंने अपनी शादी में ‘चूड़ा’ पहना (10 Bollywood and TV Stars Flaunting Their Wedding ‘Choodas’)

Bollywood Stars Wedding Choodas

हर पंजाबी दुल्हन के लिए शादी जैसे ख़ास दिन में ‘चूड़ा’ पहनना बहुत बड़ा आकर्षण है. भारतीय शादियों में रीति-रिवाज़ों को बहुत महत्व है. उनमें से ही एक चूड़ा और कलीरे पहनने की रस्म, जो पंजाबी शादी का अहम् हिस्सा. ये सेरेमनी विशेष रूप दुल्हन के घर पर शादी से एक दिन पहले आयोजित की जाती है. इस स्पेशल सेरेमनी को हमारे बॉलीवुड और टीवी स्टार्स ने सेलिब्रेट किया है. आइए देखते हैं कौन-कौने से स्टार्स हैं वो-

  1. दीपिका पादुकोण

Deepika's Wedding Choodas

2. सोनम कपूर

Bollywood Stars Wedding Choodas

3. अनुष्का शर्मा

Bollywood Stars Wedding Choodas

4. शिल्पा शेट्टी

Shilpa Shetty's Wedding Choodas

5. प्रिटी जिंटा

Bollywood Stars Wedding Choodas

6. इशा देयोल

Bollywood Stars Wedding Choodas

7. गीता बसरा

Bollywood Stars Wedding Choodas

8. किश्‍वर मर्चेंट

Bollywood Stars Wedding Choodas

9. दिव्यांका त्रिपाठी

Divyanka Tripathi's Wedding Choodas

10. सरगुन मेहता

Sargun Mehta's Wedding Choodas

और भी पढ़ें: पार्टनर के साथ छुट्टियां मना रहे हैं आयुष्मान खुराना व अर्जुन कपूर, देखें पिक्स (Ayushmann And Arjun Vacation Pics)

टीवी कपल रिद्धि डोगरा और राकेश बापट की शादी खतरे में (Ridhi Dogra And Raqesh Bapat’s 7-Year Old Marriage To End?)

सुनने में आ रहा है कि टीवी कपल रिद्धि डोगरा (Ridhi Dogra) और राकेश बापट (Raqesh Bapat) की 7 साल पुरानी शादी टूटने के कगार पर पहुंच गई है. खबरों की मानें तो रिद्धि अब राकेश के साथ नहीं रहती हैं. रिद्धि डोगरा की क़रीबी दोस्त सरगुन मेहता से इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने गोल-मोल जवाब दिया, जबकि टीवी स्टार और रिद्धि बेस्टफ्रेंड आशा नेगी ने अपना स्टेटमेंट ही बदल दिया.

Ridhi Dogra And Raqesh Bapat

 Ridhi Dogra And Raqesh Bapat
एक इंटरटेंमेंट साइट पर छपी ख़बर के अनुसार, रिद्धि और राकेश की शादी टूटने के कगार पर पहुंच चुकी है. जब इस बारे में पता लगाने के लिए जब राकेश बापट से संपर्क करने की कोशिश की गई तो उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया, जबकि रिद्धि इस बात का सही तरीक़े से जबाव नहीं दे पाईं और नाराज़ होकर फोन काट दिया.
Ridhi Dogra And Raqesh Bapat
जब इस बारे में रिद्धि की अच्छी फ्रेंड आशा नेगी से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि,”सॉरी मैं इस बारे में कमेंट नहीं कर सकती. रिद्धि मेरी बेस्टफ्रेंड है.” जब उनसे यह जानने की कोशिश की गई कि क्या उन्हें इस बारे में कोई जानकारी है तो उन्होंने कहा कि मैं रिद्धि की दोस्त हूं. मुझे उसके बारे में हर बात पता होती है, लेकिन मैं इसपर कमेंट नहीं करना चाहती, पर उन्होंने तुरंत यह भी कहा कि मुझे इस बारे में कुछ पता नहीं है.
Ridhi Dogra
जब शरगुन मेहता से इस बारे में जानने की कोशिश की गई तो उन्होंने कहा कि,” मैं इस बारे में बिना उनके परमिशन के कुछ नहीं बोल सकती. यह रिद्धि का पर्सनल मैटर है और वो नहीं चाहेगी कि इसके बारे में  इस तरह बात की जाए. हम रिद्धि से बात करने के बाद ही इस बारे में किसी से डिस्कस करेंगे. इससे ज़्यादा मैं कुछ नहीं
कह सकती.”
Ridhi Dogra And Raqesh Bapat
इस ख़बर की पुष्टि के लिए जब रिद्धि को फोन लगाया तो पूरी बात धैर्यपूर्वक सुनने के बाद उन्होंने कहा, आय एम सॉरी, आय हैव टू…यह कहकर उन्होंने फोन काट किया. बाद में मैसेज का रिप्लाई देते हुए उन्होंने कहा कि किसी को उनके पर्सनल लाइफ के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है.
ये भी पढ़ेंः इस तारीख़ को होगी मुकेश अंबानी के बेटे की शादी ( Mukesh Ambani Son is Getting Married On This Date)

.

