Tag Archives: Sex Tips

30 इफेक्टिव टिप्स, जो सेक्स लाइफ को बोरिंग बनने से बचाएंगे (30 Effective Tips For Making Your Sex Life More Exciting)

Sex Tips in Hindi

शादी के शुरुआती साल बेहद हसीन होते हैं. पार्टनर एक-दूसरे को समझने के साथ-साथ एक-दूसरे की कंपनी, क़रीब होने का एहसास और प्यार-मुहब्बत को काफ़ी एंजॉय करते हैं. लेकिन अक्सर ऐसा होता है कि धीरे-धीरे ज़िम्मेदारियां बढ़ती हैं और एक्साइटमेंट की जगह रूटीन लाइफ कपल्स की ज़िंदगी का हिस्सा हो जाती है. इसमें कहीं न कहीं सेक्स भी रूटीन-सा ही होने लगता है, जिसका असर आपसी रिश्तों पर पड़ने लगता है. बेहतर होगा कि आप अपनी सेक्स लाइफ को बोरिंग न होने दें, ताकि आपके रिश्ते में गर्माहट बनी रहे.

 

couple-enjoying-with-each-other

साथ बिताने के लिए अगर समय नहीं है, तो ज़ाहिर है भावनात्मक लगाव पर नकारात्मक प्रभाव होगा और बिना भावनात्मक लगाव के सेक्स भी बोरियत का ही एहसास कराएगा. 
क्या करें: भले ही आप कितने भी बिज़ी हों, आपको एक-दूसरे के लिए समय निकालना ही होगा. वीकेंड पर बाइक राइड या लॉन्ग ड्राइव पर जाएं. आप बीच, वॉटर पार्क, मूवी या आसपास के गार्डन में भी जाकर कुछ समय एक-दूसरे के साथ बिता सकते हैं. आपस में बिताए इस समय का असर आपकी बेडरूम लाइफ पर काफ़ी सकारात्मक होगा.

ये भी पढें: कैसा हो पार्टनर का पोस्ट सेक्स बिहेवियर?

कुछ साल साथ रहने के बाद सेक्स को लेकर एक्साइटमेंट कम हो जाता है और सेक्स लाइफ बेहद बोरिंग होने लगती है.
क्या करें: कुछ नया करें. बेडरूम में कैंडल्स जलाएं और रोमांटिक माहौल बनाएं. अपने पार्टनर से पूछें कि वो सेक्स में क्या नया चाहते हैं और ख़ुद भी अपनी चाहत के बारे में बताएं. सेक्सी आउटफिट पहनें और सेक्सी बातें करें. इससे नयापन आएगा.

अक्सर कपल्स बिज़ी रहते हैं और थक जाते हैं. यही थकान उनके रिश्तों और सेक्स लाइफ में भी नज़र आने लगती है.
क्या करें: अपने रिश्ते को सबसे अधिक अहमियत दें. अपनी प्रायोरिटी लिस्ट में अपने रिश्ते को टॉप पर रखेंगे, तो रिश्ते में थकान कभी नहीं आएगी. इसके अलावा यदि आप एक-दूसरे को अधिक महत्व देंगे और सपोर्ट करेंगे, तो बाकी चीज़ों व समस्याओं से बेहतर तरी़के से निपट सकेंगे. इससे तनाव और थकान दोनों ही नहीं होगी.

अक्सर कपल्स एक-दूसरे से कहने में झिझकते हैं कि वो सेक्स लाइफ में बदलाव चाहते हैं और कुछ नया करना चाहते हैं. उन्हें लगता है कि कहीं पार्टनर बुरा न मान जाए और उसे यह न लगे कि वो उससे संतुष्ट नहीं.
क्या करें: बात करें, लेकिन बात करने का तरीक़ा ऐसा हो कि पार्टनर को बुरा भी न लगे. आप ये न कहें कि आप बोर हो गए/गई हैं, बल्कि यह कहें कि हमको कुछ अलग और न्यू ट्राय करना चाहिए. कम्यूनिकेशन बहुत ज़रूरी है. पॉज़िटिव कम्यूनिकेशन आपकी सेक्स लाइफ को और बेहतर बनाता है.

रूटीन लाइफ के चलते छोटी-छोटी ख़ुशियों के महत्व को भी आप भूलने लगते हैं. एक-दूसरे को छूना, कॉम्प्लीमेंट देना, गिफ्ट देना, सरप्राइज़ देना आदि एकदम से रिश्ते में से ग़ायब ही हो जाते हैं.
क्या करें: इन बातों को कभी भी अपने रिश्ते से ग़ायब न होने दें. एक-दूसरे के लुक्स व फिटनेस को सराहें. प्यारभरी शरारतें, एक-दूसरे को छूना, गले लगाना, किस करना… इस तरह की तमाम छोटी-छोटी बातें रिश्ते को ताज़ा रखती हैं. कभी एक छोटा-सा मैसेज, एक सरप्राइज़ गिफ्ट किस तरह से आपकी रूटीन लाइफ में ताज़गी भर देगा, आप सोच भी नहीं सकते. इन सबका असर आपकी सेक्स लाइफ पर भी ज़रूर पड़ता है.

बहुत कोशिश के बाद भी साथ समय नहीं बिता पाते, तो ऐसे में रिश्ते में बासीपन और स्वभाव में चिड़चिड़ापन आ जाता है, जो सेक्स लाइफ को बुरी तरह प्रभावित करता है.