इसलिए शादी के 5 साल बाद भी बच्चा नहीं चाहते टीवी के जमाई राजा (Ravi Dubey said he is not ready for Family planning)

छोटे पर्दे के शो ‘जमाई राजा’ के फेम एक्टर रवि दुबे (Ravi Dubey) अपने करियर के बेहतरीन दौर से गुज़र रहे हैं और उनकी शादीशुदा ज़िंदगी भी मज़े से कट रही है. बता दें कि टीवी के इस जमाई राजा ने साल 2013 में एक्ट्रेस सरगुन मेहता से शादी की थी. दोनों की शादी को 5 साल हो गए हैं, लेकिन अभी तक दोनों ने बच्चे को लेकर कोई प्लानिंग नहीं की है. शादी के 5 साल बाद भी आख़िर रवि और सरगुन पैरेंट्स क्यों नहीं बनना चाहते, चलिए जानते हैं.

दरअसल, 34 वर्षीय रवि दुबे की मानें तो वो अपनी पत्नी से बेहद प्यार करते हैं, लेकिन फैमिली प्लानिंग के लिए वो अभी तैयार नहीं है. रवि का मानना है कि फिलहाल उनके और उनकी पत्नी के करियर का यह बेहतरीन दौर चल रहा है, यही वजह है कि वो अभी फैमिली प्लानिंग नहीं करना चाहते.  एक दफा रवि ने कहा था कि उन्हें बच्चों से बेहद प्यार है और वो पापा भी बनना चाहते हैं, लेकिन करियर के पीक पर वो ये नहीं चाहते कि उनकी पत्नी सरगुन बायलॉजिकल पेन से गुज़रें.

गौरतलब है कि ’12/24 करोल बाग’ सीरियल के सेट से दोनों की प्रेम कहानी शुरू हुई थी. 5 फरवरी 2013 को रवि ने ‘नच बलिए 5’ में सरगुन को प्रपोज़ किया था और दोनों शादी के बंधन में बंध गए. फिलहाल रवि ‘सबसे स्मार्ट कौन’ नाम के एक नए गेम शो में बिज़ी हैं, जो जल्द ही पर्दे पर आने वाला है, जबकि सरगुन आख़िरी बार पिछले साल ‘एंटरटेनमेंट की रात’ में नज़र आई थीं.

यह भी पढ़ें: ये है मोहब्बतें के रमन भल्ला रियल लाइफ में बनने वाले हैं पापा

रवि दुबे और सरगुन मेहता की प्रेम कहानी (Love Story Of Ravi Dubey And Sargun Mehta)

Love Story Of Ravi Dubey And Sargun Mehta

मनचाहा जीवनसाथी, मनचाहा प्रोफेशन, मनचाही ख़ुशियां… यदि ये सब हासिल हो जाएं तो ज़िंदगी से और क्या चाहिए? टेलीवुड के मेड फॉर ईच अदर कहलाए जाने वाले कपल रवि और सरगुन को भी ज़िंदगी से कोई शिकायत नहीं. वो पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ़ में स्टेप बाई स्टेप क़ामयाबी की सीढ़ियां चढ़ते जा रहे हैं और ज़िंदगी का खुलकर लुत्फ़ उठा रहे हैं. एनर्जी से भरपूर इस सुपर स्टाइलिश कपल की प्रेम कहानी कैसे शुरू हुई? आइए, हम आपको बताते हैं.

एक-दूसरे के सपोर्ट सिस्टम बनकर एक-दूसरे की क़ामयाबी के हिस्सेदार कैसे बना जा सकता है, ये कोई रवि और सरगुन से सीखे. दोनों बहुत बिज़ी रहते हैं, फिर भी बहुत ख़ुश और एक-दूसरे से कनेक्टेड रहते हैं. दोनों ही बहुत आशावादी हैं और अपनी मंज़िल तक पहुंचना अच्छी तरह जानते हैं. आइए, रवि और सरगुन की ज़िंदगी को और क़रीब से जानें.

कैसी थी आप दोनों की पहली मुलाक़ात?
रवि दुबे: सरगुन से मैं पहली बार करोल बाग़ के सेट पर मिला. बहुत जल्दी हमारी दोस्ती हो गई और उतनी ही जल्दी मुझे ये एहसास हो गया मुझे सरगुन से प्यार हो गया है. फिर क्या था, मैंने सरगुन को प्रपोज़ किया और जल्दी ही हमने शादी कर ली.
सरगुन मेहता: पहली नज़र में तो हम इंसान का रूप-रंग ही देखते हैं. मैंने जब रवि को पहली बार देखा तो वो अपनी वैन से उतर रहे थे, वो करोल बाग़ की शूटिंग के लिए दिल्ली आए थे. ब्लैक कलर के जैकेट और ब्लू डेनिम में रवि को देखकर मैं सोचने लगी, ङ्गओह माय गॉड, ये हैंडसम लड़का कौन है!फ मेज़े की बात ये है कि जब मैंने रवि का लुक टेस्ट देखा था तो मेरा रिएक्शन था, ङ्गये चश्मिस लड़का कौन है?फ लुक टेस्ट में रवि एकदम ऑर्डिनरी लग रहे थे, क्योंकि वो फोटोग्राफ्स उनके कैरेक्टर की थी, लेकिन असल में उन्हें देखकर मैं देखती ही रह गई. फिर जल्दी ही हमारी दोस्ती हो गई. करोल बाग़ के बाद जब हम दिल्ली से मुंबई आए तो मैंने देखा कि रवि हमेशा मेरे आसपास रहते हैं, घर ढूंढ़ने से लेकर सेटल होने तक हर चीज़ में मेरी मदद कर रहे हैं, उनकी ये तमाम बातें मुझे अच्छी लगने लगीं. तब मेरे मन में भी मोहब्बत का एहसास जागने लगा था.

शादी के बाद कितनी बदली ज़िंदगी?
रवि दुबे: कुछ भी नहीं बदला है शादी के बाद, सिवाय इसके कि हम एक घर में रहने लगे हैं. हम दोनों शादी के पहले भी अपने पैरेंट्स से दूर अकेले रह रहे थे. घर और करियर दोनों संभाल रहे थे इसलिए शादी के बाद ज़िम्मेदारियां बढ़ी नहीं हैं, बल्कि बंटी हैं. अब हम साथ मिलकर अपनी तमाम ज़िम्मेदारियां पूरी कर रहे हैं. हां, इतना ज़रूर है कि शादी के बाद इंसान अपनी लाइफ को लेकर और ज़्यादा क्लियर हो जाता है, उसे पता होता है कि उसे अपनी फैमिली के लिए क्या करना है.
सरगुन मेहता: शादी के बाद ज़िंदगी में कोई बदलाव नहीं आया. शादी से पहले मैं मुंबई में अकेली रह रही थी इसलिए काम के साथ-साथ घर ढूंढ़ने से लेकर, फोन, लाइट के बिल भरना, खाने-पीने बंदोबस्त… सबकुछ मैं अकेले ही मैनेज कर रही थी. शादी के बाद भी मैं वही सारे काम कर रही हूं. अब रवि साथ है तो बल्कि ज़्यादा आसानी हो गई है.

आप दोनों के बीच नोकझोंक कितनी होती है?
रवि दुबे: नोकझोंक तो हर कपल के बीच होता है, लेकिन हमारे साथ ख़ास बात ये है कि हमें दूसरी चीज़ों पर भले ही ग़ुस्सा आ जाए, लेकिन एक-दूसरे पर कभी ग़ुस्सा नहीं आता.
सरगुन मेहता: डे टु डे लाइफ की नोंकझोक तो हर रिश्ते में होती है, उससे आप बच नहीं सकते. सोफे के कलर, एक्स्ट्रा टीवी या फिर किसी काम को लेकर नोंकझोंक हो ही जाती है, लेकिन वो उतनी ही जल्दी खत्म भी हो जाती है.

डेली सोप में काम करते हुए पर्सनल लाइफ के लिए कितना टाइम मिल पाता है?
रवि दुबे: हर इंसान के पास दिन में चौबीस घंटे ही होते हैं, ये आप पर है कि आप अपने काम को कितना और कैसे इस्तेमाल करते हैं. मेरी पत्नी मेरी प्राथमिकता है और मैं ये अच्छी तरह जातना हूं कि मैं उसके साथ क्वालिटी टाइम कैसे बिता सकता हूं. दरअसल, जो लोग ढीले होते हैं वो बहुत टाइम पास करते हैं और काम न कर पाने हज़ार एक्सक्यूज़ देते हैं, लेकिन जो लोग एक साथ कई काम करते हैं, वो अपने हर काम के लिए टाइम निकाल ही लेते हैं और टाइम मैनेज करना भी अच्छी तरह जानते हैं.
सरगुन मेहता: आप कितने घंटे काम करते हैं इससे ज़्यादा ज़रूरी है कि आप अपने काम से कितना प्यार करते हैं, उसे कितना एंजॉय करते हैं. हम लकी हैं कि हम वही काम कर रहे हैं जो हमें पसंद है. साथ ही मैं उस इंसान के साथ रह रही हूं जिसे मैं प्यार करती हूं इसलिए मैं ख़ुद को बहुत लकी मानती हूं. फिलहाल मेरे पास टाइम ज़्यादा है, क्योंकि मुझे मेरी फिल्म की डेट्स के हिसाब से काम करना पड़ता है, लेकिन रवि डेली सोप कर रहे हैं इसलिए उनके पास बिल्कुल भी टाइम नहीं है, हम दोनों एक छत के नीचे रह रहे हैं, हमारे लिए इतना ही काफ़ी है.