क्या करें: कुछ रोचक व इनोवेटिव सोचें, जहां आप साथ में समय बिता सकें. एक साथ वर्कआउट करेें, जॉगिंग या वॉक के लिए जाएं. स्विमिंग क्लास या डांस क्लास जॉइन करें. ये बातें आपको एक-दूसरे के क़रीब लाएंगी. थोड़ा समय निकालकर एक-दूसरे को सेक्सी मसाज दें, इससे नयापन आएगा और आप दोनों फ्रेश फील करेंगे.

अलर्ट्स जो बताएंगे कहीं आपकी सेक्स लाइफ बोरिंग तो नहीं?

 

COUPLE-FIGHTING-4-ways-to-stop-fighting-1024x512

यह भी पढ़ें: 7 तरह के सेक्सुअल पार्टनरः जानें आप कैसे पार्टनर हैं

– सेक्स अब पहले की अपेक्षा कम होता है.
– रोमांटिक बातें लगभग बंद हो गई हैं.
– सेक्स में कुछ नया करने की चाह नहीं होती.
– सेक्स मात्र शारीरिक क्रिया बनकर रह गई है.
– एक-दूसरे की बात सुनने या चाहत जानने की जिज्ञासा नहीं रही.
– पार्टनर सेक्स को टालने लगे हैं.
– हमेशा थकान या बिज़ी रहने के कारण सेक्स में दिलचस्पी कम हो गई है.
– सेक्स को पहले की तरह एंजॉय नहीं करते.
– सेक्स के समय पार्टनर की दिलचस्पी और सहयोग नहीं मिलता.
– पार्टनर अब पहले की तरह आकर्षक नहीं लगता, फिर भले ही वो कितने ही आकर्षक कपड़ों में सामने आए और सेक्स में पहल भी करे, लेकिन आपका ध्यान ही नहीं जाता उसकी तरफ़.

ये तमाम लक्षण आपके लिए सिग्नल हैं कि आपको कुछ करना होगा, ताकि आपकी सेक्स लाइफ बोरिंग रूटीन बनकर न रह जाए.
फिर से लाएं खोई गर्माहट और ताज़गी
– पार्टनर की दिलचस्पी सेक्स में कम हो गई है, तो आपका फर्ज़ बनता है कि आप पहल करें और पार्टनर की दिलचस्पी फिर से जगाएं.
– पार्टनर से पूछें कि उसे कोई मानसिक या शारीरिक समस्या तो नहीं. यदि है, तो एक्सपर्ट से संपर्क करें.
– सेक्स में ज़बर्दस्ती कभी भी न करें, क्योंकि इससे पार्टनर की सेक्स के प्रति दिलचस्पी और आपके प्रति लगाव भी कम होता जाएगा.
– उससे प्यार से बात करें, बात करते समय सहलाएं, चूमें और बालों में हल्के-हल्के उंगलियां फेरें. ऐसा करने पर मूड न होने पर भी धीरे-धीरे मूड बनने लगता है और पार्टनर बेहतर महसूस करता है.
– हाइजीन का पूरा ख़्याल रखें. कई बार इस तरह की बातें भी सेक्स में दिलचस्पी कम कर देती हैं और पार्टनर चाहकर भी कुछ बोल नहीं पाता. बेहतर होगा कपल्स साफ़-सफ़ाई का पूरा ध्यान रखें.
– कमरे का माहौल भी शांत और रोमांटिक हो. चादर वगैरह भी साफ़-सुथरी होनी चाहिए.
– अपने स्मार्ट फोन और लैपटॉप को बेडरूम से दूर ही रखें. इनका बहुत ज़्यादा प्रयोग या टीवी देखना भी सेक्स लाइफ पर नकारात्मक प्रभाव डालता है. आजकल इन गैजेट्स ने हमारी लाइफ में बहुत हद तक जगह बना ली है, लेकिन इन्हें हम-तुम के बीच ङ्गवोफ न बनने दें. इससे पार्टनर को लगेगा कि आपको उसमें दिलचस्पी ही नहीं है और न आपका ध्यान उसकी बातों की तरफ़ है.
– पर्सनल टाइम में पार्टनर को पूरा अटेंशन दें, उसे यह लगना चाहिए कि यह व़क्त स़िर्फ और स़िर्फ आप दोनों का है, जिसमें किसी और के लिए कोई जगह नहीं.
– पार्टनर को यह महसूस कराएं कि सेक्स से भी कहीं अधिक ज़रूरी आपके लिए उनका साथ है. इस तरह का भावनात्मक लगाव एक-दूसरे को और क़रीब लाता है.
– सेक्स में क्या नयापन लाना चाहिए इस पर भी खुलकर न स़िर्फ चर्चा करें, बल्कि साथ मिलकर प्लान करें कि आज की रात या इस वीकेंड को कैसे और भी रोमांटिक बनाया जा सकता है.
– कलर्स भी सेक्स लाइफ पर प्रभाव डालते हैं, तो एक-दूसरे की पसंद-नापसंद को ध्यान में रखते हुए कमरे में कलर्स ऐड करें. अपने आउटफिट्स और इनर वेयर में भी सेक्सी कलर्स और स्टाइल सिलेक्ट करें.
– सेक्स के व़क्त काम व तनाव को भूलकर पार्टनर पर ही पूरा ध्यान केंद्रित होना चाहिए, वरना अक्सर लोग उस व़क्त भी दूसरी बातें करते हैं और सेक्स को एक क्रिया मात्र बना देते हैं, जिससे पार्टनर को लगता है कि उनका साथी उन्हें स़िर्फ इच्छा पूरी करनेवाला जिस्म समझता है.
– दूसरी तरफ़ कुछ लोग सेक्स को एक हथियार के रूप में भी इस्तेमाल करते हैं, ख़ासकर महिलाएं सेक्स को इमोशनल ब्लैक मेलिंग का बेहतरीन हथियार समझती हैं और सेक्स के व़क्त ही तरह-तरह की डिमांड करके पति से बातें मनवाने की कोशिश करती हैं. ऐसा करने से पति के मन में पत्नी के प्रति वो सम्मान नहीं रह जाता और वो भी प्रैक्टिकल अप्रोच अपनाने लगता है.
– सेक्स के समय रोमांटिक बातें ही करें. ताने-उलाहने व शिकवे-शिकायत से बचें.
– पुरानी रोमांटिक बातें व साथ गुज़ारे हसीन पलों को याद करें, उन पर बात करें, साथ हंसें, खिलखिलाएं, क्योंकि ये तमाम बातें आपको ताज़गी का एहसास कराती हैं.
– सेक्स लाइफ को बोरिंग होने से बचाने का मतलब स़िर्फ बेडरूम तक ही सीमित नहीं होता, बल्कि हर पल, हर लम्हे को आपको बेहतर बनाना होगा. एक-दूसरे को अटेंशन देना होगा, क्योंकि पूरे दिन के क्रियाकलापों का निचोड़ ही सेक्स लाइफ में झलकता है. दिन अच्छा होगा, मूड अच्छा होगा, तो रिश्ता बेहतर होगा… और बेहतर रिश्ते का मतलब है बेहतर सेक्स लाइफ और मज़बूत-अटूट बंधन.

– विजयलक्ष्मी

यह भी पढ़ें: सेक्सुअल हेल्थ के 30+ घरेलू नुस्खे

सेक्सुअल फिटनेसः क्या आप सेक्सुअली फिट हैं?(Sexual fitness: Are you sexually fit?)

Sexual fitness

सेक्स को लेकर आज भी लोगों के मन में भ्रांतियां और ग़लतफ़हमियां हैं, क्योंकि सेक्स (Sexual fitness) को लेकर कुछ खुलापन भले ही आ गया हो, लेकिन मैच्योरिटी अब भी नहीं आई है. ऐसे में यह सवाल अक्सर लोगों के मन में आता है कि क्या हम सेक्सुअली फिट हैं?

Sexual fitness
– एक सामान्य इंसान को सेक्स की ज़रूरत और चाहत होती है.
– यह चाहत व ज़रूरत अलग-अलग लोगों में अलग-अलग हो सकती है. किसी को कम, किसी को ज़्यादा.
– इसी तरह आकर्षण होना भी स्वाभाविक है.
– फैंटसीज़ यानी कल्पना करना, जैसे- किसी ख़ास व्यक्ति की ओर यदि हम आकर्षित होते हैं, तो उसके बारे में सोचना और कल्पना में उसके साथ सेक्स करना भी स्वाभाविक व सामान्य है.
– सेक्स (Sexual fitness) की चाह होने पर मास्टरबेट करना भी हेल्दी माना जाता है.
– यदि आप में ऊपर बताए तमाम लक्षण मौजूद हैं, तो आप सेक्सुअली फिट हैं और यदि आप में सेक्स ड्राइव यानी सेक्स की चाह कम है या कम हो रही है, तो आपकी सेक्सुअल फिटनेस कम है.
– अगर आप शादीशुदा हैं, तो आपकी सेक्स लाइफ कितनी अच्छी है?
– क्या सेक्स से आपको और आपके पार्टनर को पहले जैसी संतुष्टि नहीं मिलती?
– क्या सेक्स से आपको ऊब और बोरियत होने लगी है?
– क्या यह महज़ शारीरिक क्रिया बन गया है आपके लिए या अब भी भावनात्मक रूप से आप इसे आनंददायक क्रिया मानते हैं?
ये तमाम सवाल ख़ुद से और अपने पार्टनर से करें, तो आप ख़ुद जान जाएंगे कि आप सेक्सुअली कितने फिट हैं.
व्यस्त ज़िंदगी में भी अगर सेक्स आपकी प्राथमिकताओं में से बाहर हो गया है, तो सचेत हो जाइए. शोधों में भी यह बात कई बार साबित हो चुकी है कि शादीशुदा लोग कुंवारे लोगों की अपेक्षा अधिक हेल्दी और लंबी ज़िंदगी जीते हैं. ऐसे में सेक्स के महत्व और सेक्सुअल फिटनेस को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता.
सेक्सुअल फिटनेस को आप इस तरह से बांटकर देख सकते हैं-

यह भी पढ़ें: महिलाओं के इन 6 सिग्नल्स से जानें क्या चाहती है वो?

भावनात्मक पहलू:

अगर आपका अपने पार्टनर से भावनात्मक लगाव है, तो ज़ाहिर है सेक्स लाइफ बेहतर बनेगी, लेकिन अगर आप दोनों ही मशीनी ज़िंदगी जीने के आदी हो चले हैं, तो सेक्स की चाह भी कम होती चली जाएगी यानी आपकी सेक्सुअल फिटनेस कम
होती जाएगी.
स्पेशल टिप: ऐसे में ज़रूरी है पार्टनर के साथ समय बिताएं. प्यार भरी बातें करें, एक-दूसरे को सहयोग करें, जिसका सीधा प्रभाव आपकी सेक्स लाइफ पर पड़ेगा.