प्रोफेशनल लाइफ में एक-दूसरे को कितना सपोर्ट करते हैं?
रवि दुबे: हम दोनों एक ही प्रोफेशन में हैं इसलिए अपने काम और शेड्यल को अच्छी तरह समझते हैं. अब कुछ ही दिनों में सरगुन अपनी फिल्म की शूटिंग के लिए बीस दिनों के लिए चली जाएगी और मैं इसके लिए मेंटली तैयार हूं, क्योंकि यही हमारे काम का पैटर्न है. मेरे शहर से बाहर जाने पर सरगुन भी सबकुछ संभाल लेती है.
सरगुन मेहता: रवि और मेरी बॉन्डिग इतनी मज़बूत है कि हम एक-दूसरे को बहुत अच्छी तरह जानते हैं. आप हमें एक-दूसरे का बैक बोन कह सकते हैं. हम एक-दूसरे को उसकी ख़ासियत और कमी दोनों बताते रहते हैं, ताकि हम साथ मिलकर आगे बढ़ सकें. रवि जानते हैं कि मैं क्या कर सकती हूं और मैं जानती हूं कि रवि में कितना पोटेंशियल है.

प्यार क्या है आपकी नज़र में?
रवि दुबे: मेरी नज़र में प्यार कंपैनियनशिप है. व़क्त के साथ आपके रिलेशनशिप के सारे पिलर्स टूटते जाते हैं, फिर चाहे वो लुक्स हो, फिज़िकैलिटी, लव-अफेयर का यूफोरिया… सबकुछ ध्वस्त हो जाता है. उसके बाद स़िर्फ एक-दूसरे की कंपनी बच जाती है. यदि आप दोनों को वाकई एक-दूसरे का साथ अच्छा लगता है, दुनिया में ऐसा कोई टॉपिक नहीं जो आप एक-दूसरे के साथ शेयर नहीं करते, तो आपका रिश्ता मज़बूत है और आप अपने रिश्ते में हमेशा ख़ुश रहते हैं. यदि आप के बीच कंपैनियनशिप नहीं है, तो जब आपके रिश्ते के सारे पिलर्स ढलते चले जाएंगे, तो आपको अपने रिश्ते को जस्टिफाई करने की वजहें ढूंढ़नी पड़ेंगी.
सरगुन मेहता: मेरी नज़र में प्यार वो है जो अपने आप होता चला जाए, जहां आपको सोच-समझकर या एफर्ट लगाकर कुछ करना न पड़े. आप अपने पार्टनर से दुनिया की हर बात शेयर कर सकें.

भाग्य या ईश्‍वर में विश्‍वास करते हैं?
रवि दुबे: आपकी लाइफ वैसे डिज़ाइन होती है जैसे आप सोचते हैं. यदि आपको लगता है कि ये इंडस्ट्री आपकी दोस्त नहीं दुश्मन है, तो आपको वैसे ही लोग मिलेंगे, लेकिन आप यदि पॉज़िटिव रहेंगे तो आपके साथ सबकुछ पॉज़िटिव होता चला जाएगा. मैं और सरगुन बहुत आशावादी हैं, हम हर चीज़ में पॉज़िटिविटी ही ढूंढ़ते हैं.
सरगुन मेहता: ईश्‍वर कह लीजिए या यूनिवर्स मेरा उसमें अटूट विश्‍वास है. ओपरा ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि मैं मेहनत करती जा रही थी और मेरे लिए लक सही समय पर सही जगह रखा हुआ था. मैं भी यही मानती हूं, आपको मेहनत करते हुए ख़ुद को अपने लक के लिए तैयार रखना चाहिए, वो ज़रूर आपके पास आएगा. यदि आप सच्चे दिल से पूरी ताक़त लगाकर कोई काम करते हैं, तो यूनिवर्स आपको आपकी चीज़ उतनी ही शिद्दत से सौंप देता है.