मानसिक स्थिति:

मानसिक तनाव, काम का बोझ और घरेलू ज़िम्मेदारियां भी आपको सेक्स के प्रति उदासीन बना देती हैं. बेहतर होगा कि अपने काम का तनाव बेडरूम में न ले जाएं. आप मिल-जुलकर हर समस्या का समाधान निकाल सकते हैं, इसलिए अपने रिश्ते और सेक्स लाइफ पर इन रोज़मर्रा की बातों का असर न पड़ने दें.
स्पेशल टिप: पुरुषों की 90% सेक्स समस्या, जैसे- शीघ्रपतन आदि मानसिक अवस्था से ज़्यादा जुड़ी होती है, बजाय शारीरिक
समस्या के.
ठीक इसी तरह महिलाओं में योनि में सूखापन, दर्दयुक्त सेक्स आदि भी सेक्स के प्रति उदासीनता की वजह से हो सकता है.

शारीरिक पहलू:

सेक्सुअल फिटनेस बहुत हद तक आपकी शारीरिक फिटनेस से भी जुड़ी होती है. अगर आपको कोई सेक्सुअल या शारीरिक समस्या है, तो काउंसलर या एक्सपर्ट की मदद लेने से परहेज़ न करें.
स्पेशल टिप: योग व एक्सरसाइज़ को भी अपनी लाइफस्टाइल का हिस्सा बनाएं. साथ में जॉगिंग या योगा क्लासेस जॉइन करें, इससे आप दोनों में नज़दीकियां बढ़ेंगी, जिसका सकारात्मक असर आपकी सेक्सुअल फिटनेस पर पड़ेगा.

नकारात्मक सोच से बचें

मन में बैठी भ्रांतियों व ग़लतफ़हमियों के कारण अपनी सेक्सुअल फिटनेस कम न होने दें-
अधिकतर लोगों को लगता है कि फैंटसाइज़ करना, मास्टरबेट करना या किसी की तरफ़ आकर्षण महसूस करना ग़लत है. जबकि ये तमाम चीज़ें आपकी सेक्सुअल फिटनेस का अहम् हिस्सा हैं और आपकी फिटनेस को दर्शाती हैं.

सामाजिक व पारिवारिक पहलू

जहां तक महिलाओं की बात है, तो बचपन से ही पालन-पोषण अलग ढंग से होने के कारण या अन्य कारणों से भी वो सेक्स को लेकर उतनी उत्साहित नहीं रहतीं. उन्हें लगता है कि सेक्स के बारे में बात करना ग़लत है या चाहत होने पर भी सेक्स के लिए पहल न करना ही सही है, क्योंकि स्त्रियों को शर्मीला होना चाहिए और यही शर्मीलापन उनके संस्कार व चरित्र की सही व्याख्या करेगा. तमाम ऐसी बातें महिलाओं को सेक्सुअली अनफिट बनाती हैं और वो अपने पार्टनर को ठीक से सहयोग नहीं करतीं.
इसके अलावा वो अपनी बॉडी को लेकर भी काफ़ी कॉन्शियस रहती हैं, उन्हें लगता है कि उनका फिगर या उनकी शारीरिक
ख़ूबसूरती उनके पार्टनर को आकर्षित करने के लिए नाकाफ़ी है.
स्पेशल टिप: इस तरह की नकारात्मक सोच न रखें. फिज़िकल फिटनेस पर ध्यान ज़रूर दें, लेकिन मानसिक रूप से भी पॉज़ीटिव बनी रहें. आपका सहयोग और आपका प्यार आपकी शारीरिक ख़ूबसूरती से कहीं ज़्यादा ज़रूरी है रिश्ते व सेक्स लाइफ को हेल्दी बनाए रखने के लिए.

यह भी पढ़ें: सेफ सेक्स के 20+ असरदार ट्रिक्स

क्या करें?

– फोरप्ले ज़रूर करें. अच्छे सेक्स के लिए अच्छा फोरप्ले बहुत ज़रूरी है.
– इसी तरह से अच्छे सेक्स के लिए रोमांस होना भी बहुत ज़रूरी है, इसलिए व्यस्त दिनचर्या से रोमांटिक पलों को ज़रूर चुराएं.
– खान-पान हेल्दी हो. फिज़िकल फिटनेस आपको सेक्सुअली भी फिट रखेगी.
– सेक्स बूस्टर फूड को अपने डायट का हिस्सा बनाएं, जैसे- हरी पत्तेदार सब्ज़ियां, फ्लैक्स सीड(अलसी), सोयाबींस, सनफ्लावर सीड्स, सी फूड, नट्स, ताज़ा फल, ख़ासकर विटामिन सी युक्त आदि. साथ ही एक्सरसाइज़ भी करें.
– जंक फूड, अल्कोहल का सेवन कम करें.
– तनाव से दूर रहें.
– अगर कोई समस्या हो, तो काउंसलर व एक्सपर्ट से सलाह लें.

– योगिनी भारद्वाज

 

सेक्स और रोमांस के अन्य आर्टिकल्स के लिए यहां क्लिक करें: Sex & Romance

Sex Life: 8 हेल्दी सेक्स रेसिपीज़ (8 Healthy Sex Recipes)

Healthy Sex Recipes

Healthy Sex Recipes

अगर आप सेक्स पावर बढ़ाना चाहते हैं या आपको कोई सेक्स प्रॉब्लम है, तो ये सेक्स बूस्टर रेसिपीज़ (Healthy Sex Recipes) आज़माएं, जो आसानी से घर पर ही तैयार की जा सकती हैं. ये रेसिपीज़ न स़िर्फ आपकी सेक्स पावर को बढ़ाएंगी, बल्कि आपको सेहतमंद भी बनाएंगी.

  1. उड़द के लड्डू

सामग्री- 500 ग्राम उड़द की दाल, 750 ग्राम देशी घी, 125 ग्राम छुहारा, 500 ग्राम कद्दूकस किया गाजर, 350 ग्राम कद्दूकस  किया हुआ पेठा (स़फेद कुम्हड़ा), 2 लीटर गाय का दूध, 50-50 ग्राम- छिलकारहित बादाम गिरी, पिस्ता, अखरोट, खसखस, 10-10 ग्राम सोंठ और दालचीनी, सूखे मेवे आवश्यकतानुसार व 1 किलो गुड़ की चाशनी.

विधि- उड़द की धुली हुई दाल पीसकर 250 ग्राम देशी घी में अच्छी तरह से भूनें. फिर गाय के दूध में छुहारा, गाजर और पेठा डालकर पकाएं. जब दूध जलकर खोवा (मावा) बन जाए, तो उसमें 500 ग्राम देशी घी डालकर उसे भूनें और भुनी हुई दाल भी उसमें मिला दें. बादाम गिरी, पिस्ता, अखरोट, खसखस के बीज पीसकर व घी में भूनकर मिला दें. अब आंच से उतारकर सूखे मेवे, सोंठ और दालचीनी का चूर्ण मिला दें. इसके बाद गुड़ की चाशनी बनाकर उसमें सभी चीज़ों को मिलाकर 50-50 ग्राम के लड्डू बनाकर रख लें.

कैसे और कितनी मात्रा में खाएं? 1 से 2 लड्डू सुबह नियमित रूप से खाएं और ऊपर से दूध पीएं.

फ़ायदे- इससे मर्दाना कमज़ोरी, नपुंसकता, शीघ्रपतन आदि यौन विकार दूर होते हैं और शारीरिक शक्ति बढ़ती है.

  1. बादाम के लड्डू

सामग्री- 400 ग्राम छिलकारहित बादाम, 100 ग्राम मावा, 600 ग्राम शक्कर, 200 ग्राम घी, 10-10 ग्राम – छोटी इलायची, दालचीनी, तमालपत्र, नागकेशर व 5-5 ग्राम – लौंग, जायफल, जावित्री व केसर.

विधि- बादाम को बारीक पीस लें. फिर पिसे हुए बादाम और मावा को अलग-अलग घी में भूनें. इसके बाद अन्य सभी चीज़ों का बारीक चूर्ण बनाकर रख लें. अब शक्कर की चाशनी बनाकर उसमें चूर्ण को मिलाएं. बादाम और मावा डालकर मिला लें और 40-40 ग्राम के लड्डू बनाकर रख लें.

कैसे और कितनी मात्रा में खाएं? रोज़ाना एक लड्डू खाकर ऊपर से दूध पीएं.

फ़ायदे- यह स्वादिष्ट और पौष्टिक होने के साथ-साथ शक्तिवर्द्धक  भी है. इसका सेवन करने से शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा मिलता है और वीर्य की वृद्धि होती है. इससे सेक्स पावर बढ़ता है. अगर ठंडी के मौसम में बादाम लड्डू खाया जाए तो और भी लाभ होता है.

यह भी पढ़ें: सेफ सेक्स के 20 + असरदार ट्रिक्स

  1. गाजर का हलवा

सामग्री- 1 किलो कद्दूकस किया हुआ गाजर, 500 ग्राम मावा, 500 ग्राम घी, डेढ़ किलो शक्कर, ढाई लीटर दूध, 10 ग्राम- छुहारा, 25 ग्राम मिश्री चूर्ण, 50 ग्राम बादाम गिरी, 15-15 ग्राम- पिस्ता, चिरौंजी व आवश्यकतानुसार गुलाबजल.

विधि- पहले गाजर को दूध में डालकर पकाएं. जब वह पककर सूख जाए, तो मावा व घी डालकर उसे अच्छी तरह भूनें. फिर उसमें शक्कर डालकर हलवा बना लें. सभी सूखे मेवों को गुलाबजल में पीसकर तथा अन्य चीज़ों का बारीक चूर्ण बनाकर हलवे में मिला दें और सुरक्षित रख लें.

कैसे और कितनी मात्रा में खाएं? इस हलवा को 50 ग्राम की मात्रा में रोज़ सुबह खाकर ऊपर से दूध पीएं.

फ़ायदे- यह हलवा मर्दाना शक्ति और वीर्य को बढ़ाकर पूरे शरीर को शक्ति देता है. इसका सेवन करने से बूढ़े व्यक्ति भी युवाओं की तरह शक्तिशाली हो जाते हैं. इसे खाने से शरीर सुंदर तथा सभी रोगों से मुक्त हो जाता है.