यह भी पढ़ें: ‘साथ निभाना साथिया’ की इस पंंजाबी कुड़ी ने की साउथ इंडियन बॉयफ्रेंड से सगाई !

आपका स्टाइल स्टेटमेंट क्या है?
रवि दुबे: मेरा स्टाइल बहुत सिंपल है. मैं बहुत एक्सपेरिमेंट नहीं करता. कैजुअल वेयर में मुझे बसिक डेनिम और टी-शर्ट पहनना पसंद है. फॉर्मल वेयर में क्लासिक थ्री पीस सूट पहनना पसंद है. कपड़ों के मामले में मैं फिर भी समझौता कर लूंगा, लेकिन एक्सेसरीज़ मैं बेस्ट क्वालिटी की ही ख़रीदता हूं. मेरे पास वॉचेस और ग्लेयर्स का अच्छा-खासा कलेक्शन है.
सरगुन मेहता: रवि बहुत कॉन्शियस रहते हैं कि उन्होंने क्या पहना है, लेकिन मुझे सबकुछ चलता है. मैं शूटिंग के बीच में ही कोई ड्रेस ख़रीद लूंगी और उसे अगले अवॉर्ड फंक्शन के लिए रख दूंगी. मैं स्टाइल के लिए इतना एफर्ट नहीं लगाती कि डिज़ाइनर या स्टाइलिश के पास जाऊं.

पार्टनर की किस बात से चिढ़ जाते हैं?
रवि दुबे: सरगुन बहुत ही ऑर्गनाइज़्ड लड़की है और मैं बहुत ही कैजुअल हूं. अक्सर वो मेरे सामने सौ-दो सौ पेपर लाकर रख देती है और डेडलाइन दे देती है कि सुबह तक इन सब पर साइन हो जाना चाहिए. सच कह रहा हूं, उस व़क्त मुझे बहुत खीझ होती है. (हंसते हुए) सरगुन जानती है कि वो यदि मुझे डेडलाइन नहीं देगी तो वो काम 10-15 दिनों तक टल जाएगा. मुझे पेपर वर्क बिल्कुल भी पसंद नहीं. सरगुन ना हो तो मैं ये सब कर ही नहीं पाऊंगा.
सरगुन मेहता: रवि फोन एडिक्ट हैं, हर पल फोन से चिपके रहते हैं, उनकी इस आदत से मुझे बहुत चिढ़ होती है.

आपकी अपनी वीकनेस क्या है?
रवि दुबे: कई बार मैं बहुत ढीला हो जाता हूं. वैसे तो मैं बहुत एक्टिव हूं, मेरा दिन सुबह छह बजे शुरू हो जाता है और रात एक-डेढ़ बजे ही ख़त्म होता है और उस दौरान लगातार कुछ न कुछ चलता ही रहता है, कई बार तो बैठने की भी फुर्सत नहीं होती, लेकिन कई बार मैं बहुत आलसी हो जाता हूं, फिर मुझे ख़ुद को उस मूड से बाहर धकेलना पड़ता है.
सरगुन मेहता: मेरी भी यही वीकनेस है, कई बार मैं बहुत आलसी हो जाती हूं.

आपके पार्टनर की वो कौन-सी ख़ासियत है जिस पर आप गर्व महसूस करते हैं?
रवि दुबे: सरगुन मेरी स्ट्रेंथ है. मैं बहुत आशावादी हूं, लेकिन जब मैं लो फील करता हूं तो सरगुन ही मुझे समझा पाती है, क्योंकि वो भी मुझसे ज़्यादा आशावादी है.
सरगुनः रवि को आप गूगल मैन कह सकती हैं, वो बहुत अपडेटेड रहते हैं, उनके साथ आपको कुछ भी सर्च करने की ज़रूरत नहीं पड़ती.

घूमने के कितने शौकीन हैं और कहां घूमना पसंद करते हैं?
रवि दुबे: हम दोनों ही घूमने के बहुत शौकीन हैं और टाइम मिलने पर घूमने निकल जाते हैं. हमारे हनीमून का टूर बहुत यादगार था, हम हनीमून के लिए यूरोप गए थे जहां हमने एक साथ कई यादगार पर बिताए, बहुत सारे नए दोस्त बनाए, यूरोप को पूरी तरह से एक्सप्लोर किया. मैं सरगुन के साथ फिर से यूरोप टूर पर जाना चाहूंगा.
सरगुन मेहता: हमें नई-नई जगहों पर घूमने जाना बहुत पसंद है. हालांकि हमें बहुत ज़्यादा टाइम नहीं मिल पाता, फिर भी हम टाइम निकालकर शॉर्ट ट्रिप तो प्लान कर ही लेते हैं. हां, हमारा हनीमून ट्रिप बहुत ख़ास था.

यह भी पढ़ें: दिव्यांका त्रिपाठी को उनकी मां ने दिया ये खास सरप्राइज़ !

कितने फिटनेस कॉनिशयस हैं?
रवि दुबे: एक्टिंग के फील्ड में फिटनेस बहुत मायने रखती है. हमें फिटनेस के लिए अलग से टाइम निकालना ही पड़ता है. मैं सुबह लगभग दो घंटे रोज़ वर्कआउट करता हूं. मैं खाने का बहुत शौकीन हूं इसलिए खाने की क़ीमत वर्कआउट करके चुकाता हूं, क्योंकि मुझे इसके लिए ज़्यादा वर्कआउट करना पड़ता है. मुझे मीठा बहुत पसंद है, ख़ासकर चॉकलेट्स.
सरगुन मेहता: हम दोनों फूडी हैं इसलिए हमें रोज़ जिम में बहुत टाइम बिताना पड़ता है. बटर चिकन-बटर नान हम दोनों बहुत चाव से खाते हैं.

जब मैंने ख़ुद को पहली बार स्क्रीन पर देखा: रवि दुबे
पहली बार मैंने ख़ुद को एक ऐड फिल्म में स्क्रीन पर देखा था और वो ख़ुशी शब्दों में बयां नहीं की जा सकती. मुझसे पहले हमारे परिवार में कोई भी इस इंडस्ट्री में नहीं था इसलिए ऐसा लग रहा था कि मैंने कुछ स्पेशल अचीव किया है. इससे पहले ख़ुद को दूसरों की शादी के वीडियोज़ में देखा था.
जब से मैंने होश संभाला, तभी से मैं इस इंडस्ट्री में आना चाहता था, लेकिन कैसे आना है ये तब तय नहीं था. दिल्ली से ग्रैज्युएशन करने के बाद में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने मुंबई आया. पढ़ाई के दौरान एक ऐड फिल्म में काम करने का मौक़ा मिला और उसके बाद एक के बाद एक मौ़के मिलते गए और मैं आगे बढ़ता गया.

…और मैंने एक्टिंग को चुन लिया: सरगुन मेहता
मेरे पैरेंट्स बहुत मॉडर्न ख़यालात के हैं. उन्होंने हम पर कभी अपने ़फैसले नहीं थोपे. हां, ये ज़रूर बताया कि क्या सही है और क्या ग़लत. जब मुझे इस इंडस्ट्री में पहला ब्रेक मिला, तो मैं पोस्ट ग्रैज्युएशन की पढ़ाई के लिए विदेश जा रही थी. जब मैंने अपने पैरेंट्स से इस ब्रेक के बारे में बात की, तो उन्होंने कहा कि तुम करना चाहती हो तो ज़रूर करो. अगर इस इंडस्ट्री में तुम नहीं चली तो पोस्ट ग्रैज्युएशन एक साल बाद कर लेना, लेकिन ऐसा करने की ज़रूरत नहीं पड़ी. मेरा एक्टिंग करियर चल पड़ा.
– कमला बडोनी

दिशा वाकाणी, सरगुन मेहता, अनूप सोनी, रवि दुबे की तरह आप भी साकार करें अपने सपने (Disha Vakani, Sargun Mehta, Ravi Dubey, Anup Soni: TV Celebrities Share Their Success Mantras)

TV Celebrities, Success Mantras

इतनी शिद्दत से मैंने तुम्हें पाने की कोशिश की है
कि हर ज़र्रे ने मुझे तुमसे मिलाने की साजिश की है…

कहते हैं, अगर किसी चीज़ को दिल से चाहो, तो पूरी क़ायनात उसे तुमसे मिलाने की कोशिश में लग जाती है…
शाहरुख़ ख़ान की फिल्म ओम शांति ओम के ये डायलॉग्स स़िर्फ डायलॉग नहीं हैं, इनका वास्ता असल ज़िंदगी से भी है. जी हां, ख़्वाब यकीन में बदल जाते हैं यदि आपकी कोशिश सच्ची है. यकीन न हो तो इन टेलीविज़न स्टार्स से जान लीजिए. इनके अनुभवों से आपको ये यकीन हो जाएगा कि नामुमकिन कुछ भी नहीं.

TV Celebrities, Success Mantras

सरगुन मेहता (Sargun Mehta)
ईश्‍वर कह लीजिए या यूनिवर्स मेरा उसमें अटूट विश्‍वास है. मशहूर मीडिया प्रोफेशनल ओपरा विनफ्रे ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि मैं मेहनत करती जा रही थी और मेरे लिए लक सही समय पर सही जगह रखा हुआ था. मैं भी यही मानती हूं, आपको मेहनत करते हुए ख़ुद को अपने लक के लिए तैयार रखना चाहिए, वो ज़रूर आपके पास आएगा. यदि आप सच्चे दिल से पूरी ताक़त लगाकर कोई काम करते हैं, तो यूनिवर्स आपको आपकी चीज़ उतनी ही शिद्दत से सौंप देता है.