  1. सिंघाड़े का हलवा

सामग्री- 150 ग्राम सिंघाड़े का आटा, 50 ग्राम पिसा हुआ छुहारा, 15 ग्राम सोंठ का चूर्ण, 150 ग्राम घी, 500 ग्राम शक्कर व दो लीटर दूध.

विधि- पहले सिंघाड़े का आटा, छुहारा और सोंठ चूर्ण को दूध में डालकर धीमी आंच पर पकाएं. जब यह खोवा की तरह बन जाए, तो उसे घी में भून लें. इसके बाद शक्कर डालकर अच्छी तरह मिलाकर रख लें.

कैसे और कितनी मात्रा में खाएं? यह हलवा स्वादिष्ट तथा पौष्टिक होता है. इसे 10 से 20 ग्राम की मात्रा में सुबह-शाम दूध के साथ लें.

फ़ायदे- इससे पुरुषों में कामशक्ति की कमी दूर होती है. यह धातुस्राव, स्वप्नदोष और वीर्य के पतलेपन की रामबाण औषधि है. स्त्रियों में कामशीतलता में भी यह बेहद उपयोगी है.

Healthy Sex Recipes

  1. मेथी पाक

सामग्री-  350-350 ग्राम मेथी, सोंठ व घी, ढाई किलो शक्कर, 40-40 ग्राम प्रत्येक का सूक्ष्म चूर्ण- पीपर, सोंठ, पीपरामूल,  अजवायन, जीरा, धनिया, कलौंजी, सौंफ, जायफल, जावित्री, दालचीनी, तेजपत्ता एवं नागरमोथा, 60 ग्राम कालीमिर्च का चूर्ण और साढ़े पांच लीटर दूध.

विधि- पहले मेथी व सोंठ को कूट-पीसकर कपड़छान चूर्ण बना लें. फिर दूध में इस चूर्ण और घी को डालकर धीमी आंच पर पकाएं. जब यह अच्छी तरह से मिलकर गाढ़ा हो जाए, तो इसमें शक्कर डालकर अच्छी तरह पाक बनाकर उतार लें. अब इसमें सभी चूर्ण को डालकर अच्छी तरह मिला लें और रख लें.

कैसे और कितनी मात्रा में खाएं? 10 से 15 ग्राम की मात्रा में इस पाक को सुबह दूध के साथ लें.

फ़ायदे- यह शरीर के लिए काफ़ी पौष्टिक है और वीर्यवर्द्धक भी है. साथ ही मेथीपाक खाने से आमवात एवं अन्य वातरोग, मलेरिया, जॉन्डिस, अम्लपित्त, सिरदर्द, प्रदररोग आदि दूर होते हैं.

यह भी पढ़ें: सेक्स से जुड़े टॉप 12 मिथ्सः जानें हक़ीकत क्या है

यह भी पढ़ें: 7 टाइप के किस: जानें कहां किसिंग का क्या होता है मतलब?

  1. पेठा पाक

सामग्री- 2 किलो पेठा (स़फेद कुम्हड़ा), 325 ग्राम घी, ढाई किलो पुराना गुड़, 40-40 ग्राम प्रत्येक का बारीक चूर्ण- दालचीनी, तेजपत्ता, धनिया, सोंठ, कालीमिर्च, पिप्पली, स़फेद जीरा, छोटी इलायची, पीपरामूल, सोंठ, सिंघाड़ा, 150 ग्राम शहद व आवश्यकतानुसार पानी.

विधि- पेठे (स़फेद कुम्हड़ा) को छीलकर उसे काटकर बीज निकाल दें. फिर उसके छोटे-छोटे टुकड़े करके उबाल लें. उबल जाने पर उसका पानी निचोड़कर अलग रख लें और इस निचोड़े हुए पेठे को  घी में भूनें. इसके बाद पेठे के स्वरस यानी पेठे के निचोड़े हुए पानी को ढाई लीटर की मात्रा में लेकर उसमें ढाई किलो पुराना गुड़ घोलकर छान लें और उसे धीमी आंच पर रखकर दो तार की चाशनी बनाएं. चाशनी बन जाने पर उसमें भुने हुए पेठे को डालकर पाक बना लें. फिर दालचीनी, तेजपत्ता, धनिया, सोंठ, कालीमिर्च, पिप्पली, स़फेद जीरा, छोटी इलायची, पीपरामूल, सोंठ व सिंघाड़े को पाक में डालकर अच्छी तरह मिलाएं. फिर पाक को आंच  पर से नीचे उतार लें और ठंडा होने पर उसमें शहद मिलाकर रख लें.

कैसे और कितनी मात्रा में खाएं? इसे 25-30 ग्राम की मात्रा में रोज़ाना खाएं.

फ़ायदे- यौनक्षमता बढ़ाता है.

  1. पौष्टिक खीर

सामग्री- 250 मि.ली. गाय का दूध, 1 लीटर गोखरू का काढ़ा, 1 किलो विदारीकंद का रस, 50-50 ग्राम उड़द व साठी चावल व घी.

विधि- गाय का दूध, गोखरू का काढ़ा व विदारीकंद का रस सबको एक साथ मिलाकर धीमी आंच पर पकाएं. जब दूध आधा रह जाए, तब उसमें उड़द और साठी चावल डालकर अच्छी तरह धीमी आंच पर पकाएं. इसमें थोड़ा घी भी डाल दें. जब चावल अच्छी तरह पक जाए, तब उतार लें.

फ़ायदे- इस खीर के सेवन से यौनशक्ति बढ़ती है.