TV Celebrities, Success Mantras

रवि दुबे (Ravi Dubey)
आपकी लाइफ वैसे डिज़ाइन होती है जैसे आप सोचते हैं. यदि मैं ग्लैमर इंडस्ट्री की बात करूं, तो यहां पर भी यही बात लागू होती है. यदि आपको लगता है कि ये इंडस्ट्री आपकी दोस्त नहीं दुश्मन है, तो आपको वैसे ही लोग मिलेंगे, लेकिन आप यदि पॉज़िटिव रहेंगे तो आपके साथ सबकुछ पॉज़िटिव होता चला जाएगा. मैं बहुत आशावादी हूं और हर चीज़ में पॉज़िटिविटी ढूंढ़ता हूं इसलिए मेरे साथ सबकुछ पॉज़िटिव ही होता है.

TV Celebrities, Success Mantras

दिशा वाकाणी (Disha Vakani)
आप किसी भी क्षेत्र में जाएं, मेहनत तो आपको करनी ही पड़ेगी और आप यदि मेहनती हैं तो आपको काम मिलेगा ही. हां, कभी-कभी समय अच्छा नहीं होता, तो दिक्कतें आती हैं, लेकिन देर-सवेर मेहनत का फल मिलता ही है. लक हमारा इंतज़ार कर रहा होता है, हमें बस चलते जाना होता है.

यह भी पढ़ें: दया बेन बनीं मां, बेटी को दिया जन्म

TV Celebrities, Success Mantras

अनूप सोनी (Anup Soni)
मेहनत तो कई लोग करते हैं, लेकिन उसका फल सभी को एक जैसा नहीं मिलता. लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि मेहनत करना ही छोड़ दें. हमें अपनी तरफ़ से हमेशा मेहनत करते रहना चाहिए, एक न एक दिन हमें उसका फल ज़रूर मिलता है.

यह भी पढ़ें: श्वेता तिवारी और अभिनव कोहली की शादी में दरार?

TV Celebrities, Success Mantras

आप भी पा सकते हैं मनचाही मुराद
आप पूरे विश्‍वास के साथ ईश्‍वर के सामने अपनी कोई मुराद रखते हैं और जल्दी ही आपकी वो ख़्वाहिश पूरी हो जाती है. आपका ईश्‍वर के प्रति विश्‍वास और बढ़ जाता है. आप फिर कोई ख़्वाहिश करते हैं और वो भी पूरी हो जाती है. ईश्‍वर के प्रति विश्‍वास के साथ-साथ अब आपका कॉन्फिडेंस भी बढ़ने लगता है. आप अपनी ख़्वाहिशों पर और ़ज़्यादा फोकस करने लगते हैं. आप दिनरात अपनी इच्छाओं को पूरा करने के बारे में ही सोचते रहते हैं और इसी दिशा में काम भी करते रहते हैं. जल्दी ही आप वो सबकुछ पा लेते हैं जिसकी कभी आपने कामना की थी. ये सब इसलिए हो पाता है, क्योंकि आप लगातार अपनी इच्छाओं के बारे में सोच-सोचकर अपनी फ्रीक्वेंसी ब्रह्मांड तक पहुंचा रहे होते हैं, जिससे आपके चारों तरफ पॉज़िटिव वातावरण तैयार हो जाता है और आपकी हर ख़्वाहिश पूरी होती चली जाती है.

यह भी पढ़ें: ख़ुद पर भरोसा रखें 

क्योंकि नामुमकिन कुछ भी नहीं
दुनिया के हर सफल व्यक्ति का इतिहास उठाकर देख लीजिए, आप पाएंगे कि उनके वहां तक पहुंचने में उनकी कोशिशों के साथ-साथ उनकी इच्छा और सपनों का भी उतना ही योगदान था. दरअसल, जब हमारे मन में कोई विचार आता है या हम किसी चीज़ को अपने नज़रिए से देखने लगते हैं तो सृजन की प्रक्रिया शुरू हो जाती है और घटनाएं, वातावरण हमारी सोच के मुताबिक बनने लगता है.

तरीक़ा आसान है
हमारा वर्तमान हमारे अतीत का आईना होता है, क्योंकि हम वही बनते हैं जो हम बनना चाहते हैं. आपने कभी न कभी इस बात को ज़रूर महसूस किया होगा कि आपने जिस चीज़ की ख़्वाहिश बड़ी शिद्दत से की थी, वो देर-सवेर आपको मिल ही गई. इसकी सबसे बड़ी वजह है आपकी उम्मीद, आपका विश्‍वास, जो अप्रत्यक्ष रूप से भी आपको अपनी ख़्वाहिश के और क़रीब लाने का काम लगातार करता रहता है.

यूं पाएं मनचाही मुराद
मनचाही मुराद पाने का सबसे आसान तरीक़ा यह है कि ख़ुद को चुंबक मानकर सोचें कि दूसरा चुंबक भी आपकी तरफ़ आकर्षित होगा. जब आप ऐसा सोचने लगेंगे तो आपकी ख़्वाहिश से मिलती-जुलती चीज़ें भी आपकी तरफ़ आकर्षित होने लगेंगी. इस तरह आपके चारों तरफ़ पॉज़िटिव वातावरण बनता चला जाएगा और आपकी उम्मीदों के साथ-साथ आपका आत्मविश्‍वास भी बढ़ता जाएगा और देर-सवेर आपको मनचाही मुराद मिल ही जाएगी. ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि हमारे आज के विचार ही हमारा भविष्य तय करते हैं. हम जिस चीज़ के बारे में सबसे ़ज़्यादा सोचते हैं, जिस चीज़ पर सबसे ़ज़्यादा ध्यान केंद्रित करते हैं, वो आगे चलकर हमारे जीवन में शामिल हो ही जाती है. अतः आप भी यदि अपने जीवन में कोई ख़ास चीज़ पाना चाहते हैं, तो उसके बारे में अभी से सोचना शुरू कर दीजिए.

यह भी पढ़ें: ऑल राउंडर नहीं, एक्सपर्ट कहलाते हैं नंबर 1

* क़ामयाबी का मूल मंत्र: आप क्या चाहते हैं? इस बारे में आपकी सोच क्लियर होनी चाहिए.
* जीवन मंत्र: दूसरों को बदलने के बजाय ख़ुद को बदलें. यकीन मानिए, आपको हर चीज़ अच्छी लगने लगेगी.
* ईश्‍वर के प्रति आस्था: आज के हाई टेक युग में भी ईश्‍वर के प्रति आस्था इस बात का प्रतीक है कि हम अपनी चाहत को पूरा करने के लिए ईश्‍वर को माध्यम बनाकर मनचाही मुराद पा लेते हैं.

– कमला बडोनी

[amazon_link asins=’8192910962,8192910911,9380349300,1471131823′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’34c6846e-f112-11e7-a9d1-0fdc7c69d866′]

 

Pics & Video: सरगुन मेहता के भाई की शादी में टीवी स्टार्स ने कुछ यूं की मस्ती(Sargun Mehta At Her Brother’s Wedding)

हाल ही में टीवी जगत की क्यूट बहू सरगुन मेहता के भाई की शादी गोवा में सम्पन्न हुई. इस शादी में सरगुन व उनके पति रवि दुबे के अलावा टीवी जगत के कुछ अन्य नामी-गिरामी स्टार्स, जैसे  ऋत्विक धंजानी, एक्ट्रेस आशा नेगी और रिद्धि डोगरा भी शामिल हुए.  इस शादी में सरगुन मेहता ने अपने वॉडरोब का लगभग हर खूबसूरत अंदाज दिखाया. शादी में पहने खूबसूरत लंहगे से लेकर कॉकटेल पार्टी में उनके वेस्‍टर्न अंदाज तक, सब कुछ उनके फैन्‍स को सोशल मीडिया पर काफी पसंद आ रहा है. सरगुन ने अपने भाई की शादी के खूबसूरत फोटो सोशल मीडिया पर भी शेयर किए हैं. इस शादी में मेंहदी से लेकर संगीत तक हर जगह रवि, उनके साथ नाचते और मस्‍ती करते नजर आए. सरगुन ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शादी के फोटोग्राफ्स और वीडियो शेयर किए, जो खूब पसंद किए जा रहे हैं. आप भी देखिए उनकी एक झलक.

Lifeline ??? #chakitkiwedding #CHAKIT #ChuckItForChakit #veerediwedding❤️ Pic credits – @israniphotography

A post shared by Sargun Mehta (@sargunmehta) on

Best memories are made under the influence of laughter ♥️???? #chakitkiwedding

A post shared by Ridhi Dogra (@iridhidogra) on

kudiiii te kamaal haigi… @sargunmehta #boski

A post shared by rithvik D (@rithvik_d) on

ये भी पढ़ेंः Viral: विराट और अनुष्का की नई मनमोहक Pic

[amazon_link asins=’B075FWDX3G,B01MZHF4EW,B0719TLD76,B01EFUE21I’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’0f94016f-b321-11e7-8b29-5b590146f704′]