Healthy Sex Recipes

  1. रतिशक्तिवर्द्धक वटी

सामग्री- 200 ग्राम मिश्री, 100 ग्राम घी, 50 ग्राम शहद व 50 ग्राम गेहूं का आटा.

विधि- मिश्री, घी व शहद लेकर उसमें थोड़ा-सा पानी मिलाकर चाशनी बनाएं. जब चाशनी गाढ़ी हो जाए, तब उसमें ताज़ा घी मिलाएं. फिर गेहूं का आटा मिलाकर अच्छी तरह गूंध लें. फिर इसकी छोटी-छोटी रोटियां बनाकर सेंक लें.

फ़ायदे- यह एक असरदार सेक्स बूस्टर रेसिपी है, जिससे पुरुषों की सेक्स पावर बढ़ती है.

Amazing! सेक्स पावर बढ़ाने के 25 चमत्कारी फॉर्मूले (25 Homemade Tips To Boost Your Sex Power)

नवविवाहितों के लिए 20 सेक्स रूल्स ( 20 Sex Rules for newly weds)

Sex Rules for newly weds

Sex Rules for newly weds

1. शादी से पहले मैरिटल काउंसलिंग के लिए ज़रूर जाएं.

2. अक्सर सुहागरात (Sex Rules for newly weds) में ख़ुद को प्रूव करने के चक्कर में पति अपनी पत्नी की भावनाओं के बारे में जानने की ज़हमत भी नहीं उठाते और उसके साथ सेक्स करना अपना हक़ समझते हैं. वहीं दूसरी तरफ़ पत्नी को लगता है कि शायद पति-पत्नी के बीच सेक्सुअल रिलेशन ऐसे ही बनते हैं, इसलिए बिना किसी सही जानकारी के वह इस संबंध को स्वीकार कर लेती है, पर उनसे भावनात्मक रूप से जुड़ नहीं पाती. पति को समझना चाहिए कि पत्नी के लिए शारीरिक रूप से जुड़ने से कहीं ज़्यादा भावनात्मक रूप से जुड़ना ज़रूरी है. एक बार अगर वह आपसे भावनात्मक रूप से जुड़ गई, तो सदा के लिए समर्पितहो जाती है.

3. सुहागरात में सेक्स होना ही चाहिए, यह एक बहुत बड़ा मिथक है. कई बार दिनभर चले लंबे कार्यक्रम के कारण दूल्हा-दुल्हन इतने थक जाते हैं कि स़िर्फ आराम करना चाहते हैं. यह दोनों की आपसी सहमति पर निर्भर करता है कि वो क्या करना चाहते हैं. इस मामले में हर किसी का अनुभव अलग होता है. फिल्मों में दिखाया जाता है, स़िर्फ इसलिए सुहागरात में सेक्स करना ही है, इस सोच से बाहर निकलें और सुहागरात को हौवा न बनाएं. कई बार देखने को मिला है कि शादी के कई दिनों बाद पति-पत्नी में शारीरिक संबंध स्थापित हुए, पर उनका रिश्ता बहुत मज़बूत साबित हुआ, क्योंकि वे भावनात्मक रूप से एक-दूसरे से जुड़े थे.

4. ज़्यादातर लड़कियों में सेक्स को लेकर ग़लतफ़हमी रहती है. उन्हें लगता है कि पहली बार सेक्स में दर्द होता ही है और इसीलिए वे सेक्स को लेकर हमेशा नर्वस रहती हैं. सेक्स (Sex Rules for newly weds) एक्सपर्ट्स की मानें, तो लड़कियों के दिमाग़ में ये बात घर कर जाती है कि सेक्स में दर्द होगा, इसलिए इस डर और सोच के कारण ही सेक्स के दौरान उन्हें ज़्यादा दर्द होता है, जबकि प्यार व रोमांस या यूं कह लें कि भावनात्मक लगाव के बाद बिना किसी डर के किए गए सेक्स में ऐसी कोई शिकायत नहीं होती. इसलिए इस दर्द के डर को अपने दिमाग़ से निकाल फेंकें, ताकि आप अपनी सेक्स लाइफ को पूरी तरह से एंजॉय कर सकें.

5. शादी से पहले अपने दोस्तों के ज़रिए, किसी ब्लू फिल्म या कोई घटिया-सी इरॉटिक क़िताब पढ़कर लड़के सेक्स का कुछ अलग ही मतलब निकाल लेते हैं और जब उनकी पत्नी उन सबके लिए तैयार नहीं होती, तो उनकी शादी टूटने के कगार पर आ जाती है. इसलिए किसी सस्ते व घटिया नॉवेल की बजाय अच्छी क़िताब पढ़ें या किसी सेक्सोलॉजिस्ट या सेक्स एक्सपर्ट
से मिलें.

यह भी पढ़ें: नाम के पहले अक्षर से जानें अपनी लव लाइफ

6. दोनों आपस में बातचीत करें और जब लगे कि वे सेक्स के लिए दिल से तैयार हैं, तभी सेक्स करें, वरना वे सेक्स को पूरी तरह एंजॉय नहीं कर पाएंगे.

7. अगर कपल्स चाहते हैं कि उनकी फर्स्ट नाइट यादगार बने, तो शादी के दौरान एक-दूसरे से फ्लर्ट करें. एक-दूसरे की आंखों में झांकना, इशारों में बातें करना, एक-दूसरे की तारीफ़ करना आदि. इससे रात के लिए मूड बनाने में उन्हें मदद मिलेगी. दिन में फ्लर्टिंग करने से रात में सेक्स के लिए उत्सुकता बनी रहती है.

8. पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं को सेक्स से पहले फोरप्ले की ज़्यादा ज़रूरत होती है. महिलाओं को सेक्स (Sex Rules for newly weds) के लिए तैयार होने में समय लगता है. ऐसे में पति को चाहिए कि वह फोरप्ले के ज़रिए अपनी पत्नी को कामोत्तेजित करे. अपने अंतरंग पलों का भरपूर आनंद लेने के लिए सेक्स के बाद आफ्टरप्ले भी उतना ही मायने रखता है.

9. कई नवविवाहितों के मन में प्रेग्नेंसी आदि को लेकर बहुत-सी उलझनें होती हैं. सेक्स के दौरान कॉन्ट्रासेप्टिव्स का इस्तेमाल न स़िर्फ प्रेग्नेंसी को रोकता है, बल्कि कई संक्रामक रोगों से भी दोनों को बचाता है. इसलिए शादी से पहले कॉन्ट्रासेप्टिव्स की पर्याप्त जानकारी लेकर अपनी सुविधानुसार उनका इस्तेमाल करें.

यह भी पढ़ें: 11 सेक्स किलर फूड, जो बिगाड़ सकते हैं आपकी सेक्स लाइफ

Sex Rules for newly weds

10. अक्सर लड़कियां सेक्स की पहल करने में हिचकिचाती हैं, पर अगर आप अपने पति को ख़ुश करने के लिए कुछ अलग ट्राई करना चाहती हैं, तो ख़ुद पहल करके अपने पति को एक ख़ूबसूरत सरप्राइज़ दें.

11. शादी के शुरुआती दिनों में ज़्यादातर कपल्स एक ही सेक्स पोज़ीशन ट्राई करते हैं, जिससे धीरे-धीरे उनकी सेक्स लाइफ बोरिंग होने लगती है. अपनी सेक्स लाइफ में नयापन लाने के लिए समय-समय पर कुछ नए पोज़ीशन्स ट्राई करते रहें.

12. अपनी सेक्स लाइफ को बेडरूम तक ही सीमित न रखें. सेक्स लाइफ में नयापन बनाए रखने के लिए नई-नई जगहों पर जाएं. इससे जीवन में एक रोमांच भी बना रहेगा.

13. नवविवाहित कपल्स को अपनी सेक्सुअल फैंटेसी को एक-दूसरे से खुलकर शेयर करना चाहिए. अपनी सेक्सुअल फैंटेसी को अपने पार्टनर से शेयर करके आप सेक्स का भरपूर मज़ा उठा सकते हैं.

14. अपने पार्टनर को उत्तेजित करने के लिए कमरे को ख़ुशबूदार कैंडल्स की रोशनी से सजाकर व अपने पार्टनर के फेवरेट रोमांटिक गाने लगा सकते हैं. इससे माहौल रोमांटिक हो जाता है.

यह भी पढ़ें: सेक्स लाइफ के 12 दुश्मन

Sex Rules for newly weds

15. हर कोई चाहता है कि उसका पार्टनर स्लिम-ट्रिम व सेक्सी हो, इसलिए आप अपने वज़न व लुक्स पर ख़ास ध्यान दें. ख़ुद को सजाइए-संवारिए और अपने पार्टनर का दिल जीत लीजिए.

16. एक साथ बैठकर कोई रोमांटिक फिल्म देखें. साथ में कोई अच्छी-सी इरॉटिक क़िताब प़ढ़ें या लव गेम्स खेलें. इससे आपकी लव लाइफ व सेक्स लाइफ दोनों ही बेहतर बनी रहती हैं.

17. सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के लिए अपने पार्टनर की भावनाओं को समझने की कोशिश करें. उसकी इच्छाओं, चाहतों और जज़्बात को समझें. अपने प्यार के जादू से अपने पार्टनर को मदहोश कर दें.

18. कई बार ऐसा होता है कि एक पार्टनर सेक्स करना चाहता है, जबकि दूसरा स़िर्फ प्यार भरा वक़्त साथ बिताना चाहता है. ऐसे में पार्टनर्स का नाराज़ व असंतुष्ट होना लाज़मी है. ऐसे में कम्युनिकेशन बहुत मायने रखता है. अगर किसी को कोई समस्या है, तो खुलकर अपने पार्टनर को बताए, ताकि वह आपको समझ सके. ख़ासतौर पर महिलाओं को समझना होगा कि जब तक आप खुलकर अपनी समस्या अपने पति को नहीं बताएंगी, तो उन्हें कैसे पता चलेगा. आप दोनों को ही समस्या को सुलझाकर सेक्स लाइफ को बेहतर बनाना सीखना होगा.
19. कभी-कभी वाइल्ड सेक्स भी ट्राई करें. आपके पार्टनर को यह आइडिया रोमांचित कर देगा और आप सेक्स का भरपूर आनंद ले सकेंगे.

20. सेक्स लाइफ में फर्स्ट नाइट के रोमांच को बनाए रखें. कभी-कभार कमरे को लैवेंडर की ख़ुशबू और बेड को गुलाब की पंखुड़ियों से सजाएं.

– अनीता सिंह

यह भी पढ़ें: 30 इफेक्टिव टिप्स, जो सेक्स लाइफ को बोरिंग बनने से बचाएंगे